विज्ञापन
MyCity App MyCity App
विज्ञापन
मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

JEE Main Result 2020: बशर अहमद बने उत्तराखंड टॉपर, हासिल किए 99.99 परसेंटाइल

इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए आयोजित जेईई मेन 2020 प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट शुक्रवार देर रात जारी किया गया।

18 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

देहरादून

शनिवार, 18 जनवरी 2020

पूर्व लेफ्टिनेंट जनरल भल्ला की अंतिम विदाई, सैनिक सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

भारतीय सेना के पूर्व लेफ्टिनेंट जनरल अमरजीत सिंह भल्ला का अंतिम संस्कार आज सैन्य सम्मान के साथ भवाली स्थित उत्तरवाहिनी शिप्रा में किया गया। बता दें कि हल्द्वानी के एक निजी अस्पताल में बृहस्पतिवार को उनका निधन हो गया था। वे 1998 में भारतीय सेना से सेवानिवृत्त हो गए थे।

मूल दिल्ली और हाल भवाली के नगारीगांव निवासी भल्ला सांस की तकलीफ से परेशान थे। वह नगारीगांव में अपनी पत्नी प्रीति भल्ला के साथ रह रहे थे। जनरल भल्ला की मौत की खबर सुनते ही नगारीगांव स्थित उनके घर में  रिश्तेदारों और स्थानीय लोगों का जमावड़ा लग गया। लोगों ने शोक संतृप्त परिवार को ढांढस बंधाया। 

स्थानीय निवासी संजय जोशी ने बताया के वह सरल स्वभाव के व्यक्ति थे। हमेशा सुख-दुख में लोगों के साथ खड़े रहते थे। उनका बेटा दुबई में किसी संस्थान में डायरेक्टर के पद पर कार्यरत है। वह भी हल्द्वानी पहुंच चुके हैं।
... और पढ़ें

रुड़कीः मेडिकल स्टोर की आड़ में भ्रूण लिंग परीक्षण का भंडाफोड़, दो युवक धरे

मेडिकल स्टोर की आड़ में भ्रूण लिंग परीक्षण का मामला सामने आया है। सूचना मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मेडिकल स्टोर पर छापेमारी कर दो युवकों को हिरासत में लिया। मौके पर पोर्टेबल अल्ट्रासाउंड मशीन और एक लैपटॉप भी मिला, जिसे टीम ने कब्जे में ले लिया। युवकों से पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की टीम पूछताछ कर रही है।

भगवानपुर सीएचसी प्रभारी और नगर निगम के मुख्य नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. विक्रांत सिरोही को पिछले कई दिनों से भगवानपुर क्षेत्र के मक्खनपुर गांव के पास मेडिकल स्टोर की आड़ में भ्रूण लिंग परीक्षण की शिकायत मिल रही थी। ऐसे में मेडिकल स्टोर पर नजर रखने के लिए एक टीम को लगाया गया। शुक्रवार को टीम ने सीएचसी प्रभारी को सूचना दी कि मेडिकल स्टोर पर दो युवक और दो युवतियां आई हैं। सीएचसी प्रभारी ने मौके पर टीम को भेजकर तत्काल छापेमारी के निर्देश दिए।

टीम को देखकर अंदर बैठी युवतियां और युवकों के होश उड़ गए। टीम ने उनसे आने का कारण पूछा तो वे संतोषजनक जवाह नहीं दे पाए। केबिन की जांच की गई तो वहां पोर्टेबल अल्ट्रासाउंड मशीन और एक लैपटॉप रखा हुआ था, जिसके बारे में वे कुछ बता नहीं पाए।

पोर्टेबल अल्ट्रासाउंड मशीन मिलने पर टीम का शक यकीन में बदल गया कि यहां पर भ्रूण लिंग का परीक्षण किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि टीम ने दोनों युवतियों को वहां से जाने दिया जबकि युवकों को लेकर रुड़की नगर निगम स्थित कार्यालय पहुंची। यहां बंद कमरे में उनसे घंटों अलग-अलग पूछताछ की। नगर निगम में हंगामे की स्थिति की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति को संभाला। एसीएमओ डॉ. एचडी शाक्य भी मौके पर पहुंचे और जानकारी ली।

पहले भी पकड़े जा चुके हैं मामले

भगवानपुर क्षेत्र में भ्रूण लिंग की जांच के मामले पहले भी पकड़े जा चुके है। इससे पूर्व हरियाणा की टीम ने रुड़की समेत देहात क्षेत्र में छापेमारी कर अल्ट्रासाउंड सेंटर पर भ्रूण लिंग की जांच के मामले पकड़े थे। टीम ने अल्ट्रासाउंड की मशीन सील कर दी थी। पता चला था कि हरियाणा की महिलाओं को यहां लाकर भ्रूण लिंग की जांच कराई जाती है।

तेज्जूपुर का है मेडिकल संचालक

बताया जाता है कि मेडिकल स्टोर संचालक तेज्जूपुर का रहने वाला है और फर्जी तरीके से क्लीनिक भी चला रहा था। छापेमारी के दौरान मेडिकल संचालक मौके से फरार हो गया। उसके बारे में स्वास्थ्य विभाग और पुलिस जानकारी जुटा रही है। पुलिस ने उसके घर पर भी दबिश दी, लेकिन वह नहीं मिला। बताया जा रहा है कि पकड़े गए दोनों युवक एजेंट के रूप में काम कर रहे थे। दोनों बाहर से महिलाओं को यहां लाकर भ्रूण लिंग जांच करवाते थे।
--
आखिर युवतियां कौन थीं?
दोनों युवतियों के संबंध में जब सीएचसी प्रभारी डॉ. विक्रांत सिरोही से जानकारी ली गई तो उन्होंने बताया कि युवतियां उन्होंने ही मेडिकल पर भेजी थीं ताकि ये लोग पकड़ में आ सकें। जबकि पकड़े गए दोनों युवकों ने बताया कि युवतियां उनके साथ थीं। ऐसे में सवाल यह है कि आखिरकार युवतियां कौन थीं और यहां क्यों आई थीं?
--
सीएचसी प्रभारी और टीम से मामले में जानकारी ली जा रही है। सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है। दोनों युवकों से गहनता से पूछताछ की जा रही है। दोनों के खिलाफ केस दर्ज करवाया जाएगा। युवतियों कौन थी, यह भी पता लगाया जा रहा है। फिलहाल पता चला है कि युवतियां स्वास्थ्य विभाग की टीम की ओर से ही भेजी गई थीं। अगर युवतियों को फरार करने में किसी की संलिप्तता पाई जाती है तो कार्रवाई होगी।
-डॉ. एचडी शाक्य, एसीएमओ, हरिद्वार
... और पढ़ें

उत्तराखंड : उत्तरकाशी के जखोल में नहीं बनेगा हेलीपैड, सुनकंडी में देखी जमीन

उत्तरकाशी जिले के जखोल में हेलीपैड नहीं बन पाएगा। जिला प्रशासन की ओर से चयनित स्थान का पायलटों ने निरीक्षण कर चयनित स्थान को हेलिकॉप्टर की लैडिंग के लिए उपयुक्त नहीं पाया। अब सुनकंडी में हेलीपैड बनाने का प्रस्ताव शासन को भेजा जाएगा। 

प्रदेश में हवाई कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए त्रिवेंद्र सरकार ने जखोल में हेलीपैड बनाने की घोषणा की थी। इसके लिए जिला प्रशासन की ओर से चयनित स्थान का निरीक्षण कर पायलटों ने सुरक्षा के लिहाज से कई सवाल खड़े किए। जिस स्थान पर हेलीपैड प्रस्तावित किया गया था।

वहां पर हेलिकॉप्टरों की लैडिंग व टेक आफ करने में तकनीकी दिक्कतें सामने आ रही थी। जिससे प्रशासन ने हेलीपैड के लिए सुनकंडी स्थान को प्रस्तावित किया है। सरकार की घोषणा में हो रही देरी पर शासन ने हेलीपैड के लिए जगह उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। 

प्रदेश में वर्तमान में 51 हेलीपैड, दो एयरपोर्ट और एक हवाई पट्टी है। अधिकतर हेलीपैडों में आधारभूत सुविधाएं विकसित न होने के कारण हेली सेवाओं का संचालन शुरू नहीं हो पाया है। अब सरकार उड़ान योजना के तहत एविएशन कंपनी के साथ सीएसआर के माध्यम से हेलीपैडों को विकसित करने की योजना है। 
... और पढ़ें

उत्तराखंडः बर्फ से लकदक हुईं वादियां, शीतलहर ने किया बेहाल, लोगों की मुश्किलें बढ़ी

snowfall snowfall

उत्तराखंड में अमेरिका की टीम खेलेगी कबड्डी, एक फरवरी से होगा मुकाबला

उत्तराखंड: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पीएम मोदी से की मुलाकात, दोनों के बीच हुई ये बात

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री मोदी को 2021 में हरिद्वार में होने वाले महाकुंभ की तैयारियों की जानकारी दी। कहा कि जनवरी 2021 से अप्रैल 2021 के मध्य चलने वाले कुंभ मेले के सफल संचालन हेतु लगभग एक हजार करोड़ रूपए से अधिक के कार्य किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने राज्य के सीमित संसाधनों को देखते हुए केंद्र सरकार से आर्थिक सहयोग का अनुरोध किया।

उन्होंने कहा कि वर्ष 2010 में हरिद्वार में आयोजित कुंभ मेले में देश-विदेश से आठ करोड़ श्रद्धालु आए थे। 2021 में होने जा रहे कुंभ में 15 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं के आने की संभावना है। इतनी बड़ी संख्या में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए वृहद स्तर पर स्थाई व अस्थाई सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। कुंभ क्षेत्र का विस्तार किया जा रहा है। अवस्थापना संबंधी कार्यों जैसे सड़क, विद्युत, पेयजल आपूर्ति, कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने, चिकित्सा सुविधा, स्वच्छता व कूड़ा निस्तारण, आवासीय व पार्किंग व्यवस्था का काम किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने केदारनाथ पुननिर्माण कार्यों की जानकारी दी। मुख्यमंत्री बताया कि बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री एवं उनके निकटवर्ती प्रमुख मंदिरों के लिए राज्य में देवस्थानम बोर्ड बनाया गया है। इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि केदारनाथ का निर्माण कार्य मिशन मोड पर किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सीमांत क्षेत्र के गांवों में आजीविका एवं बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री सीमांत क्षेत्र विकास योजना शुरू की जा रही है। इसके लिए उन्होंने केंद्र सरकार से विशेष पैकेज दिए जाने का अनुरोध किया। 

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को अप्रैल 2020 में होने वाले ‘वैलनेस समिट’ के शुभारंभ के लिए आने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 305 वैलनेस सेंटर का कार्य पूर्ण हो चुका है। सभी 462 वैलनेस सेंटर मार्च 2020 तक पूर्ण कर लिए जाएंगे। देश का सबसे बड़ा मोटर केबल पुल डोबरा चांटी का कार्य पूर्ण हो चुका है। इस पुल के लोकार्पण के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री को आमंत्रित किया। नमामि गंगे के तहत सीवरेज ट्रीटमेंट प्रोजक्ट एवं अन्य स्वीकृत कार्य नवंबर 2020 तक पूर्ण हो जाएंगे। श्रम सुधार की दिशा में राज्य सरकार द्वारा अनेक प्रयास किए गए हैं।

राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों पर संतोष व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रदेश में वित्तीय संसाधन बढ़ाने के लिए जीएसटी कलेक्शन की दिशा में विशेष प्रयास किए जाएं। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को जानकारी दी कि उत्तराखंड में इंवेस्टर्स समिट 2018 के बाद अभी तक 19 हजार करोड़ रूपए के निवेश की ग्राउडिंग हो चुकी है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 300 मेगावाट की लखवाड़ विद्युत परियोजना की भारत सरकार से मंजूरी हेतु अनुरोध किया। साथ ही यमुना की अविरलता एवं प्रवाह के संबंध में भी चर्चा हुई।

मुख्यमंत्री ने बताया कि नीति आयोग द्वारा वर्ष 2019 में दी गई गवर्नेंस इंडेक्स में उत्तराखंड को अच्छी रैंकिंग मिली है। कामर्स एवं इंडस्ट्री के क्षेत्र में उत्तराखंड को हिमालयी राज्यों में प्रथम व देश में नौवीं रैंक मिली है। मानव संसाधन विकास में हिमालयी राज्यों में द्वितीय एवं देश में छठवीं रैंक मिली है। पब्लिक इंफ्रास्ट्रक्चर में हिमालयी राज्यों में प्रथम एवं देश में 10वीं रैंक मिली है।ईकॉनामिक गवर्नेंस में हिमालयी राज्यों में प्रथम एवं देश में द्वितीय रैंक मिली है। जबकि नीति आयोग की समग्र रैंकिंग में उत्तराखंड को हिमालयी राज्यों में द्वितीय एवं देश में 10वां स्थान मिला है। मुख्यमंत्री ने ऑल वेदर रोड एवं ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाइन की कार्य प्रगति की जानकारी भी दी, जिस पर प्रधानमंत्री ने संतोष व्यक्त किया।
... और पढ़ें

हरिद्वारः जंगल से कचहरी परिसर में आया बारहसिंगा, देखने वालों की लगी भीड़

आज दिल्ली में पीएम से मिले मुख्यमंत्री

देवभूमि की व्यथा कथा: नशे ने तोड़ी माता-पिता की उम्मीदें, बिखर गए सपने

श्रीनगर शहर के एक युवक को परिजनों ने इंटरमीडिएट उत्तीर्ण करने के बाद एमबीए करने देहरादून भेजा, लेकिन वह देहरादून जाकर स्मैक के नशे की गिरफ्त में आ गया। मजबूर अभिभावक उसे घर ले आए। उसे नशा मुक्ति केंद्र भेजा, लेकिन कोई सुधार नहीं हुआ।

घर वालों ने जब नशा करने से रोका, तो मारपीट करने लगा। मामले में खास बात यह है कि तीन बहनों के बाद परिवार में बेटा हुआ, तो लाड़-प्यार में कोई रोक-टोक नहीं हुई। इसी खुली छूट ने युवा को गलत राह पर डाल दिया। आज नौबत यह है कि अभिभावकों ने उसे अपने संपत्ति से बेदखल कर दिया है। 

श्रीनगर में एक महिला सब्जी बेचकर अपना गुजारा करती थी। महिला के पुत्र और पोता नशे के आदी हो गए। पोते ने भांग पीने से नशे की शुरुआत की। आज वह नशे के लिए कुछ भी पी लेता है। नशे की वजह से उसकी मानसिक स्थिति बिगड़ चुकी है। उसके ऊपर नशा इस कदर हावी है कि एक बार उसने नशे के लिए रुपये न मिलने पर दादी को कमरे के अंदर बंद करके आग लगा दी। पड़ोसियों के देखने पर महिला की जान बच पाई। 
 
... और पढ़ें

उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय : अब डीजी लॉकर के जरिये निकालें मार्कशीट और डिग्री

उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय से पढ़ाई करने वाले छात्र-छात्राओं के लिए खुशखबरी है। दूर दराज के विद्यार्थियों की सुविधा के लिए उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय जल्द ही एक नई व्यवस्था लागू करने जा रहा है।

विद्यार्थियों को फाइनल ईयर की मार्कशीट और डिग्री लेने के लिए विश्वविद्यालय के चक्कर नहीं काटने होंगे। वे घर बैठे ही डीजी लॉकर के माध्यम से मार्कशीट और डिग्री प्राप्त कर सकेंगे। इसके लिए उन्हें केवल अपनी जन्मतिथि, परीक्षा का अनुक्रमांक और नामांकन संख्या डालनी होगी।

उत्तराखंड विश्वविद्यालय में वर्तमान में ग्रीष्मकालीन सत्र 2019 -20 में करीब 70 हजार छात्र पंजीकृत हैं। इसके साथ ही शीतकालीन सत्र 2020-21 में अभी प्रवेश प्रक्रिया चल रही है। अभी तक अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को फाइनल ईयर की मार्कशीट प्राप्त करने के लिए या तो अध्ययन केंद्र के चक्कर काटने पड़ते हैं या फिर मुक्त विश्वविद्यालय हल्द्वानी कार्यालय की दौड़ लगानी पड़ती है।
... और पढ़ें

राजनाथ सिंह से मिले सीएम त्रिवेंद्र, लापता जवान की वापसी के प्रयास तेज करने का किया अनुरोध

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। उन्होंने रक्षामंत्री से सेना के लापता जवान राजेंद्र सिंह की सकुशल वापसी के प्रयास तेज करने का अनुरोध किया। सेना में हवलदार पद पर तैनात राजेंद्र सिंह देहरादून के रहने वाले हैं।

मुख्यमंत्री ने रक्षा मंत्री से अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे प्रदेश के सीमांत क्षेत्रों के विकास को लेकर भी चर्चा की। सीमांत क्षेत्र में बुनियादी विकास तथा लोगों को बसाए रखने में सेना के सहयोग का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने उत्तराखंड के सीमांत क्षेत्रों में राज्य सरकार के स्तर से विकसित किए आधारभूत ढांचे से भी रक्षामंत्री को अवगत करवाया। 

युवा कांग्रेसियों ने राष्ट्रपति से गुहार लगाई

कश्मीर के गुलमर्ग से पाकिस्तान सीमा पर लापता हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी की सकुशल बरामदगी के लिए युवा कांग्रेसियों ने राष्ट्रपति से गुहार लगाई है। साथ ही राष्ट्रीय युवा कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने नई दिल्ली में सांसद एवं पूर्व रक्षामंत्री एके एंटनी से भी मुलाकात की। वहीं शनिवार को हल्द्वानी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एसडीएम कोर्ट में प्रदर्शन किया और जवान को जल्द सकुशल भारत लाने की मांग की।

जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को भेजे ज्ञापन में कांग्रेसियों ने कहा कि जवान राजेंद्र सिंह आठ जनवरी से लापता हैं। जिस तरह विंग कमांडर अभिनंदन को भारत लाने के लिए सेना और सरकार ने तत्परता दिखाई थी, उसी तरह इनके लिए भी अभियान चलाएं।

ज्ञापन देने वालों में युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष भूपेंद्र नेगी, प्रदेश संगठन मंत्री संदीप चमोली, सोशल मीडिया के गढ़वाल मंडल अध्यक्ष विजय रतूड़ी मोंटी, विजय रावत, आशीष सक्सेना, मनदीप बत्ता, रोशन आदि मौजूद रहे। उधर, युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सोशल मीडिया प्रभारी वैभव वालिया के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने राज्यसभा सदस्य एवं पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी से मुलाकात की। एंटनी ने अधिकारियों से वार्ता कर उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया है।
... और पढ़ें

उत्तराखंडः ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा देने के लिए सरकार का एक और बड़ा कदम

पिरूल से बिजली बनाने व पर्वतीय क्षेत्रों में सब्सिडी आधारित सोलर योजना शुरू करने के बाद अब प्रदेश सरकार ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा देने के लिए एक और बड़ा कदम उठाने जा रही है। इसके तहत प्रदेश सरकार रूफ टॉप सोलर स्कीम शुरू करेगी। 22 जनवरी को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इसका शुभारंभ करेंगे। इस योजना में एक से 10 किलोवाट तक के प्लांट पर 20 से 40 प्रतिशत तक सब्सिडी मिलेगी। 

सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश सरकार लगातार प्रयास कर रही है। इस क्रम में सरकार बिजली के घरेलू उपभोक्ताओं के लिए नई योजना लागू करने जा रही है। इस योजना से जुड़कर प्रदेश के 20 लाख घरेलू उपभोक्ता सब्सिडी का लाभ उठा सकते हैं। योजना के तहत 15 वेंडर सूचीबद्ध कर दिए गए हैं। 

आवेदन की प्रक्रिया उत्तराखंड पावर कारपोरेशन (यूपीसीएल) की वेबसाइट पर ऑनलाइन होगी। चयनित आवेदकों के घर पर यूपीसीएल के सूचीबद्ध वेंडर सौर संयंत्र लगाएंगे। आवेदक को सब्सिडी छोड़कर शेष धनराशि वेंडर को देनी होगी। संयंत्र लगने पर सब्सिडी का पैसा यूपीसीएल वेंडर के खाते में भेज देगा। 
 
... और पढ़ें

उत्तराखंडः देहरादून में झमाझम बारिश से लुढ़का पारा, मसूरी और धनोल्टी में हुई बर्फबारी ने बढ़ाई ठंड

आज राजधानी देहरादून में सुबह की शुरुआत बादलों के साथ हुई। हालांकि बाद में धूप खिल आने से लोगों से ठंड से कुछ राहत मिली। लेकिन दोपहर बाद दून में मौसम बदल गया। बादल छा गए और बूंदाबांदी होने लगी। दोहपर तीन बजे बाद दून में झमाझम बारिश शुरू हो गई।

प्रेमनगर में इतनी ओलावृष्टि हुई, मानो सड़क पर सफेद बर्फ बिछ गई हो। बारिश और ओलावृष्टि से तापमान में काफी गिरावट आ गई है। शाम होते-होते मसूरी में भी बर्फबारी हो गई। देश-विदेश से आए पर्यटक बर्फबारी का मजा लेते दिखे। वहीं स्थानीय लोगों के लिए परेशानी बढ़ गई। ठंड से बचने के लिए लोग गर्म कपड़ों और अलाव का सहारा लेते दिखे। 

शनिवार को दोपहर बाद मौसम की बदली करवट के बीच जौनसार बावर की ऊंची चोटियां बर्फ से लकदक हो गई। चकराता छावनी बाजार क्षेत्र में भी बर्फबारी हुई। जिसे देख वीकेंड बनाने चकराता पहुंचने पर्यटकों के चेहरे खिल उठे। पर्यटकों ने बर्फ में जमकर मौज मस्ती की। शाम को भी क्षेत्र में बारिश के बीच बर्फबारी हुई। 

वहीं पिथौरागढ़ के मुनस्यारी में शनिवार को भी बर्फबारी हुई। बर्फबारी से थल-मुनस्यारी मोटर मार्ग एक बार फिर बंद हो गया है। कुमाऊं की बात करें तो रुद्रपुर, अल्मोड़ा, भीमताल और नैनीताल में दिनभर बादल छाए रहे। नैनीताल में सुबह कोहरा छाया रहा और दोपहर बाद बर्फबारी हुई। मुक्तेश्वर में भी बर्फबारी हुई। सुबह रामनगर और पहाड़पानी में धूप खिली रही बाद में बादल छा गए। मुनस्यारी, रीठा साहिब, लोहाघाट और मुक्तेश्वर में रुक-रुक कर बारिश होती रही। वहीं दोपहर बाद पिथौरागढ़ में भी ओलावृष्टि हुई। यहां तापमान में काफी गिरावट आई है।

बर्फबारी ने फिर बढ़ाई पहाड़ की मुश्किलें

शनिवार को गढ़वाल के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी और निचले क्षेत्रों में बारिश होने से ठंड बढ़ गई है। सुबह से हल्के बादल छाने और इसके बाद अचानक बारिश होने से पूरा क्षेत्र शीतलहर की चपेट में है। शनिवार को बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम सहित हेमकुंड साहिब, चोपता, हर्षिल, भटवाड़ी, निजमुला घाटी, खिर्सू आदि क्षेत्रों में जमकर बर्फबारी हुई है। साथ ही पहले से ही बर्फ से ढके गांवों में दोबारा हिमपात होने से लोगों की मुश्किलें बढ़ गई है। खासकर चारपत्ती, लकड़ी का संकट पैदा होने के साथ ही बिजली, पानी और संचार की समस्या पैदा हो गई है।

चमोली जिले में जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित

बारिश, बर्फबारी और ओलावृष्टि ने चमोली जिले में जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित कर दिया है। जिले में हाड़ कंपाने वाली ठंड पड़ रही है। जबरदस्त ठंड के कारण दोपहर बाद नगर क्षेत्रों में सन्नाटा पसरा रहा। लोग अपने घरों में दुबके रहे। हिमपात से जिले की 13 सड़कें अवरुद्घ हो गई हैं, जबकि पांच गांवों में विद्युत सप्लाई ठप पड़ गई है। 87 गांव पूरी तरह से बर्फ के आगोश में समा गए हैं।

चमोली जिले में विभिन्न जगहों का तापमान

स्थान                 अधिकतम        न्यूनतम 
बदरीनाथ              माइनेस तीन     माइनेस नौ 
हेमकुंड साहिब        माइनेस पांच    माइनेस 11 
औली                  माइनेस एक      माइनेस सात 
जोशीमठ              दो               माइनेस तीन 
गोपेश्वर               पांच            13
पोखरी                 दो             माइनेस तीन
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us