बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

इटावा: पत्नी की गला दबाकर हत्या की, कमरे की कुंडी बाहर से बंद करके भागा हत्यारोपी

इटावा जिले में बसरेहर के अहलादपुर गांव में ननदोई के घर आई विवाहिता माला देवी (30) की पति ने बुधवार की रात गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद हत्यारोपी पति कमरे की कुंडी बाहर से बंद करके भाग गया। ननद के कमरे में पहुंचने पर परिजनों को घटना की जानकारी हुई।

पुलिस ने आरोपी के बहनोई को पकड़ लिया है। आरोपी पति की तलाश चल रही है। घटना के पीछे हत्यारोपी पति की जुआ और शराब की लत को लेकर हुआ विवाद बताया गया है। आगरा के बटेश्वरवाह निवासी संतोष जाटव पत्नी माला देवी व दो बच्चों के साथ चार दिन पहले बसरेहर के अहलादपुर गांव निवासी अपने बहनोई छोटे लाल के घर आया था।

संतोष ने जुआ व शराब की लत पूरी करने के लिए आगरा में कई लोगों से कर्ज ले रखा था। कर्ज चुकाने से बचने के लिए वह परिवार के साथ बहनोई के घर आ गया था। तब से संतोष परिवार के साथ यहीं पर रह रहा था। छोटे लाल ने बताया कि देर शाम वह पत्नी के साथ घर के बाहर गया था।

जबकि, संतोष के बच्चे पड़ोस में रहने वाले उसके भाई के घर में खेलने गए थे। उसी दौरान रात करीब आठ बजे संतोष का पत्नी माला के जुआ व शराब की लत को लेकर विवाद हो गया। इस पर संतोष ने माला की गला दबाकर हत्या कर दी और खुद कमरे में बाहर से कुंडी लगाकर भाग गया।

रात करीब नौ बजे माला की ननद ललिता देवी कुंडी खोलकर उसके कमरे में गई। उसे चारपाई पर मृत अवस्था में पड़ा देख चीख पड़ी। इसके बाद आसपास के लोग और थाना प्रभारी मुकेश सोलंकी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने प्रारंभिक जांच के बाद आरोपी संतोष के बहनोई छोटे लाल को पकड़ लिया। थाने में उससे पूछताछ की जा रही है। थाना प्रभारी के मुताबिक माला के परिजनों की तहरीर व पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार कर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

फर्रुखाबाद: युवक की निर्मम हत्या कर शव काली नदी में फेंका, परिजनों ने बताई ये बात

फर्रुखाबाद जिले में युवक की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। जनपद कन्नौज थाना छिबरामऊ के गांव मनिकापुर निवासी शैलू (23) 3 अप्रैल 2019 को गांव की ही एक किशोरी को ले गया था। पुलिस ने किशोरी की तलाश कर शैलू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इसके बाद किशोरी को कानपुर बालिका गृह भेज दिया गया था।

परिजनों ने बताया कि 2 फरवरी 2021 को शैलू जमानत पर छूटकर घर आया था। गांव में रंजिश की वजह से वह अपनी बुआ के घर जहानगंज थाना क्षेत्र के गांव पकरिया में रह रहा था। एक अप्रैल को वह बाइक की सर्विस कराने फर्रुखाबाद गया था। इसी दौरान वह लापता हो गया। परिजनों ने इसकी जानकारी जहानगंज थाना पुलिस को दी थी।

रविवार शाम को गांव बहोरिकपुर के युवक ने अपने खेत के पास काली नदी में शव पड़ा देखा। युवकों ने इसकी जानकारी अपने गांव जाकर दी। इस पर ग्रमीण वहां पहुंच गए। उन्होंने पड़ोसी गांव मनिकापुर में सूचना दी। इस पर शैलू के परिजन मौके पर पहुंचे। उन्होंने शव की पहचान शैलू के रूप में की।

घटना की जानकारी मिलते ही संबंधित थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। पुलिस के मुताबिक शैलू के सिर व चेहरे पर वजनदार वस्तु से प्रहार किया गया है। शव 3-4 दिन पुराना लग रहा है। पुलिस ने शैलू के बड़े भाई आशु की तहरीर पर किशोरी के पिता, ताऊ सहित चार लोगों के खिलाफ अपहरण के बाद हत्या करने का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने रात को ही आरिपियों के घर दबिश दी। वहां से तीन आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया है।
... और पढ़ें

यूपी: बाथरूम में कपड़े धो रही थी भाभी, युवक ने किया कुछ ऐसा देखकर पुलिस भी हैरान

कानपुर में सचेंडी के लालसा पुरवा में सिरफिरे देवर ने बुधवार को भाभी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। इसके बाद खुद को भी पेट में चाकू मारकर घायल कर लिया। ग्रामीणों का कहना है कि एकतरफा प्यार में उसने वारदात को अंजाम दिया। हालांकि परिजन इन आरोपों को खारिज कर रहे हैं।

साथ ही हत्या की कोई वजह भी नहीं बता पा रहे हैं। वहीं आरोपी का कहना है कि भाभी उसके भाई को छोड़ना चाहती थी। इसी बात पर विवाद हुआ और उसने हमला कर दिया। मूलरूप से बांदा के अतर्रा निवासी संतोष के परिवार में पत्नी राधा (30), बेटा शिवम और छोटा भाई रामू है।

संतोष ने बताया कि एक माह पहले वह परिवार संग लालसा पुरवा निवासी बहनोई हरपाल के घर आया था। यहीं रहकर भैलामऊ स्थित साबुन फैक्ट्री में नौकरी करता है। बुधवार को वह फैक्ट्री चला गया। बहन ममता और बहनोई खेत चले गए। इस बीच रामू ने पत्नी राधा के पेट और छाती पर चाकू से पांच-छह वार किए।

इसके बाद खुद के पेट में भी चाकू मार लिया। चारा काटकर घर पहुंची ममता ने दोनों को खून से लथपथ देख संतोष के ठेकेदार सुरेश को सूचना दी। सूचना पर घर पहुंचे संतोष दोनों को हैलट लाए। यहां डॉक्टरों ने राधा को मृत घोषित कर दिया।
... और पढ़ें

उन्नाव: जमीन के विवाद में बड़े भाई ने छोटे भाई के शरीर पर कुल्हाड़ी से किए कई वार, तड़पकर हुई मौत

उन्नाव के चकलवंशी में जमीन के विवाद में बड़े भाई ने छोटे भाई की कुल्हाड़ी से वारकर हत्या कर दी। देवर की मौत और पति की गिरफ्तारी से आहत हत्यारोपी की पत्नी ने जहर खा लिया। गंभीर हालत में उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने हत्यारोपी से पूछताछ के आधार पर खून से सनी कुल्हाड़ी बरामद कर उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। 

आसीवन थाना क्षेत्र के सिद्धनाथ गांव निवासी राम मोहन (40) का उसके छोटे भाई शिव मोहन (35) से जमीन को लेकर कई साल से विवाद चल रहा था। जमीन पर छोटे भाई राम मोहन ने छप्पर डालकर मवेशी बांधना शुरू कर दिया था। यह बात बड़े भाई शिवमोहन को नागवार गुजरी। सोमवार रात शिव मोहन ने अपनी गाय छोटे भाई के छप्पर के नीचे बांध दी।

इसको लेकर दोनाें में विवाद हुआ। ग्रामीणों ने किसी तरह दोनों को अलग कर मामला शांत करा दिया। मंगलवार सुबह फिर से विवाद हो गया। राम मोहन घर से खेत की ओर चला गया। गुस्से में बड़ा भाई शिव मोहन हाथ में कुल्हाड़ी लेकर छोटे भाई के पीछे पहुंचा और उस पर कई वार कर दिए। इससे वह लहूलुहान हो गिर गया। खेतों पर काम कर रहे किसानाें ने पुलिस को घटना की जानकारी दी।
 
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

जल्लाद पति: पत्नी को बेरहमी से उतारा मौत के घाट, पुलिस से बोला- साहब 'इस वजह से उसको काट डाला'

यूपी के जालौन जिले में महिला की हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। रामपुरा थाना क्षेत्र में पति ने पत्नी की धारदार हथियार से हत्या कर दी। इस घटना से क्षेत्र में हड़कंप मच गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

शिवराज पाल ने सोमवार सुबह लगभग चार बजे 30 वर्षीय पत्नी की हत्या धारदार हथियार से कर दी। शिवराज के दो लड़के हैं, जिनकी उम्र ग्यारह और बारह साल है। शिवराज दिल्ली में रहकर मजदूरी करता था। लगभग एक सप्ताह पूर्व भांजे को शादी में शामिल होने गांव आया था। हत्या करने के बाद थाने जाकर उसने पुलिस को सूचना दी। 

शिवराज ने पुलिस से कहा कि साहब मैं अपनी पत्नी के चाल-चलन से तंग आ गया था, इसलिए उसे काट डाला। पुलिस ने उसे तुरंत गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी है। इंस्पेक्टर जेपी पाल का कहना है आरोपी को जेल भेजा जा रहा है।
... और पढ़ें

कानपुर: चुनावी रण खत्म तो शुरू हुआ भड़ास निकालने का दौर, हार से हताश प्रत्याशी ने प्रतिद्वंद्वी को घर में घुसकर पीटा

कानपुर के बिधनू विकासखंड में पंचायत चुनाव के परिणाम आने के बाद अब लोग एक दूसरे पर खुन्नस निकाल रहे हैं। ग्राम सभा सेन पूरब पारा से हारे हुए प्रत्याशी ने प्रतिद्वंद्वी प्रत्याशी के घर में घुसकर परिवार को लाठी-डंडों से पीटा। पीड़ित परिवार ने आरोपियों के खिलाफ थाने में तहरीर दी है। 

सेनपूरब पारा गांव में प्रधान पद के प्रत्याशी दयालू सिंह व शिवकुमार साहू आमने सामने खड़े हुए थे। दोनों प्रत्याशी चुनाव हार गए और मजरा ओरछी गांव के प्रत्याशी रामनरेश सिंह चुनाव जीत गए। इस हार के बाद दयालू अपने समर्थकों के साथ शिवकुमार के घर गया और उसके चुनाव में खड़े होने के कारण ही अपने चुनाव में हार जाने का आरोप लगाते हुए मारपीट कर दी।

बीच बचाव में आये शिवकुमार की पत्नी, बेटी और बेटों को भी लाठी डंडों और लात घूंसों से पीटा। थाना प्रभारी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर मारपीट और गालीगलौज का आरोप लगाया है। दोनों पक्षों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।
... और पढ़ें

घाटमपुर: चुनाव नतीजों को लेकर हुआ बवाल, गोली लगने से तीन लोग घायल, पुलिस फोर्स मौके पर

सांकेतिक तस्वीर

जालौन में दोहरा हत्याकांड: चार दिन से लापता मामा-भांजे की हत्या, इस हालत में मिले शव

यूपी के जालौन जिले में दोहरे हत्याकांड से सनसनी फैल गई। मोहल्ला कांशीराम कॉलोनी निवासी राशिद (25) पुत्र बसीर व उसका मामा इंदिरा नगर निवासी नसीम (22) पुत्र शेरखान बीती 29 अप्रैल को संदिग्ध हालात में लापता हो गए थे। दोनों कोंच बस स्टैंड पर चूड़ी की दुकान पर बैठते थे।

घटना वाले दिन ही नसीम की मां कपूरी एवं राशिद की मां भूरी ने परिजनों के साथ कोतवाली पहुंचकर अपने बेटों के लापता होने के संबंध में तहरीर दी थी। तहरीर में इंदिरा नगर निवासी रफीक एवं अनीश को नामजद करते हुए आरोप लगाया कि उन लोगों ने उनके बेटों के उठा ले जाने की धमकी दी थी पर पुलिस ने तहरीर को गंभीरता से नहीं लिया।

उल्टा युवकों के लापता होने पर स्वजनों पर ही आरोप लगाते हुए उन्हें दुत्कार कर कोतवाली से भगा दिया। इसके बाद राशिद व नसीम के स्वजन कोतवाली के चक्कर लगाते रहे पर पुलिस नहीं पसीजी। जिसके चलते परेशान परिवार वालों ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर मामले की शिकायत की जिसके बाद पुलिस एक्टिव हुई और आरोपियों से पूछताछ की तो दोनों की हत्या होने का पता चला।

पुलिस सोमवार रात को सिरसाकलार थाना क्षेत्र के जंगल में पहुंची तो वहां मामा-भांजे के जले हुए शव पड़े मिले। दो शव मिले जिससे उनको पहचान पाना मुश्किल था। जिस पर पुलिस ने मौके पर लापता मामा-भांजे के परिजनों को बुलाया तब जूतों व कड़े से उनकी पहचान चार दिन से लापता नसीम व राशिद के रूप में हुई।

कपूरी व भूरी का कहना है कि पुलिस ने उनके बेटों के अगवा करने वालों को पहले शिकायत मिलते ही पकड़ लिया होता तो उनकी जान बच गई होती। सीओ सिटी संतोष कुमार का कहना है कि इस मामले को गंभीरता से लेते हुए तहकीकात की जा रही है। जल्द आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

उन्नाव: हिस्ट्रीशीटर ने विपक्षी प्रधान प्रत्याशी के पिता को मारी गोली, हालत गंभीर

उन्नाव जिले में दो प्रधान प्रत्याशियों में वोट की राजनीति को लेकर विवाद हो गया। गाली-गलौज व मारपीट के बीच एक प्रत्याशी के हिस्ट्रीशीटर बेटे ने विपक्ष के प्रत्याशी के पिता को गोली मार दी। कमर में गोली लगने से वह घायल हो गया। गंभीर हालत में उसे जिला अस्पताल से कानपुर रेफर किया गया है।

गोली चलाने वाले प्रधान प्रत्याशी के हिस्ट्रीशीटर बेटे को पुलिस ने गिरफ्तार कर चार लोगों पर रिपोर्ट दर्ज की है। माखी थाना क्षेत्र के जगदीशपुर गांव में प्रधान पद के प्रत्याशी गंगाप्रसाद यादव का विपक्ष के प्रत्याशी जयदीप के पिता सुमंत सिंह से रविवार देर रात विवाद हो गया।

दोनों पक्षों में गाली-गलौज के बाद मारपीट शुरू हो गई। बीच में आए गंगाप्रसाद के बेटे हिस्ट्रीशीटर अंशू यादव ने सुमंत (55) पर तमंचे से फायर झोंक दिया। गोली कमर में लगने से सुमंत लहूलुहान हो गया। आनन-फानन उसे जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां से कानपुर रेफर किया गया है।
 
पीड़ित के बेटे जयदीप की तहरीर पर पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर अंशू यादव, उसके पिता गंगाप्रसाद समेत चार लोगों पर हत्या के प्रयास, बलवा समेत अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर अंशू यादव को गिरफ्तार किया है। गांव में पुलिस बल तैनात किया गया है। घायल जयदीप का कहना है कि रविवार रात उसके पिता सुमंत खेत से लौट रहे थे। इसी बीच अंशू यादव व उसके पिता गंगा प्रसाद समेत अन्य ने पिता सुमंत सिंह को घेरकर मारपीट की और गोली मार दी।
... और पढ़ें

औरैया: चुनावी रंजिश में पूर्व फौजी की गला रेतकर हत्या, मंदिर के पास मिला शव

औरैया जिले में बेला थाना क्षेत्र के गांव महू निवासी पूर्व सैनिक मनोज कुमार (50) पुत्र अतुल सिंह की चुनावी रंजिश में गला रेत कर हत्या कर दी गई। पूर्व सैनिक गांव की एक वॉर्ड से ग्राम सदस्य का चुनाव लड़े थे। चुनाव के दौरान आरोपी पूर्व प्रधान (जिला बदर) ने जान से मारने की धमकी दी थी।

घटना का ऑडियो भी वायरल हुआ था। मनोज ने पुलिस से शिकायत की लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। मंगलवार सुबह शव गांव के बाहर एक मंदिर के पास पड़ा मिला है। मृतक के शरीर पर कई वार किए गए हैं। घटना की जानकारी मिलते ही बेला पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन में जुट गई। परिजनों ने पूर्व प्रधान व समर्थकों पर हत्या का आरोप लगाया है।
... और पढ़ें

उन्नाव: हत्या कर पेड़ से लटकाया युवती का शव, अस्त-व्यस्त मिले कपड़े, दुष्कर्म के बाद मौत के घाट उतारने की आशंका

उन्नाव के फतेहपुर चौरासी में सादखेड़ा गांव से लगभग सौ मीटर दूर खेत में शनिवार की सुबह 22 वर्षीय युवती का शव पेड़ से लटका मिला। घुटने जमीन पर होने और कपड़े अस्त-व्यस्त होने से दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई जा रही है। युवती की पहचान नहीं हो सकी है। 

फतेहपुर चौरासी थाना क्षेत्र के सादखेड़ा गांव के लोगों ने शनिवार की सुबह गांव से लगभग सौ मीटर दूर गंगादासपुर गांव निवासी प्रमोद शुक्ल के खेत में पेड़ से युवती का शव लटका देखा। उसकी गर्दन में किसी व्यक्ति की शर्ट का फंदा पड़ा था और बांह पेड़ से बंधी थी।

घुटने जमीन पर होने और कमर के नीचे कपड़े न होने से ग्रामीणों ने दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई है। सीओ सफीपुर बीनू सिंह फोर्स के साथ पहुंचकर घटनास्थल पर पहुंची। पुलिस ने आसपास के गांव में युवती की फोटो दिखाकर शिनाख्त कराने की कोशिश की, लेकिन उसकी पहचान नहीं हो सकी।

उधर, फील्ड यूनिट के साथ पहुंचा डॉग शव के पास सूंघता हुआ आसपास खेत में लगभग 500 मीटर की दूरी पर चक्कर लगाकर फिर घटना स्थल पर आकर रुक गया। उधर, चर्चा आनर किलिंग की भी है।
... और पढ़ें

कानपुर: छात्र की गला घोंटकर हत्या, पहचान छुपाने के लिए जलाया शव

कानपुर के बाबूपुरवा थाना क्षेत्र में शुक्रवार रात घर से लापता कक्षा 9 के छात्र की रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर दी गई। हत्यारों ने उसकी पहचान छिपाने के लिए शव को जलाने का प्रयास किया। सूचना पर पहुंची पुलिस, फोरेंसिक व डॉग स्क्वाड ने साक्ष्य जुटा कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

इलाके में रहने वाला मोज्ज्म (14) शुक्रवार शाम करीब 7 बजे घर से निकला था। इसके बाद घर नहीं लौटा। बड़े भाई हरम ने पुलिस को बताया कि रात भर खोजबीन के बाद भी जब मोज्ज्म का पता नहीं लगा तो वाट्सऐप पर उसकी गुमशुदगी की सूचना वायरल की थी।

इसे देख कर शनिवार सुबह किसी ने फोन कर उसका शव बेगम पुरवा लोको शेड रेलवे ट्रैक के पास अधजली हालत में पड़ा होने की जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस को शव औंधे मुंह पड़ा मिला। आग से कपड़े जल चुके थे।

फोरेंसिक को छात्र के गले में नायलॉन की एक रस्सी भी मिली है, जो आग की वजह से पिघल कर उसके गले में ही चिपक गई थी। पिता मुकर्रम ने पुलिस को बताया कि बेटे का सप्ताह भर पहले किसी से विवाद हुआ था। पुलिस के अनुसार हत्यारों का पता किया जा रहा है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन