विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

सास-पत्नी और सास के प्रेमी ने कर दी युवक की हत्या, अवैध संबंधों का विरोधी था दामाद

गाजियाबाद कोतवाली क्षेत्र में सास के संबंधों का विरोध करने पर दामाद को मौत के घाट उतार दिया गया। मंगलवार सुबह घर के पास खंडहरनुमा मकान में शव मिलने पर सनसनी फैल गई। पुलिस ने 3 घंटे में ही हत्याकांड का खुलासा कर मृतक की पत्नी सास व सास के प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के मुताबिक मृतक युवक रेलवे में कारपेंटर था। वह सास के संबंधों व पत्नी के मायके जाने का विरोध करता था। इसी के चलते सिर पर रॉड से हमला करने के बाद पैर से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई।

मूलरूप से गांव बाकर थाना सुंदरमणी जम्मू निवासी सुरजीत (30) पुत्र पूरण सिंह रेलवे में कारपेंटर था। वह नगर कोतवाली क्षेत्र स्थित रेलवे कॉलोनी पंजाब लाइन बजरिया के स्टाफ क्वार्टर में पत्नी रशिका और चार साल के बेटे के साथ रहता था। सुरजीत सोमवार शाम करीब 4 बजे घर से खाना खाने के बाद बाहर निकला था। जिसके बाद वह घर नहीं लौटा।

मंगलवार सुबह स्थानीय लोगों ने सुरजीत के घर से करीब 50 मीटर दूर और सत्यप्रकाश के घर के पड़ोस में स्थित खंडहरनुमा मकान में सुरजीत का शव देख परिजनों और पुलिस को सूचना दी थी। सुरजीत की पत्नी रसिका ने हत्या का मुकदमा दर्ज कराया।
... और पढ़ें

दिल्ली: मुठभेड़ के बाद पुलिस ने दो कुख्यात बदमाशों को दबोचा

नरेला इलाके में बृहस्पतिवार को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद दो कुख्यात अपराधियों को दबोच लिया। पुलिस की स्पेशल टीम को सूचना मिली थी कि कुछ अपराधी लॉकडाउन का फायदा उठाकर किसी बड़ी घटना को अंजाम देने वाले हैं। इस सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी कर बदमाशों को रोका तो उन्होंने पुलिस टीम पर गोली चला दी। पुलिस ने भी जवाबी गोलीबारी कर बदमाशों को दबोच लिया। 

बाहरी दिल्ली जिला पुलिस उपायुक्त डॉ. ए. कॉन ने बताया कि इन बदमाशों के नाम नाम अजित और पंकज डबास हैं। अजित हरियाणा के झज्जर जिले का और पंकज नरेला इलाके का ही रहने वाला है। दोनों के खिलाफ दिल्ली समेत दूसरे राज्यों में लूट से लेकर हत्या के गंभीर मामले दर्ज हैं।

पुलिस को नरेला के गौतम कॉलोनी में दो बदमाशों के छिपे होने की सूचना मिली थी। इस सूचना पर एसीपी सुभाष वत्स की टीम मौके पर पहुंच गई। स्पेशल टीम ने बदमाशों को घेरकर उन्हें आत्मसमर्पण के लिए कहा। इस पर बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। इन बदमाशों की गोली एसआई नवीन और हेड कांस्टेबल प्रदीप के बुलेट प्रूफ जैकेट पर लगी और वह बाल-बाल बचे। इसके बाद पुलिस की तरफ से भी जवाबी फायरिंग की गई, जिसमें बदमाश अजित के पैर पर गोली लगी। पुलिस ने तत्काल दोनों बदमाशों को दबोच लिया। 
... और पढ़ें

बुलंदशहरः फंदे से लटका मिला प्रेमी युगल का शव, हॉरर किलिंग की आशंका

बुलंदशहर के डिबाई कोतवाली क्षेत्र के गांव इछावरी में शुक्रवार तड़के एक प्रेमी युगल का शव आम के पेड़ पर फंदे से लटका मिला। ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। प्रथम दृष्टया जांच में पुलिस ने हॉरर किलिंग की आशंका जताई है। 

जानकारी के अनुसार युवक (22) दिल्ली में हलवाई का काम करता था। वहीं गांव निवासी युवती (18) 11वीं की छात्रा थी। स्थानीय लोगों ने बताया की सोमवीर गुरुवार रात गांव आया था।

बताया जा रहा है कि वह दिल्ली से आने के बाद अपने घर नहीं पहुंचा था। वहीं युवती के परिजनों के अनुसार वह देर रात दो बजे से ही घर से गायब थी। शुक्रवार सुबह करीब चार बजे कुछ ग्रामीणों ने दोनों के शव गांव निवासी संजय के खेत में आम के पेड़ पर लटके देखे।

इसके बाद ग्रामीणों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। थाना प्रभारी अखिलेश गौड़ ने बताया की सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव पोस्टमार्टम को भेजा है। मामले की जांच की जा रही है। वहीं सूचना पर सीओ विक्रम सिंह भी मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल की।

उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला हॉनर किलिंग का प्रतीत हो रहा है। घटना के संबंध में ग्रामीणों और दोनों के परिजनों से पूछताछ की जा रही है। जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।
... और पढ़ें

गुरुग्रामः कार सवार युवक पर दर्जनभर लोगों ने चलाई गोलियां, मौके पर मौत

गुरुग्राम में दिनदहाड़े हत्या गुरुग्राम में दिनदहाड़े हत्या

दिल्लीः घर के बाहर खड़ी थी गौतम गंभीर के पिता की एसयूवी, हुई चोरी

बालकनी से घुसे चोर ने पहले युवती से किया दुष्कर्म फिर जान से मारने की कोशिश, गिरफ्तार

दिल्ली के दरियागंज में 27 वर्षीय एक लॉ ग्रैजुएट का एक चोर ने न सिर्फ शारीरिक शोषण किया बल्कि गला दबाकर उसकी हत्या का भी प्रयास किया। पुलिस ने कहा है कि उसने आरोपी चोर को गिरफ्तार कर लिया है और उस पर दुष्कर्म व हत्या के प्रयास के आरोप लगाए हैं।

पुलिस के अनुसार यह घटना रविवार की है जब महिला अपने घर पर अकेली थी। महिला के अनुसार आरोपी उसके घर में बाल्कनी से घुसा था और इससे पहले कि वो कुछ समझ पाती उससे जबरदस्ती करने लगा। उसने युवती को धमकी दी कि पड़ोसियों को बताने की कोशिश की तो उसे मार डालेगा।

यह है पूरा मामला
निजामुद्दीन थाना पुलिस ने जंगपुरा में युवती से दुष्कर्म करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान सोनू के रूप में हुई है। वह न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी के तैमूर नगर का निवासी है। आरोपी के खिलाफ चोरी के पहले से आठ मामले दर्ज हैं।

दक्षिण-पूर्वी जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, आरोपी को शुक्रवार को जंगपुरा से ही गिरफ्तार किया गया। आरोपी तीन दिन पहले जंगपुरा में रहने वाली एक युवती के घर में चोरी करने की नीयत से घुसा था। आरोपी ने युवती को घर में अकेला देखकर उसके साथ दुष्कर्म किया। 
... और पढ़ें

दिल्ली : खाने में रेत डालने पर कर दी युवक की हत्या, तीन आरोपी गिरफ्तार 

उत्तरी दिल्ली के सब्जी मंडी इलाके में सड़क पर खाना बना रहे कुछ लोगों के खाने में एक युवक ने रेत डाल दिया। इस बात से भड़के लोगों ने एक बड़े पत्थर से वार कर युवक की हत्या कर दी। मृतक की शिनाख्त मोमिन उर्फ सतीश के रूप में हुई। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

उत्तरी जिला पुलिस उपायुक्त मोनिका भारद्वाज ने बताया कि बृहस्पतिवार सुबह करीब 5:45 बजे तिकोना पार्क, मोरी गेट के गोल चक्कर पर एक युवक का शव खून से लथपथ मिला था। आसपास पूछताछ में पता चला कि मृतक सड़क पर ही रहता था। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की।

जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि वारदात में सड़क पर ही रहने वाले कुछ लोग शामिल हो सकते हैं। पुलिस ने सड़क पर रहने वाले करीब 30 लोगों से सतर्कता बरतते हुए पूछताछ की। पूछताछ से पहले सभी का बुखार नापा गया। पूछताछ में मिले सबूतों के आधार पर पुलिस ने तीन आरोपियों असलम खान उर्फ राजू डाबर (47), तेजभान (40) और रमेश उर्फ कनपुरिया (28) को गिरफ्तार कर लिया। उनके दो अन्य साथियों की पुलिस को तलाश है।

आरोपियों ने बताया कि मोमिन उन्हें खाना बनाने से रोक रहा था। विरोध करने पर आरोपी ने उनके खाने में रेत डाल दिया था। इसी वजह से उन्होंने पत्थर से वार कर उसकी हत्या कर दी।
... और पढ़ें

चरित्र पर शक में बेलन से पीटा और गला दबाकर कर दी पत्नी की हत्या, आरोपी फरार

सांकेतिक तस्वीर
हर्ष विहार इलाके में रविवार दोपहर एक शख्स ने अपनी पत्नी को पहले बेलन से बुरी तरह पीटा। बाद में उसे उठाकर पटक दिया। इसके बाद आरोपी ने गला घोटकर पत्नी की हत्या कर दी। वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। 

आरोपी अपनी पत्नी के चरित्र पर शक करता था।  मृतका की शिनाख्त सायमा (32) के रूप में हुई है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी पति आफताब की तलाश कर रही है।  

पुलिस के मुताबिक सायमा अपने परिवार के साथ गली नंबर-12, बी-ब्लॉक, सबोली, हर्ष विहार में रहती थी। परिवार में पहले पति बबलू से चार बच्चे हैं। बबलू की सड़क हादसे मौत हो गई थी। 

डेढ़ साल पहले सायमा ने आफताब नामक शख्स से दूसरी शादी कर ली थी।  आफताब मजदूरी करता था। आरोप है कि बबलू की मौत के बाद कई लाख रुपये मुआवजे के सायमा को मिले थे। उसकी वजह से ही आफताब ने उससे शादी की थी। 

शादी के बाद से ही आफताब अपनी पत्नी के चरित्र पर शक किया करता था। इसी बात पर दोनों का झगड़ा होता था।  रविवार दोपहर को परिवार घर पर मौजूद था। इस बीच आफताब का सायमा से झगड़ा हो गया। 

आरोप है कि छोटे-छोटे बच्चों के सामने सायमा को बेलन से बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया। इसके बाद आरोपी ने सायमा को उठाकर पटक दिया।  सायमा बेहोश हो गई तो आरोपी ने गला घोटकर उसकी हत्या कर दी। 
... और पढ़ें

बॉयज लॉकर रूम केस में हुआ सनसनीखेज खुलासा, लड़के नहीं, लड़की ने की थी गैंगरेप की बात

नई दिल्ली देश को हिलाकर रख देने वाले बॉयज लॉकर रूम मामले में सनसनीखेज खुलासा हुआ है। सोशल मीडिया पर स्नैपचैट के वायरल हुए स्क्रीनशॉट में गैंगरेप की बात लड़का नहीं, बल्कि एक लड़की कर रही थी। वह फर्जी आईडी सिद्धार्थ से दूसरे लड़के से चैटिंग कर रही थी। दक्षिण दिल्ली की यह लड़की नाबालिग है। 

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने पहचान के बाद इस लड़की से पूछताछ की है। लड़की का कहना है कि वह जिस लड़के से चैटिंग कर रही थी, उसका चरित्र और गैंगरेप की बात पर उसकी प्रतिक्रिया जानना चाहती थी। वह मजे के लिए ऐसा कर रही थी। इस चैटिंग का बॉयज लॉकर रूम से कोई लेना-देना नहीं है।

साइबर सेल के डीसीपी अन्येश रॉय ने रविवार को आधिकारिक बयान भेजकर कहा था कि बॉयज लॉकर रूम व स्नैपचैट का वायरल स्क्रीनशॉट अलग-अलग हैं। दोनों का कोई लेना-देना नहीं है। स्क्रीनशॉट मार्च महीने का है और बॉयज लॉकर रूम अप्रैल महीने के पहले सप्ताह में बना था। बॉयज लॉकर रूम मामला सोशल मीडिया पर सामने आया तो स्नैपचैट के स्क्रीनशॉट को इससे जोड़ दिया गया था। इसके बाद सोशल मीडिया पर कहा जाने लगा था कि बॉयज लॉकर रूम से लड़कियों को गैंगरेप की धमकी दी जा रही है।



‘अमर उजाला’ ने इस बात का शनिवार को ही खुलासा कर दिया था। दिल्ली पुलिस बॉयज लॉकर रूम के ग्रुप एडमिन को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। एक नाबालिग को पाबंद किया गया है। साइबर सेल ने इस मामले में लॉकर रूम के कई और लड़कों की  पहचान कर ली है।

अब पहचाने गए लॉकर रूम से जुड़े छात्रों की संख्या 24 से ज्यादा हो गई है। सभी से पूछताछ की गई है। इनमें से कुछ नाबालिग हैं। इनमें से ज्यादातर का कहना है कि उन्होंने लॉकर रूम ग्रुप में न तो कोई चैटिंग की और न ही फोटो शेयर की थी। सभी के मोबाइल फोरेंसिक जांच के लिए भेजे गए हैं।
... और पढ़ें

व्हाट्स एप ग्रुप पर बड़े घरों के नाबालिगों को बेचती थी नशा, हाई प्रोफाइल महिला गिरफ्तार

मुखर्जी नगर थाना पुलिस ने बड़े घरों के कच्ची उम्र के नाबालिग बच्चों को नशे का सामान बेचने के आरोप में हाई प्रोफाइल महिला राजौरी गार्डन निवासी पूजा साहनी (45) को गिरफ्तार किया है। उसने एक व्हाट्स एप ग्रुप बनाकर नाबालिगों को जोड़ा हुआ था। उनकी मांग पर नशे का महंगा और इंपोर्टेड सामान जैसे ई-सिगरेट वगैरह ऊंची कीमत पर उपलब्ध कराए जाते थे। लॉकडाउन के दौरान महिला भुगतान पेटीएम से लेती थी।

एक सूचना के बाद उसे मुखर्जी नगर इलाके से गिरफ्तार किया गया। कोर्ट ने उसे 14 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा है। महिला का पति भूपेंद्र सिंह विदेशों से सामान इंपोर्ट और एक्सपोर्ट करता है। इनके पनवाड़ी के नाम से दिल्ली-एनसीआर में कई स्टोर हैं।

उत्तर-पश्चिम जिले की पुलिस उपायुक्त विजयंता आर्या ने बताया कि एक नाबालिग लड़के की मां ने शिकायत दी थी कि उनका बेटा ई-सिगरेट के अलावा कई अन्य महंगे नशे करता है। महिला ने बेटे से सख्ती से पूछताछ की तो उसने बताया कि एक आंटी ने व्हाट्स एप ग्रुप बनाया हुआ है। उसमें बड़े-बड़े घरों के नाबालिग लड़के-लड़कियों को जोड़ा हुआ है। उन्हें वह नशे का सामान ऑन डिमांड उपलब्ध कराती है। महिला ने बताया कि आज वह बेटे का सामान देने मुखर्जी नगर आने वाली है।

उपायुक्त  विजयंता आर्या के निर्देश पर मुखर्जी नगर थाने के पुलिसकर्मियों को बताई गई जगह तैैनात कर दिया गया। पुलिस ने नाबालिग को सामान देते हुए महिला को रंगे-हाथ पकड़ लिया। खुद बेहद हाई प्रोफाइल घराने की महिला ने पूछताछ के दौरान गुनाह कबूल कर लिया। महिला ने बताया कि वह अमीर घर के नाबालिगों के संपर्क में रहती थी। इनके लिए उसने एक व्हाट्स एप ग्रुप बनाया था। बिना पहचान के किसी को ग्रुप से नहीं जोड़ा जाता था।

ग्रुप के सदस्यों को मांग पर ई-सिगरेट, तंबाकू के बने दूसरे विदेशी प्रतिबंधित उत्पाद उपलब्ध कराए जाते थे। सामान मंगाने से पहले महिला पेटीएम या किसी अन्य माध्यम से रुपये ऑनलाइन मंगा लेती थी। इसके बाद खुद ही नशे का सामान सप्लाई करने आती थी। महिला के पास से भारी मात्रा में नशे का सामान बरामद हुआ है। महिला पति व दो बच्चों के साथ राजौरी गार्डन में रहती है।  इनके स्टोर पनवाड़ी इन दिनों बंद हैं।
... और पढ़ें

दिल्ली पुलिस ने जफरुल इस्लाम को जारी किया नोटिस, 12 मई तक जमा करें मोबाइल और लैपटॉप

दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष जफरुल इस्लाम खान को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने नोटिस जारी किया है। उन्हें 12 मई तक उस लैपटॉप या मोबाइल को जमा करने को कहा गया है, जिससे उन्होंने सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट शेयर की थी।

मालूम हो कि यह सारा विवाद जफरुल द्वारा किए गए एक विवादित पोस्ट से खड़ा हुआ है। उन्होंने फेसबुक पर लिखा था कि जिस दिन मुसलमानों ने अरब देशों से अपने खिलाफ जुल्म की शिकायत कर दी, सैलाब आ जाएगा। इस पोस्ट के बाद भाजपा ने इसका विरोध करते हुए उनसे इस्तीफा मांगा।

जफरुल इस्लाम ने मंगलवार को अपनी लंबी फेसबुक पोस्ट में लिखा था कि भारतीय मुस्लिमों के साथ खड़े होने के लिए धन्यवाद कुवैत। हिंदुत्व विचारधारा के लोग सोचते हैं कि कारोबारी हितों की वजह से अरब देश भारत के मुस्लिमों की सुरक्षा की चिंता नहीं करेंगे। 

वे भूल गए कि भारतीय मुस्लिमों के अरब और मुस्लिम देशों से कैसे रिश्ते हैं। जिस दिन मुसलमानों ने अरब देशों से अपने खिलाफ जुल्म की शिकायत कर दी, सैलाब आ जाएगा।

विवाद खड़ा होने पर जफरुल इस्लाम ने स्पष्ट किया कि उन्होंने कभी भी देश के खिलाफ जाकर नहीं बोला है। हिंदुत्व का मतलब कुछ लोग भारत से जोड़ रहे हैं। यह गलत है। उन्होंने इस मामले में कानूनी कार्रवाई की चेतावनी भी दी है।

वहीं इस पोस्ट के बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जफरुल इस्लाम खान के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर लिया। शुक्रवार को जफरुल ने दिल्ली हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की, जिसपर मंगलवार को सुनवाई होगी।
... और पढ़ें

कोर्ट ने आप विधायक प्रकाश जारवाल को चार दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा

राउज एवेन्यू कोर्ट ने डॉक्टर खुदकुशी मामले में गिरफ्तार आप विधायक प्रकाश जारवाल और उनके सहयोगी कपिल नागर को 4 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा है। पुलिस ने दोनों को शनिवार को गिरफ्तार किया था।

ड्यूटी एमएम के समक्ष पुलिस ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रकाश जारवाल और कपिल नागर को पेश किया। पुलिस ने कहा कि डॉक्टर राजेंद्र भाटी ने 18 अप्रैल को अपने घर में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली थी। घटनास्थल से मिले सुसाइड नोट में डॉक्टर ने इसके लिए आम आदमी पार्टी के विधायक प्रकाश जरवाल को दोषी बताया था।

नोट में लिखा था कि प्रकाश जरवाल और उसके साथियों ने उसे खुदकुशी के लिए मजबूर किया है। पुलिस ने पूछताछ के लिए दोनों का 10 दिन का रिमांड मांगा। उधर, प्रकाश जरवाल और कपिल नागर के वकील ने कहा कि दोनों का इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है। उन्हें झूठे मामले में फंसाया जा रहा है।  दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद कोर्ट ने दोनों को 4 दिन के रिमांड पर भेज दिया। इस मामले में नेबसराय थाने में विधायक और अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज है।

इससे पहले शुक्रवार को दक्षिणी दिल्ली के डॉक्टर सुसाइड मामले में आरोपी विधायक प्रकाश जारवाल और उनके सहयोगी कपिल नागर के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था। इसके बाद पुलिस विधायक प्रकाश जारवाल और कपिल नागर की तलाश में जुट गई थी।

वहीं, जारवाल ने शुक्रवार को अपनी सफाई में कहा कि मेरे खिलाफ आरोप झूठे और निराधार हैं। जिस व्यक्ति ने आत्महत्या की है, मैंने उससे एक साल से बात तक नहीं की थी।

जानकारी के मुताबिक 7 अप्रैल को प्रकाश जारवाल के दो भाइयों और पिता से दिल्ली पुलिस ने पूछताछ की थी। विधायक प्रकाश जारवाल को दिल्ली पुलिस ने पूछताछ के लिए दो बार बुलाया था लेकिन वह दोनों बार दिल्ली पुलिस के सामने पेश नहीं हुए ।

ये है मामला
बीएएमएस डॉक्टर राजेंद्र भाटी ने 18 अप्रैल को अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। डॉक्टर के पास से जो सुसाइड नोट बरामद हुआ था उसमें आप के देवली विधायक प्रकाश जारवाल का नाम था। 

डॉक्टर ने खुदकुशी नोट में लिखा कि विधायक व उसके साथियों ने उसे खुदकुशी करने के लिए मजबूर किया है। नेबसराय थाने में विधायक प्रकाश जारवाल समेत अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था। पुलिस ने बृहस्पतिवार को देर शाम तक विधायक के पिता व दो भाई संजय व अनिल से पूछताछ की थी।
... और पढ़ें

सिलिंडर सप्लायर को लूटकर भाग रहे थे, तीन विदेशी धरे

गैस सिलिंडर सप्लायर सतीश पाठक की बहादुरी के चलते एक महिला समेत तीन ईरानी नागरिक पुलिस के हत्थे चढ़ गए। इन्होंने भारतीय मुद्रा दिखाने के बहाने सतीश से 11180 रुपये लूट लिए और कार से भागने लगे, लेकिन सतीश उनकी कार की खिड़की से लटक गया। 

आरोपी 50 मीटर तक उसे घसीटते ले गए थे। पुलिस ने इनके कब्जे से लूटी गई रकम बरामद कर ली है। आरोपियों की पहचान रेशमा अहमदी, हामिद अहमदी और मो. शम्साहाबाद के रूप में हुई।

दक्षिणी जिला डीसीपी अतुल ठाकुर के अनुसार, सतीश 8 मई को दोपहर ढाई बजे चिराग दिल्ली गांव में गैस सिलिंडर सप्लाई करने जा रहा था। स्वामी नगर के पास एक कार उसके पास आकर रुकी। कार में आगे एक महिला बैठी हुई थी। 

महिला ने सिलिंडर का दाम पूछा और सतीश से कहा कि उन्हें हिंदी नहीं आती, वह भारतीय मुद्रा दिखाए। सतीश जेब से पैसे निकालकर जब उन्हें दिखाने लगा, तो कार से उतरे एक व्यक्ति ने उससे पैसे लूट लिए। 

आरोपी भागने लगे तो सतीश उनकी कार की खिड़की से लटक गया। यह देखकर कार व स्कूटी सवारों ने ओवरटेक कर आरोपियों की कार का रास्ता रोक लिया और पुलिस को सूचना दे दी। हौजखास थाने में तैनात एसआई महिपाल सिंह तुरंत मौके पर पहुंच गए।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन