विज्ञापन
विज्ञापन
फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें कौन सा करियर है आपके सफलता की सीढ़ी
Kundali

फ्री जन्मकुंडली बनवाएं और जानें कौन सा करियर है आपके सफलता की सीढ़ी

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

Coronavirus: अब फिर बदल रहा कोरोना संक्रमण का मिजाज, लक्षण वाले मरीज आ रहे सामने

कोरोना संक्रमण का मिजाज बदल रहा है। पहले कोरोना के लक्षणों वाले मरीज सामने आ रहे थे। बीच में बिना लक्षणों वाले मरीज बड़ी संख्या में सामने आए। अब फिर से कोरोना लक्षणों वाले मरीज सामने आ रहे हैं। पिछले करीब दो सप्ताह से जिले में ऐसे मरीजों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। 

इस संबंध में देहरादून के श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के सांस एवं छाती रोग विभाग के विभागाध्यक्ष एवं वरिष्ठ पल्मनोलॉजिस्ट डॉ. जगदीश रावत का कहना है कि अभी इसको लेकर कोई साइंटिफिक प्रूफ सामने नहीं आया है।


यह भी पढ़ें: 
Coronavirus in Uttarakhand: 230 नए पॉजिटिव केस मिले, 9632 पहुंची संक्रमितों की संख्या, आठ की मौत

लेकिन, जिस तरह से मरीजों की संख्या बढ़ रही है उससे यह लोकल ट्रांसमिशन की तरफ भी सीधे-सीधे इशारा कर रहा है। इसके अलावा लोगों को जैसे ही बुखार, खांसी या सांस लेने में दिक्कत हो रही है तो वह खुद सतर्क होकर निजी लैब में जांच करवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में ढील की वजह से भी संक्रमण का ग्राफ बढ़ रहा है। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड: फाइलों की सुस्त रफ्तार से सरकार नाराज, अब सीएम त्रिवेंद्र हर विभाग के सचिवों से लेंगे हिसाब 

उत्तराखंड में  प्रशासनिक व्यवस्था के कंट्रोल रूम राज्य सचिवालय में फाइलों पर कार्यवाही की रफ्तार सुस्त है। इससे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत नाराज हैं। वह अब शासन के सभी सचिवों से उनके विभागों से जुड़े अनुभागों की फाइलों का हिसाब लेने जा रहे हैं। जिन अनुभागों में फाइलों पर कार्यवाही का रिकॉर्ड खराब होगा, वहां तैनात कार्मिकों को बदलने का अभियान चलेगा।

राज्य में प्रशासन का सर्वोच्च शिखर सचिवालय है। यहां पर प्रदेश सरकार की नीतियों का निर्माण होता है। राज्य प्रशासन को सुविधा के ख्याल से विभिन्न मंत्रालयों व विभागों को बांटा गया है। अक्सर नीतियों व योजनाओं की फाइलें इन विभागों के मंत्रालयों व अनुभागों में फंस कर रह जाती है। जिन पर कोई कार्यवाही नहीं होती है और आम लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। 

बीते दिनों एक ऐसा ही मामला सामने आया, जहां आदेश होने के 14 महीने तक एक फाइल लटकी रही। मामले की जानकारी मुख्यमंत्री को हुई, तो उनके आदेश पर लोक निर्माण विभाग के एक अनुभाग के अनुभाग अधिकारी से लेकर कंप्यूटर आपरेटर तक को हटा दिया गया। यह मामला संज्ञान में आने के बाद फाइलों पर होने वाली कार्यवाही की स्थिति जांचने की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री ने स्वयं उठा ली है। 

उन्होंने सभी सचिवों की बैठक बुलाई है। यह बैठक अगले दो दिन में होगी। इसमें सचिवों से उनके विभागीय अनुभागों में लंबित फाइलों की जानकारी ली जाएगी। जिस अनुभागों में फाइलें एक माह से अधिक लटकी होंगी, उसका कारण पूछा जाएगा। केवल उन्हीं फाइलों के मामले में मुख्यमंत्री नरमी दिखाएंगे, जिनमें देर होने की तार्किक वजह होगी। बेवजह फाइलें डंप करने के मामले में मुख्यमंत्री कड़ा रुख अपना सकते हैं। जिन अनुभागों में फाइलों का रिकॉर्ड खराब होगा वहां तैनात स्टाफ को हटाया जाना लगभग तय माना जा रहा है। 
... और पढ़ें

Coronavirus in Uttarakhand: कोरोना काल के 21वें सप्ताह में टूटे संक्रमण में सारे रिकॉर्ड

उत्तराखंड में कोरोना काल के 21 सप्ताह पूरे हो गए हैं। इस सप्ताह कोरोना के अब तक के सारे रिकॉर्ड टूटे हैं। एक सप्ताह में सर्वाधिक सैंपलों की जांच होने के साथ ही संक्रमित मामले मिले है। वहीं रिकवरी में भी रिकॉर्ड बना है।

प्रदेश में कोरोना काल के 147 दिन बीत चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना संक्रमित मामलों का साप्ताहिक विश्लेषण करने पर पाया गया कि 21वें सप्ताह (2 से 8 अगस्त) में सैंपल जांच, संक्रमित मामले, रिकवरी और मृत्यु दर के सारे रिकॉर्ड टूटे हैं। इस सप्ताह 31732 सैंपलों की जांच की गई, जिसमें 1955 कोरोना मरीज मिले हैं। जबकि 1633 मरीज ठीक हुए हैं। वहीं, 34 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई है। प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या भी 3283 हो गई है।


यह भी पढ़ें: 
Coronavirus in Uttarakhand: 230 नए पॉजिटिव केस मिले, 9632 पहुंची संक्रमितों की संख्या

कोरोना आंकड़ों का अध्ययन कर रहे सोशल डेवलपमेंट फॉर कम्युनिटी फाउंडेशन के अध्यक्ष अनूप नौटियाल का कहना है कि 21 वें सप्ताह में जहां सैंपल जांच बढ़ी है। वहीं, कोरोना संक्रमित मरीजों और रिकवरी दर में तेजी आई है। 
... और पढ़ें

Coronavirus in Uttarakhand: 230 नए पॉजिटिव केस मिले, 9632 पहुंची संक्रमितों की संख्या, आठ की मौत

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। रविवार को राज्य में 230 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं। इसके साथ ही अब संक्रमितों की संख्या 9632 पहुंच गई है। 

स्वास्थ्य विभाग की ओर से आए बुलेटिन के अनुसार, आज सबसे ज्यादा 127 केस हरिद्वार में सामने आए हैं। वहीं, चमोली में एक, देहरादून में 23, नैनीताल में 16, पौड़ी में तीन, रुद्रप्रयाग में आठ,  टिहरी में 11, ऊधमसिंह नगर में 19 और उत्तरकाशी में चार संक्रमित मरीज मिले हैं। 


यह भी पढ़ें: 
Coronavirus in Uttarakhand: तेजी से बढ़ रहा संक्रमण, एक हफ्ते में मिले 1955 संक्रमित मरीज

बता दें कि अब तक प्रदेश में 6134 मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं। वहीं, 125 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। प्रदेश में अभी भी 3334 एक्टिव केस हैं। मरीजों की डबलिंग दर 23.46 दिन पहुंच गई है। जबकि रिकरवरी रेट 63.68 फीसदी पहुंचा है। 
... और पढ़ें

भूस्खलन के दौरान बोल्डरों की चपेट में आने से बचने को सेना के जवानों ने लगाई दौड़, रास्ते बंद, तस्वीरें...

Krishna Janmashtami 2020: सालों बाद हो रहा ऐसा, 11 या 12 किस दिन फलदाई होगा व्रत यहां पढ़ें... 

Corona in Uttarakhand:  दून अस्पताल में एक और संक्रमित की मौत, अब तक जा चुकी 118 मरीजों की जान

उत्तराखंड में राजकीय दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रविवार को भर्ती कोरोना संक्रमित एक और मरीज की मौत हो गई। मरीज के शव को परिजनों को सौंप कर अंतिम संस्कार कराए जाने की तैयारी चल रही है।

दून अस्पताल प्रशासन से मिली जानकारी के अनुसार, देहरादून के आश्रम के 73 वर्षीय बुजुर्ग सेवक को सांस में तकलीफ होने पर परिजनों ने 29 जुलाई को दून अस्पताल में भर्ती कराया था। 

जहां विशेषज्ञ डॉक्टरों की देखरेख में उनका उपचार चल रहा था। सांस लेने में ज्यादा दिक्कत होने के चलते मरीज को आईसीयू में भर्ती कराया गया था। लगभग 10 दिन की डॉक्टरों की मेहनत के बावजूद बुजुर्ग को नहीं बचाया जा सका। 


यह भी पढ़ें:
Coronavirus in uttarakhand: अब होम आईसोलेशन में रह सकेंगे कोरोना मरीज

बुजुर्ग ने रविवार को आईसीयू में अंतिम सांस ली। कोरोना के स्टेट को-ऑर्डिनेटर एवं दून अस्पताल के डिप्टी एमएस डॉ. एनएस खत्री ने बुजुर्ग कोरोना संक्रमण से कोरोना संक्रमित बुजुर्ग की मौत की पुष्टि की है। इसके बाद अब प्रदेश में मृतक संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 118 पहुंच गया है। 
... और पढ़ें
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us