विज्ञापन

इस्लामिया ग्राउंड से एलान.. नहीं बनने देंगे दूसरा पाकिस्तान

अमर उजाला ब्यूरो, बरेली Updated Sat, 21 Dec 2019 04:34 AM IST
विज्ञापन
एलान,,,
एलान,,, - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
नागरिकता कानून के खिलाफ जुमे की नमाज के बाद इस्लामिया ग्राउंड पर जोरदार प्रदर्शन किया गया। भारी भीड़ के बीच आईएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खां ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह देश को तोड़ना चाहते हैं लेकिन अब एक और पाकिस्तान नहीं बनने दिया जाएगा। अगर नागरिकता कानून वापस न लिया गया तो 15 दिन बाद जेल भरो आंदोलन शुरू किया जाएगा।
विज्ञापन

मौलाना तौकीर ने कहा कि नागरिकता कानून पूरे मुल्क के लिए तकलीफदेह है। अनुसूचित जाति वर्ग को भी यह फैसला कबूल नहीं है। मोदी और शाह मुसलमानों से इस कदर दुश्मनी पर आमादा हैं कि देश को बर्बाद कर रहे हैं और बाबा भीमराव आंबेडकर का बनाया संविधान को बदलना चाहते हैं।
बाबा साहब ने ही संविधान के जरिये सभी को बराबरी का हक दिया, आज संविधान को बदलकर फिरकापरस्ती के आधार पर कानून बनाया जा रहा है। मौलाना ने कहा कि देश देशद्रोही लोगों के कब्जे में है जिसे आजाद कराना है।
मुसलमानों को कमजोर समझकर उन पर भले ही ज्यादती की जाए, लेकिन जब तक मुसलमान बचे हैं, तभी तक देश बचा है। हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई इस देश का गुलदस्ता हैं, इन्हें कोई अलग नहीं कर सकता। उन्होंने मोदी और शाह को हिटलर बताते हुए कहा कि कानून वापस नहीं हुआ तो 15 दिन बाद जेल भरो आंदोलन छेड़ दिया जाएगा।

इससे पहले खानकाह वामिकिया निशातिया के नायब सज्जादा मौलाना सैयद असलम मियां वामिकी, नबीरे आला हजरत मौलाना सिराज रजा खां, तहसीने मिल्लत सुहैब रजा खां, शहर इमाम मुफ्ती खुर्शीद आलम, भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष गुरदीप सिंह आदि ने भी संबोधित किया।

संचालन आईएमसी प्रवक्ता डॉ. नफीस खां ने किया। इस दौरान दरगाह शाह शराफत मियां के सज्जादानशीन पीरे तरीकत शाह सकलैन मियां के साहबजादे अल्हाज गाजी मियां, भतीजे हमजा सकलैनी, इंतेखाब सकलैनी, तहसीने मिल्लत सूफी रिजवान रजा खां, सिफ्फान रजा खां, इकान रजा खां आदि मौजूद रहे।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us