विज्ञापन
विज्ञापन
आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट
Janam Kundali

आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

महिला का अपहरण कर प्रिंसिपल ने होटल में किया दुष्कर्म, इस हाल में रोहतक में मिली

कैथल जिले में एक प्राइवेट स्कूल के प्रिंसिपल ने  25 वर्षीय महिला का अपहरण करके दुष्कर्म किया और बस अड्डा नरवाना पर छोड़ दिया। जहां से तीन व्यक्तियों और एक अन्य महिला ने उसका अपहरण करके आभूषण चोरी कर लिए। बाद में उसे रोहतक छोड़ गए। वहां महिला पुलिस ने उसे बेहोशी की हालत में मिलने पर परिजनों को बुला लिया। 

दस दिन बाद शिकायत मिलने पर पुलिस ने आरोपी प्रिंसिपल सहित चार अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। चीका थाने के एक गांव की करीब 25 वर्षीय महिला ने पुलिस में दी शिकायत में कहा कि 25 सितंबर को उसके मायके के एक व्यक्ति ने उसका गांव में ही मंदिर के निकट से एक गाड़ी में अपहरण कर लिया। 

इसके बाद वह उसे एक होटल में ले गया। जहां उसके साथ दुष्कर्म किया गया। इसके बाद वह उसे नरवाना बस अड्डे पर छोड़कर फरार हो गया। जब वह नरवाना बस अड्डे पर खड़ी थी तो वहां एक महिला व तीन अन्य व्यक्ति कार में आए। उन्होंने उसे रुमाल से कुछ सुंघा दिया और उसका अपहरण करके रोहतक ले गए।

जहां बेहोशी की हालत में वह महिला पुलिस को मिली। चारों आरोपी उसके आभूषण चोरी करके ले गए। इसके बाद परिजनों को सूचित किया गया। परिजन उसे वहां से लेकर आए। अब दस दिन बाद इस मामले की सूचना पुलिस को दी गई। 

जांच अधिकारी सुदेश ने बताया कि पुलिस ने महिला के बयान के आधार पर आरोपी निजी स्कूल के प्रिंसिपल के खिलाफ अपहरण करके दुष्कर्म करने व चार अन्य के खिलाफ चोरी के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस को पांच अक्तूबर को शिकायत मिली है। शिकायत के आधार पर केस दर्ज करके उसके बयान करवाए गए हैं। मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

पहले सस्ते सोने का लालच देकर 5 लाख रुपये कमवाए..फिर ज्यादा लालच देकर ठगे


सस्ता सोना देने का लालच देकर तीन आरोपियों ने पहले तो एक व्यक्ति को 5 लाख रुपये की आमदनी करवाई। बाद में उसे ओर ज्यादा आमदनी का लालच देकर 84 लाख रुपये ठग लिए। आरोपियों ने पीड़ित को नकली सोना थमा दिया। पुलिस ने तीनों के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोप में केस दर्ज कर लिया है।
अमरगढ़ गामड़ी निवासी राहुल कुंडू ने थाना शहर में दी शिकायत में कहा कि मई 2018 में कैथल निवासी विकास ने उसे बताया कि उसने दोस्त मंजीत चौपड़ा के साथ मिलकर सोने का व्यापार शुरू किया है। जिसमें सस्ता सोना लेकर महंगे दामों पर बेचता है। उसकी बातों पर विश्वास करके उसने अपने मित्र कैथल निवासी शमशेर सिंह, जसबीर, विजय, बालाजी कालोनी निवासी बलजिंद्र, गुरुग्राम निवासी तनवीर, सिसमौर निवासी पुष्पेंद्र व संजीव कुमार से बात कर 10 मई 2018 को आरोपी विकास को 970 ग्राम सोने की कीमत के 27 लाख रुपये दे दिए। इसके 23 बाद आरोपी ने उसे 970 ग्राम सोना दे दिया और साथ ही 5 लाख रुपये प्रॉफिट के नाम पर दे दिए। इसके बाद 15 जून 2018 को आरोपी ने उससे कहा कि उसके पास 2 किलो 910 ग्राम सोना है। जिसके लिए 84 लाख रुपये मांगे। उसने उसकी बातों पर विश्वास करके अपने दोस्तों से एकत्रित करते हुए 84 लाख रुपये आरोपी को सौंप दिए। इसके बाद आरोपी ने 2910 ग्राम सोने की प्लेट दे दी। जब इस सोने की जांच करवाई गई तो यह नकली पाया गया। इसके बाद आरोपियों ने न तो उसका सोना दिया और ना ही उसके पैसे लौटाए। शिकायतकर्ता ने बताया कि आरोपियों के साथ उनका दोस्त बलराज नगर निवासी संदीप भी शामिल है।
डीएसपी कुलभूषण ने बताया पुलिस ने मामले में विकास, संदीप व मंजीत कुमार के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। मामले को लेकर पुलिस आगामी कार्रवाई कर रही है।
... और पढ़ें

व्यापारी संदीप के हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर व्यापारियों ने ढांड पंचमुखी चौक पर शव रखकर लगाया जाम


मंगलवार को कुरुक्षेत्र जिले के गांव कमौदा के निकट बोलेरो कार सवार 10-12 युवकों ने ढांड के व्यापारी संदीप की गोली मारकर हत्या कर दी थी। बुधवार को कुरुक्षेत्र सिविल अस्पताल में संदीप का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंपने के साथ जैसे ही व्यापारी का शव एंबुलेंस में ढांड पहुंचा तो गुस्साए लोगों ने दोपहर करीब सवा 12 बजे सड़क पर शव रखकर ढांड पंचमुखी चौक पर जाम लगा दिया और पुलिस प्रशासन व सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी शुरू कर दी।
परिजनों ने पुलिस को चेताया कि जब तब हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होती वे संदीप का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। अगर हत्यारे फरार हैं तो पुलिस उनके परिजनों को गिरफ्तार करें, ताकि आरोपी स्वयं पुलिस के सामने समर्पण करने को मजबूर हो जाएं। संदीप की हत्या के विरोध में कस्बे के व्यापारियों ने दुकान बंद रखी व रोष जताया। हत्या के बाद कस्बे में तनाव का माहौल था। करीब तीन घंटे से अधिक समय तक लगे जाम के कारण कस्बे में चारों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गई और जनता को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। पुलिस यातायात को काबू करने के लिए वाहनों को अन्य रास्तों से निकाल रही थी। किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए भारी पुलिस बल तैनात था। जाम लगने की सूचना मिलते ही कैथल से डीएसपी कृष्ण कुमार मौके पर पहुंचे उनकी बार-बार अपील के बाद भी व्यापारी कुरुक्षेत्र के पुलिस अधीक्षक को बुलाने की मांग करते रहे और तुरंत आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़ गए। पुलिस के ढुलमुल रवैये के कारण व्यापारियों ने पंचमुखी चौक पर सडक़ के बीचोबीच टैंट गाड़ लिया और धरने पर बैठ गए। इसके बाद ढांड से नायब तहसीलदार मौके पर पहुंचे और संदीप के परिजनों से मिले, लेकिन वे भी उनको समझने में असफल रहे। ग्रामीणों के बढ़ते आक्रोश को देखते हुए कैथल पुलिस ने कुरुक्षेत्र पुलिस प्रशासन को मौके पर बुलाया। व्यापारियों की मांग थी कि कुरुक्षेत्र पुलिस अधीक्षक मौके पर आएं। पुलिस प्रशासन की तरफ से अजय सिंह डीएसपी मौके पर पहुंचे। जिन्होंने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि जल्दी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। आश्वासन के बाद व्यापारियों ने जाम खोल दिया। गौरतलब है कि ढांड निवासी संदीप रेता, बजरी, सीमेंट का व्यापार करता था और मंगलवार को कुरुक्षेत्र में किसी से दो लाख रुपये लेने गया था, जब वह पैसे लेकर अपने साथी राहुल के साथ कार में वापस कैथल आया रहा था तो रास्ते में गांव कमौदा के निकट बोलेरो गाड़ी चालक ने संदीप की कार को टक्कर मार दी। इसके बाद गाड़ी से उतरे आरोपियों ने संदीप पर सूए व गंडासियों से हमला कर दिया और बाद में गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि आरोपी हत्या के बाद संदीप के पैसे एवं सोने की चेन भी छीनकर फरार हो गए। कुरुक्षेत्र पुलिस ने इस मामले में कुल 13 लोगों पर हत्या एवं लूट का मामला दर्ज कर जांच शुरू की थी। लेकिन किसी भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने पर ग्रामीणों ने ढांड में जाम लगाया। जाम के दौरान पिहोवा नगर पालिका का चेयरमैन अशोक सिंगला भी लोगों के साथ जाम में बैठे रहे। गुस्साए व्यापारियों ने चेतावनी दी है कि अगर जल्द ही मामले में सभी आरोपी गिरफ्तार नहीं किए गए तो दोबारा जाम लगाने से पीछे नहीं हटेंगे। जिसके लिए पूरी तरह से पुलिस, प्रशासन व सरकार जिम्मेवार होगी।

मामले में दो आरोपी गिरफ्तार, बाकि जल्द होंगे काबू
डीएसपी अजय सिंह व कृष्ण कुमार ने बताया कि दो आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है जिनको आज न्यायालय में पेश कर दिया जाएगा, बाकी की गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित कर दी गयी है उनको जल्द पकड़ा जाएगा। गिरफ्तारी के लिए कुरुक्षेत्र पुलिस रेड कर रही है।
... और पढ़ें

बाजार से युवक का अपहरण, सीसीटीवी में कैद हुई वारदात, शव मिला तो जागी पुलिस

कैथल से युवक का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी गयी और शव को करनाल के गांव प्योंत के समीप ड्रेन में फेंक दिया गया। इससे पहले शुक्रवार की शाम परिजनों ने पुंडरी पुलिस चौकी में युवक के अपहरण की शिकायत दी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गयी। पिता के बार-बार गुहार लगाने पर भी जब पुलिस के कान पर जूं नहीं रेंगी तो परिजनों ने स्वयं युवक की खोजबीन शुरू की। 

इस दौरान बाजार में जब परिजनों ने छानबीन की तो एक सीसीटीवी फुटेज में चार कार सवार युवक को जबरन ले जाते दिखे। इस संबंध में पिता ने जब पुलिस चौकी को अवगत कराया तो पुलिसवालों ने दुबारा शिकायत लिखवाई। इसके बावजूद खाकी नहीं जागी लेकिन शव मिलने के बाद हरकत में आई पुलिस शीघ्र ही खुलासे के दावे कर रही है।
 
बलराज उर्फ बल्लू गांव फतेहपुर में राधे-राधे कंप्यूटर सेंटर पर कार्य करता था। हर रोज वह शाम को 7 बजे तक घर पहुंच जाता था लेकिन शुक्रवार को वह 8 बजे तक घर नहीं पहुंचा तो उसने अपने बेटे बलराज पर फोन किया तो उसका मोबाइल बंद मिला। इसके बाद कंप्यूटर सेंटर के मालिक को फोन किया तो उसने बताया कि बलराज शाम को करीब 6.30 बजे दुकान बंद करके उनके घर चाबी देकर स्कूटी से पुंडरी के लिये चला गया था। 
... और पढ़ें
मृतक बलराज। फाइल फोटो। मृतक बलराज। फाइल फोटो।

महिला से कहासुनी के बाद परिवार पर मिट्टी का तेल छिड़क लगाई आग, 13 साल की किशोरी की मौत

कैथल के अर्जन नगर में एक व्यक्ति ने पड़ोसी महिला के साथ हुई कहासुनी की रंजिश में सोते परिवार पर तेल छिड़क कर आग लगा दी। जिसमें 13 साल की मासूम बालिका की मौके पर ही जलकर मौत हो गई। महिला और उसके पति गंभीर रुप से झुलस गए। महिला बाला को इलाज के लिए पीजीआई रेफर किया गया है। जबकि पति को सामान्य अस्पताल में दाखिल किया गया। 

पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस को दी शिकायत में पीड़ित वेद प्रकाश ने लिखा है कि पड़ोसी सुभाष निवासी टोहाना का उनके घर में आना जाना था। कुछ समय पहले उसका पत्नी बाला से किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया। इसी कारण सुभाष उसके परिवार से रंजिश रखने लगा। 

10 जुलाई की रात को वह और परिजन खाना खाकर कमरे में सो गए थे। रात करीब एक बजे उसने कमरे के अंदर किसी व्यक्ति के आने की आहट सुनाई दी। उठकर देखा तो सुभाष कैन से मिट्टी का तेल पत्नी बाला और लड़की तमन्ना पर डाल रहा था। जेब से माचिस निकाल कर तीली जलाकर आग लगा दी। 

आरोपी को पकड़ने का प्रयास किया लेकिन वह दीवार कूदकर भाग गया। पड़ोसियों की मदद से दोनों को अस्पताल ले गया। जहां बेटी की मृत्यु हो गई।  एसएचओ का कहना है कि पीड़ित के बयान के अनुसार केस दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।  एसपी शशांक सावन ने कहा कि महिलाओं के खिलाफ अपराधों पर रोकथाम के निर्देश दिए हैं। 
... और पढ़ें

बाबा श्रृंगी ऋषि संखनी माता तीर्थ के महंत की डंडों से पीटकर हत्या, तीन के खिलाफ मामला दर्ज

गांव सांघन के श्रृंगी ऋषि आश्रम के महंत रामभज दास की बुधवार रात को जूस पिलाने के बहाने बुलाकर हत्या कर दी गई। महंत ने इलाज के दौरान दम तोड़ने से पहले तीन व्यक्तियों को घटना के लिए जिम्मेदार बताते हुए बयान दिया था। पुलिस ने डेरे से जुड़े गांव सांघन निवासी अमनदीप की शिकायत पर तीनों आरोपियों के खिलाफ लूटपाट और हत्या के आरोप में केस दर्ज कर लिया है।

घटनाक्रम के अनुसार अमनदीप ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि बुधवार सायं बेलरखां निवासी कुलबीर डेरे आया था। महंत रामभज दास कैथल में जूस पीने के लिए जाने की बात कहकर कुलबीर के साथ गाड़ी में निकले थे। इसके बाद उन्हें रात को पता चला कि गांव खरक पांडवा के पास महंत रामभज पर हमला किया गया है। 


यह भी पढ़ें-
अब हरियाणा में बनेंगी लिथियम बैटरी, जापानी कंपनी लगाएगी कारखाना, चीन को झटका

सूचना मिलने पर वे मौके पर पहुंचे, तब तक महंत को जिला अस्पताल ले जाया जा चुका था, सिर में चोट होने के कारण महंत को वहां से रेफर कर दिया। इसके बाद उन्हें कैथल के निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां थोड़ा सा होश आने पर महंत ने उन्हें बताया कि उन पर हमला कुलबीर, छविदास व मेहरा ने किया है। साथ ही उनकी नकदी व गाड़ी भी छीनकर ले गए। इसके बाद निजी अस्पताल से उन्हें पीजीआई ले जाने के दौरान मौत हो गई। थाना कलायत प्रभारी सोमबीर ने बताया कि पुलिस मामले की गहनता से छानबीन कर रही है। फिलहाल कुलबीर, छविदास व मेहरा के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस की पांच टीमें मामले की जांच कर रही हैं।

षडदर्शन समाज हरियाणा के उपाध्यक्ष थे महंत
महंत रामभज दास षडदर्शन समाज हरियाणा के उपाध्यक्ष थे। वे एमए पास थे और कुछ वर्ष पहले ही गांव सांघन में आए थे। ग्रामीणों की उनके प्रति गहरी श्रद्धा थी। जिस कारण उनकी हत्या से गांव में रोष है। महंत की हत्या पर षडदर्शन समाज हरियाणा के अध्यक्ष परमहंस ज्ञानेश्वर, भारत साधू समाज हरियाणा के अध्यक्ष महंत बंसीपुरी, अखिल भारतीय तीर्थ रोहित महासभा के पूर्व अध्यक्ष पंडित प्रकाश मिश्रा, मां बनभौरी शक्तिपीठ धाम के महाप्रबंधक सुरेंद्र कौशिक सहित साधू समाज ने दुख प्रकट किया है। सरपंच सुरजीत सिंह ने इसे सुनियोजित षडयंत्र बताया है।

सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुटी पुलिस की टीमें
महंत की मौत की सूचना गांव में आग की तरह फैल गई। सूचना मिलते ही भारी संख्या में ग्रामीण व साधू समाज के लोग डेरे में पहुंचे। पुलिस द्वारा मामले की जांच के लिए तैनात की गई टीमें भी सीसीटीवी फुटेज और अन्य माध्यमों को खंगालने में जुटी रही। दिन भर ग्रामीणों और साधू-समाज के बीच हत्या को लेकर चर्चाएं होती रहीं। 

गांव सांघन में बने डेरे के नाम करीब 24 एकड़ जमीन
ग्रामीण जगत राम, शिवकुमार, भलेराम, उदय सिंह, रामकेश, राजू, रमेश, लवकेश व रामकला ने बताया कि गांव में डेरे के नाम करीब 24 एकड़ जमीन है। ग्रामीण कुछ वर्ष पहले गांव नौच की जंगलात में बने डेरे से महंत को आदर के साथ गांव में लाए थे। महंत डेरे की देखरेख के साथ-साथ खेती-बाड़ी से जुड़ा कार्य भी कर रहे थे। ग्रामीणों ने बताया कि घटना से कुछ समय पहले ही गांव के बुजुर्ग महंत के पास से अपने घर गए थे।
... और पढ़ें

कैथल पुलिस की जालंधर में दबिश, फगवाड़ा गेट पर चलाई गोली, दो अपराधी दबोचे

हरियाणा के कैथल पुलिस की सीआईए शाखा ने बुधवार को जालंधर के फगवाड़ा गेट पर गोली चलाकर दहशत फैला दी। हरियाणा पुलिस की टीम जालंधर पुलिस को सूचना दिए बगैर आई और दो अपराधियों को काबू करने के लिए उनकी कार के टायर में गोली मार दी।

बाजार में खासी दहशत फैल गई। पहले तो यह आशंका हुई कि बदमाशों ने किसी का अपहरण कर लिया है। जिसके बाद भारी तादाद में पुलिस बल फगवाड़ा गेट पहुंच गया और घेराबंदी कर दी लेकिन बाद में डीसीपी गुरमीत सिंह ने स्पष्ट किया कि यह अपहरण नहीं बल्कि कैथल पुलिस का छापा था, जिसमें दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है।


यह भी पढ़ें-
पाक युवती बोली- मोदी जी! बॉर्डर खोल दीजिए, शादी करनी है मुझे, लोग अब ताने मारने लगे हैं

घटना दोपहर तीन बजे की है। अचानक सादी वर्दी में युवकों ने एक कार के टायर में गोली मारी और उसमें सवार दो युवकों को उठाकर फरार हो गए। इसकी सूचना मिलते ही जालंधर कमिश्नरेट पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और जांच शुरू की। इसके कुछ समय बाद डीसीपी जांच गुरमीत सिंह ने बताया कि मामला कैथल पुलिस से जुड़ा है। 
... और पढ़ें

हरियाणा: कलायत में शराब ठेके में लगी आग, नेपाली समेत दो की जलने से मौत

फगवाड़ा गेट पर गोली चलने पर मौके पर पहुंची जालंधर पुलिस।
गांव बालू में गत रात्रि अज्ञात कारणों से शराब के ठेके में लगी आग से दो व्यक्तियों की जलने से मौत हो गई। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल की। पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचाया। ठेकेदार सतपाल ने आरोप लगाया है कि उसके ठेके में साजिश के तहत आग लगाई गई है। 

उन्होंने कहा कि शराब की दुकान के पीछे ही बेडरूम है, जिसमें वे दोनों सो रहे थे। मरने वालों में एक गांव कुराड़ का ओमप्रकाश व दूसरा नेपाल का रहने वाला भगत सिंह है। ठेके में सो रहा तीसरा कर्मी बिंदर बाल-बाल बच गया। बिंदर ने बताया कि रात दो बजकर 51 मिनट पर अचानक गहरे धुएं से उसकी आंख खुली।


यह भी पढ़ें-
'बिग बॉस 13' प्रतिभागी शहनाज गिल के पिता पर दुष्कर्म केस, बेटा बोला- बदनाम करने की साजिश

धुआं दुकान के पीछे बेडरूम से आ रहा था। उसने देखा कि दरवाजे में कुंडी लगी थी। उसने ठेकेदार के भाई सुरेंद्र को फोन किया तो वे तत्काल मौके पर पहुंचे। सुरेंद्र ने बताया कि जिस समय वे मौके पर पहुंचे तो वहां दो मोटरसाइकिलों पर सवार तीन लोग भागने की फिराक में थे। उन्होंने उन लोगों को ललकारा व पीछा भी किया पर वे भाग गए। 

तीन अज्ञात व्यक्तियों पर केस दर्ज 
आग की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। मौके पर पहुंची पुलिस और शराब ठेकेदारों ने दमकल वाहन के सहयोग से आग को शांत किया। जेसीबी की मदद से पीछे की दीवार गिरा कर शवों को बाहर निकाला। कलायत पुलिस ने इस गंभीर मामले में शराब ठेकेदार सतपाल बालू की शिकायत पर तीन अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ हत्या, आगजनी, जानलेवा हमला करने और अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

ओमप्रकाश शराब कारोबार में था हिस्सेदार शराब ठेकेदार सतपाल सिंह ने पुलिस को दी जानकारी में बताया कि गांव कुराड़ निवासी ओमप्रकाश उसका शराब कारोबार में हिस्सेदार था। भगत सिंह नेपाली रसोइये के रूप में कार्य करता था। कलायत थाना प्रभारी बिलासा राम ने बताया कि मृतकों का जिला नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाकर दाह संस्कार किया गया है। पुलिस गहनता से मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

कैथलः इंस्पेक्टर ने बेटों पर की फायरिंग, एक की मौत, दूसरे पुत्र और बहू की हालत नाजुक

पुलिस में तैनात रिजर्व इंस्पेक्टर सतबीर सिंह ने घरेलू कलह के चलते अपने रिहायशी क्वार्टर में दो बेटों और पुत्रवधुओं पर फायरिंग कर दी। इसमें एक बेटे की मौत हो गई, जबकि दूसरा बेटा और पुत्रवधू गंभीर रूप से जख्मी हो गये। एक पुत्रवधू ने पहली मंजिल से छलांग लगाकर जान बचाई। इस दौरान वो भी जख्मी हो गयी। 

गंभीर रूप से घायल एक बेटे और दोनों पुत्रवधुओं को अस्पताल लाया गया, जहां से उन्हें पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया गया। जख्मी पुत्रवधू के बयान पर पुलिस ने आरोपी इंस्पेक्टर और उसकी पत्नी के खिलाफ हत्या, आर्म्स एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है।

पुलिस को दी गयी शिकायत में मटौर निवासी सिमरनजीत ने बताया कि वह एमबीए की पढ़ाई कर रही है। उसके पति गगनदीप तीन भाई थे। सबसे बड़ा सुनील भौरिया बच्चों सहित सोनीपत में रहता है। उससे छोटा भाई प्रदीप कुमार और उसकी पत्नी सोनिया तथा वह खुद व उसका पति गगनदीप अपने सास, ससुर के साथ सरकारी पुलिस क्वार्टर नंबर-11 में पुरानी पुलिस लाइन कैथल में थे। 
... और पढ़ें

दर्दनाक हादसे से कैथल में कोहराम, पुल से स्कॉर्पियो गाड़ी गिरी, छह दोस्तों की मौत

शनिवार रात्रि करीब ग्यारह बजे हुए सड़क हादसे में पांच नहीं बल्कि छह युवकों की दर्दनाक मौत हुई थी। रात के अंधेरे में एक युवक का शव नहीं दिखा यह सुबह करीब सात बजे झाड़ियों में मिला। इस तरह से इस दर्दनाक हादसे में में छह लोगों की मौत हुई। मरने वालों में चार युवक हिसार के, एक करनाल व एक फतेहाबाद जिले के हैं। पुलिस ने अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

विदित रहे कि शनिवार देर रात्रि पूंडरी-ढांड मार्ग पर गांव म्यौली ड्रेन पुल पर एक स्कॉर्पियो गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हो गई। जिसमें सवार पांच युवकों की देर रात मौत की जानकारी मिली थी। रात्रि एक बजे तक इनमें से 3 युवकों की पहचान हुई थी। सुबह तक सभी युवकों बिठमड़ा निवासी कपिल कुमार(26), गगसीना निवासी दीपक (22), हिसार के सुरेवाला निवासी रामकेश (25), अजय (21) व फतेहाबाद के हंसेवाला निवासी सुनील कुमार (27) की पहचान हो गई। 
... और पढ़ें

कैथल: घर में ही प्रिंटर की मदद से छापे 500 के नकली नोट, सरगना समेत छह गिरफ्तार

महज दसवीं व बारहवीं पास छह युवकों को घर में ही प्रिंटर की मदद से नकली नोट तथा अन्य सामान के साथ गिरफ्तार किया है। इनसे पुलिस ने चोरी की बाइक और एक ही सीरीज के 500 रुपये के 40 नोट बरामद किए हैं। इनमें से दो को दो दिन के रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। 

एसपी शशांक सावन ने खुलासा किया है कि सीआईए-1 की टीम एसआई कश्मीर सिंह, एचसी मनीष कुमार, एचसी रणदीप सिंह, एचसी तरसेम, कांस्टेबल नरेश कुमार व जगबीर के साथ कैथल में खुराना रोड पर ड्रेन पुल के निकट थे। सांय के समय एक युवक बिना नंबर की बाइक से गांव खुराना की ओर से आ रहा था। जिसे शक के आधार पर रुकवाया तो उक्त बाइक चालक कट मारकर भागने लगा। 

पुलिस ने काफी दूर तक पीछा कर काबू किया। जहां उसने कठवाड़ निवासी विजय अपना पता बताया। जांच की तो पैंट की दाहिनी जेब से 500-500 के 40 नकली नोट मिले। जिन पर नंबर भी एक समान मिला। इस आरोपी ने खुलासा किया कि सभी नोट क्योड़क निवासी दिनेश व रसूलपुल निवासी मांडी सुखविंद्र सिंह, मौजूद पता भगत सिंह कालोनी कैथल ने दिए थे। 
... और पढ़ें

पटियाला में युवक की हत्या, दौड़ाकर मारी तीन गोलियां, दो दोस्त गंभीर, विदेश में रची गई साजिश

पटियाला के साथ लगते कस्बा बलवेड़ा के गांव चरासों में बुधवार दोपहर बाद आपसी रंजिश व गुटबाजी में पल्सर मोटरसाइकिल सवार तीन युवकों पर हथियारों से लैस दो कार सवार बदमाशों ने हमला कर दिया। दो कारों में आए बदमाशों ने पहले बाइक में टक्कर मारी फिर खेत में दौड़ाकर युवक के सिर में तीन गोलियां मारकर उसकी हत्या कर दी। जबकि इस हमले में उसके दो अन्य दोस्त गंभीर रूप से घायल हो गए। 

वारदात के बाद सभी आरोपी फरार हो गए। वारदात के बाद पटियाला और हरियाणा की पुलिस हरकत में आ गई है, क्योंकि मरने वाला व उसके दोनों दोस्त हरियाणा के कैथल से हैं। यहीं नहीं आरोपी भी वहीं के बताए जा रहे हैं। पुलिस के मुताबिक विदेश में बैठे शख्स के कहने पर उसके गुर्गों हत्या को अंजाम दिया है।

डीएसपी ग्रामीण अजयपाल सिंह ने बताया कि सुखमन सिंह उर्फ सुक्खा निवासी गगडपुर जिला कैथल हरियाणा ने मंगलवार को पटियाला के बलवेडा स्थित एक एजेंसी से नया मोटरसाइकिल पल्सर खरीदा था। उसे बुधवार को एजेंसी में कोई काम था। वहीं उसके दोस्त गुरदीप सिंह उर्फ दीपक निवासी गगडपुर को बैंक में खाता खुलवाना था। इसलिए यह दोनों व इनका एक और दोस्त रिंकू निवासी गड़ाह हरियाणा तीनों मोटरसाइकिल पर बलवेड़ा आए। 
... और पढ़ें

कैथलः बाइक सवार युवकों को रोडवेज बस ने कुचला, एक की मौत और दूसरा पीजीआई रेफर

हरियाणा के कैथल में बाइक सवार दो युवकों को रोडवेज की बस ने कुचल दिया। हादसे में एक नौजवान की मौत हो गई है। वहीं दूसरे की हालत गंभीर बनी हुई है और उसे पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया है। दोनों युवक कारीगर थे।

मिली जानकारी के अनुसार, रसाना गांव के पास बाइक सवार युवकों की कार से टक्कर हुई। टक्कर लगते ही बाइक असंतुलित होकर गिर गई और फिर सामने से आर ही रोडवेज बस ने उन्हें कुचल दिया। बस करनाल डिपो की थी, जो कैथल जा रही थी।

मृतक की पहचान करनाल के निसिंग कस्बे के गांव बस्थली के रहने वाला रामनिवास (54) के रूप में हुई। वहीं घायल सुल्तान (28) भी निसिंग की ही रहने वाला था। टक्कर के बाद से बस ड्राइवर मौके से फरार हो गया। बस को पूंडरी थाना पुलिस ने कब्जे में ले लिया है। पुलिस ने रामनिवास के बेटे दीपक की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X