विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

अयोध्या प्रकरणः कल्याण सिंह बतौर आरोपी 27 को अदालत में तलब, विशेष न्यायाधीश ने दिया आदेश

अयोध्या प्रकरण के विशेष न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह को बतौर आरोपी तलब किया है।

22 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

रामपुर

रविवार, 22 सितंबर 2019

अब आजम खां की दिवंगत मां के खिलाफ भी धोखाधड़ी का मुकदमा

रामपुर। लोकसभा सांसद आजम खां के साथ-साथ अब उनके परिजनों के खिलाफ भी एक के बाद एक मुकदमे दर्ज हो रहे हैं। जिला कारागार की जमीन की खरीद-बिक्री करने के आरोप में गंज थाना पुलिस ने सांसद आजम खां की दिवंगत मां अमीर जहां बेगम, बेटे मोहम्मद अदीब खां और बहन नसरीन सहित 37 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। पुलिस ने यह कार्रवाई नायब तहसीलदार कृष्ण गोपाल मिश्रा की तहरीर के आधार पर की है।
भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने जिलाधिकारी से शिकायत की थी कि जिला जेल में जिस स्थान पर एक समय में फांसी घर हुआ करता था। यह जमीन अब सांसद आजम खां के रिश्तेदारों और करीबियों के कब्जे में है। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने इस मामले में जांच के आदेश दिए थे। इसके बाद राजस्व विभाग की टीम ने जमीन की पैमाइश की थी। जांच में यह साबित हुई कि यह जमीन श्रेणी सात (सरकारी) है। जमीन वाहिद और खुर्शीद के नाम पर चढ़ गई। इसके बाद वाहिद और खुर्शीद ने अन्य लोगों को यह जमीन बेच दी। जमीन के बैनामों पर शाजेब खां, मोहम्मद इकबाल और फारुख आदि के नाम गवाह के रूप में अंकित हैं। पुलिस ने जमीन की खरीद, बिक्री करने वालों के साथ-साथ बैनामों के गवाहों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। मामले में आजम खां की दिवंगत मां अमीर जहां बेगम का नाम भी रिपोर्ट में शामिल है, अमीर जहां बेगम का निधन साल 2013 में हो गया है। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया कि जेल कारागार की जमीन खरीदने-बेचने वालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है। इस मामले में शामिल अन्य लोगों का चिंहाकन किया जा रहा है। ताकि पता चला सके कि जमीन किसके दबाव में खरीदी-बेची गई थी।
... और पढ़ें

आजम खां की गिरफ्तारी पर मौलाना ने की 50 हजार रुपये के इनाम की घोषणा

सांसद मोहम्मद आजम खां पर 50 हजार रुपये के इनाम की घोषणा की गई है। हालांकि, यह घोषणा पुलिस या प्रशासन ने नहीं की है, बल्कि यह घोषणा शहर के ही मौलाना बाबू अली ने की है। मौलाना ने कहा है कि आजम खां का पता बताने वाले और पकड़ने वाली पुलिस टीम को वह खुद 25-25 हजार रुपये का इनाम देंगे।

उन्होंने कहा है कि आज तक हिंदुस्तान में किसी सांसद के ऊपर पर 83 मुकदमे दर्ज नहीं हुए हैं। लेकिन, इतने मुकदमे होने के बाद भी पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर रही है। ऐसा क्यों हो रहा है। मौलाना ने आजम खां पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने रमजान के महीने में हमारा जामिया सादिया मदरसा शहीद किया और तीन दिन बाद मुझे जेल में बंद कर दिया। 

वहीं, जेल में भी हमें काफी प्रताड़ित किया जाता था। उन्होंने कहा कि आठ नंबर बैरक में हमें बंद किया था और जेलर से कहा गया था इससे घास और नालियां साफ करवाओ। मैंने इसलिए उन पर इनाम रखा है, क्योंकि आज तक देश के किसी भी सांसद पर इतने मुकदमे दर्ज नहीं हुए हैं।
... और पढ़ें

नहीं थम रहीं आजम खां की मुश्किलें, अब बेटे के खिलाफ केस दर्ज, सरकारी जमीन की खरीद-बिक्री का आरोप

रामपुर से सपा सांसद आजम खां परिवार समेत तमाम आरोपों से घिरते जा रहे हैं। शुक्रवार को उनके बेटे अदीब आजम सहित 38 लोगों के खिलाफ जिला कारागार के फांसी घर की जमीन की खरीद-बिक्री करने के आरोप में गंज थाना की पुलिस रिपोर्ट दर्ज की है। डीजीपी ने प्रेस कांफ्रेंस कर इस मामले की जानकारी दी। वहीं आजम की गिरफ्तारी को लेकर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा कि इस बारे में समय आने पर बताया जाएगा।

पुलिस ने यह कार्रवाई नायब तहसीलदार कृष्ण गोपाल मिश्रा की तहरीर के आधार पर की है। भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने जिलाधिकारी से शिकायत की थी कि जिला जेल में जिस जगह पर एक समय में फांसी घर हुआ करता था, वो जमीन अब सांसद आजम खां के रिश्तेदारों और करीबियों के कब्जे में है। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने इस मामले में जांच के आदेश दिए थे। 

इसके बाद राजस्व विभाग की टीम ने जमीन की पैमाइश की थी। जांच में यह साबित हुआ कि यह जमीन श्रेणी सात(सरकारी) की है। पाया गया कि जमीन वाहिद और खुर्शीद के नाम पर पंजीकृत था। इसके बाद वाहिद और खुर्शीद ने 30 लोगों को यह जमीन बेच दी। जमीन के बैनामों पर शाजेब खां, मोहम्मद इकबाल और फारुख आदि के नाम गवाह के रूप में अंकित हैं। 

पुलिस ने जमीन की खरीद-बिक्री करने वालों के साथ-साथ बैनामों के गवाहों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया कि जेल कारागार की जमीन खरीदने-बेचने वालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है।  इस मामले में शामिल अन्य लोगों की जांच-पड़ताल की जा रही है, ताकि पता चला सके कि जमीन किसके दबाव में खरीदी-बेची गई थी।
... और पढ़ें

आरोपी को पड़ने पहुंची पुलिस पर हमला, बंधक बनाया

रामपुर। आरोपी के घर दबिश देने पहुंचे दरोगा और तीन सिपाहियों पर परिजनों ने पथराव करते हुए कमरे में बंधक बना लिया। बाद में पुलिस ने किसी तरह से अपने आप को बंधनमुक्त कर तीन सगे भाइयों को मौके से गिरफ्तार कर लिया। तीनों आरोपियों का चालान कर जेल भेज दिया गया।
सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के अशोक बिहार कालोनी निवासी विनय पर आईटी एक्ट सहित कई धाराओं में कई मुकदमा दर्ज है जिसकी विवेचना सीओ सिटी के द्वारा की जा रही है। उनके आदेश सिविल लाइंस थाने में तैनात दरोगा हेमराज सिंह और चार सिपाही शुक्रवार रात उसके घर गिरफ्तारी को लेकर दबिश देने गए थे। आरोप है कि आरोपियों को पुलिस की गिरफ्तारी से बचाने के लिए परिजन पुलिस पर हमलावर हो गए। आरोपियों ने पुलिस पर ही पथराव कर दिया और पुलिस कर्मियों को बंधक बना लिया। पुलिस कर्मियों के बंधक बनने पर आरोपी भी आ गए और एक आरोपी ने पुलिस कर्मियों पर चाकू से हमला कर दिया लेकिन सभी लोगों ने उसको पकड़ लिया। बाद में पुलिस ने किसी तरह अपना बचाव करते हुए तीनों सगे भाई विनय,रमन और विक्रम को मौके से पकड़कर थाने ले आई जहां सभी के खिलाफ जानलेवा हमला सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इस दौरान मोहल्ले में काफी समय तक अफरातफरी का माहौल बना रहा। बाद में मामले की जानकारी मिलने के बाद सीओ सिटी सत्यजीत गुप्ता (प्रशिक्षु आईपीएस) भी थाने पहुंच गए और इस मामले की जानकारी ली। पुलिस ने गिरफ्तार किए तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जहां से आरोपियों को जेल भेज दिया गया।
... और पढ़ें

शिक्षित और जागरूक हों महिलाएं: दया पांडे

रामपुर। महिलाओं को शिक्षित और जागरूक होनेे की जरूरत है।ये विचार वक्ताओं ने नगर की गायत्री पुरम कालोनी में अमर उजाला अपराजिता 100 मिलियन स्माइल अभियान के तहत आयोजित गोष्ठी में व्यक्त किए। साथ ही महिलाओं में नेतृत्व विकास की क्षमता विकसित करने की अपील की।
गोष्ठी को संबोधित करते हुए दया पांडेय ने कहा कि महिलाओं को शिक्षित और अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होने की आवश्यकता है। यदि महिलाएं शिक्षित होंगी और उन्हें अपने अधिकारों का ज्ञान होगा तो कोई भी उनका उत्पीड़न नहीं कर सकता है। इसलिए हर महिला अपनी बेटी को जरूर शिक्षित करें, क्योंकि शिक्षा ही इस दौर का सबसे बड़ा हथियार है। उन्होंने कहा कि महिलाओं में सामर्थ्य और योग्यता की कमी नहीं है जरूरत है तो बस अपने अंदर की समार्थ्य और प्रतिभा को समझने और निखारने की। पूनम गुप्ता ने गोष्ठी में विचार रखते हुए कहा कि महिलाओं ने सदा ही समाज व राष्ट्र को दिशा प्रदान की है। आज सरकार भी इस बात को मानती है कि बिना महिलाओं के राष्ट्र व समाज की तरक्की संभव नहीं है। इसलिए महिलाओं को आगे बढ़ाने और विभिन्न क्षेत्रों में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर देश का मान बढ़ाने के लिए अवसर प्रदान किए जा रहे हैं। महिलाएं आज बड़ी संख्या में स्वाबलंबी बन रही हैं। महिलाओं ने आत्मनिर्भर बनकर नए समाज का निर्माण किया है। उद्योग जगत से लेकर व्यापार, राजनीति, खेल, शिक्षा, चिकित्सा से लेकर समाज सेवा के कार्यों तक में महिलाएं आगे हैं। मनीषा सिंह ने कहा कि महिलाओं को सशक्त बनाने और उन्हें उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने के लिए अमर उजाला की ओर से चलाई गई यह मुहिम काफी सराहनीय है। इसका बड़े स्तर पर महिलाओं को लाभ हो रहा है। इस अवसर पर सरोज, सुशीला श्रीवास्तव, विजेता चंद्रा, मानसी, मोनिका, आंचल, शिवानी वर्मा, अंजू वर्मा, सलोनी, स्वाति, कल्पना आदि मौजूद रहीं।
... और पढ़ें

सीआरपीएफ ग्रुप केंद्र पर आतंकी हमले की सुनवाई अब 2

रामपुर। सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर पर आतंकी हमले के मामले में शनिवार को कोर्ट में सुनवाई हुई। दिल्ली से आने वाले अधिवक्ता के न आने पर अब इस मामले में सुनवाई 28 सितंबर को होगी। 31 दिसंबर 2007 की आधी रात के बाद सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर पर आतंकी हमला हुआ था। हमले में सात जवान शहीद हो गए थे, जबकि एक रिक्शा चालक की मौत हो गई थी। इस हमले के चालीस दिन बाद पुलिस व एटीएस ने आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इस मामले की सुनवाई इन दिनों कोर्ट में चल रही है। शनिवार को बरेली जेल में बंद पांच और लखनऊ जेल में बंद तीन आरोपियों को पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट में पेश किया। बचाव पक्ष की ओर से अधिवक्ता एमएस खान के न आने के कारण अब इस मामले में 28 सितंबर को सुनवाई होना है। शासकीय अधिवक्ता फौजदारी दलविंदर सिंह डंपी ने बताया कि अब इस मामले की सुनवाई अब 28 सितंबर को होगी।पेशी के दौरान कचहरी परिसर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए। ... और पढ़ें

एफआईआर से हटेगा आजम खां की दिवंगत मां का नाम

रामपुर। सांसद आजम खां की मां का नाम एफआईआर से हटाया जाएगा। इसके लिए प्रशासन की ओर से पुलिस को प्रार्थना पत्र दे दिया है। यह प्रार्थना पत्र नायब तहसीलदार की ओर से गंज थाने में दिया गया है।
जिला जेल के पास ही फांसी घर की जमीन है। सालों से इस जमीन को अवैध रूप से बेचा और खरीदा गया। प्रदेश सरकार की जमीन को न तो कोई बेच सकता है और न ही कोई खरीद सकता है। इसको लेकर भाजपा लघु उद्योग प्रकोष्ठ के क्षेत्रीय संयोजक आकाश सक्सेना हनी ने जिलाधिकारी से शिकायत की थी, जिसके बाद जिलाधिकारी ने जांच कराई। जांच में अवैध कब्जों की बात सामने आई, जिसके बाद नायब तहसीलदार ले 37 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसमें सांसद आजम खां के बेटे अदीब खां और उनकी बहन नसरीन को भी आरोपी बनाया गया है। इसके अलावा अमीर जहां पत्नी मुमताज मोहम्मद खां का नाम भी शामिल है, जो आजम खां की मां हैं। उनका इंतकाल छह साल पहले हो चुका है। आजम की दिवंगत मां के नाम रिपोर्ट कराने का मामला सामने आने के बाद जिलाधिकारी के आदेश पर नायब तहसीलदार केजी मिश्रा ने थाना गंज में प्रार्थना पत्र दिया है, जिसमें एफआईआर ने आजम खां की दिवंगत मां का नाम हटाने की सिफारिश की है।
... और पढ़ें

विधानसभा उपचुनाव का ऐलान, 21 अक्टूबर को डाले जाएंगे वोट

रामपुर। चुनाव आयोग ने विधानसभा उपचुनाव का एलान कर दिया है। इसके साथ ही आचार संहिता लागू हो गई है। वहीं, शहर विधानसभा क्षेत्र में 21 अक्तूबर को मतदान होगा, जबकि 24 अक्तूूबर को मतगणना होगी। करीब साढ़े तीन लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।
शहर विधानसभा क्षेत्र से नौ बार विधायक रहे मोहम्मद आजम खां लोकसभा के लिए चुन लिए गए थे। वह रिकार्ड मतों से विजयी हुए थे। इसके बाद उन्होंने विधायक पद से इस्तीफा दे दिया, इसके बाद से शहर विधानसभा सीट खाली हो गई थी। रिक्त सीटों को लेकर चुनाव आयोग ने उपचुनाव का एलान कर दिया। शनिवार को हुए इस एलान के मुताबिक 23 सितंबर को जिलाधिकारी की ओर से गजट नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा। इसके बाद नामांकन प्रक्रिया शुरु होगी, जो 30 सितंबर तक चलेगी। एक अक्तूबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी। तीन अक्तूबर को नाम वापसी होगी। 21 अक्तूूबर को मतदान होगा, जबकि 24 अक्तूबर को मतगणना होगी। 27 अक्तूबर को चुनाव प्रक्रिया संपन्न हो जाएगी। इस चुनाव में करीब साढ़े तीन लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।
... और पढ़ें

डॉ. तजीन फात्मा की अग्रिम जमानत याचिका मंजूर

रामपुर। हमसफर रिसोर्ट प्रकरण में लोकसभा सांसद मोहम्मद आजम खां की पत्नी राज्यसभा सदस्य डॉ. तजीन फात्मा की अग्रिम जमानत याचिका कोर्ट में मंजूर हो गई है। मामले में शुक्रवार के बाद शनिवार को भी सुनवाई हुई जहां दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद कोर्ट ने उनकी अग्रिम जमानत याचिका मंजूर कर ली है।
पिछले दिनों प्रशासन ने हमसफर रिसोर्ट पर छापा मारा था। छापे के दौरान बिजली और पानी की चोरी पकड़ी थी, कार्रवाई करते हुए बिजली विभाग ने बिजली काट दी थी। इस मामले में राज्यसभा सदस्य डॉ. तजीन फात्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। बिजली विभाग ने उन पर 30 लाख रुपये का जुर्माना भी डाला था। इसी मामले में उन्होंने अपने अधिवक्ता के माध्यम से अग्रिम जमानत के लिए सेशन कोर्ट में अर्जी लगाई थी।अधिवक्ता नासिर सुल्तान बताया कि शनिवार को बहस हुई और कोर्ट में दोनों पक्षों की दलील सुनी गईं। इसके बाद कोर्ट ने अग्रिम जमानत याचिका को मंजूर कर लिया है।
... और पढ़ें

अब आजम खां की दिवंगत मां के खिलाफ भी धोखाधड़ी का मुकदमा

लोकसभा सांसद आजम खां के साथ-साथ अब उनके परिजनों के खिलाफ भी एक के बाद एक मुकदमे दर्ज हो रहे हैं। जिला कारागार की जमीन की खरीद-बिक्री करने के आरोप में गंज थाना पुलिस ने सांसद आजम खां की दिवंगत मां अमीर जहां बेगम, बेटे मोहम्मद अदीब खां और बहन नसरीन सहित 37 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। 

पुलिस ने यह कार्यवाही नायब तहसीलदार कृष्ण गोपाल मिश्रा की तहरीर के आधार पर की है। भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने जिलाधिकारी से शिकायत की थी कि जिला जेल में जिस स्थान पर एक समय में फांसी घर हुआ करता था। यह जमीन अब सांसद आजम खां के रिश्तेदारों और करीबियों के कब्जे में है। 

जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने इस मामले में जांच के आदेश दिए थे। इसके बाद राजस्व विभाग की टीम ने जमीन की पैमाइश की थी। जांच में यह साबित हुआ कि यह जमीन श्रेणी सात (सरकारी) है। जमीन वाहिद और खुर्शीद के नाम पर चढ़ गई। इसके बाद वाहिद और खुर्शीद ने अन्य लोगों को यह जमीन बेच दी। 

जमीन के बैनामों पर शाजेब खां, मोहम्मद इकबाल और फारुख आदि के नाम गवाह के रूप में अंकित हैं। पुलिस ने जमीन की खरीद, बिक्री करने वालों के साथ-साथ बैनामों के गवाहों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। मामले में आजम खां की दिवंगत मां अमीर जहां बेगम का नाम भी रिपोर्ट में शामिल है, अमीर जहां बेगम का निधन साल 2013 में हो गया है। 

जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने बताया कि जेल कारागार की जमीन खरीदने-बेचने वालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करा दी गई है।  इस मामले में शामिल अन्य लोगों की पहचान की जा रही है। ताकि पता चला सके कि जमीन किसके दबाव में खरीदी-बेची गई थी।

इन लोगों के खिलाफ दर्ज हुई रिपोर्ट:

मोहम्मद अदीब खां, जाने आलम, सलीम खां, फरीद बी, शहाना बी, अमीर जहां बेगम, केसर जहां, सईद अहमद, परवीज जहां, रहब्बर खां, तूबा खान, रूमा बी, मंसूर अली, मोहम्मद आरिफ, शहाना, शगुफ्ता अंजुम, मोहम्मद इरफान, मोहम्मद रिजवान, नसरीन, मेहरून निशा, शहदाव, श्रीमति हुसैन, साबरी बेगम, नूर जहां, मोहम्मद मोईन, शादाब अहमद, दानिश, फैसल अहमद, रजिया अहमद, हाजरा बेगम, बाबू खां, अकरम खां, नसीम, वाहिद, खुर्शीद मियां, शाजेव खां, मोहम्मद इकबाल फारुख।

वहीं इस पर रामपुर जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने कहा कि जेल की जमीन खरीद-बेचने के मामले में दर्ज हुए मुकदमे में सांसद आजम खां की दिवंगत मां के नाम पर भी मुकदमा दर्ज हो गया है। पुलिस को सूचित कर दिया गया है कि मुकदमे से उनका नाम हटा दे।
... और पढ़ें

आजम खां के लिए सीएम योगी से मिले सपा नेता, अखिलेश बोले-संकट की घड़ी में पूरी पार्टी उनके साथ

रामपुर में एक के बाद एक मुकदमों का सामना कर रहे पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां के लिए सपा का एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिला। उनसे कहा कि विधायक, मंत्री व राज्यसभा सदस्य रह चुके और अब सांसद आजम खां क्या बकरी व भैंस चुराएंगे, जो उनके खिलाफ इन धाराओं में भी मुकदमे दर्ज किए गए हैं। 

प्रतिनिधिमंडल ने कार्रवाई को एकतरफा और फर्जी बताते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ को ज्ञापन भी सौंपा। सीएम ने उन्हें उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया।

सपा ने एक खास रणनीति के तहत पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय की अध्यक्षता में एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को सीएम योगी आदित्यनाथ के पास भेजा था। बताते हैं कि सीएम के सामने आजम खां मामले में पूरा पक्ष भी उन्हीं ने सीएम के सामने रखा। प्रतिनिधिमंडल में विधानसभा में नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी, विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष विधान परिषद अहमद हसन, सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल और पूर्वमंत्री बलराम यादव भी शामिल थे।

मुख्यमंत्री को सौंपे ज्ञापन में कहा गया कि मो. आजम खां के खिलाफ  सत्ताधारी दल बदले की भावना से अपमानित और परेशान करने के लिए रोज नए-नए फर्जी मामले दर्ज करवा रहे हैं। इस बात पर कैसे विश्वास किया जा सकता है कि जो व्यक्ति 9 बार विधायक, 4 बार मंत्री, एक बार राज्यसभा सदस्य और वर्तमान में लोकसभा का निर्वाचित सांसद है, वह बकरी-भैंस चोरी जैसे काम करेगा। 
... और पढ़ें

जागरूकता के साथ बढ़ रहा महिलाओं का आत्मविश्वास: मनु तिवारी

रामपुर। जागरूकता से महिलाओं में आत्मविश्वास महिलाओं में बढ़ रहा है। सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर में अमर उजाला अपराजिता 100 मिलियन स्माइल अभियान के तहत गोष्ठी में वक्ता ने कही। अभियान की सराहना करते हुए महिला अधिकारों पर चर्चा की।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मनु तिवारी ने कहा कि अमर उजाला की ओर से चलाया जा रहा अपराजिता जागरूकता कार्यक्रम काफी सराहनीय पहल है क्योंकि इससे बड़े पैमाने पर महिलाएं अपने अधिकारों और उनके लिए संचालित योजनाओं के बारे में जानकारी हासिल कर रही हैं। जो कि महिलाओं के सशक्तीकरण में अहम भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि आज के दौर में महिलाएं रूढ़िवाद की जंजीरों को तोड़कर आगे बढ़ रही हैं। महिलाओं के बिना इस समाज की परिकल्पना ही नहीं की जा सकती तो महिलाओं को किसी भी मायने में कमतर क्यों आंका जाए। कहा कि एक दौर था जब महिलाओं को तमाम कुरीतियों के बंधन में बांधकर समाज में उनके महत्व को कम करने की कोशिश की गई लेकिन, अब समय बदल रहा है और महिलाएं अपने अधिकारों के प्रति जागरूक हो रही हैं। महिलाएं अपनी प्रतिभा को हर क्षेत्र में साबित कर रही हैं। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए के रविता ने कहा कि महिलाएं ही समाज और राष्ट्र की रीढ़ हैं। महिलाओं के विकास के बिना राष्ट्र या समाज का विकास संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि आज तमाम योजनाएं महिलाओं को आगे बढ़ाने का कार्य कर रही हैं। जिस क्षेत्र में भी बेटियों को मौका मिल रहा है वो श्रेष्ठ प्रदर्शन कर अपनी योग्यता को साबित कर रही हैं।
इस अवसर पर रेखा, रूपा, पुष्पा, बब्ली, विमला, राध, नाजमा, मनीषा, मीरा देवी, लता, प्रीति, सरोज आदि मौजूद रहीं।
... और पढ़ें

अतिक्रमण पर गरजा नगर पालिका का बुलडोजर

रामपुर। नगर पालिका की ओर से अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया। इस दौरान अवैध रूप से बने टीनशेड ध्वस्त कर दिए गए। कुछ स्लैब आदि हटाए गए, जिसके बाद पालिका की जेसीबी खराब हो गई। इस बीच पालिका अफसरों ने अतिक्रमण करने वालों को चेतावनी जारी कर दी है।
शहर की अधिकांश सड़कें अतिक्रमण की चपेट में हैं। दुकानदारों ने लोगों के पैदल चलने के लिए बनी फुटपाथों तक पर कब्जा कर लिया है। ऐसे में चौड़ी सड़कें होने के बाद भी लोगों को जाम जैसी समस्याओं से जूझना पड़ता है। नैनीताल हाइवे के किनारे तो सर्विस रोड तक बनी है, लेकिन हाइवे के दोनों ओर बनी सर्विस रोड पर दुकानदारों और मैकेनिकों ने कब्जा कर लिया है। ऐसे लोगों को आवागमन में काफी दिक्कतें होती हैं। लिहाजा, शुक्रवार को नगर पालिका की ओर से अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया गया। इसके लिए नगर पालिका के अधिकारी नैनीताल रोड पर पहुंच गए। इसके बाद मालगोदाम चौराहे से अतिक्रमण हटाना शुरु किया गया। दुकानों के आगे अवैध रूप से बने टीनशेड तोड़ दिए। अवैध खोखे, ठेले आदि भी हटा दिए। हीरो बाइक की एजेंसी तक अतिक्रमण हटाया गया। लेकिन, आधा अतिक्रमण हटने के बाद ही नगर पालिका की जेेसीबी खराब हो गई। इसके बाद दोपहर डेढ़ बजे अभियान रोक दिया। इसको लेकर पालिका अफसरों ने दुकानदारों को चेतावनी जारी कर दी कि दुकानदार खुद ही अपना अतिक्रमण हटा लें अन्यथा ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की जाएगी। कर अधीक्षक गणेश प्रसाद ने बताया कि अतिक्रमण हटाने का सिलसिला आगे भी जारी रहेगा।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree