विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

कुरुक्षेत्र

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020

काफी में नशीला पदार्थ मिलाकर महिला से किया दुष्कर्म


कुरुक्षेत्र। पंजाब के पटियाला शहर से कुरुक्षेत्र आई एक महिला को बस स्टैंड पर नशीली कॉफी पिलाकर दो युवकों ने दुष्कर्म किया। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।
पंजाब के पटियाला की रहने वाली पीड़िता ने इस संबंध में एसपी आस्था मोदी से मिलकर उनको अपना दुखड़ा सुनाया। एसपी के निर्देश पर थाना शहर थानेसर में केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस को दी शिकायत में पीड़िता ने बताया कि वह किसी काम के सिलसिले में विगत दिनों पटियाला से कुरुक्षेत्र आई थी और बस स्टैंड पर खड़ी थी।

इसी दौरान गांव बारना निवासी दो युवक उसके पास आए और बातचीत करने लगे। इन दोनों ने अपना नाम दीपक व नवीन और बरना गांव निवासी बताया। बातों-बातों में दोनों ने उसे कॉफी पीने का आग्रह किया। दोनों के आग्रह पर वह काफी पीने चली गई। पीड़िता का कहना है कि कॉफी पीते ही वह बेहोश हो गई। इसके बाद दोनों आरोपी उसे अपनी गाड़ी से अज्ञात स्थान पर ले गए और दुष्कर्म किया। इसके बाद दोनों उसे अज्ञात स्थान पर छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने इस संदर्भ में थाना शहर थानेसर में केस दर्ज कर जांच महिला सब इंस्पेक्टर रमनदीप कौर को सौंपी है।
... और पढ़ें

कनाडा भेजने के नाम पर 33 लाख हड़पे, तीन गिरफ्तार


कुरुक्षेत्र। पिछले साल कनाडा भेजने का झांसा देकर करनाल के छह लोगों ने एक युवक से 33 लाख रुपये की धोखाधड़ी की। शिकायत पर पुलिस ने करनाल से दो भाइयों समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

गांव बरना निवासी बलजीत सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसका पुत्र सचिन व भतीजा रवि काफी समय से विदेश जाना चाहते थे। इसी सिलसिले में बीते वर्ष फरवरी में उसकी मुलाकात करनाल के तरावड़ी के गांव नदाना कस्बा निवासी विक्रम और नरेश से हुई। ये दोनों पिता-पुत्र है। बलजीत ने इनसे अपने बेटे और भतीजे को करनाल भेजे जाने की इच्छा बताई। इन लोगों ने इस संबंध में करनाल के ही राज जलाला निवासी अशोक , छोटे लाल और रडियाना निवासी अशोक कुमार से मुलाकात कराई।

बातचीत के दौरान इन लोगों ने कहा कि वह पुत्र व भतीजे को कनाडा भेज कर सेटल करा देंगे। बातचीत तय होने पर इन लोगों को 33 लाख रुपये दे दिए। इसके पश्चात इन लोगों ने कहा कि जल्द ही वे इन लोगों को कनाड़ा भेज देंगे। काफी समय बीत जाने के बाद भी विदेश नहीं भेजा और न ही दी गई राशि वापस दी। आरोपी उसे जान से मारने की धमकी भी देने लगे। इस मामले में पुलिस ने आरोपी दो भाई नरेश व अशोक तथा विक्रम को गिरफ्तार कर लिया है। इन तीनों को अदालत में पेश कर रिमांड पर ले लिया।
... और पढ़ें

जेल में कैदियों की बैरकों से मोबाइल व सिम बरामद

कुरुक्षेत्र। जिला जेल परिसर में बंदियों की बैरक से मोबाइल मिलने की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। अब जेल प्रशासन द्वारा जांच के दौरान जेल में बंद तीन बंदियों से तीन मोबाइल फोन, सिम व बैटरियां बरामद की गई हैं।

जेल उपाधीक्षक रघुबीर सिंह ने थाना शहर पुलिस को दी शिकायत में बताया कि जिला जेल में कैदी व विचाराधीन बंदियों की बैरकों की समय-समय पर चेकिंग की जाती है। जेल अधीक्षक के निर्देश पर व मंगलवार को बैरकों की चेकिंग की गई।

इस दौरान बंदी संदीप, मेनपाल, रवि , नवीन आदि की बैरक से तीन मोबाइल फोन, सिम व बैटरियां बरामद की गई। इन तीनों ने जेल के नियमों की अवहेलना की है। यहां यह भी बता दें कि बीते वर्ष पूर्व एसपी के नेतृत्व में अपराध शाखा पुलिस टीम ने भारी पुलिस बल के साथ जेल में दस्तक देकर दर्जनों मोबाइल फोन बरामद किए थे। उसके बाद भी यह सिलसिला जेल में लगाकर चला आ रहा है।
... और पढ़ें

कुरुक्षेत्र में भीषण हादसे ने उजाड़ा परिवार, पिकअप-कार की भिड़ंत में चार महिलाओं की मौत

कुरुक्षेत्र-ढांड मार्ग पर टेरी संस्थान के निकट पिकअप और क्विड कार की भिड़ंत में एक परिवार की चार महिलाओं की मौत हो गई, जबकि कार चालक सचिन और उसकी नन्हीं बच्ची गंभीर रूप से जख्मी हो गए। राहगीरों की सूचना पर पहुंची एंबुलेंस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया, जहां से चिकित्सकों ने पिता व बच्ची को प्राथमिक उपचार के बाद पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया है।

मृतकों की शिनाख्त कैथल के पटेल नगर निवासी 62 वर्षीय सरोज बाला पत्नी हुकमचंद (सास), 23 वर्षीय ज्योति (देवरानी) पत्नी अरुण, 28 वर्षीय सुमन (जेठानी) पत्नी सचिन और 27 वर्षीय सोनिया (ननद) पुत्री हुकमचंद के रूप में हुई है।

जानकारी के अनुसार सचिन की मां सरोज बाला का कुरुक्षेत्र के एक निजी अस्पताल में शुगर का उपचार चल रहा था। सरोज को दिखना भी कम हो गया था। इसकी जांच करवाने के लिए सचिन शुक्रवार सुबह अपने परिवार के साथ कैथल से कुरुक्षेत्र आ रहा था। सुबह करीब नौ बजे उसकी कार की ढांड रोड स्थित टेरी संस्थान के नजदीक सामने आ रही पिकअप से भिड़ंत हो गई। 

इस हादसे में उसकी पत्नी सुमन, छोटे भाई अरुण की पत्नी ज्योति की मौत हो गई। ज्योति कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी स्थित सीनियर मॉडल स्कूल में शिक्षक थी और जिसकी दो माह पहले ही शादी हुई थी। उसके अलावा इस हादसे में उसकी बहन सोनिया, मां सरोज और बेटी जेसिका गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। 

उन्हें एलएनजेपी अस्पताल से प्राथमिक उपचार के बाद पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया था। सोनिया ने पीजीआई ले जाते वक्त एंबुलेंस में ही दम तोड़ दिया, जबकि सरोज की पीजीआई में मौत हो गई। पुलिस ने मृतकों के शवों को कब्जे में लेकर एलएनजेपी अस्पताल के पोस्टमार्टम हाउस में पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया। हालांकि मृतका सरोज के शव का शुक्रवार को पोस्टमार्टम होगा। मामले की जांच कर रहे एसआई बलबीर दत्त ने बताया कि पीड़ितों के बयान दर्ज कर आरोपी पिकअप चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। शीघ्र ही आरोपी चालक को गिरफ्तार किया जाएगा। 
... और पढ़ें
पिकअप ने मारी टक्कर, कार के परखच्चे उड़े पिकअप ने मारी टक्कर, कार के परखच्चे उड़े

हरियाणाः इन्द्री से पेहोवा जा रही बस पलटी, छात्रा और महिला की मौत, 40 सवारियां गंभीर घायल

जिला करनाल के इंद्री बस अड्डे से रवाना हुई तेज रफ्तार बस कुरुक्षेत्र में पिहोवा जाते समय ज्योतिसर के निकट ड्राइवर की लापरवाही की वजह से पलट गई। हादसे में छात्रा सहित एक महिला यात्री की मौत हो गई, जबकि करीब 40 यात्रियों के घायल हो गए। इनमें से 14 यात्री गंभीर रूप से जख्मी हुए है। तीन यात्रियों की गंभीर हालत को देखते हुए पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है, जिनकी हालत नाजुक बताई जा रही है। घायलों में से राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय थानेसर की छात्रा मुस्कान ने पीजीआई में दम तोड़ दिया।

इसके अलावा मृतका महिला यात्री की शिनाख्त स्याणा सैदां निवासी शीला देवी पत्नी गुरदयाल के रूप में हुई है। हादसा वीरवार सुबह करीब पौने 11 बजे हुआ। बस में सवार यात्रियों के मुताबिक प्राईवेट बस का ड्राईवर ओवर स्पीड के बावजूद मोबाइल फोन पर लगातार बातें कर रहा था। उसे कई बार टोका भी गया था, लेकिन वह नहीं माना। आरोपी बस ड्राईवर व कंडक्टर घटना स्थल से मौके का फायदा उठा फरार हो गए हैं, जिसकी तलाश के लिए पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है।
 
बताया गया है कि उक्त बस ड्राइवर की लापरवाही के कारण दो माह पूर्व गांव काच्छवा के एक नौजवान की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी, लेकिन इसके बाद भी संबंधित अधिकारियों ने सबक नहीं लिया। बताया गया है कुरुक्षेत्र-पिहोवा रोड पर पिछले तीन वर्षों से करीब एक किलोमीटर से ज्यादा हिस्सा टूटा हुआ है, इसी जगह पर ओवर स्पीड बस के ड्राइवर के मोबाइल फोन पर बात करते समय हादसा हुआ। बस ड्राइवर की लापरवाही की वजह से वह बस को नियंत्रित नहीं कर सका और अनियंत्रित हुई यह बस डिवाइडर को तोड़ते हुए दूसरी लेन में जाकर पलट गई।

घटना के बाद राहगीरों और आसपास गांव के लोगों ने घायलों को बस से बाहर निकाल कर अस्पताल पहुंचाने में मदद की। हादसे में एक पुलिसकर्मी व होमगार्ड का जवान सहित करीब 40 लोग घायल हुए है। जबकि 14 यात्रियों को गंभीर चोटें आई है। घायलों को जिला अस्पताल में उपचार के लिये दाखिल कराया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। गांव भौर सैयदां निवासी सतनारायण पुत्र जयप्रकाश की शिकायत पर ज्योतिसर पुलिस चौकी में आरोपी बस ड्राइवर के खिलाफ धारा 279, 337 और 304ए के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। चौकी प्रभारी सेवा सिंह ने बताया कि शीघ्र ही आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा।

ये यात्री हुए गंभीर रूप से जख्मी
पूजा कॉलोनी पिहोवा निवासी श्वेता पत्नी सचिन। श्वेता कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से एमएससी की पढ़ाई कर रही है। आकाश नगर निवासी मोहीनी, दीदार नगर निवासी काजल जो जयराम कन्या महाविद्यालय लौहार माजरा की छात्रा है। पटियाला निवासी प्रकाश कौर, ज्योतिसर निवासी ऋषिपाल, पिहोवा के गढी रोड़ान निवासी मखन सिंह, कैथल के गांव कवारत्न निवासी सुरजीत कौर, यमुनानगर निवासी अनिल कुमार, नीलम, गुमथला निवासी संतोष, लक्ष्मण कॉलोनी कुरुक्षेत्र निवासी गीता रानी जख्मी हुई है। इनके अलावा मदनपुर निवासी कुलविंदर कौर और मिर्जापुर निवासी शिवम को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है, जिनकी तबीयत नाजुक बताई जा रही है। राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय थानेसर की छात्रा मुस्कान ने पीजीआई में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।
... और पढ़ें

पेहोवाः एक्सिस बैंक में सेंध मारी, सेफ का लॉक काटकर आठ लाख की नकदी ले उड़े बदमाश

हरियाणा और पंजाब सीमा से लगे जिला कुरुक्षेत्र के गांव टयूकर स्थित ऐक्सिस बैंक के पीछे की नौ इंच मोटी दीवार में सेंधमारी कर आठ लाख कैश ले उड़े। चोरों ने इस वारदात को बैंक में रखी सेफ का लॉक कटर के साथ काटकर अंजाम दिया और फरार हो गए। वारदात के समय बैंक में कोई सुरक्षा गार्ड मौजूद नहीं था।

