विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

मोहालीः जाली कागजातों पर हासिल की नौकरियां, वेरिफिकेशन में हुआ खुलासा, दो के खिलाफ केस

पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड (पीएसईबी) के जाली दस्तावेज तैयार कर सरकारी नौकरियां हासिल करने का मामला सामने आया है। पंजाब सरकार से जुडे़ दो विभागों में दो लोगों ने नौकरियां हासिल की थी। इस बात का खुलासा उस समय हुआ जब पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के दफ्तर में वेरिफिकेशन के लिए इन लोगों के सर्टिफिकेट पहुंचे। इसके बाद बोर्ड ने उक्त लोगों को अपने रिकॉर्ड में ब्लैक लिस्ट कर दिया है। इसके साथ ही संबंधित विभागों को इनके खिलाफ आगे की कार्रवाई के लिए लिखा दिया है।

मिली जानकारी के मुताबिक पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड जिला रूपनगर के एक स्कूल से 12वीं कक्षा का एक सर्टिफिकेट आया था। यह 2004 का बना हुआ था। लेकिन बोर्ड के रिकॉर्ड में वेरिफिकेशन के दौरान इनका मिलान ही नहीं हुआ। इसके बाद साफ हो गया है कि उक्त सर्टिफिकेट जाली हैं। बोर्ड ने तुरंत उक्त व्यक्ति को अपने रिकॉर्ड में ब्लैक लिस्ट कर दिया। इसके साथ ही उच्च कार्रवाई के लिए संबंधित विभागों को पत्र लिखा है।

इसी तरह दूसरे मामले में आयुर्वेदिक विभाग पंजाब से एक सर्टिफिकेट वेरिफिकेशन के लिए बोर्ड के दफ्तर में आया था। यह भी जांच में फर्जी पाया गया है। यह सर्टिफिकेट साल 2003 का था। बोर्ड ने उसे भी अपने रिकॉर्ड में ब्लैक लिस्ट कर दिया है।

बता दें कि पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड में हर महीने दो हजार से अधिक सर्टिफिकेट विभिन्न सरकारी विभागों से वेरिफिकेशन के लिए पहुंचते हैं। इस दौरान जो सर्टिफिकेट फर्जी पाए जाते हैं। बोर्ड की ओर से उक्त लोगों को अपने रिकॉर्ड में ब्लैक लिस्ट कर दिया जाता है। इतना ही नहीं उक्त दोनों लोग किसी को धोखा न दे पाएं। इसके लिए बोर्ड की ओर से उक्त लोगों का सारा रिकॉर्ड अपनी वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है।

फर्जी सर्टिफिकेटों से नौकरियां लेने वालों में लड़कियां भी आगे
मिली जानकारी के मुुताबिक अब तक रेलवे, भारतीय सेना, शिक्षा विभाग और पुलिस में पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड के फर्जी सर्टिफिकेटों से नौकरियां हासिल करने वाले लोगों का खुलासा हो चुका है। ऐसे मामलों में लड़कियां भी आगे हैं। इतना ही नहीं ऐसे लोगों पर बोर्ड की शिकायत पर पुलिस केस भी दर्ज हो चुके हैं। फर्जी सर्टिफिकेटों से नौकरियां हासिल करने वालों में लड़कियां भी आगे हैं।

हर साल बोर्ड परीक्षा में 7 लाख होते हैं अपीयर
मिली जानकारी के मुताबिक पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड की सालाना परीक्षा में हर साल 7 लाख स्टूडेंट्स पूरे पंजाब से अपीयर होते हैं। बोर्ड की ओर से सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड की तर्ज पर काम किया जा रहा है। बोर्ड से अब परीक्षा पास करने वालों को सर्टिफिकेट जारी नहीं किए जाते हैं, बल्कि उन्हें डिजिटल सर्टिफिकेट दिए जाते हैं। वह भी आधार कार्ड केे माध्यम से जुड़े होते हैं।
... और पढ़ें

मोहालीः डिवाइडर को तोड़कर दूसरी तरफ बाइक सवार से भिड़ी कार, 200 मीटर घसीटा, मौत हुई

एयरपोर्ट रोड पर शुक्रवार को डिवाइडर से टकराकर उछली क्रूज कार ने सड़क पर दूसरी ओर जा रहे एक बाइक सवार युवक की जान ले ली। कार चालक भी गंभीर रूप से घायल हुआ है। कार चालक नशे में बताया जा रहा है। बलौंगी पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। हादसे में जान गंवाने वाला युवक बलजीत सिंह पुत्र किरपाल सिंह जिला फतेहगढ़ साहिब था। वह जीएमसीएच सेक्टर-32, चंडीगढ़ में कार्यरत था।

दोपहर करीब 1 बजे खरड़ निवासी गगनदीप सिंह पुत्र दीदार सिंह एयरपोर्ट रोड पर काले रंग की क्रूज कार को खरड़ से मोहाली की ओर तेज रफ्तार से दौड़ा रहा था। अचानक ही गगनदीप कार से नियंत्रण खो बैठा और कार डिवाइडर से टकराकर लोहे की रेलिंग तोड़ती हुई हवा में उछली और दूसरी ओर सड़क पर मोहाली साइड से आ रहे बाइक सवार बलजीत सिंह से जा टकराई।

कार करीब 200 मीटर तक बलजीत को बाइक समेत घसीटते हुए ले गई। इसके बाद कार सामने से आ रहे एक ट्रक से टकराकर रुक गई। बाइक का अगला टायर कार में फंसने के कारण बलजीत बुरी तरह घायल हो गया। उसे लोगों ने ऑटो में डालकर अस्पताल पहुंचाया, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

कार में फंसे गगनदीप सिंह को भी लोगों ने मुश्किल से निकालकर अस्पताल पहुंचाया। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं हादसे में क्षतिग्रस्त हुआ ट्रक पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड का था, जो बोर्ड परीक्षा के पेपर तरनतारन ले जा रहा था। दूसरा ट्रक बुलाकर पेपर उसमें शिफ्ट करके तरनतारन भेजे गए।

ऐसा हादसा जो दिल दहला गया
एयरपोर्ट रोड पर टीडीआई सिटी में क्रूज कार हादसा ऐसा था, जिससे वहां खड़े लोगों का दिल दहल गया। एक युवक ने बताया कि उसकी आंखों के सामने देखते ही देखते क्रूज कार एयरपोर्ट रोड के बीच बने डिवाइडर पर लोहे की रेलिंग को तोड़ कर हवा में जंप करते हुए बाइक से टकराई और बाइक सवार को घसीटती ले गई।

युवक ने बताया कि इस हादसे से उसको तो क्या अगर कोई ओर भी देखता तो दिल दहल जाता। हादसे के दौरान इतनी जबरदस्त धमाके की आवाज आई थी कि सड़क से गुजरते लोग भी डर गए।
... और पढ़ें

चंडीगढ़ः सीआईडी के सीनियर सुपरिटेंडेंट की हत्या के बाद शव पॉलीथिन में डाल झाड़ियों में फेंका

इंटरनेशनल एयरपोर्ट से गांव दैड़ी को जाती सड़क पर स्थित पेट्रोल पंप के नजदीक बुधवार को उस समय सनसनी फैल गई, जब झाड़ियों से एक व्यक्ति का शव बरामद हुआ। शव को एक पॉलीथिन में लपेटकर लिफाफे में डाला हुआ था। लोगों की सूचना पर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची।

मृतक की पहचान 52 साल के कुलविंदर सिंह के रूप में हुई है। वह पंजाब पुलिस के इंटेलीजेंस विंग में सीनियर सुपरिंटेंडेंट के पद तैनात थे। शव को मार्चरी में रखवा कर सोहाना थाने की पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है। थाना सोहाना के एसएचओ दलजीत सिंह ने कहा कि पुलिस की टीमें मामले की जांच में जुटी हुई है।

आरोपियों की तलाश में कई जगह की छापामारी
थाना सोहाना के एसएचओ दलवीर सिंह गिल ने बताया कि चंडीगढ़ के सेक्टर-43 निवासी कुलविंदर सिंह मोहाली के सेक्टर-76 में सीआईडी दफ्तर में सीनियर सुपरिंटेंडेंट थे। वह अपने घर से थोड़ी ही दूर स्थित केएलसी होटल में एक पार्टी में शामिल होने गए थे। इसके बाद वह वापिस घर नहीं पहुंचे थे। उनके छोटे भाई हरचरन सिंह ने उन्हें करीब 10 बजे फोन किया तो उन्होंने सही से बातचीत की थी और कहा था कि जल्द ही वह घर आ रहे हैं।

फिर रात 11.40 बजे दोबारा फोन किया तो उनका फोन नहीं मिल रहा था। जब कई बार फोन नहीं मिला तो परिजनों ने फिर चंडीगढ़ पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। इसी बीच बुधवार को सेक्टर-83ए के पास एसआर पेट्रोल पंप के पास एक राहगीर ने सर्विस रोड पर एक व्यक्ति का शव देखा। जिसको एक पॉलीथिन में लपेटा हुआ था। तो उसने तुरंत 100 नंबर पर डायल कर पुलिस को सूचना दी थी।
... और पढ़ें

मोहालीः नाका देखकर वापस मोड़ने लगे थे कार, पुलिस ने होशियारी दिखाकर दबोचे तीन तस्कर

भले ही कोरोना के चलते शहर में लॉकडाउन और रात को कर्फ्यू चल रहा है और पुलिस जिले की सीमाएं सील करने का दावा करती है लेकिन नशा तस्करों में खौफ पूरी तरह से खत्म नहीं हो पाया है। ताजा मामला थाना फेज-एक के अधीन दारा स्टूडियो के पास का है। जहां पर पुलिस ने तीन कार सवारों को 90 ग्राम हेरोइन समेत दबोचा है। साथ ही थाना फेज-एक में आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया है।

आरोपियों की पहचान मनोज कुमार यादव निवासी रामदरबार फेज-दो चंडीगढ़, सचिन निवासी जट्टा वाला मोहल्ला मनीमाजरा चंडीगढ़ व जतिंदर सिंह लुधियाना देहात के रूप में हुई है। थाना फेज-एक के एसएचओ मनफूल सिंह ने आरोपियों को दबोचने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि मामले की जांच चल रही है। 

जानकारी के मुताबिक पुलिस ने दारा स्टूडियो के पास स्पेशल नाका लगाया था। इसमें चंडीगढ़ की तरफ से आने वाले वाहनों की चेकिंग की जा रही थी। तभी एक मानसा नंबर की कार आई। कार चालक नाके पर गाड़ियों की चेकिंग देखकर घबरा गया व कार को पीछे की तरफ मोड़ने लगा। लेकिन वहां पर गाड़ियों की भीड़ होने के चलते वह ऐसा नहीं कर पाया। इसके बाद पुलिस ने उक्त कार सवारों को दबोच लिया। गाड़ी की तलाशी लेने पर 90 ग्राम हेरोइन बरामद हुई। पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया है।
... और पढ़ें
पुलिस हिरासत में तीनों तस्कर पुलिस हिरासत में तीनों तस्कर

चंडीगढ़ से दूध के टैंकर में शराब भरकर ले जा रहा मोहाली निवासी चालक, क्राइम ब्रांच ने दबोचा

क्राइम ब्रांच ने शराब तस्करी का भंडाफोड़ कर बड़ी सफलता हासिल की है। अवैध तरीके से दूध के टैंकर में शराब लेकर गुजरात जा रहे एक चालक को टीम ने गिरफ्तार किया है। टीम ने टैंकर से शराब की 440 पेटियां बरामद की हैं। आरोपी की पहचान मोहाली फेज-5 निवासी गौरव खत्री (34) के रूप में हुई है।

पूछताछ के दौरान आरोपी ने खुलासा किया है कि इससे पहले भी वह इसी तरह शराब लेकर गुजरात जाता रहा है। रविवार को क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर रंजीत सिंह को गुप्त सूचना मिली कि दूध के टैंकर में अवैध तरीके से शराब की पेटियां लोड गुजरात भेजी जा रही हैं।

सूचना पर क्राइम ब्रांच टीम ने पोल्ट्री फार्म चौक के पास नाका लगाया। इस दौरान इंडस्ट्रियल एरिया फेज 1 की तरफ से आ रहे एक दूध टैंकर नंबर (जीजे-25 यू3717) को रोका गया। गाड़ी पर लिखा हुआ था ‘मिल्क नॉट फॉर सेल’। चालक को रोककर जब टैंकर की तलाशी ली गई तो अंदर शराब की 440 पेटियां (21120 बोतल पौवा) मिलीं।

टीम ने जब इस संबंध में टैंकर चालक से शराब का परमिट मांगा तो कोई भी दस्तावेज नहीं दिखा सका। इसके बाद आरोपी चालक को गिरफ्तार कर लिया गया। इंडस्ट्रियल एरिया थाना पुलिस ने आरोपी गौरव के खिलाफ एक्साइज 61/1/14 एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। वहीं मामले का खुलासा होने पर अन्य लोगों की भूमिका की जांच की जा रही है। क्राइम ब्रांच का कहना है कि मामले में शामिल अन्य लोगों की गिरफ्तारी जल्द की जाएगी।

नेपाली मूल का आरोपी है पांचवीं पास
क्राइम ब्रांच की जांच में सामने आया है कि आरोपी काफी शातिर है। इस गोरखधंधे को चलाने के लिए आरोपी गुजरात नंबर के दूध के टैंकर का इस्तेमाल कर रहा था। जांच में यह भी सामने आया कि टैंकर चालक आरोपी पांचवीं पास है। आरोपी मूल रूप से नेपाल का रहने वाला है। काफी सालों से मोहाली में रह रहा है।
... और पढ़ें

देश में पाकिस्तानी आतंकियों को ड्रग्स, हथियार पहुंचाने वाला कुख्यात तस्कर रणजीत सिरसा से गिरफ्तार

भारत में घुसे पाकिस्तान के आतंकियों के लिए ड्रग्स पहुंचाने वाला कुख्यात तस्कर रणजीत सिंह और उसके भाई गगनदीप उर्फ भोला को पंजाब पुलिस ने हरियाणा पुलिस तथा एनआईए के साथ संयुक्त अभियान में शनिवार अलसुबह सिरसा के बेगू गांव के एक मकान से धर दबोचा। उनके मददगार और रिश्तेदार गांव वैदवाला निवासी गुरमीत को भी सिरसा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब पुलिस के सफल ऑपरेशन पर पंजाब पुलिस की पीठ थपथपाई और डीजीपी दिनकर गुप्ता को बधाई दी। पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि उन्होंने हरियाणा के डीजीपी मनोज यादव से शुक्रवार देर रात इस जानकारी को साझा किया। इसके बाद पुलिस टीम को गांव बेगू के लिए रवाना कर दिया गया। पुलिसकर्मियों ने इस ऑपरेशन को दो टीमें बनाकर अंजाम दिया। 

उन्होंने बताया कि पंजाब पुलिस को अमृतसर में पांच मई को गिरफ्तार विक्रम उर्फ विक्की और उसके भाई मनिंदर सिंह उर्फ मनी से पूछताछ में रणजीत उर्फ चीता और उसके भाई गगनदीप उर्फ भोला के संबंध में जानकारी मिली थी। फिर इस संबंध में एनआईए की मदद से आरोपियों के बारे में जानकारी जुटाई गई। उनकी लोकेशन सिरसा में पता लगाने के बाद संयुक्त ऑपरेशन में दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

... और पढ़ें

डेराबस्सी: जमीन विवाद में भाइयों में झड़प, मारपीट का वीडियो वायरल, दोनों पक्ष से चार लोग घायल

डेराबस्सी के गांव भागसी में जमीनी विवाद को लेकर भाइयों में झड़प हो गई। झगड़े में परिवार की महिलाओं ने भी लाठियों से एक-दूसरे पर हमला कर दिया। झगड़े में पति-पत्नी सहित चार लोग घायल हो गए। घायलों में दोनों पक्षों के दो-दो लोग शामिल हैं, जिनको सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। पुलिस ने घायलों के बयान लेकर दोनों पक्षों के नौ लोगों के खिलाफ क्रॉस केस दर्ज किया है। 

गांव में हुई इस खूनी झड़प का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। जानकारी के अनुसार गांव भागसी में चार भाइयों की संयुक्त चार बीघा जमीन है, जिसके बंटवारे को लेकर चारों भाइयों में लंबे समय से विवाद चल रहा है। इस मामले को लेकर अदालत में केस भी विचाराधीन है। अस्पताल में दाखिल जरनैल सिंह व उसकी पत्नी दर्शनी देवी ने बताया कि जमीन का कब्जा उनके पास है, वहां उन्होंने चारा बोया हुआ है। 

उन्होंने आरोप लगाया कि बुधवार सुबह जब वह खेतों में पहुंचे तो उनके भाई व भतीजे खेत में चारे की कटाई कर रहे थे। एतराज करने पर उनके भाई व भतीजों, जिनमें धमेंद्र व अनिल ने लाठियों से हमला कर दिया। इस दौरान मारपीट में उनका भाई गुरनाम, वरिंद्र, अनिल की पत्नी रूबी व भाई रमेश की पत्नी कुलदीप कौर भी शामिल हो गई। 

जांच अधिकारी एएसआई कुलदीप सिंह ने कहा कि अनिल व धमेंद्र की शिकायत पर जरनैल, उनकी पत्नी व बेटे पर केस दर्ज किया गया है। वहीं दूसरे पक्ष में जरनैल की शिकायत पर उसके भतीजे धमेंद्र, अनिल, वरिंद्र व भाई गुरनाम के अलावा भतीजे अनिल की पत्नी रूबी व उसके भाई की पत्नी कुलदीप कौर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।
... और पढ़ें

मोहालीः कुराली में आढ़ती ने फंदा लगाकर दी जान, खुदकुशी की वजह तलाशने में जुटी है पुलिस

सांकेतिक तस्वीर
मोहाली में कुराली स्थित अनाज मंडी में एक आढ़ती ने फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। अनाज मंडी में आढ़त का काम करने वाले नौजवान मनोज भसीन पुत्र राज कुमार भसीन का शव उसकी दुकान में लटकता मिला।

मनोज भसीन पहले बडाली रोड के कच्चे फड़ वाली मंडी में आढ़त का काम देखने के बाद रोज की तरह पक्की मंडी में स्थित अपनी दुकान पर आ गया था। परिवार के सदस्य उसको फोन करके संपर्क करने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन उसने फोन नहीं उठाया।

फोन न उठने पर परिजन दुकान पर पहुंचे तो देखा कि मनोज फंदे से लटका हुआ था। उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी। एसएचओ जसकार सिंह पुलिस पार्टी सहित वहां पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। अब मामले की अलग-अलग पहलुओं से जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

मोहालीः नशा मुक्ति केंद्र के मालिक को छह युवकों ने किया था किडनैप, आरोपियों में नौकर भी शामिल

मोहाली में खरड़ कस्बे के गांव रडियाला में चल रहे नशा मुक्ति केंद्र के मालिक को छह युवकों ने किडनैप कर लिया था। इस काम में केंद्र में ही काम करने वाले युवक ने मदद की थी। केंद्र के मालिक ने युवक मोहित समेत सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। पुलिस जांच में जुटी हुई है।

मिली जानकारी के मुताबिक, गांव रडियाला के बानी फाउंडेशन नशा मुक्ति केंद्र में उस समय माहौल गर्मा गया, जब केंद्र में ही इलाज करवा रहे छह युवकों ने डायरेक्टर विक्रमजीत सिंह पर घातक हथियारों से जानलेवा हमला कर दिया। इतना ही नहीं आरोपी डायरेक्टर को बंधक बनाकर रोपड़ की तरफ ले गए। रास्ते में आरोपियों ने विक्रमजीत को एक पेड़ से बांधा और फरार हो गए।

विक्रमजीत सिंह ने किसी तरह पेड़ से बंधे अपने हाथ खोल लिए और खरड़ अस्पताल पहुंच गए। यहां उन्होंने अपना इलाज करवाया। फिर विक्रमजीत ने थाना सदर खरड़ पुलिस को शिकायत दी। इसमें बताया है कि उसके नशा मुक्ति केंद्र में गुरजीत सिंह, कुलवंत सिंह, जसवंत सिंह, सुमन, राज कमल भर्ती हैं। मोहित नाम का युवक भी सेंटर में काम करता है।

रोज की तरह जब वह नशा मुक्ति केंद्र पहुंचे तो मोहित ने वहां पर इलाज करवा रहे युवकों को कमरे से बाहर निकाला। इसके बाद सभी ने उन पर घातक हथियारों से हमला कर दिया। पुलिस ने विक्रमजीत की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया है।

कुछ युवकों ने डायरेक्टर के खिलाफ शिकायत दी
वहीं दूसरी तरफ से नशा मुक्ति केंद्र में दाखिल युवकों ने थाना सदर खरड़ में शिकायत दी है। इसमें डायरेक्टर पर आरोप लगाया है कि उनसे 18 हजार रुपये लेने के बाद भी एक ही टाइम का खाना दिया जा रहा था और न ही इलाज किया जा रहा था। यहां के शौचायल खस्ताहाल थे और जांच के लिए आरएमपी डॉक्टर ही आते थे।

जब वह इसका विरोध करते तो केंद्र के प्रबंधक मारपीट करते थे। उन्होंने आरोप लगाया है कि नशा मुक्ति केंद्र में 15 जनवरी के बाद कोई डॉक्टर नहीं आया है, जबकि डॉक्टरों का आना बहुत जरूरी है।
... और पढ़ें

आरोपियों को पकड़ने पंचकूला गई मोहाली पुलिस पर भूप्पी गैंग ने की फायरिंग, हेड कांस्टेबल घायल

रामगढ़ के पास पड़ते गांव बिल्ला में मोहाली पुलिस को गैंगस्टरों के होने की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस उन्हें पकड़ने पहुंची। जानकारी के अनुसार रविवार की सुबह करीब साढ़े पांच बजे हुए एनकाउंटर में भुप्पी राणा गैंग के गैंगस्टरों ने पुलिस के आने के बाद फरार होने के मकसद से उन पर फायरिंग कर दी। इसमें मोहाली पुलिस के एक हेड कांस्टेबल रछप्रीत को टांग में गोली लगी। साथी पुलिसकर्मियों ने उसे कवर करके बचाया और इलाज के लिए तुरंत चंडीगढ़ के जीएमसीएच-32 अस्पताल पहुंचाया।

वहीं, जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने गैंगस्टरों को घेरकर उन्हें फरार होने का कोई मौका नहीं दिया। करीब आधे घंटे की कार्रवाई में पुलिस ने चारों गैंगस्टरों को काबू कर लिया। हालांकि इस दौरान पुलिस ने एक राउंड फायरिंग भी नहीं की। वारदात की सूचना पर क्राइम ब्रांच, पंचकूला के पुलिसकर्मी भी तुरंत मौके पर पहुंच गए।

आरोपी हमलावरों में नारायणगढ़ निवासी हरसिमरन उर्फ सिम्मू, उत्तर प्रदेश के जिला गाजियाबाद निवासी धुर्वमोहन गर्ग, डेराबस्सी निवासी गुरप्रीत सिंह उर्फ गोपी और रायपुररानी के गांव पारवाला निवासी गुरचरण सिंह उर्फ गुना शामिल हैं। पुलिस को उनसे दो देसी पिस्टल, दो खोल, दो मैगजीन और छह कारतूस बरामद हुए हैं।

आरोपियों पर थाना चंडीमंदिर में हत्या के प्रयास सहित आईपीसी की अन्य विभिन्न धाराओं व आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। थाना चंडी मंदिर के एसएचओ दीपक शर्मा ने बताया कि मोहाली पुलिस ने इस दौरान एक भी राउंड फायरिंग नहीं की। फिलहाल पंचकूला पुलिस आरोपियों से पूछताछ में जुटी है। सोमवार को इन्हें अदालत में पेश कर उनके रिमांड की मांग की जा सकती है।

मोहाली के एसएसपी कुलदीप सिंह चहल ने कहा कि मोहाली पुलिस आरोपियों को जल्द प्रोडक्शन वारंट पर लाएगी। पुलिस लगातार अपने ऑपरेशन में जुटी है। उन्होंने सभी पुलिसकर्मियों को सफल ऑपरेशन पर बधाई दी। ऑपेरशन टीम में सहायक उप-निरीक्षक बेअंत सिंह, मुख्य सिपाही रछप्रीत सिंह, जगसीर सिंह, वीरेंद्र सिंह, सिपाही बलविंदर सिंह, उपेंद्र सिंह, सुखविंदर  सिंह, परमिंदर सिंह, देवेंद्र सिंह, सिमरदीप सिंह के साथ निजी गाड़ी में सिपाही बलविंदर सिंह और मुख्य सिपाही रसप्रीत सिंह शामिल रहे।
... और पढ़ें

मोहाली: गुस्से में पत्नी ने पति के सिर पर मारा तवा फिर साथ बैठकर खाना खाया, चोट लगने से हुई मौत

कोरोना महामारी के चलते लगे लॉकडाउन में गांव मटौर एरिया में सोमवार दोपहर को एक दपंती में किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया। इस दौरान पति ने पत्नी को बेल्ट से पीटा तो पत्नी ने गुस्से में आकर तवे से पति के सिर पर वार कर दिया। इसके बाद दोनों सामान्य हो गए और साथ बैठकर खाना भी खाया। लेकिन शाम को सोने के बाद पति फिर दोबारा नहीं उठा और उसकी मौत हो गई। इस पर पुलिस ने पत्नी पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

मिली जानकारी के मुताबिक गांव मटौर के एरिया में रह रहे फूलचंद का दोपहर को किसी बात को लेकर अपनी पत्नी सपना के साथ झगड़ा हो गया। इस दौरान बात इतनी बढ़ी कि पति ने पत्नी को बेल्ट से मारा तो पत्नी ने गुस्से में तवा उठाकर उसके सिर पर दे मारा। इसके थोड़ी देर बाद दोनों सामान्य हो गए और साथ बैठकर दोनों ने खाना भी खाया। 

इसके बाद देर शाम तक फूलचंद सोता रहा और उसके बाद दोबारा नहीं उठा। इसके बाद देर रात जब पत्नी छोटे बच्चों को दूध पिलाने के लिए उठी तो उसने पति को उठाने की कोशिश की। लेकिन वह नहीं उठा। इसके बाद पत्नी ने तुरंत अपने देवर और अन्य पारिवारिक सदस्यों को बताया। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची और घायल फूलचंद को सिविल अस्पताल पहुंचाया। यहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 
... और पढ़ें

मोहाली में ड्यूटी से लौटे सब इंस्पेक्टर की गोली लगने से मौत, गलती से चली या खुद मारी, जांच जारी

मोहाली के फेज 8 पुलिस रिहायशी सोसाइटी स्थित घर में शुक्रवार देर रात ड्यूटी से लौटे सब इंस्पेक्टर ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली। 50 वर्षीय सब इंस्पेक्टर भूपिंदर कुमार के खुद को गोली मारने की सूचना मिलते ही फेज 8 थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। 

इसके बाद भूपिंदर कुमार को तुरंत फोर्टिस अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। पुलिस यह जांच करने में जुटी है कि सब इंस्पेक्टर ने सुसाइड किया है या गलती से गोली चली है। उधर, इस संबंध में थाना फेज 8 पुलिस के एसएचओ रजनीश चौधरी से कई बार संपर्क करने की कोशिश की गई लेकिन संपर्क नहीं हो पाया।

जानकारी के मुताबिक सब इंस्पेक्टर भूपिंदर कुमार काफी समय से पुलिस लाइन में तैनात थे। कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन और कर्फ्यू में उनकी ड्यूटी पहले नयागांव व फिर थाना फेज एक एरिया में लगाई गई थी। शुक्रवार को नाके से ड्यूटी खत्म कर अपने घर पहुंचे थे। इस दौरान सर्विस रिवाल्वर भी उनके पास ही थी। जब वह कपड़े बदलने लगे तो इसी दौरान यह घटना हो गई। 

सूत्रों के मुताबिक गोली सीधे सिर में लगी है, जिससे वह एकाएक नीचे गिर पड़े। इसी बीच गोली की आवाज सुनकर इलाके के लोग एकजुट हो गए। वहीं, सूचना मिलते ही थाना फेस 8 की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। पुलिस ने रिवाल्वर को कब्जे में ले लिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

पत्नी की बीमारी थे परेशान
भूपिंदर कुमार कुछ समय से परेशान चल रहे थे। उनकी पत्नी काफी समय से बीमार चल रही थीं। पत्नी का कुछ समय पहले ऑपरेशन हुआ था। इस वजह से भी काफी आहत थे। हालांकि, भूपिंदर कुमार काफी मिलनसार था। वह काफी समय तक फेज-6 पुलिस चौकी के इंचार्ज भी रहे। 
... और पढ़ें

जीरकपुर: कर्फ्यू में शराब बेचने पर व्यक्ति गिरफ्तार, पंजाब विजिलेंस फ्लाइंग ने की कार्रवाई

जीरकपुर के कुछ दुकानदार व ठेका संचालक कर्फ्यू के नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। पंजाब विजिलेंस ब्यूरो के आईजी आशीष कपूर की देखरेख में फ्लाइंग दस्ते के डीएसपी गुरिंदर पाल सिंह ने टीम के साथ कर्फ्यू में छिपकर शराब बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए जीरकपुर के पंचकूला रोड स्थित मॉर्डन कॉम्प्लेक्स की दुकान नंबर-1 में शराब के ठेके की खिड़की से महंगे भाव पर शराब बेचने के आरोप में व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।  

इस संबंध में डीएसपी गुरिंदर सिंह ने बताया कि उनको सूचना मिली थी कि ढकोली क्षेत्र में ठेके की खिड़की से चोरी चुपके शराब बेची जा रही है। परवीन कुमार निवासी हिमाचल प्रदेश को महंगे भाव पर शराब बेचने के आरोप में काबू कर थाना ढकोली में मामला दर्ज करवाया है।  

कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर 7 नामजद
जीरकपुर पुलिस ने कर्फ्यू का पालन न करने वाले 7 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है। थाना जीरकपुर के एसएचओ गुरवंत सिंह ने बताया कि सरकार द्वारा कोरोना वायरस के प्रकोप से लोगों को बचाने के लिए कर्फ्यू लगाया गया है। लेकिन कुछ लोग कर्फ्यू का पालन नहीं कर रहे जिसके चलते कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई की जा रही है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन