विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

अयोध्या प्रकरणः कल्याण सिंह बतौर आरोपी 27 को अदालत में तलब, विशेष न्यायाधीश ने दिया आदेश

अयोध्या प्रकरण के विशेष न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह को बतौर आरोपी तलब किया है।

22 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

बहराइच

रविवार, 22 सितंबर 2019

तेज बारिश से उखड़ गईं सड़कें, चलना दुश्वार

बहराइच। तेज बरसात होने से सड़कों के निर्माण में की गई मानकों की अनदेखी उभरकर सामने आ गई है। बरसात के चलते पानी भरने से कई जगहों पर सड़कों की गिट्टियां गायब हो गई हैं। सड़कों पर बड़े-बड़े पत्थर ही नजर आ रहे हैं।
जिले में एक साल के अंदर 1500 किलोमीटर सड़क का निर्माण किया जाने का दावा किया गया है, जिस पर करीब 43 अरब रुपये खर्च किए जा चुके हैं। अरबों रुपये की लागत आने के बाद भी सड़कें बदहाल हो गई हैं। इससे लोगों का बदहाल सड़कों पर चलना दुश्वार हो गया है। ग्रामीण इलाकों में भी जर्जर सड़कों से गुजरना मुश्किल हो गया है।
जनपद में दो दिन पहले तेज बरसात हुई थी। मौसम विभाग के अनुसार करीब सौ मिलीमीटर बरसात दर्ज की गई थी। तेज बरसात ने जनजीवन अस्तव्यस्त कर दिया था। बरसात के बीच ब्राडबैंड से लेकर बिजली आपूर्ति तक ठप हो गई थी। इसी बरसात में सड़कों की हालत भी खराब हो गई।
शहरी इलाके में सड़कों पर करीब तीन से चार फुट तक पानी भर गया था। इससे सड़कों के निर्माण में मानकों की अनदेखी खुलकर सामने आ गई है। शहर क्षेत्र में सड़कों की हालत बदतर हो गई है। घंटाघर से अस्पताल चौराहा जाने वाले मार्ग पर जगह-जगह गहरे गड्ढे हो गए हैं।
जिला प्रशासन की ओर से एक साल के अंदर 1500 किलोमीटर नई सड़कों के निर्माण का दावा किया गया है, जिस पर एक साल में ही 43 अरब 41 लाख रुपये खर्च भी किए जा चुके हैं। लेकिन इतनी बड़ी रकम खर्च होने के बाद भी सड़कों पर बने गड्ढे निर्माण कार्यों में बरती गई धांधली की बानगी को बयां कर रहे हैं। कई स्थानों पर सड़कें पूरी तरह से उखड़ गई हैं। सड़कों पर बड़े-बड़े पत्थर हादसों का सबब भी बन रहे हैं।
पुलिस लाइन रोड
गुरुनानक चौक से पुलिस अधीक्षक आवास की ओर जाने वाले मार्ग पर सदर विधायक और पूर्व बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री अनुपमा जायसवाल के आवास के ठीक सामने सड़क पर बड़ा गड्ढा हो गया है। आधी सड़क में पानी भरा रहता है। इस मार्ग पर कई स्कूलों के होने के कारण स्कूली बच्चों के हादसों में घायल होने की संभावना भी बनी रहती है।
छोटी बाजार रोड
शहर के घंटाघर मुख्य चौराहे से मुड़ते ही सबसे बड़ा गड्ढा मिलता है। इसके बाद चित्रशाला टॉकीज से आगे बढ़ने पर मिश्रा धर्मशाला जाने वाले मोड़ पर ही सड़क टूटी हुई है। इस मोड़ पर कई लोग गिरकर घायल भी हो चुके हैं। छोटी बाजार मुख्य चौराहे और ट्यूबवेल के करीब भी सड़क पूरी तरह से उखड़ चुकी है। कानूनगोपुरा चौकी के निकट भी हालात काफी खराब हैं।
रायपुर राजा रोड
जेल रोड स्थित इलाहाबाद बैंक के मंडलीय कार्यालय के ठीक सामने से आल सेंट पब्लिक स्कूल जाने वाले मार्ग की हालत खराब है। बरसात के बीच मार्ग पर लगी इंटरलॅाकिंग पूरी तरह से उखड़ चुकी है। वहीं स्कूल के ठीक सामने बनी पक्की सड़क भी जर्जर हो गई है। गिट्टियां उखड़ जाने से पत्थर बाहर आ गए हैं। जिससे स्कूल जाने वाले बच्चों के घायल होने का खतरा भी बना हुआ है।
फायर स्टेशन रोड
शहर के पीपल चौैराहा से होकर फायर स्टेशन जाने वाले मार्ग पर गुरुद्वारा स्थित है। गुरुद्वारे के ठीक सामने ही बरसात के कारण मार्ग पर बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं। मोड़ होने के कारण कई बार तेज रफ्तार बाइक सवार गिरकर घायल हो चुके हैं। इसके बावजूद प्रशासन की ओर से मार्ग को ठीक कराए जाने को लेकर कोई कदम नहीं उठाए गए हैं।
मार्ग निर्माण की करायी जाएगी जांच
तेज बरसात के कारण शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में मुख्य मार्गों के जर्जर होने की सूचना मिली है। लोक निर्माण विभाग और नगर पालिका से सूचनाएं मांगी गई हैं। जहां भी मानकों की अनदेखी की गई होगी। जांच कराकर उन सभी मामलों में कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
- अरविंद चौहान, सीडीओ बहराइच
... और पढ़ें

गांवों में भरा पानी, जनजीवन अस्त-व्यस्त

गायघाट/बिछिया (बहराइच)। नेपाल के पहाड़ी इलाकों में लगातार हो रही बरसात के कारण सरयू नदी भी उफान पर आ गई है। मोतीपुर क्षेत्र में सरयू नदी की बाढ़ से करीब 10 गांव पूरी तरह से प्रभावित हैं। घरों में बाढ़ का पानी घुसा हुआ है, जिससे ग्रामीणों का जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है। सड़कों पर भी पानी चल रहा है। आवागमन प्रभावित होने से लोगों की दिक्कतें बढ़ी हुई हैं। प्रशासन की ओर से लोगों को राहत देने के लिए अभी तक कोई कदम नहीं उठाए गए हैं।
नेपाल के पहाड़ी इलाकों पर भारी बरसात हो रही है। तेज बरसात के बीच नेपाल की ओर से नदी में पानी छोड़ा जा रहा है। सरयू नदी में भी नेपाल का पानी लगातार आ रहा है। गांवों पानी भरने से जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है।
गोपिया बैराज में करीब 15 हजार क्यूसेक पानी शुक्रवार को छोड़ा गया है। यहां सरयू नदी के खतरे का निशान 133.50 सेंटीमीटर है। जबकि नदी का जलस्तर 132 सेंटीमीटर पर चल रहा है। जिसके कारण क्षेत्र के खढ़ैचा, बोटनिया, कल्लूगौढ़ी, सर्रा, पड़रिया, लौकाही आदि गांवों में पानी भर गया है।
सुजौली थाना क्षेत्र के नेपाल सीमा से सटे गांवों में भी बाढ़ का पानी घुसा हुआ है। लोगों के घरों में जलभराव की स्थिति बनी हुई है। सीमा से सटे रमपुरवा और फकीरपुरी गांव में बाढ़ क पानी घुसने के कारण लोगों के घरों में दो से तीन फुट तक पानी भर गया है।
मुख्य मार्गों पर भी पानी भरने से लोगों को आवागमन में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जनजीवन पूरी तरह से प्रभावित हो गया है। प्रशासन की ओर से बाढ़ से लोगों को राहत दिए जाने के लिए अभी तक कोई कदम नहीं उठाए गए हैं।
... और पढ़ें

युवक की लाठियों से पीटकर हत्या

बहराइच। खैरीघाट थाना क्षेत्र के भवनियापुर गांव निवासी एक युवक की शुक्रवार को दोपहर जमीन के विवाद में लाठी-डंडों और ईंट से पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। घटना से ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। युवक की मौत होने से परिवारीजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस मामले में चार लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया गया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।
खैरीघाट थाना क्षेत्र के भवनियापुर गांव निवासी दिलीप कुमार दूबे (35) पुत्र रामचंद्र दूबे का गांव के ही रहने वाले श्याम कुमार से अरसे से जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। इसी जमीन विवाद में कई बार दोनों पक्षों के बीच कहासुनी हो चुकी है।
शुक्रवार की दोपहर भी दोनों पक्षों के बीच जमीन के विवाद को लेकर कहासुनी हो गई। इसी बीच श्यामकुमार पक्ष के लोगों ने दिलीप दुबे पर लाठी-डंडों व ईंटों से हमला कर दिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना से गांव में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में परिवारीजन घायल दिलीप को मेडिकल कॉलेज लाए, यहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
प्रभारी निरीक्षक अरुण द्विवेदी ने बताया कि इस मामले में चार लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उधर, युवक की मौत होने से परिवारीजनों में कोहराम मच गया है।
... और पढ़ें

भारत-नेपाल की खुली सीमा पर बरती जाई विशेष चौकसी

बहराइच। इंडो-नेपाल डिस्ट्रिक्ट लेवल ज्वाइंट को-ऑर्डिनेशन कमेटी की 52वीं बैठक 59वीं बटालियन एसएसबी नानपारा मुख्यालय अगैय्या सभागार में हुई, जिसमें भारत-नेपाल की खुली सीमा पर विशेष चौकसी बरतने पर जोर दिया गया। सीमा सुरक्षा को लेकर दोनों देशों के अधिकारियों ने मंथन ने किया।
बैठक का शुभारंभ करते हुए जिलाधिकारी शंभु कुमार ने पिछली बैठक में उठाये गये मुद्दों पर दोनों पक्षों की ओर से की गयी कार्रवाई पर संतोष व्यक्त किया। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने लोक सभा सामान्य चुनाव 2019 में सहयोग के लिए नेपाल के अधिकारियों का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए बलहा विधान सभा उप चुनाव 2019 को लेकर नेपाल के अधिकारियों से सहयोग की अपेक्षा की।
जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद बहराइच की विधानसभा बलहा का क्षेत्र नेपाल सीमा से मिला हुआ है। नेपाल से भारत आवागमन के लिए नेपालगंज रूपइडीहा मुख्य मार्ग सहित 25 कच्चे पक्के मार्ग चिन्हित हैं।
उन्होंने कहा कि भारत-नेपाल की खुली हुई सीमा के वन क्षेत्र से आच्छादित होने के कारण इसके संवेदनशील और निकासी रास्तों पर दोनों ओर से विशेष चौकसी बरती जाय। उन्होंने सुझाव दिया कि इन क्षेत्रों में संयुक्त रूप से नियमित गश्त किये जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि निगरानी दल का आपस में बेहतर समन्वय एवं संवाद होना चाहिए। इसके लिए उन्होंने दोनों ओर के जिम्मेदार अधिकारियों के टेलीफोन नंबर एक-दूसरे के पास सुरक्षित रखे जाने का भी सुझाव दिया।
आयुक्त देवीपाटन मंडल महेंद्र कुमार ने अधिकारियों को सुझाव दिया कि ज्वाइंट को-ऑर्डिनेशन कमेटी की बैठक से पूर्व सीमा क्षेत्र में कार्य करने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ बैठक कर उनसे क्षेत्र की समस्याओं के बारे में जानकारी प्राप्त कर लें ताकि इस बैठक में उन बिंदुओं पर चर्चा की जा सके।
बैठक में नेपाल के सीडीओ बांके कुमार बहादुर व बर्दिया के राम बहादुर कुरूंगबांग ने आश्वस्त किया कि स्वतंत्र एवं निष्पक्ष उपचुनाव के लिए हर संभव सहयोग दिया जायेगा।
इस मौके पर बलरामपुर के डीएम कृष्णा करुणेश व श्रावस्ती के ओपी आर्य, एसपी श्रावस्ती आशीष श्रीवास्तव, अपर पुलिस अधीक्षक बलरामपुर अरविंद मिश्रा, एडीएम जयचंद्र पाण्डेय, मुख्य राजस्व अधिकारी प्रदीप कुमार यादव, प्रभागीय वनाधिकारी मनीष सिंह व कतर्नियाघाट के जीपी सिंह, उप जिलाधिकारी नानपारा राम आसरे वर्मा, नेपाल के डांग के सीडीओ गोविंदा रिजाल, एसपी नेपाल पुलिस बांके वीर बहादुर ओली आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

जिले में एक नवंबर से शुरू होगी धान की खरीद

बहराइच। खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में मूल्य समर्थन योजना के अंतर्गत जनपद में एक नवंबर से 28 फरवरी 2020 तक धान की खरीद प्रस्तावित है। धान बेचने के लिए किसानों को खाद्य विभाग के पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा। विभागीय पोर्टल पर 25 जुलाई से पंजीकरण की सुविधा किसानों के लिए उपलब्ध है। जिले के किसान अपनी सुविधानुसार किसी भी जन सुविधा केंद्र व साइबर कैफे के माध्यम से अपना पंजीकरण करा सकते हैं।
मूल्य समर्थन योजना में धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1815 रुपये कॉमन तथा ग्रेड-ए के लिए 1835 रुपयेे प्रति क्विंटल निर्धारित है। शासन की ओर से की गयी व्यवस्था के तहत बिना पंजीकरण के सरकारी क्रय केंद्रों पर किसानों के धान की खरीद नहीं होगी।
जिला खरीद अधिकारी जयचंद्र पांडेय ने बताया कि खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में मूल्य समर्थन योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को सीबीएस सुविधा से आच्छादित शाखा में अपना बैंक खाता खुलवाना होगा। ऐसे किसान जिनके द्वारा पूर्व में पंजीयन कराया गया है, उन्हें उसका नवीनीकरण कराना होगा।
इसके अलावा 100 क्विंटल तक की धान की मात्रा को भी सत्यापन से मुक्त रखा गया है। यदि 100 क्विंटल से ऊपर धान की मात्रा है तो तहसीलों से राजस्व विभाग की ओर से सत्यापित करने के बाद ही सरकारी क्रय केंद्रों पर किसानों के धान की खरीद की जाएगी। धान खरीद के समय किसानों को पंजीयन अभिलेख के साथ कंप्यूटराइज्ड खतौनी व फोटोयुक्त पहचान पत्र साथ लाना होगा।
... और पढ़ें

तीन दिन से रिसिया की बिजली आपूर्ति बाधित

रिसिया (बहराइच)। रिसिया नगर क्षेत्र की बिजली आपूर्ति तीन दिन से ठप है। बिजली न मिलने से क्षेत्र की करीब 30 हजार आबादी पानी को भी तरस रही है। 18 सितंबर को हुई तेज बारिश के दौरान क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति ठप कर दी ई थी, मगर तीन दिन बाद भी बिजली सप्लाई शुरू नहीं हो सकी है। बिजली न मिलने से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
रिसिया नगर क्षेत्र की विद्युत आपूर्ति एक माह से बदहाल है। हालात यह हैं कि क्षेत्र में महज 6 से 8 घंटे ही विद्युत आपूर्ति बमुश्किल हो रही है। 18 सितंबर को हुई तेज बारिश के दौरान शाम तीन बजे विद्युत आपूर्ति ठप कर दी गई थी।
गुरुवार की शाम पांच बजे आपूर्ति बहाल हुई, लेकिन इसके बाद 10 बजे सप्लाई फिर बाधित हो गई। हालांकि देर रात 12 बजे आपूर्ति बहाल तो हुई, लेकिन इसके बाद आंख-मिचौली का चला खेल पूरी रात से शुक्रवार तक जारी रहा। बिजली सप्लाई गुल होने से क्षेत्र की करीब 30 हजार आबादी को पानी को भी तरस रही है।
लोगों का आरोप है कि न तो उपकेंद्र पर अवर अभियंता मौजूद रहते हैं और न ही उनका मोबाइल रिसीव किया जाता है। जबकि विद्युत व्यवस्था बाधित हो जाने के बाद क्षेत्र के एसडीओ का मोबाइल भी नहीं उठता है। विद्युत व्यवस्था बदहाल होने से लोगों में आक्रोश है। नागरिकों ने चेतावनी दी है कि अगर शीघ्र ही बिजली आपूर्ति में सुधार नहीं हुआ तो वे सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन शुरू कर देंगे।
स्विच ऑफ बताता रहा एसडीओ का मोबाइल
इस मामले में जब क्षेत्र के एसडीओ हर्षराज रस्तोगी के सीयूजी नंबर 9415901548 पर बात करने की कोशिश की गई, तो कई बार फोन मिलाने के बाद भी उनका मोबाइल स्विच ऑफ बताता रहा। एक्सईएन नानपारा से बात करने पर बताया गया कि बहराइच रिसिया के बीच विद्युत लाइन में खराबी आ जाने से आपूर्ति बाधित हुई थी। लाइनों की जांच कराकर शीघ्र ही आपूर्ति पूरी तरह सुधार दी जायेगी।
... और पढ़ें

डेढ़ माह से 14 गांवों की बिजली ठप

राजीचौराहा (बहराइच)। लाइन खराब होने से क्षेत्र के 14 गांवों की बिजली सप्लाई डेढ़ माह से बाधित है। इसकी शिकायत लोगों ने पावर कॉर्पोरेशन के अधिकारियों से की, लेकिन किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। इससे 30 हजार लोग बिजली को तरस रहे हैं। परेशान ग्रामीणों ने एक्सईएन को पत्र भेजकर तार दुरुस्त कर बिजली आपूर्ति शुरू कराने की मांग की है।
महसी तहसील क्षेत्र के मांझा दरिया बुर्द, रामलला कुट्टी, मास्टरपुरवा, लोधनपुरवा, तिवारीपुरवा, लालजीपुरवा, मुनेसरपुरवा, नईबस्ती, खालेपुरवा, चमारनपुरवा समेत 14 गांवों में डेढ़ माह से बिजली सप्लाई नहीं आ रही है। ग्रामीणों ने बताया कि केवलपुरवा के पास लाइन खराब होने से बिजली आपूर्ति बाधित चल रही है।
बिजली न मिलने से लोगों को परेशानी हो रही है। इस बारे में गांव निवासी धनीराम, विराट यादव, चंद्रमोहन, आज्ञाराम, आशाराम, नकछेद, प्रेमचंद, लालजी, सियाराम आदि ने बताया कि बिजली की लाइन खराब होने की जानकारी विद्युत उपकेंद्र को दी गई। लेकिन शिकायत के बाद भी अभी तक लाइन को दुरुस्त नहीं कराया गया है।
इससे 14 गांवों के करीब 30 हजार लोग बिजली को तरस रहे हैँ। ग्रामीणों ने कहा कि यदि जल्द ही विद्युत सप्लाई शुरू नहीं की गई तो वे चहलारीघाट मार्ग पर जाम लगाकर प्रदर्शन करेंगे।
... और पढ़ें

घर से टहलने निकले युवक की हत्या

चित्तौरा बहराइच)। डीहा-नगरौर मार्ग पर टहलने निकले एक युवक की ईंटों से कूंचकर हत्या कर दी गई। उसका खड़ंजा पर पड़ा मिला। हत्या की सूचना पर कोतवाली देहात और दरगाह थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में ले लिया। हत्या का कारण अभी तक पता नहीं चल सका है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।
कोतवाली देहात क्षेत्र के नगरौर गांव निवासी रियाजुद्दीन (24) पुत्र कासिम अली शुक्रवार की शाम घर से टहलने के लिए निकला था। डीहा-नगरौर मार्ग पर देर रात ग्रामीणों ने उसका शव पड़ा देखा। इसकी सूचना परिवारीजनों को दी गई। युवक की हत्या की सूचना से पूरे इलाके में कोहराम मच गया।
सूचना मिलने पर कोतवाली देहात के प्रभारी निरीक्षक एके सिंह और दरगाह के प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र कुमार श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे। युवक की हत्या ईंटों से सिर कूंचकर की गई है, जिससे शव क्षत-विक्षत हो गया। युवक का मोबाइल व अन्य सामान उसके पास था। जबकि उसकी शर्ट से इयर फोन भी लगा हुआ था।
प्रभारी निरीक्षक डीके श्रीवास्तव ने बताया कि घटनास्थल दरगाह थाना क्षेत्र है। ऐसे में परिवार के लोगों की सूचना पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। इस मामले में अज्ञात बदमाशों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया गया है। मामले की जांच की जा रही है। उधर, सूचना मिलने पर पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर टीएन दूबे भी मौके पर पहुंचे। सीओ ने बताया कि जल्द ही मामले की जांच कर हत्यारों को गिरफ्तार किया जाएगा।
... और पढ़ें

बेकाबू ऑटो पलटा, छह लोग घायल

बहराइच। मेडिकल कॉलेज से इलाज कराकर वापस जा रहे लोगों का ऑटो बेरिया के निकट अनियंत्रित होकर पलट गया, जिससे एक ही परिवार के नवजात समेत छह लोग घायल हो गए। आसपास के लोगों की मदद सेे सभी घायलों को एंबुलेंस से मेडिकल कॉलेज लाकर भर्ती कराया गया है।
हुजूरपुर थाना क्षेत्र के हरिहरपुर रैकवारी गांव निवासी संगीता देवी (28) पत्नी रामगोपाल, शांती देवी (60) पत्नी जगदीश, मीना (65) पत्नी रामसमुझ, काजल (एक दिन) पुत्री रामगोपाल, रामगोपाल (30) पुत्र रामसमुझ, सालिकराम (6) पुत्र नीरज इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज आए थे।
शनिवार को दोपहर में इलाज कराने के बाद सभी लोग एक ऑटो पर सवार होकर वापस घर जाने लगे। इसी दौरान कोतवाली देहात क्षेत्र के बेरिया मंदिर के पास ऑटो अनियंत्रित होकर पलट गया, जिससे वाहन पर सवार सभी लोग दब गए। शोर सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और घायलों को ऑटो से बाहर निकाला।
सूचना के बाद पहुंची एंबुलेंस से सभी घायलों को मेडिकल कॉलेज लाकर भर्ती कराया गया है। सीएमएस डॉ. डीके सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने घायलों का हाल जाना। चिकित्सकों के मुताबिक सभी की हालत खतरे से बाहर है।
... और पढ़ें

बघेल तालाब पर कब्जे को लेकर एनजीटी सख्त

बहराइच। पयागपुर इलाके में स्थित बघेल तालाब को पर्यटन के क्षेत्र में प्रमुख रूप से देखा जाता रहा है। बघेल तालाब के आसपास काफी अतिक्रमण हो गया था। इसके पास हो रहे अतिक्रमण को लेकर एनजीटी से शिकायत की गई थी। इस पर एनजीटी ने मामले की जांच शुरू कराते हुए गूगल मैपिंग के माध्यम से पूरे तालाब की पैमाइश कराकर रिपोर्ट तलब की है। एडीएम व सीडीओ की अध्यक्षता में गठित कमेटी की ओर से अतिक्रमण की जांच शुरू कर दी गई है।
बहराइच वन प्रभाग के सुहेलवा वन्यजीव प्रभाग क्षेत्र के पयागपुर तहसील क्षेत्र में बघेल तालाब स्थित है। बघेल तालाब 1431 हेक्टेयर क्षेत्रफल में फैला हुआ है। बघेल तालाब को प्रदेश के सबसे बड़े वेटलैंड के रूप में पहचान मिली हुई है। बघेल तालाब का मत्स्य आखेट का ठेका भी लाखों रुपये में प्रतिवर्ष मत्स्य पालन विभाग की ओर से कराया जाता है।
इस तालाब में 121 हेक्टेयर में पानी भरा हुआ है। जबकि 441 हेक्टेयर का तालाब है। इसके आसपास नाला और पुनर्वास के साथ ही नवीन परती भूमि पड़ी हुई है। प्राइवेट फारेस्ट भी करीब 23 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला हुआ है। बघेल तालाब पर अतिक्रमण की शिकायत गोरखपुर विश्वविद्यालय के पूर्व उप कुलपति राधेमोहन मिश्रा की ओर से एनजीटी को पत्र भेजकर की गई थी।
एनजीटी के आदेश पर पूर्वी नदी और जल संरक्षण निरीक्षण समिति लखनऊ के सचिव व पूर्व जिला जज राजेंद्र सिंह द्वारा पत्र भेजकर सीडीओ और एडीएम की अध्यक्षता में जांच कराए जाने के निर्देश जारी किए गए थे। इसी के तहत बघेल तालाब को अतिक्रमण मुक्त किए जाने के लिए सीडीओ व एडीएम की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया गया है, जिसमें सीआरओ को भी शामिल किया गया है।
कमेटी की ओर से तालाब बघेल के आसपास की गूगल मैपिंग के माध्यम से जांच भी शुरू की जा चुकी है। सीडीओ अरविंद चौहान ने बताया कि एसडीएम पयागपुर के स्तर से अतिक्रमण की पैमाइश करायी जा रही है। इसके बाद रिपोर्ट एनजीटी को भेजी जाएगी।
लाखो का होता है कारोबार
बघेल तालाब में जलीय उत्पादों का बड़े पैमाने पर उत्पादन होता है। इसमें मछलियों के साथ ही प्रमुख रूप से कमल गट्टे और सिंघाड़े पैदा किए जाते हैं। इनका चोरी छिपे बड़े पैमाने पर कारोबार भी किया जाता है। वन विभाग की ओर से इसे रोकने की दिशा में कोई कदम नहीं उठाए जाते हैं।
नहीं हो सका सौंदर्यीकरण
बघेल तालाब को पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित किए जाने के लिए कई बार जनप्रतिनिधियों ने प्रस्ताव सरकार को दिया। लेकिन बघेल तालाब की दशा को सुधारने के लिए शासन स्तर से कोई प्रयास नहीं किए गए। तीन दशक पूर्व जिले में तैनात एक जिलाधिकारी ने ही यहां पर पर्यटन को विकसित करने के लिए कुछ प्रयास किए थे। उसके बाद से यह वेटलैंड उपेक्षित पड़ा हुआ है।
... और पढ़ें

भूमिगत लाइनों के निर्माण की कराई जाएगी जांच

बहराइच। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने शनिवार को जनपद का दौरा किया। जिलेे की लचर और बदहाल विद्युत आपूर्ति को लेकर उन्होंने अफसरों को कड़ी फटकार लगाई। ऊर्जा मंत्री ने जिले में 90 करोड़ की लागत से चल रहे भूमिगत लाइनों के निर्माण कार्य की जांच के निर्देश जारी किए हैं। वहीं, जिन अधिकारियों के खिलाफ विद्युत आपूर्ति में लापरवाही की शिकायत मिल रही है। उनको गैर जनपद स्थानांतरित किए जाने का भी आदेश दिया है।
प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा दोपहर में बहराइच पहुंचे। उन्होंने कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी व विधायकों के साथ बिजली व्यवस्था को लेकर पावर कॉर्पोरेशन के कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान जनपद में बिजली आपूर्ति की बदहाल व्यवस्था को लेकर ऊर्जा मंत्री ने अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने जनता से 24 घंटे बिजली देने का वादा किया है। अगर इसमें कोई भी अफसर लापरवाही बरतता है तो उसेे बख्शा नहीं जाएगा। ऊर्जा मंत्री के सामने कुछ जनप्रतिनिधियों ने भूमिगत लाइन डालने के कार्य में अनियमितता की शिकायत की।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि 90 करोड़ से अधिक की लागत से भूमिगत लाइनें बिछाने का कार्य हो रहा है। इसमें जिस स्तर पर भी अनियमितता बरती गई हैै, उसकी जांच कराकर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
ऊर्जा मंत्री नेे अधीक्षण अभियंता एसी रघुवंशी को निर्देश दिया कि जनपद के सभी विद्युत उपकेंद्रों पर तैनात अभियंता को तत्काल एक-दूसरे उपकेंद्रों पर स्थानांतरित करने की कार्रवाई की जाए। कोई भी अभियंता लंबे समय तक एक जगह तैनात नहीं रहना चाहिए।
ऊर्जा मंत्री नेे कहा कि जिन अधिकारियों के खिलाफ बिजली आपूर्ति में उदासीनता की शिकायत मिल रही है। उन सभी के खिलाफ जांच कराते हुए गैर जनपद स्थानांतरित किए जाने की कार्रवाई की जाएगी। इस मौके पर प्रदेश संगठन मंत्री अनूप गुप्ता, विधायक सुभाष त्रिपाठी, सुरेश्वर सिंह, सीडीओ अरविंद चौहान, राहुल राय, जिलाध्यक्ष श्यामकरन टेकड़ीवाल, राघवेंद्र सिंह, आनंद गोंड, निशंक त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।
अस्पताल में मरीजों का जाना हाल
ऊर्जा मंत्री समीक्षा बैठक के बाद सीधे मेडिकल कॉलेज के निरीक्षण के लिए पहुंच गए। ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने मेडिकल कॉलेज के इमरजेंसी वार्ड का निरीक्षण किया। इस दौरान यहां पर भर्ती गनियापुर निवासी सत्यनरायन का हालचाल पूछते हुए स्वास्थ्य सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। गुलाम अलीपुरा निवासी किरन सिंह से भी चिकित्सा सुविधाओं के बाबत पूछताछ की। ऊर्जा मंत्री के सामने कुछ लोगों ने सीएमएस द्वारा फोन न उठाए जाने का मुद्दा उठाया। जिस पर ऊर्जा मंत्री ने जल्द ही सुधार लाए जाने की चेतावनी दी। इस मौके पर सीएमओ डॉ. सुरेश सिंह, सीएमएस डॉ डीके सिंह, डॉ. हीरालाल, अस्पताल मैनेजर रिजवान समेत अन्य स्वास्थ्य अधिकारी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

दीवानी न्यायालय में कवि सम्मेलन का आयोजन

बहराइच। अखिल भारतीय हिंदी विधि प्रतिष्ठान के तत्वावधान में शुक्रवार को दीवानी न्यायालय के सभागार में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस मौके पर जनपद के कवियों व साहित्यकारों ने अपनी रचनाओं को प्रस्तुत किया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कवि दिवाकर मिश्रा दिवाकर ने की। कार्यक्रम का आरंभ मुख्य अतिथि प्रथम अपर जनपद न्यायाधीश सुनील मिश्र ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्जवलित कर किया। इस दौरान रामसूरत वर्मा जलज ने मां का स्तवन पंदन करते हुये कहा कि हथवा से मथवा सवांर देतिव माई।
इसके बाद उन्होंने पढ़ा, हमारी आन है हिंदी, हमारी शान है हिंदी। हमारे देश की गौरवमयी पहचान है हिंदी। रमाशंकर राही ने पढ़ा, गैरो सा जो दिखता था, सदियों से जो अपना था। कश्मीर हुआ अपना, अब पीओके भी हमारा है। बृजनंदन पांडेय ने पढ़ा, उमड़ घुमड़ नभ के बादल, चातक के मनमीत बन गये। जब-जब याद तुम्हारी याद आई, मेरे आंसू गीत बन गये।
एसएमएस जैदी ने पढ़ा, क्यों न हर दिल में बने आज मकाने हिंदी, है मोहब्बत का फंसाना ये जबाने हिंदी। रंजीता देवी ने पढ़ा, साया जैसी साथ चली है मेरे, मेरी मां की दुआ, इसलिए सामने मेरे है मुश्किलें शर्मिंदा। अयोध्या प्रसाद शर्मा ने पढ़ा फूल हूं बसुंधरा का, धूल में निवास मेरा। कंटकों की आवाज पे मुधर मुस्काना है।
रायबरेली से आई कवियत्री शविस्ता बृजेश ने पढ़ा, कबीरा की जबां पे मुक्ति का शुचि सार है हिंदी, कभी तुलसी के मुख में भक्ति का उपहार है हिंदी। मगर बरदाई होठों पे यदि आ जाये ये भाषा, तो गोरी के लिए शुचि काल की तलवार है हिंदी। काव्यगोष्ठी में आशुतोष श्रीवास्तव, दिवकार मिश्रा दिवाकर, डा.राधेश्याम पांडेय, डॉ. मुबारक, रईस सिद्दकी आदि ने भी अपनी रचनाओं को प्रस्तुत किया।
... और पढ़ें

डॉक्टरों ने जोड़ दी नवजात की बाहर निकली आंत

बहराइच। रुकनापुर निवासी एक महिला ने 20 दिन पूर्व बेटे को जन्म दिया। इसके बाद पता चला कि बच्चे की आंत बाहर निकली हुई है। इस पर मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों ने लखनऊ रेफर कर दिया। वहां से ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया। लेकिन परिवार के पास पैसे नहीं थे। सभी वापस चले आए। ग्रामीणों के सहयोग से उसका इलाज जिला मुख्यालय हुआ। चिकित्सकों ने ऑपरेशन कर नाभि को आंत से अलग किया। आंत व नाभि को अलग-अलग स्थापित कर जिंदगी दी है।
फखरपुर विकास खंड अंतर्गत रुकनापुर गांव निवासी मोहम्मद साकिब की पत्नी ने लखनऊ के क्वीन मैरी हॅास्पिटल में बेटे को जन्म दिया। लेकिन जन्म के समय ही नवजात की नाभि से आंत बाहर लटक रही थी। इस पर चिकित्सकों ने मेडिकल कॉलेज भेजा।
मेडिकल कॉलेज से नवजात को ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया। लेकिन परिवार के पास पैसे न होने पर 20 दिन के मासूम फरजान को लेकर घर आ गए। ग्रामीणों के सहयोग से उसे जिला मुख्यालय स्थित इंडिया हॉस्पिटल में भर्ती किया गया।
यहां पर शुक्रवार को लखनऊ के चिकित्सक डॉ. रवि दूबे, गयास अहमद की अगुवाई में सफल ऑपरेशन किया गया। डॉ. गयास ने बताया कि नवजात की नाभि से आंत बाहर निकली थी। नाभि और आंत को आपरेशन द्वारा अलग किया गया। इसके बाद बड़ी आंत को अलग स्थापित कर दिया गया। जिससे मासूम को नई जिंदगी मिल सकी।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree