विज्ञापन

सिरसा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

सेहत से खिलवाड़:  दूध, मक्खन व पानी सहित 15 खाद्य पदार्थों के सैंपल फेल, आटे में मिले कीड़े, वनस्पति घी निकला नकली

हरियाणा के सिरसा शहर में बिक रहे खाद्य पदार्थ की गुणवत्ता पर खरे नहीं उतर रहे हैं। फूड एंड सेफ्टी विभाग की ओर से लिए गए सैंपल में से 15 से अधिक फेल मिले हैं। इसमें वीटा का स्किम्ड मिल्क पाउडर, लक्ष्मी स्वीट्स का पानी व वॉक एंड ग्रिल की हरी चट्नी सहित वनस्पति घी, मक्खन व दूध के सैंपल मानकों पर खरे नहीं उतरे हैं।  अब विभाग ने संबंधित दुकानदारों, प्रबंधकों को नोटिस जारी किया है। 

जिले में निजी फैक्टरी संचालक, दुकानदार और घर पर खाद्य वस्तुओं को तैयार कर लाभ कमाने के लिए उसमें मिलावट कर रहे हैं। फूड एंड सेफ्टी विभाग की ओर से जिले में लिए गए खाद्य पदार्थों के 75 सैंपल में से 15 सैंपल फेल मिले हैं।  विभाग ने फरवरी में 24, मार्च में 36 और अप्रैल में अब तक करीब 15 खाद्य एवं पेय पदार्थों के सैंपल लिए गए थे।

इनकी रिपोर्ट आ चुकी है, जिसमें 15 सैंपल फेल पाए गए हैं। इनमें केमिकल, रंग, फैट कम होने, नामी कंपनी के लेबल लगा नकली सामान बेचने के मामले हैं। इसके बाद विभाग ने संबंधित दुकानदार, फैक्टरी संचालकों और देसी सामान तैयार करने वालों को नोटिस जारी किया है। 

मिल्क पाउडर में मिली कम फैट, लेबल में पेन से की गई थी डबलिंग 
सीएम फ्लाइंग और फूूड एंड सेफ्टी विभाग की ओर से करीब दो सप्ताह पहले ही वीटा मिल्क प्लांट से दूध, मक्खन, दही, सूखा पाउडर सहित 10 खाद्य सामग्री के सैंपल लिए गए थे। इनमें से नौ सैंपलों की रिपोर्ट आई है, जिसमें से 25 किलो वाली पैकिंग में स्किम्ड मिल्क पाउडर में कम फैट पाया गया है, जबकि पैकिंग के ऊपर लगाए गए लेबल में भी पेन से डबलिंग की गई थी। लेबल के अनुसार क्वालिटी में भी कमी पाई गई हैं। वहीं, चाहरवाला में पहुंचने वाले वीटा के मिल्क में भी मिलावट पाई गई है। श्रवण डेयरी, सोनी डेयरी, फिंगर डेयरी, श्योराण डेयरी सहित ऐलनाबाद, कालांवाली और रानियां से दूध डेयरियों के सैंपल भी फेल पाए गए हैं।   

हरी चटनी में मिला रंग, चायपत्ती भी निकली नकली
शहर के हिसार रोड पर स्थित वॉक एंड ग्रिल रेस्टोरेंट की हरी चटनी में रंग की मिलावट, लक्ष्मी स्वीट्स में ग्राहकों को सप्लाई किए जाने वाले निजी कंपनी की पानी की बोतलों के सैंपल की रिपोर्ट फेल है। हालांकि सैंपल लिए जाने के बाद बोतलों में पानी की पैकिंग करने वाले संचालकों नेे प्लांट को बंद कर दिया हैं। कालांवाली में स्थित आटा चक्की से लिए आटे में कीड़े पाए गए हैं। डबवाली में तोशाम की रिद्धि सिद्धि फूड प्रोडेक्ट कंपनी के बेचे जाने वाले वनस्पति घी में भी मिलावट पाई गई है। गोरीवाला में श्री कंवर टी स्टाल की चायपत्ती भी नकली पाई गई है।

पहले भी फेल आ चुके हैं सैंपल
इससे पहले भी एमसी मार्केट स्थित गोल्ड फ्रीजन फूड के नाम से बेचा जाने वाला मक्खन भी नकली पाया गया था। वहीं, नीला आकाश कंपनी की ओर से बेचे जाने वाले सरसों के तेल में भी मिलावट मिली थी। इसके अलावा रानियां रोड स्थित सब्जी मंडी से लिए गए सरसों के तेल के सैंपल भी फेल आए था। इसके चलते अतिरिक्त उपायुक्त ने दुकानदारों के पर लाखों रुपये का जुर्माना भी लगाया था।
 
... और पढ़ें

सिरसा: चेक बाउंस के दो मामलों में 2 दोषियों को 2-2 साल कैद, पीड़ितों को देना होगा 15 लाख 92 हजार रुपये मुआवजा

हरियाणा के सिरसा में चेक बाउंस के मामले में न्यायालय हुडा सेक्टर 20 निवासी मोहित लोहान को 2 साल कैद की सजा सुनाई है। सजा साथ ही दोषी को पीड़ित शिकायतकर्ता को 8 लाख रुपये मुआवजा देना होगा। इस मामले में दोषी के खिलाफ 19 फरवरी 2016 को न्यायालय में केस दायर हुआ था।

मामले के अनुसार सिरसा निवासी कैलाश कुमार की एमसी मार्केट में कंप्यूटर एंड मोबाइल हाउस के नाम से फर्म है। यह फर्म कंप्यूटर की बिक्री और खरीद के सौदे व होलसेल में पुर्जे की बिक्री करती है। कैलाश कुमार को हुडा निवासी मोहित लोहान से अच्छे संबंध थे।

मार्च 2014 को मोहित ने कैलाश से 5 लाख रुपये उधार मांगे। आरोपी ने आश्वासन दिया था कि उक्त राशि का भुगतान जल्द कर देगा, लेकिन उसने ऐसा नहीं किया। नवंबर 2015 को मोहित ने कैलाश को 6 लाख पांच हजार रुपये का चेक दिया। बैंक में यह चेक लगाया गया तो ये बाउंस हो गया। इसके बाद कैलाश कुमार ने मोहित के खिलाफ न्यायालय में केस दायर कर दिया।

मंगलवार को इस मामले का निपटारा करते हुए मोहित को दोषी करार देते हुए 2 साल कैद की सजा सुनाई है। वहीं, एक अन्य मामले में न्यायालय ने हिसार के किशनगढ़ निवासी विकास को 2 साल कैद की सजा सुनाई है और शिकायतकर्ता को जगदीश निवासी सिरसा को 7 लाख 92 हजार रुपये मुआवजा देने का आदेश दिया है। मुआवजा राशि 30 दिन के अंदर देनी होगी नहीं तो एक माह अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा।
... और पढ़ें

सिरसा में हादसा: प्राइवेट बस की टक्कर के बाद कार में लगी आग, जिंदा जला कार चालक 

हरियाणा के सिरसा जिले के रानियां क्षेत्र के गांव सादेवाला के पास सोमवार सुबह 7 बजे के करीब एक निजी बस और कार में आमने-सामने की टक्कर हो गई। जिसके कारण कार आग लग गई और उसका चालक जिंदा जल गया। जिससे उसकी मौत हो गई।
 
वहीं हादसे के बाद बस चालक मौके से फरार हो गया। मृतक की पहचान घोड़ांवाली निवासी 40 वर्षीय कुलदीप कुमार के रूप में हुई है। पुलिस ने मृतक के भाई की शिकायत पर आरोपी बस चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया है।
 
बता दें कि पूजा ट्रैवल्स की बस गोरीवाला की तरफ जा रही थी। जब बस गांव सादेवाला से केहरवाला की तरफ रवाना हुई तो सामने की तरफ से आ रही कार से आमने-सामने की टक्कर हो गई। कार सवार कुलदीप केहरवाला से सादेवाला की तरफ जा रहा था।
 
टक्कर इतनी जबरदस्त थी की कार बस के अगले हिस्से से टकराकर रोड ने नीचे उतर गई और धमाका होने के कारण उसमें आग लग गई। वहीं आसपास के लोगों ने आग बुझाकर चालक को बाहर निकालने का प्रयास किया। लेकिन कार में आग तेजी से फैलने घायल चालक को बाहर नहीं निकाला जा सका। आग में कुलदीप बुरी तरह से झुलस गया और उसकी मौत हो गई। वहीं मौका मिलते ही बस चालक फरार हो गया। आसपास के लोगों ने मामले की सूचना दमकल और पुलिस को दी। सूचना मिलते ही जीवननगर चौकी पुलिस मौके पर पहुंची। इस दौरान मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ी ने करीब आधे घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया।

ससुराल में जगराते से होकर दोस्त को गाड़ी देने जा रहा था कुलदीप
कार चालक घोड़ांवाली निवासी कुलदीप सिंह खेती बाड़ी का काम करता था। बीती रात को वह केहरवाला में अपने ससुराल में जगराते से होकर दोस्त रविंद्र को जीवननगर में टोयोटा कार वापस देने के लिए जा रहा था। जैसे ही वह केहरवाला से निकलकर कुछ दूरी पर पहुंचा तो हादसा हो गया। मृतक कुलदीप के 12 वर्ष का एक पुत्र है।
 
 
... और पढ़ें

Sirsa News: नशे ने लील ली 32 वर्षीय युवक की जिंदगी, गांव के पंचायत घर में मिला शव, दो सप्ताह में चार ने गंवाई जान

हरियाणा में डबवाली के गांव सक्ताखेड़ा में नशे के ओवरडोज से एक युवक की मौत हो गई। युवक का शव गांव के पंचायत घर के कमरे में मिला है। युवक के हाथ पर नशे का इंजेक्शन भी लगा मिला है। सुबह आसपास के लोगों ने युवक को देखा तो उन्होंने मामले की सूचना डबवाली पुलिस को दी । पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में ले लिया है।

जानकारी अनुसार मृतक की पहचान गांव सक्ताखेड़ा निवासी 32 वर्षीय गुरप्रीत उर्फ गोरी के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि युवक नशे का आदी था और गांव के जलघर के पास उसका मकान है। युवक रात को ही घर से निकल आया था। युवक की मौत नशे की ओवरडोज से बताई जा रही है। हालांकि पुलिस अभी मामले की जांच कर रही है। युवक के हाथ में इंजेक्शन भी लगा मिला है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

दो सप्ताह में चार युवकों की हो चुकी नशे से मौत
सिरसा जिले में नशे के आदी युवकों की मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। बीते दो सप्ताह में चार युवकों की मौत नशे से हो गई है। बता दें कि बीते दिन भी रानियां के सादेवाला में दो नशेड़ी दोस्तों ने 11 वर्षीय बच्चे को मौत के घाट उतार दिया था और उसके शव को खेत में दबा दिया था। जबकि इससे पहले रानियां में ही एक युवक का शव खेत में मिला था। उसके पास से मेडिकल नशे की गोलियां बरामद हुई थीं। वहीं नागरिक अस्पताल के बाहर और ओढां में भी एक युवक की नशे की ओवरडोज से मौत हो चुकी है।
... और पढ़ें
कार्रवाई करती पुलिस और ग्रामीणों की लगी भीड़। कार्रवाई करती पुलिस और ग्रामीणों की लगी भीड़।

दंपती ने उठाया खौफनाक कदम: सिरसा में निर्माणाधीन मकान में लगाई फांसी, मध्य प्रदेश के रहने वाले थे, पुलिस जांच में जुटी

हरियाणा के सिरसा जिले में दंपती ने खौफनाक कदम उठा लिया। शहर के ईरा ग्रुप के निर्माणाधीन मकान में दंपती ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली है। आसपास के लोगों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल पहुंचाया और परिजनों को मामले की सूचना दी।

जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश के छतरपुर निवासी 20 वर्षीय सोनू और उसकी पत्नी यशोद्धा कुछ समय पहले ही सिरसा के ईरा ग्रुप में मजदूरी का काम करने आए थे। घरेलू कलह के चलते मंगलवार देर रात को दोनों ने निर्माणाधीन मकान में लोहे के एंगल पर चुन्नी से फंदा लगा आत्महत्या कर ली। कमरे से शोर आने के बाद सड़क पर घूम रहे लोगों ने मकान की पहली मंजिल पर रहने वाले मजदूरों को मामले की जानकारी दी। 

इसके बाद वह मौके पर पहुंचे तो दंपती फंदे से लटके मिले। उन्होंने मामले की सूचना हुडा चौकी पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच मामले की जांच की और शव को कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल पहुंचाया। मृतका यशोद्धा के पिता भी लंबे समय से सिरसा में ही राज मिस्त्री का काम करते हैं। हालांकि मृतक सोनू के परिजन मध्य प्रदेश में ही रहते हैं। पुलिस ने उनके परिजनों को मामले की सूचना दी है। मृतक सोनू के परिजनों के पहुंचने के बाद ही दोनों के शवों का पोस्टमार्टम होगा। हुडा चौकी के हेड कांस्टेबल सुखचैन सिंह मामले की जांच कर रहे हैं।
... और पढ़ें

सिरसा: गांव सादेवाला में दोस्तों ने कर दी बालक की हत्या, भांग का नशा करने के दौरान हुई थी कहासुनी

हरियाणा के सिरसा जिले के गांव सादेवाला में भांग के नशे के दौरान हुए विवाद में दोस्तों ने बालक अरुण (11) की कस्सी से वारकर हत्या कर दी। सनसनीखेज वारदात को अंजाम देने के बाद दोस्तों ने शव को ढूडियांवाली स्थित खेत में दबा दिया। पुलिस ने नाबालिग सहित दो आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट कर मामले की जांच प्रारंभ कर दी है। पुलिस ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट की निगरानी में शव को गड्ढे से बाहर निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल भेज दिया।  

पुलिस के मुताबिक थाना रानियां के गांव सादेवाला निवासी अरुण (11) सोमवार शाम को दोस्तों के साथ बाइक से ढूडियांवाली स्थित खेत में चला गया था। मंगलवार की सुबह तक बेटे के नहीं लौटने पर परिजनों को अनहोनी की चिंता सताने लगी। परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। इस बीच राकेश ने पिता सूचा सिंह को बताया कि अरुण दोस्तों के साथ बाइक से कहीं गया था। उसे जाते हुए मैने देखा है।

इसके बाद उसे कोई जानकारी नहीं है। इस पर परिजनों ने पुलिस को बालक के लापता होने के साथ ही पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। पुलिस ने शक के आधार पर अरुण के दोस्तों से पूछताछ की। दोनों आरोपियों ने बालक की हत्या की बात को कुबूल कर लिया। खेत में ही उसका शव दबाए जाने की पुलिस को जानकारी दी।

आरोपियों ने बताया कि नशा करने के दौरान आपस में विवाद हो जाने के कारण ही वारदात को अंजाम दिया है। इसके बाद प्रशासन की ओर से ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया। उनकी देखरेख में मंगलवार दोपहर करीब एक बजे बालक के शव को गड्ढे से बाहर निकालकर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल में भेजा। 

वारदात के दौरान मजदूरी करने गए थे पिता 
पुलिस को दी शिकायत में मृतक के पिता सूचा सिंह ने बताया कि उनके दो बेटे हैं। उनकी पत्नी व उसका बड़ा बेटा राकेश मनरेगा के तहत काम करने गए थे। घर पर छोटा बेटा अरुण अकेला ही था। शाम को उसका बेटा अरुण घर पर नहीं था। पता किए जाने पर बड़े बेटे राकेश ने उन्हें बताया कि अरुण को दोस्तों के साथ गया है। पीड़ित ने बताया कि आरोपियों के घर पूछने गया, लेकिन वहां वह नहीं मिला। उन्होंने पुलिस को सूचना दी और गांव में सोमवार की शाम अपने बेटे की गुमशुदगी की मुनादी भी कराई।  
 
... और पढ़ें

सिरसा: हाईटेंशन लाइन की चपेट में आकर बिजली निगम के कर्मचारी की मौत, एसडीओ, जेई और एसए पर मामला दर्ज

हरियाणा के सिरसा के गांव पनिहारी में 11 हजार केवी की लाइन की चपेट में आकर बिजली निगम के अनुबंधित कर्मचारी की करंट लगने से मौत हो गई। मृतक कर्मचारी के पुत्र ने विभाग के एसडीओ जेई और एसए सहित अन्य पर मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 
 
गांव पनिहारी में गांव भरोखा निवासी राहुल ने बताया कि उनके पिता मनमोहन कृष्ण बिजली निगम कार्यालय पनिहारी में अनुबंध पर एएलएम के पद पर नियुक्त थे। सोमवार सुबह करीब नौ बजे उन्हें सूचना मिली की उनके पिता की गांव मुसाहिबवाला में बिजली का करंट लगने से मौत हो गई। सूचना मिलने के बाद जब वे सिरसा के नागरिक अस्पताल पहुंचे, तो उन्हें पता चला कि उनके पिता गांव मुसाहिबवाला में बिजली ट्रांसफार्मर ठीक कर रहे थे।
 
इस दौरान बिजली विभाग का कोई भी कर्मचारी उनके साथ नहीं था। ट्रांसफार्मर पर चढ़ने से पहले बिजली लाइन बंद करवाई थी, लेकिन मनमोहन कृष्ण जब ट्रांसफार्मर ठीक करने के लिए चढ़े तो उन्हें करंट लग गया। मृतक के पुत्र राहुल ने आरोप लगाया कि उनके पिता को 11000 केवी की लाइन पर चढ़कर काम करने की अनुमति नहीं है।
 
परंतु, बिजली बोर्ड 33 केवी पनिहारी के जेई, एसए व अन्य कर्मचारियों ने दबाव बनाकर उन्हें बिजली ठीक करने के लिए ट्रांसफार्मर पर चढ़ाया। इसके चलते उसके पिता हादसे का शिकार हुए। पुलिस ने शिकायत के आधार पर एसडीओ विकास ठकराल, जेई कमल जैन, सहित दो अन्य के खिलाफ संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
बिना उपकरण दिए चढ़ा दिया ट्रांसफार्मर पर
 
मृत कर्मी के बेटे राहुल ने बताया कि बिजली निगम के अधिकारियों ने दबाव बनाकर उसके पिता को बिजली ठीक करने को भेजा था। इस दौरान उन्हें कोई सुरक्षा उपकरण भी उपलब्ध नहीं करवाए गए। राहुल ने बताया कि दो वर्ष पूर्व भी उसके पिता 11 हजार केवी की लाइन ठीक करते समय हादसे का शिकार हुए थे, परंतु उस समय अधिकारियों ने मामले को दबा लिया था, जिस कारण कोई कार्रवाई नहीं हो सकी।
... और पढ़ें

सिरसा: सीआईए डबवाली पुलिस ने पकड़े दो क्रिकेट बुकी, 13 लैपटॉप और 22 मोबाइल समेत छह हजार की नकदी बरामद  

Electric Shock
सिरसा में डबवाली सीआईए पुलिस ने बेगू रोड पर प्रीतनगर कॉलोनी में एक मकान में कार्रवाई कर क्रिकेट बुकी चलाते दो युवकों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से 13 लैपटॉप, 22 मोबाइल और छह हजार रुपये की नकदी बरामद हुई है।

सूचना के आधार पर प्रीतनगर की गली नं. 4 में एक मकान पर पुलिस ने दबिश दी। इस दौरान वहां पर पंजाब किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच चल रहे क्रिकेट मैच पर दो युवक सट्टा लगवा रहे थे। गिरफ्तार किए गए युवकों की पहचान गांधी कॉलोनी निवासी विशाल कुमार और चोपड़ा वाली गली निवासी कृष्ण कुमार उर्फ काका के रूप में हुई है। इस दौरान पुलिस को दो एलईडी, 13 लैपटॉप, 22 मोबाइल, छह हजार रुपये नकदी, वाईफाई सहित अन्य सामान बरामद हुआ है। सिरसा शहर पुलिस थाना में राजदीप, विशाल कुमार, कृष्ण कुमार, जरनैल सिंह और दिनेश कुमार के खिलाफ संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया है।
... और पढ़ें

सिरसा: नशे की ओवरडोज से युवक की मौत, खेत में शव के पास मिला इंजेक्शन और गोलियां

हरियाणा के सिरसा जिले में नशे की ओवरडोज से रविवार को एक युवक की मौत हो गई। युवक का शव रानियां से सुलतानपुरिया रोड के साथ स्थित खेत में मिला है। शव के पास इंजेक्शन और गोलियां भी बरामद हुई हैं। सूचना मिलने पर पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नागरिक अस्पताल में पहुंचाया। मृतक की पहचान 23 वर्षीय मंगा उर्फ सोनू वार्ड नंबर आठ रानियां के रुप में हुई है।  पिछले एक सप्ताह में नशे के ओवरडोज से यह तीसरी मौत है। 

मृतक के भाई लखविंद्र सिंह ने बताया कि मंगा उसका बड़ा भाई था और मजदूरी करता था। उसका भाई बीते करीब दो वर्षों से नशे का आदी था। उन्होंने तीन माह पहले मंगा को नशा मुक्ति केंद्र में भर्ती करवाया था, लेकिन उसकी नशे की लत नहीं छूटी। इसके बाद वह उसे वापस घर ले आए।

यहां मंगा और अधिक नशा करने लग गया। शनिवार दोपहर को वह घर से चला गया। इसके बाद अगले दिन सुबह उन्हें उसका शव खेत में पड़े होने की सूचना मिली थी। उसके शव के पास इंजेक्शन और गोलियां मिली हैं। उन्होंने बताया कि वह दो भाई है, जबकि दो बहने है। उसके पिता लाल सिंह भी दिहाड़ी मजदूरी करता है।

 
एक सप्ताह में तीन युवकों की हो चुकी है नशे से मौत 
पहले मामले में सिरसा के नागरिक अस्पताल के सामने ही स्थित ग्रीन बेल्ट में एक युवक का शव मिला था। युवक नशे छोड़ने की दवाई लेने के लिए नागरिक अस्पताल में आ रहा था, लेकिन रास्ते में ही उसने अपने दोस्तों के साथ बैठ नशा किया और उसकी मौत हो गई।

मृतक की पहचान वैदवाला हाल निवासी कल्याण कॉलोनी शुभम के रुप में हुई थी। दूसरे मामले में ओढां के घुंकावाली में एक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। युवक नशे का आदी था और बीते वीरवार को वह घर पर अपने भाई के साथ चाय पी रहा था। इसी दौरान हार्ट अटैक से उसकी मौत हो गई थी। 
 
... और पढ़ें

सिरसा: लाइसेंस नवीनीकरण में मिला फर्जीवाड़ा, कांग्रेस नेता के खिलाफ मामला दर्ज

हरियाणा के सिरसा जिले के गांव चौटाला निवासी कांग्रेस नेता के खिलाफ पुलिस ने फर्जीवाड़ा करते हुए शस्त्र लाइसेंस नवीनीकरण करवाने का मामला दर्ज किया है। पुलिस ने आरटीआई कार्यकर्ता की शिकायत के आधार पर कांग्रेस नेता के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

गांव चौटाला निवासी संजय हिटलर ने डबवाली एसडीएम कार्यालय से 1985 में शस्त्र लाइसेंस लिया। इसकी अवधि वर्ष 2000 तक थी। आरटीआई कार्यकर्ता करतार सिंह ने पुलिस को शिकायत देकर आरोप लगाए कि बिना लाइसेंस  रिन्यू करवाए कांग्रेस नेता ने हथियार रखा है।

शिकायत के बाद इस मामले की जांच हुई। इस दौरान आरटीआई से मिली सूचना से पता चला कि संजय हिटलर ने पंजाब, जम्मू और राजस्थान से लाइसेंस का नवीनीकरण करवाया, लेकिन पुलिस जांच में लाइसेंस रिन्यू करवाने संबंधित कोई दस्तावेज नहीं मिला। ऐसे में पुलिस ने अब आरोपी संजय के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी जांच शुरू कर दी है। 

जांच के दौरान किसी भी राज्य से नहीं मिला लाइसेंस के संबंधित रिकार्ड 
डीएसपी कुलदीप बैनीवाल ने बताया कि जांच में सामने आया कि संजय हिटलर का शस्त्र लाइसेंस 19 जून 1985 को एसडीएम डबवाली ने जारी किया गया था। जिसका नवीनीकरण जिलाधीश सिरसा की रिपोर्ट अनुसार वर्ष 2000 तक एसडीएम डबवाली से होना था। मामले की शिकायत आने के बाद लाइसेंस के संबंध में फिरोजपुर से रिकार्ड मांगा गया, लेकिन वहां से डाटा प्राप्त नहीं हो पाया। वहीं, जिला एवं कलक्टर श्रीगंगानगर के अनुसार उक्त लाइसेंस का नवीनीकरण 14 जून 2009 तक किया गया है। वहीं, जिला मजिस्ट्रेट कठुआ ने 20 अप्रैल 2022 को रिपोर्ट दी कि कठुआ में नवीनीकरण नहीं हुआ है। 

अधिकारियों ने नहीं की कोई भी कार्रवाई: करतार सिंह 
वहीं, शिकायतकर्ता करतार सिंह ने कहा कि फर्जी तरीके से लाइसेंस रिन्यू करवाने को लेकर उन्होंने इस संबंध में आरटीआई मांगी थी। जिसके बाद इस मामले को लेकर उन्होंने तत्कालीन एसपी, डीएसपी और अन्य अधिकारियों को शिकायत दी थी। आरोप है कि अधिकारियों ने इस मामले पर उस समय कोई भी कार्रवाई नहीं की। अब अधिकारियों को बचाने के चक्कर में फर्जी तरीके से लाइसेंस रिन्यू करवाने का मामला संजय पर दर्ज किया गया है। मैं अब अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए न्यायालय की शरण लूंगा।  

अपनी सुरक्षा के लिए रखता हूं हथियार, समय पर करवाया है रिन्यू
अपनी सुरक्षा के लिए हथियार रखा था और बाकायदा लाइसेंस भी लिया। समय आने पर लाइसेंस का नवीनीकरण भी करवाया है। लेकिन अब मेरे खिलाफ मामला दर्ज होने की सूचना मिली है। पुलिस जांच के दौरान मैं सभी संबंधित दस्तावेज प्रस्तुत करूंगा और अपना पक्ष रखूंगा। मुझ पर लगाए सभी आरोप बेबुनियाद है। -संजय सिहाग, चौटाला  
 
... और पढ़ें

सिरसा: अवैध शराब की सूचना पर छापेमारी करने गई पुलिस टीम पर हमला, एसएचओ सहित दो पुलिस कर्मी घायल

सिरसा के गांव सिकंदरपुर के पास अवैध शराब की सूचना पर छापेमारी करने गई पुलिस टीम पर हमला हो गया। हमलावरों ने पुलिस से शराब तस्करी मामले में पकड़े गए आरोपियों को छुड़ा लिया। इस घटना में एसएचओ सहित दो पुलिस कर्मी घायल हो गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।

पुलिस को सूचना मिली थी कि गांव सिकंदरपुर के बाहरी इलाके में शराब की अवैध तस्करी हो रही है। इस सूचना के आधार पर सदर पुलिस टीम ने एसएसओ ईश्वर सिंह के नेतृत्व में रेड की। बताया जा रहा है पुलिस टीम ने छापेमारी कर एक आरोपी को पकड़ लिया और गाड़ी में बैठा लिया। आरोप है कि इस दौरान आसपास के क्षेत्र के लोग एकत्र हो गए और पुलिस टीम पर ही हमला कर दिया। इस दौरान एसएचओ ईश्वर सिंह और एक अन्य पुलिस कर्मचारी को चोटें आई। दोनों का नागरिक अस्पताल में मेडिकल करवाया गया। अब पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही है। 
... और पढ़ें

हरियाणा: सिरसा की पीएनडीटी की टीम ने पंजाब के बठिंडा में भ्रूण लिंग जांच मामले में चार को किया काबू

यूरिन के सैंपल लेकर गर्भ में लड़का है या लड़की इसकी जानकारी देने वाले चार आरोपियों को सिरसा की पीएनडीटी की टीम ने बठिंडा से काबू किया है। आरोपी गर्भवती महिलाओं के यूरिन के सैंपल लेकर कुछ समय बाद ही लड़का या लड़की होने की जानकारी देकर लोगों से धोखाधड़ी करते थे। टीम ने आरोपियों को काबू कर बठिंडा के पुलिस को सौंप दिया है। वहीं, पुलिस ने पीएनडीटी, धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

बठिंडा में भ्रूण लिंग जांच कर लोगों के साथ धोखाधड़ी करने के मामले की शिकायत के बाद टीम हरकत में आई। सिरसा पीएनडीटी इंचार्ज डॉ. दीपक कंबोज के नेतृत्व में टीम बठिंडा में पहुंची। टीम ने पहले डमी ग्राहक बनाकर बठिंडा के मॉडल टाउन फेज वन निवासी मुख्य आरोपी मनप्रीत कौर के साथ संपर्क किया और 20 हजार में भ्रूण लिंग जांच करने का सौदा तय किया। मनप्रीत कौर ने तीन हजार रुपये पहले ऑनलाइन ट्रांसफर करवाए और भ्रूण लिंग जांच के लिए गर्भवती महिला के यूरिन सैंपल लेने की बात कही और बठिंडा के मॉडल टाउन फेज व स्थित गुरुद्वारा में बुलाया। 

बुधवार शाम को टीम बठिंडा में पहुंच गई। यहां पर टीम ने यूरिन के दो सैंपल भरे। रात करीब 8.30 बजे गर्भवती महिला के सैंपलों की जांच के लिए मुख्य आरोपी मनप्रीत कौर गुरुद्वारा में पहुंची और उनसे सैंपल और 12 हजार रुपये की नकदी साथ ले गई। इसी दौरान मनप्रीत कौर ने एक घंटे तक सैंपलों की रिपोर्ट आने के बाद शेष राशि लेने की बात कही।

करीब एक घंटे के बाद मनप्रीत कौर और उसका सहयोगी गगनप्रीत उसके साथ सैंपलों की जानकारी देने और शेष राशि लेने के लिए पहुंचे। मनप्रीत कौर गर्भवती महिला के पेट में लड़की होने की बात कह पांच हजार की राशि लेकर वहां से वापस जाने लगे। इसी दौरान टीम ने मनप्रीत और गगनप्रीत को दबोच लिया। उनके कब्जे से 13 हजार की नकदी बरामद कर ली और तीन हजार रुपये ऑनलाइन दिए हुए भी वापस ले लिए। 

टीम ने आरोपियों से पूछताछ की, तो उन्होंने बठिंडा के अनाज मंडी स्थित बस्ती निवासी गीता भी उनके साथ मिले होने की जानकारी दी। टीम ने गीता को भी काबू कर लिया। वहीं जब शेष रही राशि के बारे में जानकारी मांगी, तो गीता ने अपने ससुर को दो हजार रुपये जमा करवाने की बात कही।

इसके बाद टीम ने गीता और उसके ससुर को भी दबोच लिया। इस मामले की शिकायत बठिंडा पुलिस को दे आरोपियों को पुलिस के हवाले कर दिया है। हालांकि इस दौरान मनप्रीत से दो हजार रुपये की नकदी बरामद नहीं हो पाई। इस दौरान टीम में डॉ. संकेत सेतिया पीएचसी जमाल भी मौजूद रहे। 
 
बिना जांच के ही बता देते थे लड़की, लोगों के साथ करते थे धोखाधड़ी 
पकड़े गए आरोपी लोगों के साथ संपर्क रखते थे। लोगों को अपने जाल में फंसाकर उनसे धोखाधड़ी करते थे। यूरिन के सैंपल लेने के कुछ समय बाद ही उक्त आरोपी लड़की होने की जानकारी दे देते थे, जिसके कुछ दिनों बाद फिर से उक्त गर्भवती महिला से संपर्क कर उसका गर्भपात करवाने के बारे में जानकारी देते थे। हालांकि अब मामले की जांच पुलिस कर रही है। जिसके बाद उनके अन्य साथियों की जानकारी भी जुटाई जा रही है। 
 
... और पढ़ें

सिरसा: सीआईए कालांवाली पुलिस टीम ने अंतरराज्यीय चोर गिरोह का किया पर्दाफाश, दो आरोपी गिरफ्तार

हरियाणा के सिरसा में सीआईए कालांवाली पुलिस टीम ने एक अंतरराज्यीय चोर गिरोह का पर्दाफाश करने में सफलता हासिल की है। प्रभारी सब इंस्पेक्टर राजपाल ने बताया कि पकड़े गए व्यक्तियों की पहचान धर्मप्रीत उर्फ निवासी मानावली, थाना जैतसर जिला हनुमानगढ़, राजस्थान व बसंत निवासी किलिंयावाली मंडी वार्ड न. 5 मुक्तसर हाल नर्सिंग कॉलोनी जिला भटिंडा के रूप में हुई है। 

उन्होंने बताया कि 28 मार्च को मंडी डबवाली में मोटरसाइकिल चोरी की वारदात होने पर मुकदमा थाना शहर डबवाली में दर्ज किया गया था। पुलिस अधीक्षक डॉ. अर्पित जैन ने चोरी की घटनाओं को सुलझाने के लिए जांच सीआईए कालांवाली पुलिस टीम को सौंपी थी। 

कालांवाली की टीम ने महत्वपूर्ण सूचना जुटाकर दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की । पकड़े गए आरोपियों को अदालत में पेश किया। पुलिस ने आरोपियों को अदालत के आदेश पर चार दिन के लिए रिमांड पर लिया। रिमांड अवधि के दौरान आरोपियों से उनकी निशानदेही पर चोरी की सात मोटरसाइकिल बरामद की।

सीआईए कालांवाली प्रभारी ने बताया कि 4 मोटरसाइकिल आरोपी धर्मप्रीत उर्फ बाबू ने अपने एक अन्य साथी गुरचरण सिंह निवासी राजस्थान को बेचने के लिए राजस्थान में दिए हुए थे। पूछताछ के दौरान आरोपी धर्मप्रीत उर्फ बाबू ने चोरी की 16 वारदातें करनी कबूल की है, जिनमें से 10 चोरी की वारदात डबवाली क्षेत्र की और पांच वारदात पीलीबंगा राजस्थान की है, जबकि एक वारदात किलियांवाली पंजाब की शामिल है।
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00