पहले दिन 1699 विद्यार्थियों ने छोड़ी बोर्ड परीक्षा

विज्ञापन
Lucknow Bureau लखनऊ ब्यूरो
Updated Tue, 18 Feb 2020 10:48 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
बलरामपुर। यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन मंगलवार को 1699 परीक्षार्थियों ने दोनों पालियों में एग्जाम छोड़ दिया है। डीएम कृृष्णा करुणेश व एसपी देवरंजन वर्मा ने एमपीपी इंटर कॉलेज के कंट्रोल रुप से जिले के सभी 53 परीक्षा केंद्रों का सीधेे जायजा लिया। जिले के चार संवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर स्टेटिक मजिस्ट्रेटों को तैनात किया गया। जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटों और सचल दस्तों की टीमों ने कई परीक्षा केंद्रों पर छापा मारा। जिले के किसी भी परीक्षा केंद्र पर कोई भी नकलची नहीं पकड़ा गया। दोनों पालियों में 27,620 की तुलना में 25,821 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी है।
विज्ञापन

कंट्रोल रूम के प्रभारी योगेश कुमार त्रिपाठी ने बताया कि प्रथम पाली में हाईस्कूल के हिंदी में 17,029 परीक्षार्थियों की तुलना में 15,875 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी है। प्रथम पाली में 1154 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी है। दूसरी पाली में इंटरमीडिएट के हिंदी विषय में 10,491 की तुलना में 9,946 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी है जबकि 545 परीक्षार्थियों ने परीक्षा छोड़ दी है। जिले के किसी भी परीक्षा केंद्रों से नकलचियों के पकड़े जाने की कोई भी सूचना नहीं मिली है। एमपीपी इंटर कॉलेज के कंट्रोल रूम पर घंटों बैठकर डीएम व एसपी ने जिले के सभी 53 परीक्षा केंद्रों का सीधे जायजा लिया और परीक्षा से जुड़े अधिकारियों को नकलविहीन और सुचितापूर्ण ढंग से परीक्षा कराने का निर्देश दिया।

डीएम ने बताया कि यूपी बोर्ड परीक्षा की दोनों पालियों में चार संवेदनशील केंद्रों पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट तैनात रहे। दोनों पालियों में स्टेटिक मजिस्ट्रेटों की निगरानी में किसान इंटर कॉलेज गनेशपुर धवाई, गांधी स्मारक इंटर कॉलेज बढ़ईपुरवा, मोतीलाल यादव इंटर कॉलेज परसौना व राम जियावन इंटर कॉलेज गौरा चौराहा में परीक्षा कराई गई।
डीआईओएस महेंद्र कुमार कन्नौजिया, डायट प्राचार्य विष्णु श्याम द्विवेदी, राजकीय हाईस्कूल मधवाजोत के प्रधानाध्यापक डॉ. चंदन पांडेय, वित्त एवं लेखाधिकारी माध्यमिक प्रदीप कुमार व बीएसए/बीईओ सदर मनीराम वर्मा की निगरानी में सचल दस्तों की टीमें दोनों पालियों में परीक्षा केंद्रों पर पहुंचकर छापा मारा। जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेटों और सचल दस्तों की कड़ी निगरानी से शांतिपूर्ण, नकलविहीन व सुचितापूर्ण ढंग से पहले दिन यूपी बोर्ड परीक्षा कराई गई। डीएम ने परीक्षा से जुड़े सभी अफसरों व कर्मियों को को निर्देश दिया है कि नकल कराने व अव्यवस्था फैलाने की शिकायत मिलने पर संबंधित के खिलाफ रासूका के तहत कार्रवाई की जाएगी।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X