विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

रेड जोन घोषित इलाकों में 60 हजार घरों के लोग चार दिन रहेंगे कैद, अघोषित कर्फ्यू जैसा होगा माहौल

कानपुर में रेड जोन घोषित क्षेत्रों के करीब 60 हजार घरों के लोग चार दिन तक घर से बाहर नहीं निकल पाएंगे। स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की टीमें जब तक एक-एक घर में पहुंचकर स्वास्थ्य परीक्षण नहीं करा लेतीं इन इलाकों में अघोषित कर्फ्यू जैसा माहौल रहेगा।

6 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

बहराइच

सोमवार, 6 अप्रैल 2020

हवन-पूजन के साथ हुआ कन्या भोज

बहराइच। नवरात्र के समापन पर घर-घर नवमी पूजा की गई। कन्याओं के पैर पूजे गए, तिलक लगाकर हलवा चने से भोग लगाया गया। भक्तों ने पूजन-अर्चन के बाद प्रसाद बांटा। मां जगदंबे की आराधना कर उनको विदा किया गया। लॉकडाउन के चलते इस बार श्रद्धालुओं के लिए मंदिर बंद रहे। एक-दो श्रद्धालु मंदिर पहुंचकर बाहर से ही दर्शन कर वापस हो गए। मंदिर के पुजारियों ने वैदिक मंत्रोच्चार के बीच हवन पूजन किया।
कोरोना वायरस के चलते पूरे देश को लॉकडाउन किया गया है। लॉक डाउन केे चलते इस बार भक्तों के लिए मंदिर के दरवाजे बंद रहे। 25 मार्च से शुरू हुए चैत्र नवरात्र का समापन हवन-पूजन व कन्याभोज के साथ हुआ। श्रद्धालुओं ने घर पर ही पूजन किया। इस बार श्रद्धालु स्वयं पंडित की भूमिका में दिखे। परिवार के साथ घर-घर में हवन-पूजन किया गया। माता से पूरे साल कृपा बनाए रखने की कामना की गई।
मां का पूजन करने के बाद कन्याओं के पैर पूजकर भोज लगाया गया। गुरुवार सुबह से ही घरों में हवन-पूजन का सिलसिला शुरू हो गया था। उधर पहली बार मंदिरों में सन्नाटा नजर आया। इक्का-दुक्का श्रद्धालु ही मंदिर पहुंचे। शहर के संहारणी मंदिर, सरयू तट स्थित मरीमाता मंदिर आदि में सुबह से ही भक्तों का तांता लग जाता था। मगर इस बार मंदिरों में सिर्फ पुजारियों ने ही विधि विधान से मां दुर्गा की आराधना कर परंपरा का निर्वहन किया।
घर नहीं जा सके पुजारी
नवरात्र पर्व का समापन पंडित घर पहुंचकर हवन-पूजन के बाद कराते थे, लेकिन इस बार लॉकडाउन के चलते पंडित लोगों के घर नहीं पहुंच सके। इस बार श्रद्धालुओं ने अपने आप मंत्र का जाप करके हवन-पूजन किया।
... और पढ़ें

181 मजदूरों का नेपाली प्रशासन ने नेपाल में रोका प्रवेश

रुपईडीहा (बहराइच)। भारत-नेपाल सीमा पर लगभग 181 नेपाली चार दिन पहले दिल्ली आदि शहरों से सरकार की ओर से रोडवेज की बसों से भेज दिए गए थे। यह दिल्ली आदि शहरों से पैदल ही चल चुके थे। इसको देखते हुए देश व प्रदेश की सरकार ने इनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए रोडवेज बसों की सुविधा प्रदान कराई थी। यह सभी नेपाल के अंदर चले गए थे, मगर दो दिन पूर्व नेपाल की पुलिस ने गृह मंत्रालय का हवाला देते हुए इन सभी को वापस लाकर सीमा पर छोड़ दिया। अब आक्रोशित नेपाली मजदूर नोमेंस लैंड से हटने का नाम नहीं ले रहे थे। इन सभी को अधिकारी समझाने में जुटे हुए थे। बुधवार और गुरुवार को काफी समझाने और नेपाल के अधिकारियों से वार्ता के बाद नेपाल के जैसपुर के शेल्टर होम में इन सभी को ठहराया गया है।
नेपाल के कामगार बड़ी संख्या में देश के अलग-अलग हिस्सों में रहकर मजदूरी करते हैं। चार दिन पूर्व आए यह नेपाली सीमा में प्रवेश कर गए थे, जिन्हें नेपाल के एपीएफ के जवानों ने नेपाली सीमा में जाने से रोक रखा था। दो दिनों तक इनका भरण पोषण भी किया। लेकिन 181 नेपाली कामगारों को नेपाल के पहाड़ एवं दुर्गम क्षेत्रों के रहने वाले हैं। गुमराह करते रहे कि हम तुमको तुम्हारे घरों तक भेज देंगे। इसके बाद उन्हें लाकर इलाका प्रहरी कार्यालय जमुनहा पर बने भारत-नेपाल सीमा के नोमेंस लैंड पर छोड़ दिया गया। सभी ने कहा कि दो दिन तक आर्म्ड पुलिस फोर्स नेपाल के जवानों ने भोजन आदि भी कराया और हमको सीमा पर लाकर छोड़ गए।
अब हम वापस भारत नहीं जाना चाहते हैं। इनको समझाने के लिए नेपाल के बांके जिले के डीएम कुमार बहादुर खड़का, पुलिस अधीक्षक वीर बहादुर ओली, इलाका प्रहरी कार्यालय इंचार्ज माधव रिजाल, एपीफ के अधिकारी ओरेंन तामाड को बुलाया गया। इसके अलावा इन्होंने एक महिला जनप्रतिनिधि को भी बुलाया। बांके के प्रदेश नंबर 5 की क्षेत्र नंबर एक नरेनापुर की विधायक कृष्णा केसी नामुना समेत सभी ने समझाया।
सभी भारतीय क्षेत्र में हालात ठीक होने तक रहने तक का दबाव बना रहे थे। लेकिन उनकी भी बात इन नेपालियों ने नकार दी। नानपारा के गुरगुट्टा आदि स्थानों पर बनाए गए शेल्टर होम में ले जाने के लिए इन नेपालियों को एसडीएम नानपारा रामआसरे वर्मा, सीओ नानपारा अरुण चंद, सशस्त्र सीमा बल के 42 वीं वाहिनी के कमांडेंट प्रवीण कुमार, उप कमांडेंट शैलेश कुमार, सहायक कमांडेंट सुकुमार देववर्मन आदि इन्हें समझाने में जुटे रहे। लेकिन यह नेपाली भारतीय सीमा में जाने के लिए तैयार नहीं थे। इसे लेकर डीएम शंभु कुमार व बांके के डीएम कुमार बहादुर खड़का आदि समेत अन्य लोगों के साथ बात हुई। जिसके बाद सभी को नेपाल के जैसपुर में शेल्टर होम में समझाने के बाद ले जाया गया।
चलता रहा बैठकों का दौर
नेपाल के नागरिकों द्वारा नोमेंस लैंड पर डेरा जमाए जाने की सूचना के बाद जिलाधिकारी शंभु कुमार, एसपी विपिन मिश्रा, एएसपी ग्रामीण रवींद्र सिंह आदि बुधवार देर शाम पहुंचे थे। मगर कोई सहमति नहीं बन सकी। वहीं गुरुवार को भी अधिकारी पहुंचे। जिसके बाद निर्णय हो सका। नेपाली मजदूरों के एक प्रतिनिधि मंडल को भी बैठक में बुलाया गया था।
... और पढ़ें

मुंबई से पैदल चलकर रिसिया पहुंचे पांच ग्रामीण

रिसिया (बहराइच)। क्षेत्र के पांच ग्रामीण बुधवार देर रात मुंबई से पैदल चलकर रिसिया पहुंचे। इसकी सूचना ग्राम प्रधान ने सीएचसी पर दी। चिकित्सकों ने सभी की सेहत जांची। इसके बाद इन्हें प्राथमिक विद्यालय में क्वारंटीन कर दिया।
रिसिया विकास खंड के निबिया हुसैनपुर और मुकाम गांव के लोग मुंबई में रहकर मेहनत मजदूरी करते थे। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार नेे लॉकडाउन की घोषणा 21 दिनों के लिए की है। ऐसे में दूरदराज के लोग पैदल आ रहे हैं। बुधवार देर रात पांच ग्रामीण मुंबई से पैदल चलकर गांव पहुंचे। इसकी सूचना ग्राम प्रधान सहजाद ने स्वास्थ्य केंद्र रिसिया और खंड विकास अधिकारी को दी।
सीएचसी के अधीक्षक डॉ. अतुल श्रीवास्तव ने बताया कि चिकित्सा कर्मियों की टीम गांव भेजकर सभी की जांच करायी गयी। बीडीओ ने रविशंकर प्रधान ने बताया कि सभी को पांच दिनों के लिए प्राथमिक विद्यालय में क्वारंटीन कर दिया गया है। इसकी देखरेख ग्राम प्रधान के साथ पुलिसकर्मी कर रहे हैं।
... और पढ़ें

11 लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा, इंडोनेशिया का जमाती मौलाना भी शामिल

बहराइच। स्वास्थ्य विभाग ने इंडोनेशिया के जमाती मौलाना समेत 11 लोगों के सैंपल जांच के लिए भेजे हैं। लखनऊ मेडिकल कॉलेज में जांच के बाद रिपोर्ट जिले को भेजी जाएगी। 24 घंटे बाद इन सभी की रिपोर्ट आएगी।
जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच प्रतिदिन जारी है। शनिवार देर शाम को स्वास्थ्य विभाग ने इंडोनेशिया के जमाती मौलाना समेत 11 लोगों का सैंपल जांच के लिए लखनऊ भेजा। सीएमओ डॉ. सुरेश कुमार सिंह ने बताया कि 11 लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा गया है।
24 घंटे बाद सभी की रिपोर्ट लखनऊ से जिला मुख्यालय को भेजी जाएगी। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। स्वास्थ्य सूचना व शिक्षा अधिकारी आरके त्यागी ने बताया कि अभी तक जिले में एक भी कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। ऐसे में जिले के लोग लॉकडाउन का प्रयोग करते रहें। उन्होंने लोगों से अपील की कि जिस किसी क्षेत्र में विदेशी दिखे, उसकी सूचना नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर अवश्य दें।
... और पढ़ें

उपमुख्यमंत्री ने दिये निर्देश

बहराइच। उपमुख्यमंत्री व कुलपति ने विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से किसान पीजी कॉलेज प्रशासन से वार्तालाप किया। उपमुख्यमंत्री ने कई बिंदुओं पर दिशा-निर्देश देते हुये आपदा के समय में तैयार रहने की सलाह दी।
किसान पीजी कॉलेज प्रबंध समिति के सचिव मेजर डॉ. एसपी सिंह ने बताया कि उपमुख्यमंत्री व उच्च शिक्षामंत्री दिनेश शर्मा व अवध विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. मनोज दीक्षित द्वारा संयुक्त रूप से विडियो कान्फ्रेंसिंग की गई। उन्होंने बताया कि कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से कॉलेज के एनसीसी व एनएसएस के छात्रों को वालंटियर के तौर प्रशिक्षित करते हुये जरूरत पड़ने पर प्रशासन की मदद करने को कहा गया।
सचिव डॉ. सिंह ने बताया कि कॉलेज के 10 हजार छात्र-छात्राओं व उनके परिवारों के साथ लाखों की संख्या में पूर्व छात्रों को शासन के निर्देशों को अवगत कराते हुये कोरोना वायरस के बचाव के तौर तरीके समझाकर संकट से निपटने के लिए तैयार करने का निर्देश दिया गया। बताया कि उपमुख्यमंत्री द्वारा कॉलेज परिसर की प्रतिदिन साफ-सफाई व सैनिटाइज करने के निर्देश दिया ताकि आवश्यकता पड़ने पर कॉलेज का इस्तेमाल किया जा सके।
साफ-सफाई व सैनिटाइजेशन की रिपोर्ट प्रतिदनि विश्वविद्यालय प्रशासन को भेजने के भी निर्देश देते हुये पीड़ितों की मदद के लिए तैयार रहने तथा सभी कर्मचारियों का वेतन समय से देने के निर्देश दिये हैं।
... और पढ़ें

विधायकों ने दिए कोरोना से लड़ने को एक करोड़ रुपये

बहराइच। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को विधायकों के साथ वीडियो काल के जरिये बात की। सीएम की अपील पर विधायकों नेे एक-एक करोड़ रुपये की राशि अपनी निधि से कोविड केयर फंड में दिए हैं।
कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यूपी कोविड केयर फंड की स्थापना की गई है। इस कोष के माध्यम से कोरोना से लड़ने के लिए दवाएं, उपकरण आदि के इंतजाम किए जाने हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को विधायकों के साथ वीडियो काल के माध्यम से ऑनलाइन बात की। उन्होंने विधायकों से अपनी निधि से फंड में अनुदान देने की अपील की।
सीएम की अपील पर पयागपुर के विधायक सुभाष त्रिपाठी, सदर विधायक अनुपमा जायसवाल, महसी विधायक सुरेश्वर सिंह, नानपारा विधायक माधुरी वर्मा और कैसरगंज के विधायक व सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने एक-एक करोड़ रुपये की निधि को फंड में देने के लिए जिलाधिकारी व सीडीओ को पत्र जारी किए हैं।
... और पढ़ें

निशानगाड़ा रेंज में छोड़ा गया पृथ्वीपुरवा में पकड़ा गया तेंदुआ

उर्रा (बहराइच)। धर्मापुर रेंज के पृथ्वीपुरवा गांव में शनिवार दोपहर एक तेंदुआ आ गया था। तेंदुए ने वन क्षेत्राधिकारी समेत 10 लोगों पर हमला कर घायल कर दिया था। कड़ी मशक्कत कर वनकर्मियों ने पांच घंटे बाद तेंदुए को पिंजड़े में कैद कर लिया था। मुर्तिहा रेंज कार्यालय में स्वास्थ्य जांच के बाद उसे निशानगाड़ा रेंज के घने जंगलों में छोड़ दिया गया।
कतर्नियाघाट वन्यजीव प्रभाग के धर्मापुर रेंज अंतर्गत हरखापुर पृथ्वीपुरवा गांव में शनिवार दोपहर एक तेंदुआ जंगल से भटककर आबादी में पहुंच गया। तेंदुआ एक घर से दूसरे घर में छलांग लगाने लगा। तेंदुए के हमले में वन क्षेत्राधिकारी एपी सिंह समेत 10 लोग घायल हो गए थे। इनमें से दो घायलों की हालत गंभीर होने पर मेडिकल कॉलेज बहराइच रेफर कर दिया गया था। सूचना पाकर वन रेंज के पांच कर्मी, डीएफओ जीपी सिंह, मुर्तिहा पुलिस गांव पहुंची। गांव में पिंजड़ा लगाया गया।
डीएफओ जीपी सिंह ने बताया कि पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद तेंदुए को पिंजड़े में कैद कर लिया गया। उसे मुर्तिहा रेंज कार्यालय लाया गया। बताया कि पशु चिकित्सकों की जांच में तेंदुआ पूरी तरह स्वस्थ रहा। इस पर उसे निशानगाड़ा रेंज के रमपुरवा जंगल में छोड़ दिया गया है। बताया कि तेंदुआ साढ़े तीन वर्ष का नर वयस्क है। वह काफी उछलकूद मचा रहा था। भीड़ से भी परेशान था।
... और पढ़ें

जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने किया जिला कारागार का निरीक्षण

बहराइच। जिलाधिकारी शंभु कुमार ने पुलिस अधीक्षक डॉ. विपिन कुमार मिश्र के साथ जिला कारागार का निरीक्षण कर निरुद्ध बंदियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाये जाने के लिए की गई व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान बैरकों, पाकशाला, कारागार चिकित्सालय के साथ-साथ कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण की रोकथाम के लिए किये गये उपायों के बारे में जानकारी ली। जेल प्रशासन के अधिकारियों को निर्देश दिया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने को लेकर पूरी सजगता बनाये रखें।
कारागार का निरीक्षण कर बाहर आने पर जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक की उपस्थिति में सांसद कैसरगंज बृज भूषण शरण सिंह की ओर से सांसद प्रतिनिधि सुनील सिंह द्वारा बंदियों के लिए काफी मात्रा में सब्जी, बिस्किट, साबुन आदि सामग्री कारागार प्रशासन को भेंट की गई। इस अवसर पर जेल अधीक्षक एएन त्रिपाठी, जेलर वीके शुक्ला, डिप्टी जेलर अखिलेश कुमार, डॉ. मृत्युंजय पाठक आदि लोग मौजूद रहे।
उधर श्री 1008 भगवान महावीर जयंती महोत्सव के मौके पर लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों के लिए श्री दिगंबर जैन समाज बहराइच द्वारा राशन व अन्य सामग्री के 65 किट कलेक्ट्रेट में नगर मजिस्ट्रेट जय प्रकाश को भेंट किया गया। इस अवसर पर जैन समाज के अध्यक्ष अजय कुमार जैन व अन्य पदाधिकारी तथा अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका पवन कुमार मौजूद रहे।
... और पढ़ें

दिल्ली से लौटे युवक की हालत गंभीर

बिछिया (बहराइच)। सुजौली क्षेत्र के एक गांव निवासी युवक दो हफ्ते पूर्व दिल्ली से आया था। दिल्ली से आए युवक की हालत काफी गंभीर है। ग्रामीणों व अन्य लोगों की सूचना पर स्वास्थ्य व पुलिस टीम गांव पहुंची। चिकित्सकों की टीम ने जांच कर युवक का सैंपल जांच के लिए भेजा है।
सुजौली थाना क्षेत्र के एक गांव का रहने वाला 30 वर्षीय युवक दिल्ली में रहकर मजदूरी करता था। वह दो हफ्ते पूर्व गांव आया था। युवक की चिकित्सकों की टीम ने जांच नहीं की। ऐसे में युवक गांव में भी टहलता रहा। अब युवक की हालत गंभीर हो गई। इसकी जानकारी ग्रामीणों व मीडिया कर्मियों ने पुलिस को दी। इस पर सुजौली पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव पहुंची।
चिकित्सकों की टीम ने युवक की जांच की। साथ ही युवक को क्वारंटीन रहने के निर्देश दिए गए हैं। इस मामले में मोतीपुर सीएचसी के अधीक्षक डॉ. रामनरायन वर्मा से बात की गई तो उन्होंनेे बताया कि युवक की जांच की गई है, लेकिन बगैर जांच रिपोर्ट के कुछ कहा नहीं जा सकता है। ऐसे में सैैंपल जांच आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।
... और पढ़ें

बैंकों की लाइन बिगाड़ सकती है ‘सोशल डिस्टेंसिंग’ का फार्मूला

बहराइच। पूरे विश्व में कोरोना वायरस का प्रकोप है। ऐसा इसलिए है कि यह वायरस संक्रमित व्यक्ति के लिए तो खतरनाक है ही साथ ही यह एक-दूसरे में भी तेजी से फैलता है। कोरोना वायरस दुनिया के कई देशों में महामारी का रूप ले चुका है। केंद्र सरकार ने इस वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के सोशल डिस्टेंसिंग फार्मूले को सटीक माध्यम माना है। इसके लिए पूरे देश में 21 दिनों तक लॉकडाउन घोषित किया गया है, लेकिन बैंकों में लगने वाली लाइन सरकार के मंसूबों पर पानी फेर सकती है।
सरकार ने मनरेगा मजदूरों, श्रम विभाग में पंजीकृत मजदूरों, पेंशन धारकों, जनधन खाता धारकों समेत अन्य जरूरतमंदों को लॉकडाउन के दौरान आर्थिक समस्या न हो, इसके लिए सभी के खातों में रुपये डाले हैं। चूंकि देश में 25 मार्च से ही लॉकडाउन लगा है, इसलिए ज्यादातर कामगारों के सामने धन की कमी समस्या खड़ी कर रही है। जिन लोगों के खाते में सरकार द्वारा रुपये भेजे गए हैं वे सुबह होते ही बैंकों की दहलीज पर पहुंच जाते हैं।
बैंक कर्मियों को भी बेहद सावधानी से जमा-निकासी करनी पड़ती है। इसके चलते पहले की अपेक्षा समय भी अधिक लगता है। जागरूकता की कमी कहें या फिर जल्दबाजी बैंकों की लाइन में खड़ा हर कोई यह भूल जाता है कि उसे एक-दूसरे से उचित दूरी बनाकर रखनी है। इलाहाबाद बैंक मटेरा के बाहर लाइन में खड़े धीरज, कल्लन, हरीराम कहते हैं कि दस दिन हो गए हैं लॉकडाउन के दौरान उन्हें घर खर्च चलाने के लिए रुपयों की जरूरत है, ऐसे में बैंकों की लाइन में खड़े होना उनकी मजबूरी है। यही हाल इलाहाबाद बैंक नंदवल , आर्यावर्त बैंक अस्पताल चौराहा समेत अन्य शाखाओं का भी है।
उधर, हर दिन जिले की विभिन्न बैंक शाखाओं व ग्राहक सेवा केंद्रों पर खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में रुपये निकालने के लिए ग्राहकों की भीड़ उमड़ रही है। इस भीड़ में ज्यादातर लोग न तो मास्क पहने होते हैं और न ही लाइनों में उचित दूरी बनाकर रखते हैं। यहां तैनात पुलिस कर्मी जब लोगों से दूरी बनाने को कहते हैं तब कुछ समय के लिए एक आध लोग इधर-उधर हो जाते हैं।
बाहर से कमाकर आए लोगों से खतरा
वैसे तो सरकार ने दिल्ली, मुंबई समेत अन्य शहरों से कमाकर घर लोटे संदिग्धों को कोरंटीन किया हुआ है, लेकिन कुछ लोग जो चोरी छिपकर बच गए हैं सबसे अधिक खतरा उन्हीं से है। इन लोगों से सभी को सजग रहने की जरूरत है।
सभी बैंकों में कोरोना वायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए सुरक्षा किट मौजूद है। बैंकों में अचानक ग्राहकों की भीड़ आ जाने से कुछ दिक्कतें हो रही हैं। बैंक आने वाले सभी ग्राहकों को भी जागरूक होना होगा मास्क पहने कर ही ग्राहक बैंक आने व सोशल डिस्टेंस बनाए रखने के लिए भी जागरूक किया जा रहा है। पुलिस प्रशासन का भी सहयोग मिल रहा है।
-बलराम साहू, एलडीएम बहराइच
... और पढ़ें

बाइक की टक्कर से भाई की मौत, बहन घायल

राजीचौराहा (बहराइच)। धार्मिक स्थल से जल चढ़ाकर साइकिल से वापस आ रहे भाई-बहन को बाइक सवार ने टक्कर मार दी। गंभीर हालत में भाई को अस्पताल ले जाया जा रहा था, लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पुलिस ने बाइक सवार के विरुद्ध केस दर्ज कर उसे हिरासत में ले लिया है।
हरदी थाना अंतर्गत महसी गांव निवासी जीवन सिंह (14) पुत्र अवध बिहारी सिंह अपनी बहन मुस्कान (16) के साथ शनिवार को साइकिल से मन्नादास बाबा जल चढ़ाने गये थे। जल चढ़ाकर साइकिल सवार भाई-बहन घर आ रहे थे। महसी विद्युत उपकेंद्र के निकट साइकिल सवार भाई-बहन पहुंचे।
तभी पीछे से आ रहे बाइक सवार ने साइकिल में ठोकर मार दी। जिससे भाई-बहन घायल हो गए। भाई की हालत गंभीर होने पर उसे एंबुलेंस की मदद से अस्पताल भेजवाया गया। लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। प्रभारी निरीक्षक शिवानंद यादव ने बताया कि बाइक सवार के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया गया है। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।
... और पढ़ें

नमाज पढ़ने जा रहे छह गिरफ्तार, 35 पर केस

बहराइच। खैरीघाट के मुनव्वरपुरवा गांव में नमाज पढ़ने के लिए जबरन लोग एकत्रित हो गए थे। पुलिस ने दबिश देकर लॉकडाउन के दौरान भी भीड़ एकत्रित करने पर छह लोगों को मौके से गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में पुलिस ने 10 नामजद व 25 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
जिले में लॉकडाउन के चलते लोगों के पांच से अधिक की संख्या में एकत्र होने पर पूरी तरह से पाबंदी लगाई गई है। मगर इसके बावजूूद आए दिन उल्लंघन के मामले सामने आते हैं। खैरीघाट थाना क्षेत्र के मुनव्वरपुरवा गांव में बीते दिन जुमे की नमाज के लिए बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो रहे थे। इसकी सूचना मिलने पर प्रभारी निरीक्षक पंकज सिंह ने उप निरीक्षक अरविंद कुमार शर्मा, हेड कांस्टेबल राम प्रवेश पांडेय, सिपाही योगेंद्र यादव और सुनील सरोज के साथ छापा मारा।
इस दौरान मस्जिद के पास नमाज पढ़ने के लिए भीड़ लगाकर इकट्ठा होने पर मिल्की, छैनू, अब्दुल रहीम, मुश्ताक अली, मोहम्मद मुस्तकीम और हसन अली को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने गांव निवासी अब्दुल सद्दाम, शमसेर, करीम, कदीम समेत गिरफ्तार छह लोगों को नामजद करते हुए मुकदमा दर्ज कर लिया है। प्रभारी निरीक्षक पंकज सिंह ने बताया कि गांव निवासी 25 अज्ञात के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया है। चार नामजद व 25 अज्ञात लोग फरार हो गए थे। इन सभी के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।
... और पढ़ें

गांव में घुसा तेंदुआ, रेंजर समेत 10 को किया घायल

उर्रा (बहराइच)। मुर्तिहा कोतवाली क्षेत्र के पृथ्वीपुरवा गांव में शनिवार को दोपहर एक तेंदुआ आ गया। तेंदुए ने घरों में छलांग लगाते हुए लोगों पर हमला शुरू कर दिया, जिससे ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। इसकी सूचना रेंज कार्यालय पर दी गई। वनकर्मी और मुर्तिहा पुलिस मौके पर पहुंची। तेंदुआ एक घर से दूसरे घर में छलांग लगाते हुए ग्रामीणों पर हमला कर रहा था। इस दौरान तेंदुए के हमले में मौके पर पहुंचे रेंजर समेत 10 लोग घायल हो गए। इनमें दो घायलों की हालत गंभीर होने पर उन्हें मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। उधर, तेंदुए के हमले से नाराज ग्रामीणों ने वनकर्मियों का घेराव कर लिया। किसी तरह उन्हें समझा कर शांत कराया गया। देर शाम वन विभाग की टीम ने तेंदुए को पिंजड़े में कैद कर लिया।
कतर्नियाघाट वन्यजीव प्रभाग के धर्मापुर रेंज अंतर्गत हरखापुर के पृथ्वीपुरवा गांव में दोपहर में एक तेंदुआ पहुंच गया। तेंदुए को देख ग्रामीणों में हड़कंप मच गया। लोगों की भीड़ जुट गई। ग्रामीणों को देख तेंदुआ गांव निवासी कृष्ण कुमार के घर में घुस गया। ग्रामीणों ने सूचना रेंज कार्यालय और मुर्तिहा पुलिस को दी। मुर्तिहा के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। वन क्षेत्राधिकारी अभय प्रताप सिंह भी वनकर्मियों के साथ पहुंच गए, लेकिन तेंदुआ कृष्ण कुमार के घर से निकलकर गांव निवासी मनोज तिवारी के अहाते में घुस गया।
इसके बाद उसने उत्पात मचाना शुरू कर दिया। तेंदुए ने गांव निवासी बराती वर्मा (40), भागीरथ (42), निवास वर्मा (28), पंकज गुप्ता (25), डब्बू वर्मा (30), सुशील पोरवाल (30), लक्ष्मी (12), पवन कुमार, सहजराम और वन क्षेत्राधिकारी अभय प्रताप पर हमला कर दिया। तेंदुए के हमले में वन क्षेत्राधिकारी समेत 10 लोग घायल हो गए। इन सभी घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मोतीपुर में भर्ती कराया गया।
घायल पवन कुमार और सहजराम की हालत गंभीर होने पर उन्हें मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। तेंदुए के हमले से आक्रोशित ग्रामीणों ने वन कर्मियों का घेराव कर लिया। काफी मशक्कत के बाद देर शाम वन विभाग की टीम ने तेंदुए को पिंजड़े में कैद कर लिया।
पुलिस के साथ लगे रहे पांच रेंज के वनकर्मी
डीएफओ जीपी सिंह ने बताया कि पृथ्वीपुरवा गांव में तेंदुआ दोपहर में पहुंचा। उसे काबू में करने के लिए धर्मापुर रेंज के अलावा मुर्तिहा, ककरहा, सुजौली और मोतीपुर रेंज के वनकर्मी लगे रहे। मुर्तिहा पुलिस फोर्स भी मौजूद रही, लेकिन भीड़ के कारण तेंदुआ इधर-उधर दौड़ता रहा। किसी तरह उसे पिंजड़े में कैद कर लिया गया।
देर शाम पिंजड़े मेें किया कैद
धर्मापुर रेंज के पृथ्वीपुरवा में तेंदुआ पहुंच गया है। तेंदुए ने रेंजर समेत 10 लोगों पर हमला कर घायल कर दिया। देर शाम वन विभाग की टीम ने तेंदुए को पिंजड़े में कैद कर लिया।
- जीपी सिंह डीएफओ कतर्नियाघाट
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us