बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन
विज्ञापन
इस दिन होगा शनि का राशि परिवर्तन, इन राशियों से हटेगी शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या
Myjyotish

इस दिन होगा शनि का राशि परिवर्तन, इन राशियों से हटेगी शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

तिहरे हत्याकांड के गवाह बुजुर्ग की गोली मारकर हत्या, रंजिश में अब तक पांच लोग गंवा चुके जान

बड़ेसरा गांव में बुधवार सुबह छह बजे घर के बाहर बैठे बुजुर्ग की तीन गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। सूबे सिंह (79) पूर्व सरपंच पवन के ताऊ थे और अपने परिवार के तीन लोगों की हत्या में मुख्य गवाह थे। चुनावी रंजिश में पूर्व सरपंच के परिवार में यह पांचवीं हत्या है। बुधवार सुबह सूबे सिंह घर के बाहर चबूतरे पर बैठे थे। इसी दौरान स्विफ्ट गाड़ी घर के बाहर आकर रुकी। उसमें से चार युवक उतरकर आए और चालक गाड़ी में ही रहा। युवकों ने आते ही बुजुर्ग पर गोलियां बरसा दी। उन्हें तीन गोलियां लगी। एक गोली गर्दन के पास, जबकि दो गोलियां पेट में लगीं। इससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। 

हत्या के बाद बदमाश महम की ओर भागे। महम बाईपास पर उनकी गाड़ी खराब हो गई। यहां बदमाशों ने एक अन्य गाड़ी छीनी और फिर मदीना की तरफ निकल गए। बदमाशों ने मदीना गांव के पास छीनी हुई गाड़ी भी छोड़ दी और किसी तरह यह से भाग निकले। सूबे सिंह के पोते की शिकायत पर पुलिस ने जेल में बंद पूर्व सरपंच प्रतिनिधि आनंद बबलू और उसके बेटे समेत पांच नामजद व अन्य आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस की चार टीमें डीएसपी वीरेंद्र के नेतृत्व में जांच में जुटी हैं। 

इनके खिलाफ दर्ज हुआ केस
एसआई वीरेंद्र सिंह ने बताया कि सूबे सिंह के पोते मोहित की शिकायत पर जेल के अंदर से हत्या की साजिश रचने के आरोप में आनंद, उसकी पत्नी सुदेश, बेटे अंकित और आनंद के भाई लहणा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इसके अलावा आनंद के बेटे अमन व उसके 3-4 साथियों पर हत्या का मुकदमा दर्जकर मामले की जांच की जा रही है।  
... और पढ़ें

पत्नी और पुत्रवधू को कुल्हाड़ी से काट कर निगला जहर, शख्स ने अस्पताल में तोड़ा दम

एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी और पुत्रवधू को कुल्हाड़ी से मौत के घाट उतार दिया और फिर खुद जहरीला पदार्थ निगलकर खुदकुशी कर ली। वारदात भिवानी जिले के गांव पालुवास की है । दोनों महिलाओं की मौके पर मौत हो गई थी, जबकि जहरीला पदार्थ निगलने वाले व्यक्ति को जिला सामान्य अस्पताल लाया गया, जहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। मामला घरेलू कलह का बताया जा रहा है।

सास-बहू के झगड़े से परेशान होकर व्यक्ति ने वारदात को अंजाम दिया और फिर खुद भी मौत को गले लगा लिया। मामले की जांच के लिए फोरेंसिक एक्सपर्ट टीम मौके पर बुलाई गई। डीएसपी हेडक्वार्टर वीरेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंचे और जांच की। पुलिस ने दोनों महिलाओं के शवों को कब्जे में लेकर अस्पताल पहुंचाया और मृतक के बेटे के बयानों के आधार पर पुलिस आगामी कार्रवाई करने में जुट गई है।
... और पढ़ें

भिवानी में पशु व्यापारी को पहले लाठी-डंडों से पीटा फिर छत से फेंका, अस्पताल पहुंचते ही मौत

भिवानी के गांव किरावड़ में रुपये के लेन-देन को लेकर हिसार के स्याहवड़ा गांव के एक पशु व्यापारी की उसके साथी ने पीट-पीटकर हत्या कर दी। आरोप है कि तीन लाख रुपये के लेन-देन को लेकर झगड़ा हुआ। इसके बाद दोस्त ने उस पर लाठी-डंडों से हमला किया और फिर छत से फेंक दिया। पुलिस ने युवक पवन के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। मंगलवार सुबह पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

मामला सोमवार रात करीब दो बजे का है। हिसार जिले के गांव स्याहड़वा निवासी जगदीश (35) अपने दोस्त किरावड़ निवासी पवन के साथ मिलकर पशुओं का व्यापार करता था। मृतक के बड़े भाई राजेश ने बताया कि जगदीश सोमवार सुबह करीब 11 बजे घर से निकला था। उसने बताया था कि वह किरावड़ में अपने दोस्त पवन से तीन लाख रुपये लेने जा रहा है।


यह भी पढ़ें-
हरियाणाः बिजली बिल पर न सरचार्ज लगेगा न कनेक्शन कटेगा, 4000 को देंगे ट्यूबवेल कनेक्शन

राजेश का आरोप है कि सोमवार रात करीब दो बजे रुपये के लेन-देन में पवन ने जगदीश पर लाठी-डंडों से हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया और छत से फेंक दिया। आरोप है कि इसके बाद जगदीश को मरा समझ पवन घर चला गया। पुलिस के अनुसार रात करीब दो बजे किसी राहगीर से सूचना मिली कि घायल अवस्था में एक युवक पड़ा है।
... और पढ़ें

हरियाणा: किसान आंदोलन के दौरान टीकरी बॉर्डर पर बंगाली युवती से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार

दिल्ली बॉर्डर पर किसानों के धरने पर आई पश्चिम बंगाल की युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म मामले के मुख्य आरोपी को बुधवार को झज्जर की एसआईटी ने भिवानी से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान अनिल मलिक निवासी झोझूकलां के रूप में हुई है। एसआईटी ने आरोपी पर 25 हजार रुपये का इनाम भी रखा हुआ था। पुलिस की ये कार्रवाई गुपचुप तरीके से की गई, जिसकी किसी को भनक तक नहीं लगी।
 
दिल्ली बॉर्डर पर किसानों के धरने पर कुछ दिन पहले पश्चिम बंगाल की एक महिला के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया था। इस मामले में झज्जर पुलिस की एक एसआईटी का गठन किया गया था। मामले की जांच एसआईटी ही कर रही है। पुलिस ने अनिल मलिक पर 25 हजार रुपये का इनाम रखते हुए अतिवांछित घोषित किया हुआ था। 


बुधवार को झज्जर एसआईटी की टीम ने भिवानी पहुंचकर आरोपी को एक ठिकाने से धर दबोचा। भिवानी पुलिस अधीक्षक अजीत सिंह शेखावत ने बताया कि झज्जर एसआईटी की टीम ने बुधवार को भिवानी से झोझूकलां निवासी अनिल मलिक को गिरफ्तार किया है, जो किसान धरने पर महिला से सामूहिक दुष्कर्म मामले में 25 हजार का इनामी था।

कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर टीकरी बॉर्डर पर किसानों के आंदोलन में 30 अप्रैल को पश्चिम बंगाल की आंदोलनकारी 25 वर्षीय युवती की मौत हो गई थी। इसके बाद मृतका के साथ सामूहिक दुष्कर्म की बात सामने आई थी। बहादुरगढ़ पुलिस ने दो महिलाओं और चार युवकों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का केस दर्ज किया था। दुष्कर्म और वारदात की साजिश में शामिल होने के आरोप में युवती के पिता की शिकायत पर महिला पुलिस थाना बहादुरगढ़ में एफआईआर दर्ज की गई थी।

संयुक्त किसान मोर्चा को युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म होने का पता 2 मई को ही चल गया था। उसके बावजूद भी पुलिस कार्रवाई करने की जगह किसान नेता बैठक करते रहे। जब युवती के पिता ने आगे आकर मामले में मुकदमा दर्ज कराया तो अब संयुक्त किसान मोर्चा को किरकिरी होने पर सफाई देनी पड़ी। जिसके लिए संयुक्त किसान मोर्चा अपने साथ युवती के पिता को भी लेकर आया और उनको न्याय दिलाने के लिए उनके साथ खड़े होने का दावा किया। किसान आंदोलन में शामिल होने आई बंगाल की युवती से टीकरी बॉर्डर पर सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सामने आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है।
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

हरियाणा में हादसा: स्ट्रेंथ लिफ्टिंग के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी की हादसे में मौत, पिता को दवा दिलाने जा रहे थे हिसार 

हरियाणा के भिवानी में गांव ढाणी टोडा के पास बुधवार दोपहर पेड़ से बोलेरो टकराने के कारण स्ट्रेंथ लिफ्टिंग के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी दिनेश गर्ग (36) की मौत हो गई, जबकि उनके पिता और चालक घायल हो गए। दिनेश अपने पिता को दवा दिलाने हिसार जा रहे थे। घायलों को भिवानी के जिला सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

लोहारू निवासी स्ट्रेंथ लिफ्टिंग खिलाड़ी दिनेश गर्ग अपने पिता तेजपाल गर्ग का इलाज कराने हिसार जा रहे थे। जब उनकी बोलेरो गाड़ी गांव ढाणी टोडा के पास पहुंची तो चालक साहिल अचानक संतुलन खो बैठा और गाड़ी पलटते हुए सड़क किनारे पेड़ से जा टकराई। इस हादसे में तीनों घायल हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची।


तीनों को लोहारू के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां चिकित्सकों ने दिनेश गर्ग को मृत घोषित कर दिया, जबकि दोनों घायलों को भिवानी जिला सामान्य अस्पताल में रेफर कर दिया गया। लोहारू थाना पुलिस के एसआई कर्णसिंह, एएसआई संदीप सिंह टीम सहित मौके पर पहुंचे। दिनेश की मौत की सूचना से स्पोर्ट्स क्लब जिम के खिलाड़ियों, शहीद भगत सिंह समाज कल्याण समिति के सदस्यों और लोहारू शहर में शोक की लहर दौड़ गई। 

दिनेश ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जीते कई मेडल 
दिनेश गर्ग लोहारू स्पोर्ट्स क्लब जिम के सदस्य थे और स्ट्रेंथ लिफ्टिंग में राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उन्होंने कई मेडल जीते थे। दिनेश ने वर्ष 2019 में उदयपुर में आयोजित नेशनल स्ट्रेंथ लिफ्टिंग चैंपियनशिप में एक रजत और कांस्य पदक जीता था। वर्ष 2020 में थाइलैंड में आयोजित वर्ल्ड स्ट्रेंथ लिफ्टिंग चैंपियनशिप में 83 किलोग्राम भार वर्ग में एक स्वर्ण पदक, 2021 में पश्चिम बंगाल में आयोजित नेशनल स्ट्रेंथ लिफ्टिंग की मास्टर कैटेगरी में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। इसके अलावा दिनेश गर्ग ने हरियाणा स्टेट पावर लिफ्टिंग चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था।
... और पढ़ें

नाबालिग हुई गर्भवती तो खुला राज : बाप-बेटे समेत सात ने किया सामूहिक दुष्कर्म, 50 साल पार दो आरोपियों की उम्र

हरियाणा के भिवानी जिले के एक गांव में 9वीं कक्षा की छात्रा के साथ एक साल से सात लोग सामूहिक दुष्कर्म कर रहे थे। किशोरी के गर्भवती होने के बाद तबीयत बिगड़ी तो परिजनों को इसका पता चला। इसके बाद बवानीखेड़ा पुलिस थाने में दी गई शिकायत में बताया गया कि किशोरी ढाई माह की गर्भवती है। पुलिस ने इस संबंध में पीड़िता के पिता की शिकायत पर गुरुवार को सात लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म, पोक्सो एक्ट समेत विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। इनमें दो आरोपी पिता-पुत्र हैं।

बवानीखेड़ा पुलिस थाना में दी शिकायत में किशोरी के पिता ने बताया कि उनकी 16 साल की लड़की 9वीं कक्षा में पढ़ाई कर रही है। उसके साथ उनके पड़ोस व गांव के ही कुछ लोगों ने सामूहिक रूप से दुष्कर्म किया। लड़की ने परिजनों को बताया कि पिछले एक साल से गांव के ही सात लोग उसके साथ सामूहिक रूप से दुष्कर्म कर रहे हैं।


आरोपियों ने पीड़िता को धमकी दी है कि इस संबंध में किसी को कुछ बताया तो उसे सिलिंडर से आग लगाकर जला देंगे और उसके दोनों भाइयों को मरवा देंगे। इस कारण वह चुप रही। इसी बीच वह गर्भवती हो गई। अचानक ही किशोरी की तबीयत बिगड़ी तो परिजन उसे उपचार के लिए अस्पताल लेकर आए, जहां जांच के बाद उसके गर्भवती होने की पुष्टि हुई। 

परिजनों ने आरोप लगाया कि वारदात में उनका पड़ोसी दुकानदार, उसका बेटा व अन्य शामिल हैं। इनमें दो की उम्र तो 52-53 साल बताई जा रही है तो बाकी पांच आरोपियों की उम्र 30 से 35 साल के बीच है। पिता की शिकायत पर बवानीखेड़ा पुलिस ने इस संबंध में आरोपियों के खिलाफ धारा 376 डीए, 506 और 6 पोक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस ने पीड़िता का मेडिकल परीक्षण भी कराया है। मामला सामने आने के बाद डीएसपी हेडक्वार्टर वीरेंद्र सिंह भी बवानीखेड़ा थाना पहुंचे और इस संबंध में जानकारी ली।  
... और पढ़ें

हरियाणा : भिवानी में छेड़छाड़ से परेशान छात्रा ने जहर खाकर दी जान, गांव के ही दो सगे भाई करते थे परेशान

छेड़छाड़ से परेशान हरियाणा के बवानीखेड़ा के एक महाविद्यालय की बीए प्रथम वर्ष की छात्रा ने गुरुवार सुबह जहरीला पदार्थ निगल लिया। उपचार के दौरान गुरुवार शाम उसकी हिसार के निजी अस्पताल में मौत हो गई। मृतका के भाई ने गांव के ही दो युवकों पर तंग करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने दो सगे भाइयों के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने सहित विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। 

पुलिस में दी शिकायत में बवानीखेड़ा के एक गांव निवासी युवक ने बताया कि उसकी बहन बीए प्रथम वर्ष की छात्रा थी। कॉलेज आते-जाते कई बार दोनों आरोपी युवक बहन को परेशान करते थे। इस बारे में उसकी बहन ने घर में भी बताया और दोनों युवकों के परिजनों को भी इसके बारे में अवगत कराया।

इस पर उन्होंने माफी मांग ली लेकिन फिर भी वह अपनी हरकतों से बाज नहीं आए। उनसे परेशान होकर बहन ने जहरीला पदार्थ निगल लिया। हालत बिगड़ने पर उसे भिवानी के निजी अस्पताल ले गए। हालत ज्यादा गंभीर होने के चलते बहन को हिसार के निजी अस्पताल ले जाया गया। जहां उसने गुरुवार शाम को दम तोड़ दिया। 

मृतका के भाई के साथ हुई मारपीट, नहीं हुई कोई कार्रवाई
परिजनों ने बताया कि छेड़खानी के चलते मृतका के भाई के साथ 21 फरवरी की शाम के समय पांच नकाबपोश युवकों ने मारपीट भी की थी और बाइक को तोड़ दिया था। इसकी शिकायत थाना बवानीखेड़ा में दी गई थी। शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।
... और पढ़ें

हरियाणा में 50 हजार के इनामी समेत तीन बदमाश गिरफ्तार, राजस्थान में एक साथ की थी चार की हत्या

प्रतीकात्मक तस्वीर
सीआईए प्रथम ने बुधवार को गुप्त सूचना पर थाना बहल क्षेत्र के गांव शेरला में दबिश देकर तीन बदमाशों को काबू किया है। ये बदमाश पांच फरवरी को राजस्थान के चूरू जिले के गांव जैतपुरा में अंधाधुध फायरिंग कर गैंगस्टर प्रदीप जैतपुरा समेत चार की हत्या करने के बाद भिवानी में छिपे थे। इस दौरान बदमाशों ने नाका तोड़कर भागने का प्रयास किया और पुलिस से झड़प भी हुई।

इसमें 50 हजार का इनामी बदमाश राजेश ढाणी केहरा भी शामिल था। इसके अलावा पांच हजार का राजस्थान का इनामी बदमाश बंसीलाल और अशोक को भी गिरफ्तार किया गया है। लॉरेंस बिश्नोई व संपत नेहरा गैंग के शॉर्प शूटर राजेश ढाणी केहर पर हरियाणा, राजस्थान, पंजाब और दिल्ली में  हत्या, हत्या के प्रयास, लूट, डकैती समेत करीब 12 केस दर्ज हैं। तीनों को कोर्ट में पेश करने के बाद पुलिस ने चार दिन के रिमांड पर लिया है।

पांच फरवरी को राजस्थान के चूरू जिले के राजगढ़ तहसील के सादुलपुर हमीरवास थाना क्षेत्र के गांव जैतपुरा ढाणी मौजी में गैंगवार हुई थी। जीप और बाइक पर आए बदमाशों ने ताश खेल रहे लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग की। जिसमें प्रदीप स्वामी, निहाल सिंह, ईश्वर सिंह की मौके पर ही मौत हो गई थी।

बदमाशों ने पीछे छूटने पर अपने एक साथी की भी गोली मारकर हत्या कर दी थी। प्रदीप स्वामी अजय जैतपुरा का साथी था और अजय की हत्या मामले में मुख्य गवाह था। उसके बाद से पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी थी और आरोपी राजेश ढाणी केहरा पर 50 हजार का इनाम रखा गया था।
... और पढ़ें

भिवानी में महिला ने होटल में उठाया खौफनाक कदम, शौचालय में फंदा लगा जान दी

बस स्टैंड के नजदीक एक होटल में अपने पुरुष मित्र से हुए झगड़े के बाद एक महिला ने कमरे के बाथरूम में ही चुन्नी को शावर से बांध फंदा लगा लिया। महिला ने काफी समय तक बाथरूम का दरवाजा नहीं खोला तो युवक ने होटल कर्मचारियों की सहायता से दरवाजा तोड़ा तो वह अंदर फंदे पर लटकी मिली।

सूचना पर औद्योगिक थाना प्रभारी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। इसके बाद महिला के शव को उतारा गया। सीन ऑफ क्राइम टीम को भी बुलाया गया। साथ ही महिला के परिजनों को भी सूचित कर बुलाया गया। मामला गुरुवार शाम करीब साढ़े पांच बजे का है। कैरू क्षेत्र की करीब 40 वर्षीय महिला की घर में ही दुकान है और वह अक्सर सामान खरीदने भिवानी आती थी। 

वहीं गांव का ही करीब 38 वर्षीय युवक उसका मित्र था। दोनों ने सुबह करीब 11 बजे बस स्टैंड के सामने एक होटल में कमरा बुक किया। दोनों दिनभर कमरे में रहे। शाम करीब साढ़े चार बजे दोनों ने चाय भी पी। इसी दौरान दोनों की कहासुनी हुई। इसके बाद महिला ने बाथरूम में जाकर दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। 

सूचना पर औद्योगिक थाना प्रभारी इंस्पेक्टर पवन कुमार अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। युवक को थाने ले जाया गया। मृतका के दो लड़के हैं, जबकि युवक भी शादीशुदा है और उसे भी एक लड़का है। समाचार लिखे जाने तक महिला के परिजन होटल में पहुंच चुके थे और पुलिस जांच में जुटी थी। 
... और पढ़ें

राजस्थान में चार की हत्या, ताश खेलते वक्त बदमाशों ने बरसाईं अंधाधुंध गोलियां, साथी को भी मार डाला

राजस्थान के चूरू जिले में राजगढ़ के जैतपुरा ढाणी मौजी में शुक्रवार दोपहर बाद बदमाशों ने गैंगवार के चलते ताश खेल रहे तीन युवकों और अपने एक साथी की गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश भिवानी के बजाय राजस्थान की तरफ ही भागे हैं। फिर भी सीमावर्ती थाने में पुलिस अलर्ट पर है। सीमा पर नाकेबंदी कर दी गई है। वारदात को गैंगवार से जोड़कर देखा जा रहा है। इसमें संपत नेहरा गिरोह का नाम सामने आ रहा है। घटना के बाद गांव में माहौल तनावपूर्ण है। 

बहल से करीब 25 किलोमीटर दूर चूरू जिले के राजगढ़ तहसील के सादुलपर हमीरवास थानाक्षेत्र के गांव जैतपुरा ढाणी मौजी में शुक्रवार शाम बाइक सवार बदमाशों ने चौक पर ताश खेल रहे युवकों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। जिससे मौके पर ही तीन युवकों की मौत हो गई, जबकि तीन लोग घायल हो गए। वहीं घटना के बाद भागने के दौरान पीछे छूटे एक साथी प्रदीप स्वामी को भी बदमाशों ने गोली मार दी, जिससे उसकी मौत हो गई।

मामले में एक आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है। घटना के बाद गांव में तनाव का माहौल है। ग्रामीणों ने मामले में आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की है। ग्रामीणों ने गिरफ्तारी नहीं होने तक मृतकों का पोस्टमार्टम नहीं करवाने एवं बदमाश के शव को नहीं देने का निर्णय किया है। घटना में मृतक प्रदीप स्वामी अजय जैतपुरा का साथी था। बदमाशों ने तीन साल पहले अजय जैतपुरा की कोर्ट में पेशी के दौरान अंधाधुंध फायरिंग कर हत्या कर दी थी। 
... और पढ़ें

भिवानी में ट्रक और बोलेरो में भीषण टक्कर, एक ही परिवार के 11 लोग घायल, तीन की हालत गंभीर

कैरू और तोशाम के बीच सुंगरपुर गांव के पास ट्रक और बोलेरो की आमने-सामने की टक्कर में गांव मोहब्बतपुर के एक ही परिवार के 11 लोग घायल हो गए। घायलों में तीन की हालत गंभीर होने के कारण आपातकालीन विभाग में प्राथमिक उपचार के बाद पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया गया। सभी घायल रिश्तेदारी में निधन पर शोक जताने के लिए कैरू जा रहे थे। 

हादसे के बाद घायलों को सीएचसी कैरू लाया गया। जहां एक साथ इतने घायल आने से अफरा-तफरी मच गई। सीएचसी में चिकित्सक नहीं मिलने और एंबुलेंस सुविधा न होने पर ग्रामीण बिफर गए और ताला लगाने लगे। सूचना पर करीब एक घंटे बाद चिकित्सक पहुंचा तो ग्रामीणों ने उन्हें सीएचसी में प्रवेश नहीं करने दिया। जिस पर हंगामा हुआ और ग्रामीणों ने बाकी स्टाफ को भी सीएचसी से बाहर निकाल दिया।

ग्रामीणों ने सिविल सर्जन से भी फोन पर बातचीत की। सिविल सर्जन से हुई बातचीत के बाद चिकित्सक ने ग्रामीणों को लिखित में आश्वासन दिया कि शुक्रवार से एक और चिकित्सक की ड्यूटी यहां लगाई जाएगी। साथ ही एंबुलेंस सुविधा भी दी जाएगी। लिखित आश्वासन के बाद ग्रामीण माने और साथ ही चेतावनी दी कि शुक्रवार को आश्वासन पूरा नहीं किया तो सीएचसी पर ताला लगा दिया जाएगा।
... और पढ़ें

भिवानी : बवानीखेड़ा थाने के पास दो कारें टकराईं, फौजी समेत तीन की मौत, आठ घायल

भिवानी में बवानीखेड़ा थाने के पास दो कारों की टक्कर में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि आठ अन्य घायल हो गए हैं। हादसे के बाद एक क्षतिग्रस्त गाड़ी थाने के पास खड़ी एक अन्य कार से भी टकरा गई। घायलों को उपचार के लिए इमरजेंसी लाया गया, जहां दो की हालत गंभीर होने के कारण पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया गया। मगर परिजन उन्हें पीजीआई के बजाय हिसार के एक निजी अस्पताल ले गए। जहां एक घायल ने दम तोड़ दिया।

बवानीखेड़ा थाने के पास हुए हादसे के कारण कुछ घायलों को तो पुलिस पीसीआर से आपातकालीन विभाग लाया ,जबकि कुछ को निजी वाहन से लाया गया। पुलिस देर रात तक कार्रवाई में जुटी थी।

हादसा बुधवार शाम करीब साढ़े चार बजे हुआ। गांव खरक से ग्रामीण जयबीर का परिवार टाटा जस्ट कार से हिसार गया था। जयबीर ट्रांसपोर्ट में कार्य करता है और उसके पिता बजरंग का हिसार के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। उनके एक पांव में दिक्कत है। जयबीर के साथ उनकी पत्नी कविता, दो छोटे बच्चे बेटा दिशांत और बेटी दिशा थी। गाड़ी को गांव खरक का ही रामकुमार चला रहा था। 
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन