विज्ञापन
विज्ञापन
गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें
Myjyotish

गंभीर से गंभीर परेशानी होगी दूर,ललिता देवी शक्तिपीठ-नैमिषारण्य पर कराएं ललिता सहस्रनाम पाठ, मात्र रु:51/- में,अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने पर करें फोकस

बलरामपुर। बच्चों की शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने पर शिक्षकों को फोकस करना होगा। कोरोना महामारी के चलते बच्चे शिक्षा की मुख्यधारा से दूर हो चुके हैं। शिक्षकों को प्रशिक्षित करने के लिए मास्टर ट्रेनरों को ट्रेनिंग से लैस किया जा रहा है।
यह बातें बीएसए डॉ. रामचंद्र ने गुरुवार को नगर संसाधन केंद्र के जिला स्तरीय शारदा कार्यक्रम के मास्टर ट्रेनरों के तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला के समापन पर वर्चुअल वार्ता के दौरान कही। उन्होंने कहा कि सबसे पहले हमारा फोकस है कि कोरोना महामारी के चलते प्रभावित होने वाली शिक्षा को पटरी पर लाएं। अधिकारियों के साथ-साथ शिक्षकों को कदम से कदम मिलाकर कार्य करना होगा।
जिला समन्वयक सामुदायिक सहभागिता निरंकार पांडेय व एमआईएस अंकुर मिश्र ने मास्टर ट्रेनरों के जिला स्तरीय शारदा प्रशिक्षण कार्यक्रम सफलता के साथ पूरा होने पर बधाई दी। जिले के सभी 10 शिक्षा क्षेत्रों से दो-दो एआरपी को तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल किया गया। प्रशिक्षक के रुप में अरुण कुमार मिश्र, मोहम्मद उस्मान, शैलेन्द्र कुमार सिंह, सुबोध कुमार श्रीवास्तव व मनोज कुमार तिवारी ने 20 मास्टर ट्रेनरों को प्रशिक्षित किया।
प्रशिक्षण के दौरान मास्टर ट्रेनरों को शारदा एप का उपयोग, बच्चों के नामांकन व शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने के बारे में प्रशिक्षित किया गया। परिवार, बाग, गणित, भाषा व पर्यावरण विषयों पर चर्चा की गई।
... और पढ़ें

हड़ताल स्थगित, आज से काम करेंगे अधिवक्ता

बलरामपुर। वकीलों की दस दिन से चल रही हड़ताल बार संघ ने सात नवंबर तक स्थगित कर दी। हड़ताल के दौरान काम करने वाले वकीलों पर कार्रवाई करने का निर्णय बार संघ की बैठक में गुरुवार को लिया गया।
यह जानकारी देते हुए कलेक्ट्रेट बार संघ के अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद द्विवेदी ने बताया कि बार संघ की बैठक में वरिष्ठ अधिवक्ता सनातन देव त्रिपाठी व हरैया ब्लॉक प्रमुख विशाल सिंह के बीच हुए विवाद में अधिवक्ता ब्लॉक प्रमुख व उनके सहयोगियों की गिरफ्तारी के लिए 12 अक्तूबर से हड़ताल पर हैं। इस मामले में तीन लोगों की गिरफ्तारी की गई है। पुलिस अधीक्षक ने मुख्य आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी का आश्वासन दिया है।
एसपी के आश्वासन व दीपावली को देखते हुए आंदोलन सात नवंबर तक स्थगित कर दी गई है। आठ नवंबर को अधिवक्ता बार संघ भवन में बैठक कर आगे की रणनीति पर चर्चा करेंगे। हड़ताल के दौरान काम करने वाले वकीलों को बार संघ व अधिवक्ता राहत कोष से निकालते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई करने के लिए बार कौंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश को पत्र भेजा जाएगा। इस दौरान गुंजन सिंह, सत्यदेव तिवारी, मुर्तजा हुसैन, अमित पांडेय व देवेश पांडेय आदि अधिवक्ता मौजूद रहेे।
... और पढ़ें

अफसरों को अलर्ट मोड में रहने का फरमान

बलरामपुर। भारी बारिश के चलते राप्ती नदी में उफान आने से जिला प्रशासन की तरफ से सतर्कता बरती जा रही है। सभी विभागों के अफसरों को सतर्क रहने का फरमान जारी किया गया है। इसमें लापरवाही पाए जाने पर कार्रवाई करने की चेतावनी दी गई है।
एडीएम राम अभिलाष ने गुरुवार को बताया कि भारी बारिश के चलते राप्ती नदी के जलस्तर में लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही है। जलस्तर गुरुवार को चेतावनी बिंदु 103.62 मीटर की तुलना में 103.92 मीटर रिकार्ड किया गया जो चेतावनी बिंदु से 30 सेंटीमीटर ऊपर है। ऐसे में आशंका है कि राप्ती का जलस्तर खतरे के निशान 104.62 मीटर के करीब पहुंच सकता है।
बाढ़ की स्थिति बन सकती है। इसके दृष्टिगत यह आवश्यक है कि सभी कार्यालय अधीक्षक व अधिकारी आपदा से निपटने के लिए मानव व भौतिक संसाधनों के साथ अलर्ट मोड में रहें ताकि प्रभावित लोगों को समय से मदद मुहैया कराई जा सके।
तीनों तहसीलों के एसडीएम व तहसीलदारों को एडीएम ने निर्देश दिया है कि क्षेत्र के सभी राजस्व निरीक्षकों व हल्का लेखपालों को कार्य क्षेत्र में क्रियाशील कर दें। रोजाना सुबह सात बजे से किसी प्रकार की घटना होने पर तत्काल आपदा के व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए सूचना दें ताकि समस्या का समय पर निस्तारण कराया जा सके।
... और पढ़ें

सामान्य जांच के साथ लिया जाएगा वर्गवार सैंपल

बलरामपुर। कोरोना महामारी पर नियंत्रण के लिए टीकाकरण के साथ जांच को काफी महत्वपूर्ण माना गया है। कई दिनों से कोरोना का एक भी पॉजिटिव केस न मिलने के बावजूद जिले में टेस्टिंग की रफ्तार बढ़ाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की तरफ से हर संभव प्रयास किया जा रहा है। जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग की तरफ से स्वास्थ्य केंद्रों के अलावा अन्य सेंटरों पर भी टीम भेजकर सैंपल लिए जाने का निर्णय लिया गया है।
सीएमओ डॉ. सुशील कुमार ने बताया कि कोविड का पॉजिटिव केस न मिलने के कारण लोग जांच के प्रति लापरवाह हो गए है। जांच करवाने के लिए लोग स्वास्थ्य केंद्रों पर नही आ रहे हैं जिससे जांच की रफ्तार काफी सुस्त हो गई है।
जांच की रफ्तार को तेज करने के लिए कैटेगरी वाइज सैंपलिंग का निर्णय लिया गया है। कैटेगरी वाइज सैंपल के तहत स्वास्थ्य विभाग की टीम शुक्रवार को मिठाई की दुकानो, होटल व रेस्टोरेंट आदि में पहुंचकर दुकानदारों तथा ग्राहकों का सैंपल लेगी।
23 अक्टूबर को दवा की दुकानों, नर्सिंग होम तथा निजी अस्पतालों से दुकानदार, स्वास्थ्य कर्मी व मरीजों का सैंपल लिया जाएगा। 24 अक्टूबर से जिला कारागार, बाल सुधार गृह, बालिका सुधार गृह, नारी निकेतन तथा वृद्धा आश्रम में जेल कर्मी, सुरक्षा कर्मी, कैदी व सुधार गृह में रहने वाले सभी लोगों की जांच की जाएगी। 25 अक्तूबर को सभी कार्यालयों में संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों का सैंपल लिया जाएगा।
26 अक्तूबर को माल तथा बाजार की भीड़भाड़ वाली दुकानों से सैंपलिंग की जाएगी। 27 अक्टूबर को टैक्सी स्टैंड, रिक्शा स्टैैैंड, प्राइवेट बस स्टेशन व रोडवेज बस स्टेशन पर स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंचकर चालक परिचालक व यात्रियों का सैंपल लेगी। 28 अक्तूबर को साप्ताहिक हाट बाजार एवं ग्रामीण क्षेत्र के बाजारों में पहुंचकर सैंपल लिया जाएगा।
29 अक्तूबर को इलेक्ट्रानिक दुकान, साइकिल व मोटर साइकिल की दुकान, बर्तन की दुकान तथा आभूषण वाली दुकानों से सैंपल एकत्र किया जाएगा। 30 अक्तूबर को पुन: जेल व विभिन्न सुधार गृहों से सैंपल लिया जाएगा। 31 अक्तूबर को सर्राफा बाजार, माल में दुकानदार ग्राहक व सुरक्षा गार्ड का सैंपल एकत्र किया जाएगा। एक नवंबर को मिठाई की दुकान, दो नवंबर को पटाखा बाजार तथा पटरी दुकानदारों से सैंपल लिया जाएगा।
... और पढ़ें

दो सड़क दुर्घटनाओं में एक की मौत, तीन घायल

बलरामपुर। दो सड़क दुर्घटनाओं में एक व्यक्ति की मौत हो गई है। दोनों घटनाओं में तीन लोग घायल हो गए हैं। घायलों की हालत गंभीर होने पर सभी घायल जिला अस्पताल रेफर किए गए हैं।
उतरौला कोतवाल पंकज सिंह ने शुक्रवार को बताया कि ग्राम बारम पूरे कोहिनिया निवासी राजा बाबू बाइक से गांव के रवींद्र कुमार के साथ ससुराल महमूद नगर गए थे। रात में घर लौटते समय उतरौला-बलरामपुर मार्ग पर रमवापुर कला गांव के पास तेज रफ्तार अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मार दिया।
घटना में 23 वर्षीय राजा बाबू की मौके पर ही मौत हो गई और रवींद्र कुमार गंभीर रुप से घायल हो गए। रवींद्र की हालत गंभीर होने पर उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। दूसरी घटना तुलसीपुर थाना क्षेत्र के नेशनल हाइवे टोल प्लाजा से महज 100 मीटर की दूरी अनियंत्रित कार ने बाइक सवार को टक्कर मार दिया।
घटना में बाइक से जा रहे दो लोग गंभीर रुप से घायल हो गए। प्रभारी निरीक्षक तुलसीपुर थाना आलोक राय ने बताया कि सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे और दोनों घायलों को सीएचसी तुलसीपुर में भर्ती कराया गया है।
घायलों की पहचान चमरबोझिया निवासी राजकुमार व ललिया थाना क्षेत्र के पटवा बाजार निवासी राजेश कुमार के रुप में हुई है। हालत गंभीर होने पर दोनों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। मामले की जांच कराई जा रही है।
... और पढ़ें

करवा चौथ पर बाजार गुलजार, उमड़े खरीदार

बलरामपुर। सनातन संस्कृति तथा हिंदू धर्म में सुहागिन महिलाओं के लिए सबसे मुख्य पर्व करवा चौथ में बाजार गुलजार दिख रहे हैं। सुहागिनें आभूषण, कपड़े व सौंदर्य प्रसाधन की जमकर खरीदारी कर रही हैं। व्यापारियों में भी कोरोना काल की मंदी के बाद आबाद हुए बाजार को लेकर खुशी है।
विदित हो कि करवा चौथ का निर्जला व्रत रखकर सुहागिन महिलाएं अपने पतियों की लंबी आयु की कामना करती हैं। हिंदू धर्म में इस त्यौहार का बड़ा ही महत्व है। इसदिन व्रत रखकर पूजा पाठ व चंद्र दर्शन करने के बाद पानी पीकर अपने व्रत का परायण करती हैं।
इस व्रत को लेकर सुहागिनों में भारी उत्साह दिख रहा है। अपने पसंद की साड़ी व आभूषण खरीदने के लिए दुकानों पर महिलाओं की भीड़ जुटी हुई है। इसके साथ ही महिला चूड़ी, बिंदी व सौंदर्य प्रसाधनों के अन्य सामानों की भी खरीदारी कर रही हैं।
बाजार में मिट्टी से लेकर सोने तक का बना करवा बिक रहा है। आभूषण व्यवसायी राजा गुप्ता, बब्बलू गुप्ता, राजीव कुमार व आरिफ एवं साड़ी शोरूम के मालिक रिंकू मदान तथा सौंदर्य प्रसाधन व्यवसायी शफीक उर्फ छोट्टन ने बताया कि कोरोना काल के बाद बाजार में आई रौनक व खरीदारी से काफी अच्छा लग रहा है।
व्यापार में बीते माह में हुए घाटे की भरपाई हो रही है। त्यौहारी सीजन में बाजार में आई यह तेजी दीपावली तक बरकरार रहने की उम्मीद है। लोग अपनी क्षमता के हिसाब से भरपूर खरीदारी कर रहे हैं। महंगाई से लोगों का बजट तो बिगड़ा है। लेकिन त्योहार और आस्था की लहर महंगाई पर भारी दिख रही है।
... और पढ़ें

