विज्ञापन
विज्ञापन
MyCity App MyCity App
विज्ञापन
आज ही बनवाएं फ्री जन्मकुंडली और जाने जीवन की समस्याओं के स्पष्ट निवारण
Puja

आज ही बनवाएं फ्री जन्मकुंडली और जाने जीवन की समस्याओं के स्पष्ट निवारण

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

हरेला 2020: उत्तराखंड में आज रोपे जाएंगे 10 लाख पौधे, सीएम की अपील- एक पौधा जरूर लगाएं 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेशवासियों से आह्वान किया है कि वे आज हरेला पर्व से जुड़ें और एक पौधा अवश्य लगाएं। उन्होंने हरेला पर्व के महत्व और उससे जुड़ने की अपील को लेकर एक वीडियो संदेश भी साझा किया। यह वीडियो सोशल मीडिया पर जारी हुआ। 

इस संदेश में उन्होंने कहा कि हरेला परंपरागत पर्व है। यह हमारे संस्कार, परंपरा और पर्यावरण के प्रति हमारे दायित्व को दर्शाता है। हरियाली के महत्व को हर कोई समझता है। उन्होंने कहा कि प्रकृति के चक्र को मजबूत बनाने, जल, जमीन जंगल, स्वास्थ्य को बचाने के लिए हम पेड़ों का महत्व समझते हैं। इसलिए हमारे बुजुर्गों ने ऐसे पर्व मनाने की परंपरा शुरू की थी। हरेला पर संकल्प लें, एक पौधा जरूर लगाना है। अपने घरों में भी पौधों लगा सकते हैं।


हरेला पर्व पर बृहस्पतिवार को वन विभाग करीब 7.5 लाख पौधे लगाएगा। जबकि करीब 2.5 लाख पौधे उद्यान विभाग की ओर से लगाए जाएंगे। बृहस्पतिवार से शुरू होकर यह अभियान 15 अगस्त तक चलेगा। प्रमुख वन संरक्षक जयराज के मुताबिक राज्यपाल बेबी रानी मौर्य राजभवन और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत अपने आवास से हरेला अभियान की शुरुआत करेंगे। 
... और पढ़ें

एक्सक्लूसिव: उत्तराखंड में मनरेगा से जुड़े लोगों के लिए अच्छी खबर, अब 200 दिन का मिल सकता है काम

मनरेगा के तहत उत्तराखंड में सौ दिन की जगह कम से कम 200 दिन तक के लिए रोजगार की गारंटी का प्रस्ताव केंद्र को भेज दिया गया है। इसी के साथ प्रदेश सरकार ने केंद्र से यह भी आग्रह किया है कि मनरेगा में खेती किसानी की इजाजत दी जाए। 

प्रदेश में इस समय मनरेगा के तहत कम से कम सौ दिन तक काम उपलब्ध कराने की गारंटी दी जाती है। कई सामाजिक संगठनों की मांग थी कि इसको बढ़ाकर 200 दिन किया जाए।

यह भी पढ़ें: 
मनरेगा : अब अपना काम शुरू करने का भी बनेगी जरिया, आजीविका से जुड़ेगी योजना

शासन के मुताबिक यह प्रस्ताव बनाकर केंद्र सरकार को भेज दिया गया है। इसके साथ ही राज्य ने केंद्र सरकार से यह भी आग्रह किया है कि इसमें खेती किसानी को भी जोड़ा जाए। 
... और पढ़ें

CBSE 10th Result 2020: ऊधमसिंह नगर के ऋषित बने उत्तराखंड टॉपर, पढ़ें टॉप 10 छात्रों की लिस्ट...

सीबीएसई (केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) ने आज 10वीं का परीक्षा परिणाम जारी कर दिया है। उत्तराखंड में ऊधमसिंह नगर जिले के ऋषित अग्रवाल ने 498 अंकों के साथ प्रदेश में टॉप किया है। ऋषित का कहना है कि वे इंजीनियर बनना चाहते हैं। वे रोजाना स्कूल से आने के बाद चार से पांच घंटे पढ़ाइ किया करते थे। सोशल मीडिया से भी दूर रहते थे। उन्होंने अपनी कामयाबी का श्रेय अपने माता-पिता को दिया है। 

वहीं, दूसरे स्थान पर चार छात्र-छात्राओं, देहरादून की आस्था कंडवाल, नैनीताल की रितिका पैलीवाल और आर्यन भट्ट, ऊधमसिंह नगर के हर्षी सिंह ने बाजी मारी। तीसरे स्थान पर छह छात्र-छात्राओं, हरिद्वार के हर्षवर्धन गुप्ता, नैनीताल के काव्या उपाध्याय और ऊधमसिंह नगर जिले के शिवांग सक्सेना, प्रिया सिंह, आरुषि बत्रा, प्रतिष्ठा पांडे ने संयुक्त रूप से टॉप किया। 


यहां पढ़ें टॉप 10 छात्र-छात्राओं की लिस्ट: 
https://spiderimg.amarujala.com/assets/applications/2020/07/15/top-10uk_5f0eeb8b19118.pdf
... और पढ़ें

देहरादून: हादसे में बचे समीर ने बताई काली रात की दर्दनाक कहानी, बोले- सब मलबे में दबे थे, बस सन्नाटा था...

दो दिन बाद जिस घर में गूंजनी थी किलकारी वहां पसर गया मातम, तस्वीरों में हादसे का खौफनाक मंजर...

CBSE 10th Result 2020: 89.72 फीसदी रहा देहरादून रीजन का रिजल्ट, टॉप-3 में उत्तराखंड के 11 छात्र शामिल

सीबीएसई 10वीं में एक बार फिर उत्तराखंड के होनहारोें ने पूरे देश में प्रतिभा का लोहा मनवाया है। ऊधमसिंह नगर के भारतीयम इंटर कॉलेज के छात्र ऋषित अग्रवाल ने देहरादून रीजन में टॉप किया है। वहीं, दून रीजन के टॉप-3 में उत्तराखंड के 11 छात्र शामिल हैं। देहरादून रीजन में उत्तर प्रदेश के भी कई जिले शामिल हैं।

छात्राएं फिर अव्वल
देहरादून रीजन में एक बार फिर छात्राओं ने बाजी मारी है। कुल 79,631 छात्र-छात्राओं ने 10वीं की परीक्षा पास की। इसमें 87.70 प्रतिशत छात्र और 92.82 प्रतिशत छात्राएं शामिल हैं। 

दून रीजन से 80 हजार 168 छात्र-छात्राएं पंजीकृत
सीबीएसई 10वीं की बोर्ड परीक्षा में दून रीजन से 80 हजार 168 छात्र-छात्राएं पंजीकृत रहे। दून रीजन में उत्तराखंड के 13 जिलों के अलावा उत्तर प्रदेश के आठ जनपदों के 1095 स्कूल शामिल हैं। जिनमें 984 निजी स्कूल और 111 केवी व जवाहर नवोदय विद्यालय आते हैं। 


यहां पढ़ें टॉप 10 छात्र-छात्राओं की लिस्ट: 
https://spiderimg.amarujala.com/assets/applications/2020/07/15/top-10uk_5f0eeb8b19118.pdf

ये है टॉप-3 छात्र
छात्र का नाम                स्कूल का नाम                                   अंक
1. ऋषित अग्रवाल         भारतीयम इंटर स्कूल, ऊधमसिंह नगर      498
2. आस्था कंडवाल        डीएसबी इंटरनेशनल, ऋषिकेश                497
2. आर्यन भट्ट               एवी बिरला इंस्टीट्यूट, हल्द्वानी                  497
2. रितिका पालीवाल      एवी बिरला इंस्टीट्यूट, हल्द्वानी                  497
2. हर्षी सिंह                 द गुरुकुल फाउंडेशन, काशीपुर                 497
3. हर्ष वर्धन गुप्ता         ग्रीनवे मॉडर्न स्कूल, रुड़की                       496 
3. काव्या उपाध्याय      निर्मला कान्वेंट काठगोदाम                        496
3. शिवांग सक्सेना       जेसी पब्ल्कि स्कूल, रुद्रपुर                         496
3. प्रिया सिंह               जवाहर नवोदय विद्यालय, रुद्रपुर                496
3. आरूषि बत्रा           सरफ पब्लिक स्कूल, खटीमा                     496
3. प्रतिष्ठा पांडेय         सरफ पब्लिक स्कूल, खटीमा                      496

... और पढ़ें

देहरादून: पुश्ता ढहने से चार लोगों की मौत, डीआईजी ने दिए हादसे की जांच के आदेश

डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने देहरादून की इंदिरा कॉलोनी में हुए हादसे की जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। घटना के बाद से मकान के पीछे गिरा पुश्ता सवालों के घेरे में है। स्थानीय लोग बार-बार इसी पुश्ते पर सवाल उठा रहे हैं। यह पुश्ता अवैध था या हादसा का कोई अन्य कारण रहा इसकी जांच कराई जाएगी। डीआईजी के मुताबिक आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

डीआईजी जोशी ने बताया कि हादसा बहुत गंभीर है। पुलिस, एसडीआरएफ और एनडीआरएफ के जवानों की कड़ी मेहनत से दो लोगों की जान बचाई जा सकी। लेकिन, प्रथमदृष्टया लोगों का जो आरोप है उसकी जांच होनी बहुत जरूरी है। लिहाजा, इस मामले में जांच के आदेश जारी किए गए हैं।

ताकि, जो भी दोषी पाया जाए उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जा सके। इधर, यदि लोगों के आरोप सही निकले तो माना जा रहा है कि इस मामले में कुछ बड़े लोगों पर भी कार्रवाई हो सकती है। आईजी अभिनव कुमार ने बताया कि रेस्क्यू ऑपरेशन में उत्कृष्ट ड्यूटी करने वालों के नाम पीएम जीवन रक्षक मेडल के लिए भेजे जाएंगे। 

अफसरों ने बढ़ाया हौसला, पूरे वक्त खड़े रहे डीआईजी 
बचाव कार्य के दौरान आईजी अभिनव कुमार भी मौके पर पहुंचे। जबकि, डीआईजी अरुण मोहन जोशी और अन्य अफसर वहां पहले से मौजूद थे। हादसे के बाद लगभग दस घंटे ऑपरेशन चला। इस दौरान अफसरों ने जवानों का हौसला बढ़ाए रखा। डीआईजी पूरे समय वहीं जवानों के साथ खड़े रहे। जबकि, सीओ सिटी शेखर सुयाल ने वहां जवानों के साथ मिलकर सरिया काटने से लेकर मलबा हटाने तक का काम किया। कई जवान बचाव कार्य के लिए जमींदोंज मकान के अंदर तक गए। 
... और पढ़ें

प्रधानमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से की केदारनाथ के निर्माण कार्यों की समीक्षा, कहा - धाम के अलौकिक स्वरूप में और भी वृद्धि होगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से केदारनाथ में चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान कहा कि केदारनाथ मंदिर और जगद्गुरु आदि शंकराचार्य समाधि स्थल की दिव्यता बढ़े। कहा कि स्वच्छता को केंद्र में रखकर और व्यापक विकास हो।

केदारनाथ में दिखने लगी रौनक, हिमखंडों के बीच से गुजरकर बाबा के द्वार पहुंचे रहे तीर्थयात्री, तस्वीरें...

मुझे विश्वास है कि बाबा के आशीर्वाद से केदारनाथ धाम के अलौकिक स्वरूप में और भी वृद्धि होगी। पवित्र सावन मास में आज केदारनाथ धाम में हो रहे विकास कार्यों और धाम की दिव्यता को और बढ़ाने के लिए चल रहे प्रयासों की समीक्षा करने का सौभाग्य मुझे प्राप्त हुआ।


कहा कि बाबा केदार के दर्शन मात्र से करोड़ों लोगों को अपूर्व ऊर्जा मिलती है। यात्रियों को गौरीकुंड केदारनाथ मार्ग पर सब सुविधाएं मिलें, टेक्नोलॉजी के द्वारा तीर्थ के ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्व को दिखाया जाए, ऐसी व्यवस्था विकसित हो, इनको लेकर विस्तृत समीक्षा की गई। इस बैठक में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह व अन्य उच्चाधिकारी उपस्थित रहे।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us