विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

हरियाणा के बाद पंजाब के चार रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की जैश ने दी धमकी

मुंबई, चेन्नई और बंगलूरू समेत हरियाणा के कई रेलवे स्टेशनों और मंदिरों के बाद पंजाब के भी चार रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की धमकी मिली है।

20 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

मोहाली

शनिवार, 21 सितंबर 2019

सुरक्षा में लगी सेंध...विराट कोहली और रोहित शर्मा से मिलने मैदान में पहुंचे तीन युवक, मचा हड़कंप

पीसीए स्टेडियम मोहाली में खेले गए भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टी-20 मैच के दौरान खिलाड़ियों की सुरक्षा में सेंध लगने से हड़कंप मच गया था। मैच काफी रोमांचक रहा, लेकिन हजारों की संख्या में स्टेडियम की सुरक्षा व्यवस्था में लगे पुलिसकर्मियों को चकमा देकर तीन युवक मैदान में घुस गए। दो युवकों ने तो पुलिसकर्मियों को मैदान में खूब दौड़ाया। तीनों युवक विराट कोहली और रोहित शर्मा से मिलना चाहते थे।

यह पहला मामला नहीं है जब सुरक्षा व्यवस्था को चकमा देकर प्रशंसक मैदान के अंदर घुसे हों। इससे पूर्व भी एक बार प्रशंसक मैदान में घुसकर महेंद्र सिंह धोनी के पैर छू चुका है। हुआ यूं, जैसे ही दक्षिण अफ्रीका की पारी खत्म हुई, सुरक्षा का व्यवस्था को चकमा देकर अचानक एक दर्शक बीच मैदान पहुंच गया। उस समय भारतीय खिलाड़ी मैदान के अंदर ही मौजूद थे। सुरक्षा घेरा तोड़कर खिलाड़ियों तक पहुंचे इस प्रशंसक ने वहां उपस्थित हर किसी को चौंका दिया।

सुरक्षाकर्मियों ने जैसे ही उसे पकड़ने की कोशिश की, वह मैदान के चारों और दौड़ने लगा। पुलिसवालों को इस प्रशंसक ने खूब दौड़ाया। आखिर में वह खुद ही मैदान पर गिर गया और पुलिस वाले उसे पकड़कर मैदान से बाहर ले गए। जब सुरक्षाकर्मी उसे पकड़ कर बाहर लेकर जा रहे थे तो भारतीय क्रिकेटर कुणाल पांड्या ने सुरक्षाकर्मियों से प्रशंसक को न मारने के लिए कहा, लेकिन पुलिसकर्मी उसे पूछताछ के लिए नजदीकी थाने ले गए।

अभी यह एपिसोड खत्म हुआ ही था कि 14वें ओवर में एक ओर क्रिकेट प्रशंसक सुरक्षा घेरा तोड़कर टैरेस ब्लॉक से बीच मैदान पहुंच गया। उस समय विराट कोहली बल्लेबाजी कर रहे थे। किसी तरह सुरक्षाकर्मियों ने उसे बाहर निकाला था कि 19वें ओवर में एक और प्रशंसक मैदान में पहुंच गया। तीनों को पकड़ने में सुरक्षा कर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। वहीं इस घटना ने सुरक्षा इंतजामों पर भी सवाल उठा दिए।
... और पढ़ें

घटिया खाने की रिपोर्ट करने पर लांगरी ने एसपीओ की बाजू तोड़ी

डेराबस्सी। गांव सुंडरा में स्थित पंजाब होमगार्ड ट्रेनिंग सेंटर में माहौल उस समय तनावपूर्ण हो गया, जब कर्मियों ने मेस में मिलने वाले खाने की क्वालिटी घटिया होने के आरोप लगा दिए। इतना ही नहीं आवाज उठाने पर लांगरी (रसोइया) द्वारा एक कर्मी से मारपीट करके उसकी बाजू तोड़ने समेत अपने जख्मी साथी को अस्पताल लेकर जाने वाले कर्मी को परेशान करके सुनवाई न करते हुए जबरदस्ती सस्पेंड करने के गंभीर आरोप लगाए हैं।
जानकारी देते हुए गुरचरण सिंह, संजय कुमार, मनजीत सिंह, अनिल कुमार, श्रवण सिंह, जसबीर सिंह, मनजीत सिंह, अशोक कुमार, मुल्खराज, नर सिंह ने बताया कि वह एसपीओ (स्पेशल पुलिस अफसर) के तौर पर काम करते थे। वहीं, दिसंबर 2018 में वह करीब 128 एसपीओ के साथ यहां ट्रेनिंग के लिए आए थे, जिनमें से 10 मुलाजिमों को यहां रखकर अन्यों को अपने-अपने क्षेत्रों में भेज दिया गया। अब वे यहां बतौर गार्ड ड्यूटी कर रहे हैं और उनको मिलने वाले खाने की क्वालिटी घटिया होने पर जब उन्होंने आवाज उठाई तो कुछ अधिकारियों ने उन्हें परेशान करना शुरू कर दिया। यही नहीं कुछ दिन पहले पहले उनके साथी से मारपीट करके लांगरी ने उसकी बाजू तोड़ दी। इसकी शिकायत मुबारिकपुर पुलिस को देने के बावजूद पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की और होम गार्ड ट्रेनिंग सेंटर में भी उनके साथ बुरा व्यवहार शुरू कर दिया गया है।
उन्होंने आरोप लगाया कि उच्चाधिकारी ने सतपाल सिंह का पहले तबादला कर दिया और अब उसको सस्पेंड करने के आदेश जारी किए हैं। उसका कसूर सिर्फ इतना है कि सतपाल ने लांगरी द्वारा मारपीट करके जख्मी किए संजय को अस्पताल पहुंचाया था। इसी कारण साजिश रचकर उनके साथ धक्का किया जा रहा है। पुलिस द्वारा सुनवाई नहीं किए जाने के कारम पीड़ित कर्मियों ने पंजाब सरकार से मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।
कर्मचारी झूठ बोल रहे हैं। रही बात सतपाल सिंह को सस्पेंड करने की तो गलत व्यवहार और आदेशों की पालना न करने पर उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की है। यहां करीब 130 मुलाजिम हैं जिनमें से 10 कर्मियों ने धड़ेबाजी करके पूरे सेंटर का माहौल खराब किया हुआ है। -गुरलवदीप सिंह, कमांडेंट, पंजाब होमगार्ड ट्रेनिंग सेंटर
लांगरी (रसोइया) और जख्मी कर्मी के बयान दर्ज करने के बाद मामला डीए लीगल के पास भेजा जा चुका है। उसकी रिपोर्ट आने के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी। -कुलवंत सिंह, मुबारिकपुर पुलिस चौकी इंचार्ज
... और पढ़ें

जबरदस्ती पशु छुड़ाकर भागे लोगों पर केस दर्ज

मोहाली। सेक्टर-71 में नगर निगम द्वारा पकड़े गए पशुओं को छुड़वाने के मामले में मटौर थाने की पुलिस ने आखिर दो लोगों पर केस दर्ज किया है। आरोपियों की पहचान दलबीर सिंह उर्फ नीलू व नोनू के खिलाफ आईपीसी की धारा 353, 186 के अधीन मामला दर्ज किया है। केस नगर निगम के कमिश्नर की शिकायत पर दर्ज किया गया है। पुलिस का दावा है कि जल्दी ही आरोपी काबू कर लिए जाएंगे।
जानकारी के मुताबिक 16 सितंबर को सेक्टर-71 के पार्क में दर्जन भर लावारिस पशु घूम रहे थे। इलाके के लोगों ने इस संबंधी पार्षद अमरीक सिंह सोमल को सूचित किया। पार्षद ने मौके पर पहुंचकर तुरंत इस बारे में नगर निगम के कमिश्नर को बताया। फिर नगर निगम की टीम पशुओं को पकडने के लिए पहुंच गई। इस दौरान नगर निगम की टीम ने एक ही पशु पकड़ा था कि पशु मालिक मौके पर पहुंच गए। इस दौरान उन्होंने नगर निगम के स्टाफ से हाथापाई की। साथ ही गाली-गलौज करके पशुओं को छुड़ाकर फरार हो गए। इस दौरान पशु मालिकों ने सेक्टर-71 के लोगों को भी गालियां निकालीं। इस सारी घटना का एक वीडियो भी लोगों ने बना लिया था।
इसके बाद पार्षद ने मटौर थाने में लिखित शिकायत दी। साथ ही स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिदधू को भी सूचित किया था। वहीं इस संबंधी मामले में सख्त कार्रवाई की मांग की। बाद में इस मामले में नगर निगम के कमिश्नर ने पुलिस को लिखित में शिकायत दी। इसके बाद मटौर थाने की पुलिस ने केस दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर दी है। पुलिस का दावा है कि जल्दी केस हल कर लिया जाएगा।
गोसेवा कमीशन भी हुआ सक्रिय
इस मामले का वीडियो गोसेवा कमीशन तक पहुंच गया। गोसेवा कमीशन के सदस्य राजवंत राय शर्मा ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि इस मामले में वह जल्दी ही संबंधित विभाग से रिपोर्ट मांगेंगे ताकि उचित कार्रवाई की जा सके।
... और पढ़ें

मैं केवल वहीं चीज करती है, जिसे करना मुझे अच्छा लगता है

मोहाली। बॉलीवुड की प्रसिद्ध फिल्म डायरेक्टर, प्रोडयूसर व कोरियोग्राफर फराह खान शुक्रवार को शहर पहुंची। मौका था इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस में आयोजित लीडरशिप सम्मिट का। इस मौके उन्होंने कला के पीछे वाणिज्य विषय पर अपनी राय रखी। इतना ही नहीं वहां पर मौजूद लोगों के सवालों के जवाब भी दिए। उन्होंने अपने जवाबों से सबका दिल जीत लिया। इस दौरान उन्होंने सिनेमा के पीछे के कई पहलुओं को उजागर किया। साथ ही इस क्षेत्र में अपने आपको कैसे स्थापित किया, इस पर भी उन्होंने खुलकर बात रखी। उन्होंने कहा कि सौभाग्य से मेरी रुचि व्यावसायिक फिल्मों में है। इसलिए जब लोग मुझसे पूछते हैं कि क्या मैं इन फिल्मों को बनाने के लिए अपनी आत्मा बेच रही हूं। तो मैं उन्हें बताती हूं कि मैं ऐसा बिल्कुल नहीं कर रही हूं, क्योंकि मैं उसी चीज को करती हूं जिसे करना मुझे अच्छा लगता है। वहीं, जब उनसे पूछा गया कि वह किस तरह की विरासत अपने पीछे छोड़ना चाहती है तो इस विषय पर उनका जवाब था कि वह चाहती है कि लोग उसे गर्व से एक महिला निर्देशक के रूप में याद करे। इस दौरान उन्होंने लोगों के सवालों के जवाब भी दिए।
उन्होंने कहा कि वही काम करे, जिसे आपका दिल और आत्मा पसंद करता है। इस दौरान उन्होंने कहा कि अगर फिल्मों से समाज सीखता तो मुन्ना भाई एमबीबीएस के बाद पूरी सोसायटी को ही अच्छा हो जाना चाहिए था। समाज फिल्मों से सीखता है या फिल्म समाज से सीखता है, इसका कोई जवाब नहीं है। ये ठीक ऐसा ही सवाल है कि अंडा पहले आया या मुर्गी। उन्होंने माना कि बहुत से राइटर या वर्कर्स कुछ समय के लिए अपना भाग्य आजमा कर लौट आते हैं। उन्होंने कहा कि अब कॅरियर के ऑप्शन बढ़ रहे हैं। अब पढ़ाई पहले जैसी नहीं रही है। अब जो एकेडमिक में अच्छा नहीं है, वह भी अन्य कोर्स करके आगे बढ़ सकता है। उन्होंने कहा कि अब मौकों की कमी नहीं है।
... और पढ़ें

15 दिन में लावारिस पशुओं से निजात दिलाओं, वरना नगर काउंसिल में छोड़ेंगे पशु

मोहाली। लावारिस पशुओं और कुत्तों के खिलाफ अब विधानसभा हलका खरड़ में आम आदमी पार्टी भी संघर्ष की राह पर आ गई है। पार्टी ने खरड़ प्रशासन को अल्टीमेटम दिया है कि लोगों को इस समस्या से 15 दिन में निजात दिलाई जाए, नहीं तो वे इलाके की सड़कों व गलियों में घुमने वाले लावारिस पशुओं को ट्रॉलियों में भरकर खरड़ प्रशासन व नगर काउंसिल दफ्तर के आगे छोड़ेंगे। इस दौरान किसी भी तरह का नुकसान होने पर प्रशासन खुद जिम्मेदार होगा।
इस बारे हलका आर्ब्जवर सिमरन सहजपाल व सह-आब्जर्वर डॉ. गुरप्रीत कौर की अगुवाई में हुई इस बैठक में रणनीति बनी। इस फैसले की जानकारी पार्टी के सीनियर नेता नरिंदर सिंह शेरगिल ने मीडिया को दी। उन्होंने कहा कि एक तरफ जहां बिजली विभाग व निगम लोगों से आवारा पशुओं की समस्या के नाम पर काऊ टैक्स वसूल रहा है। दूसरी साइड लोगों के करोड़ों रुपये दबाकर बैठा हुआ है। बैठक में हरीश कौशल, महिला विंग की राज्य प्रधान राज लाली गिल, हरनेक सिंह, अमनदीप सिंह, पमरजीत सवरा, राम सरूप शर्मा, हकीम सिंह, मनजीत सिंह, जुझार सिंह, सतविंदर सिंह, अवार सिंह, सतनाम सिंह भी मीटिंग में मौजूद रहे। बैठक में महंगी बिजली के खिलाफ पार्टी की तरफ से गांव व मोहल्लों में पहुंचने की रणनीति बनाई ताकि लोगों की इस लूट के प्रति लोगों को रोका जा सके।
बता दें कि अमर उजाला भी लावारिस पशुओं व कुत्तों के मामले को लेकर काफी गंभीर है। इस मामले में अमर उजाला ने एक सीरीज भी चलाई थी। इसके बाद प्रशासन भी हरकत में आ गया था। वहीं अब राजनीतिक पार्टियां भी इस मामले में आने लगी है। इससे उम्मीद बंधी है कि अब प्रशासन की आंख खुलेगी और जल्द ही लोगों को इस समस्या से निजात मिलेगी।
जानकारी के मुताबिक खरड़ से गुजरने वाले चंडीगढ़-खरड़ हाईवे और खरड़-बनूड़ हाईवे पर लावारिस पशुओं की समस्या सबसे ज्यादा है। आए दिन इनकी वजह से हादसे भी होते हैं। ऐसी ही स्थिति नवांशहर-बडाला रोड, सन्नी एनक्लेव, छज्जूमजारा स्थित अन्य कालोनियों में हैं।
... और पढ़ें

गांव गोचर में हरा चारा खाने के बाद पशुओं की तबीयत बिगड़ी, छह की मौत

मोहाली। ब्लॉक माजरी के गांव गोचर स्थित एक गोशाला में अचानक पशुओं की तबीयत बिगड़ने के बाद छह पशुओं की मौत हो गई। वहीं 25 के करीब पशुओं को डॉक्टरी सहायता से बचा लिया गया। सूचना मिलने के बाद पंजाब गऊ सेवा कमीशन के सदस्य राजवंत राय शर्मा ने मौके का दौरा किया। साथ ही वहां पर मौजूद डॉक्टरों और गोशाला के प्रबंधकों से इस बारे में जानकारी हासिल की। उन्होंने कहा कि हरे चारे में किसी जहरीली चीज के आने से पशुओं की मौत हुई है। उन्होंने इसकी रिपोर्ट गऊ सेवा कमीशन को भेज दी है। साथ ही पशुओं के सैंपल जांच के लिए विसरा लैब भेजे गए हैं। जांच के बाद ही सारी स्थिति साफ हो पाएगी।
जानकारी के मुताबिक गोचर स्थित गोशाला में वीरवार रात करीब आठ बजे पशुओं की अचानक तबीयत बिगड़ना शुरू हो गई थी। एक के बाद एक पशु अचानक बेसुध हो गए। गोशाला प्रबंधकों ने तुरंत इस संबंधी सरकारी डॉक्टरों को बताया और उन्होंने इलाज करके 25 पशुओं को बचा लिया जबकि दो बैलों व चार गायों की मौत हो गई।
बता दें कि यह पहला मौका नहीं है इससे पहले राजपुरा स्थित गोशाला में भी कुछ दिन पहले पच्चीस के करीब पशुओं की मौत का मामला सामने आ चुका है। उनकी तबीयत भी हरा चार खाने के बाद बिगड़ी थी।
... और पढ़ें

सीआईए के पूर्व इंचार्ज का अरेस्ट वारंट जारी

मोहाली। नशा तस्करी से जुड़े मामले में सीआईए के पूर्व इंचार्ज इंस्पेक्टर सतवंत सिंह सिद्धू को अब सलाखों के पीछे जाना पड़ेगा। अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद नशा तस्करी पर नकेल कसने के लिए गठित एसटीएफ ने जिला अदालत से उसके अरेस्ट वारंट जारी करवा लिए हैं। अदालत ने छह नंवबर तक आरोपी को अरेस्ट कर अदालत में पेश करने के आदेश दिए हैं। इस दौरान एसटीएफ की तरफ से पेश हुए अधिकारियों ने केस की सारी बारीकियों से अदालत को रूबरू करवाया। साथ ही बताया कि किसी भी अदालत से आरोपी को राहत नहीं मिली। इसके बाद उक्त आदेश दिए गए हैं।
जानकारी के मुताबिक एसटीएफ ने इस साल जुलाई महीने में नशा तस्करी से जुड़े केस में एक दंपती को गिरफ्तार किया था। इस दौरान पकड़े गए नशा तस्कर का कहना था कि उसे पहले भी एक नशा तस्करी के केस में पकड़ा गया था। फिर उसने पुलिस वालों को करीब सात लाख रुपये रिश्वत दी थी। इसके बाद वह जेल से बाहर आ गया था। इसके बाद पुलिस ने तस्कर दंपती की निशानदेही पर पुलिस चौकी सनेटा के इंचार्ज सुखमंदर सिंह को गिरफ्तार किया था। इस दौरान सुखमंदर ने पूछताछ में सीआईए के पूर्व इंचार्ज इंस्पेक्टर सतवंत सिंह सिद्धू का नाम ले दिया था। इसके बाद एसटीएफ ने इस मामले की गंभीरता से जांच की । साथ ही इस केस में सतवंत सिंह सिद़धू को नामजद कर दिया है। हालांकि इससे पहले सब-इंस्पेक्टर सुखमंदर सिंह खिलाफ एसटीएफ पुलिस स्टेशन फेज-4 मोहाली में 31 जुलाई 2019 को आईपीसी की धारा 384, 452, 120बी, प्रिवेंशन ऑफ करप्शन एक्ट की धारा 7, 13 व एनडीपीएस एक्ट की धारा 59 के तहत केस दर्ज कर लिया गया था।
ऐसे सामने आई सतवंत सिंह सिद्धू की भूमिका
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक इंस्पेक्टर सुखमंदिर सिंह पर आरोप था कि उसने पुलिस के एंटी नारकोटिक्स सेल के इंचार्ज होते हुए आरोपी कुलदीप सिंह दीपा व उसकी पत्नी को छोड़ने के बदले 7 लाख 30 हजार रुपये रिश्वत ली थी। एसटीएफ द्वारा सुखमंदर सिंह की गिरफ्तारी के बाद दो अन्य आरोपियों मनिन्द्र सिंह, लवप्रीत सिंह व एक ज्योति नाम की महिला को भी इसी केस में गिरफ्तार किया गया था। उक्त सभी आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद एसटीएफ ने पूछताछ की तो उस समय के सीआईए स्टाफ इंचार्ज सतवंत सिंह सिद्धू का नाम भी सामने आया। जांच में सामने आया कि आरोपी महिला ज्योति द्वारा इंस्पेक्टर सतवंत सिंह व सब-इंस्पेक्टर सुखमंदर सिंह के साथ मिलीभगत करके पैसे का लेन-देन करवाया गया। इसी केस में पहले से गिरफ्तार किए गए पुलिस चौकी सनेटा के इंचार्ज आरोपी सब-इंस्पेक्टर सुखमंदर सिंह ने भी अदालत में जमानत याचिका दायर की थी जिसे अदालत ने खारिज कर दिया था।
... और पढ़ें

पढ़ाई में नंबर कम आने पर 11वीं क्लास के विद्यार्थी ने रेलगाड़ी के नीचे आकर किया सुसाइड

डेराबस्सी। गांव त्रिवेदी कैंप निवासी 11वीं क्लास के एक छात्र ने पढ़ाई में नंबर कम आने पर ट्रेन के नीचे आकर आत्महत्या कर ली। मृतक का शव शुक्रवार को रेलवे लाइन पर मिला है। मृतक की पहचान आदित्या (19) पुत्र रामबीर निवासी गांव सुबरी सहारनपुर (यूपी) हाल निवासी गांव त्रिवेदी कैंप के रूप में हुई है। वह मुबारिकपुर रोड पर स्थित डीएवी स्कूल में पढ़ता था।
जानकारी देते घग्गर रेलवे पुलिस के इंचार्ज एएसआई रजिंद्र सिंह ढिल्लों ने बताया कि आज सुबह करीब छह बजे अंबाला-कालका रेलवे लाइन के बीच एक लाश पड़ी होने की सूचना मिली। मौके पर जाकर जांच की तो शव एक नौजवान का था। उसकी जेब में से मिले मोबाइल पर घंटी बज रही थी पर फोन बुरी तरह टूट जाने के कारण उठाया नहीं जा सका। इसके बाद उन्होंने उस नंबर पर खुद फोने करके बात की तो पता चला कि वह वीरवार रात से घर से गायब था।
मृतक के पिता ने बताया कि उनके लड़के के बीते दिनों हुई परीक्षा में नंबर कम आए थे जिस कारण वह परेशान चल रहा था। इसके चलते उसने यह कदम उठाया है। पुलिस को मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं बरामद हुआ है। मृतक तीन बहन-भाइयों में सबसे छोटा था। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद लाश वारिसों को दे दी।
... और पढ़ें

मोहालीः ससुराल में बेटी के रानी की तरह रहने का सपना चार महीने में टूटा, और वो अब लौट आई घर

एक परिवार ने अपनी बेटी की बड़े अच्छे घर में शादी की। सोचा था कि ससुराल वाले बेटी को रानियों की तरह रखेंगे। लेकिन चार महीनों बाद ही सपना टूट गया। जिस दामाद के साथ सात फेरे लेकर बेटी को विदा किया था, वह ही उसका दुश्मन बन गया। मनीला में ले जाकर उसे तंग करने लगा।

बेटी और दोहती को जान से मारने वाले वीडियो भेजकर पैसे की मांग करने लगा। परिवार ने इसके लिए अपनी संपत्ति तक दांव पर लगा दी लेकिन वह नहीं सुधरा। ऐसे ही एक युवती व उसकी बेटी को हेल्पिंग हैपलेस संस्था के प्रयास से मनीला से अपने देश लाया गया है। दोनों अब सकुशल हैं। वहीं, परिवार में भी खुशी का माहौल है।

इस बारे में संस्था की प्रमुख अनमनजोत कौर रामूवालिया ने बताया कि जगराओं निवासी चरणजीत कौर का विवाह कुछ समय पहले हुआ था। विवाह के कुछ दिन तक तो सब कुछ ठीक चलता रहा। शादी के चार महीने के बाद उसका पति उसे मनीला ले गया। पेरेंट्स ने सोचा कि बेटी विदेश पहुंच गई लेकिन यहीं से उसके लिए मुश्किलों का सिलसिला शुरू हो गया।

उसने वहां से चरणजीत कौर के पेरेंट्स से पैसे मांगने शुरू कर दिए। पैसे न मिलने पर उसे पीटता था। इस बीच उनके घर में एक बेटी ने जन्म लिया। चरणजीत कौर को लगा कि शायद सब ठीक हो जाएगा लेकिन फिर भी उनके रिश्ते मधुर नहीं हो पाए।
... और पढ़ें

भारतीय युवक पर अमेरिका के शिकागो में अश्वेतों ने किया हमला, गोली मारकर मौत के घाट उतारा

अमेरिका के शिकागो में भारतीय युवक की गोली मारकर बेरहमी से हत्या कर दी गई। मामला 18 सितंबर रात करीब 11 बजे का है। जीरकपुर स्थित गांव छत्त निवासी बलजीत सिंह उर्फ प्रिंस (28) दुकान बंद करने के लिए शटर नीचे कर रहा था, तभी दो-तीन अश्वेतों ने उस पर अचानक हमला कर दिया और दुकान से डॉलर लूटकर ले जाने लगे। इस दौरान प्रिंस शटर बंद करने के लिए उठने लगा तो लुटेरों को लगा कि प्रिंस अलार्म बजाने जा रहा है और उन्होंने प्रिंस को गोली मार दी, जो उसके लीवर के पास लगी और वह जमीन पर गिरकर तड़पने लगा।

किसी तरह प्रिंस ने घायल अवस्था में अपने स्टोर मालिक अवतार सिंह को घटना की जानकारी दी। इसके बाद अवतार सिंह वहां पहुंचा और उसे घायल हालत में पास के अस्पताल में ले गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। प्रिंस की मौत के बाद उसके पूरे गांव और परिवार में मातम छाया हुआ है, उसके घर पर गांव के लोगों और रिश्तेदारों का तांता लगा हुआ है। वह करीब डेढ़ साल पहले एजेंट के जरिए मेक्सिको से होते हुए अमेरिका पहुंचा था। इसके लिए उसने एजेंट्स को 25 लाख रुपये दिए थे।

एजेंट के माध्यम से अमेरिका जाने पर उसे सरकार को अलग से 15 लाख रुपये का बांड भरना पड़ा। उसके परिवार में उसके अलावा उसके दादा-दादी, मां-बाप व दो बहनें हैं। प्रिंस घर का इकलौता बेटा था। उसकी बड़ी बहन चरणजीत कौर जर्मनी में स्टडी बेस पर गई थी और अब उसे वहां की पीआर मिली है। छोटी बहन कमलजीत कौर बीए फाइनल इयर की स्टूडेंट है और वह यहीं गांव में ही रहती है। मृतक प्रिंस के मामा अमरजीत सिंह ने भारतीय सरकार से मांग की है कि वह बलजीत का शव अमेरिका से लाने में मदद करे। इसके लिए वह पटियाला की सांसद महारानी परनीत कौर से भी मुलाकात करेंगे। अभी प्रिंस का शव पुलिस कस्टडी में है।

पिता ने 40 लाख रुपये कर्ज लेकर बेटे को विदेश नौकरी के लिए भेजा था
बलजीत उर्फ प्रिंस के चाचा सुखबीर सिंह ने बताया कि बेटे को विदेश भेजने के लिए उसके पिता इंद्रजीत सिंह ने 40 लाख रुपये का कर्ज लिया था। कर्ज के पैसे पिता के सिर से उतारने के लिए वह चार-पांच माह से पैसे भेज रहा था। प्रिंस की छोटी बहन कमलजीत कौर ने बताया कि अब तक उसके भाई ने चार-पांच लाख रुपये घर भेजे हैं और वह वहां दुकान पर अच्छे से काम करता था ताकि वह कर्ज के पैसे उतार सके।
... और पढ़ें

मोहालीः टी20 मैच के दौरान पीसीए स्टेडियम में घुसने वाले तीनों युवक न्यायिक हिरासत में भेजे गए

भारत और दक्षिण अफ्रीका के टी-20 मैच में सुरक्षा घेरा तोड़कर खिलाड़ियों तक पहुंचने वाले तीन लोगों के खिलाफ थाना फेज-आठ में केस दर्ज किया गया है। आरोपियों की पहचान संगीत कुमार यमुनानगर हरियाणा, राजेश कुमार राजस्थान व पवन कुमार मंडी हिमाचल प्रदेश के रूप में हुई है।

पुलिस ने तीनों के खिलाफ सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने समेत विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। आरोपियों को वीरवार अदालत में पेश किया। अदालत ने तीनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। अब तीनों तब तक सलाखों के पीछे रहेंगे, जब तक उन्हें जमानत नहीं मिल जाती।

बता दें कि 18 सितंबर भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टी-20 मैच बुधवार को आईएस बिंद्रा स्टेडियम में खेला गया था। ऐसे में पंजाब ही नहीं बल्कि विभिन्न राज्यों समेत विदेशों से भी लोग मैच देखने के लिए पहुंचे हुए थे। सूत्रों की माने तो इस मैच में सुरक्षा घेरा भी इतना मजबूत नहीं था। इसका फायदा दर्शकों ने उठाया और तीन फैंस सीधे ग्राउंड तक पहुंच गए।

ऐसे में कई तरह के सवाल उठ रहे है। यह पहला मौका नहीं इससे पहले भी एक बार ऐसा हो चुका है। ऐसे में अब पुलिस का थिंक टैंक भी नए सिरे से प्लानिंग में जुट गया है। एक तरफ इस तरह दर्शकों के मैदान में पहुंचने के मुददे की जांच की जा रही है, वहीं दूसरी तरफ पुलिस की तरफ से नए सिरे से रणनीति तैयार की जा रही है ताकि दोबारा ऐसी घटना न हो।
... और पढ़ें

मोहालीः बरगाड़ी बेअदबी मामले में सीबीआई की कारगुजारी पर सवाल, लिखित में देंगे नोटिस का जवाब

बरगाड़ी बेअदबी मामले के संबंध में सीबीआई की क्लोजर रिपोर्ट और पंजाब सरकार की तरफ से दायर प्रोटेस्ट पिटीशन की सुनवाई वीरवार को सीबीआई की विशेष अदालत में हुई। इस मौके पर पंजाब सरकार ने सरकारी वकील के माध्यम से अदालत में एक अर्जी दायर करके सीबीआई की कारगुजारी पर प्रश्न चिह्न लगाया। साथ ही उन्होंने जांच एजेंसी पर गुमराह करने का आरोप लगाया। अदालत ने सीबीआई नोटिस जारी कर 30 सितंबर तक लिखित रूप में जवाब दाखिल करने के लिए कहा है।

सरकारी वकील संजीव बतरा ने अदालत में कहा कि तीन साल से यह मामला सीबीआई के पास था, लेकिन अभी तक उनकी तरफ से इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दी गई। इसके बाद पिछले साल 28 अगस्त को पंजाब विधानसभा की तरफ से बेअदबी के मामले में सीबीआई से जांच वापस लेने का प्रस्ताव पास किया था। प्रस्ताव पास होने के अगले दिन ही पर्सोनल विभाग के माध्यम से सीबीआई को पत्र भेजा गया था। इसके बाद बेअदबी मामले से संबंधित थाना बाजाखाना में दर्ज किए गए केसों की जांच करने की सीबीआई को दी सहमति वापस लेने के बारे में छह सितंबर को नोटिफिकेशन जारी किया था।

इसके बाद बाकायदा सीबीआई को दो और चिट्ठियां लिखी गई थी लेकिन जांच एजेंसी ने सरकार को केस वापस नहीं किया। साथ ही कोई दस्तावेज भी पेश नहीं किया गया। इसके बाद सीबीआई ने क्लोजर रिपोर्ट पेश कर दी। वहीं, अब सीबीआई फिर जांच करने के लिए कह रही है। वकील संजीव बतरा ने कहा कि सीबीआई बताए कि सरकार की नोटिफिकेशन की कॉपी, पंजाब सरकार का पत्र और दो रिमांडर उन्हें मिले है या नहीं।

अदालत ने इसके बाद सीबीआई को 30 सितंबर तक लिखित रूप में अपना जवाब दाखिल करने के लिए कहा है। वहीं जिला बठिंडा के रामपुरा फूल के पूर्व विधायक व एंटी करप्शन पार्टी पंजाब के कन्वीनर हरबंस सिंह जलाल शुक्रवार को दोबारा निजी रूप में अदालत में पेश हुए। उन्होंने अर्जी दायर करने की कोशिश की लेकिन अदालत ने इससे मना कर दिया। साथ ही कहा कि पहले निचली अदालत में जाएं। अगर वहां सुनवाई नहीं होती है तो फिर इस अदालत की शरण लें।
... और पढ़ें

सेक्टर-69 के शराब ठेके की बदलेगी साइट, हाईकोर्ट ने दी राहत

मोहाली। सेक्टर 69 में अस्पताल के सामने वाली जगह पर खुले शराब ठेके के मामले में पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट से इलाके के लोगों को बड़ी राहत मिली है। अदालत ने अगले आठ हफ्तों में ठेके को उक्त जगह से बदलने के आदेश दिए हैं। इस संबंधी ऑल रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन सेक्टर-69 ने अदालत में याचिका दायर की थी। इसकी सुनवाई करने के बाद अदालत ने गमाडा, डिप्टी कमिश्नर मोहाली, एक्साइज विभाग मोहाली और एसएसपी मोहाली को हिदायत दी।
याचिकाकर्ता के वकीलों जेएस चाहल और सौरव भाटिया ने अदालत को बताया कि यह ठेका सेक्टर 69 में अस्पाल के ठीक सामने है। वहीं उसके साथ में स्कूल और सामने मंदिर है। उन्होंने यह भी कहा कि ठेके मालिक गमाडा को यह लिखकर देते हैं कि यदि इलाकावासियों को ठेके का ऐतराज होगा तो वह अपना ठेका कहीं और शिफ्ट कर लेंगे परंतु ठेकेदार द्वारा बार-बार मांग करने पर भी इसे शिफ्ट नहीं किया गया।
बता दें कि इस जगह पर ठेका खुलते ही गांव कुंभड़ा और सेक्टर 69 के निवासियों की तरफ से ठेके का विरोध शुरू कर दिया गया था। इतना ही नहीं, लोगों ने ठेके को बंद करवाने के लिए गांधीगिरी का सहारा लिया था। लोगों ने ठेके के बाहर अपने पशु बांध दिए थे परंतु इसके बावजूद गमाडा और एक्साइज विभाग के अधिकारियों ने ठेके को खुलवा दिया था। इसके बाद आहत होकर लोगों ने अदालत की शरण ली थी।
जानकारी के मुताबिक इस साल जो भी शराब ठेके खुले हैं, उनकी लोकेशन को लेकर काफी सवाल उठ रहे है। एयरोसिटी में भी शराब ठेके के विरोध में लोग संघर्ष कर चुके हैं। इसके अलावा कई ऐसी जगह पर ठेके खुले हैं, जहां पर उन्हें खोला तक नहीं जा सकता है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree