विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
क्या कुंडली मिलने पर विवाह करना सही है
kundali milan

क्या कुंडली मिलने पर विवाह करना सही है

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

Ram Mandir Bhumi Pujan: उधर प्रधानमंत्री मोदी ने किया शिलान्यास, इधर ढोल बजाकर झूम उठे बीजेपी विधायक, तस्वीरें

रामभक्तों के बलिदान के बदले में मिला राम मंदिर, कार सेवक के रुप में जेल गए थे संजय और राजेश सैनी 

नब्बे के दशक से ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए संघर्ष करने वाले हरिद्वार के मिस्सरपुर निवासी संजय सैनी और राजेश सैनी आज इस बात से खुश हैं कि आखिर वह दिन आ ही गया जब मंदिर निर्माण का शिलान्यास हो रहा है।

Ram Mandir Bhumi Pujan: देवभूमि उत्तराखंड में आज मनेगी दिवाली, पढ़ें दिनभर की अपडेट

रामभक्तों के बलिदान को याद करके दोनों के आंखें नम हो जाती हैं। इन लोगों का कहना है कि अनगिनत रामभक्तों के बलिदान के बदौलत ही मंदिर बनाने का संकल्प पूरा होने जा रहा है। अक्तूबर 1990 में श्री राम जन्म भूमि आंदोलन में जेल जाने वाले कार सेवक संजय सैनी और राजेश सैनी को यातनाओं के दिन आज भी याद हैं।

संजय सैनी उस समय राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ शाखा के मुख्य शिक्षक थे। राम मंदिर के शिला पूजन से लेकर राम ज्योति कार्यक्रम में उन्होंने बढ़कर हिस्सा लिया। 25 सितंबर, 1990 को गुजरात के सोमनाथ से लाल कृष्ण आडवाणी की रथयात्रा शुरू होने के बाद देश का माहौल बदल गया था। रथयात्रा को 30 अक्तूबर को अयोध्या पहुंचना था। बिहार में रथयात्रा रोकने और आडवाणी की गिरफ्तारी के बाद रामभक्तों बेहद आक्रोश था।
... और पढ़ें

Ram Mandir Bhumi Pujan: हरिद्वार में पुलिस अलर्ट, सार्वजनिक स्थानों पर विशेष नजर

haridwar
अयोध्या में आज होने वाले राम मंदिर के भूमि पूजन के दौरान पुलिस जिले भर में अलर्ट है। मिश्रित आबादी और सार्वजनिक स्थानों पर पुलिस की विशेष नजर है। एसएएसपी ने सार्वजनिक रुप से जश्न मनाने वालों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

Ram Mandir Bhumi Pujan: देवभूमि उत्तराखंड में आज मनेगी दिवाली, पढ़ें दिनभर की अपडेट

उधर भूमि पूजन की पूर्व संध्या पर बम निरोधक और डॉग स्कवायड के साथ हरकी पैड़ी पर चेकिंग अभियान चलाया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सैंथिल अबुइई कृष्णराज एस ने पुलिस को चौकसी बरतने के निर्देश दिए है। थाना प्रभारी अपने क्षेत्र के चौकी प्रभारी और चीता मोबाइल के साथ इलाके में लगातार भ्रमण पर हैं।

उन्होंने निर्देश दिए कि मिश्रित आबादी वाले इलाकों में खास फोकस रखा जाए। अपने घरों में लोग दीये आदि जला सकते हैं, लेकिन सार्वजनिक तौर पर किसी को जश्न मनाने की इजाजत नहीं है। धार्मिक स्थलों पर पूजन आदि में शारीरिक दूरी का पालन होना चाहिए। नियमों की अनदेेेखी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 
... और पढ़ें

Ram Mandir Bhumi Pujan: 5100 घी के दियों से जगमगाएगा उत्तराखंड का मुख्यमंत्री आवास

अयोध्या में श्रीराम मंदिर शिलान्यास पर आज मुख्यमंत्री आवास 5100 घी के दियों से जगमगाएगा। उधर, प्रदेश भाजपा कार्यालय पर दीपोत्सव के साथ सुंदर कांड का पाठ होगा। पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे।

Ram Mandir Bhumi Pujan: देवभूमि उत्तराखंड में आज मनेगी दिवाली, पढ़ें दिनभर की अपडेट

मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार दर्शन सिंह रावत के मुताबिक, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेश वासियों से भी घरों में दीपोत्सव मनाने की अपील की है। उधर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बंशीधर भगत के निर्देश पर प्रदेश और जिला कार्यालय में  दीपोत्सव व रंगोली के कार्यक्रम होंगे। इस दौरान सुंदर कांड का पाठ होगा।

कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष, प्रदेश महामंत्री (संगठन), वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे। इस दौरान सामाजिक दूरी का पूरा ध्यान रखा जाएगा।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: चावल के नाम पर खेला गया बड़ा खेल, 600 करोड़ के घोटाले में सामने आई चौंकाने वाली बातें

उत्तराखंड में करीब 600 करोड़ के चावल घोटाले में हर स्तर पर घपला होने की पुष्टि अब ऑडिट की विशेष जांच रिपोर्ट से भी हो गई है। सचिव वित्त अमित सिंह नेगी ने 2015-16 और 2016-17 की यह जांच रिपोर्ट प्रमुख सचिव खाद्य को भेज दी है। रिपोर्ट से जाहिर है कि धान खरीद से लेकर मिलिंग, पैकिंग, गोदामों तक पहुंचाने के दौरान हर स्तर पर गड़बड़ी हुई। पीडीएस तक चावल पहुंचाने वाले स्टेट पूल तक को नहीं बख्शा गया।

प्रदेश में चावल घोटाला 2017 में सामने आया था। इसकी जांच एसआईटी ने भी की थी और करीब छह सौ करोड़ रुपये के घोटाले का अनुमान जताया था। गरीब के कोटे के चावल में हेरा फेरी से लेकर अन्य कई मामले सामने आए थे। इसमें कुछ अधिकारियों को निलंबित भी किया गया था।

अब स्पेशल ऑडिट में भी सामने आया है कि इस घोटाले में हर स्तर पर खेल खेला गया। नोटबंदी का भी फायदा लिया गया और बोरों तक में करोड़ों के रुपये बनाए गए। रिपोर्ट के मुताबिक खाद्य सुरक्षा में ही सरकार को इससे करीब 18 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। बोरों की प्रतिपूर्ति में ही 43 करोड़ रुपये का अधिक भुगतान दिखाया गया। यह तब है जबकि स्पेशल ऑडिट टीम संबंधित पक्षों की ओर से सहयोग न करने के कारण पूरी जांच नहीं कर पाई।
... और पढ़ें

Ram Mandir Bhumi Pujan: देवभूमि उत्तराखंड में में जश्र का माहौल, बदरीनाथ में किया गया पूजन

अयोध्या में श्रीराम मंदिर शिलान्यास पूजन को लेकर उत्तराखंड में भी उत्साह चरम पर है। आज देवभूमि उत्तराखंड में श्रीराम मंदिर का जश्न दिवाली की रूप में मनाया जाएगा। हिंदूवादी और सामाजिक संगठनों के सदस्य घरों में दीपोत्सव मनाएंगे। वहीं, प्रसाद वितरण व अन्य कार्यक्रम होंगे।

बदरीनाथ धाम में श्रीराम मंदिर भूमि पूजन पर सिंहद्वार प्रांगण में भजन कार्यक्रम आयोजित हुुआ। इस दौरान मंदिर के रावत ने आरती की। दीप प्रज्ज्वलन भी किया गया।

राजधानी देहरादून में बल्लीवाला फ्लाई ओवर के पास स्थित कमलेश्वर महादेव मेंदिर में पूजा अर्चना की गई। भाजपा कार्यालय में महिला कार्यकर्ताओं ने रंगोली बनाई और जय श्रीराम का उद्घोष किया। इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत और अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। 

दून के प्राचीन शिव मंदिर धर्मपुर में सुंदरकांड का पाठ किया गया। वहीं क्लेमेंटटाउन रेसिडेंट सोसायटी ने पौधा रोपण किया और भगवान श्रीराम से कोरोना महामारी को जल्द खत्म करने की प्रार्थना की। देहरादून में गांधी पार्क के पास विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने जयश्री राम के नारे लगाए।

तीर्थ नगरी हरिद्वार भी आज भगवान के रंग में रंग गई। यहां सुबह से ही मंदिरों और आश्रमों में कार्यक्रमों का दौर जारी रहा। राम मंदिर शिलान्यास की खुशी में कनखल स्थित घाट पर बाह्मणों और भाजपा कार्यकर्ताओं ने पूजा की। 

हल्द्वानी के कामलुवागंला तिनपुर्ति मंदिर में हनुमान चालिसा का पाठ किया गया। बाजपुर में शहीद भगत सिंह चौक पर पूजा अर्चना के साथ जय श्री राम का उद्घोष किया।
... और पढ़ें

UPSC Civil Services Exam 2019 Result: आईपीएस विशाखा ने दो साल बाद फिर पाई 134वीं रैंक

देहरादून की बेटी विशाखा ने दो साल बाद फिर सिविल सेवा परीक्षा में कामयाबी हासिल की है। उन्होंने 2018 में आए सिविल सेवा परीक्षा-2017 के परिणामों में देशभर में 134वीं रैंक पाई थी। वर्तमान में वह गुजरात कैडर की आईपीएस हैं। 

सिविल सेवा परीक्षा 2019 में देहरादून के तुनवाला निवासी बीपी डबराल की बेटी विशाखा डबराल ने देशभर में फिर 134वीं रैंक हासिल की है। उनके पिता बीपी डबराल पुलिस महकमे में अधिकारी हैं।

यह भी पढ़ें: 
UPSC Civil Services Exam 2019 Result : परीक्षा परिणाम घोषित, उत्तराखंड के शुभम ने हासिल की 43वीं रैंक

बेटी की दूसरी उपलब्धि पर पिता का सीना गर्व से चौड़ा हो गया है। विशाखा की 12वीं तक की पढ़ाई गुरुनानक एकेडमी से हुई। इसके बाद उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के मिरांडा हाउस से बीए किया। बीए में उन्होंने इतिहास और अर्थशास्त्र चुना।

वर्ष 2015 में ग्रेजुएशन के बाद विशाखा ने सिविल की तैयारी शुरू की। सेल्फ स्टडी के दम पर वर्ष 2016 में सिविल सेवा परीक्षा दी, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। विशाखा ने हिम्मत नहीं हारी।
... और पढ़ें
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us