विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

लुधियानाः सरपंच के पति रिटायर्ड आर्मी कैप्टन ने की खुदकुशी, कोरोना संकट से मानसिक दबाव में थे

हलवारा में फौज से रिटायर्ड कैप्टन करमजीत सिंह (60) ने बुढ़ेल गांव स्थित अपने घर में फंदा लगाकर जान दे दी। कैप्टन करमजीत सिंह बुढ़ेल गांव की सरपंच मंजीत कौर के पति थे। देश की सेवा से रिटायर होने के बाद से कैप्टन करमजीत सिंह जनसेवा से जुड़े थे। सरपंच पत्नी मंजीत कौर के पंचायती कार्यों में हमेशा तत्पर रहने वाले इस फौजी अफसर पर कोरोना वायरस फैलने के बाद से जबरदस्त मानसिक दबाव था। सूचना मिलने के बाद पहुंची थाना सुधार की पुलिस ने पत्नी मंजीत कौर के बयान दर्ज कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

सरपंच मंजीत कौर के दिए बयान के मुताबिक कोरोना वायरस के चलते लगे कर्फ्यू के बाद से पंचायत का काम काफी बढ़ गया था। सारा काम कैप्टन करमजीत सिंह ही देखते थे। देश और देश के गरीबों के बुरे हालात से भी वह काफी दुखी रहते थे। बुधवार रात 11 बजे वह खाना खाने के बाद कमरे में सोने के लिए चले गए। सुबह छह बजे उनका शव पंखे से लटका हुआ मिला। जांच अधिकारी थानेदार गुलाब सिंह ने बताया कि सरपंच मंजीत कौर ने भारी दबाव के चलते आत्महत्या की बात कही है।

पंचायती काम और कोरोना वायरस से पैदा हालात से कैप्टन करमजीत सिंह हमेशा दुखी रहने लगे थे। इसलिए उन्होंने आत्महत्या कर ली। मृतक का बेटा अमरजीत सिंह भी फौज में ही तैनात है। बुधवार रात कैप्टन करमजीत सिंह अपने दोस्त जगजीत सिंह के साथ तमाम ठीकरी पहरे चेक करने के बाद आसपास गांव के सरपंचों से सलाह करने के बाद लौटे थे। घुमाण गांव के पूर्व सरपंच भूपिंदर सिंह ने बताया कि बुधवार रात तमाम मौजूदा हालात पर विचार करने के बाद वह अपने घर चले गए थे।
... और पढ़ें

'कांस्टेबल ने एक रात में 80 बार किया कॉल, रेस्तरां मालिक ने नहीं उठाया, तंग आकर कर ली खुदकुशी'

लुधियाना के बीचों बीच स्थित थाना डिवीजन तीन के सामने क्वालिटी हाउस रेस्तरां के मालिक गगनदीप सिंह उर्फ देव (30) ने एक कांस्टेबल से तंग आकर जान दे दी। सूचना मिलने के बाद थाना डिवीजन तीन की पुलिस मौके पर पहुंच गई।

पुलिस ने मृतक के कब्जे से सुसाइड नोट बरामद किया। जिसमें देव ने सिर्फ तीन लाइनों में लिखा है कि पुलिसकर्मी उससे पचास लाख रुपये मांगता था। नहीं देने पर उसे धमकियां मिलती थी। उसकी मौत का जिम्मेदार कांस्टेबल और कपूर स्कूटर वाला है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। 

देव के पिता अमरजीत सिंह ने बताया कि रेस्तरां के पीछे ही उनका घर है। लॉकडाउन की वजह से इस समय रेस्तरां बंद है। थाना डिवीजन तीन में तैनात एक कांस्टेबल की देव के साथ दोस्ती थी। कांस्टेबल का परिवार विदेश में है। देव को भी कांस्टेबल विदेश में जाकर बसने के लिए बोलता था। 
... और पढ़ें

लुधियाना: घर में घुसकर महिला की हत्या, कामवाली पहुंची तो इस हाल में मिला शव

लुधियाना के पॉश इलाके भाई रणधीर सिंह नगर (आई ब्लाक) में मंगलवार की सुबह उस समय सनसनी फैल गई, जब एक घर में महिला की किसी अज्ञात व्यक्ति ने निर्मम हत्या कर दी। आशंका है कि हत्या दो दिन पहले की गई है। घटना का पता उस समय चला जब महिला के घर काम करने वाली महिला आई तो उसने शव देखा। इसके बाद मकान मालिक ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। 

सूचना मिलते ही एसीपी समीर वर्मा पुलिस पार्टी के साथ मौके पर पहुंचे। महिला की कोरोना वायरस से मौत न हुई हो इसके लिए पुलिस प्रशासन ने पहले कोविड 19 की टीम बुला कर जांच करवाई। जब कोविड-19 नहीं निकला तो पुलिस ने जांच की। जांच के बाद पुलिस ने भाई रणधीर सिंह नगर निवासी गीता रानी (44) का शव पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भेज दिया है। थाना सराभा नगर पुलिस ने अज्ञात हत्यारों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 

भाई रणधीर सिंह नगर इलाके में आयुर्वेदिक प्रोडक्ट की दुकान चलाने वाली गीता रानी किराए के मकान में रहती थी। दो दिन पहले मकान मालिकों ने उसे देखा था। इसके बाद वह नजर नहीं आई। मकान मालिकों ने सोचा कि कोरोना वायरस को लेकर चल रहे कर्फ्यू के कारण गीता कमरे में ही होगी। मंगलवार की सुबह उसके घर काम करने वाली महिला आई तो अंदर गीता का शव पड़ा था। उसके मुंह पर पॉलीथिन का लिफाफा बंधा हुआ था। महिला का शोर सुनकर आसपास के लोग इकट्ठा हो गए। सूचना मिलने के बाद पुलिस भी वहां पहुंच गई। 

पुलिस को पहले कोरोना संक्रमण से हुई मौत लगी तो उन्होंने स्वास्थ्य विभाग से संपर्क कर कोविड-19 की टीम बुलाई। जांच में कोरोना जैसी कोई बात नहीं लगी तो पुलिस ने जांच की। एसीपी वेस्ट समीर वर्मा ने बताया कि अभी तक की जांच में यह सामने आया है कि हत्या या तो गला दबाकर की गई है या फिर सांस रोक कर। जिसने भी हत्या की है, वह गीता देवी का जानकार है। क्योंकि घर में ली गई एंट्री फ्रेंडली लगती है। उन्होंने कहा कि आसपास के सीसीटीवी कैमरे चेक किए जा रहे है।  
... और पढ़ें

अमृतसर का तस्कर गिरफ्तार, दो बार में 11 किलो हेरोइन पकड़ी, राशन के थैले में छिपा रखा था

पाकिस्तान के तस्करों से व्हाट्सएप कॉल पर संपर्क कर हेरोइन की खेप मंगवाने वाले एक आरोपी को एसटीएफ  ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। कुछ दिन पहले एसटीएफ ने बीएसएफ के साथ मिलकर सूचना के आधार पर जीरो लाइन से छह किलो हेरोइन बरामद की थी। आरोपी वहां से फरार हो गया था। 

पुलिस ने इस मामले में अमृतसर के गांव कोटली औलख निवासी प्रताप सिंह (37) के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था। बीती रात को पुलिस ने फिरोजपुर रोड पर नाकाबंदी कर रखी थी। इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी हेरोइन की खेप देने लुधियाना आ रहा है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से पांच किलो चालीस ग्राम हेरोइन बरामद की। 


यह भी पढ़ें-
पाकिस्तानी की गुहार, 'मोदी साहब! मेरा कबूतर वापस कर दीजिए, मैं बहुत चाहता हूं', पढ़ें- मामला


पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दूसरा मामला दर्जकर उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के कब्जे से पुलिस ने कुल 11 किलो चालीस ग्राम हेरोइन और बाइक बरामद कर लिया है। पुलिस आरोपी से पूछताछ करने में जुटी है। एसटीएफ में तैनात सब इंस्पेक्टर जसपाल सिंह ने बताया कि पुलिस पार्टी को कुछ दिन पहले सूचना मिली थी कि आरोपी प्रताप सिंह हेरोइन तस्करी करता है। 
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

बेटे ने नहीं उठाया फोन, पिता को हुई अनहोनी की आशंका, इस हाल में कमरे में मिला शव

मोहल्ला नानक नगर इलाके में रहने वाले दलजीत सिंह (22) ने मंगलवार रात अपने किराए के घर में संदिग्ध हालात में फंदा लगाकर जान दे दी। घटना का पता बुधवार सुबह उस समय चला जब दलजीत ने परिजनों का फोन नहीं उठाया। उन्होंने इसकी जानकारी दलजीत के मालिक राहुल को दी। राहुल जब घर गया तो दरवाजा अंदर से बंद था। उसने दूसरी चाबी से ताला खोला तो अंदर दलजीत का शव पड़ा था। टूटी रस्सी पंखे से लटक रही थी। 

मूलरूप से फिल्लौर के गांव रसुलपुर का रहने वाला दलजीत सिंह इलेक्ट्रानिक सामान रिपेयर करने का काम करता था। वह राहुल एयरकंडीशन नाम की दुकान पर काम करता था। उसे रोजाना फिल्लौर से आना होता था। दलजीत के मालिक राहुल ने उसे नानक नगर में एक घर किराए पर ले दिया था। जब दलजीत लेट हो जाता था तो वहां सो जाता था। 


इसे भी पढ़ें-
लॉकडाउन में नौकरी गई, वीडियो बना सुनाई दास्तां फिर नहर में कूदकर दे दी जान

दलजीत चार दिन पहले ही घर से लौटा था। मंगलवार की शाम उसने राहुल से दो सौ रुपये लिए और नानक नगर स्थित घर जाने की बात कही। देर शाम को दलजीत के पिता गुरचरण ने फोन किया तो उसने नहीं उठाया। एक दो बार फोन करने पर गुरचरण को लगा कि दलजीत कहीं व्यस्त होगा वह सुबह बात कर लेंगे। 

सुबह कई बार फोन मिलाने पर दलजीत ने फोन नहीं उठाया तो उन्होंने राहुल को फोन कर जानकारी दी। राहुल नानक नगर स्थित घर पहुंचा और उसने भी दलजीत को फोन किए लेकिन उसने फोन नहीं उठाया। घर की एक चाबी राहुल के पास थी तो उसने दूसरी चाबी से ताला खोला तो अंदर बेड पर दलजीत का शव पड़ा था। थाना दरेसी के एसएचओ इंस्पेक्टर विजय कुमार ने बताया कि मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट तो नहीं मिला है। प्रेम संबंधों की अभी जांच की जा रही है। परिजनों को सूचना दे दी गई है। उनके बयान दर्ज होने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। 
... और पढ़ें

लुधियाना में संदिग्ध हालत में महिला कांस्टेबल ने जहर निगला, पटियाला में प्रवासी मजदूर फंदे पर झूला

पुलिस क्वार्टर में रहने वाली महिला कांस्टेबल कमलजीत कौर ने सोमवार की रात को संदिग्ध हालात में जहरीला पदार्थ निगल लिया। डीएमसी अस्पताल में मंगलवार की सुबह उनकी मौत हो गई। थाना डिवीजन आठ की पुलिस ने परिजनों के बयान दर्ज करने के बाद पोस्टमार्टम करा शव सौंप दिया है। एसएचओ इंस्पेक्टर जरनैल सिंह ने बताया कि कमलजीत कौर के दो बच्चे हैं। 

पिछले कुछ समय से उसका अपने पति के साथ विवाद चल रहा था। इस पर वह पति से अलग पुलिस क्वार्टर में रह रही थी। पिछले कुछ दिनों से वह दिमागी रूप से परेशान थी और इलाज भी चल रहा था। सोमवार की रात को वह घर पर ही थी और कोई जहरीला पदार्थ निगल लिया। डीएमसी अस्पताल में मंगलवार की सुबह इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। 


यह भी पढ़ें-
पिता ने थमाई थी हॉकी, जुनून ने बनाया दुनिया का सितारा, पढ़ें- दिग्गज खिलाड़ी बलबीर सिंह की अनसुनी बातें

पटियाला: प्रवासी मजदूर ने फंदा लगाकर जान दी
घन्नौर की अनाज मंडी में मंगलवार को एक प्रवासी मजदूर ने फंदा लगाकर जान दे दी। 19 साल का यह लड़का लॉकडाउन के कारण परेशान था। थाना घन्नौर के इंचार्ज एसआई सुखविंदर सिंह ने बताया कि पिता राज बली ने पुलिस को बयान दिया है कि उसका बेटा गोबिंद प्रसाद घन्नौर में निहाल चंद शिव कुमार आढ़ती की दुकान पर लोडिंग व अनलोडिंग का काम करता था। वह वहीं बने एक कमरे में रहता था। 

राजपुरा में काम कर रहे पिता राज बली को मंगलवार को घन्नौर से फोन आया कि उनके लड़के ने फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। जब वह अपने भतीजे को साथ लेकर वहां पहुंचा तो देखा कि गले में तार डालकर लड़के ने फंदा लगा रखा था। पिता के बयान के मुताबिक गोबिंद प्रसाद कई दिनों से मानसिक तौर पर परेशान रहता था। लॉकडाउन के बाद से ही वह परेशान था। इस कारण उसने यह कदम उठाया है। 
... और पढ़ें

लुधियाना में नाबालिग प्रवासी की गला घोंटकर हत्या, पुलिस ने कमरे से शव बरामद किया

पंजाबी बाग से लगते खेत से बीते दो दिनों से लापता नाबालिग प्रवासी का शव सोमवार को एक कमरे में बरामद हुआ है। नाबालिग का शव नग्न हालत में पड़ा था। शुरुआती जांच में पता चला है कि तार से गला घोंटकर हत्या की गई है। मामले की जानकारी मिलते ही एसएसपी देहात विवेकशील सोनी सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस इस हत्या की कई एंगल से जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार मृतक संजय कुमार (17) पुत्र हरी उड़ीसा का रहने वाला था। फरवरी 2020 से पंजाबी बाग के साथ लगते खेत मालिक मनजीत सिंह के पास काम कर रहा था। 23 मई की रात की संजय ने अपने मालिक मनजीत सिंह को कहा कि वह खेत में मोटर पर नहाने के लिए जा रहा है। सुबह तक वह घर नहीं लौटा तो 24 मई को मनजीत सिंह ने गुमशुदा होने की शिकायत पुलिस को दी। सोमवार सुबह उसका शव एक कमरे से बरामद हुआ। पुलिस जांच कर रही है।
... और पढ़ें

लुधियानाः पिता ने की नाबालिग बेटी से दुष्कर्म की कोशिश, पत्नी ने बच्चों के साथ मिलकर मार डाला

सांकेतिक तस्वीर।
एक ठेकेदार ने अपनी नाबालिग बेटी के साथ दो दिन पहले दुष्कर्म की कोशिश की। इसी बात को लेकर शनिवार को घर में हुए क्लेश के बाद पत्नी ने बेटे और नाबालिग बेटी के साथ मिलकर पति को ही मौत के घाट उतार दिया। वारदात को अंजाम देने में जो बेटा शामिल है वह मृतक राज किशोर (45) की पहली पत्नी का बेटा है।

बाद में आरोपी खुद शव के पास बैठे रहे। पड़ोसियों द्वारा इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। पुलिस ने राज किशोर की पत्नी गीता, उसके बेटे विशाल (19) और नाबालिग बेटी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। तीनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

एसीपी नार्थ गुरबिंदर सिंह ने बताया कि राज किशोर राजमिस्त्री था और शराब पीने का आदी था। दो दिन पहले उसने अपनी नाबालिग बेटी के साथ दुष्कर्म की कोशिश की। जिस कारण परिवार में क्लेश बढ़ा हुआ था। शनिवार रात को इसी बात को लेकर राज किशोर का परिजनों के साथ झगड़ा हो गया। इसके बाद वह बाहर चला गया और शराब पीकर लौटा। फिर उसका परिजनों से झगड़ा हुआ।

गुस्से में उसकी पत्नी और बेटे व बेटी ने राज किशोर के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी। इसी दौरान तीनों ने बिजली के तार से गला दबा कर राज किशोर की हत्या कर दी। पहले चिल्लाने और बाद में शांत होने पर पड़ोसियों ने जाकर देखा तो राज किशोर मृत पड़ा था। उन्होंने तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दी। इंस्पेक्टर विजय ने बताया कि तीनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।
... और पढ़ें

लुधियानाः सब्जी लेने जा रहे प्रवासी मजदूर को तीन युवकों ने पहले लूटा, फिर चाकू मारकर हत्या

होलसेल सब्जी मार्केट में बुधवार की सुबह सब्जी लेने जा रहे एक प्रवासी को तीन लुटेरों ने चाकू मार मौत के घाट उतार दिया। आरोपी उसकी जेब से पैसे लेकर फरार हो गए। घटनास्थल से कुछ दूरी पर बाहर खड़े एक व्यक्ति ने जब शोर मचाया तो आसपास के लोग एकत्र हुए। घटना की जानकारी मिलते थाना हैबोवाल पुलिस ने मौके पर पहुंच जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने मृतक के भाई के बयान पर तीन लुटेरों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। वही पुलिस लुटेरों की पहचान के लिए आसपास के सीसीटीवी कैमरा को खंगाल रही है।

न्यू टेगोर नगर निवासी रामू (35) नारियल बेचने का काम करता था। लॉकडाउन में यह काम ठंडा पड़ गया, इस पर वह सब्जी बेचने का काम करने लगा। बुधवार की सुबह लगभग पांच बजे सब्जी लेने के लिए जालंधर बाईपास की तरफ साइकिल पर निकला था। वह चंद्र नगर स्थित मल्ली पेट्रोल पंप के पास पहुंचा था। वहां एक एक्टिवा पर सवार तीन युवकों ने उसका रास्ता रोक लिया। चाकू की नोक पर जैसे पैसे मांगे तो रामू से तकरार हो गई। इसी दौरान आरोपियों ने रामू पर चाकू से वार कर दिया। वह गिर गया और लुटेरे उसके पैसे लूट कर फरार हो गए।

कुछ दूरी पर घर के बाहर खड़े एक व्यक्ति ने जब यह घटनाक्रम देखा उसने शोर मचा दिया। घायल रामू की मौके पर मौत हो गई। मृतक के छोटे भाई संतोष ने मौके पर पहुंच कर उसकी पहचान की। शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भेज दिया गया है। थाना हैबोवाल प्रभारी मोहन लाल ने बताया कि  मामला लूट का ही लग रहा है। पुलिस मृतक के छोटे भाई संतोष के बयान पर अज्ञात हत्यारों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस आरोपियों का सुराग लगाने के लिए आसपास के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाल रही है।
... और पढ़ें

नाका तोड़ भगाई गाड़ी, पुलिस कमिश्नर ने 10 किमी पीछा कर घेरा, दोनों तरफ से फायरिंग, आरोपी घायल

भारत नगर चौक में शनिवार सुबह एक युवक ने नाका तोड़कर गाड़ी भगा दी। इसी दौरान वहां से पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल निकल रहे थे तो युवक ने उनकी गाड़ी को साइड मार मार दी। इसके बाद कमिश्नर ने उसका पीछा किया। करीब 10 किलोमीटर पीछा करने के बाद लाडोवाल में वह घिर गया तो उसने पुलिस पर फायर कर दिया।

थाना प्रभारी एसआई बलविंदर सिंह ने जवाबी फायरिंग की। गोली आरोपी की जांघ पर लगी। आरोपी की गाड़ी से पुलिस को 315 बोर का देसी कट्टा, दो कारतूस, एक खोल और दस ग्राम नशीला पाउडर बरामद हुआ। पुलिस ने इस मामले में कार चालक सुखविंदर सिंह के खिलाफ हत्या के प्रयास सहित कई धाराओं में मामला दर्जकर लिया है।

यह भी पढ़ें- 
शराब घोटाला: गृह मंत्री अनिल विज ने 31 मई तक एसआईटी को जांच रिपोर्ट सौंपने को कहा

पुलिस कमिश्नर राकेश अग्रवाल ने बताया कि वह शनिवार सुबह करीब पौने 12 बजे अपनी टीम के साथ चेकिंग पर थे। भारत नगर चौक के पास एक होंडा जैज कार में दो लोग सवार थे, जिन्हें ट्रैफिक पुलिस ने रुकने का इशारा किया। आरोपी ने गाड़ी भगा ली। उनकी सिक्योरिटी जिप्सी ने कार को रोकने की कोशिश की। मगर आरोपी ने उन्हें टक्कर मार कर कार भगा ली।
... और पढ़ें

कनाडा-अमेरिका सीमा पर 60 किलो कोकीन के साथ भारतीय काबू, गिरफ्तारी के दौरान हुआ हार्ट अटैक

कनाडा-अमेरिका की सीमा पर तीन मिलियन डॉलर (25 करोड़) की 60 किलो कोकीन के साथ एक भारतीय को काबू किया गया है। पुलिस ने जैसे ही उसे काबू किया, उसे मौके पर ही दिल का दौरा पड़ गया। उसे तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

लुधियाना के गांव सहौली के 41 वर्षीय अजीतपाल सिंह संघेड़ा बड़े किसान परिवार से संबंध रखता है। ऐसे में उसके नशा तस्करी में पड़ने की खबर से ग्रामीण स्तब्ध हैं। आरोपी 2004 में कनाडा गया था और वहां की नागरिकता ली थी। टोरंटो में रहने वाला अजीतपाल वहां ट्रक चलाता है।

अजीतपाल के पिता तेजपाल की मौत हो चुकी है। उसकी मां पूर्व अध्यापिका गुरदेव कौर कनाडा में ही सैटल हैं। जानकारी के अनुसार, अजीतपाल के सिर पर काफी कर्ज था, जिस कारण उसने नशे के इस धंधे में कदम रखा।
... और पढ़ें

लुधियानाः ट्रक ने मारी टक्कर, हादसे में बाइक सवार दंपति की मौत, बेटे से मिलकर लौट रहे थे

घर पूछते-पूछते पहुंचे बाइक सवार, दरवाजा खुलवा पिता-पुत्र को मारी गोली, बेटे की मौत

बस्ती जोधेवाल इलाके में बुधवार की देर रात को उस समय दहशत का माहौल पैदा हो गया, जब बाइक सवार दो युवक इलाके में रहने वाले गिरीश कुमार (35) के घर का पता लगाया और दरवाजा खुलवाकर गोली मार हत्या कर दी। जब बेटे को बचाने पिता आगे आया तो आरोपियों ने उन पर भी गोलियां दाग दीं। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गए । 

इलाके के लोगों ने पिता-पुत्र को डीएमसी अस्पताल पहुंचाया। जहां गिरीश कुमार की मौत हो गई, जबकि पिता जोगिंदर (60) की हालत गंभीर बनी हुई है। सूचना मिलने के बाद पुलिस के आला अधिकारी और थाना बस्ती जोधेवाल की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने जांच के बाद शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है। जांच में पता चला है कि गिरीश और उसके चाचा के बीच पारिवारिक बातों को लेकर विवाद था। 

यह भी पढ़ें-
पंजाब में सरकारी कामकाज की खुली पोल, 'अफसर पॉलिसी बनाते रहे और मंत्री देते रहे मंजूरी'

गिरीश और उसके पिता घर पर ही थे। देर रात बाइक सवार दो युवक गिरीश के घर का पता पूछते हुए आए। जैसे ही उन्हें गिरीश के घर का पता लगा तो उन्होंने दरवाजा खुलवाया। इसी दौरान गिरीश दरवाजे पर आया तो आरोपी ने एक एक कर दो गोलियां मार दीं। तभी गिरीश के पिता जोगिंदर आए तो आरोपियों ने उन्हें भी दो गोलियां मारीं। इसके बाद दोनों को अस्पताल पहुंचाया गया। जहां गिरीश की मौत हो गई। 

सीसीटीवी कैमरे बंद
एसीपी नॉर्थ गुरबिंदर सिंह ने बताया कि जांच के दौरान पता चला है कि सीसीटीवी कैमरे तो लगे थे लेकिन पड़ोसियों के घर हैं। पड़ोसियों के घर का प्लग खराब था। जिस कारण सीसीटीवी कैमरे में आरोपी कैद नहीं हो सके। उन्होंने कहा कि आसपास के कैमरे चेक किए जा रहे हैं। पुलिस जांच में जुटी है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि जोगिंदर की हालत गंभीर बनी हुई है। उन्हें भी दो गोलियां लगी हैं। पुलिस हर एंगल से जांच कर रही है। पारिवारिक विवाद का मसला भी जांचा जा रहा है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन