बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

एसडीएम के खिलाफ भड़के उलमा

पूरनपुर/पीलीभीत। Updated Mon, 06 Apr 2015 11:52 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
मदरसा दारुल उलूम अरबिया कादरिया में उलमा, हाफिजों  की बैठक में एसडीएम पर सालाना अजमते मुस्तफा कांफ्रेंस रुकवाने और उसे ड्रामा बताने का आरोप लगाते हुए उनकी निंदा की गई। बैठक में एसडीएम के खिलाफ नौ अप्रैल को बैठक कर अगली रणनीति तय करने का निर्णय लिया गया।
विज्ञापन


बैठक में कहा गया कि मदरसा दारुल उलूम अरबिया कादरिया में रविवार को दस्तार बंदी पर जलसा हो रहा था। आरोप है कि इस बीच पहुंचे एसडीएम ने दस्तार बंदी को रोकने का प्रयास कर जलसे को ड्रामा बताया। इसे किसी कीमत पर बर्दास्त नहीं किया जाएगा। बैठक में कार्यक्रम रुकवाने के प्रयास और उसे ड्रामा बताने पर एसडीएम की निंदा की गई। तय हुआ कि एसडीएम के खिलाफ नौ अप्रैल को बैठक कर प्रस्ताव पास किया जाएगा। बैठक में मौलाना शेर मोहम्मद खान, आमिर रजा खान, फजले अहमद नूरी, हाफिज कमर महबूब, हाफिज नूर अहमद रजा अजहरी, हाफिज जकी, हाफिज जाकिर खां, मौलाना नाजिम रजा, मौलाना जावेद बरकाती, अजमल अली, नईम अहमद रजवी, हाफिज फिरोज खां आदि थे।

0000
कार्यक्रम का एक पक्ष के लोग विरोध कर रहे थे। डीएम के निर्देश पर सीओ, कोतवाल के साथ मौके पर गए थे। आयोजकों से कार्यक्रम जल्दी कर लेने को कहा गया।  समारोह रुकवाने का प्रयास करने व उसे ड्रामा कहे जाने की बात गलत है।
- ज्ञानेंद्र कुमार सिंह, एसडीएम

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us