जिस दीवार में सेंधमारी कर चोर बैंक में घुसे उस दीवार को भी मिट्टी से बनाया है, उस पर सीमेंट से प्लास्टर किया गया है। चोर जाते-जाते बैंक के सीसीटीवी कैमरे, डीवीआर व अलार्म को भी खराब कर गए, ताकि उनका कोई सुराग पुलिस के हाथ न लग सके। सुबह मामले की सूचना पाकर डीएसपी धीरज कुमार व थाना प्रभारी मलकीत सिंह पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे तथा घटनास्थल का जायजा लिया।

बैंक के सह प्रबंधक शिव कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि सोमवार को बैंक के सभी कर्मचारी बैंक को बंद करवाकर अपने-अपने घर चले गए थे। मंगलवार की सुबह जब स्टाफ बैंक पहुंचा तो पता चला कि पिछली दीवार टूटी हुई है। बैंक में रखी सेफ का लॉक भी काटा गया, वहां से नकदी भी गायब है। जिसकी सूचना उन लोगों ने पुलिस को दी। बैंक मेन रोड पर ही स्थित है, लेकिन बैंक के पीछे खेत है। जिसमें ईख की फसल खड़ी है।

इसी का फायदा उठाकर चोर रात के समय खेतों की तरफ से दीवार में सेंधमारी कर बैंक में घुस गए तथा सेफ का लॉक कटर से काटकर वहां से लाखों रुपये चुराकर फरार हो गए। बैंक में गत सोमवार को 10 लाख रुपये की राशि, जिसमें रुपये व सिक्के रखे गए थे। अभी यह कहना मुश्किल है कि चोरों ने कितनी राशि चुराई है। फिलहाल बैंक बाकी की राशि की गिनती कर रहा है। उसके बाद ही स्पष्ट होगा कि कितनी राशि बैंक से चुराई गई है।

10 लाख था बैंक में कैश- थाना प्रभारी
थाना प्रभारी मलकीत सिंह के मुताबिक सोमवार को बैंक में 10 लाख रुपये की रकम रखी थी। देर रात चोर बैंक की पिछली दीवार में सेंधमारी कर बैंक में घुसे। इनहोंने सेफ का लॉक कटर से काटकर करीब 7 से 8 लाख रुपये की राशि चुराई है। बैंक के सह प्रबंध की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है।

पुलिस को उम्मीद जल्द होगा खुलासा
बैंक प्रबंधक पीयूष ग्रोवर व सहप्रबंधक शिव कुमार की ओर से मिली शिकायत के आधार पर पुलिस जांच में जुटी है। माना जा रहा है कि वारदात को अंजाम देने से पहले बैंक की रेकी की गई थी,वहीं कोई ना कोई ऐसा व्यक्ति भी शामिल है,जोकि बैंक की पूरी स्थिति को अच्छी तरह से जानता है। इधर स्थानीय पुलिस के साथ जलिा अपराध शाखा एक और दो की टीमें जांच में जुटी हैं। पुलिस को उम्मीद है कि शीघ्र ही वारदात का खुलासा होगा।
... और पढ़ें

कुरुक्षेत्र में सेवानिवृत्त महिला प्राचार्य की घर में गला रेतकर हत्या, कुंडी लगाकर हत्यारे हुए फरार

पिहोवा स्थित प्रोफेसर कॉलोनी में अज्ञात हमलावरों ने तेजधार हथियार से सेवानिवृत्त 62 वर्षीय प्राचार्या ऊषा गुप्ता की गला रेतकर निर्मम हत्या को अंजाम दिया। यही नहीं, हत्यारों ने प्राचार्या की छाती, पेट और दोनों हाथों के अतिरिक्त अन्य अंगों पर तेजधार हथियार से करीब 20 प्रहार किए। घटना शनिवार देर रात की बताई जा रही है कि अज्ञात हमलावर हत्या को अंजाम देने के बाद घर की बिजली जलती छोड़ मुख्यद्वार पर ताला लगाकर फरार हो गए।

हत्या के अगले दिन जब कैथल निवासी मोनू अपनी बुआ ऊषा गुप्ता से मिलने पिहोवा पहुंचा तो घर के मुख्यद्वार पर ताला लटका मिला, जिसकी सूचना उसने अपने रिश्तेदारों को दी, जिन्होंने ऊषा गुप्ता के फोन पर कॉल कर संपर्क साधने का प्रयास किया, लेकिन ऊषा गुप्ता का फोन बंद आ रहा था।

जैसे ही उषा गुप्ता का देवर सचिन मित्तल और विकास रविवार रात करीब 8 बजे घर पहुंचे तो उन्होंने देखा कि घर की लाइट जली हुई और मुख्यद्वार पर ताला लटका हुआ है, जिसके बाद वे दीवार फांदकर घर में घुसे तो बेडरूम में ऊषा गुप्ता के शव को खून से लथपथ देखकर उनके होश उड़ गए।

इसकी भनक लगते ही रिश्तेदारों में भी हड़कंप मच गया और वे घटनास्थल पर पहुंचने शुरू हो गए। वहीं परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर डीएसपी धीरज कुमार, सिटी चौकी प्रभारी प्रदीप कुमार व सीआईए-1 व 2 की टीमें पुलिस बल सहित घटना स्थल पहुंची और फोरेंसिक टीम को मौके पर बुलाकर साक्ष्य जुटाए। इसके पश्चात पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। जेल से जमानत मिलने के बाद पिहोवा पहुंचे मृतका के छोटे पुत्र योगेश ने अपनी मां ऊषा गुप्ता का अंतिम संस्कार किया।
... और पढ़ें

नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता पहुंची हाईकोर्ट, बोली- पुलिस समझौते का दबाव बना रही, परेशान हो गई हूं

मृतक की फाइल फोटो
नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता ने पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दायर करके आरोप लगाया है कि पुलिस उस पर समझौते का दबाव बना रही है, इसलिए वह काफी परेशान है। याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने कड़ा रुख अपनाया और हरियाणा पुलिस को जमकर फटकार लगाई।

हाईकोर्ट ने कहा कि एक तो मामले में पॉक्सो एक्ट नहीं लगाया, ऊपर से थाने में बुलाकर पीड़िता पर समझौता करने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। हाईकोर्ट ने इस केस की जांच डीएसपी या उससे ऊपर के स्तर के अधिकारी को सौंपने के आदेश जारी कर दिए हैं। यह भी कहा कि यदि पीड़िता को पूछताछ के लिए बुलाना होगा तो उसके लिए पहले मजिस्ट्रेट की अनुमति अनिवार्य होगी।
... और पढ़ें

कुरुक्षेत्रः आयुष विश्वविद्यालय में रैगिंग मामले में पीड़ित को मिली धमकी, छात्र को परिजन ले गए घर

कुरुक्षेत्र स्थित आयुष विश्वविद्यालय में सीनियर्स द्वारा रैगिंग की शिकायत करने के बाद से ही बीएएमएस प्रथम वर्ष के शिकायतकर्ता छात्रों को फोन पर धमकी मिली है। धमकी मिलने से दहशत में आए दोनों छात्रों ने अपने-अपने मोबाइल फोन स्विच ऑफ कर हॉस्टल के अपने कमरों में कैद हो गए है। वहीं, सूचना के बाद एक छात्र के अभिभावक उसे अपने साथ लेकर घर चले गए हैं।

वहीं, विश्वविद्यालय ने इस मामले में पुलिस को शिकायत दी है। इसी घटनाक्रम के बीच दो दिन की छुट्टी पर गए रजिस्ट्रार ने अपने घर से ही त्याग पत्र भेज दिया। मालूम हो कि शनिवार को श्री कृष्ण आयुष विश्वविद्यालय के कुलपति से मिलकर बीएएमएस प्रथम वर्ष के दो छात्रों ने द्वितीय वर्ष के छात्रों द्वारा रैगिंग करने की शिकायत की थी।

इस शिकायत के बाद विश्वविद्यालय ने तत्काल आरोपी दोनों छात्रों को निष्कासित करते हुए उन पर बीस-बीस हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया था। इस मामले में हॉस्टल के वार्डन व सिक्योरिटी गार्ड को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था।
... और पढ़ें

तेज धारदार हथियारों के हमले से हुई थी संदीप की हत्या


कुरुक्षेत्र। कैथल के व्यापारी संदीप गर्ग की हत्या गोली लगने से नहीं बल्कि धारदार हथियारों के हमले से हुई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के दौरान उनके शरीर पर इस हमले की तस्दीक करते 42 जख्म मिले हैं जबकि शरीर में गोली लगने की पुष्टि नहीं हुई। बुधवार को पोस्टमार्टम होने के बाद परिजन शव लेकर कैथल रवाना हुए। इसके बाद पुलिस ने राहत की सांस ली।
मालूम हो कि मंगलवार को कैथल के शराब व सीमेंट कारोबारी संदीप गर्ग की गांव कमोदा के निकट कुछ लोगों ने हत्या कर दी थी। बुधवार को एलएनजेपी अस्पताल में पोस्टमार्टम के दौरान तनावपूर्ण स्थिति रही। पोस्टमार्टम से इससे पहले शव का एक्सरे कराया गया, जिसमें गोलियों की जगह नुकीले सुए व तेजधार हथियारों के निशान पाए गए। पोस्टमार्टम के दौरान संदीप के परिजन, नजदीकी रिश्तेदार पिहोवा नगर पालिका के अध्यक्ष अशोक सिंगला एवं अग्रवाल समुदाय के काफी लोग मौजूद रहे। पुलिस ने संदीप के दोस्त राहुल की शिकायत पर आठ लोगों के नाम और अन्य पांच से छह अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।
ज्योतिसर पुलिस चौकी प्रभारी यशपाल ने बताया कि घटना के समय कार में संदीप के अलावा मौजूद उसके दोस्त राहुल की शिकायत पर ढांड निवासी राहुल, प्रवीण, काला, गुरमीत, कपूरा, मड़कू, अमरजीत, साहवाश के साथ पांच से छह अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने इस मामले में टीमें बनाकर छापेमारी शुरू कर दी है ।वहीं आज यह भी चर्चा रही कि पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को हिरासत में लिया है,लेकिन पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की।
... और पढ़ें

कैंडी बाबा से सावधान, बंद अंधेरे कमरे में नोटों की बारिश का देता है झांसा, फिर यूं लगा देता चूना

लोगों के पैसे को दोगुना करने की महाठगी को लेकर चर्चा में आया गांव शरीफगढ़ स्थित डेरा वड़भाग सिंह का बाबा राजेश उर्फ कैंडी के खिलाफ पंजाब में भी धोखाधड़ी के कई मामले दर्ज हैं। यही नहीं, बाबा व इसके साथियों के खिलाफ धोखाधड़ी के साथ-साथ अवैध असलहा रखने की भी एफआईआर दर्ज है। हरियाणा के साथ-साथ पंजाब पुलिस भी इस बाबा की तलाश में है लेकिन फिलहाल ढोंगी बाबा का सुराग नहीं लग रहा।

32 बोर की पिस्तोल, 11 कारतूस के साथ हुई थी गिरफ्तारी
तंत्र विद्या के नाम पर जादूगरी कर लोगों को ठगने वाले कैंडी बाबा 32 बोर की पिस्तौल, 11 कारतूसों और मैजिक बॉक्स के साथ भी पंजाब में गिरफ्तार हो चुका है। मोहाली के सेक्टर-68 के चंद्र अग्रवाल ने लालड़ू पुलिस को शिकायत दी थी कि ढोंगी बाबा राजेश उर्फ कैंडी ने उसके साथ पैसा दोगुना करने के चक्कर में धोखाधड़ी की है। 

इसी तरह चंडीगढ़ के प्रोग्रेसिव सोसायटी सेक्टर-50 के गुरप्रीत सिंह ने भी राजेश उर्फ कैंडी के खिलाफ ठगी की शिकयत दर्ज करवाई थी, जिस पर पुलिस ने रेड मारकर बाबा व इसके साथियों को नकदी, 32 बोर की पिस्तौल, 11 कारतूस व जादुई ट्रिक दिखाने वाले बॉक्स के साथ गिरफ्तार करके इनके खिलाफ धारा 406, 420 तथा आर्म्स एक्ट की धारा 25, 54, 59 के तहत मामला दर्ज किया था।
... और पढ़ें

कुरुक्षेत्रः बैंक से रुपये निकाल कर घर लौट रहे व्यापारी की हत्या, चल रही थी शादी की तैयारी

बैंक से दो लाख रुपये का चेक कैश कराकर कार से ढांड लौट रहे व्यापारी संदीप गर्ग की मंगलवार शाम कैथल-कुरुक्षेत्र मार्ग पर कमौदा गांव के पास लगभग दस युवकों ने ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर हत्या कर दी। हमलावरों ने कार में तोड़फोड़ की। इसके साथ तेज धारदार हथियारों से भी व्यापारी पर हमला किया। हमले के दौरान कार में सवार एक अन्य युवक भागकर अपनी जान बचाने में सफल रहा।

जानकारी के अनुसार मंगलवार को कैथल के कसबा ढांड निवासी संदीप गर्ग अपनी सफेद रंग की वरना गाड़ी में सवार होकर कुरुक्षेत्र आए थे। यहां बैंक में चेक जमाकर दो लाख रुपये कैश के साथ वह शाम को ढांड लौट रहे थे। कार पर उनके साथ राहुल नामक एक युवक भी सवार था। इसी दौरान कमौदा गांव के समीप उनकी कार के आगे एक बोलेरो रुकी । बोलेरो से करीब 10 युवक नीचे उतरे और उन्होंने संदीप को कार से नीचे उतरने का इशारा किया।

कार से बाहर आते ही हमलावरों ने संदीप पर गोलियां दागनी शुरू कर दी। इसके साथ ही गंडासी और नुकीले हथियार से भी उन पर प्रहार किये। हमलावरों से घिरे संदीप को छोड़कर कार में सवार राहुल जान बचाकर भाग निकला। इसके बाद उसने पुलिस व परिजनों को सूचना दी। वहीं, हमलावरों ने हत्या के बाद संदीप के पास मौजूद दो लाख रुपये भी अपने साथ ले गए। केयू थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल की और कारोबारी के शव को कब्जे में लोक नायक जयप्रकाश अस्पताल पहुंचाया।

संदीप के पिता सुरेंद्र गर्ग और रिश्तेदार सतीश गुप्ता, सुमीत गुप्ता आदि भी अस्पताल पहुंच गए। सुरेंद्र गर्ग की शिकायत पर पुलिस ने ढांड निवासी राहुल, प्रवीण, काला, गुरमीत सिंह, कपूरा, मडकू, अमरजीत सिंह और सहवास व अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है। कुरुक्षेत्र पुलिस ने कैथल पुलिस से इस घटनाक्रम की तत्काल सूचना दी। संदीप गर्ग शराब व सीमेंट का कारोबार करते थे। उनकी दो बहनें हैं और एक छोटा भाई है। दो माह पहले ही उसकी छोटी बहन की शादी हुई थी। परिवार वाले अब संदीप गर्ग की शादी करने की तैयारी कर रहे थे,लेकिन मंगलवार को जो घटनाक्रम पेश आया उससे परिवार गहरे सदमे में डूबा है।

 
... और पढ़ें

कार से नीचे उतरने का किया इशारा फिर गोलियां बरसा कर दी व्यापारी की हत्या, हथियारों से भी किया हमला

बैंक से दो लाख रुपये का चेक कैश कराकर कार से ढांड लौट रहे व्यापारी संदीप गर्ग की मंगलवार शाम कैथल-कुरुक्षेत्र मार्ग पर कमौदा गांव के पास लगभग दस युवकों ने ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर हत्या कर दी।

हमलावरों ने कार में तोड़फोड़ की। इसके साथ तेज धारदार हथियारों से भी व्यापारी पर हमला किया। हमले के दौरान कार में सवार एक अन्य युवक भागकर अपनी जान बचाने में सफल रहा। 

जानकारी के अनुसार मंगलवार को कैथल के कस्बा ढांड निवासी संदीप गर्ग अपनी सफेद रंग की वरना गाड़ी में सवार होकर कुरुक्षेत्र आए थे। यहां बैंक में चेक जमाकर दो लाख रुपये कैश के साथ वह शाम को ढांड लौट रहे थे। कार में उनके साथ राहुल नाम का एक युवक भी सवार था। इसी दौरान कमौदा गांव के समीप उनकी कार के आगे एक बोलेरो रुकी। 

बोलेरो से करीब 10 युवक नीचे उतरे और उन्होंने संदीप को कार से नीचे उतरने का इशारा किया। कार से बाहर आते ही हमलावरों ने संदीप पर गोलियां दागनी शुरू कर दी। इसके साथ ही गंडासी और नुकीले हथियार से भी उन पर प्रहार किए। हमलावरों से घिरे संदीप को छोड़कर कार में सवार राहुल जान बचाकर भाग निकला। 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन