विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को
Astrology Services

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यहां देखें, योगी के 56 सदस्यीय मंत्रिमंडल का जातीय गणित, किस जाति को कितना प्रतिनिधित्व

लगभग 28 महीने बाद योगी सरकार के पहले मंत्रिमंडल विस्तार के जरिये कहीं न कहीं जातीय समीकरणों को दुरुस्त करने के साथ उन्हें संदेश देकर साधे रखने की भी कोशिश की गई है।

22 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

आगरा

गुरूवार, 22 अगस्त 2019

सावधान! खामोशी से पांव पसार रही है हेपेटाइटिस, रक्तदान के बाद जांच में हुआ खुलासा

घातक बीमारी हेपेटाइटिस बी खामोशी से लोगों को शिकार बना रही है। इसके संकेत रक्तदान में संग्रहीत रक्त के नमूनों की जांच रिपोर्ट से मिले हैं। रक्तदाता बेखबर हैं लेकिन सौ में से 15 लोगों को यह बीमारी है।

संख्या कम सही लेकिन 3.5 फीसदी लोग हेपेटाइटिस सी, 0.9 फीसदी वीडीआरएल और 0.5 फीसदी एड्स (एचआईवी पाजिटिव) की चपेट में पाए गए। ये सभी बीमारियां घातक हैं और एक सीमा के बाद जानलेवा हो जाती हैं। 

यह जानकारी एसएन मेडिकल कॉलेज और एक निजी ब्लड बैंक को चालू वित्त वर्ष में अब तक हुए रक्तदान से आए रक्त की कुल यूनिटों की जांच से सामने आई है। जिले में दो सरकारी समेत 18 ब्लड बैंक हैं। साल में 55 से 60 हजार यूनिट रक्त की हर साल जरूरत पड़ती है।
  ... और पढ़ें

फिरोजाबादः महिला की गला रेतकर हत्या, खेत में फेंका शव, परिवार सहित पति फरार

थाना लाइनपार के गांव गुदाऊ में एक महिला का शव मिलने से सनसनी फैल गई। शव को पहले भूसे में छिपाया गया फिर खेत में फेंका गया। पुलिस ने पति पर हत्या का शक जताया है। महिला के ससुरालीजन फरार हैं। पुलिस जांच में जुट गई है।

पुलिस को गांव गुदाऊ में हत्या की सूचना मिली थी। जिसके बाद थाना लाइनपार पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस पहले महिला के घर में शव को तलाशती रही लेकिन, शव नहीं मिला। पुलिस को घर में लगे भूसे के ढेर पर खून के निशान लगे मिले तो पुलिस ने भूसे के ढेर में महिला के शव को तलाशा लेकिन कोई शव नहीं मिला। 

जिस रास्ते पर भूसा फैला पड़ा था पुलिस उसी रास्ते से बहादुर सिंह की ठार के पास खेत में पहुंची। यहां महिला का शव पड़ा हुआ था। महिला का नाम मामूली देवी (30) पत्नी पप्पू है। महिला के घर से उसके पति और अन्य परिजन फरार हैं। ... और पढ़ें

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे टोल प्लाजा का डाटा हैक, जानिए क्या है पूरा मामला

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे के फतेहाबाद स्थित टोल प्लाजा का 16 अगस्त को चोरी किए गए लगभग 15 लाख रुपये के डाटा के बारे में अहम जानकारी लगी है। यह डाटा साइबर हैकर ने फिरौती के उद्देश्य से हैक किया है। मामले में एक अज्ञात के खिलाफ फतेहाबाद थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। साइबर सेल की टीम जांच में जुटी है।

टोल प्लाजा के प्रभारी अधिकारी पीके सिंह ने बताया कि हैक डाटा के स्थान पर ब्लैंक पेज नजर आ रहा है। भाषा भी अपठनीय है। साथ ही हैकर द्वारा मैसेज छोड़ा गया है कि यदि डाटा चाहिए तो मैसेज पर क्लिक करें। 

बताया गया कि 16 अगस्त को सुबह 5:15 पर आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे का सर्वर हैक कर लिया गया था, जिसमें लगभग 15 लाख रुपये का डाटा चोरी हो गया है। मामले की जानकारी होने पर टोल प्लाजा में हड़कंप मच गया। 18 अगस्त को थाना फतेहाबाद में टोलकर्मी दीपेंद्र सिंह तोमर ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ साइबर अपराध का मामला दर्ज कराया गया।  ... और पढ़ें

जन्माष्टमी: चांदी की गाय के दूध से होगा कान्हा का अभिषेक, भक्तों पर लुटाई जाएगी लाला की 'छीछी'

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर मथुरा के जन्मस्थान मंदिर में सबसे पहले कान्हा के जन्म का अभिषेक चांदी से निर्मित गाय के 51 किलो दूध से होगा। इसके बाद दही, घी, बूरा, शहद और दूध से महाभिषेक किया जाएगा। वहीं वृंदावन के बांकेबिहारी मंदिर में 23 अगस्त की रात 12 बजे गर्भगृह में ठाकुर जी का महाभिषेक किया जाएगा। इसके बाद वर्ष में एक बार होने वाली मंगला आरती रात 1:55 बजे की जाएगी। इस दौरान मंदिर परिसर में भक्तों पर लाला की छीछी लुटाई जाएगी।  ... और पढ़ें
श्रीकृष्ण जन्मस्थान मंदिर में चांदी की गाय श्रीकृष्ण जन्मस्थान मंदिर में चांदी की गाय

गिरिराज पर्वत की तलहटी में आज भी हैं श्रीकृष्ण की लीलाओं के निशान, हर शिला है साक्षी

मथुरा में सात कोस में फैले गिरिराज महाराज साक्षात ईश्वर के अवतार हैं। 21 किलोमीटर की परिक्रमा में दो राज्यों (उत्तर प्रदेश और राजस्थान) की सीमा शामिल है। गोवर्धन की तलहटी में श्रीकृष्ण की लीलाओं के साक्षी दर्शनीय स्थल भी हैं, जहां श्रद्धालुओं की आस्था जुड़ी हुई है। पर्वत पर आज भी श्रीकृष्ण की लीलाओं के चिन्ह हैं।  ... और पढ़ें

जन्माष्टमीः गोकुल में बज उठी शहनाई, आ रहे हैं कृष्ण कन्हाई

यूं तो पूरे ब्रज में ही जन्माष्टमी की धूम है। हर कोई कान्हा के रंग में रंगा हुआ नजर आ रहा है। क्या मथुरा, क्या वृंदावन। हर तरफ राधे-राधे की गूंज सुनाई दे रही है। कान्हा के भजनों पर लोग झूम रहे हैं।

गोकुल तो इन दिनों अपने कन्हैया का इंतजार बड़ी बेसब्री से कर रहा है। हर घर सज गया है। शहनाई बजने लगी है। रंगाई-पुताई हो गई है। महमानों का न्योता चला गया है। यहां जन्मोत्सव के साथ ही नंदोत्सव की भी तैयारियां चल रही हैं।

मथुरा से बारह किलोमीटर दूर बसा है कान्हा का गांव गोकुल। गोकुल में प्रवेश करते ही जगह-जगह कान्हा के भजन सुनाई देते हैं। कुंज गलियों वाले इस कस्बे में कान्हा के जयकारे गूंज रहे हैं। क्योंकि जन्माष्टमी का मौका है लिहाजा श्रद्धालु भी बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। ... और पढ़ें

जन्माष्टमीः वैष्णव समुदाय 24 को मनाएगा जन्मोत्सव, जानिए आखिर क्या है वजह

ज्योतिषाचार्य कामेश्वर चतुर्वेदी का कहना है कि वैष्णव समुदाय के लोग 24 अगस्त को जन्माष्टमी मना रहे हैं। दरअसल रोहिणी नक्षत्र, जिसमें भगवान कृष्ण का जन्म हुआ था वह 24 अगस्त को आ रही है। 24 अगस्त की तड़के 3 बजकर 46 मिनट से दूसरे दिन (25 अगस्त) 4 बजकर 15 मिनट तड़के तक रहेगी। 

दृश्य गणित के पंचांगों के अनुसार 23 अगस्त को सुबह 8 बजकर 8 मिनट पर अष्टमी तिथि आ रही है जो 24 अगस्त को सुबह 8:31 तक रहेगी। इस हिसाब से वैष्णव संप्रदाय तो 24 अगस्त को जन्माष्टमी मना रहा है, जबकि स्मार्त लोग 23 अगस्त को मना रहे हैं।

वहीं जो प्राचीन गणित के पंचांग हैं उनके अनुसार 23 अगस्त को ही अष्टमी तिथि है। यह अष्टमी तिथि 23 अगस्त की तड़के 3:15 पर लग रही है जो 24 अगस्त को देर रात 2:51 पर खत्म हो जाएगी।
  ... और पढ़ें

फर्जी शिक्षकों के बाद अब अनुदेशकों की कुंडली खंगाल रहा विभाग, मुख्यमंत्री पोर्टल पर हुई शिकायत

उच्च प्राथमिक स्कूलों में वर्षों से कार्यरत अनुदेशकों के अभिलेखों की जांच की जाएगी। शासन के निर्देश के बाद विभाग ने अभिलेखों की जांच का निर्णय लिया है। बीएसए कार्यालय में अनुदेशकों के अभिलेखों की जांच के लिए डाटा तैयार किया जा रहा है।
 
उच्च प्राथमिक स्कूलों में कार्यरत अनुदेशकों की मुख्यमंत्री पोर्टल पर हो रही शिकायतों के बाद विभाग ने उनके अभिलेखों के सत्यापन कराने का निर्णय लिया है। बेसिक शिक्षा अधिकारी विजय प्रताप सिंह के निर्देश पर दो सदस्यी टीम सत्यापन का कार्य करेगी।

इसके लिए डाटा जुटाया जा रहा है। अनुदेशकों की नियुक्ति की फाइलें खंगाली जा रही हैं। अचानक सात वर्ष बाद शुरू हुई अभिलेखों की जांच की जानकारी मिलते ही अनुदेशकों में हलचल तेज हो गई है। ... और पढ़ें

अखिलेश यादव का सरकारों पर बड़ा हमला बोले- उत्तर प्रदेश का दूसरा नाम हत्या प्रदेश

investigation
उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को शिकोहाबाद में यहां के पूर्व विधायक झाऊलाल यादव की प्रतिमा का लोकापर्ण किया।

शिकोहाबाद के प्रमुख एके कालेज में पुस्तकालय का भी लोकापर्ण किया। इस दौरान अखिलेश यादव ने अनुच्छेद 370 के मुद्दे पर भाजपा सरकार पर तंज कसा और कहा सरकार पाक अधिकृत कश्मीर को भारत में नहीं मिला सकती। 

अखिलेश यादव सबसे पहले माधव गंज स्थित सपा नेता विजेंद्र सिंह यादव के संस्थान पर आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे। यहां उन्होंने फिलिंग स्टेशन का उद्घाटन किया। इन आयोजनों में अखिलेश यादव ने भाषण के दौरान केंद्र और यूपी की भाजपा सरकारों पर हमला बोला।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार में पाक अधिकृत कश्मीर को भारत में नहीं मिला सकती। किसी के कब्जे की एक इंच जमीन को ले पाना आसान नहीं। केंद्र और प्रदेश सरकार देश को गुलामी की तरफ ले जा रही है। देश में बेरोजगारी बड़े पैमाने पर बढ़ रही है।सरकार घाटा पूरा करने के लिए डीजल, पेट्रोल के दाम बढ़ा रही है।  ... और पढ़ें

बाढ़ः कई कालोनियों में घुसा यमुना का पानी, पलायन करने लगे कालिंदी विहार के निवासी

यमुना का जलस्तर तीसरे दिन बुधवार को भी तेजी से बढ़ रहा है। यमुना किनारे बसी कालिंदी विहार सहित कई कालोनियों में यमुना का पानी प्रवेश कर गया। कालोनियों से लोग पलायन करने लगे हैं। बाढ़ के हालात बनने से कालोनियों में हलचल मची है।  ... और पढ़ें

जानिए चौधरी उदयभान के बारे में, ऐसे तय किया सब इंस्पेक्टर से मंत्री बनने का सफर

भारतीय जनता पार्टी की टिकट पर फतेहपुर सीकरी से चुनाव जीतने वाले चौधरी उदयभान सिंह को प्रदेश सरकार ने अपने मंत्रिमंडल में जगह दी है। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से राजनीति के सफर में चौधरी उदयभान सिंह ने पार्टी को शहर से देहात तक पहुंचाया। चौधरी उदयभान सिंह 1991 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से सक्रिय राजनीति में पर्दापण किया। जानिए उनके राजनीतिक सफर के बारे में 

चौधरी उदयभान सिंह 1993 में दयालबाग विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़े। इस चुनाव में उन्होंने 57,000 मतों से जीत प्राप्त की। आगरा जनपद में वे सर्वाधिक मतों से विजयी होने वाले विधायक बने थे। 

चौधरी उदयभान सिंह उत्तर प्रदेश पुलिस सेवा परीक्षा में चयनित होकर सब इंस्पेक्टर बने थे, लेकिन उनके पिता निहाल सिंह को यह नौकरी पंसद नहीं थी। इसलिए इस नौकरी से त्यागपत्र दे दिया। इसके बाद 509 आर्मी बेस वर्कशॉप आगरा में नौकरी पर चयनित हुए। पारिवारिक दबाव के चलते इस नौकरी से भी त्याग पत्र दे दिया। ... और पढ़ें

जन्माष्टमीः कान्हा के जन्म पर 'भूखे' रहेंगे कृष्ण भक्त, प्रशासन के रवैये से नाराजगी

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के दौरान मथुरा में लगने वाले भगवान श्रीकृष्ण के भक्तों की सेवा पर प्रशासन द्वारा लगाई जा रही पाबंदियों के खिलाफ व्यापारी और समाजसेवियों के स्वर मुखर हो गए हैं। 

कहना है कि प्रशासन व्यवस्थाओं के नाम पर तानाशाही करने पर उतारू है, जो सेवाभावी लोग मथुरा आने वाले भक्तों के लिए प्रतिवर्ष भंडारों का आयोजन करते हैं, उन्हें अनुमति के नाम पर रोका जा रहा है। इसकी शिकायत स्थानीय लोगों ऊर्जामंत्री के साथ मुख्यमंत्री से भी करने की तैयारी कर ली है। 

अभी तक मथुरा में भंडारों का आयोजन बेरोकटोक किया जाता था। सिटी मजिस्टे्रट सिर्फ सफाई की शर्त पर अनुमति प्रदान कर देते थे, लेकिन इस बार श्रीकृष्ण जन्मस्थान से 800 मीटर तक भंडारे आयोजन को प्रतिबंधित करते हुए इस सीमा के बाहर भी अनुमति पर अनेक शर्ते लगा दी है। ... और पढ़ें

जानिए डॉ. जीएस धर्मेश के बारे में, ऐसे तय किया सभासद से योगी सरकार में मंत्री बनने का सफर

बुधवार को लखनऊ स्थित राजभवन में ढाई साल बाद योगी आदित्यनाथ सरकार का मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ। आगरा से छावनी सुरक्षित सीट से डॉ.गिर्राज सिंह धर्मेश (डॉ. जीएस. धर्मेश) को मंत्री बनाया गया। डॉ. जीएस धर्मेश पेशे से चिकित्सक हैं और वह दूसरी नगर निगम में सभासद रह चुके हैं।

योगी सरकार में मंत्री बनाए गए डॉ. गिर्राज सिंह धर्मेश ने आगरा छावनी विधानसभा सीट पर पहली बार चुनाव 2012 में लड़ा था। यह चुनाव हारे लेकिन, 2017 में दूसरी बार में शानदार जीत दर्ज हासिल की।

यह भी पढ़ें: सपा के गढ़ में 'कमल' खिलाने वाले विधायक बने कैबिनेट मंत्री, जानिए कौन हैं रामनरेश अग्निहोत्री

डॉ. जीएस धर्मेश ने आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की पढ़ाई की है। वह आगरा-ग्वालियर राष्ट्रीय राजमार्ग पर अपना क्लीनिक भी संचालित करते हैं। ... और पढ़ें

जन्माष्टमीः संरक्षण नहीं हुआ तो विलुप्त हो जाएंगी नंदगांव में कृष्णकाल की निशानियां

कान्हा की क्रीड़ा स्थली नंदगांव में कृष्ण काल की कई निशानियां बिना उचित संरक्षण के विलुप्त होने के कगार पर हैं। इन बहुमूल्य निशानियों की न तो स्थानीय लोगों को और न ही शासन प्रशासन को इनके संरक्षण की फिक्र है।

इन धरोहरों को सुरक्षित रखने  के कोई भी प्रयास नहीं किए गए हैं। प्रचार प्रसार के अभाव में और प्रशासन की नीरसता के चलते तमाम श्रद्धालु कृष्ण के इन निशानों तक पहुंच ही नहीं पाते। इन अमूल्य धरोहरों पर थोड़ा भी ध्यान दिया जाए तो ये निशान और भी लंबे समय तक संरक्षित हो सकते हैं। इनके संरक्षण से निश्चित ही पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। 

हाऊ बिलाऊ
मान्यता है कि कृष्ण काल में कंस ने कृष्ण को मारने के लिए राक्षस भेजे थे। सांडिल्य ऋषि के श्राप के चलते राक्षस पाषाण के बन गए। यशोदा मैया कुंड में कन्हैया को जाने से रोकने के लिए इन प्रतिमाओं से डराती थीं।

जंगल में बसे हाऊ बिलाऊ की 4 प्रतिमाओं में से 2 को करीब डेढ़ दशक पूर्व पाषाण तस्करों द्वारा चुरा लिया गया। बताया गया कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में उन दिनों उनकी कीमत करोड़ों में थी। 2 मूर्तियां भी संरक्षण के अभाव में जीर्ण शीर्ण होती चली जा रही हैं।
  ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree