विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

हरियाणा के बाद पंजाब के चार रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की जैश ने दी धमकी

मुंबई, चेन्नई और बंगलूरू समेत हरियाणा के कई रेलवे स्टेशनों और मंदिरों के बाद पंजाब के भी चार रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की धमकी मिली है।

20 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

पटियाला

शनिवार, 21 सितंबर 2019

अभिनंदन ने पाक सीमा के नजदीक इसलिए भरी उड़ान, पड़ोसी को देना था ये संदेश

करीब छह महीने बाद विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की एयरफोर्स में वापसी हो या फिर दुनिया के सबसे घातक हेलीकॉप्टर अपाचे एएच-64 ई की लांचिंग। दो दिन में ये दोनों कार्यक्रम एक बड़ी रणनीति का हिस्सा थे जिसके बूते भारत-पाकिस्तान को वर्तमान तनावग्रस्त हालात में कड़ा संदेश देना चाहता था।

पहले बालाकोट में एयर स्ट्राइक और अब जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के निष्क्रिय होने के बाद से तिलमिलाया पाकिस्तान बार-बार अजीबोगरीब बयान देकर तल्खी बढ़ाने का प्रयास कर रहा है।

यह भी पढ़ें- 
जानें-पठानकोट के नाम से क्यों घबराता है पाक, 1971 में 53 बार किया हमला, अब निकलेगा दम

सरहद पर सीजफायर के उल्लंघन से लेकर क्रास बॉर्डर फायरिंग जैसी हिमाकत से भी पाक चूक नहीं रहा। केंद्रीय खुफिया एजेंसियों की मानें तो पाक सेना की बॉर्डर पर हरकत के अलावा पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठन भी घाटी या देश के कुछ अन्य इलाकों में बड़े आतंकी हमले को अंजाम दे सकते हैं। अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद एक बयान में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान खुद फिर से पुलवामा जैसे आतंकी हमला होने की बात कह चुके हैं।

इन्हीं परिस्थितियों के मद्देनजर इन दोनों कार्यक्रमों के बहाने भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान को यह बता दिया है कि यदि इस बार पाकिस्तान या फिर पाक समर्थित आतंकी संगठनों ने कोई नापाक हरकत की तो अबकी बार भारतीय सेनाओं का वार बेहद घातक होगा।

एयरफोर्स के एक आला अफसर ने बताया कि अपाचे आने के बाद तो वायुसेना की मारक क्षमता इस कदर खतरनाक हो गई है कि बालाकोट जैसी एयरस्ट्राइक में अब अपाचे खास भूमिका निभा सकता है।
... और पढ़ें

जानें-पठानकोट के नाम से क्यों घबराता है पाक, 1971 में 53 बार किया हमला, अब निकलेगा दम

पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन हमेशा पाकिस्तान को अखरता रहा है। यह एयरफोर्स स्टेशन देश की सुरक्षा के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण है। युद्ध के दौरान भी यही एयरफोर्स स्टेशन हमेशा से पाकिस्तान के लिए बड़ी सिरदर्दी का सबब बना है।

यही वजह है कि दो जनवरी 2016 की मध्यरात्रि को पाक समर्थित आतंकी संगठनों ने पठानकोट एयरफोर्स स्टेशन को ही अपना निशाना बनाया था। अब इस एयरफोर्स स्टेशन को अपाचे की स्क्वॉड्रन मिलने के बाद से सामरिक रूप से इसकी महत्ता और बढ़ गई है। 

भारत-पाक के बीच हुई दो लड़ाइयों के दौरान इसी एयरफोर्स को निशाना बनाते हुए पाकिस्तान एयरफोर्स ने एयर स्ट्राइक की थी। इस एयरफोर्स स्टेशन पर अभी मिग-21, मिग-29, एमआई-35 हेलीकॉप्टर व फाइटर जेट्स विमान मौजूद हैं। एयरफोर्स के कुल 18 विंग है। बॉर्डर के नजदीक होने की वजह से उत्तर भारत में वायुसेना की हर जरूरत को इसी एयरफोर्स स्टेशन से पूरा किया जाता है।
... और पढ़ें

भारतीय वायुसेना की ताकत बढ़ी, पठानकोट एयरबेस में तैनात हो गए 8 अपाचे हेलीकॉप्टर

साल 2014 में शंभू बार्डर से पटियाला पुलिस की ओर से बरामद किए नशे का मामला

पटियाला के थाना त्रिपड़ी में साल 2014 के दौरान दर्ज नशीले पदार्थों की बरामदगी के एक अहम मामले में स्पेशल एनडीपीएस अदालत पंचकूला (हरियाणा) के जज संजय सुधीर की अदालत ने एक महिला समेत छह आरोपियों को दोषी करार देते हुए कैद व भारी जुर्माने की सजा सुनाई। अगस्त 2016 में सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार यह केस ट्रायल के लिए स्पेशल एनडीपीएस अदालत पंचकूला में भेजा गया था, जहां मंगलवार को इस केस का फैसला सुनाया गया।
पटियाला के एसपी (इनवेस्टीगेशन) हरमीत सिंह हुंदल ने बताया कि यह मामला मुकदमा नंबर 228 एनडीपीएस एक्ट तहत थाना त्रिपड़ी में 30 जून 2014 को दर्ज हुआ था। इस मामले की जांच इंस्पेक्टर शमिंदर सिंह ने की थी। उन्होंने बताया कि इस केस में अदालत की ओर से दोषी ठहराए गए आर शिवा कुमार, वी वैंकटेश, एम प्रभु, आरवी सनमुगम और एस मनी उर्फ रमेश को 10-10 साल की कैद व एक-एक लाख रुपये जुर्माना और चैरी को आठ साल की सजा व 50 हजार रुपये जुर्माना किया गया है।
क्या था मामला
इस केस में 30 जून 2014 को पांच दोषियों आर शिवा कुमार निवासी थिरूवेका स्ट्रीट पुजाल चेन्नई, वी वैंकटेश निवासी ज्योति नगर चेन्नई, एम प्रभु निवासी शास्त्री नगर विआसरा पल्ली चेन्नई, आरवी सनमुगम निवासी अंबिका नगर जिला कांजीपुरम तमिलनाडू, एस मनी उर्फ रमेश निवासी चेन्नई को पुलिस ने शंभू बार्डर के पास से तीन किलो 500 ग्राम नशीले पाउडर और 50 किलो सुडोएफडरीन, ड्रग मनी एक करोड़ 60 लाख रुपये व अन्य सामान समेत गिरफ्तार किया था। एक जुलाई 2014 को इसी मुकदमे में नामजद बरमा की रहने वाली एक महिला चैरी निवासी विकासपुरी नई दिल्ली को दिल्ली से गिरफ्तार करके उसके पास से चार लाख 98 हजार नशीली गोलियां, जाली पासपोर्ट व पैन कार्ड बरामद किए थे।
हुंदल ने बताया कि इन दोषियों व इनके साथियों खिलाफ पहले भी भारत की राष्ट्रीय स्तर की एजेंसियों डीआरआई नई दिल्ली व एनसीबी चेन्नई, डीआरआई चेन्नई की ओर से एनडीपीएस एक्ट के केस दर्ज थे और आरोपी बड़े स्तर पर भारत से नशीले पदार्थों की स्मगलिंग करते थे।
... और पढ़ें

तेजधार हथियार से हमलाकर हत्या

गांव पिप्पल मंगोली में तेजधार हथियार से हत्या के मामले में थाना घन्नौर की पुलिस ने चार अज्ञात समेत सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।
थाना घन्नौर के इंस्पेक्टर गुरमीत सिंह ने बताया कि रणबीर सिंह (49) पुत्र अमर सिंह निवासी पिप्पल मंगोली के चाचा करनैल सिंह निवासी पिप्पल मंगोली ने बयान दर्ज करवाए हैं। उन्होंने बताया कि सोमवार देर शाम वह गांव पिप्पल मंगोली बस स्टैंड बैंक के सामने खड़े थे। इस दौरान उनका भतीजा रणवीर सिंह आया और कहने लगा कि गांव संधारसी के पास सुखविंदर सिंह सुखा और हरप्रीत सिंह, प्रिंस सिंह निवासी पिप्पल मंगोली ने उसे घेरकर पीटा। उन्होंने उसके सिर से परना उतार दिया और जान से मारने की धमकी दी। अभी वह बातें कर ही रहे थे कि इतने में संधारसी की तरफ से सुखविंदर सिंह और हरप्रीत सिंह भी वहां आ गए। उनके बीच तकरार हो गई। रणवीर सिंह ने उनके मोटर साइकिल की चाबी भी निकाल ली। इसके बाद तीन चार लड़के और आ गए। उनको देखकर सुखविंदर सिंह ने ललकार दी। इसपर साथ खडे़ खुशप्रीत सिंह निवासी शंभू ने रणबीर सिंह पर तेजधार हथियार से हमला कर दिया। दूसरे लोगों ने रणबीर सिंह को बुरी तरह पीटा और फरार हो गए। जब घायल रणबीर सिंह को राजपुरा के सरकारी अस्पताल ले जाया गया तो डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। थाना घन्नौर पुलिस ने सुखविंदर सिंह सुखा, हरप्रीत सिंह प्रिंस निवासी गांव पिप्पल मंगोली और खुशप्रीत सिंह निवासी गांव शंभू और चार अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

पटियालाः 20 साल से डीएसपी के घर रह रहे एएसआई ने गोली मारकर की खुदकुशी, नहीं की थी शादी

रविवार रात पंजाब पुलिस के सीआईडी विंग में तैनात एएसआई हरमेल सिंह (47) ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से सिर में गोली मार कर आत्महत्या कर ली। बनूड़ निवासी हरमेल सिंह कई वर्षों से डीएसपी हरदेव सिंह तितली के साथ उनके घर में रह रहा था। उसने उन्हीं के घर के पास कार में जान दे दी। 

जांच अधिकारी थाना सिविल लाइन से एएसआई करनैल सिंह ने बताया कि रात करीब 11 बजे पुलिस को सूचना मिली कि पटियाला में 21 नंबर फाटक के पुल के नीचे कार में खून से लथपथ एक व्यक्ति पड़ा है। पुलिस मौके पर पहुंची और कार का शीशा तोड़कर उसे बाहर निकाला। उसे अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 

जानकारी के मुताबिक एएसआई हरमेल सिंह की कुछ समय पहले ही हवलदार पद से तरक्की हुई थी। वह अविवाहित था और 20 साल से डीएसपी हरदेव सिंह तितली के घर रहता था। हरमेल सिंह पहले डीएसपी का गनमैन था। इसी दौरान दोनों में अच्छी दोस्ती हो गई थी। 

सूत्रों के अनुसार एएसआई हरमेल सिंह और डीएसपी हरदेव सिंह की रविवार रात आपस में कोई बात हो गई थी। इसके बाद एएसआई ने सुसाइड कर लिया। वहीं पुलिस का कहना है कि सर्विस रिवाल्वर अनलोड करते समय अचानक गोली चलने से एएसआई की मौत हुई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

शादी का झांसा देकर बनाए शारीरिक संबंध, फिर कर दिया इनकार, लड़की ने जहरीली दवा खाकर दी जान

शादी का झांसा देकर बनाए संबंध, इनकार किया तो लड़की ने दी जान
आरोपी युवक के खिलाफ केस दर्ज, फिलहाल गिरफ्तारी नहीं
अमर उजाला ब्यूरो
पटियाला। शादी का झांसा देकर पहले युवती के साथ शारीरिक संबंध बनाए. लेकिन बाद में शादी से इनकार कर दिया। इससे परेशान 21 साल की युवती ने जहरीली दवा पीकर अपनी जान दे दी। थाना त्रिपड़ी पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ सुसाइड करने के लिए मजबूर करने के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। अभी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।
पुलिस के पास युवती की मां ने बयान दिया है कि आरोपी विशाल सिंह निवासी गांव मदोमाजरा उसकी 21 साल की लड़की को करीब एक साल से शादी कराने का झांसा दे रहा था। इस दौरान उसने लड़की के साथ संबंध भी बनाए। अब युवक ने शादी करने से इनकार कर दिया और ऊपर से उसे ब्लैकमेल भी करने लगा था। इससे परेशान होकर लड़की ने कोई जहरीली दवा पी ली। गंभीर हालत में उसे सरकारी राजिंदरा अस्पताल ले जाया गया जहां से उसे सेक्टर 32 अस्पताल रेफर कर दिया गया। रास्ते में ही लड़की की मौत हो गई। पुलिस ने इस बयान पर आरोपी विशाल सिंह के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

एएसआई ने सर्विस रिवाल्वर से सिर में गोली मारकर दी जान

रविवार रात पंजाब पुलिस के सीआईडी विंग में तैनात एएसआई हरमेल सिंह (47) निवासी बनूड़ ने अपनी सर्विस रिवाल्वर से सिर में गोली मार कर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि जिस डीएसपी हरदेव सिंह तितली के साथ एएसआई सालों से उसके घर में रह रहा था, उसी के घर के पास कार में उसने जान दे दी। थाना सिविल लाइन पुलिस ने मामले में धारा 174 की कार्रवाई की है।
जांच अधिकारी थाना सिविल लाइन से एएसआई करनैल सिंह ने बताया कि रात करीब 11 बजे पुलिस को सूचना मिली कि पटियाला में 21 नंबर फाटक के पुल के नीचे एक कार में खून से लथपथ एएसआई हरमेल सिंह पड़ा है। पुलिस मौके पर पहुंची और कार का शीशा तोड़कर उसे बाहर निकालाकर अमर अस्पताल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
जानकारी के मुताबिक एएसआई हरमेल सिंह की कुछ समय पहले ही हवलदार पद से तरक्की हुई थी। हरमेज सिंह अविवाहित था और पिछले 20 साल से डीएसपी हरदेव सिंह तितली के घर रहता था। हरमेल सिंह पहले डीएसपी तितली का गनमैन होता था, इसी दौरान दोनों में अच्छी दोस्ती हो गई थी। सूत्रों के अनुसार एएसआई हरमेल सिंह और डीएसपी हरदेव सिंह की रविवार रात आपस में कोई बात हो गई थी जिसके बाद एएसआई ने डीएसपी की कोठी के नजदीक ही 21 नंबर फाटक के पुल के नीचे अपनी कार में सर्विस रिवाल्वर से गोली मार कर सुसाइड कर लिया। वहीं पुलिस का कहना है कि सर्विस रिवाल्वर अनलोड करते समय अचानक गोली चलने से एएसआई की मौत हुई है। पुलिस मामले में जांच कर रही है।
... और पढ़ें

आंबेडकर की प्रतिमा तोड़ने के प्रयास पर हंगामा

आईटीआई चौक पर स्थापित डॉ. भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा को कुछ शरारती तत्वों द्वारा नुकसान पहुंचाए जाने पर अनुसूचित जाति की अलग-अलग जत्थेबंदियों में रोष व्याप्त हो गया। प्रदर्शनकारियों ने पटियाला रोड पर जाम लगा दिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे प्रशासनिक अधिकारियों, पुलिस प्रशासन और विधायक हरदियाल सिंह कंबोज ने प्रदर्शनकारियों को जांच करवाने और नई प्रतिमा लगवाने का आश्वासन दिया। इसके बाद रोष प्रदर्शन मुल्तवी कर दिया गया।
जानकारी के अनुसार शनिवार देर रात कुछ शरारती तत्वों ने आईटीआई चौक पर लगी डॉ. अंबेदकर की प्रतिमा तोड़ने की कोशिश की। रविवार सुबह जब अजा के लोगों ने प्रतिमा देखी तो बड़ी संख्या में लोगों ने रोष प्रदर्शन करते हुए जाम लगा दिया। मौके पर पहुंचे एसडीएम रजनीश अरोड़ा, विधायक हरदियाल सिंह कंबोज, डीएसपी एएस औलख ने अलग-अलग जत्थेबंदियों के प्रमुखों अशोक कुमार बिट्टू, हंस राज बनवाड़ी, बसपा नेता बलदेव सिंह महिरा, साहिब सिंह नैणा, काउंसिल प्रधान नरेन्द्र शास्त्री को पुलिस अधिकारियों से मीटिंग करके दो सप्ताह में ही नई प्रतिमा लगवाने और शरारती तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद प्रदर्शनकारी शांत हुए। डीएसपी एएस औलख ने बताया कि डॉ. अंबेदकर की प्रतिमा को नुक्सान पहुंचाने वाले शरारती तत्वों के खिलाफ जांच कर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए एसएसपी पटियाला मनदीप सिंह सिद्धू ने विशेष जांच टीम का गठन करते हुए एसपी इंवेस्टिगेशन हरमीत सिंह हुंदल की अगुवाई में टीम तैयार की गई है, जिसमें डीएसपी डी कृष्ण कुमार पांथे, डीएसपी राजपुरा एएस औलख, सीआईए इंचार्ज समाना एसआई विजय कुमार, थाना सिटी प्रभारी सुरिन्द्रपाल सिंह शामिल हैं।
... और पढ़ें

एक फोन आया और 63 साल का बुजुर्ग बना गया करोड़पति, जानिए कैसे खुला किस्मत का ताला

दोस्ती न करने की इतनी बड़ी सजा, घरवालों के सामने विवाहिता को चाकू से वार कर मार डाला

बठिंडा जिले के गांव अबलू गंगा की रहने वाली एक विवाहिता की दोस्ती नहीं करने पर युवक ने हत्या कर दी। मृतका की पहचान परविंदर कौर के तौर पर हुई है। आरोपी की पहचान विक्की कुमार निवासी गांव रामपुरा जिला बठिंडा के रूप में हुई है।

घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया। थाना नेहियांवाला पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए शव को सिविल अस्पताल पहुंचाया और मृतका के जेठ इकबाल सिंह के बयान पर आरोपी विक्की कुमार के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया। 

पुलिस को दिए गए बयान में मृतका के जेठ इकबाल सिंह ने बताया कि उसके छोटे भाई की पत्नी परविंदर कौर ने कुछ दिन पहले परिवार को बताया था कि गांव रामपुरा निवासी विक्की कुमार उसे दोस्ती करने के लिए परेशान कर रहा है। जब परिवार ने विक्की कुमार को समझाने का प्रयास किया तो वो नहीं समझा और गुरुवार को विक्की ने परविंदर कौर को फोन कर फिर से परेशान करना शुरू कर दिया। 
... और पढ़ें

पंजाबः लुधियाना और पटियाला में चार लोगों ने समाप्त की जीवन लीला, पढ़ें वजह

पंजाब के अलग-अलग इलाकों से आत्महत्या के कई मामले सामने आए हैं। लुधियाना और पटियाला में दो-दो युवकों ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली है। आइए एक नजर डालते हैं इन घटनाओं पर...

लुधियानाः विवाहिता ने फंदा लगाकर जान दी
लुधियाना के शिमलापुरी स्थित सतगुरु नगर इलाके में रहने वाली विवाहिता अमनदीप कौर (32) ने सोमवार की सुबह अपने घर में फंदा लगाकर जान दे दी। सूचना मिलने के बाद थाना डाबा की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने अमनदीप कौर के परिजनों को सूचित किया तो वह मौके पर पहुंचे।

विवाहिता के परिजनों ने उसके ससुराल वालों पर तंग करने के आरोप लगाए हैं। पुलिस ने मामले की जांच के बाद शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। जहां मंगलवार को अमनदीप के शव का पोस्टमार्टम होगा। 

थाना डाबा के एसएचओ सब इंस्पेक्टर रविंदरपाल सिंह ने बताया कि अमनदीप कौर का पति हरिंदर सिंह ने इलाके में ही स्थित एक जिम में बतौर ट्रेनर काम करता है। सोमवार की सुबह वह जिम चला गया। अमनदीप कौर घर में अकेली थी। उसने खुद को अंदर बंद कर लिया और रस्सी के सहारे फंदा लगाकर जान दे दी। जब हरिंदर सिंह जिम से वापस आया तो अंदर अमनदीप रस्सी के सहारे लटक रही थी। 

एसएचओ ने बताया कि जब पुलिस ने मायके वालों को फोन कर बताया तो वह मौके पर पहुंचे। इसके बाद उन्होंने अमनदीप के ससुराल वालों पर कई तरह के आरोप लगाए है। उन्होंने कहा कि परेशान होने या फिर घरेलू बातों को लेकर अमनदीप ने फंदा लगाकर आत्महत्या की है। मंगलवार को सिविल अस्पताल में डॉक्टरों के बोर्ड से अमनदीप के शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। रिपोर्ट आने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। 
... और पढ़ें

खिड़की से दोस्त ने झांका तो दिखा ऐसा मंजर, पैरो तले खिसक गई जमीन, इस हाल में मिला बीटेक छात्र

पंजाबी यूनिवर्सिटी के बंदा सिंह बहादुर ब्वॉयज हॉस्टल में सोमवार को बीटेक के एक स्टूडेंट ने पंखे से फंदा लगाकर जान दे दी। पुलिस के मुताबिक छात्र हिमाचल प्रदेश के जिला हमीरपुर का रहने वाला था। खबर लिखे जाने तक पुलिस उसके परिजनों के पटियाला पहुंचने का इंतजार कर रही थी। पुलिस के मुताबिक परिजनों के बयान पर मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

मामले के जांच अधिकारी संबंधित थाना अर्बन इस्टेट के इंचार्ज हैरी बोपाराय ने बताया कि आदर्श सुमन (22) पुत्र सतीश कुमार ने सोमवार सुबह पंजाबी यूनिवर्सिटी के बंदा सिंह बहादुर हॉस्टल के अपने कमरे में पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। दोपहर करीब एक बजे पुलिस को इस संबंधी सूचना दी गई। 

काफी देर तक आदर्श सुमन के बाहर न निकलने पर उसके एक दोस्त ने कमरे की खिड़की से झांककर अंदर देखा तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। आदर्श फंदे से झूल रहा था। पुलिस के मुताबिक आदर्श सुमन साल 2015 से पीयू में बीटेक कर रहा था। इस साल उसका कोर्स पूरा हो गया था। दो एग्जाम में री-अपीयर होने के कारण वह फिलहाल पीयू में ही था। 

दोस्तों के मुताबिक री-अपीयर होने के कारण आदर्श सुमन मानसिक तौर पर परेशान भी था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर सरकारी राजिंदरा अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। पुलिस के मुताबिक परिजनों के बयान पर ही मामले में आगे की कार्रवाई होगी। पुलिस के मुताबिक आदर्श के पिता सतीश कुमार सरकारी नौकरी करते हैं।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree