विज्ञापन

जाट और मुसलमानों को एकजुट होना होगा

ब्यूरो, अमर उजाला/शामली Updated Wed, 10 Jan 2018 11:40 PM IST
policital
policital - फोटो : अमर उजाला ब्यूरो
ख़बर सुनें
शामली। रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि अब तो ऐसे योगी और फकीर आ गए हैं, जिनसे लोगों को डर लगने लगा है। केंद्र और प्रदेश की सरकारें किसानों के साथ छलावा कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसानों की आय दोगुना करने की बात कहते हैं, लेकिन ऐसा कोई कार्य नहीं हो रहा है, जिससे आय दोगुना हो सके, बल्कि किसान कर्ज में डूब रहा है। उन्होंने कहा कि जाट और मुसलमानों को एकजुट होकर दिखाना होगा कि हम सब एक हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
बुधवार को गढ़ीपुख्ता में आयोजित कार्यक्रम में पूर्व सांसद अमीर आलम और उनके बेटे पूर्व विधायक नवाजिश आलम सपा छोड़कर रालोद में शामिल हो गए। इस मौके पर रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने कहा कि मुसलमान और किसान हमेशा एक रहा, लेकिन जाति और धर्म के नाम पर राजनीति करने वालों ने समाज में बिखराव पैदा किया। आज देशभर में ऐसा माहौल है कि किसान आत्महत्या कर रहा है। सत्ता में बैठे लोग इसे आम बात मानते हैं।

गोरखपुर में मासूम बच्चों की सरकार की कमी के कारण मौत हो जाती है। ऐसे वातावरण में आम आदमी की बात कोई समझने वाला नहीं है। ऐसे समय में एकजुटता की जरूरत है। क्रूरता से समाज को तोड़ने की साजिश रचने वालों के मंसूबे नाकाम करने की जरूरत है। राजस्थान के एक नेता विवादित बयान देता है। चुनाव आयोग को ऐसी व्यक्ति के चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगाना चाहिए और जेल भिजवाना चाहिए, क्योंकि जाति और धर्म के नाम पर चुनाव नहीं लड़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि जाट और मुसलमानों को एकजुट होकर दिखाना होगा कि हम सब एक हैं।

जयंत चौधरी ने कहा कि आरबीआई ने बताया कि 2017-18 में कृषि क्षेत्र में वृद्धि दर 1.9 प्रतिशत हुई, जबकि किसानों को फसल का वाजिब दाम नहीं मिल रहा है। ऐसे में किसानों की आय दोगुना करने की बात बेमानी ही है। बिजनौर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि हर जिले में पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के नाम पर किसान विकास कल्याण कोष बनाएंगे, लेकिन अब तक उस प्रस्ताव पर कोई कार्य नहीं हुआ।

प्रदेश में गन्ना खरीद केंद्रों पर घटतौली हो रही है। आलू किसान परेशान हैं, आलू सहित अन्य फसलों का वाजिब दाम नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने बताया कि आगामी 18 जनवरी को आगरा में आलू उत्पादक किसानों की समस्याओं को लेकर पंचायत होगी, जिसमें प्रदेश भर के किसान इकट्ठा होंगे।

 वहीं, शामली जिले में रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चौधरी के पहुंचने पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। जयंत चौधरी का स्वागत करने के लिए कार्यकर्ताओं की भीड़ उमड़ पड़ी। कैैराना रोड स्थित जेजे फार्म हाउस पर रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी के समक्ष कई मुस्लिमों ने रालोद की सदस्यता ग्रहण की। रालोद के जिलाध्यक्ष योगेंद्र चेयरमेन, रजनीश कोरी, विकास धीमान, डाक्टर मुबारक अली, योगेंद्र मलिक अरविंद, इकराम, अमजद अली, सन्नी पांचाल, दीपक धीमान, राजू धीमान, देेवानंद गौड़, आशुतोष पंवार, वैभव सैनी, वीरेंद्र सैनी, गौरव चौधरी, सुनील मलिक, सुभाष हाटवाल आदि रालोद कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया।

शहर के कैराना रोड पर स्थित जेजे फार्म हाउस में पूर्व विधायक राजेश्वर बसंल, अखिल बंसल, अशोक, राजीव आदि के नेतृत्व में रालोद उपाध्यक्ष जयंत चौधरी का स्वागत किया गया। मौके पर प्रवीण, लोकेश सैनी, मोनू, प्रवेंद्र, जाहिद रामसरन, अब्दुल हकीम, विकास आदि मौजूद रहे। रालोद की सदस्यता ग्रहण करने वालों में जाहिद, अरशद, शाहिद, यूनुस, रईस,साहिल, खालिद, फरमान, अकबर, वारिस, तौहिद, दिलनवाज, मुजम्मिल, अनीस, शफीक, आमिर, फरीद, अनीस, शमशान, साजिद,नफीस आदि शामिल है।

मुसलमान, किसान को एक किया जाएगा : आलम
पूर्व सांसद अमीर आलम खान ने कहा कि मैं विधायक और सांसद रालोद के सहयोग से ही बना। पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह ने जो व्यवस्था बनाई थी, उसे मजबूत किया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा को खत्म करना है और जाट-मुसलिम गठजोड़ की लहर पूरे प्रदेश में पहुंचानी होगी।

उसके लिए किसान और मुसलिम को एक रहना होगा। मैं अपने पुराने घर में लौट आया हूं। यह घर पहले की तरह मजबूत रहेगा। कुछ गलतियां मुझसे हुई होंगी, कुछ कमियां रही होंगी, लेकिन अब मैं जीवनभर रालोद में ही रहूंगा। अब जाट और मुसलिम जुड़ेगा, तो फिर यादव भी जुड़ेंगे। जल्दी ही अल्पसंख्यकों का सम्मेलन किया जाएगा, जिसमें एक लाख की भीड़ पहुंचेगी।

 इन लोगों ने भी रखे विचार
बागपत से आए पूर्व मंत्री नवाब कोकब हमीद के बेटे अहमद हमीद ने कहा कि किसान व मुसलमान एक गाड़ी के दो पहिये हैं, जो अलग-अलग नहीं रह सकते। किसान, दलित और मुसलमानों का हित रालोद में सुरक्षित है। हम सब साथ मिलकर ही भाजपा को हरा सकते हैं।

पूर्व विधायक राजेश्वर बंसल ने कहा कि शामली नगर पालिका के चुनाव में जाट और मुसलमानों ने एकजुट होकर मतदान किया, जिससे हमारी जीत हुई। अब इस गठजोड़ ने शुरुआत कर दी है, जिससे अब प्रदेश की राजनीति की दिशा बदलनी तय है। अध्यक्षता बाबा सूरजमल और संचालन अमीर आलम खान ने किया। जाट संरक्षण समिति के अध्यक्ष विपिन बालियान, ओमपाल सिंह प्रदेश उपाध्यक्ष किसान प्रकोष्ठ, पूर्व मंत्री धर्मबीर बालियान, राजपाल बालियान, पूर्व मंत्री योगराज सिंह, जिलाध्यक्ष योगेंद्र चेयरमैन, ऋषिराज राझड, पूर्व विधायक बलबीर सिंह, साहब सिंह, सोहनबीर सिंह, मुकेश सैनी, देशराज भनेडा, अभिषेक चौधरी, सरोज मलिक, अनवार चौधरी, वाजिद अली, मुजफ्फरनगर जिलाध्यक्ष अजित राठी, एडवोकेट चंद्रवीर सिंह, अनिल चौहान, विजय गिरि, फैजल प्रधान कच्ची गढी, अलीहसन चेयरमैन गढीपुख्ता, कासिफ प्रधान हसनपुर, सत्तार राणा प्रधान अम्बेहटा, नौशाद अहमद चेयरमैन झिंझाना, मुनव्वर जंग आदि मौजूद रहे।

दंगे का दर्द भी उठा
गढ़ीपुख्ता में आयोजित कार्यक्रम के दौरान 2013 के मुजफ्फरनगर सांप्रदायिक दंगे का दर्द भी उठा। गठवाला खाप के थांबेदार चौधरी श्याम सिंह ने कहा कि उस झगड़े की वजह से दोनों ही समाज के लोगों को भारी नुकसान हुआ, लेकिन अब हम सबको एक साथ रहना है और चौधरी चरण सिंह की विचारधारा को मजबूत करना है।
 

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Meerut

दर्दनाक हादसा: हाईवे पर पलटी पिकप गाड़ी, एक महिला की मौत, 20 लोग घायल

यूपी के शामली में दिल्ली हाईवे पर बिजलीघर के पास एक पिकप पलट गई। उसमें सवार एक महिला की मौत हो गई, जबकि करीब 20 लोग घायल हो गए।

13 दिसंबर 2018

विज्ञापन

अलीगढ़ में घरेलू कलह बना मौत की वजह, पति ने पत्नी को उतारा मौत के घाट

पति-पत्नी के बीच घरेलू कलह ने दोनों की जान ले ली। दरअसल, अलीगढ़ थाने के रहने वाले एक शख्स ने पहले तो अपनी पत्नी की हत्या कर दी फिर खुद फांसी लगाकर अपनी जान दे दी।

14 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree