विज्ञापन

दिल्ली-एनसीआर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

दिल्ली:  इंस्टाग्राम पर दोस्ती कर युवती के साथ दुष्कर्म, गर्भवती होने पर की शादी बाद में छोड़ा

मध्य दिल्ली के दरियागंज इलाके में एक युवती ने अपने ही कथित पति पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। पीड़िता का कहना है कि 28 वर्षीय युवक ने पहले उससे इंस्टाग्राम पर दोस्ती की। इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म किया। युवती गर्भवती हुई तो आरोपी ने डर की वजह से उसके साथ शादी रचाने का नाटक किया। कुछ दिन साथ में रहने के बाद आरोपी ने जबरन युवती का गर्भपात करवा दिया। इसके बाद युवक ने उसे छोड़ दिया। पीड़िता के कॉल करने पर आरोपी उसे धमका रहा था। परेशान होकर पीड़िता ने मामले की शिकायत पुलिस से की। छानबीन के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। कोर्ट में पेश करने के बाद आरोपी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

पुलिस के मुताबिक सपना, 21 साल (बदला हुआ नाम) परिवार के साथ दरियागंज इलाके में रहती है। परिवार में माता-पिता व अन्य सदस्य हैं। युवती पत्राचार से पढ़ाई कर रही है। कुछ समय पूर्व सपना की इंस्टाग्राम पर एक युवक से पहचान हुई थी। दोनों के बातचीत होने लगी। इसके बाद दोनों ने एक दूसरे से प्यार का इजहार कर मिलना भी शुरू कर दिया।

आरोप है कि युवक ने एक होटल में ले जाकर दुष्कर्म किया। बाद में आरोपी शादी करने की बात करने लगा। इसके बाद आरोपी अक्सर उसके साथ संबंध बनाने लगा। सपना गर्भवती हो गई। उसने आरोपी पर जल्द शादी करने की बात की तो वह टालने लगा। पुलिस से शिकायत की बात पर वह डर गया और उसने जग दिखावे के लिए उससे शादी कर एक मकान भी किराए पर ले लिया। कुछ दिन साथ में रहने के बाद आरोपी ने सपना को गर्भपात कराने के लिए राजी कर लिया।
... और पढ़ें

दिल्ली: तलाक लेने की बात कहने पर युवक ने किया पत्नी पर चाकू से हमला

दिल्ली के विजय विहार में एक युवक ने तलाक लेने की बात कहने पर पत्नी पर जानलेवा हमला कर दिया। आरोपी ने पत्नी पर चाकू से ताबड़तोड़ वार कर फरार हो गया। महिला को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। महिला के हाथ, गले और अन्य जगहों पर चाकू लगे हैं। शुरूआती जांच में पता चला कि युवक ने चार साल पहले प्रेम विवाह किया था।

नशे का आदी युवक महिला के साथ अकसर मारपीट करता था। जिसकी वजह से महिला उससे तलाक लेने का फैसला कर लिया था। पुलिस महिला के बयान पर आरोपी पति के खिलाफ मामला दर्ज कर उसकी गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

शुक्रवार सुबह पुलिस को सूचना मिली कि आई ब्लॉक विजय विहार में एक महिला पर उसके पति ने चाकू से हमला कर उसे बुरी तरह से घायल कर दिया है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। तब तक आस पड़ोस वालों से महिला को पास के अस्पताल में भर्ती करा चुके थे। मकान के कमरे में काफी खून पड़ा था। पुलिस मौका मुआयना करने के बाद अस्पताल पहुंची। जहां नाजिया नाम की महिला का इलाज चल रहा था। उसके गले, हाथ व शरीर के अन्य जगहों पर चाकू के जख्म थे।

नाजिया ने बताया पति ने क्यों किया हमला
नाजिया ने बताया कि उसपर उसके पति शुभम ने हमला किया है। उसने बताया कि उसके माता पिता का देहांत हो चुका है। चार साल पहले उसने शुभम से प्रेम विवाह किया। बाद में शुभम नशा करने लगा। नशा करने के बाद वह अकसर उसकी पिटाई करने लगा। इससे परेशान होकर उसने शुभम से तलाक लेने के फैसला कर लिया।

इस बात की जानकारी मिलने के बाद शुभम शुक्रवार को अपने भाई विशाल के साथ बाइक से आया। वह कमरे में ले जाकर उससे अलग नहीं होने की बात करने लगा। नाजिया के मना करने पर आरोपी ने उसपर चाकू से हमला कर फरार हो गया। नाजिया ने अपने पति से जान का खतरा होने की बात कहकर पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है। पुलिस फरार आरोपियों की तलाश में दबिश दे रही है। 
... और पढ़ें

दिल्ली:  मकान में चल रहा था सट्टा, 17 लोग गिरफ्तार, उत्तम नगर में इंस्टाग्राम पोस्ट को लेकर नाबालिग की हत्या

दक्षिण-पूर्व दिल्ली के तुगलकाबाद स्थित एक मकान में सट्टा चल रहा था। इसकी सूचना पुलिस को मिली तो गोविंदपुरी थाना पुलिस ने मकान पर छापेमारी कर 17 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। सभी आरोपी सट्टे में हाथ आजमाकर अपनी किस्मत चमकाने की कोशिश कर रहे थे। पुलिस ने आरोपियों के पास से 33 हजार रुपये व बाकी सामान बरामद किया है। सभी आरोपी नौकरी-पेशे से जुड़े हुए हैं। गोविंदपुरी थाना पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

दक्षिण-पूर्व जिला पुलिस उपायुक्त ईशा पांडेय ने बताया कि शनिवार को गोविंदपुरी थाना पुलिस को सूचना मिली कि तुगलकाबाद के एक मकान में सट्टा खेला जा रहा है। सूचना के बाद फौरन एक टीम बनाकर वहां छापेमारी कर 17 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इनकी पहचान हिमांशु बत्रा, भरत बत्रा, पंकज बत्रा, रोहित, मो. फारूक, इश्तियाक, इकरार, सिराज, फूलमोहम्मद, मुन्ना अंसारी, फिरोज अंसारी, गुलफाम, रवि, तुरुण, निसार, आजाद और सुखदेव के रूप में हुई है।

इंस्टाग्राम के पोस्ट को लेकर विवाद में नाबालिग पर हमला
वहीं, उत्तम नगर इलाके में इंस्टाग्राम के पोस्ट को लेकर विवाद में कुछ युवकों ने एक नाबालिग पर घातक हथियार से हमला कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया। उसे पास के अस्पताल में ले जाया गया। जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस हत्या का मामला दर्ज कर फरार आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

मृतक की शिनाख्त 16 वर्षीय शौकत के रूप में हुई है। वह अपने परिजनों के साथ उत्तम नगर इलाके में रहता था। रविवार रात शौकत बाजार में अपने घर लौट रहा था। इसी दौरान कुछ युवकों ने उसे रोक लिया और उसकी पिटाई शुरू कर दी। इसी दौरान किसी युवक ने उसके सीने के पास सुआ जैसे हथियार से हमला कर दिया। जिससे वह अचेत होकर गिर गया। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घायल शौकत को पास के अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। 

शुरूआती जांच में पता चला कि शौकत ने अपने इंस्टाग्राम पर कोई पोस्ट किया था। जिसको लेकर उसका कुछ लड़कों से विवाद चल रहा था। जिसकी वजह से उसपर हमला किया गया। पुलिस घटनास्थल के आस पास के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगालकर आरोपियों की पहचान कर रही है।
... और पढ़ें

दिल्ली: बेटी की बीमारी से परेशान रहता था पिता, मासूम की मौत के बाद लगा ली फांसी, हत्या की भी जताई जा रही आशंका

नरेला औद्योगिक क्षेत्र के मेट्रो विहार इलाके में मंगलवार दोपहर दस साल की मासूम बेटी की मौत के बाद एक पिता ने फांसी लगाकर जान दे दी। मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। आशंका जताई जा रही है कि मृतक ने अपनी बेटी की हत्या करने के बाद फांसी लगाकर जान दी है। उधर, पुलिस का कहना है कि बच्ची के शरीर पर कोई चोट या फिर गला दबाए जाने का निशान नहीं मिला है। पुलिस बच्ची की स्वाभाविक मौत से भी इनकार नहीं कर रही है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही बच्ची की मौत के कारणों का खुलासा हो पाएगा। 

मृतक की शिनाख्त सुरेश(32) और बेटी की पहचान मानसी के रूप में हुई है। सुरेश सपरिवार मेट्रो विहार के एक मकान की चौथी मंजिल पर रहता था। परिवार में पत्नी रमा देवी, दो बेटे और एक बेटी मानसी थी। मंगलवार दोपहर करीब पौने चार बजे पुलिस को सुरेश के खुदकुशी किए जाने की जानकारी मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने देखा कि सुरेश पंखे के रॉड में फंदा लगाकर खुदकुशी की है। दवाब की वजह से वह बिस्तर पर झुका हुआ था। वहीं बिस्तर पर उसकी बेटी पड़ी थी, जिसपर कंबल डाला हुआ था। पुलिस को मौके पर सुरेश का भतीजा रोहन मिला। जिसने बताया कि उसकी दादी खाना खाने के लिए चाचा को बुलाने गई थी। लेकिन चाचा को फंदे से लटका देख वह चीखने चिल्लाने लगी। वह भागकर ऊपर की मंजिल पर पहुंचा और पुलिस को घटना की जानकारी दी। 
... और पढ़ें
After death of daughter father hanged himself was upset due to illness After death of daughter father hanged himself was upset due to illness

हत्याआरोपी की हत्या की गुत्थी सुलझी:  बेइज्जती का बदला लेने के लिए किया कत्ल, दो आरोपी गिरफ्तार

हौजखास पुलिस ने 28 फरवरी को गौतम नगर में हुई हत्याआरोपी युवक शिवम पांडेय की हत्या की गुत्थी को 24 घंटे में सुलझाने का दावा करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार किया है। बेइज्जती का बदला लेने के लिए शिवम पांडेय की हत्या की गई थी। पीड़ित जब बुसध होकर मौके पर गिर गया तब उसके सिर में तीन गोली मारी गई थीं। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से दो पिस्टल बरामद की गई हैं। 

दक्षिण जिला डीसीपी बेनीटा मेरी जैकर के अनुसार गिरफ्तार आरोपियों की पहचान दीपक कुमार उर्फ कल्लू(31) और हिमांशु कुमार उर्फ हन्नी(24) के रूप में हुई है। गौतम नगर में फायरिंग की सूचना 28 फरवरी को मिली थी। हौजखास थानाध्यक्ष शिवानी सिंह अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंची। मौके पर एक पुलिस को एक घर के सामने युवक का शव मिला। मृतक की पहचान शिवम पांडेय उर्फ किट्टू(27) के रूप में हुई थी। मौके पर पुलिस को आठ से ज्यादा खोल मिले थे। हत्या आदि का मामला दर्ज कर हौजखास एसीपी वीर सिंह की देखरेख में थानाध्यक्ष शिवानी सिंह, इंस्पेक्टर रोहित, एसआई वरुण गुलिया व एसआई दीपक यादव  की टीम ने जांच शुरू की। पुलिस टीम ने सीसीटीवी फुटेज चैक की। इससे पता लगा कि शिवम देर रात करीब पौने तीन बजे  पांच-छह दोस्तों के साथ संजीव उर्फ भोंदू के घर आया हुआ था।

 जब वह संजीव से बात कर रहा थी तभी संजीव के घर से चार युवक बाहर आए और शिवम पांडेय पर गोली चलाना शुरू कर दिया। शिवम मौके से भागने लगा। चारों युवक उसके पीछे भागने लगे। भागते हुए शिवम नीचे गिर गया।  तभी एक आरोपी ने शिवम के सिर में तीन गोली मार दीं। इसके बाद आरोपी गोलमोहर पार्क की तरफ भाग गए। सीसीटीवी फुटेज से आरोपियों की पहचान दीपक उर्फ कालू, हिमांशु उर्फ हन्नी व दो अन्य आरोपियों के रूप में हुई। ये सभी गौतम नगर के रहने वाले हैं।
 
... और पढ़ें

दिल्ली: ग्रोसरी डिलीवरी प्वाइंट से 11 लाख की चोरी, दीवार काटकर बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

दिल्ली के समयपुर बादला इलाके में स्थित एक ग्रोसरी डिलीवरी प्वाइंट से 11 लाख रुपये चोरी होने का मामला सामने आया है। सुपरवाइजर की शिकायत पर पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस को वारदात में किसी जानकार के शामिल होने का शक है। पुलिस डिलीवरी प्वाइंट में कार्यरत कर्मचारियों से पूछताछ कर रही है।

भलस्वा डेयरी निवासी प्रकाश शर्मा सिरसपुर स्थित रिलाइंस ग्रोसरी डिलीवरी प्वाइंट में बतौर सुपरवाइजर काम करता है। प्रकाश के अलावे यहां करीब 20 कर्मचारी काम करते हैं। रविवार सुबह प्रकाश ने पुलिस को डिलीवरी प्वाइंट में चोरी होने की शिकायत की। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची।

प्रकाश ने पुलिस को बताया कि शनिवार रात काम खत्म होने के बाद दूसरे सुपरवाइजर देवेंद्र ने गेट में ताला लगाया था। ताले की चाबी उसके अलावा देवेंद्र और एक अन्य कर्मचारी धमेंद्र के पास होती है।रविवार सुबह उसके आने से पहले कुछ कर्मचारी पहुंच गए थे।

जब खोला डिलीवरी प्वाइंट तो रह गए हैरान
प्रकाश ने अपनी चाबी से डिलीवरी प्वाइंट को खोला। अंदर जाने पर पीछे का एक गेट खुला हुआ पाया और वहीं दीवार को काटकर एक बड़ा सा छेद बनाया गया था। जांच करने पर पता चला कि आलमारी में रखे लोहे की तिजौरी से 11 लाख रुपये गायब थे। साथ ही चोर एक सीपीयू भी अपने साथ ले गए हैं।

जांच के दौरान पुलिस ने पाया कि पीछे के दरवाजे का लॉक चाबी से खुलता है, जिसे बदमाशों ने खोला था। पुलिस को शक है कि यहां काम करने वाले कर्मचारी की मिलीभगत से चोरी की वारदात को अंजाम दिया गया है। पुलिस आस पास लगे सीसीटीवी को भी खंगालकर आरोपियों की पहचान करने में जुटी है।
... और पढ़ें

दिल्ली: ससुराल जाने से मना करने पर पत्नी पर जानलेवा हमला कर युवक ने की खुदकुशी

delhi police
ख्याला इलाके में शुक्रवार सुबह ससुराल जाने से मना करने पर एक युवक ने अपनी पत्नी पर सर्जिकल ब्लेड से जानलेवा हमला करने के बाद खुदकुशी कर ली। आरोपी ने पत्नी पर सर्जिकल ब्लेड से करीब पचास वार करने के बाद उसे मृत समझकर वहां से फरार हो गया। घटना के समय महिला अपने घर पर अकेली थी। पुलिस आरोपी की तलाश ही कर रही थी कि इसी दौरान उसके खुदकुशी कर लेने की जानकारी पुलिस को मिली। आरोपी ने पत्नी की फोटो को अपनी मां और दोस्त के व्हाट्सएप पर भेजकर लोनी गाजियाबाद में अपनी बहन के घर में खुदकुशी कर ली। 

शुक्रवार सुबह पुलिस को दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल से एक महिला पर जानलेवा हमला किए जाने की जानकारी मिली। अस्पताल पहुंची पुलिस को पता चला कि घायल महिला का नाम मानसी(21) है। वह बयान देने की स्थित में नहीं थी। उसकी सहेली ने बताया कि मानसी पर उसके पति रामकुमार ने सर्जिकल ब्लेड से हमला किया है। महिला के गले, चेहरे और पैर पर ब्लेड मारे जाने के दर्जनों घाव थे। 

छानबीन के दौरान पता चला कि पति से किसी बात पर विवाद होने पर मानसी रघुवीर नगर स्थित अपने मायके आ गई थी। शुक्रवार को उसका पति उसे वापस लेने के लिए आया था। रामकुमार लोनी के गुलाब विहार में अपनी बहन के घर में रहता था। मानसी के वापस जाने से इंकार करने पर आरोपी ने उसपर सर्जिकल ब्लेड से ताबड़तोड़ हमला करने लगा और तब तक हमला करता रहा जब तक वह अचेत नहीं हो गई। आरोपी को लगा कि मानसी की मौत हो गई है।

आरोपी ने उसकी जख्मी हालत में फोटो खींचने के बाद वहां से फरार हो गया। उसके जाने के बाद उसकी एक सहेली उसके घर पहुंची और मानसी को घायल अवस्था में देखकर उसे अस्पताल में भर्ती कराया। मानसी के शरीर से काफी खून निकल गया था। पुलिस कर्मी को पता चला कि उसे खून की आवश्यकता है तब सिपाही सुधीर ने उसे खून दिया। पुलिस के मुताबिक उसकी हालत स्थिर है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू की। 

पुलिस आरोपी रामकुमार की धरपकड़ के लिए उसके घरवालों से संपर्क किया तो पता चला कि रामकुमार ने लोनी के नसीब विहार स्थित अपनी बहन के घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। आरोपी ने खुदकुशी करने से पहले अपनी मां और एक दोस्त को पत्नी का फोटो भेजा था। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

दिल्ली: पत्नी से बदसलूकी करने के शक में ई-रिक्शा चालक की आंख में घोंपा सुआ

दिल्ली के राजौरी गार्डन इलाके में एक युवक ने अपने साथियों के साथ मिलकर ई-रिक्शा चालक की आंख में सुआ घोंपकर उसे बुरी तरह से घायल कर दिया। घटना को अंजाम देकर आरोपी अपने एक साथी के साथ फरार हो गया लेकिन मौके पर मौजूद लोगों ने दो हमलावरों को दबोचकर उनकी पिटाई कर दी।

दोस्तों ने ई-रिक्शा चालक को पास के अस्पताल में भर्ती करवाया। घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों हमलावरों को हिरासत में लेकर उन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। ई-रिक्शा चालक के दोस्त के बयान पर पुलिस हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर फरार मुख्य आरोपी समेत अन्य की तलाश कर रही है।

पकड़े गए दोनों आरोपी नाबालिग हैं
जिला पुलिस उपायुक्त उर्विजा गोयल ने बताया कि पकड़े गए दोनों आरोपियों में से एक नाबालिग है जबकि दूसरे की पहचान निलोठी निवासी अनुज के रूप में हुई है। गुरुवार शाम सात बजे पुलिस को गुरुगोविंद सिंह अस्पताल से एक युवक की आंख में सुआ घोंपे जाने की जानकारी मिली।

अस्पताल पहुंची पुलिस को पता चला कि घायल युवक टैगोर गार्डन निवासी बबलू(30) है। बबलू बयान देने की स्थित में नहीं था। उसके दोस्त सिकंदर ने बताया कि बबलू की मां और भाई टैगोर गार्डन की झुग्गी में रहते हैं। जबकि बबलू रोहिणी इलाके में चौकीदारी करता है और पत्नी और बच्चों के साथ वहीं रहता है। दिन में वह राजौरी गार्डन में ई-रिक्शा चलाता है।

सुआ घोंपकर हुआ मौके से फरार
गुरुवार शाम बबलू राजौरी गार्डन मेट्रो स्टेशन से ई-रिक्शा पर सिकंदर और सोनू को बिठाकर टैगोर गार्डन झुग्गी की ओर जा रहा था। चौक पर बबलू ने ई-रिक्शा रोक दिया और दोस्तों से बात करने लगा। इसी दौरान इलाके का रहने वाला सोहन ठाकुर अपने दोस्तों के साथ वहां आया और बबलू के साथ मारपीट करने लगा। सोहन ने बबलू की आंख में सुआ घोंप दिया और अपने एक साथी के साथ मौके से फरार हो गया। लेकिन लोगों ने सोहन के साथ हमला करने आए अनुज और उसके नाबालिग दोस्त को पकड़कर पीट दिया। 

जांच के बाद पता चला कि सोहन नशे का आदी है और कोई काम नहीं करता है। उसकी पत्नी झुग्गी में चाय की दुकान कर परिवार का पालन पोषण करती है। बबलू उसकी दुकान पर चाय पीने जाता था। सोहन को शक था कि बबलू उसकी पत्नी के साथ बदसलूकी करता है। इस बात को लेकर वह बबलू से रंजिश रखता था। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी होने के बाद ही हमला करने के सही कारणों का पता चल पाएगा। 
... और पढ़ें

दिल्ली:  एएटीएस ने कुख्यात वाहन चोर-झपटमार को दबोचा, तीन मोबाइल-सात स्कूटी और बाइक बरामद

मध्य जिला के एएटीएस (एंटी ऑटो थेफ्ट स्क्वाड) ने एक ऐसे बदमाश को दबोचा है जो झपटमारी करने के लिए बाइक व स्कूटी चोरी करता था। तीन-चार वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी चोरी के वाहनों को बदल दिया करता था। पकड़े गए आरोपी की पहचान पहाड़गंज निवासी मोरिशन उर्फ खोलके (24) के रूप में हुई है। पुलिस ने इसकी गिरफ्तारी से लूटपाट और चोरी के 10 मामले सुलझाने का दावा किया है। पुलिस पकड़े गए आरोपी से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

उत्तरी जिले की पुलिस उपायुक्त श्वेता चौहान ने बताया कि पिछले काफी समय से बदमाश पहाड़गंज और सदर बाजार इलाके में झपटमारी की वारदातों को अंजाम दे रहे थे। इसके अलावा वहां लगातार वाहन भी चोरी हो रहे थे। एसआई संदीप गोदारा व अन्यों की टीम लगातार जांच में जुटी थी। काफी छानबीन के बाद पुलिस को पता चला कि वारदात को अंजाम देने वाला आरोपी रविवार को कमला मार्केट के पास आने वाला है।

सूचना के बाद पुलिस ने मौके पर ट्रैप लगा दिया। पुलिस ने बाइक सवार आरोपी को रोकने का इशारा किया, लेकिन उसने भागने का प्रयास किया। कुछ दूर पीछा कर आरोपी को काबू कर लिया गया। उसके पास से बरामद बाइक राजेंद्र नगर इलाके से चोरी की मिली। छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपी मोरिशन उर्फ खोलके पहले भी 11 वारदातों में शामिल रहा है। पुलिस ने  उसकी निशानदेही पर तीन मोबाइल व बाकी छह स्कूटी-मोबाइल फोन बरामद कर लिये। आरोपी से पूछताछ कर पुलिस अब मामले की छानबीन कर रही है।
... और पढ़ें

दिल्ली: पुलिस से मुठभेड़ में हथियार तस्कर गिरफ्तार, 13 पिस्तौल और 38 कारतूस बरामद

दिल्ली के रोहिणी इलाके में सोमवार देर रात पुलिस और हथियार तस्कर के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने एक अपराधी को गिरफ्तार करने में सफलता पाई। अपराधी के पास से 38 कारतूस और 13 पिस्तौल बरामद हुए हैं।

डीसीपी आउटर नॉर्थ बृजेंद्र यादव के अनुसार, आरोपी 13 पिस्तौल और 38 कारतूसों से भरा एक बैग ले जा रहा था। वह 17 अन्य मामलों में शामिल रहा है। इसके साथ ही  वर्तमान में वह नंदू और सिसोदिया गिरोह को हथियारों की आपूर्ति कर रहा है। आरोपी की पहचान जहांगीरपुरी निवासी शकील उर्फ शेरनी के रूप में हुई है।

बताया कि पुलिस को सूचना मिली। जिसके आधार पर रोहिणी सेक्टर-35 में यूईआर-द्वितीय के पास जाल बिछाया गया। जहां आरोपी को बाइक से आने के दौरान रोका गया। पुलिस को देखते ही आरोपी ने पांच राउंड फायरिंग की। पुलिस ने भी सात राउंड फायरिंग की और उसे गिरफ्तार करने में सफलता पाई।
 
... और पढ़ें

दिल्ली: नेहरू प्लेस से युवती ने किशोरी का किया अपहरण, जबरदस्ती करा दी अपने भाई से शादी

दिल्ली के कालकाजी इलाके में नेहरू प्लेस से किशोरी का दिनदहाड़े अपहरण कर उसकी जबरदस्ती शादी कराने का मामला सामने आया है। कालकाजी थाना पुलिस ने मानव तस्करी करने वाले इस गिरोह का पर्दाफाश कर एक ब्यूटीशियन युवती को उसके भाई व दोस्त के साथ गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से तिगड़ी से किशोरी को पांच महीने बाद बरामद कर लिया गया है। युवती के भाई की शादी नहीं हो रही थी, इसलिए उसने किशोरी का अपहरण कर उसकी अपने भाई से शादी करा दी थी।

दक्षिण-पूर्व जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार पीड़ित 15 वर्षीय किशोरी अपने परिवार के साथ नेहरू प्लेस फुटपाथ पर रहती है। उसका परिवार राजस्थान का रहने वाला है। आठ अगस्त, 2021 को किशोरी अचानक नेहरू प्लेस से गायब हो गई। मामला दर्ज कर कालकाजी थानाध्यक्ष बलबीर कल्सन की देखरेख में एसआई रवि कुमार, एसआई प्रदीप मलिक व डब्ल्यूएसआई कृति ने जांच शुरू की।

पुलिस सीसीटीवी खंगाल रही थी तभी 10 जनवरी को थानाध्यक्ष बलबीर के पास पीड़ित किशोरी के माता-पिता आए और उन्होंने बताया कि उनके पास उनकी बेटी का फोन आया था। उसने बताया कि वह तिगड़ी एक्सटेंशन इलाके में है।

थानाध्यक्ष बलबीर टीम के साथ तिगड़ी पहुंचे और डोर टू डोर सर्वे किया। पुलिस टीम सी-130 तिगड़ी एक्सटेंशन में पीड़ित लड़की का पता लगाने में सफल रही। यहां पर किशोरी को युवती व उसके भाई व दोस्त ने जबरदस्ती बंद किया हुआ था। पुलिस ने यहां आरोपी युवती रंजन कुमारी उर्फ ज्योति(280), रंजन कुमार (26) और युवती के दोस्त दिल्ली कुमार (28) को गिरफ्तार कर लिया। इनके कब्जे से किशोरी को बरामद कर लिया गया।

युवती ज्योति है पूरे वारदात की मास्टरमाइंड
पूछताछ में पता लगा कि रंजन कुमारी उर्फ ज्योति इस वारदात की मास्टरमाइंड है। रंजन कुमारी ने बताया कि उसे लड़की नेहरू प्लेस में मिली थी। उसे लगा कि लड़की गरीब है और उसे लालच देकर आसानी से फंसाया जा सकता है। दो-तीन दिन बाद रंजन कुमारी अपने दोस्त दिलीप कुमार के साथ नेहरू प्लेस पहुंची और किशोरी को नए कपड़ों का लालच दिया।

किशोरी अपनी छोटी बहन को साथ ले जाने की जिद करने लगी। इसके बाद आरोपियों ने उसका अपहरण कर लिया। इसके बाद युवती ने किशोरी का अपने नशेड़ी भाई रंजन कुमार से शादी करा दी थी। इसके बाद ये किशोरी को तिगड़ी में घर में बंधक बना कर रखने लगे। उसे बाहर निकलने व फोन करने की मनाही थी। 10 जनवरी को जब किशोरी अकेली थी तो उसने अपने घरवालों को फोन कर दिया था।
... और पढ़ें

दिल्ली: 50 हजार का इनामी बदमाश राकेश ताजपुरिया मुठभेड़ में गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए एक मुठभेड़ के बाद 50 हजार के इनामी बदमाश राकेश ताजपुरिया को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने राकेश को नरेला से बीती रात गिरफ्तार किया।

पुलिस ने राकेश ताजपुरिया को रोहिणी कोर्ट में मारे गए गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की हत्या के मामले में आरोपी बनाया है। उस पर आरोप है कि जिस हथियार से जितेंद्र की हत्या हुई थी वह राकेश ने ही उपलब्ध कराया था।

पुलिस ने जानकारी दी कि बीती रात दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल(सदर्न रेंज) को सूचना मिली कि राकेश ताजपुरिया नरेला में है। सूचना मिलने पर पुलिस ने उसकी घेराबंदी की जिसके बाद छिटपुट मुठभेड़ के बाद पुलिस ने ताजपुरिया को गिरफ्तार कर लिया।
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00