विज्ञापन
विज्ञापन
बनवाएं फ्री जन्मकुंडली और जानें , कही आपकी कुंडली में कोई दोष तो नहीं ?
astrology

बनवाएं फ्री जन्मकुंडली और जानें , कही आपकी कुंडली में कोई दोष तो नहीं ?

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

हाथरस: अस्थायी जेल से चोरी का आरोपी फरार, पुलिस में खलबली

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, सासनी (हाथरस)।
कस्बा की प्रकाश एकेडमी में बनी अस्थायी जेल में निरुद्ध चोरी का एक आरोपी रविवार की देर शाम को फरार हो गया। इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस और जेल प्रशासन में खलबली मच गई। पुलिस फरार आरोपी की तलाश में जुट गई है, लेकिन अभी तक उसका कुछ पता नहीं चला है। देर रात फरार आरोपी के खिलाफ अलीगढ़ के डिप्टी जेलर राकेश त्रिवेदी की तहरीर पर कोतवाली मुरसान में मुकदमा दर्ज कर लिया गया।
जिले के थाना मुरसान क्षेत्र के गांव सुंधिया निवासी आरोपी गुलफाम पुत्र जमील को मुरसान पुलिस ने शनिवार को चोरी के माल सहित गिरफ्तार किया था। उसका चालान धारा 379 व 411 के अंतर्गत किया गया था। बताते हैं कि आरोपी गुलफाम को कस्बा की प्रकाश एकेडमी में बनी अस्थायी जेल में रखा गया था।
रविवार की देर शाम को वह सुरक्षा व्यवस्था में लगे कर्मचारियों को चकमा देकर फरार हो गया। सूचना मिलते ही पुलिस सकते में आ गई। पुलिस ने चारों ओर नाकाबंदी कर कैदी की तलाश शुरू कर दी। घटना के बारे में अलीगढ़ जेल प्रशासन को भी अवगत करा दिया गया है।
... और पढ़ें

हाथरस: शौच के लिए जा रहे वृद्घ की ट्रेन की चपेट में आने से मौत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
कोतवाली हाथरस जंक्शन के गांव धौरपुर निवासी 75 वर्षीय वृद्ध की शौच के लिए जाते वक्त ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। रविवार को पोस्टमार्टम के बाद परिवार के लोग शव अपने साथ गांव ले गए।
नेकराम (75 वर्ष) पुत्र धुंधीराम निवासी धौरपुर शौच करने के लिए जा रहे थे। इस बीच वह रेलवे लाइन को पार करते वक्त ट्रेन की चपेट में आ गए और उनकी मौके पर ही मौत हो गई।
इसकी जानकारी परिजनों को हुई तो उनके होश उड़ गए और मौके पर पहुंच गए। पुलिस भी घटना स्थल पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। रविवार को पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव को परिजनों को सौंप दिया।
... और पढ़ें

हाथरस: शहर से सटे गांवों के ढाई हजार श्रमिकों के रोजगार पर संकट

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
शहर से सटे करीब दो दर्जन गांवों के करीब ढाई हजार लोगों के सामने इन-दिनों रोजगार का संकट खड़ा हो गया है। ऐसा इसलिए है कि इन गांवों को नगर पालिका क्षेत्र में शामिल करने की अधिसूचना जारी हो गई है। इस कारण एक अक्तूबर से एक अक्तूबर से इन गांवों में मनरेगा के तहत होने वाले कामों पर भी ब्रेक लग गया है। श्रमिकों को काम नहीं मिलने से वन विभाग के सामने भी पौधशालाओं की देखभाल की समस्या खड़ी हो गई है।
उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन के दौरान दूसरे जिलों से लौटकर आए लोगों को काम देने के लिए प्रदेश सरकार ने मनरेगा के तहत काम उपलब्ध कराया था। इन बेरोजगारों को विभिन्न विभागों में भी समायोजित किया गया। काफी लोग इस समय काम कर भी रहे हैं, लेकिन शहर से सटे दो दर्जन गांवों को नगर पालिका क्षेत्र में शामिल होने की अधिसूचना जारी होने के बाद इन गांवों में मनरेगा के काम रुक गए हैं। ऐसे में इन गांवों में रहने वाले बेरोजगारों को अब मनरेगा से काम नहीं मिल पा रहा।
इन गांवों के लोगों के सामने दिक्कत
जो गांव नगर पालिका क्षेत्र में शामिल हुए हैं, उनमें दयानतपुर, गढ़ी तमना, जोगिया, हतीसा-भगवंतपुर, नहरोई, मीतई, गिजरौली, कलवारी, तरफरा, दादनपुर, दादनपुर, ढकपुरा, हाथरस देहात, सोखना, चिंतापुर, गढ़ी नंदराम, खोड़ा हजारी सहित करीब दो दर्जन गांव शामिल हैं।
पौधों की देखरेख में आ रहीं दिक्कतें
मनरेगा के तहत हतीसा और सोखना गांवों की पौधशालाओं में श्रमिक काम कर रहे थे। अब इन गांवों के शहर में समायोजित होने के कारण यहां की पौधशाला में काम करने वालों की कमी हो गई है। ऐसे में यहां पौधों की देखभाल करना वन विभाग के लिए मुश्किल हो गया है।
जो गांव नगर पालिका क्षेत्र में शामिल हुए हैं, उन गांव के श्रमिक एक अक्तूबर से मनरेगा के तहत काम नहीं कर रहे। कारण हमारी हतीसा व सोखना की पौधशालाओं में श्रमिकों की कमी हो गई है। पौधों की देखरेख भी नहीं हो पा रही।
-एसआर ओझा, क्षेत्रीय वन अधिकारी हाथरस।
... और पढ़ें

हाथरस केसः बिटिया के गांव में फिर पहुंची सीबीआई की टीम, आरोपियों के पिता और पीड़िता के भाइयों से की पूछताछ

बिटिया प्रकरण में सीबीआई की टीम रविवार को फिर बिटिया के गांव पहुंची। सीबीआई ने मृतका व आरोपियों के परिजनों से पूछताछ की। पूछताछ के बाद सीबीआई की टीम दोपहर करीब साढ़े 11 बजे मृतका के दोनों भाइयों को पूछताछ के लिए अपने साथ यहां शिविर कार्यालय ले आई। वहीं टीम कुछ देर बाद फिर से गांव पहुंची और चारों आरोपियों के पिता को अपने साथ गाड़ी से शिविर कार्यालय में पूछताछ के लिए ले आई। शाम पांच बजे तक मृतका के भाइयों से पूछताछ की गई। वहीं आरोपियों के पिता से पूछताछ जारी थी। 

बिटिया प्रकरण में सीबीआई की जांच तेजी से चल रही है। सीबीआई की टीम लगातार ग्रामीणों सहित इस प्रकरण से जुड़े सभी लोगों से पूछताछ कर उनके बयान दर्ज कर रही है। इस प्रकरण के हर पहलू का सीबीआई बारीकी से अवलोकन करने में जुटी हुई है। लगातार पुलिसकर्मियों, बिटिया और आरोपियों के परिजनों सहित अन्य ग्रामीणों से भी पूछताछ की जा रही है। सीबीआई की टीम लगातार गांव में पहुंचकर घटनास्थल व आरोपियों व मृतका के घरों को भी खंगाल चुकी है। रविवार की दोपहर करीब साढ़े 11 बजे सीबीआई की टीम गांव पहुंची। टीम ने मृतका के घर पहुंचकर परिजनों से कुछ जानकारी ली। 

इसके बाद सीबीआई की टीम पुलिस की सुरक्षा के साथ मृतका के दोनों भाइयों को अपने साथ पूछताछ के लिए शिविर कार्यालय ले आई। करीब आधा घंटे बाद टीम फिर से गांव पहुंची और टीम इस बार आरोपियों के घर पहुंची। चारों आरोपियों के पिताओं को अपने साथ ले जाने की बात कही। खेत में काम कर रहे सभी आरोपियों के पिता को बुलाया गया और टीम इनको पूछताछ के लिए अपने साथ ले आई। शाम करीब पांच बजे तक शिविर कार्यालय में बिटिया के भाइयों से पूछताछ की गई। शाम सवा पांच बजे बिटिया के भाइयों को पुलिस की सुरक्षा के बीच घर तक भेजा गया। वहीं आरोपियों के पिताओं से पूछताछ जारी रही। 

गांव के दो लोगों को भी पूछताछ के लिए ले गई सीबीआई 
हाथरस। गांव के दो लोगों को रविवार की सुबह सीबीआई की टीम ने पूछताछ के लिए बुलाया। इन लोगों के घटना के समय आसपास होने की बात सामने आई थी। इस बारे में पूछताछ के लिए दोनों को सीबीआई की टीम अपने साथ लेकर गई। यह टीम सुबह टीम ने दोपहर तक इनसे पूछताछ की और घटना के बारे में जानकारी ली।
... और पढ़ें
सीबीआई ने फिर की पीड़ित और आरोपी पक्ष से पूछताछ सीबीआई ने फिर की पीड़ित और आरोपी पक्ष से पूछताछ

हाथरस: युवक का शव मिला, भाई ने जताई हत्या की आशंका

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
कोतवाली मुरसान क्षेत्र के गांव टिमरली के निकट जैतपुर मार्ग पर तीन दिन से लापता युवक का रविवार की सुबह शव मिलने से सनसनी फैल गई। शव के कुछ हिस्से को जानवर नोंचकर ले गए। मृतक के भाई ने हत्या की आशंका जताई है। पुलिस ने पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। पुलिस मौत के कारणों की छानबीन में जुटी है।
मृतक के भाई चोब सिंह पुत्र चेनाराम निवासी टिमरली ने बताया कि उसका 30 वर्षीय भाई नेहना बृहस्पतिवार की रात करीब आठ बजे घर से निकला था। देर रात तक जब वह वापस नहीं लौटा तो उसकी काफी तलाश की गई, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका। रविवार की सुबह गांव के ही किसान चोखेलाल अपने खेत पर काम करने के लिए आए थे। खेत के किनारे लगी दीवार की ईंटों को हटाते समय उन्हें रास्ते में घासफूस में एक शव दिखाई दिया, जिससे बदबू आ रही थी। यह देखकर वह दौड़कर गांव पहुंचे और उन्होंने ग्राम प्रधान व अन्य लोगों को इसकी जानकारी दी। ग्राम प्रधान हरीओम व गांव के अन्य लोग मौके पर आए तो ग्रामीणों ने उसकी शिनाख्त नेहना के रूप में की।
सूचना मिलते ही मुरसान कोतवाली प्रभारी अरविंद कुमार राठी मौके पर पहुंच गए। कुछ देर बाद ही सीओ सादाबाद ब्रह्म सिंह भी आ गए। पुलिस ने पंचनामा भर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। जिला पंचायत सदस्य सपा नेता श्याम सिंह भी मौके पर आ गए। उन्होंने मृतक युवक के परिजनों से बातचीत की। चोब सिंह का कहना है कि उसका भाई नेहना मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का पालन पोषण करता था। उसके तीन बच्चे हैं। उसकी किसी ने हत्या की है। नेहना की मौत की खबर सुनकर उसकी पत्नी यशोदा रोती हुई घटना स्थल पर पहुंची। उसने अपने पति का शव देखकर वह अचेत होकर गिर पड़ी। मुरसान कोतवाली प्रभारी अरविंद कुमार राठी का कहना है कि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

हाथरस: टेंट लगाते वक्त लगा युवक को करंट, मौत

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
कोतवाली हाथरस गेट क्षेत्र के इगला अड्डे पर टेंट लगाते वक्त युवक की मौत हो गई। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाउस भेजा। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन अपने साथ ले गए और उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया।
कछपुरा निवासी कुलदीप उर्फ बिंटू (32 वर्ष) पुत्र केशवदेव की इगलास रोड पर प्राइवेट बस स्टैंड के पास नारायण टेंट हाउस के नाम से दुकान है। रविवार को दुकान के पास में एक व्यक्ति द्वारा देवी का भंडारा कराया जा रहा था। कुलदीप वहां पर अपना टेंट लगा रहा था। टेंट लगाने के लिए वह छत के ऊपर चढ़ा तो वहां से गुजर रही 11 हजार की हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गया, जिससे वह बुरी तरह से झुलस गया। यह देखकर मौके पर मौजूद लोगों में खलबली मच गई।
स्थानीय लोग उसको लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, जहां उसको डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। सुनकर परिवार में कोहराम मच गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। दोपहर को पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया, जिसके बाद परिजनों ने युवक के शव का अंतिम संस्कार किया।
... और पढ़ें

हाथरस: बाबू की पत्नी व शिक्षिका के विवाद की जांच करने पहुंचीं सीओ

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
बाबू की पत्नी और शिक्षिका के मामले की जांच करने के लिए रविवार को सीओ सदर उनके निवास पर पहुंचीं। उन्होंने पहले बाबू और फिर शिक्षिका से पूरे मामले की जानकारी ली। यहां बाबू की पत्नी नहीं मिली तो उसको पूछताछ के लिए कोतवाली में आने के लिए सीओ ने कहा।
शिक्षा विभाग के एक बाबू की पत्नी ने अपने पति के एक शिक्षिका के साथ संबंध होने का आरोप लगाया है। बाबू की पत्नी का आरोप है कि अब उसके पति ने शिक्षिका को अपनी ही कॉलोनी में मकान दिलवा दिया है। आरोप है कि इस बात से गुस्साई बाबू की पत्नी ने शुक्रवार को उस कॉलोनी में पहुंचकर शिक्षिका के घर पर पहुंचकर तोड़फोड़ की, जिसके बाद शिक्षिका और बाबू की पत्नी ने एक-दूसरे पर आरोप लगाते हुए कोतवाली सदर पुलिस को तहरीर भी दी।
इस मामले की जांच सीओ सदर रुचि गुप्ता कर रही हैं। रविवार को कोतवाली पुलिस के साथ सीओ सदर उस कॉलोनी में पहुंचीं, जहां बाबू और शिक्षिका रहते हैं। सीओ ने सबसे पहले बाबू से पूरे मामले की जानकारी ली और फिर वह शिक्षिका के निवास पर पहुंचीं। यहां पर घर में सामान बिखरा पड़ा था। शिक्षिका का आरोप है कि शुक्रवार को बाबू की पत्नी के साथ आए लोगों ने उसके घर में तोड़फोड़ की। पूरे मामले की जानकारी करने के बाद सीओ वापस लौट गईं।
... और पढ़ें

छोटे भाई की पत्नी की हत्या का आरोपी भाई व उसकी पत्नी गिरफ्तार

संवाद न्यूज एजेंसी, सादाबाद।
क्षेत्र के गांव टीकैत नगला घनी में 16 अक्तूबर को जमीन के विवाद को लेकर बड़े भाई ने छोटे भाई की पत्नी पर फावड़े से प्रहार कर उसकी नृशंस हत्या कर दी थी। इस घटना की रिपोर्ट कोतवाली में मृतक महिला के पति ने दर्ज कराई थी। पुलिस ने नामजद दो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। इनके कब्जे से फावड़े का एक बेंटा भी बरामद किया गया है।
कोतवाली पर सीओ ब्रह्म सिंह ने पत्रकारों को बताया कि 25 अक्तूबर को कोतवाली प्रभारी निरीक्षक डीके सिसौदिया के नेतृत्व में उपनिरीक्षक सतीशचंद्र, हेड कांस्टेबल प्रेम सिंह, बृजराज, पूजा यादव जब शांति व्यवस्था के लिए गश्त पर थे तो इस दौरान मुखबिर की सूचना पर अभियुक्त पंकज कुमार उर्फ नीरज कुमार पुत्र भूरी सिंह, संतोष देवी पत्नी पंकज कुमार उर्फ नीरज कुमार निवासी टीकैत नगला घनी सादाबाद को कस्बा बिसावर अड्डा से गिरफ्तार किया गया। इनके खिलाफ कोतवाली में धारा 302, 323 और 504 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। पंकज कुमार उर्फ नीरज कुमार ने 16 अक्तूबर को गांव टीकैत नगला घनी में जमीन के विवाद को लेकर अपने भाई की पत्नी पूजा की हत्या कर दी थी। अभियुक्त की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त फावडे़ का बेंटा भी बरामद किया गया।
... और पढ़ें

हाथरस: बिटिया के गांव में अभी तैनात है पुलिस बल

हाथरस: बिटिया के परिवार की सहमति से पशुओं को ले जाने की रिश्तेदारों को मिली अनुमति

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
बिटिया के पिता ने अपनी सहमति से सात में से पांच पशुओं को अपने रिश्तेदारों को दे दिया है। बिटिया के पिता का कहना है कि अधिक काम होने की वजह से वह परिवार में पशुओं का ध्यान नहीं रख पा रहे हैं। प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों ने रिश्तेदारों से लिखित सुपुर्दगी लेने के बाद पशुओं को रिश्तदारों को ले जाने की इजाजत दी है।
बिटिया के पिता के रिश्तेदार रविवार को उनके पशुओं को लेने के लिए गांव पहुंचे। पशुओं को गांव से बाहर ले जाने की सूचना पर तत्काल प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए। प्रशासनिक अधिकारियों ने बिटिया के परिजनों से वार्ता की। बिटिया के पिता ने बताया कि काम की अधिकता की वजह से पशुओं की देखभाल नहीं हो पा रही है। इस कारण वह अपने रिश्तेदारों को देखभाल के लिए पशुओं को दे रहे हैं।
उन्होंने डीएम के नाम एक सहमति पत्र दिया। इस पत्र में कहा गया है कि उनके पास वर्तमान में सात पशु हैं। काम की अधिकता के कारण वह परिवार की सहमति से एक भैंस, तीन पड़िया अपने फिरोजाबाद वाले रिश्तेदार व एक पड़िया गोंडा के रिश्तेदार को दे रहे हैं। इसी तरह सुपुर्दगी का एक पत्र रिश्तेदारों से भी लिया गया।
... और पढ़ें

हाथरस: आरोपियों के पिता, बिटिया के भाइयों से फिर कई घंटे हुई पूछताछ

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, हाथरस
बिटिया प्रकरण में सीबीआई की टीम रविवार को फिर बिटिया के गांव पहुंची। सीबीआई ने मृतका व आरोपियों के परिजनों से पूछताछ की। सीबीआई की टीम दोपहर करीब साढ़े 11 बजे मृतका के दोनों भाइयों को पूछताछ के लिए अपने साथ यहां शिविर कार्यालय ले आई। वहीं टीम कुछ देर बाद फिर से गांव पहुंची और चारों आरोपियों के पिता को अपने साथ गाड़ी से शिविर कार्यालय में पूछताछ के लिए ले आई। शाम पांच बजे तक मृतका के भाइयों से पूछताछ की गई। वहीं आरोपियों के पिता से पूछताछ जारी थी।
बिटिया प्रकरण में सीबीआई की जांच तेजी से चल रही है। सीबीआई की टीम लगातार ग्रामीणों सहित इस प्रकरण से जुड़े सभी लोगों से पूछताछ कर उनके बयान दर्ज कर रही है। इस प्रकरण के हर पहलू का सीबीआई बारीकी से अवलोकन करने में जुटी हुई है। लगातार पुलिसकर्मियों, बिटिया और आरोपियों के परिजनों सहित अन्य ग्रामीणों से भी पूछताछ की जा रही है। सीबीआई की टीम लगातार गांव में पहुंचकर घटनास्थल व आरोपियों व मृतका के घरों को भी खंगाल चुकी है। रविवार की दोपहर करीब साढ़े 11 बजे सीबीआई की टीम गांव पहुंची। टीम ने मृतका के घर पहुंचकर परिजनों से कुछ जानकारी ली। इसके बाद सीबीआई की टीम पुलिस की सुरक्षा के साथ मृतका के दोनों भाइयों को अपने साथ पूछताछ के लिए शिविर कार्यालय ले आई।
करीब आधा घंटे बाद टीम फिर से गांव पहुंची और टीम इस बार आरोपियों के घर पहुंची। चारों आरोपियों के पिताओं को अपने साथ ले जाने की बात कही। खेत में काम कर रहे सभी आरोपियों के पिता को बुलाया गया और टीम इनको पूछताछ के लिए अपने साथ ले आई। शाम करीब पांच बजे तक शिविर कार्यालय में बिटिया के भाइयों से पूछताछ की गई। शाम सवा पांच बजे बिटिया के भाइयों को पुलिस की सुरक्षा के बीच घर तक भेजा गया। वहीं आरोपियों के पिताओं से पूछताछ जारी रही।
गांव के दो लोगों को भी पूछताछ के लिए ले गई सीबीआई
हाथरस। गांव के दो लोगों को रविवार की सुबह सीबीआई की टीम ने पूछताछ के लिए बुलाया। इन लोगों के घटना के समय आसपास होने की बात सामने आई थी। इस बारे में पूछताछ के लिए दोनों को सीबीआई की टीम अपने साथ लेकर गई। यह टीम सुबह टीम ने दोपहर तक इनसे पूछताछ की और घटना के बारे में जानकारी ली।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X