विज्ञापन
विज्ञापन

महिला शिक्षक को प्रताड़ित करने पर उपनिदेशक और प्रधानाचार्य पर दर्ज होगा केस

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मंडी Updated Thu, 12 Sep 2019 11:42 AM IST
Case will be filed against Deputy Director and Principal for harassing female teacher
ख़बर सुनें
अध्यापिका को अपमानित करने, झूठा रिकॉर्ड तैयार करने और षड्यंत्र रचने के एक मामले में अदालत ने उप-निदेशक उच्च शिक्षा, प्रधानाचार्य और डीपीई के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश दिए हैं। अदालत ने संबंधित थाना प्रभारी को प्राथमिकी दर्ज करने के बाद इस मामले में जांच करने को कहा है।
विज्ञापन
न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी कोर्ट नंबर (2) प्रतिभा नेगी के न्यायालय ने पीजीटी (अंग्रेजी) अध्यापिका की ओर से दायर याचिका को स्वीकार करते हुए उप-निदेशक उच्च शिक्षा मंडी, संबंधित स्कूल के प्रधानाचार्य और एक डीपीई के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश दिए हैं। अदालत ने अपने आदेश में कहा कि इस मामले में पुलिस तहकीकात जरूरी है। जिससे सही नतीजे पर पहुंचा जा सके। 
विज्ञापन
आगे पढ़ें

शारीरिक बनावट को लेकर अपमानजनक टिप्पणियों के आरोप

विज्ञापन

Recommended

13 सितम्बर से शुरू इस पितृ पक्ष कराएं गया में श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति
Astrology Services

13 सितम्बर से शुरू इस पितृ पक्ष कराएं गया में श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Shimla

धर्मशाला में बारिश ने धोया टी-20 मैच, एचपीसीए ने इस देवता से मांगी माफी, जानिए वजह

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टी-20 शृंखला का पहला मैच बारिश की भेंट चढ़ गया।

16 सितंबर 2019

विज्ञापन

भारतीय वायु सेना को मिले Spice-2000, बालाकोट स्ट्राइक में हुआ था इस्तेमाल

भारतीय वायु सेना को स्पाइस 2000 बम के एडवांस वर्जन की आपूर्ति मिलनी शुरू हो गई है। इस बम का इस्तेमाल बालाकोट एयर स्ट्राइक में किया जा चुका है। जानते हैं स्पाइस 2000 की क्या है खासियत।

16 सितंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree