48 घंटे बाद भी पुलिस खाली हाथ

अमर उजाला ब्यूरो/ सलेमपुर Updated Fri, 16 Oct 2015 12:08 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
 व्यवसायी के घर डकैती मामले में दूसरे दिन भी पीड़ित परिवार के सदस्यों के चेहरे पर  घटना का खौफ दिख रहा था। डकैतों के हमले से घायल महिला और बच्ची का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। 
उधर 48 घंटे बीत जाने के बाद भी पुलिस किसी ठोस मुकाम पर नहीं पहुंच सकी है और पूछताछ व जांच में उलझी हुई है। पीड़ित के घर बृहस्पतिवार को पहुंचे एएसपी भी वारदात को डकैती मानने को तैयार नहीं हैं। इससे पहले बुधवार को पुलिस ने मामले में चोरी और मारपीट का केस दर्ज किया था। 
कोतवाली क्षेत्र के जमुआ नंबर दो गांव निवासी व्यवसायी हाजी शाहजहां आलम के घर मंगलवार की रात डंडे व असलहे से लैस डकैतों ने धावा बोल दिया। करीब 12 की संख्या में कच्छा बनियान पहने डकैतों ने घर में आधे घंटे तक घर में तांडव किया। 
लूटपाट का विरोध करने पर डकैतों ने लुबाना खातून का मारकर सिर फोड़ दिया और चांद की बेटी करिश्मा का हाथ तोड़ दिया। इसके अलावा परिवार के अन्य सदस्यों को भी पीटा। डकैतों ने घर की महिलाओं के शरीर से सभी आभूषण उतरवा लिया। इसके अलावा 25 हजार नगदी और करीब पांच लाख जेवर लूट ले गए।
 पुलिस ने इस अपराध को हल्के में लेते हुए चोरी और मारपीट का केस दर्ज कर लिया। दूसरे दिन व्यवसायी के घर पहुंचे एएसपी एनके सिंह, क्राइम ब्रांच की टीम, सीओ और कोतवाल ने मौके का निरीक्षण किया और पीड़ित परिवार से पूछताछ की। एएसपी ने पीड़ित परिवार से अविलंब घटना का खुलासा करने का आश्वासन दिया।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us