खतरा ए जान बने सड़कों के डिवाइडर

Bareilly Updated Sat, 17 Nov 2012 12:00 PM IST
बरेली। नगर निगम की हद में हाइवे पर डिवाइडर तो बना दिए गए, मगर सुरक्षित सफर के मद्देनजर तय मानकों का पालन नहीं किया जा रहा है। कहीं भी डिवाइडर पर रिफलेक्टर नहीं लगाए गए हैं, जबकि पीडब्लूडी के कायदे के तहत इनको लगाया जाना जरूरी है। नतीजतन आए दिन हादसे हो रहे हैं। जल्दी ही कोहरा पड़ने लगेगा। और तब और भी दिक्कत होगी। लेकिन पीडब्लूडी के इंजीनियर इस खतरे को जानते हुए भी बेखबर बने हुए हैं।
सेटेलाइट से नकटिया जाने वाले रोड पर कुछ दूरी तक डिवाइडर है। रात में यहां इतना अंधेरा रहता है कि अक्सर ही कोई न कोई वाहन डिवाइडर से टकरा जाता है। पिछले बीस दिन में रोडवेज की एक बस और एक ट्रक डिवाइडर से टकरा चुका है। यहां रिफलेक्टर लगाने से इन हादसों से बड़ी ही आसानी से बचा जा सकता है। पीलीभीत बाईपास रोड पर तो कई बार रिफलेक्टर लगाने की आसपास की कॉलोनी के बाशिंदे मांग कर चुके हैं, मगर न तो जनप्रतिनिधि और न ही अफसर इस तरफ ध्यान दे रहे हैं। अक्तूबर में ही यहां एक कार डिवाइडर से टकराकर बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई थी। कई लोग घायल भी हुए। यहां टू लेन सड़क से अचानक डिवाइडर वाले फोरलेन सड़क पर आने से वाहन चलाने वाले संतुलन खो देते हैं। इसलिए रिफलेक्टर की काफी जरूरत है। सबसे ज्यादा व्यस्त सड़कों में से एक है शाहजहांपुर रोड, लेकिन यहां भी वही हाल है। मिनी बाईपास रोड तो रात में चलने लायक नहीं रह गई है। यहां की ज्यादातर स्ट्रीट लाइट भी काम नहीं कर रही हैं। ऐसे में रिफलेक्टर न होने से हादसों की तादाद और भी बढ़ गई है।
पीडब्लूडी के मानकों के मुताबिक, शहर की सीमा के भीतर फोरलेन सड़क पर हर तीन मीटर के अंतर पर एक कैट आई (चमकने वाली डिबिया) होनी चाहिए। यह कैट आई डिवाइडर के दोनों ओर उससे एक से डेढ़ फिट की दूरी पर लगाई जानी चाहिए। इसी तरह से डिवाइडर पर हर पांच मीटर के अंतर पर डेलीनिएटर (छोटे से पोल पर रिफलेक्टर) होने चाहिए। लेकिन शहर में इन मानकों का कहीं भी पालन नहीं किया गया है।
----------

डिवाइडर पर कैट आई और डेलीनिएटर लगाए जाने जरूरी हैं। एक सप्ताह के भीतर प्रस्ताव तैयार करके मंत्रालय को भेज दूंगा। वहां से जल्द स्वीकृति के संकेत मिले हैं।-योगेश पवार, एक्सईएन, पीडब्लूडी

000000000
रिफलेक्टर के लिए कहां और कितनी रकम की जरूरत
------------
सेटेलाइट टी प्वाइंट से संजय नगर तिराहा
दूरी : चार किलोमीटर
कैट आई : 2800
डेलीनिएटर : 1600
रकम : 30.9 लाख रुपये
-----------
सेटलाइट टी प्वाइंट से नकटिया रोड
दूरी : 800 मीटर
कैट आई : 600
रकम : 2.85 लाख रुपये
---------
सेटेलाइट से शहामतगंज
दूरी : 1.5 किलोमीटर
कैट आई : 1000
रकम : 4.75 लाख रुपये
----------
चौपुला से अयूब खां चौराहा
दूरी : 1.0 किलोमीटर
कैट आई : 670
रकम : 3.18 लाख रुपये
-----
मिनी बाईपास रोड
दूरी : 3.40 किलोमीटर
कैट आई : 2266
डेलीनिएटर : 1360
रकम : 25.72 लाख रुपये

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

फुल ड्रेस रिहर्सल आज, यातायात में होगी दिक्कत, कई जगह मिल सकता है जाम

सुबह 10:30 से दोपहर 12 बजे तक ट्रेनों का संचालन नहीं किया जाएगा। कई ट्रेनें मार्ग में रोककर चलाई जाएंगी तो कई आंशिक रूप से निरस्त रहेंगी।

23 जनवरी 2018

Related Videos

प्रेम में बदनामी के डर से नाबालिग ने खुद को फूंका

शाहजहांपुर में एक नाबालिग लड़की ने बदनामी के डर से आग लगाकर जान दे दी। लड़की के प्रेमी ने लड़की के घर फोन करके दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कही। जिसके बाद लड़की ने बदनामी से बचने के लिए ये कदम उठाया।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper