विज्ञापन

दर्दनाक हादसे ने छीन ली पत्नी और बेटी

Jammu and Kashmir Bureau Updated Sun, 09 Dec 2018 01:27 AM IST
ख़बर सुनें
पुंछ। शनिवार को मंडी तहसील के अलबेला गांव निवासी मोहम्मद रशीद के घर से महज दो किलोमीटर दूर हुए दर्दनाक हादसे में जिन 14 लोगों की जान गई, उसमें मोहम्मद रशीद की बेटी आसिया अख्तर और पत्नी परवेज अख्तर भी शामिल थीं। रशीद की तीन वर्षीय बेटी जाफिया, भाभी और भतीजा भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं, जिनको पुंछ के राजा सुखदेव सिंह जिला अस्पताल से देर शाम एयर लिफ्ट कर जीएमसी जम्मू भेजा गया।
विज्ञापन
विज्ञापन
जब मोहम्मद रशीद की तीन साल की नन्ही जाफिया को जिला अस्पताल में गंभीर हालत में भर्ती करवाया गया तो वह अपने रिश्ते की चाची सलमा की गोद में लेटे-लेटे इधर-उधर निगाह दौड़ा कर अपनी मां को तलाश रही थी। नन्ही बच्ची को नहीं पता था कि उसकी बेटी और बहन सदा के लिए उससे जुदा हो चुकी हैं। हेलीकाप्टर से जम्मू जा रहे जाफिया के चाचा मोहम्मद आजम ने बताया कि उनका भाई मोहम्मद रशीद मजदूरी करने के लिए दूसरे राज्य में गया हुआ है। जाफिया की तबीयत कई दिनों से खराब चल रही थी। इसीलिए उसका इलाज करवाने के लिए उसकी मां, अपनी बड़ी बेटी, देवरानी और उसके बेटे को साथ लेकर पुंछ जिला अस्पताल जा रही थी, जब यह हादसा हो गया।



घायलों को जम्मू ले जाने के लिए देरी से पहुंचा हेलीकाप्टर
पुंछ। शनिवार को मंडी तहसील में बस के 500 मीटर नीचे पुलस्त नदी में गिरने से छह गंभीर रूप से घायलों को जब उपचार के लिए जीएमसी जम्मू रेफर किया गया तो घायल और उनके परिजन घंटों हवाई अड्डे के बाहर एंबुलेंस में बैठे हेलीकाप्टर के आने का इंतजार करते रहे। सुबह करीब साढ़े आठ बजे पेश आए बस हादसे के बाद दोपहर 12 बजे गंभीर रूप से घायल छह लोगों को एयरलिफ्ट करने की बात हुई। इसके दो घंटे बाद करीब दो बजे पहला प्राइवेट हेलीकाप्टर पुंछ पहुंचा, जो तीन घायलों को लेकर जम्मू गया। उसके बाद तीन अन्य घायलों को एंबुलेंस में डाल कर दो बजे ही जिला अस्पताल के डाक्टर सैन्य हवाई अड्डे के बाहर पहुंचे, लेकिन हेलीकाप्टर दो घंटे बाद पहुंचा। करीब चार बजे दूसरा प्राइवेट हेलीकाप्टर सैन्य हवाई अड्डे पर उतरा, जहां से गंभीर रूप से जख्मी दो बच्चों और एक महिला को जीएमसी जम्मू भेजा गया। इस पर घायलों के परिजनों मोहम्मद आजम, मोहम्मद हफ्फी और पुंछ के युवक सतविंदर पाल सिंह ने रोष जताया। उन्होंने कहा कि इस देरी से घायलों की हालत और खराब हो गई।



500 मीटर नीचे गिरी बस के उड़ गए परखच्चे
चादर और कंबल में डाल कर घायलों को सड़क तक पहुंचाया
पुंछ। शनिवार को जिले की मंडी तहसील के पलेरा गांव में सड़क से 500 मीटर नीचे पुलस्त नदी में गिरी बस के परखच्चे उड़ गए। करीब आधे किलोमीटर के दायरे में बस के हिस्से बिखरे मिले हैं। इसे देख कर वहां बचाव के लिए पहुंचे लोगों को पहले तो यही लगा कि इस हादसे में कोई भी जिंदा नहीं बचा होगा। इससे डरे लोगों ने बेहद तेजी से राहत व बचाव अभियान चलाया, जिससे कई जिंदगियों को बचा लिया गया। जिस तरह से हर तरफ बस के टुकड़े बिखर गए थे, उसे देख कर पहले यह अफवाह उड़ गई कि बस में सवार सभी 25-30 लोगों की मौत हो गई है। ऐसे में जिला प्रशासन और पुलिस के भी हाथ-पांव फूल गए थे। जहां हादसा हुआ वहां स्ट्रेचर तो मिल नहीं सकता था, ऐसे में लोगों ने पुलिस और आम लोगों ने चादर और कंबलों में डाल कर घायलों को सड़क तक पहुंचाया।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Jammu

J&K: बीजेपी की हार पर महबूबा और फारूक बोले, राम मंदिर एजेंडा हुआ फेल

नेकां अध्यक्ष व सांसद डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के नतीजों में भाजपा का भगवान राम का एजेंडा फेल हो गया है। जनता ने मंदिर-मसजिद की राजनीति को नकार दिया है।

11 दिसंबर 2018

विज्ञापन

जम्मू-कश्मीर : आतंकियों के हमले में 4 पुलिसकर्मी शहीद

जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकियों ने पुलिस चौकी पर हमला किया। इस हमले में जम्मू-कश्मीर पुलिस के 4 जवान शहीद हो गए।

11 दिसंबर 2018

Related

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election