विज्ञापन

रोहतक

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

रोहतक में वारदात: दिनदहाड़े कैटरिंग कारोबारी के घर लूट का प्रयास, पड़ोसी के सहयोग से मां-बेटे ने एक को पकड़ा

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के रोहतक दौरे के दौरान एक बार फिर लुटेरों ने पुलिस को चुनौती दी है। गुरुवार को तीन युवक शिवम एंक्लेव स्थित कैटरिंग कारोबारी के मकान में घुसकर न केवल मकान मालकिन का गला दबाने का प्रयास किया, बल्कि बेटे का हाथ तोड़ दिया। बावजूद इसके महिला की सूझबूझ, बेटे की बहादुरी और पड़ोसियों के सहयोग से एक युवक को काबू कर लिया गया, जबकि दो फरार होने में कामयाब रहे। भीड़ ने आरोपी को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। आरोपी के खिलाफ 397 बी के तहत मामला दर्ज किया गया है।

मुख्यमंत्री की रोहतक में मौजूदगी के दिन वारदात से साफ है कि लुटेरों के हौसले कितने बुलंद हैं। क्योंकि करीब एक माह पहले 8 अप्रैल को मुख्यमंत्री के आने से पहले बाइक सवार दो युवकों ने सेक्टर एक से ढाई करोड़ से ज्यादा नकदी लूटकर फरार हो गए थे, जिनकी अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई है। 

पुलिस के मुताबिक अनिल नागपाल ने बताया कि वे शिवम एंक्लेव में रहते हैं। बड़ा बाजार में उनकी कैटरिंग की दुकान है। गुरुवार दोपहर करीब साढ़े 12 बजे वे घर से निकले थे। उनके जाने के के 15-20 मिनट बाद एक युवक आया उसकी पत्नी सीमा नागपाल से कहा कि उसे कैटरिंग की बुकिंग करवानी है। उसकी अपने पति से बात करवा दे। साथ ही पानी पिला दे।

सीमा जैसे ही पानी लेने के लिए अंदर गई तो आरोपी ने बाहर खड़े अपने दो साथियों को इशारा करके बुलाया। इसके बाद युवक ने उसकी पत्नी को दबोच लिया। शोर मचाया तो गला दबा दिया और घसीटकर दरवाजे तक ले गया, ताकि दरवाजा अंदर से बंद कर सके।

इतना ही नहीं, उसकी पत्नी के कानों से टॉप्स उतारने का प्रयास किया। धमकी दी कि जो कुछ भी है दे दो नहीं तो जान से मार दूंगा। आवाज सुनकर छत पर पढ़ाई कर रहा उनका बेटा मनन नागपाल नीचे आया और सीधे युवक से उलझ गया। साथ ही पार्क में मौजूद पड़ोसियों को सहायता के लिए आवाज लगाई। उसकी पत्नी और बेटे ने पड़ोस के रहने वाले युवक की मदद से आरोपी को पकड़ लिया, जबकि उसके दो साथी बाहर से ही भाग गए। 

रेकी करके वारदात को दिया अंजाम, पड़ोसी नहीं आते तो सफल हो जाते आरोपी
अनिल नागपाल ने बताया कि पूरी वारदात योजना के तहत अंजाम दी गई है। युवक को पहले से पता था कि मकान मालिक का कैटरिंग का कारोबार है। इसलिए आते ही बुकिंग की बात कही। उन्हें पता था कि किस समय मैं बाहर जाता हूं। मेरे जाने के बाद ही आरोपी मकान में दाखिल हुआ। वारदात के समय बेटा ऊपर के कमरे में पढ़ाई कर रहा था, क्योंकि उसका 12वीं का पेपर है। आवाज सुनकर वह नीचे आया और युवक से भिड़ गया। अनिल नागपाल ने कहा कि युवक ने  दरवाजे से मारकर बेटे का हाथ तोड़ दिया है। उन्होेंने कहा कि सोर सुनकर पड़ोस के युवक व अन्य लोगों के आने से आरोपी को पकड़ा जा सका। पुलिस को आरोपी का मोबाइल फोन दे दिया है, जिसके माध्यम से वह लगातार अपने साथियों के संपर्क में था। 

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए भागते युवक 
लोगों द्वारा पकड़कर पुलिस के हवाले किए गए युवक ने अपनी पहचान दिल्ली निवासी मनोज के तौर पर बताई है। वह लोगों के सामने कभी कह रहा था कि उसे एक लाख रुपये की जरूरत थी तो कभी कह रहा था कि उस पर कर्ज चढ़ा हुआ है। अब पुलिस आरोपी से पूछताछ कर यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि उसके फरार हुए दो साथी कौन हैं। 

महिला ने दिखाई सूझबूझ और बेटे ने बहादुरी 
सीमा नागपाल ने बताया कि जब वह रसोई में पानी लेने गई तो उसने झांकी से देखा कि अंदर आया युवक बाहर अपने दो दोस्तों को इशारा करके बुला रहा है। इतना ही नहीं, भागता हुआ गेट के पास आया और उसे दबोचने लगा। उसने धक्का देकर शोर मचा दिया, इसके बाद बेटा मनन आवाज सुनकर आ गया। उसने बहादुरी दिखाते हुए उसे पकड़ लिया और पार्क में मौजूद पड़ोसियों को आवाज लगा दी। विशेष नाम का युवक पहले अंदर आया और आरोपी को पकड़ लिया। 

मुख्यमंत्री के दौरे पर वारदात एक संयोग या पुलिस को चुनौती
पिछले माह आठ अप्रैल की शाम को मुख्यमंत्री को रोहतक आना था। उससे ठीक पहले दोपहर बाइक सवार दो लुटेरे सेक्टर एक में दिनदहाड़े एटीएम में पैसे डालने पहुंची कंपनी के कर्मचारियों से 2 करोड़ 62 लाख रुपये लूटकर फरार हो गए थे। अब गुरुवार को मुख्यमंत्री रोहतक में ही थे। उसी दिन दिनदहाड़े शिवम एंक्लेव में घर में घुसकर लूट का प्रयास किया गया। 
 
... और पढ़ें

रोहतक: दुष्कर्म के केस में समझौते के नाम पर 80 हजार रुपये लेती तीन महिलाएं गिरफ्तार, सप्ताह पहले दर्ज कराया था मामला

हरियाणा रोहतक में दुष्कर्म के केस में समझौते के नाम पर 80 हजार रुपये लेते हुए पुलिस ने तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया है, जिसमें बेटी, उसकी धर्म मां और धर्म मां की मां शामिल हैं। बुधवार को पुलिस आरोपियों को अदालत में पेश करेगी। 

 पुलिस के मुताबिक एक सप्ताह पहले जींद बाईपास क्षेत्र की एक युवती ने शिकायत दी थी कि सिंहपुरा के एक युवक ने उसके साथ गलत कार्य किया। पुलिस ने दुष्कर्म का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। इसी बीच आरोपी युवक ने शिकायत दी कि महिला दुष्कर्म का केस वापस लेने के नाम पर 3 लाख रुपये मांग रही है। पुलिस ने शिकायत दर्ज कर डीसी से ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त करवाया, ताकि महिला को पैसे लेते गिरफ्तार किया जा सके।

सोमवार को महिला ने पैसे लेने की बात कही, लेकिन समय व जगह नहीं बताई। इस कारण मंगलवार के लिए दोबारा पुलिस ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट तय करवाया। आखिर में तय हुआ कि महिला पांच बजे मानसरोवर पार्क में आएगी। उस समय उसे एक लाख रुपये दे दिए जाएंगे।

बाकी राशि केस वापस लेने के बाद दी जाएगी। योजना के तहत सादी वर्दी में डीएसपी सुशीला व उनकी टीम पार्क में पहुंच गई। साथ में ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी रहे। जैसे ही युवक ने महिला, उसकी धर्म मां व धर्म मां की मां को पैसे दिए, तुरंत पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों को हिरासत में लेकर महिला थाने ले जाया गया। अब बुधवार को उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा। 
 
... और पढ़ें

रोहतक: मदीना से लापता छात्र का पेड़ से लटका मिला शव, परिवार ने लगाया हत्या का आरोप, तीन पर केस दर्ज

हरियाणा के रोहतक में महम चौबीसी के गांव मदीना से एक दिन पहले लापता हुए गौड़ कॉलेज  के छात्र 20 वर्षीय रिंकू का शव रविवार को खेतों में पेड़ से लटका मिला। परिजनों का आरोप है कि उसके बेटे की हत्या कर शव पेड़ से लटकाया गया है। पुलिस ने एक महिला सहित तीन के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।   

मदीना गांव निवासी सुखबीर ने पुलिस को बताया कि उसके दो बेटे व एक बेटी है। बड़ा बेटा साहिल शादीशुदा है, जबकि छोटा बेटा रिंकू रोहतक स्थित गौड़ ब्राह्मण डिग्री कॉलेज में दूरस्थ शिक्षा के माध्यम से बीए प्रथम वर्ष का छात्र था। शनिवार रात करीब नौ बजे वह घर से लापता हो गया था। पूरी रात वे उसे ढूंढते रहे, लेकिन कहीं सुराग नहीं लगा। रविवार दोपहर पता चला कि रिंकू का शव गांव के खेत में शीशम के पेड़ से लटका हुआ है। वे मौके पर पहुंचे तो भीड़ जमा थी। साथ ही पुलिस भी आई हुई थी। 

एक माह पहले मिली थी धमकी, 10 लाख फूंक देंगे, लाश का पता भी नहीं लगेगा
मृतक के पिता ने पुलिस को दी शिकायत में आरोप लगाया है कि गांव के एक युवक ने एक माह पहले हत्या की धमकी दी थी । उसने कहा था कि  10 लाख रुपये फूंक देंगे और लाश का पता भी नहीं लगने देंगे। वह रिंकू को एक शादी में शामिल होने से रोक रहा था । इसके बावजूद रिंकू को शादी में बुलाया गया।  सुबह एक महिला घर आई और बोली कि रिंकू को फांसी पर लटका दिया है, ढूंढ सको तो ढूंढ लो। 
 
आरोप- पुलिस ने सुबूतों से की छेड़छाड़, एफएसएल के आने से पहले निकाला मोबाइल और चाबी
मृतक के पिता का आरोप है कि जब वह घटनास्थल पर पहुंचे तो वहां पता चला कि एफएसएल एक्सपर्ट के आने से पहले ही उनके बेटे की जेब से मोबाइल फोन व बाइक की चाबी निकाली जा चुकी थी। डायल नंबर 112 व बहुअकबरपुर थाना पुलिस ने सुबूतों के साथ छेड़छाड़ की है। इसकी भी जांच की जाए। मृतक के पिता का कहना है कि उसका  पूरे परिवार का लेनदेन  संभालता था। 

थाने के बाहर तीन घंटे शव लेकर डटे रहे परिजन
शव को फंदे से उतारकर परिजन बहुअकबरपुर थाने में लेकर पहुंचे, जबकि पुलिस शव को पीजीआई के डेड हाउस में ले जाकर पोस्टमार्टम करवाना चाहती थी। तर्क था कि पोस्टमार्टम से पता लग जाएगा कि युवक की हत्या हुई है या उसने आत्महत्या की है। जबकि परिजनों की मांग थी कि पहले हत्या का केस दर्ज किया जाए, इसके बाद पोस्टमार्टम होना चाहिए। तीन घंटे तक इसी विवाद में पुलिस व परिजन उलझे रहे। आखिर में पुलिस ने महिला सहित तीन के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया। 
 

भाई का दाव, पैरों से निकल रहा खून 
लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी के युवा अध्यक्ष सुरेंद्र पांचाल ने बताया कि रिंकू उसकी बुआ के लड़के का बेटा था।   उनका दावा है कि रिंकू के पैरों में जख्म थे। साथ ही उसके पैरों पर गेहूं के फांसों की जली राख भी लगी थी, जबकि नजदीक चप्पल थी।  सवाल उठता है कि अगर वह चप्पल पहनकर पेड़ तक पहुंचा तो पैरों पर राख कैसे लगी। जख्म कैसे हुए। मामला की गहराई से जांच करवाई जाए।

हर दृष्टिकोण से की जाए केस की जांच : सरपंच प्रतिनिधि 
... और पढ़ें

रोहतक: बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर चलाई गोली, भारी मात्रा में हथियारों के साथ दो गिरफ्तार, बड़ी साजिश नाकाम

हरियाणा के रोहतक में खरावड़ बाईपास के नजदीक सोमवार रात 2 बजे बदमाशों को पकड़ने गई पुलिस पर बदमाशों ने दो फायर किए। लेकिन पुलिस ने दो बदमाशों रोहतक के इस्माईला निवासी अमन और सोनीपत के पीपली निवासी मोहित को गिरफ्तार कर लिया, जबकि उनका सरगना दिल्ली के झाड़ौदा निवासी ओमप्रकाश फरार होने में कामयाब रहा।

गिरफ्तार आरोपियों के पास से 11 पिस्तौल और 176 कारतूस बरामद हुए हैं। खुलासा हुआ है कि आरोपी यूपी के अलग-अलग जगहों से अवैध हथियार खरीदकर लाए थे और स्थानीय बदमाशों को सप्लाई करने थे। इन हथियारों की मदद से दो-तीन स्थानीय लोगों की हत्या की जानी थी। मंगलवार को पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें तीन दिन के रिमांड पर लिया गया है। 

एसपी उदय सिंह मीना ने बताया कि अपराध जांच शाखा द्वितीय को गश्त के दौरान सोमवार रात करीब दो बजे सूचना मिली कि खरावड़ बाईपास के नजदीक नौनंद रोड पर एक कार खड़ी है, जिसमें सवार तीन युवक राहगीरों को लूटने की साजिश बना रहे हैं। पुलिस मौके पर पहुंची तो ओवरब्रिज के नीचे कार के पास तीन युवक खड़े मिले।

पुलिस ने उनसे पूछताछ करने के लिए आगे बढ़ी तो उन्होंने दो फायर किए. दो युवक खेतों में भाग लिए। पुलिस ने पीछा कर फायर कर रहे इस्माईला निवासी अमन और पीपली निवासी मोहित को धर दबोचा। पूछताछ में  बदमाशों ने बताया कि भागने वाला युवक ओमप्रकाश निवासी झाड़ौदा, दिल्ली है।

युवकों के बैग की तलाशी ली तो अमन के पास 6 पिस्तौल और 70 कारतूस मिले। जबकि मोहित के पास से पांच देसी पिस्तौल और 106 कारतूस मिले। आरोपियों के खिलाफ आईएमटी थाने में हत्या के प्रयास, सरकारी ड्यूटी में बाधा डालने व आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। 

हथियारों की तस्करी करते हैं आरोपी
पुलिस के मुताबिक आरोपी अमन व मोहित से पूछताछ में सामने आया कि मोहित के मामा गांव खरावड़ में रहते हैं। 2021 में अमन की दोस्ती मोहित से हुई थी। अमन और मोहित का खेड़ी साध निवासी पौना दोस्त है। पौने का जीजा ओमप्रकाश है। पौना के जरिये उनकी दोस्ती ओमप्रकाश से हो गई। पैसे कमाने के लिए अमन व मोहित ने मिलकर अपराध का रास्ता चुना और ओमप्रकाश के साथ मिलकर हथियारों की तस्करी करने लगे। आरोपी उत्तर प्रदेश के अलग-2 स्थानों से अवैध हथियार लाते थे और हरियाणा में विभिन्न गैंगों के सदस्यों को सप्लाई करते थे। इसके अलावा खुद भी हथियारों के बल पर चोरी और लूट की वारदात करते थे। 

पुलिस रिकॉर्ड में ये है आरोपियों का आपराधिक सफर 
रोहतक जिले के गांव इस्माईला निवासी 20 वर्षीय अमन 10वीं पास है। उसके खिलाफ चोरी, झपटमारी, हथियारों सहित झपटमारी, हत्या के प्रयास सहित पांच मामले दर्ज हैं। 2021 में हुई हत्या के प्रयास की वारदात के बाद आरोपी फरार चल रहा था। 

आरोपी मोहित उर्फ टीनू उर्फ भांजा (29) सोनीपत के गांव पिपली का रहने वाला है और आठवीं पास है। उसके खिलाफ सोनीपत व रोहतक में पुलिस से मुठभेड़, अवैध हथियार रखने व लूट का मामला दर्ज है। 
पुलिस के मुताबिक तीसरा आरोपी दिल्ली के झाड़ौदा निवासी ओमप्रकाश कार सहित फरार हो गया। उसके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास व लूट के केस सहित कई मामले दर्ज हैं। 

ये रहे टीम में शामिल 
हथियारों सहित दोनों बदमाशों को गिरफ्तार करने वाली अपराध जांच शाखा द्वितीय की टीम में इंस्पेक्टर नवीन जाखड़, एसआई रोहताश सिंह, एएसआई विरेंद्र, राजेंद्र, हवलदार देवेंद्र, गजे सिंह, सिपाही ब्रह्मप्रकाश व चालक अजीत सिंह शामिल रहे। 
 
... और पढ़ें
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी। पुलिस की गिरफ्त में आरोपी।

रोहतक: लापता युवक का शव तालाब में मिला, चेहरे पर चोट के निशान, दो युवकों पर हत्या का आरोप

हरियाणा के रोहतक में सांघी गांव में एक दिन पहले लापता 20 वर्षीय युवक साहिल का मंगलवार सुबह चिड़ी रोड पर तालाब से शव बरामद हुआ। आरोप है कि गांव के ही दो युवकों ने उसकी हत्या करके शव तालाब में फेंका है। सदर थाने में गांव निवासी प्रदीप और राकेश उर्फ काला के खिलाफ हत्या, सुबूत मिटाने व एससी-एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। हालांकि जांच अधिकारी का कहना है कि पोस्टमार्टम के बाद मौत के कारणों का पता नहीं चल सका। विसरा जांच के लिए भेजा गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सेकेगा कि युवक की हत्या हुई है या डूबने से मौत हुई है।

सांघी गांव निवासी रोहित ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि सोमवार को करीब 11 बजे गांव के रहने वाले प्रदीप और राकेश उर्फ काला उसके चाचा साहिल को घर से बुलाकर ले गए थे। शाम तक वह घर नहीं लौटे तो चिंता हुई। उन्होंने प्रदीप व काला से चाचा के बारे में पूछा तो उन्होेंने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया।

रातभर वे साहिल को तलाशते रहे। सुबह चिड़ी-सांघी रोड पर गिले वाले तालाब के किनारे उनके कपड़े मिले। उन्होंने तालाब के अंदर घुसकर जांच की तो शव पानी के अंदर मिला। शव को बाहर निकालकर देखा तो मुंह पर दायीं तरफ व कंधे पर चोट के निशान थे। उनको पूरा शक है कि प्रदीप व काला ने मिलकर उसके चाचा साहिल की पहले चोट मारकर हत्या की, फिर शव को तालाब में फेंक दिया। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। 

पुलिस ने बोर्ड से कराया पोस्टमार्टम, विसरा जांच के लिए भेजा 
हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस ने शव का डॉक्टरों के तीन सदस्यीय पैनल से पोस्टमार्टम करवाया। मौत के स्पष्ट कारण न होने के कारण विसरा जांच के लिए लैब में भेजा गया है। अब विसरा जांच रिपोर्ट मिलने के बाद ही खुलासा हो सकेगा कि युवक की हत्या की गई है या डूबने से मौत हुई है। 
 
... और पढ़ें

रोहतक: एचपीसीएल की पाइपलाइन में सेंध लगाकर तीन घंटे में चोरी किया 35 लाख का डीजल, भर लिए चार टैंकर

पानीपत से मथुरा की रिफाइनरी में जा रही हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड  (एचपीसीएल) की पाइपलाइन में गांव गिझी के खेतों में सेंध लगाकर चोर तीन घंटे में 35 लाख रुपये का डीजल चोरी कर चार टैंकरों में भरकर ले गए। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए झज्जर जिले के गांव आसौधा निवासी नरेंद्र उर्फ अन्ना उर्फ टिंकू (28), दहकौरा निवासी जयकुंवार (46) व रोहतक जिले के गांव कुलताना निवासी प्रमोद (36) को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से 8 हजार लीटर डीजल, 3 लाख 83 हजार रुपये व चार टैंकर बरामद हुए हैं। सोमवार को पुलिस ने तीनों आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें छह दिन के रिमांड पर भेज दिया गया। वारदात का मास्टरमाइंड अभी फरार है। 

एसपी उदय सिंह मीना ने बताया कि एचपीसीएल की तेल पाइपलाइन पानीपत से होते हुए गोहाना के बाद रोहतक जिले के कई गांवों से होकर गुजरती है। पाइपलाइन की सुरक्षा की जिम्मेदारी एक निजी कंपनी करती है। सात मई को एचपीसीएल का सिक्योरिटी अलार्म 8 से 10 बजे के बीच बजने लगे।

जांच करने पर पता चला कि पाइपलाइन में रोहतक जिले के गांव गिझी के खेतों में छेड़छाड़ हुई है। तत्काल पाइपलाइन की सुरक्षा एजेंसी के फील्ड ऑफिसर सतेंद्र निवासी फरीदाबाद ने जिला पुलिस को सूचित किया। आईजी ममता सिंह, एसपी रोहतक व एसपी झज्जर सहित भारी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचा। उस समय ज्यादातर टैंकर जा चुके थे, लेकिन पुलिस को मौके से पाइपलाइन में सेंध लगाने वाले उपकरण मिल गए थे। 


लघु सचिवालय में पत्रकारो से वार्ता करते एसपी उदय सिंह साथ में सांपला अधीक्षक मेधा भूषण। संवाद

सीसीटीवी फुटेज से खुला राज, कड़ी से कड़ी जोड़कर पहुंची पुलिस
एसपी ने बताया कि पुलिस ने पेट्रोलियम एवं मिनरल पाइपलाइन (एक्यूजीशन ऑफ राइट टू यूजर इन लैंड) एक्ट 1962 की धारा 15 व 16, विस्फोटक पदार्थ अधिनियम-1988 की धारा 3 व 4, प्रिवेंशन ऑफ डैमेज टू पब्लिक प्रॉपर्टी एक्ट-1987 की धारा 3 व 4 व आईपीसी की धारा 268, 285, 286, 379 व 511 व आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू की। एएसपी मेधा भूषण के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया। एसआईटी में सीआईए प्रथम, सांपला पुलिस व साइबर सेल की टीम को भी शामिल किया गया। जांच में पता चला कि 7 मई की शाम को 7 बजकर 44 मिनट से 10 बजकर 52 तक रेड अलार्म बजा था।

जांच में गिझी व समचाना के बीच खेतों में खुदाई करके मिट्टी हटाकर देखा तो अत्याधुनिक तकनीक से पाइपलाइन में छेद करके तेल निकालना पाया गया। इसके बाद पुलिस ने आसपास के इलाके की सीसीटीवी फुटेज की जांच की। जांच में टैंकर आते-जाते दिखाई दिए। वहीं से सुराग ढूंढते हुए पुलिस की टीम ने वारदात के एक सप्ताह बाद अब आसौदा निवासी टिंकू, जयकुंवार निवासी दहकौरा व कुलताना निवासी प्रमोद को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से 3 लाख 83 हजार रुपये की नकदी, चार टैंकर व 8 हजार लीटर डीजल बरामद किया है। 

अत्याधुनिक उपकरण लगाकर लगाते हैं सेंध, मास्टरमाइंड अभी फरार
पुलिस के मुताबिक पाइपलाइन में कभी पेट्रोल तो कभी डीजल आता है। साथ ही दबाव काफी ज्यादा होता है। गिरोह के पास एक उपकरण होने का शक है, जिससे पाइपलाइन पर लगाकर पता लग जाता है कि पाइपलाइन में पेट्रोल व डीजल का बहाव कितना है। जब लाइन के अंदर पेट्रोल के बाद डीजल सप्लाई के बीच का समय होता है तो गिरोह उसी समय पाइपलाइन में सुराख कर अपने उपकरण व पाइप जोड़ते हैं। इसके बाद गाड़ियों के अंदर चोरी करके पेट्रोल या डीजल भरा जाता है। पूछताछ में पता चला है कि झज्जर जिले के गांव साखौल का युवक तकनीकी एक्सपर्ट है, जबकि उसका साथी सोनीपत के नाहरा गांव का युवक भी काफी कुछ जानकारी रखता है। गिरोह के तीन सदस्यों  की गिरफ्तारी हुई है। पांच अभी भी फरार हैं।
... और पढ़ें

रोहतक: हाथ में फरसा लेकर बुलडोजर पर गिरफ्तारी देने पुलिस थाने पहुंचे नवीन जयहिंद, बोले- मैंने उखाड़ा निगम का बोर्ड

हरियाणा के रोहतक में पहरावर गांव में गौड़ ब्राह्मण प्रचारिणी सभा को 2009 में लीज पर दी गई 16 एकड़ जमीन से नगर निगम का बोर्ड उखाड़ने के मामले को लेकर दिनभर माहौल गरम रहा। पुलिस के नोटिस पर आम आदमी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद शनिवार को शिवाजी कॉलोनी थाने में बुलडोजर पर सवार होकर पहुंचे।

बकौल नवीन जयहिंद, बयान दिया कि जमीन ब्राह्मण समाज की है, जिस पर लगा निगम का बोर्ड उसने उखाड़ा है। इसके लिए वे जेल जाने के लिए तैयार हैं, लेकिन जमीन नहीं देंगे। उधर, थाना प्रभारी का कहना है कि नवीन जयहिंद को जांच में शामिल करने का नोटिस भेजा था। उनके बयान दर्ज किए गए हैं। तथ्यों के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी। 

कांग्रेस की पूर्व हुड्डा सरकार के कार्यकाल के दौरान 2009 में पहरावर गांव की पंचायत ने 16 एकड़ से ज्यादा जमीन गौड़ ब्राह्मण प्रचारिणी सभा को 33 साल की लीज पर दी थी। 2010 में नगर निगम बनने के बाद पहरावर गांव को भी शहरी क्षेत्र में शामिल कर लिया गया। निगम ने जमीन पर अपना बोर्ड लगा दिया था।

नवीन का कहना है कि उसने बुलडोजर से निगम के बोर्ड को उखाड़ दिया, क्योंकि जमीन ब्राह्मण समाज की है। निगम के एलओ ने शिवाजी कॉलोनी थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज करवाया था। जांच में शामिल होने के लिए पुलिस ने नवीन जयहिंद को नोटिस भेजा था। 

हाथ में फरसा लेकर बुलडोजर पर पहुंचे थाने में जयहिंद
शनिवार दोपहर को नवीन जयहिंद बुलडोजर पर सवार होकर हाथ में फरसा लेकर शिवाजी कॉलोनी थाने में पहुंचे। साथ में उनके दर्जनों समर्थक भी थे। जयहिंद साथ में जमीन से जुड़े कागजात लेकर पहुंचे थे। मीडिया के सामने जयहिंद ने कहा कि सरकार जमीन का विकास शुल्क मांग रही है, जबकि वहां कोई विकास नहीं हुआ। इसके बाद उन्होंने जांच अधिकारी के सामने बयान दर्ज करवाए और वापस आ गए। 

22 मई को पहरावर में उसी जमीन में मनाएंगे परशुराम जयंती : जयहिंद 
आप के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद का कहना है कि 22 मई को पहरावर गांव की जमीन पर परशुराम जयंती मनाई जाएगी। जमीन ब्राह्मण समाज की है। अगर नगर निगम 100 बार बोर्ड लगाएगा तो उतनी ही बार उखाड़ेंगे। 
 
... और पढ़ें

रोहतक: एचएसवीपी के जेई, पटवारी व सेवानिवृत्त कानूनगो पर केस दर्ज, पांच लाख की रिश्वत लेने का आरोप

हाथ में फरसा लेकर बुलडोजर पर गिरफ्तारी देने पुलिस थाने पहुंचे नवीन जयहिंद
रोहतक में हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (एचएसवीपी) अधिकारियों पर आरोप है कि उन्होंने जमीन मालिक से पांच लाख रुपये रिश्वत ली। इसके बावजूद उसे तंग किया जा रहा है। पुलिस ने एचएसवीसी के जेई, पटवारी और रिटायर्ड कानूनगो के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। डीएसपी विनोद कुमार मामले की जांच करेंगे। इसके लिए शिकायतकर्ता से रिश्वत मांगने के सबूत मांगे गए हैं।  
 
पुलिस के मुताबिक, तिलक नगर निवासी दलबीर सिंह नांदल ने एसपी के नाम दी शिकायत में आरोप लगाया है कि उसकी सेक्टर एक के नजदीक 4 कनाल 13 मरले जमीन है। जमीन न केवल उसके नाम है, बल्कि अधिगृहण से मुक्त है। उसने जमीन में एक छोटा सा मकान बनाया थ।
 
इसके लिए पैमाइश व निशानदेही करवाई। इसमें जेई व रिटायर्ड कानूनगो शामिल रहे। आरोप है कि उससे पांच लाख रुपये ले लिए। फरवरी 2021 में उसने परिवेदना समिति की बैठक में आईएएस राकेश गुप्ता के सामने मामला रखा तो जेई व कानूनगो उसे परेशान करने लगे। अब पटवारी परेशान कर रहा है। कभी फोन पर तो कभी कार्यालय में आने के लिए बाध्य करता है। उसे परेशान न किया जाए, इसके लिए आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। 
 
... और पढ़ें

रोहतक: खिड़वाली में युवक को बाइक सवार युवकों ने मारी गोली, केबल के कारोबार को लेकर बताया जा रहा विवाद

हरियाणा के रोहतक में खिड़वाली गांव में घुसकानी रोड की तरफ खेतों में जा रहे 25 वर्षीय युवक रवींद्र को बाइक सवार तीन युवकों ने शुक्रवार शाम को गोली मार दी। उसे रात करीब पौने आठ बजे पीजीआई में दाखिल कराया गया। सदर थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।

सदर थाना प्रभारी इंस्पेक्टर अरविंद ने बताया कि शुक्रवार शाम को सूचना मिली कि खिड़वाली गांव में गोली चली है, जिसमें घायल युवक रवींद्र को पीजीआई में दाखिल कराया गया है। जो गांव से घुसकानी रोड स्थित खेत में जा रहा था। पुलिस गांव में पहुंची, लेकिन घायल के परिजन पीजीआई आ चुके थे।
 
प्रारंभिक जांच में पता चला है कि केबल कनेक्शन को लेकर विवाद चल रहा है। इसके चलते ही रवींद्र पर हमले की बात सामने आ रही है, लेकिन घायल व उसके परिजनों के बयान दर्ज होने के बाद ही पक्के तौर पर कुछ कहा जा सकेगा।
... और पढ़ें

रोहतक: 9 किलो गांजे और साढ़े 4 किलो चरस के साथ बिहार के युवक गिरफ्तार, एंटी नारकोटेक्टिस टीम ने की कार्रवाई

हरियाणा के रोहतक में पुलिस ने बिहार से आकर रोहतक में नशीले पदार्थों का कारोबार करने वाले दो युवकों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से 9 किलो गांजा और साढ़े 4 किलो चरस बरामद हुई है। इस संबंध में सिटी थाने में केस दर्ज किया गया है। 

डीएसपी मुख्यालय डॉक्टर रवींद्र ने बताया कि एंटी नारकोटिक्स सेल के प्रभारी एएसआई पंकज व साथी राजेश को सूचना मिली कि शास्त्री नगर में किराये पर रहने वाला युवक नशीला पदार्थ बेचने का काम करता है। पुलिस ने योजना के तहत सिंहपुरा रोड से श्याम कॉलोनी की तरफ पैदल आ रहे युवक विनोद निवासी भगवामपुर, जिला चंपारण, बिहार को गिरफ्तार कर लिया। तलाशी लेने पर उसके पास से प्लास्टिक के कट्टे से 9 किलो 900 ग्राम गांजा और 2 किलो 400 ग्राम चरस बरामद हुआ।

जांच के दौरान विनोद ने नशीला पदार्थ राज किशोर निवासी पतहारा बिशुनपुरा, गोपालगंज, बिहार हाल किरायेदार इंद्रा कॉलोनी से खरीदा था। दोनों आरोपी मिलकर नशीले पदार्थों का धंधा करते हैं। इसके बाद पुलिस ने इंद्रा कॉलोनी से राजकिशोर को 2 किलोग्राम चरस सहित गिरफ्तार कर लिया। आरोपी राजकिशोर नशीले पदार्थ को बिहार से खरीद कर लाया था और गांजा व चरस को विनोद को बेच दिया था।
... और पढ़ें

रोहतक: गृहमंत्री विज की बड़ी कार्रवाई, 45.37 लाख के गबन में एचएसवीपी के पांच एसडीई और दो जेई निलंबित

हरियाणा के रोहतक में सेक्टरों में पाइपलाइन बिछाने में 45.37 लाख रुपये का गबन करने के आरोपी हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (एचएसवीपी) के पांच एसडीई और दो जेई को गृहमंत्री अनिल विज ने शुक्रवार को निलंबित कर दिया है। एक जेई तीन मामलों में दोषी पाया गया है। वहीं, उपायुक्त को एक सप्ताह में जांच रिपोर्ट की समीक्षा करके ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

शुक्रवार को राज्य के गृहमंत्री अनिल विज जिला विकास भवन के सभागार में जिला लोक संपर्क एवं परिवेदना समिति की मासिक बैठक में पहुंचे। बैठक के एजेंडे में 21 शिकायतें शामिल की गई थीं। एजेंडे के अंदर 9 नंबर की शिकायत शास्त्री नगर निवासी शशि कुमार की थी। उन्होंने बताया सेक्टर-21, सेक्टर-18, सेक्टर-18ए, सेक्टर-पांच, सेक्टर-छह में बिछाई गई पाइपलाइन के कार्यों में अनियमितता और भ्रष्टाचार किया गया है।

आरोप लगाया कि 45.37 लाख रुपये का गबन करके सरकार को आर्थिक नुकसान पहुंचाया गया है। जवाब देने आए जिला परिषद के सीईओ ने बताया कि इस आरोप की जांच रिपोर्ट 1 अप्रैल 2021 को मिली थी। रिपोर्ट में गबन के दोषी ठहराए गए एचएसवीपी के अधिकारी-कर्मियों के नाम जांच रिपोर्ट के साथ उपायुक्त और विजिलेंस के उच्च अधिकारी को भेजी थी।

गृहमंत्री ने ठेकेदार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने के बाबत पूछा तो वह संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। उपायुक्त को रिपोर्ट सौंपने की बात सुनकर गृहमंत्री ने उपायुक्त से जवाब मांगा। उपायुक्त ने बताया कि ठेकेदार को ब्लैक लिस्ट करने की रिपोर्ट सभी विभागों के पास भेजी थी।

तब एसई हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने बताया कि नियमानुसार ठेकेदार से गबन की राशि वसूली करने पर फोकस होता है, इसलिए रिपोर्ट दर्ज नहीं करवाई गई है। ये बात सुनकर गृहमंत्री ने जांच रिपोर्ट में दोषी मिले हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का आदेश दिया। इसके साथ ही उपायुक्त को जांच रिपोर्ट की समीक्षा रिपोर्ट एक सप्ताह में भेजकर ठेकेदार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने के लिए कहा। 

जांच में दोषी मिले ये कर्मचारी किए गए निलंबित 
एसडीई लखविंदर, एसडीई सतीश शर्मा, एसडीई राज सिंह हुड्डा, जेई जनक राज, जेई यशवंत सिंह, एसडीई एंड जेई कमल सूदन, एसडीई बीआर जुनेजा हैं। जेई यशवंत को जांच में तीन जगह दोषी ठहराया गया है।
... और पढ़ें

रोहतक: नाबालिग से दुष्कर्म के दोषी युवक को 10 साल की कैद, जुर्माना भी लगाया

हरियाणा के रोहतक जिले के महम थाना क्षेत्र में चार साल पहले नाबालिग से दुष्कर्म करने के दोषी युवक को एएसजे नरेश कुमार की अदालत ने गुरुवार को 10 साल कैद और चार हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई। जुर्माना नहीं भरने पर दोषी को चार माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी पड़ेगी। 

पुलिस के मुताबिक एक महिला ने 2018 में महम थाने में शिकायत दी थी कि उसकी नाबालिग बेटी को एक लड़की घर से यह कहकर बुलाकर ले गई कि उसकी सहेली का जन्मदिन है। इसके बाद उसकी बेटी को एक कमरे में छोड़ दिया और खुद वहां से आ गई। कमरे में शिवा नामक लड़का मिला, जिसने उसकी बेटी के साथ गलत काम किया।

उसकी बेटी ने घर आकर अवगत कराया। उसकी बेटी को झूठ बोलकर बुलाकर ले जाने वाली लड़की व आरोपी लड़के के खिलाफ कार्रवाई की जाए। पुलिस ने मामले की जांच की और आरोपी लड़की को क्लीनचिट दे दी। साथ ही आरोपी लड़के को दुष्कर्म व 4 पॉक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया। 2019 से आरोपी के खिलाफ जिला अदालत में केस चल रहा था।

गुरुवार को फास्ट ट्रैक कोर्ट ने आरोपी को न केवल दोषी करार दिया, बल्कि उसे आईपीसी की धारा 376 के तहत 10 साल की कैद, 2 हजार रुपये जुर्माना व जुर्माना नहीं जमा करने पर 2 माह की अतिरिक्त सजा सुनाई । इसके अलवा 4 पॉक्सो एक्ट के तहत 10 साल कैद, 2 हजार रुपये जुर्माना व न जमा कराने पर दो माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। दोनों सजा एक साथ चलेंगी। ऐसे में अदालत ने दोषी को 10 साल कैद, 4 हजार रुपये जुर्माने व जुर्माना न जमा कराने पर 4 माह की अतिरिक्त सजा भुगतने का निर्णय सुनाया।
... और पढ़ें

रोहतक: रेवाड़ी के एडिशनल सेशन जज के गनमैन ने कनपटी पर गोली मारकर की आत्महत्या, पास मिला सुसाइड नोट

हरियाणा के रोहतक शहर के नजदीक भालोठ के एक सर्विस स्टेशन पर हरियाणा पुलिस के कांस्टेबल ने बुधवार को सरकारी पिस्तौल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। रेवाड़ी के एडिशनल सेशन जज के गनमैन के पास से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है। जिसमें दो लोगों पर परेशान करने का आरोप लगाया गया है। हालांकि पुलिस ने अभी इसकी पुष्टि नहीं की है। देर रात तक पुलिस मामले की कागजी कार्रवाई में जुटी हुई थी। 

किलोई निवासी 28 वर्षीय कांस्टेबल सुनील ने बुधवार देर शाम खुद को गोली मार ली। वह शाम को भालोठ स्थित सर्विस स्टेशन पर आया था। यहां अपनी सरकारी नौ एमएम पिस्टल से कनपटी पर गोली मार ली। वह एडिशनल सेशन जज का गनमैन था।

बुधवार को वह छुट्टी पर आया था। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। मृतक के पास से शराब की बोतलें पड़ी मिलने का दावा किया गया है। यहीं से पुलिस ने एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। इसमें दो लोगों पर परेशान करने का आरोप लगाया गया है। 

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। एफएसएल प्रभारी डॉ. सरोज दहिया को मौके से साक्ष्य जुटाने के लिए बुलाया गया। एफएसएल प्रभारी मौके पर पहुंचीं और साक्ष्य जुटाने का प्रयास किया। देर रात तक पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई थी। आईएमटी थाना प्रभारी इंस्पेक्टर कैलाश चंद्र के साथ एएसपी मेघा भूषण भी घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंचीं और अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए। 
 
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00