विज्ञापन
विज्ञापन
कैसा रहेगा वर्ष 2021, जानें अनुभवी ज्योतिषाचार्यों से
astrology

कैसा रहेगा वर्ष 2021, जानें अनुभवी ज्योतिषाचार्यों से

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

रिटायर्ड आईएफएस ने उठाया बच्चों को शिक्षित और रोगियों को स्वस्थ करने का बीड़ा, रह चुके हैं चार देशों के राजदूत

उत्तराखंड में रानीखेत के एक आईएफएस अधिकारी ने सेवानिवृत्त होने के बाद गरीब बच्चों को निशुल्क शिक्षा और रोगियों को स्वास्थ्य लाभ देने का बीड़ा उठाया है...

27 अक्टूबर 2020

विज्ञापन
Digital Edition

अमर उजाला एक्सक्लूसिव : उत्तराखंड में नवंबर के पहले सप्ताह में खुलेंगे कोचिंग संस्थान

कोरोना अनलॉक शुरू होने के बाद प्रशासन पहली बार कोचिंग संस्थान खोलने की तैयारी कर रहा है। देहरादून जिला प्रशासन ने राजधानी के कोचिंग संस्थान नवंबर के पहले सप्ताह में खोलने के संकेत दिए हैं। 

सूत्रों के मुताबिक, स्कूलों के लिए जारी एसओपी ही कोचिंग संस्थानों पर लागू होगी। इसके तहत सख्त नियम हैं। जिन्हें कोचिंग के प्रवेश द्वार, नोटिस बोर्ड में भी चस्पा किया जाएगा। कोविड-19 को देखते हुए सुरक्षा निर्देशों का पालन हरहाल में करना होगा।

यह भी पढ़ें: 
Unlock 5.0 In Uttarakhand: दो नवंबर से खुलेंगे स्कूल, अधिक छात्र आए तो दो पालियों में चलेंगी कक्षाएं


कोचिंग संस्थानों में सभी स्थानों, फर्नीचर, उपकरणों, स्टेशनरी, पानी की टंकियों, शौचालय आदि की अच्छी तरह सफाई अनिवार्य होगी। अधिकारियों के मुताबिक कोचिंग संस्थानों में भी सीटिंग प्लान में स्टूडेंट्स के बीच कम से कम छह फीट की दूरी रखी जाएगी। स्टूडेंट्स के बैठने के स्थान को आइडेंटिफाई किया जाएगा।
... और पढ़ें

एक्सक्लूसिव: उत्तराखंड में हाई सिक्योरिटी प्लेट न लगाने वाले वाहनों की फिटनेस पर रोक

सहायक संभागीय परिवहन कार्यालय (एआरटीओ) में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट (एचएसआरपी) न लगाने वाले व्यावसायिक वाहनों की फिटनेस जांच पर रोक लगा दी गई है। नई व्यवस्था तहत के तहत वाहनों का फिटनेस कराने से पहले एचएसआरपी लगाना अनिवार्य है। इसके बाद ही फिटनेस जांच के लिए आवेदन किया जा सकेगा। 

बता दें, निजी व कॉमर्शियल वाहनों में एचएसआरपी लगाने की अनिवार्यता एक साल पहले लागू की गई थी, लेकिन प्लेट लगाने में लगातार हो रही लापरवाही पर अब विभाग ने सख्त रुख अपनाया है। इसके तहत अब एआरटीओ कार्यालय में फिटनेस के लिए आने वाले कॉमर्शियल वाहनों में सबसे पहले एचएसआरपी की जांच की जा रही है।

प्लेट न होने पर वाहनों के आवेदन स्वीकार नहीं किए जा रहे हैं। बीते 15 दिनों में 100 से ज्यादा वाहन स्वामियों को एचएसआरपी न लगाने के कारण लौटाया दिया गया। एआरटीओ द्वारिका प्रसाद ने कहा कि विभाग का मकसद है कि शत-प्रतिशत वाहनों में एचएसआर प्लेट लगाई जाए, क्योंकि यह प्लेट सुरक्षा के लिहाज से भी जरूरी है। आरटीओ कार्यालय में ही प्लेट लगाने वाली कंपनी का कार्यालय भी है।
... और पढ़ें

राज्यसभा चुनाव 2020: उत्तराखंड से नरेश बंसल के नाम पर मुहर , 50 साल की सेवा का मिला ईनाम

उत्तराखंड भाजपा के पूर्व प्रदेश संगठन महामंत्री नरेश बंसल राज्यसभा जाएंगे। पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति ने बंसल को राज्यसभा चुनाव का प्रत्याशी घोषित कर दिया है। विधानसभा में भाजपा के पास मजबूत संख्या बल होने की वजह से बंसल का चुना जाना तय माना जा रहा है। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व मुख्यालय प्रभारी ने बंसल के नाम की मंजूरी जारी की है। 

केंद्रीय चुनाव समिति ने पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा, राष्ट्रीय कार्यालय सचिव महेंद्र पांडेय और पूर्व सांसद बलराज पासी के नामों के स्थान पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा में लंबे समय से सक्रिय लोकल नेता नरेश बंसल को तरजीह दी। प्रदेश संगठन ने शनिवार को पांच नामों का पैनल भेजा था। पैनल में बंसल का नाम तीसरे स्थान पर था।


उनके अलावा प्रदेश उपाध्यक्ष अनिल गोयल का नाम भी था। गोयल को पार्टी दो बार राज्यसभा का प्रत्याशी बना चुकी है। पैनल में बहुगुणा और महेंद्र पांडेय के नाम के बीच बंसल मजबूत नाम बनकर उभरे हैं। बता दें कि अभी इस राज्यसभा सीट पर कांग्रेस के राजब्बर काबिज हैं, जिनका कार्यकाल 25 नवंबर को पूरा हो जाएगा। 

मंगलवार को भरेंगे पर्चा, चुना जाना तय
राज्यसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी नरेश बंसल मंगलवार को विधानसभा में पर्चा भरेंगे। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, प्रदेश संगठन महामंत्री अजेय कुमार समेत पार्टी के  कई पदाधिकारी व अन्य कार्यकर्ता उपस्थित रहेंगे। 

50 साल की सेवा को ईनाम
बंसल आठ साल की आयु से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संपर्क में आए। निम्न मध्यम वर्गीय परिवार और वैश्य समाज से जुड़े बंसल आरएसएस के सक्रिय स्वयंसेवक होने के साथ भाजपा के प्रदेश संगठन महामंत्री, प्रदेश महामंत्री और कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष पद पर रहे हैं। पार्टी ने राज्यसभा का प्रत्याशी बनाकर उन्हें उनकी 50 साल की सेवा का ईनाम दिया है।

शिव प्रकाश की चली
राज्यसभा के चुनाव में नरेश बंसल का टिकट फाइनल करने में राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन शिव प्रकाश का प्रभाव भी माना जा रहा है। सियासी जानकारों का कहना है कि बंसल को केंद्रीय संगठन में तगड़ा प्रभाव रखने वाले शिव प्रकाश का सहयोग प्राप्त हुआ।
... और पढ़ें

उत्तराखंड में जल्द लागू होगा आदर्श किरायेदारी अधिनियम, 31 अक्तूबर तक लोगों से मांगे सुझाव

उत्तराखंड में किरायेदारी क्षेत्र को एक औपचारिक बाजार के रूप में संतुलित और न्याय संगत बनाने के लिए सरकार जल्द ही आदर्श किरायेदारी अधिनियम (एमटीए) लागू करेगी। राज्य सरकार ने केंद्र के आदर्श किरायेदारी अधिनियम को अपनाया है। शहरी विकास विभाग की ओर से इस एक्ट पर 31 अक्तूबर तक लोगों से सुझाव व आपत्तियां मांगी गई हैं।

मकान मालिक व किरायेदारों के बीच आपसी झगड़ों को खत्म करने के लिए केंद्र सरकार ने आदर्श किरायेदारी एक्ट तैयार किया है। मकान मालिक व किरायेदार के बीच लिखित रूप से अनुबंध होगा और सहमति से ही किराया तय किया जाएगा।


एक्ट में मकान की पुताई से लेकर बिजली की वायरिंग, स्विच बोर्ड, पानी का नल ठीक करने आदि के लिए अलग-अलग जिम्मेदारी तय की गई है। इससे मकान मालिक व किरायेदार के बीच किसी तरह का विवाद नहीं रहेगा।

अधिनियम लागू होने के बाद मकान मालिक अपनी मर्जी से किराया नहीं बढ़ा सकेंगे। किराये से संबंधित विवाद व शिकायतें सिविल न्यायालय में दायर नहीं होंगे। इसे मामलों की किराया प्राधिकरण व न्यायालय में सुनवाई की जाएगी।

शहरी विकास विभाग के संयुक्त निदेशक कमलेश मेहता का कहना है कि एमटीए एक्ट को निदेशालय की वेबसाइट पर अपलोड किया गया है। कोई भी व्यक्ति एक्ट पर 31 अक्तूबर तक सुझाव व आपत्तियां ई-मेल से भेज सकता है।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: मुख्यमंत्री जांचेंगे मंत्रियों के विभागों का प्रदर्शन, साढ़े तीन साल का रिपोर्ट कार्ड तलब 

उत्तराखंड में मंत्रिमंडल विस्तार की संभावना के बीच मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सभी मंत्रियों के विभागों का प्रदर्शन जांचने की तैयारी कर ली है। उनके निर्देश पर शासन ने मंत्रियों के विभागों से पिछले साढ़े तीन के दौरान का रिपोर्ट कार्ड तलब किया है।

विभागीय प्रगति के साथ ही भावी कार्ययोजना का ब्योरा भी मांगा गया है। मुख्यमंत्री इन जानकारियों के आधार पर अधिकारियों से विभागों की नब्ज टटोलेंगे। दो मंत्रियों की नाराजगी के बीच आयोजित होने जा रही इन समीक्षा बैठकों के दौर 29 अक्तूबर से शुरू होंगे और 18 नवंबर तक यह सिलसिला जारी रहेगा।


यह भी पढ़ें:
 उत्तराखंड में जल्द लागू होगा आदर्श किरायेदारी अधिनियम, 31 अक्तूबर तक लोगों से मांगे सुझाव

बैठक में शासन और विभागों के अधिकारियों के साथ जिलास्तरीय अधिकारियों को भी वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से शामिल होने के निर्देश दिए गए हैं। अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री राधा रतूड़ी ने इसका कार्यक्रम जारी कर दिया है।
... और पढ़ें

Urs 2020: पिरान कलियर दरगाह में उर्स के मौके पर इस बार नहीं होगी सूफियाना कव्वाली 

पिरान कलियर में साबिर पाक के सालाना उर्स में इस बार कोविड-19 के चलते सूफियाना कव्वाली नहीं होगी और सूफियों की गद्दियां भी नहीं लगेंगी। भीड़ के मद्देनजर दरगाह प्रशासन की ओर से यह फैसला लिया गया है।

साबिर पाक के सालाना उर्स में देश के अलग-अलग हिस्सों से सूफी संत और कव्वाल पहुंचकर दरगाह परिसर में अपनी गद्दियां लगाते हैं। कव्वाल अपने कलाम से पूरे माहौल को सूफियाना बना देते हैं। साबिर पाक की तारीफ में वे अशआर और कलाम पढ़ते हैं, जिसे सूफी और जायरीन घंटों  बैठकर सुनते रहते हैं।


उर्स शुरू होने के साथ ही कई प्रदेशों के कव्वाल और सूफी कलियर पहुंच चुके हैं, लेकिन इस बार कोविड के चलते सूफियों के गद्दी लगाने और कव्वालियों पर प्रतिबंध है। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नमामी बंसल ने दरगाह परिसर में दस गद्दियां लगाने की अनुमति दी थी, लेकिन भीड़ की आशंका के मद्देनजर दरगाह प्रशासन ने गद्दियां नहीं लगाने का निर्णय लिया है। नायब सज्जादानशीन शाह अली एजाज साबरी ने बताया कि दरगाह परिसर में भीड़ न लगे, इसके लिए हर तरह की एहतियात बरती जा रही है।

दरगाह क्षेत्र की निगरानी करेगी मोबाइल टीम: सीओ
मेला सीओ अनुज आर्य ने सोमवार को उर्स से संबंधित अधिकारियों और दरगाह प्रबंधक के साथ बैठक की। इसमें उन्होंने कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मेला क्षेत्र के लिए पुलिस की एक मोबाइल टीम बनाई जाएगी, जो नियमों का पालन नहीं करने वालों के चालान करेगी। इस मौके पर मेला कोतवाली प्रभारी अजय सिंह, थानाध्यक्ष जगमोहन रमोला, एलआईयू से  एसआई भूपेंद्र मेहता, दरगाह प्रबंधक मोहम्मद हारुन, सुपरवाइजर राव सिंकदर आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: चिनूक हेलीकॉप्टर ने गौचर हवाई पट्टी पर की लैंडिंग, आज से भारी मशीनें पहुंचाएगा केदारनाथ

केदारनाथ पुनर्निर्माण के तहत दूसरे चरण के निर्माण कार्यों के लिए भारतीय सेना का चिनूक हेलीकॉप्टर मंगलवार से गौचर हवाई पट्टी से धाम भारी मशीनें पहुंचाएगा। भारतीय सेना का यह मालवाहक हेलीकॉप्टर गौचर हवाई पट्टी पर पहुंच चुका है।

उधर, केदारनाथ में भी हेलीकॉप्टर की सफल लैंडिंग और मशीनों को उतारने के लिए प्रशासन और डीडीएमए की ओर से सभी जरूरी कार्रवाई पूरी कर दी गई है। अमेरिका में निर्मित इस हेलीकॉप्टर से तीन भारी मशीनें, जिसमें डंपर, हाइड्रा और जेसीबी रखी गई हैं, जिन्हें पार्ट्स (टुकड़ों) के रूप में केदारनाथ पहुंचाया जाएगा।


यह भी पढ़ें: 
इस दिन बंद होंगे बदरीनाथ-केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट

चिनूक हेलीकॉप्टर की ओर से 17 अक्तूबर को केदारनाथ में एमआई-26 हेलीपैड पर सफल लैंडिंग की गई थी। चिनूक सीएच-47 हेलीकॉप्टर 20 हजार फीट से भी अधिक ऊंचाई पर उड़ान भर सकता है। साथ ही यह एक समय में 12 टन से अधिक वजन अपने साथ ले जा सकता है।
... और पढ़ें

टिहरी : रिश्ते के चाचा ने महिला से किया दुष्कर्म, जेवरात भी लूट कर ले गया आरोपी

टिहरी जिले के जाखणीधार ब्लॉक क्षेत्र के एक गांव में महिला के साथ गांव के ही व्यक्ति ने दुष्कर्म किया। आरोपी ने महिला के जेवरात पर भी हाथ साफ किया। आरोपी रिश्ते में महिला का चाचा लगता है। आरोपी ने घटना के बारे में बताने पर महिला को जान से मारने की धमकी दी थी।

महिला की तहरीर के आधार पर राजस्व पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपी से जेवरात नहीं बरामद हो पाए। जानकारी के मुताबिक 24 अक्तूबर को शादी समारोह के दौरान अंधेरे का फायदा उठाकर आरोपी महिला को खींचकर खेत में ले गया।

महिला की तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म करने और जेवरात लूटने का मुकदमा दर्ज किया है। राजस्व उप निरीक्षक दिनेश काला ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय के आदेश पर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X