82 प्रतिशत विद्यार्थियों की प्रेरणा पोर्टल पर हुई फीडिंग

बलरामपुर। जिले के 1871 स्कूलों के विद्यार्थियों के अभिभावकों का प्रेरणा पोर्टल पर ड्रेस, बैग, स्वेटर व जूता मोजा देने का ब्यौरा जुटाया जा रहा है। प्रेरणा पोर्टल पर अब तक जिले के 82 प्रतिशत विद्यार्थियों के अभिभावकों का बैंक खाते का ब्यौरा फीड कराया जा चुका है।
बाकी बचे 18 प्रतिशत विद्यार्थियों के अभिभावकों का ब्यौरा फीडिंग का कार्य कराया जा रहा है। सभी अभिभावकों के बैंक खातों में शासन से सीधे धनराशि भेजी जाएगी। शासन ने 19 से 23 अक्तूबर तक के लिए डाटा फीड होने वाली प्रेरणा पोर्टल की साइट को बंद कर दिया है जिसके चलते डाटा फीडिंग का कार्य रुका हुआ है।
जिला समन्वयक सामुदायिक सहभागिता निरंकार पांडेय ने बताया कि शिक्षा सत्र 2021-22 में ड्रेस, स्वेटर, स्कूल बैग व जूता मोजा खरीदने की धनराशि विद्यार्थियों के माता/पिता/अभिभावकों के बैंक खातों में डीबीटी के माध्यम से भेजी जाएगी।
जिले में बेसिक शिक्षा विभाग के अधीन संचालित 1161 प्राथमिक के एक लाख 40 हजार 961, 260 उच्च प्राथमिक के 23567, 390 कंपोजिट स्कूलों 92177 व बेसिक शिक्षा विभाग से मान्यता प्राप्त 12, चार राजकीय, 19 वित्त पोषित व 25 मदरसों के 21 हजार विद्यार्थियों के अभिभावकों के बैंक खातों में ड्रेस, स्वेटर, बैग व जूता- मोजा खरीदने के लिए धनराशि भेजने के लिए प्रेरणा पोर्टल पर ब्यौरा फीड कराया जा रहा है।
जिले में 19 अक्तूबर तक 2,87,652 की तुलना में 2,35,006 विद्यार्थियों के अभिभावकों का डाटा प्रेरणा पोर्टल पर फीड हो चुका है। शासन स्तर से प्रेरणा पोर्टल की साइट 23 अक्तूबर तक के लिए तकनीकी कारणों से बंद कर दी गई है जिसके चलते बाकी बचे 52,646 विद्यार्थियों के अभिभावकों का डाटा फीड नहीं हो पा रहा है।
साइट खुलने के बाद तत्काल बाकी बचे विद्यार्थियों का डाटा प्रेरणा पोर्टल पर फीड करा दिया जाएगा। प्रति छात्र की दर से ड्रेस, बैग, स्वेटर व जूता-मोजा खरीदने के लिए अभिभावकों के बैंक खाते में करीब 1200-1200 रुपये की धनराशि दी जाएगी। शासन स्तर से बिचौलियों पर शिकंजा कसने के लिए निर्णय लिया गया है। सभी अभिभावक बैंकों में जाकर अपना खाता भी संचालित करा लें जिससे डीबीटी के माध्यम से पैसा ट्रांसफर किया जा सके।
... और पढ़ें

दूसरी डोज के लिए 1.66 लाख लोगों की तलाश

बलरामपुर। कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के प्रति लोगों में भारी उदासीनता दिख रही है। लोगों की उदासीनता के चलते जिले में टीकाकरण की रफ्तार सुस्त हो गई है। जिले में जहां 9 लाख 55 हजार 811 लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दी जा चुकी है वहीं अभी तक मात्र 3 लाख 51 हजार 522 लोगों ने ही दूसरी डोज ली है। समय पूरा होने के बावजूद दूसरी डोज न लेने वाले एक लाख 65 हजार 77 लोगों की तलाश है। टीकाकरण में 96 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति के साथ बलरामपुर नगरीय क्षेत्र जिले में अव्वल है।
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जिले में 18 वर्ष से अधिक आयु वाले कुल 15 लाख 90 हजार 745 लोगों को कोरोना वैक्सीन दी जानी है। इसके सापेक्ष अभी तक 9 लाख 55 हजार 811 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई है जो लक्ष्य के सापेक्ष 60.1 प्रतिशत है।
दूसरी डोज देने के मामले में जिले की रफ्तार काफी सुस्त है। अभी तक मात्र 3 लाख 51 हजार 522 लोगों को ही दूसरी डोज दी जा सकी है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जिले में 5 लाख 16 हजार 599 लोगों को दूसरी डोज देने का समय पूरा हो चुका है। इस तरह 1 लाख 65 हजार 77 लोगों की दूसरी डोज पेंडिंग है।
दूसरी डोज के मामले में जिले की लक्ष्य प्राप्ति मात्र 22.1 प्रतिशत है। बलरामपुर नगरीय क्षेत्र में 64 हजार 254 के सापेक्ष 61 हजार 698 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज एवं 34 हजार 148 लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। इस तरह पहली डोज में 96 प्रतिशत एवं दूसरी डोज में 53.1 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्ति के साथ बलरामपुर नगरीय क्षेत्र जिले में अव्वल है।
... और पढ़ें

पुरानी पेंशन बहाली को लेकर कर्मचारियों ने निकाला पैदल मार्च

बलरामपुर। पुरानी पेंशन बहाली तथा कर्मचारियों की विभिन्न मांगों को लेकर शुक्रवार को कर्मचारियों ने पैदल मार्च निकाला। पैदल मार्च सदर तहसील से शुरु होकर कलेक्ट्रेट पर पहुंचकर समाप्त हुआ। मार्च में कई संगठनों के पदाधिकारी, कर्मचारी, शिक्षक व अन्य कर्मी शामिल हुए।
पुरानी पेंशन बहाली व निजीकरण भारत छोड़ो आंदोलन के तहत शिक्षक, कर्मचारी व अधिकारी मंच के बैनर तले पैदल मार्च निकाला गया। पैदल मार्च में सदर तहसील से शुरू होकर कलेक्ट्रेट में पहुंचकर समाप्त हुई।
पैदल मार्च कर्मचारियों, शिक्षकों व अधिकारियों ने पुरानी पेंशन बहाल करो, तुम्हें पुरानी हमें नई नहीं चलेगा नहीं चलेगा, एक देश दो विधान नहीं चलेगा नहीं चलेगा, पेंशन हक है हमारा हम इसे लेकर रहेंगे तथा बुढ़ापे की लाठी मत छीनो हमें भी बुढ़ापे में जीने दो आदि नारे लगा रहे थे।
कर्मचारियों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन डीएम को सौंपा। इस अवसर पर विशिष्ट बीटीसी शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश कोषाध्यक्ष दिलीप चौहान, जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार शुक्ला, यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष देव कुमार मिश्र, पीयूष शर्मा, सचिन शुक्ला, अशोक सिंह, मो. फैजान अंसारी, तुलाराम गिरि, मसूद आलम अंसारी, सुभाष मिश्रा, निर्मल द्विवेदी, राजेंद्र प्रसाद गुप्ता सहित कई विभागों के अधिकारी, कर्मचारी व शिक्षक आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

उल्टी-दस्त से एक की मौत, 12 बीमार

बलरामपुर। सीएचसी तुलसीपुर क्षेत्र के ग्राम लछुआपुर में संक्रामक रोग का प्रकोप कम नहीं हो रहा है। गांव में उल्टी-दस्त से एक 50 वर्षीय महिला की मौत हो गई है वहीं 12 लोग बीमार हैं। संक्रामक रोग से पीड़ित सभी मरीजों का इलाज निजी चिकित्सकों के यहां चल रहा है। गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम अभी नहीं पहुंची है।
बताते चलें की तुलसीपुर व हरैया सतघरवा ब्लॉक के तमाम गांवों में संक्रामक रोग फैला हुआ है। शुक्रवार को सीएचसी तुलसीपुर क्षेत्र के लछुआपुर गांव में उल्टी-दस्त से 50 वर्षीय महिला कमला देवी की मौत हो गई है। गुरू प्रसाद, मझिला, रीता, सनेही, राधारानी, वीपत, प्रधान, अंकिता, अंशिका, खुश्बू, भोला व दिवसी उल्टी-दस्त से पीड़ित हैं।
सभी लोगों का इलाज आसपास के निजी चिकित्सकों द्वारा किया जा रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि गांव में संक्रामक रोग फैलने की सूचना विभागीय अधिकारियों को दी गई है इसके बावजूद गांव में अभी तक कोई टीम नहीं पहुंची है। सरकारी अस्पताल होने के कारण पीड़ित प्राइवेट डाक्टरों के यहां इलाज कराने को विवश हैं।
ग्रामीणों ने गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजकर दवा वितरण कराने तथा नालियों में कीट नाशक का छिड़काव कराए जाने की मांग जिलाधिकारी से की है। इस संबंध में सीएचसी तुलसीपुर के अधीक्षक डॉ. सुमंत सिंह चौहान ने बताया कि शुक्रवार की शाम को गांव में संक्रामक रोग फैलने की सूचना मिली है।
गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम भेजी जा रही है। आवश्यकता पड़ने पर बीमार लोगों को अस्पताल लाकर इलाज किया जाएगा। उन्होंने गांव वालों को पानी उबालकर पीने तथा साफ-सफाई रखने का सुझाव दिया है।
... और पढ़ें

भारत-नेपाल सीमा पर बनेंगे सुरक्षा के वाच टॉवर

बलरामपुर। भारत-नेपाल सीमा की निगरानी के लिए सुरक्षा के वाच टॉवर का निर्माण कराया जाएगा। नेशनल हाईवे की तरह सीमा से सटी सड़कें बनाई जाएंगी। एसएसबी 9वीं व 50वीं वाहिनी से गृह मंत्रालय ने रिपोर्ट मांगी है।
बजट मिलने के बाद सीमा क्षेत्र में विकास कार्यों का खाका खींचा जाएगा। गृह मंत्रालय ने भारत-नेपाल सीमा पर डेवलपमेंट कराने की पहल की है। वाच टॉवर व चौड़ी सड़क निर्माण होने से सीमा क्षेत्र पर होने वाली देश विरोधी गतिविधियों पर कड़ी नजर रखी जा सकेगी।
गृह मंत्रालय भारत सरकार की तरफ से भारत-नेपाल सीमा क्षेत्र में विकास कार्यक्रमों के तहत वार्षिक कार्ययोजनाओं व त्रैमासिक प्रगति रिपोर्ट उपलब्ध करने के लिए ऑनलाइन प्रबंधन प्रणाली विकसित की गई है।
सीमावर्ती जिले के प्रभारी अधिकारियों के साथ गृह मंत्रालय से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विकास कार्यों को कराने का ब्यौरा तलब किया जा रहा है। डीएसटीओ संजीव कुमार ने बताया कि जिले के चार ब्लॉकों की सीमा भारत-नेपाल से सटी हुई है।
एसएसबी 9वीं वाहिनी के क्षेत्र में हरैया सतघरवा, तुलसीपुर व गैसड़ी ब्लॉकों की और 50वीं वाहिनी के क्षेत्र में पचपेड़वा ब्लॉक की सीमा जुड़ी है। सीडीओ रिया केजरीवाल से 9वीं वाहिनी के सहायक कमांडेंट ने बताया कि हरैया सतघरवा, तुलसीपुर व गैसड़ी सीमा पर नेशनल हाइेव, राजमार्ग व अन्य मार्गों की मरम्मत कराने की आवश्यकता है।
मार्गों पर प्रकाश की कोई व्यवस्था नहीं है। भारी ट्रकों के पार्किंग व नई तकनीक से सघन सुरक्षा जांच की कोई व्यवस्था नहीं है। सीमा क्षेत्र में वाच टॉवर भी नहीं लगे हैं। एसएसबी 50वीं वाहिनी के सहायक कमांडेंट ने बताया कि पचपेड़वा ब्लॉक में आने वाले नेशनल हाईवे, राजमार्ग व अन्य मार्गों की स्थिति दयनीय है।
मरम्मत व चौड़ीकरण कराने की आवश्यकता है। वन क्षेत्र की छह सीमा चौकियों तक जाने के लिए कोई मार्ग नहीं है। सीमावर्ती मार्गों पर प्रकाश की कोई व्यवस्था नहीं है। ट्रकों की चेकिंग निरंतर की जा रही है। ट्रकों के ओवरलोड पाए जाने पर कार्रवाई भी की जा रही है।
क्षेत्र की चार सीमा चौकी त्रिलोकपुर, मजगवां, बेलभरिया व गिधवा में वाच टॉवर लगाने का प्रस्ताव भेजा गया है जो प्रस्तावित है। दोनों वाहिनी के प्रस्तावों को गृह मंत्रालय को भेजा गया है। गृह मंत्रालय से बजट मिलने के बाद भारत-नेपाल सीमा पर नेशनल हाइवे जैसी सड़कों का निर्माण, मार्गों पर प्रकाश की व्यवस्था, वाच टॉवरों के निर्माण, ट्रकों के पार्किंग व सघन सुरक्षा जांच जैसे सभी विकास कार्य कराए जाएंगे।
भारत-नेपाल सीमा से सटे क्षेत्रों में नेशनल हाइवे जैसी सड़कों, मार्गों पर प्रकाश की व्यवस्था, वाच टॉवरों के निर्माण, ट्रकों के पार्किंग व सघन सुरक्षा जैसे विकास कार्यों को कराने के लिए गृह मंत्रालय को रिपोर्ट भेजी गई है।
... और पढ़ें

फरार ब्लाक प्रमुख की बढ़ी मुसीबत, इनाम घोषित

बलरामपुर। बीते दिनों जमीन के विवाद में वकील से मारपीट और पुलिस कर्मियों के साथ हुई अभद्रता के मामले में पुलिस ने आरोपी हरैया सतघरवा के ब्लॉक प्रमुख विशाल सिंह मुसीबत बढ़ती हुई दिख रही है।
मामले में फरार चल रहे ब्लाक प्रमुख के खिलाफ पुलिस ने 25 हजार का इनाम घोषित कर दिया है। कोर्ट से उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट भी जारी हुआ है। पुलिस ब्लाक प्रमुख के शरणदाताओं को भी चिह्नित उनके खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी कर रही है।
नगर कोतवाल संजय कुमार दुबे ने शुक्रवार को बताया कि बीते 10 अक्तूबर को मेवालाल पुलिस चौकी के निकट जमीन विवाद को लेकर सनातन देव त्रिपाठी व विशाल सिंह के बीच मारपीट हुई थी।
ब्लॉक प्रमुख व उनके सहयोगियों ने मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मियों के खिलाफ अभद्रता कर उनका मोबाइल भी छीन लिया था। मामले में सनातन देव त्रिपाठी तथा पुलिस कर्मी कन्हैया लाल की तहरीर पर ब्लॉक प्रमुख विशाल सिंह व अन्य 20 अज्ञात के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया था।
विशाल सिंह फरार चल रहे हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने 25 हजार का इनाम घाषित किया है। साथ ही साथ उनके खिलाफ न्यायालय से गैर जमानती वारंट भी जारी किया गया है। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है। पुलिस फरार ब्लाक प्रमुख के शरणदाताओं को भी चिह्नित कर रही है। इनके खिलाफ भी विधिक कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

खरीफ की फसलें चौपट, रबी की बोआई में देरी

बलरामपुर। मौसम के बिगड़े मिजाज के दौरान चली तेज हवाओं व भारी बारिश ने किसानों की मेहनत पर पानी फेर दिया है। खेतों में पानी भर जाने से खरीफ की फसल चौपट हो गई है। रबी की बोआई में अब देरी होगी। खेत में कटी पड़ी धान की बाली में फफूंदी का खतरा बढ़ गया है। जबकि खेत में गिरने वाली गन्ने व अरहर की फसलों के सूखने का डर भी किसानों को सता रहा है। इसके चलते 40 फीसदी धान और 35 फीसदी गन्ने व अन्य फसलों के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है। इससे छोटे व मध्यम वर्गीय किसानों के समक्ष परिवार के पालन-पोषण का संकट गहरा गया है। इससे राहत दिलाने के लिए सभी ने शासन-प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है।
किसान राम बहोर, शिव कुमार, बलदेव, शिव प्रसाद व कामता प्रसाद आदि ने बताया कि तीन दिनों में तेज हवाओं के साथ हुई बारिश ने खेती किसानी पूरी तरह चौपट कर दी है। इस दौरान धान की कटाई होने के कारण फसल खेत में ही पड़ी थी तभी बारिश के रुप में आसमान से बरसी आफत ने पूरी मेहनत पर पानी फेर दिया। बेमौसम हुई इस बारिश से धान की फसल को 40 प्रतिशत से अधिक का नुकसान हुआ है। गन्ना व अरहर की फसल गिरने से अब इसके सूखने का डर भी सताने लगा है। उड़द व अन्य फसलों को भी भारी नुकसान हुआ है।
किसानों का कहना है कि मौसम की इस मार से खरीफ की फसलों में नुकसान होने के साथ रबी की बोआई में भी देरी होगी। खेतों में पानी भर जाने के चलते लाही, सरसों व आलू के साथ ही गेहूं की बोआई का पिछड़ना भी तय है। खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 में जिले के ढाई लाख किसानों ने धान, मक्का, ज्वार, उड़द, अरहर, तिल व मूंगफली की बोआई की है। जिले के एक लाख 90 हजार किसानों ने 93049.36 हेक्टयर क्षेत्रफल में गन्ने की बोआई की है।
धान का क्षेत्रफल- 109797 हेक्टेअर
मक्का 2474 हेक्टेअर
ज्वार 5 हेक्टेअर
उड़द 1820 हेक्टेअर
अरहर 10386 हेक्टेअर
तिल 18 हेक्टेअर
मूंगफली 10 हेक्टेअर
गन्ना 93049.36 हेक्टेअर
101 न्याय पंचायतों में गठित की गई टीम
जिले में बीते तीन दिनों की भारी बारिश व तेज हवाओं से फसलों के नुकसान का आंकलन कराने के लिए 101 न्याय पंचायतों में टीमें गठित कर दी गई हैं। टीमों में कृषि विभाग के कर्मी के साथ हल्का लेखपाल, रोजगार सेवक व गांव के दो-दो किसानों को शामिल किया गया है। टीम के आंकलन में 33 प्रतिशत से अधिक का नुकसान होने पर किसानों को आपदा प्रबंधन से मदद मुहैया कराई जाएगी। फसल बीमा कराने वाले किसानों से अपील की गयी है कि कृषि विभाग के कर्मी, बैंक या बीमा कंपनी को तत्काल सूचना देकर धान के नुकसान का आंकलन कराएं तभी नुकसान का मुआवजा दिलाया जा सकेगा। - आरपी राना, जिला कृषि अधिकारी
किसानों को मदद देने की कवायद शुरू
- बीते तीन दिनों की भारी बारिश को ध्यान में रखते हुए निरीक्षण के लिए राजस्व अधिकारियों की टीमें गठित कर दी गई हैं। बारिश से अभी तक जिले में किसी के मकान गिरने व हताहत होने की सूचना नहीं मिली है। सभी टीमें भ्रमण कर रही हैं। टीमों से मिलने वाली भ्रमण रिपोर्ट के आधार पर पीड़ितों को मदद पहुंचाने की कार्रवाई की जाएगी। - श्रुति, डीएम
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00