विज्ञापन
विज्ञापन
आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट
Janam Kundali

आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बलिया हत्याकांड में पांच और की हुई गिरफ्तारी, मुख्य आरोपी भाजपा कार्यकर्ता अब भी फरार

बलिया जिले के रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर हत्याकांड में कुल पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। शुक्रवार को पुलिस ने नरेंद्र प्रताप सिंह, देवेन्द्र प्रताप सिंह, निवासीगण दुर्जनपुर को गिरफ्तार किया था। शनिवार को पुलिस ने इस मामले में हनुमानगंज निवासी मुन्ना यादव, राजप्रताप यादव एवं दुर्जनपुर के राजन तिवारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

एसएचओ प्रवीण कुमार सिंह ने बताया कि नरेंद्र प्रताप सिंह, देवेन्द्र प्रताप सिंह नामजद थे तथा मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के भाई हैं। जेल भेजे गए अन्य लोगों का नाम विवेचना में प्रकाश मेें आने के बाद उन्हें गिरफ्तार किया गया है।
 
... और पढ़ें

हाथरस, कानपुर के बाद अब बलिया कांड से उठे पुलिस की कार्रवाई पर सवाल, आरोपी का बड़ा भाई गिरफ्तार

यूपी में सरकारी दावों में भले ही अपराध का ग्राफ कम हो रहा है, लेकिन बीते कुछ महीनों में कानपुर के विकास दुबे और हाथरस कांड के बाद अब बलिया हत्याकांड से खाकी के इकबाल और पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठ रहे हैं।  हालांकि पुलिस के अनुसार मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के बड़े भाई देवेंद्र प्रताप सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है।  

गिरफ्तारी के बारे में बात करते हुए पुलिस उपमहानिरीक्षक आजमगढ़ सुभाष चंद दुबे ने बताया कि दुर्जनपुर कांड में मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह के बड़े भाई देवेंद्र प्रताप सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने कहा है कि मुख्य आरोपी समेत अन्य आरोपियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 
... और पढ़ें

बलियाः भाजपा कार्यकर्ता ने पुलिस के सामने एक व्यक्ति को मारी गोली, एसडीएम, सीओ और 11 पुलिसकर्मी निलंबित

यूपी के बलिया जिले के रेवती थाना क्षेत्र के दुर्जनपुर गांव के  पंचायत भवन में गुरुवार को कोटे की दुकान के चयन के लिए खुली बैठक में एसडीएम, सीओ, एसओ व अन्य पुलिसकर्मियों के सामने भाजपा कार्यकर्ता धीरेंद्र प्रताप सिंह ने एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी। इस दौरान ईंट-पत्थर और लाठी-डंडे भी चले।

इसमें छह लोग घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले में धीरेंद्र समेत आठ नामजद और 25 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। एसडीएम, सीओ के अलावा मौके पर मौजूद 11 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। ग्रामीणों का आरोप है कि गिरफ्त में आए आरोपी धीरेंद्र को पुलिसकर्मियों ने छोड़ दिया।

पंचायत भवन के बाहर टेंट लगाकर हनुमानगंज और दुर्जनपुर की कोटे की दुकानों के चयन के लिए दोपहर बाद लगभग साढ़े तीन बजे खुली बैठक की जा रही थी। चार महिला समूहों ने आवेदन किया था। दुर्जनपुर की दुकान के लिए मां शायर जगदंबा और शिव शक्ति स्वयं सहायता समूह के बीच मतदान की नौबत आ गई।

इस पर एसडीएम सुरेश कुमार पाल, सीओ चंद्रकेश सिंह और एसओ प्रवीण कुमार सिंह ने व्यवस्था बनाई कि जिसके पास आधार कार्ड अथवा अन्य कोई पहचान पत्र होगा, वही वोट कर पाएगा। एक पक्ष के लोग आधार कार्ड लेकर आए थे। दूसरे पक्ष के लोगों के पास पहचान पत्र नहीं था। इसी बात पर हंगामा हो गया।
 
... और पढ़ें

यूपीः घर जा रहे कोटेदार की गोली मारकर हत्या, मंदिर के पास पहुंचने पर बदमाशों ने बरसाई गोलियां  

गोली चलाता हुआ एक व्यक्ति गोली चलाता हुआ एक व्यक्ति

यूपी: नए साल की वेलकम पार्टी में गोली लगने से एक युवक की मौत, बीयर शॉप में दोस्तों के बीच पीने को लेकर हुआ विवाद

नए साल के स्वागत में बीयर शॉप पर जश्न मनाने पहुंचे थे जश्न मनाने। सुरूर चढ़ा तो आपस में झगड़ पड़े और कोई कुछ समझता इससे पहले ही एक ने दूसरे को गोली मार दी। इसके बाद मची अफरातफरी का फायदा उठाकर तीन में से दो युवक तीसरे को मौके पर ही तड़पता छोड़  फरार हो गए। इस प्रकार बीता साल जाते-जाते भी एक और घाव दे ही गया। घटना गुरुवार  की देर शाम लगभग साढ़े सात बजे बैरिया थाना क्षेत्र के चांददियर चौकी अंतर्गत उत्तर प्रदेश और बिहार की सीमा पर चांददियर गांव में स्थित बीयर की दुकान पर घटी।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार तीनों युवक एक ही साथ बीयर की दुकान पर पहुंचे थे और साथ ही बीयर खरीदकर वहीं पी रहे थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मरने वाला युवक बिहार के छपरा जिले का रहने वाला है। चांददियर गांव में सरकारी बीयर की दुकान संचालित है। वहां दुकान से कुछ दूरी पर गांव के सामने एकांत में तीन लोग एक साथ बैठकर बीयर पी
रहे थे। पीने के दौरान ही उनमें अचानक नोकझोंक बहस शुरू हुई। आसपास के लोग कुछ समझते तभी एक युवक ने जेब से असलहा निकाला और दूसरे पर फायर कर दिया। गोली चलते ही वहां अफरा-तफरी मच गई और लोग इधर-उधर भागने लगे। इसी बीच, साथ बीयर पी रहे दो अन्य युवक फरार हो गए। उधर गोली लगने से बिहार के छपरा जिले के एकमा थाना क्षेत्र के एकमा गांव निवासी सोनू सिंह (25) की मौत हो गई। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

उधर,  हत्या की जानकारी होते ही क्षेत्राधिकारी बैरिया आरके त्रिपाठी भी मौके पर पहुंच गए और घटनास्थल का जायजा लेकर पुलिसकर्मियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। एसएचओ बैरिया ने बताया कि हत्या कैसे और क्यों हुई इसकी पड़ताल की जा रही है। मृतक के घर वालों से संपर्क करने का प्रयास किया जा रहा है और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए बिहार जाने वाले सभी मार्गों को सील कर चेकिंग की जा रही है।
... और पढ़ें

यूपी: बलिया में युवती से शादी का झांसा देकर दुष्कर्म, बनाया अश्लील वीडियो, आरोपी गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में एक युवती से शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर लिया है। मामला सुखपुरा थाना क्षेत्र के एक गांव का है। गिरफ्तार युवक पर लड़की से शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने, अश्लील वीडियो वायरल करने एवं मारपीट करने का आरोप है।
सुखपुरा पुलिस ने बुधवार को भोजपुर पुलिया से गिरफ्तार कर संबंधित धाराओं में चालान कर दिया।
पकड़े गए अभियुक्त ने पूछताछ में में अपना नाम व पता अफजल निवासी नोनेपुर कारों, थाना चितबड़ागांव बताया। युवक के माता-पिता भी आरोपी हैं, लेकिन अभी पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर पाई है। लड़की ने थाना सुखपुरा को दिए प्रार्थना पत्र में आरोप लगाया है कि युवक अपने बहन के यहां आता जाता था और मेरी ननिहाल भी वहीं पर है। वह मेरे घर भी आता था।


इसी में उससे मेरी दोस्ती हो गई। हम दोनों शादी करने के लिए राजी हुए। दोनों पक्ष के बड़े-बुजुर्ग भी इसे स्वीकार कर शादी करने पर अपनी सहमति दे दी। इसके बाद वह 2015 से मुझे अपने साथ घुमाने लगा और मेरे साथ अश्लील हरकत कर उसका वीडियो बनाया, साथ ही मेरा शारीरिक शोषण भी किया। जब भी मैं शादी का दबाव बनाती थी वह टालमटोल करता रहा।
... और पढ़ें

बलिया में 25 हजार का इनामी बदमाश गिरफ्तार,  इन चार जिलों में लूट की वारदात को दिया था अंजाम 

बलिया की  कोतवाली पुलिस एवं एसओजी टीम ने संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए  शुक्रवार की रात सहरसपाली स्थित एक स्कूल के पास से 25 हजार के इनामी बदमाश को गिरफ्तार किया है। उसके पास से तमंचा, कारतूस व गांजा बरामद हुआ है। शनिवार को पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

कोतवाल विपिन सिंह ने शनिवार को बताया कि पकड़े गए आरोपी ने पूछताछ में अपना नाम व पता अजीज नट उर्फ राजू निवासी खरहाटार थाना गड़वार बताया। उसने स्वीकार किया कि दस नवंबर 2020 की रात ग्राम शक्ति थाना गगहा जनपद गोरखपुर में रामकृपाल मिश्रा के ईंट-भट्ठे तथा 13 नवंबर की रात ग्राम पेपराडीह थाना लार जनपद देवरिया के ईंट-भट्ठे तथा जनपद मऊ के थाना कोपागंज क्षेत्र में 14 अक्तूबर 2020 को महताब खां के मुर्गी फार्म पर अपने बहनोई विशुनदेव यादव व अन्य साथियों के साथ लूट की थी। उसने बलिया में भी कई घटनाओं को अंजाम देने की बात स्वीकार की है।

आरोपी के विरुद्ध थाना कोपागंज जनपद मऊ, थाना पकड़ी बलिया, थाना चितबड़ागांव बलिया, थाना घोसी मऊ, थाना मधुबन मऊ, थाना दोहरीघाट मऊ, थाना उभांव बलिया, थाना गगहा जनपद गोरखपुर, थाना लारगंज जनपद देवरिया में लूट, डकैती, पॉक्सो एक्ट, आर्म्स एक्ट समेत अन्य धाराओं में मुकदमा पंजीकृत है।

इसके अलावा एसपी देवरिया ने अजीज नट उर्फ राजू पर 25 हजार का इनाम घोषित किया है। गिरफ्तार करने वाली टीम में उप निरीक्षक सुनील सिंह, एसओजी प्रभारी राजकुमार सिंह, उप निरीक्षक संजय सरोज, हेड कांस्टेबल श्याम सुंदर सिंह यादव, कांस्टेबल अनूप सिंह, वेद प्रकाश दुबे, अतुल सिंह, विजय राय, अनूप पटेल, शशि प्रताप सिंह, राकेश, रोहित यादव आदि रहे।
... और पढ़ें

वाराणसी: मंडुवाडीह स्टेशन पहुंचे तो नकदी और जेवर गायब, बलिया निवासी दो भाइयों की शिकायत के आधार पर पुलिस ने शुरू की जांच

सांकेतिक तस्वीर
गाजियाबाद जाने के लिए वाराणसी के मंडुवाडीह स्टेशन से ट्रेन में बैठने जा रहे बलिया के रसड़ा निवासी अनुज सिंह का बैग गायब हो गया। बैग में डेढ़ लाख रुपये, पांच लाख रुपये मूल्य से ज्यादा के गहने और कपड़े थे। सूचना पर मंडुवाडीह थाने की पुलिस जांच कर रही है।

अनुज सिंह के अनुसार, वह और उनके भाई अनूप सिंह मंगलवार रात बस से चौकाघाट में उतरे। यहां से मंडुवाडीह स्टेशन के लिए टोटो में बैठे। मंडुवाडीह स्टेशन के सामने उतरे तो उनका बैग गायब था। काफी खोजबीन के बाद भी बैग न मिलने पर अनुज ने पुलिस को सूचना दी। मंडुवाडीह थाने की पुलिस टोटो चालक और सीसी कैमरों की फुटेज खंगाल कर प्रकरण की गुत्थी सुलझाने का प्रयास कर रही है।
... और पढ़ें

बलिया में बंधक बनाए युवक को छुड़ाने गई पुलिस टीम पर हमला, पैसे के लेनदेन में पेट्रोल पंप से युवक के अपहरण का आरोप 

बलिया जिले के गड़वार थाना क्षेत्र के इंदरपुर स्थित पेट्रोल पंप से बंधक  बनाए गए भरथीपुर निवासी अभिषेक (20) को छुड़ाने गई पुलिस टीम पर करीब 20 लोगों ने हमला कर दिया। पथराव में स्कार्पियो क्षतिग्रस्त हो गई। प्रभारी निरीक्षक राजीव सिंह ने अतिरिक्त फोर्स मंगा कर बंधक बनाए गए युवक को मुक्त कराया। घटना सोमवार की देर रात की है। पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है। पीड़ित युवक की तहरीर पर छह लोगों के खिलाफ बंधक बनाने का मुकदमा दर्ज किया गया है।

सोमवार की दोपहर अभिषेक का इंदरपुर स्थित पेट्रोल पंप से बंधक बना लिया गया था। सूचना पर ताखा चौकी प्रभारी फोर्स के साथ रेखहां व गोपालपुर गांव पहुंचे तो पता चला कि अभिषेक ने नौकरी दिलाने के नाम पर रुपये लिए थे और नौकरी नहीं लगवा पाया था। लोगों के पैसा मांगने पर वह आनाकानी कर रहा था। इस पर उन लोगों ने उसे पेट्रोल पंप से उठा लिया।

अपहरण के आरोप में सोमवार की देर रात रेखहां व गोपालपुर के चार लोगों को पकड़ कर पुलिस थाने ले जाने लगी तभी गांव के15-20 लोग जुट गए और पकड़े गए लोगों को छुड़ाने के लिए पुलिस टीम पर पथराव कर दिया। पथराव में पुलिस की स्कार्पियो गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई।

चौकी प्रभारी की सूचना पर गड़वार और सुखपुरा थाने की फोर्स भेजी गई। पुलिस के दबाव में अपहरणकर्ताओं ने युवक को पुलिस के हवाले किया। अपहर्ताओं से मुक्त होने के बाद अभिषेक ने छह लोगों के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने मामले में बंधक बनाने का मुकदमा दर्ज किया है।
अभिषेक को उठाने व स्कार्पियो को क्षतिग्रस्त करने वालों को चिह्नित किया जा रहा है। पैसे के लेनदेन में युवक का बंधक बनाया गया था। उसे सोमवार की देर रात मुक्त करा लिया गया है।
राजीव सिंह, एसएचओ, थाना गड़वार 
... और पढ़ें

बलिया: मां-बहन के आचरण पर शक होने पर दोनो पुत्रों ने ही कुल्हाड़ी से की हत्या, कुल्हाड़ी बरामद

बलिया जिले के भीमपुर थाना क्षेत्र के अहिरौली गांव में 26 नवंबर की रात हुई मां-बेटी की हत्या महिला के ही दो बेटों ने की थी। उन्हें मां-बहन के आचरण पर शक था। हत्यारोपियों को गिरफ्तार कर एसओजी ने हत्या में प्रयुक्त गाड़ी व दो कुल्हाड़ी बरामद कर ली हैं। दोनों ने खुद को बचाने के लिए चार पड़ोसियों पर केस दर्ज कराया था।


पुलिस अधीक्षक देवेंद्रनाथ ने रविवार को मीडिया को बताया कि अहिरौली गांव के वीरेंद्र कुमार वाराणसी में बिजली विभाग में तैनात हैं। इनकी पुत्री और पत्नी गांव में रहते थे और तीनों पुत्र वाराणसी में पिता के साथ रहकर पढ़ाई करते थे।

महिला के दो पुत्रों जयराम कुमार व छोटे लाल ने बताया कि मां और बहन की शिकायतें सुनते-सुनते आजिज आ गए थे। उन्हें वाराणसी में ही रखने का प्रयास किया, लेकिन दोनों वहां से भाग आईं। इस वजह से उन्होंने हत्या करने की ठानी। बताया कि घटना के दिन दोनों ने सादात से कुल्हाड़ी बनवाईं और बृहस्पतिवार की रात गांव पहुंचे। सीधे मड़हे में घुसे, मां-बहन की हत्या कर लौट गए।
... और पढ़ें

बलिया में पूर्व ब्लाक प्रमुख के भतीजे पर बदमाशों ने की फायरिंग, मित्र से मिलकर जा रहे थे घर

बलिया जिले के दुबहड़ थाना क्षेत्र के घोड़हरा गांव निवासी पूर्व ब्लाक प्रमुख महेशानंद गिरी के भतीजा अंशुमान गिरी पर गुरुवार की रात हमलावरों ने फायरिंग की। संयोग अच्छा रहा कि वह बाल-बाल बच गए। उधर, घटना की सूचना मिलते ही दुबहड़ थाना प्रभारी अनिल चंद्र तिवारी हमराहियों के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर घटना का जायजा लिया।

मिली जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के घोड़हरा निवासी अंशुमान गिरी 28 पुत्र स्वर्गीय ब्रह्मानंद गिरी गुरुवार की रात करीब नौ बजे अपने मित्र से मिलकर क्रेटा कार से बलिया से वापस अपने घर जा रहे थे। जैसे ही वह जनाड़ी चट्टी से घोड़हरा स्थित कब्रिस्तान के रास्ते से गाड़ी धीमी कर मुड़े वैसे ही अज्ञात हमलावरों ने उन्हें लक्ष्य कर पहला फायर झोंक दिया।

जब तक वह कुछ समझ पाते तब तक दो और फायर किया। संयोग अच्छा रहा कि वह बाल-बाल बच गए। गोली लगने से गाड़ी के सामने एवं साइड का शीशा क्षतिग्रस्त हो गया। पीड़ित अंशुमान गिरी ने दुबहड़ थाने में तहरीर दी है। थाना प्रभारी अनिल चंद्र तिवारी ने बताया कि घटना का पर्दाफाश अविलंब किया जाएगा।
... और पढ़ें

बलिया में किशोरी की गला रेत कर हत्या, ग्रामीणों ने भाग रहे आरोपी को पकड़ा, चाकू बरामद

बलिया जिले के सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के लीलकर गांव में शुक्रवार शाम दूसरे समुदाय के युवक ने एक किशोरी की उसकी सहेलियों के सामने चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। चीख सुनकर जुटे ग्रामीणों ने भाग रहे हत्यारोपी को पकड़कर लिया और पीटने के बाद पुलिस को सौंप दिया। हत्या के पीछे प्रेम में नाकामी बताया जा रहा है। हत्या में प्रयुक्त चाकू बरामद हो गया है। एसपी देवेंद्रनाथ ने कहा कि मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। तनाव को देखते हुए गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है।

सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के लक्ष्मीपुर गांव में ननिहाल में रह रही रितिका (16) पुत्री सुरेश साहनी बघौता गांव (मनियर) की निवासी थी। शुक्रवार की शाम चार बजे वह लीलकर गांव स्थित खेतों में अन्य सहेलियों के साथ साग लेने गई थी। इस दौरान गांव का ही सैयद पुत्र मोईनुद्दीन वहां पहुंचा और रितिका पर हमला बोला दिया।
... और पढ़ें

बलिया: भोर में टहलने निकले बालू व्यवसायी की गोली मारकर हत्या, पुलिस को पहले ही बताया था जान को खतरा

बलिया में गिट्टी बालू कारोबारी हीरामन यादव (50) की बाइक सवार बदमाशों ने सुल्तानपुर मोड़ के समीप गोली मारकर हत्या कर दी। शनिवार भोर में हुई घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने नगरा-गड़वार मार्ग पर शव को रख जाम लगा दिया। एसपी के आश्वासन पर ढाई घंटे बाद ग्रामीणों ने जाम समाप्त किया। पुत्र की तहरीर पर पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

 नगरा क्षेत्र के सरया बगडौरा निवासी हीरामन यादव की बछईपुर चट्टी के पास गिट्टी-बालू की दुकान है। शनिवार भोर में वह नगरा-गड़वार मार्ग पर टहलने निकले थे। सुल्तानपुर मोड़ से सौ मीटर आगे पहुंचे ही थे कि घात लगाए बाइक सवार बदमाशों ने उनके पेट और सिर में गोली मार दीं। इससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

जानकारी होते ही ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। ग्रामीणों ने शव के साथ नगरा-गड़वार मार्ग पर जाम लगा दिया। इससे दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को सख्त कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम समाप्त कराया। मृतक के पुत्र सिंटू यादव की तहरीर पर पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर आरोपी रमाकांत यादव को गिरफ्तार किया है।
 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X