विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम
Puja

मात्र 2 दिन शेष ,गंगा दशहरा पर कराएं गंगा आरती एवं दीप दान, पूरे होंगे रुके हुए काम

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

भैंस चोर के शक में ग्रामीणों ने पांच पशु कारोबारियों को बनाया बंधक

महेंद्रगढ़। भैंस चोर होने के शक में सेहलंग गांव के लोगों ने नूंह निवासी पांच भैंस कारोबारियों को बंधक बना लिया। बाद में ग्रामीणों ने इन सभी को पुलिस के हवाले कर दिया। कनीना पुलिस ने इन सभी से पूछताछ की। चोरी का किसी तरह का आरोप साबित न होने पर शुक्रवार को सभी लोगों को छोड़ दिया गया।
जानकारी के अनुसार गांव सेहलंग में 17 जून को तीन भैंस चोरी हुई थी। जिसके बाद से गांव के लोग गुस्से में हैं। इस मामले में गांव के कुछ लोग वीरवार को कनीना डीएसपी से भी मिले थे। वीरवार शाम को नूंह के कुछ लोग कटड़ा-कटड़ी खरीदने के लिए सेहलंग गांव में पहुंच गए। यहां कटड़ा-कटड़ी बेचने के बारे में आवाज लगाने लगे। इस बीच किसी ग्रामीण ने कहा कि यह लोग भैंस चोर गिरोह के सदस्य हैं। दिन के समय रैकी करने आए हैं। रात को भैंस चोरी कर ले जाएंगे। ग्रामीणों ने इन सभी पांच लोगों को एक मकान में बंधक बना लिया। गांव के लोगों ने अपने स्तर पर ही पूछताछ भी शुरू कर दी। कुुछ लोगों ने फोन कर पुलिस को मौके पर बुला लिया। कनीना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर इन लोगों को पीसीआर में बैठा लिया। कनीना थाने में करीब तीन से चार घंटे तक आरोपियों से पूछताछ की गई। बाद में इन सभी को सीआईए के हवाले किया गया। सीआईए ने भी कई घंटे पूछताछ के बाद नूंह पुलिस से संपर्क कर सभी लोगों की हिस्ट्री की जानकारी ली। कोई भी व्यक्ति भैंस चोरी में संलिप्त न पाए जाने पर सभी को छोड़ दिया गया। पिछले करीब सात महीने से भैंस चोर गिरोह सक्रिय है। जिले में नवंबर से मार्च महीने तक करीब 70 भैंस चोरी हुई थी। मई व जून महीने में दस भैंस चोरी हो चुकी हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ
गांव सेहलंग में पांच लोगों को बंधक बनाने का गांव के ही युवाओं ने वीडियो बना लिया। इस वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया। वीडियो के साथ लिखा कि सेहलंग के भैंस चोरों को पकड़ लिया गया है। आरोपियों से हथियार बरामद होने की बात भी सोशल मीडिया पर लिखी। जो पूरी तरह से निराधार साबित हुई।

2.25 मिनट का हुआ वीडियो
सोशल मीडिया पर वायरल किया गया वीडियो करीब 2.25 मिनट का है, जिसमें गांव के लोग हंगामा करते हुए दिख रहे हैं। जिसमें महिलाएं भी हैं। एक मकान के बाहर लोग खड़े हुए दिखाई दे रहे हैं। इसके बाद पुलिसकर्मी मकान से पांच लोगों को लेकर निकलते हुए दिखाई दिए। इन सभी को पुलिस की पीसीआर में बैठाया गया। उत्तेजित ग्रामीण भैंस कारोबारियों के साथ हाथापाई की। जिसे पुलिसकर्मी रोक लेते हैं।

सेहलंग में ग्रामीणों ने पांच लोगों को पुलिस के हवाले किया था। इन में किसी का काई आपराधिक रिकार्ड नहीं मिला। बाद में इन सभी को सीआईए को सौंप दिया गया था। रिकार्ड जांचने के बाद सभी को छोड़ दिया गया। किसी का भैंस चोरी से कोई संबंध नहीं मिला।
- मनीष कुमार, थाना प्रभारी, कनीना।
... और पढ़ें

करंट की चपेट में आने से दिल्ली पुलिस के सिपाही और मिस्त्री की मौत, ऐसे हुआ हादसा

महेंद्रगढ़ के बुचियावाली गोशाला में वेल्डिंग का काम करते समय मिस्त्री तथा दिल्ली पुलिस के सिपाही की करंट लगने से मौत हो गई। घटना के बाद संबंधित एरिया की बिजली आपूर्ति को बंद करा दिया गया। बिजली निगम के कर्मियों और पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू की। जानकारी के अनुसार गांव डुलाना निवासी 42 वर्षीय प्रदीप दिल्ली पुलिस में सिपाही के पद पर तैनात है।

उसका भाई संदीप हरियाणा पुलिस में सिपाही है। दोनों भाई पिछले दस साल से गोशाला में आकर सेवा करते हैं। बुधवार को प्रदीप की छुट्टी थी। वह गोसेवा के लिए बुचियावाली गोशाला में आया था। यहां गोमूत्र को फिल्टर करने के लिए एक मशीन लगानी थी। इस मशीन को लगाने के लिए महेंद्रगढ़ के रेलवे रोड निवासी वेल्डिंग मिस्त्री 50 वर्षीय प्रमोद को बुलाया गया था। 
... और पढ़ें

महिला बोली- ताऊ तेरे कुर्ता पै कहीन उल्टी कर दी, किसान साफ करने लगा तो कोई ले उड़ा 1.40 लाख से भरा थैला

महेंद्रगढ़। कस्बे में सक्रिय चोरों के गिरोह ने दो दिन में तीन लोगों के दो थैलों से 1.90 लाख की नकदी चोरी कर ली। चोरों ने किसान के कपड़ों पर बिस्कुट का घोल डालकर उनका ध्यान भटकाया। किसान जब नकदी का थैला रखकर कपड़े साफ करने लगा तो चोर थैला लेकर फरार हो गए।
गांव कुराहवटा निवासी शिवलाल ने बताया कि वह गांव में ही खेती बाड़ी का काम करते हैं। उनके पड़ोस में किसी की शादी थी। पड़ोसी की मदद के लिए उन्होंने 90 हजार रुपये की मदद देनी थी। सोमवार को वह महेंद्रगढ़ के पुलिस थाना के पास स्थित एसबीआई से पैसा निकालने आए। उनके साथ उनके छोटे भाई रोहताश भी थे। शिवलाल ने बताया कि उन्होंने बैंक से 90 हजार रुपये निकलवाए। उनके छोटे भाई रोहताश ने 50 हजार रुपये निकलवाए। दोनों ने पैसे को एक थैले में डाल लिया। इन दोनों ने यह पैसा पड़ोसी को शादी समारोह के लिए उधार देना था। पैसे के थैले को लेकर दोनों ने पूर्व सैनिक कैंटीन के पास स्थित बीज भंडार से बाजरे का बीज खरीदा। शिवलाल ने बताया कि जब वह बीज लेकर यादव धर्मशाला से कुछ आगे पहुंचे तो पीछे से आ रही एक महिला ने कहा कि ताऊ तेरे कुर्ता पर कहीन (किसी ने) उल्टी कर दी है। शिवलाल ने बस अड्डे के पास आकर एक नाई की दुकान पर अपना सामान रख दिया। वह अपने कुर्ते को साफ करने लगा। कुछ सेकेंड बाद जब सामान देखा तो वहां से केवल नकदी वाला थैला गायब था। शिवलाल ने बताया कि फल वाली थैली, बीज सहित अन्य सामान वहीं पर मिल गया। उसने नाई की दुकान पर पूछा तो कोई कुछ नहीं बता सका। शिवलाल ने बताया कि उन्होंने रतन कांप्लेक्स, श्याम कांप्लेक्स में लगे सीसीटीवी की रिकार्डिंग देखी लेकिन आरोपी दिखाई नहीं दिए। इसके बाद एक होटल में लगा सीसीटीवी भी चेक कराया। आरोपियों के चेहरे सीसीटीवी में नहीं मिले। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कनीना के पास फेंक गया कार्ड
शिवलाल के पैसे वाले थैले में सीनियर सिटीजन कार्ड भी था। मंगलवार को किसी ने फोन बताया कि आपका कार्ड कनीना बस अड्डे के पास गिरा हुआ है। फोन करने वाले युवक ने कार्ड को बस अड्डे के पास जमा करा दिया।

रिटायर्ड सूबेदार के 50 हजार चोरी किए
गांव मालड़ा सराय निवासी 85 वर्षीय हरफूल सेना में सूबेदार पद से रिटायर हैं। मंगलवार को एसबीआई महेंद्रगढ़ में आकर अपनी पेंशन के 50 हजार रुपये निकाले थे। जब वह पूर्व सैनिक कैंटीन के पास एक दुकान से घर का सामान खरीद रहे थे तो उन्होंने पैसे वाला थैला वहीं रख दिया। कुछ देर बाद ही जब थैला संभाला तो वह गायब मिला। हरफूल ने बताया कि थैले में बैंक की पासबुक, आधार कार्ड, घर की अलमारी की चाबी सहित अन्य कागज थे। हरफूल ने दुकान के बाहर लगे सीसीटीवी की रिकार्डिंग की जांच कराई तो एक संदिग्ध की तस्वीर मिली है। हरफूल ने बताया कि 16-17 वर्षीय युवक बैंक से ही उनका पीछा कर रहा था। जिसे उन्होंने नजर अंदाज कर दिया था। हरफूल की शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात चोर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

14 साल से एक पैर पर खड़े होकर तप कर रहा था 50 वर्षीय साधु, बदमाशों ने बेरहमी से की हत्या

गांव सोहला की पहाड़ी पर 14 साल से एक पैर पर खड़े होकर तपस्या कर रहे 50 वर्षीय साधु की अज्ञात बदमाशों ने हत्या कर दी। शव को मंदिर के पास एक कमरे में छोड़ गए और कमरे को बाहर से ताला लगा दिया। साधु इस कमरे (कुटिया) में रहता था। शनिवार को जब ग्रामीणों को इसका पता चला तो सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पर पहुंची सतनाली पुलिस ने शव कब्जे में लेकर नागरिक अस्पताल महेंद्रगढ़ में पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया।

जानकारी के अनुसार ढाणी बोहरा वाली (ग्राम पंचायत सोहला) निवासी करतार नाथ साधु बनकर गांव की पहाड़ी पर मंदिर के साथ एक कमरे में रहता था। उससे क्षेत्र के बहुत से लोग जुड़े थे। सुबह शाम कई लोग मंदिर में आते जाते रहते थे वह उससे मिलकर जाते थे। शनिवार की सुबह जब उससे जुड़े लोग मिलने के लिए पहुंचे तो बाबा बाहर नहीं मिले जबकि कुटिया में ताला लगा था। इस दौरान उन्होंने इधर-उधर देखा । जब कुटिया की तरफ गए तो उनको बदबू आने लगी।

इस दौरान उन्होंने कुटिया में झांकर देखा तो बाबा खून से लथपथ कुटिया के अंदर पड़ा था। बाहर से कुटिया को ताला लगा था। इसकी जानकारी सरपंच को दी गई। मौके पर पहुंचे सरपंच ने फोन कर सतनाली पुलिस को सूचित किया। सतनाली पुलिस ने ताला तुड़वाकर मुआयना किया। साधु के दाएं कान के पीछे चोट लगी थी जबकि कान और मुंह से खून निकल रहे थे और खून जमीन पर भी फैला था।
... और पढ़ें
नागरिक अस्पताल में कागजी कार्रवाई करती पुलिस। नागरिक अस्पताल में कागजी कार्रवाई करती पुलिस।

हरियाणाः नारनौल में कैदी ने जेल में ही फांसी लगाकर की खुदकुशी, जेब से मिला सुसाइड नोट

जिला जेल नसीबपुर के टॉयलेट में गुरुवार देर रात 2:15 बजे बंदी ने फंदा लगाकर जान दे दी। बंदी के पास प्रोफाइल टिकट पर लिखे मिले सुसाइड नोट में उसने अपने चाचा व गांव के अन्य लोगों पर मानसिक रूप से परेशान करने का आरोप लगाया है। सिटी पुलिस ने इस मामले में परिजनों की शिकायत पर सात लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है।

पुलिस के अनुसार गोद गांव निवासी सुरेंद्र (40) का पिछले साल अक्तूबर महीने में अपने चाचा राजेंद्र के साथ विवाद हुआ था। इस मामले में पुलिस ने सुरेंद्र, उसकी पत्नी और दो बच्चों पर मारपीट और अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया था। उपचार के दौरान नौ दिन बाद घायल राजेंद्र की मौत हो गई थी। पुलिस ने इस मामले में तब गैर इरादतन हत्या की धारा जोड़ दी थी और सुरेंद्र को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। पिछले तीन माह से वह जेल में बंद था। 

गुरुवार रात करीब 2:00 बजे सुरेंद्र शौचालय गया था। जब काफी देर तक नहीं लौटा तो सुरक्षाकर्मी उसे देखने गया तो सुरेंद्र ने शौचालय की खिड़की से नीले रंग की रस्सी से फंदा लगा रखा था। उसने तुरंत जेल के अन्य स्टाफ को सूचना दी। मौके पर पहुंचे जेल अधीक्षक देवी दयाल ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। अधीक्षक ने बताया कि कपड़े से रस्सी बनाकर सुरेंद्र ने फंदा लगाया था। 

इसलिए था परेशान
सुरेंद्र के पिता लालाराम ने पुलिस को शिकायत दी है कि आरोपियों ने जमीन के लालच और साजिश में सुरेंद्र, उसकी पत्नी और बच्चों को फंसाया। आरोपी घर पर आकर झगड़ा करते थे और धमकाते थे कि उसे फांसी की सजा दिलाएंगे। दयानंद, उसके बेटे श्याम सुंदर व अजय, सुनील, सुभाष व उसके बेटे अनिल व मुन्नी ने सुरेंद्र को परेशान किया। सुरेंद्र की पत्नी और बच्चों की हाईकोर्ट से जमानत रद्द हो गई थी। इस कारण भी सुरेंद्र तनाव में था।

शव का डॉक्टरों के बोर्ड से पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया गया है। पिता की शिकायत पर मृतक के चाचा, भतीजे समेत सात लोगों पर आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया गया है। बंदी के पास से भी सुसाइड नोट मिला है। - मित्रपाल, डीएसपी, सिटी
... और पढ़ें

होमगार्ड का एटीएम कार्ड बदलकर 44300 निकाले


महेंद्रगढ़। एटीएम में पैसा निकाल रहे होमगार्ड की मदद के बहाने एक शातिर ने एटीएम कार्ड बदल दिया। शातिर ठग ने होमगार्ड के खाते से तीन बार में 44300 रुपये निकाल कर खाता जीरो बैलेंस कर दिया। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
गांव गोमला निवासी प्रदीप ने बताया कि वह होमगार्ड है। जिले में अलग अलग शहरों में उसकी ड्यूटी लगती है। कनीना के एसबीआई में उसका बैंक खाता है। 22 जून को किसी काम से महेंद्रगढ़ आया था। इस दौरान उसे पैसों की जरूरत पड़ी। सुबह करीब 11 से 12 बजे के बीच बस अड्डा के पास एटीएम से वह पैसा निकालने गया। जहां उसने एटीएम से पैसा निकालने का प्रयास किया। पैसा नहीं निकलने पर एटीएम में खड़े व्यक्ति ने कहा मैं मदद करता हूं। उसने मेरा एटीएम लेकर एक हजार रुपये निकालकर मुझे दे दिया। कार्ड भी दे दिया। कुछ देर बाद मोबाइल पर मैसेज आया। जिसमें 40 हजार रुपये निकाले जाने का मैसेज था। कुछ देर बाद ही 4000 रुपये निकाले जाने का एक और मैसेज आया। प्रदीप ने बताया कि उसके खाते में कुल 44300 रुपये थे। शातिर ठग ने रात के समय 300 रुपये भी निकाल लिए। उसका बैंक खाता जीरो बैलेंस पर ला दिया।

बैंक प्रबंधन ने सीसीटीवी फुटेज के मांगे 900 रुपये
प्रदीप ने बताया कि वह एसबीआई बैंक में शिकायत देने गया। उसने बैंक प्रबंधन से ठगी होने की शिकायत दी। जिसमें बताया कि सीसीटीवी फुटेज से आरोपी की पहचान हो सकती है। जिस पर बैंक प्रबंधन ने कहा कि आपको इसका भुगतान करना पड़ेगा। 900 रुपये देने के बाद ही सीसीटीवी फुटेज मिल सकेगी।

चार महीने में 9 घटनाएं
पिछले चार महीने में साइबर ठगी की 9 घटनाएं दर्ज हो चुकी हैं। जिसमें 6 घटनाएं ऑनलाइन ठगी की हैं। दो में एटीएम कार्ड बदलकर पैसा निकालने की हैं। तीन पूर्व सैनिक ठगी का शिकार हो चुके हैं। एक महिला टीचर के खाते से पैसे निकाले जा चुके हैं।
बैंक अगर किसी को सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध कराता है तो उसका शुल्क तय है। तय शुल्क के अनुसार ही पैसा मांगा गया। अगर किसी के साथ ठगी हुई तो आरोपी के काबू होने पर यह शुल्क वापस करने का प्रावधान भी है। नियमों के अनुसार ही शुल्क लिया जाता है।
रामनिवास, बैंक मैैनजर , एसबीआई महेंद्रगढ़
... और पढ़ें

99 पेटी शराब, तीन किलो गांजा समेत एक काबू


नारनौल। नांगल चौधरी थाना क्षेत्र के मोहनपुर गांव से पुलिस ने तीन घरों में छापेमारी कर 99 पेटी शराब समेत अन्य मादक पदार्थ बरामद किए हैं। इस मामले में एक आरोपी विजेंद्र को गिरफ्तार कर पुलिस ने मंगलवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से कोर्ट ने आरोपी को दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। विजेंद्र के पास से शराब, गांजा, अफीम के अलावा 3.85 लाख कैश व विभिन्न प्रकार के गहने भी बरामद हुए हैं।
पुलिस प्रवक्ता नरेश कुमार ने बताया कि पुलिस को सोमवार की देर शाम गुप्त सूचना मिली थी कि मोहनपुर गांव में आरोपी विजेंद्र, विक्रम व बबलू अवैध शराब व मादक पदार्थ की चोरी छिपे बिक्री कर रहे है। सूचना पर पुलिस की टीम ने वहां पर छापा मारा। तलाशी के दौरान आरोपी विजेंद्र के मकान से तीन किलो 520 ग्राम गांजा, 830 ग्राम डोडा पोस्त, 510 ग्राम अफीम, 218 ग्राम अफीम नुमा पदार्थ, 245 ग्राम भुक्की, 43 पेटी शराब देशी व 10 पेटी बीयर, 3.85 लाख रुपये व सोने के गहने बरामद हुए हैं। आरोपी बबलू उर्फ अजय के मकान से 22 पेटी देशी व अंग्रेजी अवैध शराब बरामद हुई। विक्रम से 24 पेटी बरामद हुई। पुलिस ने विजेंद्र के खिलाफ मादक पदार्थ अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी बबलू व विक्रम के खिलाफ कार्रवाई पर शराब आबकारी विभाग को सौंप दी गई है। नांगल चौधरी थाना प्रभारी संतोष कुमार ने बताया कि आरोपी विजेंद्र के पास से नशीले पदार्थ के साथ ही 3.85 लाख रुपये व गहने बरामद हुए हैं।
... और पढ़ें

डी -फार्मा में री -अपीयर आने पर स्टूडेंट ने ट्रेन से कटकर दी जान दी, व्हाट्स एप पर स्टेटस पर माफी मांगी

महेंद्रगढ़। डी-फार्मा में री-अपीयर आ जाने के छात्र प्रदीप ने ट्रेन के नीचे कटकर जान दे दी। परिवारजनों ने बताया कि री-अपीयर के कारण मानसिक तौर पर परेशान था। वार्ड नंबर दो के निवासी प्रदीप ने रविवार रात करीब 8 बजे रेवाड़ी-सादलपूर ट्रेन के नीचे कूदकर जान दे दी। मरने से पहले उसने अपने व्हाट्स एप पर स्टेटस अपलोड लिया। जिसमें लिखा कि कोई गलती हो गई हो तो माफ कर देना।
मृतक के पिता कुलदीप कुमार ने पुलिस को बताया कि वह शहर में गोशाला रोड पर चाय की दुकान चलाता है। उसका बड़ा बेटा एक निजी कंपनी में काम करता है। छोटा बेटा प्रदीप कुुुमार झज्जर से डी-फार्मा कोर्स कर रहा था। रविवार को उसका परीक्षा परिणाम आया था। परीक्षा परिणाम में उसका री-अपीयर आ गया था। वह शाम के समय अपने दोस्त से मिलकर आने का नाम लेकर घर से गया था। जब वह रात तक नहीं आया तो हमने उसके फोन पर कई बार फोन किया लेकिन उसका वह फोन नहीं उठा रहा था। कुछ समय बाद दोबारा फोन किया तो रेलवे गार्ड ने उसका फोन उठाया। गार्ड ने सूचना दी कि मैं गार्ड बोल रहा हूूं यहां एक लाश पड़ी है। उसके पास ही फोन पड़ा था। यह सूचना पाकर मौके पर पहुंचकर हमने लाश की शिनाख्त की। इसके बाद शव को उप नागरिक अस्पताल महेंद्रगढ़ पहुंचाया जहां पर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने पिता कुलदीप के बयान पर इत्तेफाकिया कार्रवाई की है।
व्हाट्स एप स्टेटस पर मांगी सभी से माफी: मृतक प्रदीप कुमार ने मरने से पहले अपना व्हाट्स एप स्टेटस अपडेट किया था। उसने अपने स्टेटस पर केवल इतना ही लिखा कि मुझ से कोई गलती हो तो माफ करना। रविवार को दिन में वह अपने सभी दोस्तों से मिलकर गया था। जो दोस्त नहीं मिले थे उनसे फोन पर बातचीत की थी।
... और पढ़ें

बेखौफ हुए चोर, गैस कटर से शटर काटकर किया चोरी का प्रयास

सतनाली मंडी। बेखौफ चोरों ने कस्बे के रेलवे रोड़ पर एक मोबाइल की दुकान का शटर गैस कटर से काटकर चोरी करने का प्रयास किया। चोरों द्वारा की गई सारी गतिविधि दुकान पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।
दुकानदार राजेश जिंदल ने बताया कि रेलवे स्टेशन रोड पर हर्ष मोबाइल वर्ल्ड एंड कंसल्टेंसी सर्विसेज के नाम से उनकी दुकान है जिसमें वे नए मोबाइल, एसेसरिज सहित ऑनलाइन फार्म आदि का कार्य करते हैं। उन्होंने बताया कि रविवार सुबह जब वे दुकान पर पहुंचे तो दुकान का शटर गैस कटर से कटा हुआ था। उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस ने मौके का मुआयना किया। दुकान मालिक राजेश जिंदल और आसपास के दुकानदारों ने दुकान खेलकर सीसीटीवी कैमरों की फुटेज देखी, जिसमें दो युवक गैस कटर से शटर काटते हुए दिखाई दे रहे हैं। दुकानदार ने मामले की शिकायत पुलिस को देते हुए चोरी का प्रयास करने वाले युवकों की पहचान कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की।
... और पढ़ें

महिला ने प्रॉपर्टी डीलर को बुलाया घर, परिजनों ने नंगा कर पीटा, वीडियो वायरल

कनीना। एक महिला द्वारा जिला निवासी एक प्रॉपर्टी डीलर को फोन कर अपने घर बुलाकर और परिजनों से पिटाई कराने का मामला सामने आया है। आरोप है कि जब उक्त व्यक्ति महिला के घर पहुंचा तो महिला के पति, देवर सहित छह लोगों ने उस पर लाठी, डंडे, लात-घूसों से हमला किया। महिला के सामने ही पीड़ित की पेंट उतारकर उसे गली में खड़ा करके अश्लील वीडियो बनाई। बाद में चार अलग-अलग वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दी। पुलिस ने चार नामजद और दो नामालूम व्यक्तियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमों का गठन किया है।
पुलिस को दी शिकायत में पीड़ित ने बताया कि परिचित महिला का उसके पास फोन आया, जिसके बाद वह महिला के कहने पर पांच हजार रुपये उधार देने के लिए उनके घर गया था। जहां महिला के पति, देवर सहित छह लोगों ने उस पर लाठी-डंडे से हमला कर दिया। इन सभी ने उसकी गली में ही पिटाई करते हुए वीडियो बनाई। साथ ही हमलावरों ने उस पर दुराचार का आरोप लगाते हुए लात-घूसों से पीटा। आरोप लगाया कि हमलावरों ने उसके कपड़े फाड़ दिए। बाद में उसकी पेंट उतारकर उसकी अश्लील वीडियो भी बना ली और फिर इन वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घायल व्यक्ति को कनीना सीएचसी में भर्ती कराया। जहां से उसे बाद में हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया।

चार वीडियो वायरल
आरोपियों ने चार वीडियो वायरल की हैं, जिसमें पहली वीडियो 32 सेकेंड की है। जिसमें पिटाई करने वाला आरोपी अपनी पत्नी का गला पकड़कर उसके साथ गाली-गलौज कर रहा है। साथ ही महिला पर आरोप भी लगा रहा है। दूसरी वीडियो 1.31 मिनट की है, जिसमें छह लोग एक व्यक्ति पर लाठी-डंडों, लात घूसों से हमला कर रहे हैं। तीसरी 54 सेकेंड की वीडियो में व्यक्ति की पेंट उतारकर वीडियो बनाया है। इस वीडियो में महिला भी दिखाई दे रही है। इस दौरान महिला पीड़ित को बचाने का प्रयास कर रही है। चौथी वीडियो 1.01 मिनट की है, जिसमें महिला का पति अपनी पत्नी और घायल व्यक्ति के अनैतिक संबंध होने के आरोप लगा रहा है।
पीड़ित की शिकायत पर चार नामजद और दो अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ आईटी एक्ट सहित विभन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर जांच कार्रवाई शुरू कर दी है। आरोपियों के खिलाफ मारपीट, जान से मारने की धमकी, सार्वजनिक स्थल पर अपमान, आईटी एक्ट की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। महिला के अदालत में 164 के बयान में करवाए गए। जहां महिला ने दुराचार करने से इनकार किया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमों का गठन किया है।
- साधुराम, डीएसपी, कनीना।
... और पढ़ें

संदिग्ध परिस्थितियों में नवविवाहिता की मौत, ससुराल पक्ष पर केस दर्ज

नारनौल। गांव हुडिना में संदिग्ध परिस्थितियों में नवविवाहिता की मौत हो गई। नवविवाहिता के परिजनों ने जहर देकर बेटी को मारने का आरोप लगाते हुए दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। वहीं, शव का बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम करवाकर विसरा को जांच के लिए भेज दिया है। मृतका की शादी को अभी चार महीने ही हुए थे।
पुलिस के अनुसार रेवाड़ी निवासी सुरेश कुमार ने बेटी पूजा (19) की शादी 10 फरवरी 2019 को हुडिना निवासी कमलजीत सिंह से की थी। शादी में अपनी सामर्थ्य के अनुसार बेटी को दान दहेज दिया था। इसके बावजूद भी ससुराल वाले लड़की से और दहेज लाने की मांग कर रहे थे। शिकायत में बताया कि दहेज न देने पर बेटी को शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित करना शुरू कर दिया था। इस पर उन्होंने एक लाख रुपये लड़के को दिया था। लेकिन, ससुराल वालों की निरंतर मांग बढ़ती गई। बेटी ने उन्हें फोन पर उसे बताया था कि ससुराल वाले उसके साथ मारपीट करते हैं। 25 जून को लड़के के पिता रोहताश ने बेटी से दहेज की मांग की थी। 26 जून को लड़के की मां का फोन आया था कि तत्काल 25 हजार रुपये लेकर आओ वरना परिणाम भुगतने की धमकी दी थी।
पीड़ित के अनुसार 27 जून को लड़के के जीजा का फोन आया कि बेटी बीमार है। उसके कुछ मिनट बाद ही रोहताश का फोन आया कि पूजा की मौत हो गई है। पीड़ित ने शक जताया है कि बेटी को ससुराल वालों ने जहर देकर मारा है। जिसमें दामाद कमजीत, पिता रोहताश, मां बिमला, ननद संजू व जीजा दिनेश ने मिलकर मेरी बेटी को मारा है। फैजाबाद चौकी प्रभारी ने बताया कि लड़की के पिता की शिकायत पर दहेज उत्पीड़न, आत्महत्या के लिए उकसाने समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है। कमलजीत बीएससी सेकेंड ईयर का पेपर दिया हुआ है। जबकि, पूजा बीए प्रथम वर्ष का पेपर दिया था। वह फिलहाल कंप्यूटर कोर्स कर रही थी।
... और पढ़ें

मारपीट में घायल युवक ने दस दिन के बाद उपचार के दौरान तोड़ा दम

नारनौल। मारपीट में घायल युवक की उपचार के दौरान दस दिन बाद मौत हो गई। पुलिस ने मारपीट की धाराओं के साथ हत्या की धारा जोड़कर मामले की जांच कर रही है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार विष्णु सैनी ने 16 जून को जन्मदिन पार्टी पर मोहल्ला दयानगर में दी थी। इसमें भूपेश समेत अन्य दोस्त शामिल हुए थे। जहां डीजे विवाद पर भूपेश की शिवदयाल, मोनू, पंकज समेत अन्य से विवाद हो गया था। इसी दौरान इन लोगों ने भूपेश व एक अन्य युवक की जमकर पिटाई कर दी। घायल भूपेश व उसके दोस्त को नारनौल सामान्य अस्पताल भर्ती कराया गया। जहां भूपेश की गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार देकर हायर सेंटर रेफर कर दिया। परिजन घायल को जयपुर लेकर पहुंचे। जहां उपचार के दौरान 26 जून की सुबह भूपेश की मौत हो गई। पुलिस ने जयपुर में ही शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने आरोपियों पर मारपीट के साथ हत्या की धारा जोड़कर कार्रवाई शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

नहर में डूबने से छात्र की मौत

नारनौल। खासपुर गांव निवासी किशोर की नहर में डूबने से बुधवार को मौत हो गई। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है। किशोर की बहन की शादी सात जुलाई को होनी है।
पुलिस के अनुसार अंकित (14) गांव के सरकारी स्कूल में कक्षा आठ में पढ़ता था। बुधवार सुबह करीब 9 बजे अंकित व दो अन्य (आठ व दस साल के) बच्चे जेएलएन नहर में नहाने गए थे। अंकित नहर में नहाने चला गया, जबकि दो अन्य बच्चे खड़े थे। जैसे ही अंकित नहर में उतरा पानी का बहाव तेज होने के कारण वह बह गया। इसके बाद दोनों बच्चे डरकर घर भाग आए और ग्रामीणों व परिजनों को बताया। इसके बाद परिजन व पुलिस मौके पर पहुंची। नहर के पानी कम करने के बाद कुछ दूर पर बच्चे का शव बरामद किया। परिजन उसे जिला नागरिक अस्पताल लेकर आए, जहां पर डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।
परिजनों ने बताया कि जब अंकित नहर में डूबने लगा तो दोनों बच्चे भागकर घर आ गए। यदि उस दौरान दोनों ने शोर मचाया होता तो पास ही खेतों में काम करे लोग उसे बचा सकते थे। गांव वालों के अनुसार अंकित दो भाईयों में छोटा था। उसकी बहन की शादी सात जुलाई को होनी है। फैजाबाद पुलिस चौकी के हवलदार कुलदीप ने बताया कि परिजनों के अनुसार किशोर को तैरना नहीं आता था।

12 जून को भी छात्र की डूबने से हुई थी मौत
धरसू गांव निवासी हेमंत की 12 जून को नहर में डूबने से मौत हो गई थी। पुनीत व प्रतीक के साथ हेमंत अकबरपुर रामू किसी कार्य से गया था। बीच में हेमंत समेत तीनों जेएलएन नहर में नहाने गए थे। हेमंत नहर में नहाने चला गया और डूब गया था। बता दें कि इसी नहर से नसीबपुर व लहरोता वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में पानी आता है। इसके बाद गांवों व शहरों में पानी की सप्लाई होती है। नहर में 10-15 दिनों में पानी की सप्लाई होती है।

पुलिस गश्त की मांग
ग्रामीणों ने बताया कि इस साल नहर में तीन बच्चों की डूबने से मौत हो चुकी है। उनका कहना है कि पिछले साल पुलिस गश्त रहती थी। इस साल पुलिस के इंतजाम नहीं है। खासपुर गांव के लोगों का कहना है कि पुलिस को होमगार्ड तैनात करना चाहिए। जिससे बच्चे नहर में न जाने पाएं।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन