विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

अयोध्या प्रकरणः कल्याण सिंह बतौर आरोपी 27 को अदालत में तलब, विशेष न्यायाधीश ने दिया आदेश

अयोध्या प्रकरण के विशेष न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह को बतौर आरोपी तलब किया है।

22 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

कन्नौज

रविवार, 22 सितंबर 2019

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे धंसा, हादसा बचा

तालग्राम(कन्नौज)। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे के 176 किलोमीटर पर सड़क धंस गई। बुधवार को कैबिनेट मंत्री सतीश महाना को लखनऊ से मथुरा जाना था। इसकी जानकारी पर यूपीडा गड्ढे को भरने में देर रात से ही जुट गई। दोपहर के समय मंत्री का काफिला वर्क साइट पर नहीं रुका तो अधिकारियों ने राहत की सांस ली। गनीमत रही कि सड़क धंसने से कोई हादसा नहीं हुआ। फिलहाल धंसने वाली लेन से यातायात को रोक दिया गया है।
मंगलवार रात वाहन चालकों ने एक्सप्रेसवे के 176 किलोमीटर पर पानी निकासी नाली के समीप सड़क को धंसा देखा। इसकी जानकारी यूपीडा के गश्ती दल को दी गई। कुछ यात्रियों ने टोल प्लाजा पहुंचकर कर्मचारियों को सड़क धंसने की जानकारी दी। इसके बाद इफ्कान कंपनी के कर्मचारी व अभियंता जान मैथू मौके पर पहुंचे।
आनन-फानन में गड्ढा भरने का काम शुरू करा दिया गया। गड्ढा करीब 20 फीट लंबा और करीब इतना ही गहरा था। अभियंता ने बताया 19 ट्राली मिट्टी व गिट्टी भरने के बाद गड्ढा बंद हो पाया है। यूपीडा के सुरक्षा अधिकारी एके दुबे ने बताया कि पानी के रिसाव से होल हो गया था। इफ्कान कंपनी के कर्मचारियों को लगाकर सही करा दिया गया है। संबंधित लेन से वाहन को रोक दिया गया है। इससे कुछ दिन पहले 180 किलोमीटर पर अमोलर अंडर पास के ऊपर एक्सप्रेसवे धंस गया था। इसमें दरार पड़ गई थी। इससे तेज गति से निकलने वाले वाहन उछाल लेने लगे थे।
अभी दो लेन पर ही चल सकेंगे वाहन
लखनऊ से आगरा जाने वाले वाहन अब तीन के बजाय दो लेन पर ही चल सकेंगे। इफ्कान कंपनी ने गड्डे को तो बंद करा दिया है। इसके बाद भी सतर्कता बरती जा रही है। जांचा जा रहा है कि कहीं सड़क दोबारा तो नहीं धंस रही है। इससे गति अवरोध लगाकर यातायात रोक दिया गया है।
... और पढ़ें

खड़े ट्रक में घुसी पिकअप, सब्जी व्यापारी की मौत

कन्नौज। टमाटर लेकर गुरसहायगंज मंडी जाते समय पिकअप जीटी रोड पर खड़े ट्रक में घुस गई। हादसे में सब्जी विक्रेता की मौत हो गई। हादसे की खबर पर परिवार में कोहराम मच गया।
कानपुर नगर के बिल्हौर कस्बे के लोहिया नगर निवासी अंकित कुशवाहा (19) पुत्र महेश कुशवाहा सब्जी का व्यापार करते थे। बुधवार सुबह करीब पांच बजे यह पिकअप में टमाटर की खेप लेकर गुरसहायगंज सब्जी मंडी जा रहे थे। सदर कोतवाली में जलालपुर पनवारा के पास जीटी रोड पर खराब खड़े ट्रक में पिकअप पीछे से घुस गई। हादसे में अंकित घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस जिला अस्पताल ले गई। यहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। हादसे में घायल हुए पिकअप चालक अनिल दीक्षित निवासी पनकी कानपुर और संदीप निवासी सुभानपुर बिल्हौर का जिला अस्पताल में इलाज शुरू किया गया। दोपहर में अनिल को कानपुर रेफर कर दिया गया। मृतक के पिता महेश ने बताया कि तीन बेटों में अंकित सबसे छोटा था। सभी लोग सब्जी का व्यापार करते हैं। यह किसानों से थोक में सब्जी खरीदकर आसपास जनपदों के बाजारों में बिक्री करते हैं।
अंकित की मौत से बंद रहा सब्जी बाजार
बिल्हौर। सब्जी व्यापारी अंकित की मौत से कस्बे का राधा कृष्ण छोटी सब्जी बाजार बंद रहा। व्यापारियों ने परिवार के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की। सब्जी व्यापारी नाना खान, मतीन, पप्पू और राम सेवक ने बताया कि अंकित का पूरा परिवार सब्जी का व्यापार करता है। सड़क हादसे में अंकित की मौत के चलते व्यापारियों ने एक दिन दुकानों को बंद रखा है। वहीं शाम को अंकित का शव घर पहुंचते ही परिवार में कोेहराम मच गया।
... और पढ़ें

ऑनर किलिंग: चाचा ने रिश्तेदार के साथ की भतीजी की हत्या

ठठिया(कन्नौज)। थानाक्षेत्र के भखरौली गांव में ऑनर किलिंग का सनसनीखेज मामला सामने आया है। प्रेमी के साथ शादी की जिद पर अड़ी भतीजी की रिश्तेदार की मदद से चाचा ने हत्या कर दी। बोरी में शव को भरकर जंगल में दफन कर दिया। प्रेमी ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया तो कोर्ट के आदेश पर हरकत में आई पुलिस ने चाचा को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की। इसके बाद चाचा की निशानदेही पर पुलिस ने सुर्सी के जंगल में एक नाले के किनारे दफन शव को खोद निकाला। थाना प्रभारी विजय बहादुर वर्मा ने चाचा और रिश्तेदार के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर छानबीन शुरू की है।
ठठिया थानाक्षेत्र के गांव गौरनपुर्वा खैरनगर निवासी रेखा यादव (22) पुत्री अखिलेश का करीब चार साल से पड़ोस के गांव धौरारा में रहने वाले 24 वर्षीय रिश्तेदार अमित यादव से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। रेखा अमित के साथ शादी करने की जिद पर अड़ी थी। परिजन शादी के खिलाफ थे। मार्च 2019 में अखिलेश ने लिलुईया में रहने वाले दामाद के परिवार में रेखा की शादी तय कर दी। इससे अप्रैल में रेखा अमित के साथ कहीं चली गई। एक मई को पुलिस ने अमित और रेखा को थाने में बुलाया था। यहां पंचायत के बाद भखरौली में रहने वाला रेखा का चाचा अवधेश यादव उसे अपने साथ ले गया था। इसके बाद चार मई को दामाद गिरीश निवासी नया नगला मोहम्मदाबाद फर्रुखाबाद के साथ मिलकर चाचा अवधेश ने गला दबाकर रेखा की हत्या कर दी।
रेखा से संपर्क टूटने के बाद अमित ने अवधेश और अखिलेश से पूछताछ की तो उन लोगों ने उल्टा उसी पर रेखा को गायब करने का आरोप लगा दिया। हाल में ही अमित ने हाईकोर्ट में अपील कर रेखा को तलाशने की गुहार लगाई थी। हाईकोर्ट के आदेश पर ठठिया थाना प्रभारी विजय बहादुर ने अवधेश को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पहले तो, अवधेश ने पुलिस को गुमराह किया, लेकिन सख्ती के चलते वह टूट गया। बुधवार को अवधेश की निशानदेही पर सुर्सी गांव के जंगल में एक नाले में भरे पानी को निकालने के बाद खुदाई कर रेखा का शव बरामद किया गया। इसके बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।
थाना प्रभारी ने अवधेश और गिरीश के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। एएसपी विनोद कुमार ने बताया कि रेखा की हत्या में कई लोग शामिल हैं। विवेचना के बाद परिवार और अन्य रिश्तेदारों को भी आरोपी बनाया जाएगा।
... और पढ़ें

मौसम विभाग की भविष्यवाणी, यूपी के कई शहरों में आज से 27 सितम्बर तक होगी झमाझम बारिश

झमाझम बारिश झमाझम बारिश

गड़बड़ी: दो करोड़ की सरकारी जमीन का दे दिया पट्टा

कन्नौज। तिर्वा तहसील के अफसरों ने करोड़ों की सरकारी जमीन में खेल कर दिया। ग्राम सभा की 62 बीघा जमीन को दूसरी ग्राम पंचायत की महिला के नाम पट्टा कर दिया। वर्तमान में इस जमीन की कीमत करीब दो करोड़ रुपये बताई गई है। मामला तब खुला, जब इस जमीन पर धान की फसल खड़ी देख प्रधान ने पत्रावलियां जांचीं। तब पता चला कि तहसील टीम ने किस तरह से नियमों को ताक पर रखकर गड़बड़ी की है। डीएम रवींद्र कुमार से शिकायत के बाद एसडीएम तिर्वा ने जांच की तो गड़बड़ी खुलकर सामने आ गई। अब दोषी अधिकारी खुद को बचाने के प्रयास में जुटे हैं।
तिर्वा तहसील की ग्राम पंचायत खामा में 2003 में इसी गांव के ही राम सिंह, प्रकाश देवी, दलवीर, राधिका देवी, रामस्वरूप, संता देवी, वासुदेव, रेशमा देवी, राजबहादुर, मुन्नीदेवी, संतराम और रामबेटी के नाम ढाई-ढाई बीघा जमीन का पट्टा किया गया था। इसे 2018 में निरस्त कर दिया गया। इन लोगों को अपात्र बताकर ऐसा किया गया था। खामा की प्रधान पिंकी देवी के पति प्रदीप सिंह ने बताया कि करीब चार माह पहले तत्कालीन तहसीलदार के निर्देश पर इस जमीन का पट्टा मलगवां ग्राम पंचायत में रहने वाली रामश्री पत्नी वीरभान यादव के नाम कर दिया गया।
नियमानुसार ग्राम सभा की जमीन का पट्टा उसी ग्राम पंचायत में रहने वाले व्यक्ति को ही किया जा सकता है। ऐसे में मलगवां में रहने वाली रामश्री को खामा ग्राम पंचायत में कैसे पट्टा हो गया, यह बड़ा सवाल है। रामश्री की करीब 15 दिन पहले मौत हो गई। वरासत की जांच में पता चला कि यह जमीन मलगवां में रहने वाले किसी झब्बू के नाम चढ़ी है। झब्बू नाम का कोई व्यक्ति पूरे गांव में नहीं रहता है। पूरे मामले में तहसील अधिकारियों ने बड़ा खेल किया है। 19 सितंबर को ग्राम प्रधान पिंकी देवी पति प्रदीप सिंह के साथ डीएम से मिलने पहुंचीं। उन्हें पूरा प्रकरण उन्हें बताया। इस पर डीएम भी चौंक गए। उन्होंने एसडीएम तिर्वा महेंद्र कुमार को पूरे मामले की जांच सौंपी है। उन्होंने निष्पक्ष जांच कराकर दोषियों के खिलाफ हर हाल में कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। एसडीएम तिर्वा की जांच में भी आरोप सही पाए गए हैं। अब तहसील अधिकारियों में हड़कंप मचा है। वह खुद को बचने की जुगत भिड़ाने में जुटे हैं।
पूरे मामले में लाखों के हुए वारे न्यारे
खामा ग्राम पंचायत की जमीन का पट्टा मलगवां ग्राम पंचायत की महिला के नाम करने में लाखों के वारे न्यारा किए गए हैं। तहसील अधिकारियों ने पैसों के आगे नियमों को धता बताकर गलत तरीके से 62 बीघे जमीन का पट्टा कर दिया। इस जमीन की आज की तारीख में कीमत करीब दो करोड़ रुपये आंकी गई है।
मामले की जांच एसडीएम तिर्वा को सौंपी गई है। जल्द रिपोर्ट मिलने की उम्मीद है। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। अन्य ग्राम पंचायतों में पट्टा वितरण की जांच करने के लिए संबंधित एसडीएम से कहा गया है।
- रवींद्र कुमार, जिलाधिकारी।
तत्कालीन तहसीलदार की ओर से एक आदेश जारी कर यह सब किया गया है। पूरे मामले की जांच तहसीलदार विश्वेश्वर सिंह से कराई गई है। खामा ग्राम प्रधान के आरोप सही पाए गए हैं। किन्हीं कारणों से जांच रिपोर्ट आज नहीं मिल सकी है। उम्मीद है कि सोमवार तक रिपोर्ट प्राप्त हो जाएगी। जो भी दोषी मिलेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई के लिए जिलाधिकारी से संस्तुति की जाएगी। जमीन का पट्टा देने में बड़ी गड़बड़ी की गई है।
- महेंद्र कुमार, एसडीएम तिर्वा।
... और पढ़ें

42 ग्राम पंचायतों के प्रधान नहीं दे सके 20 करोड़ का हिसाब

कन्नौज। गांवों के विकास कार्य में घोटाले हुए हैं। जिले की 504 ग्राम पंचायतों में 42 विकास के नाम पर खर्च होने वाले करीब 20 करोड़ रुपयों का हिसाब नहीं दे सकी हैं। यह राशि शासन ने राज्य वित्त व अन्य योजनाओं के माध्यम से दी थी। ऑडिट टीम ने 2009-10 से 2017-18 तक का आडिट किया है। आडिट रिपोर्ट जिला पंचायत विभाग को दे दी गई है। डीपीआरओ ने सभी 42 ग्राम प्रधानों को नोटिस भेजकर रिपोर्ट मांगी है। उधर, डीएम ने भी इस पर डीपीआरओ से रिपोर्ट तलब की है।
आडिट टीम ने जिला पंचायत राज अधिकारी को रिपोर्ट भेजकर आरोपित ग्राम प्रधानों, पंचायत सचिवों के बारे में बताया है। कहा गया है कि गांव के पंचायत सचिवों की जिम्मेदारी है कि विकास कार्य में लगने वाली निर्माण सामग्री की खरीद का बिल, वाउचर लें। ऐसा नहीं हुआ। आडिट टीम ने जिले के ब्लाकों के अलग-अलग गांवों में विभिन्न वित्तीय वर्षों के विकास कार्यों का आडिट किया। इस दौरान इन ग्राम पंचायतों के पास अभिलेख न होने का खुलासा हुआ। लेखा परीक्षकों ने निष्कर्ष दिया कि विकास कार्यों के लिए आवंटित धनराशि का गबन हुआ है। वहीं डीपीआरओ जितेंद्र कुमार मिश्रा ने बताया कि ऐसी 42 ग्राम पंचायतें सामने आई हैं। एडीओ पंचायत के माध्यम से नोटिस भेजकर जवाब मांगा गया है।
इन ब्लाकों के गांव हैं शामिल
डीपीआरओ जितेंद्र कुमार मिश्रा ने बताया कि आडिट टीम की रिपोर्ट में उमर्दा ब्लाक की 17, सौरिख ब्लाक की नौ, छिबरामऊ ब्लाक की एक और कन्नौज ब्लाक की 15 ग्राम पंचायतें शामिल हैं।
ग्राम पंचायतों को नोटिस भेजकर स्पष्टीकरण मांगा गया है। ग्राम पंचायतों से आने वाले स्पष्टीकरण को आडिट टीम को भेजा जाएगा। अगर स्पष्टीकरण से आडिट टीम संतुष्ट नहीं हुई तो हिसाब न देने वाले प्रधानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर रिकवरी कराई जाएगी।
- जितेंद्र कुमार मिश्रा, डीपीआरओ।
पूरे मामले में डीपीआरओ से रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगा कि आखिर कमी कहां पर है। रिपोर्ट का अध्ययन करने के बाद अगर कोई दोषी पाया जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
- रवींद्र कुमार, जिलाधिकारी।
... और पढ़ें

तीन दिन पहले नहर में डूबे बालक का शव मिला

खड़िनी(कन्नौज)। तीन दिन पहले नहर में डूबे बालक का शव आज पानी से ऊपर आ गया। ग्रामीणों ने शव को बाहर निकाला। शव को देखते ही परिजनों में कोहराम मच गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव का पंचनामा भरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया।
गुरुवार को मुख्य बाजार निवासी धीरू का 10 वर्षीय पुत्र अंकित अपनी बुआ के लड़के अर्जुन के साथ नहर के किनारे गया था। शौच के लिए वह निचली गंग नहर की सीढ़ियाें पर पहुंच गया। पैर फिसलने से वह नहर में गिर गया। तेज बहाव के कारण वह डूबने लगा। अर्जुन के शोर मचाने पर आसपास मौजूद लोग अंकित को बचाने के लिए नहर में उतरे। इन्हें सफलता नहीं मिली। इसी बीच कस्बा चौकी पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। गोताखोरों को नहर में उतारकर अंकित की तलाश करवाई गई। तीन दिन तक पुलिस व ग्रामीणों का खोजबीन अभियान चलता रहा। इन्हें सफलता नहीं मिली।
शनिवार सुबह लगभग पांच बजे कस्बे से लगभग दो किलोमीटर दूर ग्राम थुलरिया के पास ग्रामीणों ने एक शव को पानी में उतराते देखा। ग्रामीणों ने नहर से शव को बाहर निकाला। नहर से शव मिलने की जानकारी होने पर अंकित के परिजन पहुंच गए। इनमें कोहराम मच गया। मां सोनी देवी व पिता धीरू पुत्र वियोग में बेसुध हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा भरवाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया।
... और पढ़ें

ट्रक की टक्कर से बाइक चालक और दो महिलाओं की गई जान

तिर्वा(कन्नौज)। तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में बाइक सवार और दो महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गईं। इन्हें हसेरन सीएचसी और फिर मेडिकल कालेज ले जाया गया। दो की मेडिकल कालेज व एक की कानपुर ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई। एक साथ गांव के तीन लोगों की मौत से कोहराम मच गया। पुलिस ने ट्रक को कब्जे में लेकर चालक को पकड़ लिया है। बाइक सवार लोग हेलमेट नहीं लगाए थे।
सौरिख थानाक्षेत्र के भदौरियनपुर्वा गांव में रहने वाली आशा रामबेटी (41) पत्नी विनोद कुमार के पैर में दो दिन पहले चोट लग गई थी। गांव में रहने वाले कप्तान (45) पुत्र झब्बू लाल शुक्रवार करीब 11 बजे बाइक से रामबेटी को औरैया दवा दिलाने जा रहे थे। गांव की सुनीता (40) पत्नी संतोष रास्ते में मिल गईं। इन्होंने बिधूना तक साथ ले जाने के लिए कहा। इससे तीनों लोग एक ही बाइक से औरैया के लिए चल दिए। सौरिख थानाक्षेत्र के हसेरन-खड़िनी मार्ग पर निचली गंग नहर के पास सौरिख कस्बे की ओर से तेज गति में आ रहे ट्रक ने बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में तीनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इन्हें हसेरन सीएचसी ले जाया गया। हालत गंभीर देखकर सभी को मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया। यहां कप्तान और आशा रामबेटी ने दम तोड़ दिया।
चिकित्सकों ने सुनीता को कानपुर के लिए रेफर कर दिया। कानपुर ले जाते समय रास्ते में सुनीता ने भी दम तोड़ दिया। हादसे का शिकार लोग हेलमेट नहीं लगाए थे। पुलिस ने तीनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
... और पढ़ें

पुस्तकालय और खेलकूद पर खर्च धनराशि की जांच शुरू

कन्नौज। प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में पुस्तकालय व खेलकूद सामग्री के लिए भेजी गई धनराशि की जांच शुरू हो गई है। जिलाधिकारी रवींद्र कुमार ने इसके लिए कमेटी का गठन किया है। हर ब्लाक में तीन सदस्यीय कमेटी ने विद्यालयों में पहुंचकर जांच शुरू कर दी है। जांच में गड़बड़ी मिलने पर संबंधित शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई होगी।
पुस्तकालय व खेलकूद सामग्री के लिए प्राथमिक विद्यालय में 10 हजार व उच्च प्राथमिक विद्यालय में 20 हजार रुपये की धनराशि भेजी गई थी। जिले में 1200 प्राथमिक व 453 उच्च प्राथमिक विद्यालय हैं। इस लिहाज से प्राइमरी स्कूलों को एक करोड़ 20 लाख व जूनियर स्कूलों को 90 लाख 60 हजार रुपये भेजे गए थे।
जिलाधिकारी रवींद्र कुमार ने उमर्दा विकास खंड में डीपीआरओ जितेंद्र कुमार मिश्रा, बीईओ अरविंद कुशवाहा, वित्त एवं लेखाधिकारी (बेसिक) अमित कुमार सिंह, सौरिख ब्लाक में जिला अल्पसंख्यक बचत अधिकारी छोटे लाल, बीईओ ओमप्रकाश वर्मा, लेखाकार (बेसिक) नवीन चंद्र भगोलीवाल, जलालाबाद ब्लाक में महाप्रबंधक उद्योग विभाग वीपी वाजपेई, बीईओ ओमप्रकाश वर्मा, लेखाकार बीएसए कार्यालय महेश चंद्र शाक्य, हसेरन ब्लाक में जिला कृषि अधिकारी राम मिलन परिहार, बीईओ जय सिंह, सहायक वित्त एवं लेखाधिकारी उपकृषि निदेशक कन्नौज अजीत कुमार सिंह, गुगरापुर ब्लाक में जिला उद्यान अधिकारी मनोज कुमार, बीईओ राजेश कुमार, लेखाकार विकास खंड गुगरापुर वीरेंद्र कुमार, कन्नौज में अधिशासी अभियंता जल निगम अवनीश सिंह, बीईओ शिव सिंह, सहायक वित्त एवं लेखाधिकारी कार्यालय जिला विकास अधिकारी अजय कुमार श्रीवास्तव, तालग्राम ब्लाक में जिला दिव्यांग सशक्तीकरण अधिकारी तनुज कुमार त्रिपाठी, बीईओ पवन कुमार द्विवेदी, लेखाकार (बेसिक) विनोद कुमार भदौरिया, छिबरामऊ ब्लाक में खादी ग्रामोद्योग अधिकारी सतेंद्र कुमार, बीईओ सुनील कुमार दुबे, लेखाकार (माध्यमिक) अरविंद सोनकर, नगर क्षेत्र कन्नौज में अधिशासी अधिकारी नगर पालिका कन्नौज एसके गौतम, नगर शिक्षाधिकारी अरविंद कुमार, सहायक वित्त एवं लेखाधिकारी कार्यालय जिला विकास अधिकारी अजय कुमार श्रीवास्तव को कमेटी में रखा गया है।
कमेटी के सदस्य इस दौरान अन्य मदों में भेजी गई धनराशि की भी जांच करेंगे। सत्यापन कमेटी बीएसए को रिपोर्ट सौंपेगी। बीएसए दीपिका चतुर्वेदी ने बताया कि जांच कमेटी की आख्या मिलने के बाद रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंपी जाएगी। इसके बाद जिन विद्यालयों में गड़बड़ी मिलेगी, वहां कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

कन्नौज: प्रमाणपत्र बनवाने के लिए छिबरामऊ तहसील में वकीलों-लेखपालों मारपीट, तोड़फोड़

कन्नौज के छिबरामऊ में प्रमाणपत्र बनवाने के लिए रिपोर्ट लगवाने गए बार एसोसिएशन के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र वर्मा की महिला लेखपाल से झड़प ने बड़ा बखेड़ा कर दिया। तहसील परिसर में लेखपालों और वकीलों में मारपीट हो गई। बाइक, स्कूटी और कार में तोड़फोड़ भी की गई। कई थानों की फोर्स और पीएसी ने मोर्चा संभाला तब हालात काबू हो सके।

एडीएम यूसी उपाध्याय ने दोनों पक्षों में सुलह के प्रयास किए। वकील देवेंद्र वर्मा ने सात लेखपाल नामजद और 15 अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने का आश्वासन दिया है। बार एसोसिएशन के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र वर्मा व प्रशासनिक सदस्य विमलेश राजपूत सवर्ण आरक्षण के लिए ईडब्ल्यूएस (इक्नामिकली वीकर सेक्शन) आय प्रमाणपत्र के लिए शुक्रवार को रिपोर्ट लगवाने रजलामऊ की लेखपाल मोनिका मिश्रा के पास गए थे।
 
... और पढ़ें

छिबरामऊ तहसील में वकीलों-लेखपालों में मारपीट, तोड़फोड़

छिबरामऊ (कन्नौज)। प्रमाणपत्र बनवाने के लिए रिपोर्ट लगवाने गए बार एसोसिएशन के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र वर्मा की महिला लेखपाल से झड़प ने बड़ा बखेड़ा कर दिया। तहसील परिसर में लेखपालों और वकीलों में मारपीट हो गई। बाइक, स्कूटी और कार में तोड़फोड़ भी की गई। कई थानों की फोर्स और पीएसी ने मोर्चा संभाला तब हालात काबू हो सके। एडीएम यूसी उपाध्याय ने दोनों पक्षों में सुलह के प्रयास किए। वकील देवेंद्र वर्मा ने सात लेखपाल नामजद और 15 अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने का आश्वासन दिया है।
बार एसोसिएशन के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र वर्मा व प्रशासनिक सदस्य विमलेश राजपूत सवर्ण आरक्षण के लिए ईडब्ल्यूएस (इक्नामिकली वीकर सेक्शन) आय प्रमाणपत्र के लिए शुक्रवार को रिपोर्ट लगवाने रजलामऊ की लेखपाल मोनिका मिश्रा के पास गए थे। रिपोर्ट न लगाने पर देवेंद्र वर्मा और मोनिका मिश्रा के बीच कहासुनी हो गई। आरोप है कि इसी दौरान लेखपाल श्वेता कटियार और अखिलेश ने देवेंद्र वर्मा को पीट दिया। साथी के साथ मारपीट की जानकारी पर कई अधिवक्ता तहसील सभागार पहुंच गए। वहां वकीलों की लेखपालों से भिड़ंत हुई। तहसील सभागार में तोड़फोड़ की। परिसर में खड़ीं बाइक, स्कूटी और कार में तोड़फोड़ की गई।
प्रभारी निरीक्षक आलोक कुमार राय पुलिस बल के साथ पहुंच गए। पुलिस ने लेखपालों को तहसील सभागार में बैठाकर वकीलों को बाहर निकाल दिया। गुस्साए वकील लगातार नारेबाजी कर रहे थे। तहसीलदार अभिमन्यु कुमार से भी वकीलों की तीखी नोकझोंक हुई। तिर्वा एसडीएम महेंद्र सिंह व सीओ सुबोध कुमार जायसवाल भी पहुंच गए। कई थानों की फोर्स बुला ली गई। पुलिस ने घायल वकील को चिकित्सीय परीक्षण के लिए भेजा। बार एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेंद्र श्रीवास्तव जीतू व महासचिव ललित प्रताप सिंह ने कहा कि जब तक आरोपी लेखपालों को गिरफ्तार नहीं किया जाएगा, वकील नहीं जाएंगे। एडीएम उमेश चंद्र उपाध्याय लेखपालों व वकीलों से अलग-अलग वार्ता कर समझौते के प्रयास में जुट गए। उधर, लेखपाल मोनिका मिश्रा ने बताया कि वकील देवेंद्र वर्मा फार्म पर रिपोर्ट लगवाने आए थे। उन्होंने जांच करने की बात कही तो वह भड़क गए। रुपये मांगने का आरोप लगाने लगे। ऐसी कोई बात नहीं हुई थी। शासनादेश के अनुसार ही कार्य करने की बात कही गई थी। वकीलों ने उनके व साथियों के साथ मारपीट की है।
... और पढ़ें

कन्नौज: अंडे की ठेली लगाने वाले से रुपये मांगते सिपाही का ऑडियो वायरल, अब गिरी गाज

कन्नौज क गुरसहायगंज में अंडे की ठेली लगाने वाले गरीब को मोबाइल पर धमका कर एक हजार रुपये मांगने वाले सिपाही का ऑडियो वायरल हुआ है। ऑडियो वायरल होने के बाद सिपाही ने पीड़ित के घर जाकर जेल भेजने की धमकी भी दी।

मामले की जानकारी के बाद एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने सिपाही को निलंबित कर दिया है। गुरसहायगंज कोतवाली की सराय प्रयाग चौकी में तैनात सिपाही आदित्य पटेल का अंडे की ठेली और मीट लगाने वाले दुकानदार से एक हजार रुपये मांगने का ऑडियो वायरल हो गया।।

दरअसल, सराय दौलत निवासी जीतू कस्बे में अंडे की ठेली और मीट की दुकान लगाता है। मंगलवार को सिपाही ने उससे एक हजार रुपये मांगे। रुपये न देने पर उसने फोन कर जीतू को जेल भेजने की धमकी दी। पीड़ित जीतू ने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076 पर सिपाही की शिकायत करते हुए ऑडियो वायरल कर दिया।

ऑडियो वायरल होने के बाद सिपाही आदित्य पटेल ने घर जाकर जीतू को धमकाया भी था। गुरुवार को एसपी अमरेंद्र प्रसाद सिंह ने सिपाही को निलंबित कर दिया। पूरे मामले की सीओ सिटी श्रीकांत प्रजापति को जांच सौंपी है। सिपाही आदित्य पटेल की नौकरी को एक वर्ष भी नहीं हुआ है।
... और पढ़ें

सराफ की दुकान से सवा लाख के जेवर-नगदी चोरी

कन्नौज। क्षेत्र में बुधवार की रात चोरों ने सराफ की दुकान का ताला तोड़कर करीब सवा लाख के जेवर-नगदी पर हाथ साफ कर दिया। सुबह वारदात की जानकारी होने पर सराफ के होश उड़ गए। वहीं, मौके पर पहुंची पुलिस ने प्राथमिक जांच में मामला संदिग्ध होने की बात कही है। फिलहाल मामले की गहराई से जांच की जा रही है।
मौसमपुर मौरारा निवासी शुभम वर्मा पुत्र रामनरेश का गोल कुआं के पास मानपुर रोड पर यशोदानगर में मकान है। इसमें निर्माण कार्य चल रहा है। इसी मकान में शुभम ज्वैलर्स के नाम से दुकान है। बुधवार की शाम शुभम दुकान बंदकर मौसमपुर मौरारा स्थित मकान में चले गए। रात में पीछे की दीवार से फांद कर चोर परिसर में घुस गए। करीब तीन दरवाजों का ताला तोड़कर चोर दुकान में दाखिल हुए। चोरों ने तिजोरी तोड़कर इसमें रखी करीब तीन किलो चांदी और छह हजार रुपये पार कर दिए। चांदी की कीमत करीब सवा लाख रुपये बताई गई है। वहीं, गुरुवार की सुबह दुकान खोलने पहुंचे शुभम दुकान और तिजोरी के ताले टूटे देख स्तब्ध रह गए।
फोरेंसिक टीम के साथ पहुंचे सीओ सदर श्रीकांत प्रजापति और कोतवाल विनोद कुमार ने छानबीन शुरू की। शुभम ने चोरी की तहरीर दी है। कोतवाल विनोद कुमार मिश्रा ने बताया कि प्राथमिक जांच में घटना संदिग्ध प्रतीत हो रही है। जांच चल रही है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree