विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

अयोध्या प्रकरणः कल्याण सिंह बतौर आरोपी 27 को अदालत में तलब, विशेष न्यायाधीश ने दिया आदेश

अयोध्या प्रकरण के विशेष न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री व राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह को बतौर आरोपी तलब किया है।

22 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

महाराजगंज

रविवार, 22 सितंबर 2019

समय से वेतन भुगतान के लिए फॉर्मासिस्टों ने दिया धरना

समय से वेतन भुगतान के लिए फॉर्मासिस्टों ने दिया धरना
संवाद न्यूज एजेंसी
महराजगंज। डिप्लोमा फॉर्मासिस्ट एसोसिएशन महराजगंज ने बुधवार को समय से वेतन भुगतान सहित सात सूत्री मांगों को लेकर मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय परिसर में धरना दिया। प्रदर्शनकारियों ने सक्षम अधिकारियों से मांगों के प्रति अविलंब आवश्यक कदम उठाने की मांग की।
अध्यक्षीय संबोधन में एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष विजय प्रताप सिंह ने कहा कि फॉर्मासिस्ट अपनी मांगों को लेकर कई बार सीएमओ से मिले, लेकिन मांगों पर ध्यान नहीं दिया गया। इसके चलते संगठन को धरना देने का निर्णय लेना पड़ा। उन्होंने कहा कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मिठौरा, सिसवा व रतनपुर के सभी न्यू प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर तैनात फॉर्मासिस्टों का वर्ष 2018-19 का बोनस भुगतान नहीं दिया गया है। बहुत से फॉर्मासिस्टों को वर्ष 2017-18 व 2018-19 का एरियर आदि का भुगतान नहीं किया गया है। यही नहीं, फॉर्मासिस्टों व कर्मचारियों को समय से वेतन का भुगतान नहीं किया जा रहा है। इससे स्वास्थ्य कर्मियों के समक्ष समस्या उत्पन्न हो रही है। उन्होंने कुछ फॉर्मासिस्टों का नियम विरुद्ध तबादला करने का भी आरोप लगाया। इस दौरान हरीराम कन्नौजिया, सत्येन्द्र कुमार सिंह, उमेश चंद गुप्ता, अवधेश कुमार यादव, कृष्ण कुमार पटेल, आनंद पटेल, संतोष कुमार श्रीवास्तव, विनय पांडेय, संजय उपाध्याय, रमेश यादव, प्रदीप कुमार, बैजनाथ शर्मा, अर्जुन प्रसाद, आशुतोष त्रिपाठी, शैलेष कुमार पांडेय, शैलेष मिश्रा आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

राजस्व वसूली में विलंब पर सहायक लेखाकार को प्रतिकूल प्रविष्टि

राजस्व वसूली में विलंब पर सहायक लेखाकार को प्रतिकूल प्रविष्टि
जिलाधिकारी ने तहसीलदार फरेंदा को दी चेतावनी, उप निदेशक कृषि व सहायक मत्स्य अधिकारी से स्पष्टीकरण तलब
संपूर्ण समाधान दिवस पर आए 192 मामले, मौके पर सिर्फ 16 को पाया निस्तारण
अमर उजाला ब्यूरो
महराजगंज/फरेंदा। संपूर्ण समाधान दिवस पर जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय ने मंगलवार ने फरेंदा तहसील सभागार में लोगों की शिकायतों की सुनवाई की। इस दौरान डीएम ने राजस्व वसूली के मामले में नोटिस जारी करने व तामिला में विलंब पर सहायक राजस्व लेखाकार को प्रतिकूल प्रविष्ट के अलावा वसूली की समीक्षा सही ढंग से न होने पर तहसीलदार फरेंदा को चेतावनी दी। संपूर्ण समाधान दिवस में कुल 192 मामले आए। इनमें से सिर्फ 16 का मौके पर निस्तारण हो पाया।
जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय ने फरियादियों की शिकायतों की सुनवाई की और विभागीय अधिकारियों को त्वरित निस्तारण का निर्देश दिया। उन्होंने अधिकारियों को आगाह किया कि आईजीआरएस की समीक्षा प्रत्येक 15 दिन पर होनी चाहिए। अधिकारी शिकायतों का गुणात्मक निस्तारण करें और शिकायत लंबित न रहें। भौतिक सत्यापन के बाद ही शिकायतों का निस्तारण सुनिश्चित करें। शिकायतों के निस्तारण की प्रदेश स्तर के अधिकारी भी जांच कर रहे हैं। ऐसे में कार्यालयों में अभिलेखों के रखरखाव, मूवमेंट रजिस्टर, उपस्थिति पंजिका आदि दुरुस्त रहनी चाहिए।
संपूर्ण समाधान दिवस के मध्य में जिलाधिकारी अचानक राजस्व विभाग के संग्रह अनुभाग का निरीक्षण करने पहुंचे गए। इस दौरान सहायक राजस्व लेखाकार सेक्सन में विद्युत निगम व अन्य विभागों की बकाया वसूली के लिए नोटिस जारी करने एवं तामिला में विलंब के कारण वसूली न होने की शिकायत पर नाराजगी जताई। इस दौरान जिलाधिकारी सहायक राजस्व लेखाकार उमेश गौतम से वसूली की स्थिति के बारे में पूछताछ की। संतोषजनक जवाब न मिलने पर उन्होंने नाराजगी जाहिर करते हुए प्रतिकूल प्रविष्टि दी। वसूली की नियमित समीक्षा न करने पर जिलाधिकारी तहसीलदार नरेश चंद्र को चेतावनी दी। उधर, समाधान दिवस में उप निदेशक कृषि डॉ. राजेेश व सहायक मत्स्य अधिकारी के अनुपस्थित रहने पर उन्होंने संबंधित से स्पष्टीकरण तलब किया। फौजदारी व अन्य मुकदमों की साप्ताहिक समीक्षा न करने पर एसडीएम आरबी सिंह को उन्होंने हर सप्ताह समीक्षा करने का निर्देश दिया गया। इस दौरान सीडीओ पवन अग्रवाल, एएसपी आशुतोष शुक्ला, सीएमओ सीएस पांडेय, एसडीएम आरबी सिंह, अधिशासी अधिकारी राजेश जायसवाल, अधीक्षक डॉ. हीरालाल, जिला पूर्ति निरीक्षक जीएस शुक्ला आदि मौजूद रहे।
----------
छह अनुपस्थित अधिकारियों का एक दिन का वेतन रोका
निचलौल। तहसील सभागार में बुधवार को उपजिलाधिकारी सत्यम मिश्र की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। इस दौरान आए 44 शिकायतों में से सात का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया। समाधान दिवस में अनुपस्थित खंड विकास अधिकारी निचलौल, मिठौरा, सिसवा व सहायक अभियंता लघु सिंचाई, सहायक अभियंता ग्रामीण अभियंत्रण सेवा व खंड शिक्षा अधिकारी का एक दिन का वेतन उन्होंने रोक दिया और संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया। नौतनवां तहसील में एसडीएम जसवीर सिंह ने शिकायतें सुनीं और समाधान का आश्वासन दिया। इस दौरान आए कुल 40 मामलों में दो का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया। सदर तहसील में 11 मामले आए। जिसमें से एक भी निस्तारित नहीं हुआ।
... और पढ़ें

‘पीड़ित महिलाओं को प्राथमिकता से दिलाएं न्याय’

‘पीड़ित महिलाओं को प्राथमिकता से दिलाएं न्याय’
राज्य महिला आयोग की सदस्य निर्मला द्विवेदी ने की शिकायतों की सुनवाई
संवाद न्यूज एजेंसी
महराजगंज। पीड़ित महिलाओं को प्राथमिकता के आधार पर न्याय दिलाना सभी की जिम्मेदारी है। महिलाओं से जुड़े सभी मामले को जिम्मेदार गंभीरता से लें तथा उसका त्वरित निदान कराएं। लापरवाही पर जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
ये बातें लोक निर्माण विभाग के निरीक्षण गृह में बुधवार को आयोजित जन सुनवाई कार्यक्रम में अधिकारियों को निर्देशित करते हुए राज्य महिला आयोग की सदस्य निर्मला द्विवेदी ने कही। उन्होंने सदर कोतवाली थाना क्षेत्र के लोहिया नगर वार्ड की रहने वाली वंदना गौतम, बांसपार बेजौली की रहने वाली शायरा बानो एवं पिपरिया की रहने वाली आसमां तथा श्यामदेउरवां थाना क्षेत्र के बड़हरा बरईपार की रहने वाली विंदा चौधरी के मामले में जिम्मेदारों को निर्देशित किया कि वे प्राथमिकता के आधार पर इनके मामले को निस्तारित कराना सुनिश्चित कराएं। जनसुनवाई के दौरान जिला प्रोबेशन अधिकारी डीसी त्रिपाठी, महिला थाने की प्रभारी रंजना ओझा, नायब तहसीलदार विवेकानंद दूबे, बाल संरक्षण अधिकारी जकी अहमद, बाल कल्याण समिति की सदस्य सरोज पांडेय व प्रियंका त्रिपाठी मौजूद रहीं।
-----------
कस्तूरबा व जिला कारागार का भी किया निरीक्षण
राज्य महिला आयोग की सदस्य निर्मला द्विवेदी ने धनेवा स्थित कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय का निरीक्षण किया। उन्होंने बालिकाओं से मुलाकात कर यहां मिलने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी ली तथा साफ-सफाई पर खुशी जताई। उन्होंने जिला कारागार में पहुंच कर महिला बैरक का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान महिला बंदीरक्षकों को आवश्यक निर्देश भी दिया।
... और पढ़ें

75 हजार घरों में नहीं लगा है बिजली का मीटर

75 हजार घरों में अब लगेंगे बिजली के मीटर
महराजगंज। जिले में कुल तीन लाख 70 हजार विद्युत उपभोक्ताओं में से 75714 उपभोक्ताओं के घरों में विद्युत विभाग आज भी बिजली के मीटर नहीं लगवा पाया है। इनता ही नहीं इन उपभोक्ताओं से विभाग फिक्स रेट पर बिजली का बिल जमा करवाता है। अब विभाग ऐसे उपभोक्ताओं को चिन्हित कर मीटर लगवाएगा।
विद्युत निगम का मानना है कि यदि इन उपभोक्ताओं की ओर से बिजली मीटर का उपयोग किया जाए तो उन्हें कम बिजली का बिल अदा करना होगा। साथ ही ऊर्जा की बचत होगी। विद्युत निगम की ओर से मिली जानकारी के अनुसार जिले में ग्रामीण क्षेत्र में जिन उपभोक्ताओं द्वारा विद्युत मीटर का उपयोग नहीं किया जा रहा है। ऐसे उपभोक्ताओं के घर मीटर लगवाए जाएंगे। इसके लिए जैक्सन और सेक्योर नाम की दो निजी कंपनियों को जिम्मेदारी दी गई है।
एक्सईएन विद्युत हरिशंकर ने बताया कि जिन घरों में आज तक विद्युत मीटर नहीं लगा है। संबंधित उपभोक्ताओं को चिन्हित किया गया है। ऐसे उपभोक्ताओं के घर मीटर लगाए जा रहे हैं।
----------
जेई व एसडीओ से करें शिकायत
एक्सईएन विद्युत हरिशंकर ने बताया कि जिन उपभोक्ताओं के घर विद्युत मीटर लगा है और किसी प्रकार की परेशानी हो रही है। वह संबंधित उपखंड के जेई व एसडीओ से संपर्क कर अपने विद्युत मीटर की जांच करा सकते हैं। अगर मीटर में खराबी मिलती है तो उसे बदला जाएगा। जिससे मीटर आधारित बिल निकालने में कोई परेशानी न हो सके।
... और पढ़ें

संदिग्ध परिस्थितियों में घर में झुलसकर युवक की मौत

संदिग्ध हालात में घर में झुलसकर युवक की मौत
महराजगंज। सदर कोतवाली थाना क्षेत्र के लोहिया नगर वार्ड में शनिवार शाम छह बजे किशन आर्य (20) नामक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में आग से झुलसकर मौत हो गई। वह चौक थाना क्षेत्र के ग्राम बसंतपुर राजा का रहने वाला था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताया जा रहा है कि वह अपने एक करीबी के घर गया था, जहां यह घटना हुई है।
आसपास के लोगों का कहना है कि किशन लोहिया नगर में ही रहने वाली एक युवती को पिछले वर्ष भगा ले गया था, जिसमें लड़की के परिजनों ने कोतवाली थाने में केस दर्ज कराया था। इस मामले पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा था। तीन माह पहले वह जेल से बाहर आया तो युवती फिर उसके घर पहुंच गई और दोनो साथ-साथ रहने लगे थे। 11 दिन पूर्व युवती मामूली विवाद होने पर अपने घर चली आई। शनिवार को किशन उसे लेने पहुंचा था। इसी दौरान संदिग्ध परिस्थितियों में किशन आग से गंभीर रूप से झुलस गया। इस दौरान एक युवती के पिता भी बुरी तरह झुलसे पाए गए। उधर, गंभीर रूप से झुलसने के कारण किशन की मौके पर ही मौत हो गई। युवती के पिता को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना पर पहुंचे एएसपी आशुतोष शुक्ल, सीओ देवेंद्र कुमार, प्रभारी कोतवाल भारत भूषण यादव, चौकी प्रभारी नीरज राय ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एएसपी आशुतोष शुक्ल ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा। पूछताछ में जो तथ्य सामने आया है उसके मुताबिक वर्ष भर पूर्व उसने लड़की को भगाया था, जिसमें कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर किशन को जेल भेजा था। तीन माह पूर्व वह जेल से बाहर आया था। इसके बाद उसके साथ रह रही थी। विवाद के बाद युवती फिर घर चली आई थी। युवती के परिजनों के मुताबिक युवक शनिवार को आग लगाकर घर में घुस गया। किशन के भाई रोहन ने भी अब तक मामले में कोई जानकारी नहीं दी है। मामले में छानबीन की जा रही है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।
------------------
कमरे से बरामद हुआ लाइटर
पुलिस ने बताया कि घटनास्थल से एक लाइटर बरामद हुआ है। माना जा रहा है कि आग लगाने में उक्त लाइटर का इस्तेमाल किया गया है। शव के पास से लाइटर के साथ-साथ जला हुआ मोबाइल भी बरामद हुआ है।
-----------------
पेट्रोल पंप के सीसीटीवी भी खंगाले जाएं
एएसपी आशुतोष शुक्ल ने कहा कि किशन ने खुद आग लगाया है या उसे आग के हवाले किया गया है यह जांच का विषय है। पेट्रोल पंप पर लगे सीसीटीवी फुटेज देखकर यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि पेट्रोल कैसे वहां तक पहुंचा। घटना में जो भी दोषी होगा उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।
.........................................................................
संदिग्ध परिस्थितियों में घर में जला मिला युवक, मौत
फोटो
- सदर ब्लॉक के सामने लोहिया नगर वार्ड में हुई घटना, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा
संवाद न्यूज एजेंसी
महराजगंज। सदर कोतवाली थाना क्षेत्र के लोहिया नगर वार्ड में शनिवार शाम छह बजे किशन आर्य (20) नामक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में आग से झुलसकर मौत हो गई। वह चौक थाना क्षेत्र के ग्राम बसंतपुर राजा का रहने वाला था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताया जा रहा है कि वह अपने एक करीबी के घर गया था, जहां यह घटना हुई है।
आसपास के लोगों का कहना है कि किशन लोहिया नगर में ही रहने वाली एक युवती से पिछले वर्ष भगा ले गया था, जिसमें लड़की के परिजनों ने कोतवाली थाने में केस दर्ज कराया था। इस मामले पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा था, तीन माह पहले जेल से छूटने के बाद जब वह घर पहुंचा तो लड़की फिर उसके घर पहुंच गई तथा दोनो साथ-साथ रहने लगे। 11 दिन पूर्व लड़की विवाद के बाद अपने पिता के घर चली आई। शनिवार को फिर उसे घर ले जाने के लिए किशन वहां पहुंचा। कुछ देर बाद संदिग्ध परिस्थितियों में किशन आग से लिपटा मिला तो लड़की के पिता भी बुरी तरह जले हुए पाए गए। बुरी तरह जलने के कारण किशन की मौके पर ही मौत हो गई। झुलसे लड़की के पिता को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना पर पहुंचे एएसपी आशुतोष शुक्ल, सीओ देवेंद्र कुमार, प्रभारी कोतवाल भारत भूषण यादव, चौकी प्रभारी नीरज राय ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एएसपी आशुतोष शुक्ल ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट होगा। पूछताछ में जो तथ्य सामने आया है उसके मुताबिक वर्ष भर पूर्व उसने लड़की को भगाया था जिसमें कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेजा था। तीन माह पूर्व वह जेल से छूटकर आया है तथा लड़की उसके साथ रह रही थी। विवाद के बाद लड़की यहां आई थी, लड़की के परिजनों के मुताबिक युवक शनिवार को आग लगाकर घर में घुस गया। मृतक के भाई रोहन ने भी अभी तक मामले में कोई जानकारी नहीं दी है। मामले में छानबीन की जा रही है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।
------------------
कमरे से बरामद हुआ लाइटर
पुलिस ने बताया कि घटनास्थल से एक लाइटर भी बरामद हुआ है। माना जा रहा है कि आग लगाने में ने उक्त लाइटर का प्रयोग किया गया है। शव के पास से लाइटर के साथ-साथ जला हुआ मोबाइल भी बरामद हुआ है।
-----------------
पेट्रोल पंप के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जाएं
एएसपी आशुतोष शुक्ल ने कहा कि मृतक ने स्वयं आग लगाया अथवा उसे आग लगाया गया, यह जांच का विषय है। पेट्रोल पंप का सीसीटीवी फुटेज देखकर यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि पेट्रोल कैसे वहां तक पहुंचा। घटना में जो भी दोषी मिलेंगे उनके विरुद्ध कार्रवाई होगी।
... और पढ़ें

जाम लगने से शहर में घंटों परेशान रहते यात्री

पटरियों पर पार्किंग, सड़कों पर चालकों का निकला दम
महराजगंज। राष्ट्रीय राजमार्ग के चौड़ीकरण और पटरियों पर पार्किंग से आए दिन शहर के लोग जाम से दो चार हो रहे हैं। ऊपर से जगह-जगह बने गड्ढे रही सही कसर पूरी कर रही हैं। आलम यह रहता है कि इस मार्ग पर कई नामचीन स्कूल हैं। इसके चलते विद्यार्थियों को भी इस समस्या से जूझना पड़ रहा है। शनिवार को भी एकाएक वाहनों का दबाव बढ़ने से सक्सेना चौराहे से मउपाकड़ चौराहे तक भीषण जाम लग गया। सूचना पर पहुंची यातायात पुलिस ने घंटे भर की मशक्कत के बाद यातायात सुचारु कराया।
नगर के फरेंदा व गोरखपुर मार्ग पर इन दिनों राष्ट्रीय राजमार्ग के चौड़ीकरण का काम चल रहा है। इसके चले निचलौल मार्ग वाहनों का बोझ बढ़ गया है, जिससे आए दिन चालकों को जाम की समस्या से दो चार होना पड़ता है। अधिकांश विद्यालय इस मार्ग पर स्थित होने से छात्र-छात्राओं का आना-जाना भी इसी मार्ग से होता है, जिसकी वजह से रोडवेज, सीएमओ कार्यालय, पीजी कालेज के सामने अक्सर जाम लग जाता है। सक्सेना चौक से कॉलेज रोड पर दोनों तरफ पटरियों पर अवैध पार्किंग इस समस्या को और बढ़ा रही है। यातायात निरीक्षक बरजोर सिंह ने बताया कि सड़क पर जाम न लगे इसके लिए शहर में जगह-जगह यातायात कर्मी तैनात किए गए हैं। जहां भी जाम लगता है। पुलिस कर्मी तुरंत यातायात व्यवस्था दुरुस्त कराते हैं।
... और पढ़ें

23 करोड़ से मुख्य मार्ग से जुड़ेंगे 26 मजरे, सफर होगा सुहाना

23 करोड़ की लागत से मुख्य मार्ग से जुड़ेंगे 26 मजरे
महराजगंज। अब सूबे के दूर-दराज के मजरों की आबादी का सफर सुहाना बनाने के लिए लोक निर्माण विभाग ने पहल की है। इसके तहत 250 से अधिक की आबादी वाले 26 मजरों को मुख्य मार्ग से जोड़ा जाएगा। इसके लिए लोक निर्माण विभाग ने करीब 23 करोड़ का इस्टीमेट तैयार कर शासन को भेजा है। इन मजरों की आबादी वर्ष 2011 की गणना तय होगी।
जिले में 250 से अधिक आबादी वाले बसावटों को मुख्यमार्ग से जोड़ने के लिए जनप्रतिनिधियों ने अपने क्षेत्र की विभिन्न सड़कों का प्रस्ताव दिया था। इसमें जिले के कुल 26 सड़कों का चुनाव किया गया है। इनके लिए प्रस्ताव बनवा कर विभाग ने शासन को भेज दिया है। शासन से स्वीकृति मिलते ही इन सड़कों का निर्माण शुरू करा दिया जाएगा।
लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड के अधिशासी अभियंता सचिन कुमार ने बताया कि करीब 30 किमी लंबी 26 सड़कों को पक्की कराने के लिए 23 करोड़ का इस्टीमेट शासन को भेजा गया है। धन मिलने पर इन बसावटों को पक्की सड़क से जोड़ दिया जाएगा। इससे लोगों का सफर आसान हो जाएगा।
-----------------
इन 26 सड़कों की सुधरेगी स्थिति
पिंडारी से पिपरहवा मार्ग, मानिकपुर से नेबुइया मार्ग, कैदवलिया से मल्लाही, महदेइया से पचडिहवा, कटैलिया से कटैलिया खास, चौतरवा से रहरपुरवा,कौलिअहवा से बढ़ई टोला, डिगुरी से सैथवारी टोला, कुँआचाफ से अहिरौली टोला, कमासीन से सहाय टोला, रतनपुरवा से केवटहिया टोला, बैनीगंज से ओड़वलिया, बैदा से पोखरहवा टोला, कवलपुर से सोनौली मंदिर, श्रीराम मार्ग से बजरहा सोनबरसा, लोहरपुरवा मार्ग, नगवा से कमनहा मार्ग आदि के नाम शामिल हैं।
... और पढ़ें

ठूठीबारी में बाईपास बना तो घट जाएगी काठमांडू की दूरी

ठूठीबारी में बनेगा बाईपास घटेगी काठमांडू की दूरी
महराजगंज। इंडो-नेपाल बार्डर पर ठूठीबारी में बाईपास बना तो नेपाल राष्ट्र काठमांडू की दूरी महराजगंज से कम हो जाएगी, लोगों का सफर भी आसान होगा। वैसे लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड ने ठूठीबारी में बाईपास बनाने के लिए शासन में 3.88 करोड़ का इस्टीमेट शासन को भेजा है। मंजूरी मिली तो यह एक सौगात होगी। इससे काठमांडू की दूरी कम हो जाएगी।
बताया जाता है कि एनएच 730 एस से निकल कर ठूठीबारी बाजार होते हुए महेशपुर नेपाल राष्ट्र बार्डर तक करीब एक किमी पिच मार्ग है। जिसपर यातायात दबाव अधिक है। वर्ष 2011 की गणना के मुताबिक ठूठीबारी की आबादी करीब ग्यारह हजार है। घनी आबादी होने के कारण यातायात में काफी असुविधा होती है। यहां बाईपास बन जाने से नेपाल आने जाने में काफी सुविधा मिलेगी, सफर भी बेहद आसान हो जाएगा। ठूठीबारी कस्बे में जाम की समस्या भी दूर हो जाएगी।
ठूठीबारी में बाईपास बन जाने से नेपाल की राजधानी काठमांडू जाने में भी दूरी भी कम हो जाएगी, इतना ही नहीं गोरखपुर-सोनौली मार्ग पर करीब 40 प्रतिशत यातायात दबाव कम हो जाएगा। साथ ही गोरखपुर-परतावल-महराजगंज-ठूठीबारी से नेपाल जाने के लिए सुगम मार्ग मिल जाएगा। बिहार से कुशीनगर- कप्तानगंज-इंदरपुर-सिसवा-निचलौल-ठूठीबारी से भी नेपाल जाने की राह आसान हो जाएगी। लोगों ने बताया कि इस बाइपास को बन जाने से काठमांडू की दूरी करीब 41 किमी कम हो जाएगी। साथ ही नेपाल जाने के साथ दो प्रमुख बेहतर मार्ग मिल जाएगी। कभी-कभी सोनौली में जाम के वजह से बार्डर पार होने में वाहनों का घंटों गुजर जाते हैं। यह बाइपास बना गया तो समस्या दूर हो जाएगी।
लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड के अधिशासी अभियंता सचिन कुमार ने बताया कि ठूठीबारी में बाईपास बनाने के लिए वित्तीय वर्ष 2019-20 में राज्य योजना अंतर्गत ठूठीबारी में करीब 850 मीटर बाईपास बनाने के लिए 3.88 करोड़ का इस्टीमेट शासन में भेजा गया है, मंजूरी व धन मिलने पर बाईपास निर्माण का काम शुरू करा दिया जाएगा। सड़क की चौड़ाई सात मीटर होगी।
... और पढ़ें

मदेशी पार्टी ने मनाया काला दिवस, आंदोलन की दी चेतावनी

मधेशी पार्टी ने मनाया काला दिवस, आंदोलन की दी चेतावनी
सोनौली (महराजगंज)। नेपाल में मधेशी समुदाय के साथ हो रहे भेदभाव और नागरिकता संबंधी मुद्दे को लेकर नेपाल के तराई जिलों में मधेशी पार्टी ने शुक्रवार को नेपाल के संविधान दिवस के दिन काला दिवस मनाया। मधेशी कार्यकर्ताओं ने नेपाल की जेल में बंद मधेशी कार्यकर्ताओं को रिहा करने की भी मांग की।
रूपनदेही जिले के भैरहवा ,मर्चवार ,धकधई सहित नेपाल के सभी तराई जिलों में राष्ट्रीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने संविधान दिवस के दिन सभा कर काला दिवस मनाया। कार्यकर्ताओं ने पूर्व के वर्षों में नेपाल सरकार के खिलाफ किए गए आंदोलन में पुलिस की गोली से शहीद मधेशी कार्यकर्ताओं को याद कर उन्हें श्रद्धांजलि दिया। सभा को संबोधित करते हुए रूपनदेही जिले के पार्टी अध्यक्ष अजय वर्मा ने कहा आज भी नेपाल की जेल में हजारों बेकसूर मधेशी आंदोलनकारी बन्द है। उनके ऊपर झूठे मुकदमे दर्ज कर सरकार उनके साथ बर्बरता कर रही है। उन्होंने सरकार से मांग किया कि सभी मधेशी कार्यकर्ताओं को रिहा किया जाए। रेशम चौधरी के ऊपर फर्जी तरीके से दर्ज मुकदमे वापस लिए जाए तथा संविधान में संशोधन कर समावेशी व समानुपातिक अधिकार सभी को दिया जाए। यह भी कहा कि मांगों को नहीं मानने पर फिर से आंदोलन होगा। मंडल अध्यक्ष प्रशांत गुप्ता उर्फ महेंद्र ने कहा कि उनका विरोध जारी रहेगा। थारू कल्याण करणी नगर समिति की अध्यक्ष रेखा चौधरी ने कहा कि संविधान पहाड़ी समुदाय को खुश करने के लिए बनाया गया है। जिसमे थारू और मदेशी को दरकिनार किया गया। मूलभूत सुविधाओं से हमें वंचित कर दिया गया। जनमत पार्टी के जिला अध्यझ भूपेंद्र यादव ने कहा कि संविधान में मधेशियों को जगह नहीं दिया गया।
... और पढ़ें

स्पीड कंट्रोलर से रुकेगी वाहन चालकों की मनमानी

स्पीड कंट्रोलर से रुकेगी वाहन चालकों की मनमानी
परिवहन विभाग ने स्पीड कंट्रोलर लगवाना किया अनिवार्य
संवाद न्यूज एजेंसी
महराजगंज। हादसों का सबब बनने वाले वाहनों की तेज गति पर परिवहन विभाग ने लगाम कसने की कोशिश में जुटा है। अब बच्चों व सवारी को ले जाने वाले वाहनों में स्पीड कंट्रोलर लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। इसके बाद इन वाहनों की रफ्तार चालक के चाहने पर भी निर्धारित किलोमीटर प्रति घंटा से अधिक नहीं हो सकेगी। जिले में भी वाहनों में स्पीड कंट्रोलर लगाए जाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। इस डिवाइस में अलग-अलग वाहनों की गति सीमा निर्धारित की गई है।
तेज गति के कारण अक्सर होने वाले हादसों को देखते हुए परिवहन विभाग ने यातायात नियमों को सख्ती से लागू करने की तैयारी शुरू कर दी है। सरकारी आंकड़ों में जिले में करीब 521 स्कूली बसें अन्य वाहन हैं, जो बच्चों को घर से विद्यालय ले जाने और वहां से घर पहुंचाने का कार्य करते हैं। इन वाहनों में अब स्पीड कंट्रोल लगाने की कवायद शुरू कर दी गई है। इसके अलावा सवारी बस, मैजिक, ट्रक व अन्य वाहनों में भी स्पीड कंट्रोलर लगाए जा रहे हैं। वैसे तो परिवहन विभाग वाहन स्वामियों व चालकों से निर्धारित गति से तेज वाहन नहीं चलाने की बात कहता रहा है लेकिन इसका अनुपालन नहीं होता है। हादसों को ध्यान में रखते हुए वाहनों की गति पर अंकुश लगाने के लिए ही स्पीड कंट्रोलर लगाने के निर्देश दिए गए हैं। एआरटीओ आरसी भारती ने कहा कि सभी स्कूली व अन्य चार पहिया वाहनों में स्पीड गर्वनर लगाए जाने के निर्देश दिए गए हैं। निर्देश पर वाहन स्वामियों ने अमल शुरू कर दिया है। अब तक 100 से अधिक वाहनों में स्पीड कंट्रोलर लगाए भी जा चुके हैं। बिना स्पीड कंट्रोलर के स्कूल वाहन नहीं चल सकेंगे।
--------------
यह काम करता स्पीड कंट्रोलर डिवाइस
स्पीड कंट्रोलर वाहनों की गति का नियंत्रण में रखता है, जो फ्यूल व गियर से जुड़ा होता है। इस कारण गति नियंत्रण में रहती है। यह यंत्र परिवहन विभाग की तरफ से अधिकृत दुकानों पर मिलता है। यंत्र लगाने के बाद वाहन स्वामी इसकी जानकारी परिवहन विभाग को देते हैं। इसके बाद परिवहन विभाग की ओर से वाहनों की जांच की जाती है। फिर इसे अंतिम रूप से स्वीकृत सड़कों पर चलने के लिए स्वीकृति प्रदान की जाती है। स्पीड कंट्रोलर लगने के बाद वाहन निर्धारित गति से ही चलाए जा सकेंगे।
... और पढ़ें

नेपाल ने भारतीय चीनी पर लगा प्रतिबंध हटाया

नेपाल ने भारतीय चीनी पर लगा प्रतिबंध हटाया
सोनौली (महराजगंज)। नेपाल सरकार ने भारत द्वारा आयातित चीनी पर लगे प्रतिबंध को हटा लिया है। अब भारत-नेपाल के मुख्य नाकों से चीनी नेपाल भेजा जा सकेगा।
नेपाल सरकार के प्रवक्ता व संचार तथा सूचना प्राविधिक मंत्री गोकुल प्रसाद बास्कोटा ने शुक्रवार को काठमांडू में पत्रकारों से बातचीत में कहीं। उन्होंने बताया कि नेपाल ने भारत से 20 हजार मैट्रिक टन चीनी खरीदा है। जिसमे 10 हजार मैट्रिक टन चीनी खाद्य व्यवस्था व व्यापारिक कंपनियों ने लिया है। जबकि 10 हजार मैट्रिक टन चीनी साल्ट ट्रेडिंग कॉरपोरेशन लेगी। भारत से आयातित चीनी पर नेपाल पहले की तुलना में 50 फीसद कम कस्टम शुल्क लगाएगा। भैरहवा भंसार कार्यालय चीफ रवींद्र बन्धु ने बताया कि करीब चार माह पूर्व भारतीय चीनी पर लगाई गई रोक हटा ली गई है। रोक हटाने का शासनादेश भंसार कार्यालयों में आ गया है। अब कोई भी भारत से चीनी ला सकता है। चीनी के नेपाल जाने से वहां के लोगों को भी काफी सहूलियत मिलेगी।
... और पढ़ें

दो बाइक टकराए, पिता की मौत, पुत्र घायल

दो बाइक टकराए, पिता की मौत, पुत्र घायल
दूसरा बाइक सवार वाहन समेत भाग निकला
पुलिस कर रही तहरीर मिलने का इंतजार
अमर उजाला ब्यूरो
निचलौल। थाना क्षेत्र के मदनपुरा गांव के पास महाविद्यालय के सामने बृहस्पतिवार को दोपहर करीब दो बजे दो बाइकों की आमने-सामने हुई टक्कर में एक बुजुर्ग की मौत हो गई, जबकि उसका बेटा घायल हो गया। घायल का निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं दूसरा बाइक चालक मौका पाकर घटनास्थल से फरार हो गया। बाइक चालक हेलमेट पहने था।
लोगों ने बताया कि गांव बरोहिया निवासी फल व्यवसायी सुभाष (60) अपने पुत्र उमेश (30) के साथ बाइक पर सवार होकर निचलौल बाजार करने जा रहे थे। इसी बीच रास्ते में मदनपुरा गांव के निकट महाविद्यालय के पास सामने से आ रहे एक बाइक सवार युवक ने उनकी बाइक में टक्कर मार दिया। इस हादसे में एक बाइक सवार पिता पुत्र सड़क पर गिरकर घायल हो गए। मौके पर मौजूद लोगों ने घायल सुभाष व उनके पुत्र उमेश को सीएचसी पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने सुभाष को मृत घोषित कर दिया। इस संबंध में इंस्पेक्टर बिहागड़ सिंह ने बताया कि मामले की जानकारी मिली है। इस मामले में पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। तहरीर मिलने पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं पर खर्च होंगे तीन करोड़

ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं पर खर्च होंगे तीन करोड़
जिला योजना की बैठक में 3.49 अरब का परिव्यय अनुमोदित
बैठक में जिला योजना से खींचा गया विकास का खांका
संवाद न्यूज एजेंसी
महराजगंज। कलेक्ट्रेट सभागार में गुरुवार को जिला योजना समिति की बैठक हुई। इसमें जिले के प्रभारी मंत्री उपेन्द्र तिवारी की मौजूदगी में विकास का खाका खींचा गया। समिति ने जिले में आधारभूत सुविधाओं के विकास सहित अन्य विकास कार्यों के लिए 39 विभागों के करीब 3.49 अरब के परिव्यय को अनुमोदित किया। इसमें ग्रामीण पेयजल की परियोजनाओं पर तीन करोड़ रुपये खर्च करने की व्यवस्था की गई है।
जिला योजना समिति की तरफ से वर्ष 2019-20 में विकास कार्यों के लिए विभागवार जो परिव्यय प्रस्तावित किए गए हैं, उसमें रोजगारपरक योजनाओं पर सर्वाधिक 10,721 लाख रुपये तथा पर्यावरण संरक्षण पर सबसे कम एक करोड़ रुपये की परियोजनाएं शामिल हैं। वहीं कृषि पर 26 लाख, गन्ने पर 88.48 लाख, लघु एवं सीमांत कृषकों पर 1,251 लाख, निजी लघुु सिंचाई पर 360 लाख, पशुपालन पर 161 लाख, वन विभाग के प्रस्तावों पर 384 लाख, सड़क एवं पुल निर्माण पर लगभग 9,424 लाख रुपये खर्च करने की व्यवस्था की गई है। इनके अलावा माध्यमिक शिक्षा पर 329 लाख, बेसिक शिक्षा पर लगभग 1,419 लाख, एलोपैथिक चिकित्सा पर 752 लाख, परिवार कल्याण पर 50 लाख, आयुर्वेदिक व होम्योपैथिक चिकित्सा पर 60-60 लाख तथा ग्रामीण पेयजल पर 300 लाख रुपये का परिव्यय अनुमोदित हुआ है। पिछड़ी जाति कल्याण के लिए 626 लाख, अल्प संख्यक कल्याण में 64 लाख, समाज कल्याण में 419 लाख व जनजाति कल्याण में 1.21 लाख, खेलकूद पर 20 लाख व युवा कल्याण पर 10 लाख रुपये व्यय होंगे। स्वच्छता पर 1,114 लाख, पंचायती राज पर 1,068 लाख, ग्रामीण आवास पर 3,907 लाख, महिला कल्याण पर 594 लाख, नगर विकास पर 275 लाख, पर्यटन विकास पर 210 लाख, सामान्य वर्ग छात्रवृत्ति पर 443 लाख का तथा ग्रामीण आजीविका मिशन पर 173 लाख रुपये के परिव्यय को मंजूरी मिली है। अन्य नौ विभागों के प्रस्तावों के लिए अलग-अलग धनराशि स्वीकृत की गई है। प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार जिले के विकास को लेकर कटिबद्ध है। बैठक में सांसद पंकज चौधरी, विधायक बजरंग बहादुर सिंह, ज्ञानेंद्र सिंह, जयमंगल कन्नौजिया, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रभुदयाल चौहान, जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय, मुख्य विकास अधिकारी पवन अग्रवाल, क्रीड़ाधिकारी करमवीर सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक एके सिंह समेत सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree