विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्रि पूजन में सबसे महत्वपूर्ण है यह चार चीज़ें, जानें महत्व !
Navratri Special

नवरात्रि पूजन में सबसे महत्वपूर्ण है यह चार चीज़ें, जानें महत्व !

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

Weather Today : उत्तराखंड के अधिकतर इलाकों में सुबह छाए बादल, ठंड में इजाफा

उत्तराखंड में मौसम की भविष्यवाणी : गुरुवार की सुबह बादल छाए रहे उत्तराखंड में मौसम की भविष्यवाणी : गुरुवार की सुबह बादल छाए रहे

उत्तराखंड : अध्यक्ष पद से औचक विदाई पर श्रम मंत्री हरक सिंह नाराज, आज आ सकते हैं देहरादून

भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष पद से विदाई के बाद श्रम मंत्री हरक सिंह रावत ने चुप्पी साध ली है। इसे उनकी नाराजगी से जोड़कर देखा जा रहा है।

उत्तराखंड: भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड का पुनर्गठन, अध्यक्ष पद से वन मंत्री हरक सिंह बाहर

बुधवार को दिन भर उनके दोनों फोन नंबर बंद रहे। बोर्ड की सचिव दमयंती के मामले में शासन बदले रुख को लेकर यही चर्चा रही कि हरक सिंह ने शासन से अपनी नाराजगी जाहिर कर दी है।

श्रम मंत्री हरक सिंह प्रदेश के कद्दावर नेताओं में गिने जाते हैं। 2017 में कर्मकार कल्याण बोर्ड में उनकी ताजपोशी को भी उनके रुतबे और सरकार में पैठ के रूप में देखा गया था। इसके बाद बोर्ड के सचिव पद के रूप में दमयंती की तैनाती भी उनके इसी रुतबे का परिणाम माना गया। 
... और पढ़ें

एक्सक्लूसिव: उत्तराखंड की सड़कें चमकाने को केंद्र देगा पैसा, 500 करोड़ का प्रस्ताव होगा तैयार

उत्तराखंड की सड़कों को चमकाने के लिए केंद्र सरकार 365 करोड़ रुपये देगा। यह धनराशि केंद्र सरकार वित्त मंत्रालय से विशेष सहायता योजना के तहत प्राप्त होगी। केंद्र सरकार ने राज्य सरकार से इस संबंध में प्रस्ताव मांगे हैं।

राज्य सरकार विशेष सहायता योजना के तहत 500 करोड़ रुपये का प्रस्ताव भेजेगी, जिसमें 365 करोड़ रुपये सड़कों के नवीनीकरण पर खर्च होंगे। इस धनराशि के खर्च की व्यवस्था अनुपूरक बजट में की जाएगी। विभागीय मंत्री के तौर पर मुख्यमंत्री ने प्रस्ताव पर अपना अनुमोदन दे दिया है। अब वित्त की स्वीकृति के साथ इसे केंद्र सरकार को भेज दिया जाएगा। 

मानसून के बाद सरकार ने सड़कों को गड्ढ़ामुक्त बनाने के लिए युद्धस्तर पर काम छेड़ा है। प्रदेश में प्रमुख मोटर और नगरीय मार्गों की मरम्मत के लिए अधिक धनराशि की आवश्यकता है, लेकिन कोरोनाकाल में लॉकडाउन के कारण राज्य सरकार की आर्थिक स्थिति खराब हुई है।

बहुत जरूरी अवस्थापना कार्यों के लिए ही सरकार पैसे का इंतजाम कर पा रही है। ऐसे हालात में केंद्र सरकार की विशेष सहायता के प्रस्ताव को बड़ी राहत के तौर पर देखा जा रहा है। अवस्थापना कार्यों के लिए बनाए गए 500 करोड़ रुपये के प्रस्ताव में 365 करोड़ रुपये केवल प्रदेश की सड़कों पर ब्लैक टॉप करने पर खर्च किए जाएंगे।
... और पढ़ें

देशभर के सैनिक स्कूलों में बजी दाखिले की घंटी, 10 जनवरी को होगी प्रवेश परीक्षा

उत्तराखंड सहित देशभर के 33 सैनिक स्कूलों में कक्षा छह और कक्षा नौ में दाखिलों की प्रवेश परीक्षा के आवेदन शुरू हो गए हैं। इनमें दाखिले के लिए अगले साल 10 जनवरी को प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाएगी। 

सैनिक स्कूलों की प्रवेश परीक्षा के लिए आप 19 नवंबर तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन के समय ही परीक्षा शुल्क भी भरना होगा। जनरल, ओबीसी के लिए 550 रुपये और एससी, एसटी उम्मीदवारों के लिए शुल्क 400 रुपये तय किया गया है।


कक्षा छह में एडमिशन के लिए छात्र की उम्र 31 मार्च 2021 तक 10 से 12 साल के बीच होनी चाहिए। लड़कियों के लिए सभी सैनिक स्कूलों में सिर्फ कक्षा छह में एडमिशन का नियम है। वहीं, 9वीं कक्षा में एडमिशन के लिए बच्चे की उम्र 31 मार्च 2021 तक 13 से 15 साल के बीच होनी चाहिए। एडमिशन के समय छात्र ने मान्यता प्राप्त स्कूल से 8वीं कक्षा पास कर ली हो।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: हवा को जहरीली बना रहे उद्योगों पर कसा शिकंजा, 31 मार्च तक लगाना होगा वायु शोधक संयंत्र

उत्तराखंड में हवा को जहरीली बना रहे उद्योगों पर अब पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने शिकंजा कस दिया है। बोर्ड ने इस तरह के उद्योगों को 31 मार्च 2022 तक वायु शोधक संयंत्र लगाने को कहा है। बुधवार को बोर्ड बैठक में यह फैसला लिया गया। 

बोर्ड के संज्ञान में आया कि प्रदेश में ऐसे भी कई उद्योग हैं जो इगनॉट बनाने का काम करते हैं, अभी तक करीब ऐसे 54 उद्योग चिह्नित किए गए हैं। इन उद्योगों को कहा गया है कि वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए जरूरी उपाय करें।


बोर्ड बैठक में इसके लिए समय सीमा तय कर दी गई। इस तरह के उद्योग कोटद्वार, भगवानपुर, काशीपुर, किच्छा में अधिक हैं। इगनॉट के उत्पादन में उच्च ताप पर लोहे को पिघलाया जाता है और इससे कई जहरीली गैस वातावरण में पहुंचती हैं।
... और पढ़ें

Corona in Uttarakhand: 505 नए संक्रमित मिले, 14 की मौत, मरीजों की संख्या 59 हजार पार

उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 505 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। वहीं, 770 संक्रमित मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। कुल संक्रमितों का आंकड़ा 59 हजार पार कर गया है। इसमें 52632 मरीज ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में 5085 सक्रिय मरीजों का उपचार चल रहा है। 

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को 11687 सैंपल जांच में निगेटिव पाए गए। पहली बार प्रदेश की रिकवरी दर 89 प्रतिशत हो गई है। देहरादून जिले में सबसे अधिक 140 कोरोना मरीज मिले हैं। ऊधमसिंह नगर में 52, नैनीताल में 49, पौड़ी में 47, चमोली में 39, हरिद्वार में 37, उत्तरकाशी में 30, पिथौरागढ़ में 26, रुदप्रयाग में 25, अल्मोड़ा में 24, टिहरी में 20, बागेश्वर व चंपावत जिले में 8-8 कोरोना संक्रमित मामले मिले हैं। 


यह भी पढ़ें: 
Coronavirus: उत्तराखंड को एक करोड़ से ज्यादा कोरोना वैक्सीन की होगी जरूरत, टास्क फोर्स का गठन

बीते 24 घंटे में प्रदेश में 14 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। इसमें एम्स ऋषिकेश में चार, सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी में चार, हिमालयन हॉस्पिटल में दो, एचएनबी बेस हॉस्पिटल श्रीनगर में तीन, जिला अस्पताल चमोली में एक मरीज की मौत हुई है। मरने वालों की कुल संख्या 960 हो गई है।
... और पढ़ें

अमर उजाला एक्सक्लूसिव : बदहाल है गांव का मुख्य मार्ग, खाली प्लाटों में बना दी सड़कें

Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X