दो अलग-अलग थाने में दर्ज हुई रिपोर्ट

Varanasi Bureauवाराणसी ब्यूरो Updated Sat, 26 Jan 2019 12:38 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
आजमगढ़। जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के खालिसपुर गांव की तबस्सुमबानो को उसके पति सादाब अहमद द्वारा सऊदी में व्हाट्सएप के जरिए तीन तलाक देने के मामले में शुक्रवार को नया मोड़ आ गया। सादाब के घर वालों ने निजामाबाद थाने पहुंचकर इस संबंध में पहले ही 11 जनवरी को निजामाबाद थाने में केस दर्ज कराने की बात कही। इस दौरान पुलिस वालों ने बताया कि दहेज के लिए प्रताड़ित करना और दहेज के लिए तीन तलाक दे देना। दोनों ही अलग-अलग मामले हैं। इसलिए दोनों थानों की पुलिस अपने-अपने थाने में दर्ज मुकदमे की अलग-अलग जांच कर रिपोर्ट कोर्ट में पेश करेगी। जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के खालिसपुर गांव निवासी तबस्सुमबानो की शादी 21 मई 2011 को निजामाबाद थाने के सरायभाई गांव निवासी सादाब अहमद पुत्र सोहराब के साथ हुई थी। सादाब सऊदी में नौकरी करता है जबकि तबस्सुमबानो घर पर रह रही थी। तबस्सुम का आरोप है कि शादी के बाद बच्चा न होने पर परिवार के लोग दहेज में एक लाख रुपये और बाइक की मांग करते हुए प्रताड़ित करने लगे। 16 सितंबर 2018 को मारपीटकर घर से निकाल दिया। तबस्सुम बानो की तहरीर पर 11 जनवरी को निजामाबाद थाने में पति सादाब अहमद सहित परिवार के सात सदस्यों पर दहेज उत्पीड़न, मारपीट और धमकी देने की धारा में केस दर्ज कर पुलिस अपने स्तर से मामले की जांच पड़ताल में जुट गई। 11 दिसंबर 2018 को सादाब मायके में रह रही पत्नी तबस्सुम बानो को फोन पर तीन तलाक लिखकर व्हाट्सएप पर मैसेज भेज दिया। पति द्वारा तीन तलाक और धमकी देने से भयभीत तबस्सुम ने कार्रवाई के लिए अधिकारियों से गुहार लगाई। सुनवाई न होने पर मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी से मिली। सीएम के निर्देश पर गुरुवार को तबस्सुम की तहरीर के आधार पर जीयनपुर कोतवाली पुलिस ने केस दर्ज किया। एसपी ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि दोनों थानों में दर्ज मुकदमों की कुछ धाराएं भले ही सेम हैं, लेकिन कारण अलग-अलग है। ऐसे में दोनों थानों की पुलिस अपने यहां दर्ज मुकदमों की जांच करते हुए कार्रवाई करेगी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us