मां के भोग का सामान लेने जा रहे बेटे की हादसे में मौत, घर में मातम

ब्यूरो/अमर उजाला, डेराबस्सी(पंजाब) Updated Fri, 26 Jan 2018 10:06 AM IST
62 yr old jeet singh killed in a road accident in derabassi
मोटरसाइकिल सवार किसान को कार चालक ने मारी टक्कर - फोटो : अमर उजाला
डेराबस्सी के गांव कारकौर निवासी किसान की वीरवार को सड़क हादसे में मौत हो गई। मृतक की पहचान जीत सिंह (62) निवासी गांव कारकौर के रूप में हुई है। वह मां के अंतिम भोग का सामान लेने के लिए बाइक से गया था। रास्ते में चंडीगढ़-अंबाला हाईवे पर भूषण फैक्ट्री के पास एक कार ने मोटरसाइकिल में टक्कर मार दी। जिसमें किसान जीत सिंह की मौत हो गई। मृतक की मां का 26 जनवरी को गांव के गुरुद्वारा साहब में अंतिम भोग है।
मृतक के बेटे लखविंदर सिंह ने बताया कि उसकी दादी की मौत 16 जनवरी को बीमारी के कारण हो गई थी। जिनका शुक्रवार को अंतिम भोग गांव के गुरुद्वारा साहिब में रखा गया था। वीरवार सुबह उसके पिता भोग के लिए सब्जियां और अन्य सामान लेने मोटरसाइकिल से डेराबस्सी गए थे। सुबह करीब नौ बजे भूषण फैक्ट्री के मोड़ के पास एक आल्टो कार चालक ने उनकी बाइक में पीछे से टक्कर मार दी। हादसे में जीत सिंह मोटरसाइकिल सहित नीचे गिरकर गंभीर जख्मी हो गए। उन्हें डेराबस्सी सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने उन्हें मृत घोेषित कर दिया। हादसे के बाद चालक वाहन समेत मौके से फरार हो गया।

जांच अधिकारी एएसआई शाम चंद ने बताया कि मृतक के बेटे लखविंदर सिंह के बयान पर अज्ञात कार चालक के खिलाफ केस दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी गई है। आरंभिक जांच में सामने आया है कि कार आल्टो थी और चालक कार चलाना सीख रहा था, जो पास के गांव घोलूमाजरा का बताया जा रहा है। राहगीरों ने कार का नंबर नोट कर पुलिस को दे दिया है। इसके आधार पर चालक को जल्द तलाश लिया जाएगा। 

Spotlight

Most Read

National

शादी के उपहार में आई शुभकामना ने बनाया दुल्हन को विधवा

ओडिशा के बोलांगिर जिले के पटनागढ़ में शादी की खुशी में अचानक मातम पसर गया यहां रिसेप्शन समारोह में किसी ने गिफ्ट पैक में विस्फोटक भेज दिया।

24 फरवरी 2018

Related Videos

VIDEO: दो गुटों में चली सरेआम गोलियां, CCTV में कैद हुई वारदात

लुधियाना में दो गुटों के बीच सरेआम गोलीबारी का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो को पंजाब में होने वाले नगर निगम चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

21 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen