लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

कई खुलासे: समलैंगिक रिश्ते, लिंग परिवर्तन की चाहत...मना करने पर मम्मी-पापा, बहन व नानी को मार डाला

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, रोहतक (हरियाणा) Published by: ajay kumar Updated Mon, 06 Sep 2021 02:58 AM IST
बबलू पहलवान, बेटी नेहा और हत्यारोपी बेटा।
1 of 5
विज्ञापन
रोहतक के विजय नगर चौहरे हत्याकांड में पुलिस की जांच पूरी हो गई है। पुलिस जांच पर कई सवाल उठ रहे हैं। अभिषेक ने जिस दोस्त के लिए अपने परिवार के चार लोगों को मौत के घाट उतार दिया, उसे साजिश की भनक तक नहीं लगी। कहीं वह अपने दोस्त को बचाना तो नहीं चाह रहा है। रविवार को मीडिया की ओर पूछे गए एक सवाल के जवाब में डीएसपी मुख्यालय गोरखपाल राणा ने बताया कि अभी तक हत्यारोपी के दोस्त कार्तिक के खिलाफ कोई सुबूत नहीं मिले हैं। उसके खिलाफ जांच चल रही है। अभी उसे क्लीनचिट नहीं दी गई है। सुबूत मिले तो उसे भी जरूर गिरफ्तार किया जाएगा। उन्होंने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि अभिषेक और उसके दोस्त के बीच समलैंगिक संबंध हैं। संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए आरोपी अपना लिंग परिवर्तन कराना चाहता था। इसके लिए उसने पिता से पैसे मांगे थे। इस पर पिता ने अभिषेक को जमकर डांटा था। साथ ही उसे रुपये भी देने से मना कर दिया था। 
विजय नगर हत्याकांड।
2 of 5
बीस दिनों से परेशान चल रहा था अभिषेक
पिता से रुपये नहीं मिलने के कारण अभिषेक 20 दिनों से परेशान चल रहा था। उसने दिल्ली से अपने दोस्त को रोहतक बुलाया। इस दौरान दोनों शहर एक होटल में दो दिन तक ठहरे रहे। इसके बाद अभिषेक ने रुपये न मिलने से नाराज होकर वारदात को अंजाम दे दिया। हत्या की वारदात को अंजाम देने के लिए अभिषेक ने घर में रखे अपने पिता के 32 बोर के अवैध रिवाल्वर का उपयोग किया था। पुलिस ने जांच में अवैध रिवाल्वर, आरोपी के कपड़े, जेवर व मोबाइल फोन जब्त कर लिया है। पुलिस की जांच पूरी हो गई है। सोमवार को आरोपी अभिषेक को अदालत में पेश किया जाएगा। 
विज्ञापन
पति-पत्नी की फाइल फोटो।
3 of 5
हत्या के बाद निकाल लिया था पिता का सोने का कड़ा और मां का मंगलसूत्र 
पुलिस के मुताबिक वारदात के बाद आरोपी अभिषेक ने अपने पिता का सोने का कड़ा व मां का मंगलसूत्र निकाल लिया था, ताकि वारदात को लूट का रूप दिया जा सके। जल्दबाजी में आरोपी ने घर के दरवाजे बंद कर दिए और चाबी अपने साथ ले गया। इससे पुलिस का शक और गहरा गया, क्योंकि कोई भी व्यक्ति वारदात के बाद दरवाजा बंद कर चाबी लेकर नहीं जाएगा। वह पूरे घर की चाबी ढूंढने के बजाय फरार होना चाहेगा लेकिन इस केस में ऐसा नहीं था। पुलिस का मानना है कि अभिषेक को हथियारों के बारे पहले से समझ थी। पुलिस के हाथ कई पुराने फोटो लगे हैं, जिसमें वह अपने पिता के पास बैठकर हथियार हाथ में लिए हुए है। हत्या से पहले उसने ऑनलाइन वीडियो भी देखी थी, किस तरह हत्या की जा सकती है।  

साइंटिफिक सुबूतों पर टिका केस, कोई चश्मदीद गवाह नहीं

मृतक नेहा की फाइल फोटो।
4 of 5
अब साइंटिफिक सुबूतों पर केस टिका हुआ है, क्योंकि पुलिस के पास हत्याकांड का कोई चश्मदीद गवाह नहीं है। मुख्य तौर पर आरोपी अभिषेक का कुबूलनामा है। अगर वह अदालत में मुकर गया तो पुलिस को कहानी साबित करने में काफी दिक्कत आएगी। एक सवाल के जवाब में डीएसपी मुख्यालय गोरखपाल राणा ने बताया कि जांच टीम ने पुख्ता साइंटिफिक सुबूत एकत्रित किए हैं। इसमें जिस रिवाल्वर से वारदात की गई, उस पर आरोपी के फिंगर प्रिंट, फॉरेंसिक जांच रिपोर्ट, पोस्टमार्टम रिपोर्ट, कॉल डिटेल से लेकर सीसीटीवी फुटेज के अलावा और भी साक्ष्य हैं, जिनको अदालत में ही रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि लिखित रिपोर्ट तो अभी नहीं मिली है लेकिन फोन पर डॉक्टरों ने आरोपी की मानसिक स्थिति सामान्य बताई है। 
विज्ञापन
विज्ञापन

यह था मामला 

माता-पिता और बहन के साथ लाल घेरे में आरोपी बेटा।
5 of 5
सोनीपत जिले के गांव मदीना निवासी बबलू पहलवान विजय नगर में 20 साल से रह रहे थे। वह प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते थे। 27 अगस्त को उनके साले प्रवीण ने शिकायत दी थी कि किसी ने उनके जीजा बबलू पहलवान, बहन बबली व मां रोशनी की गोली मारकर हत्या कर दी, जबकि भांजी नेहा उर्फ तमन्ना पीजीआई में दाखिल है। उसे भी सिर में गोली मारी गई है। बाद में नेहा ने भी दम तोड़ दिया था। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया था। जांच के बाद पुलिस ने बबलू मलिक के बेटे 20 वर्षीय अभिषेक उर्फ मोनू को गिरफ्तार किया था। उसे अदालत में पेश कर पांच दिन के रिमांड पर लिया था। पुलिस का कहना है कि अभिषेक अपने दोस्त कार्तिक के साथ रहना चाहता था। लिंग परिवर्तन कराने के लिए पिता से पैसे मांगे। पैसे देने से मना करने पर परिजनों की हत्या कर दी।
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00