विज्ञापन

दुष्कर्म पीड़िता का गर्भपात करने में कांग्रेस की जिलाध्यक्ष गिरफ्तार

pratpgarh Updated Sun, 02 Sep 2018 11:39 PM IST
कांग्रेस नेता का मेडिकल करवाती मुंबई पुलिस।
कांग्रेस नेता का मेडिकल करवाती मुंबई पुलिस। - फोटो : pratapgarh
विज्ञापन
ख़बर सुनें
दुष्कर्म की शिकार किशोरी का गर्भपात करने में महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष सरोज कश्यप धुरिया को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और उसे अपने साथ मुंबई ले गई। दुष्कर्म के आरोपी युवक ने पीड़ित किशोरी का महिला नेता द्वारा सवा माह पहले गर्भपात कराया था। आरोपी के हत्थे चढ़ने के बाद पुलिस ने कांग्रेस नेता के घर में दबिश देकर उसे दबोच लिया।
विज्ञापन
महाराष्ट्र के विरार जनपद के पालघर की रहने वाली एक किशोरी के साथ सब्जी विक्रेता पवन धुरिया पुत्र छोटेलाल धुरिया निवासी शाहबरी थाना सांगीपुर ने 6 माह पहले दुष्कर्म किया था। पालघर थाने के उपनिरीक्षक चंद्रकांत रामचंद्र पाटील ने बताया कि किशोरी को झांसा देकर पवन उसके साथ शारीरिक संबंध बनाता रहा। दो माह पहले किशोरी गर्भवती हो गई। चूंकि किशोरी भी प्रतापगढ़ की ही रहने वाली है। इसलिए आरोपी पवन सवा माह पहले परिवार के लोगों को बरगलाकर उसे अपने साथ यहां ले आया। वह उसे 363 कटरा रोड करनपुर में रहने वाली कांग्रेस नेता सरोज कश्यप धुरिया पत्नी रामकुमार धुरिया के पास ले आया। जहां सरोज धुरिया ने दुष्कर्म की शिकार किशोरी का गर्भपात कर दिया। यहां से लौटने के बाद किशोरी की तबीयत बिगड़ने पर परिजनों को इसकी जानकारी हुई। पीड़ित किशोरी के पिता ने पालघर थाने में आरोपी पवन के खिलाफ दुष्कर्म व गर्भपात कराने का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने आरोपी पवन को पालघर से ही कुछ दिन पहले गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी की निशानदेही पर पड़की गई कांग्रेस नेत्री
आरोपी पवन ने पुलिस को पूछताछ में दुष्कर्म की शिकार किशोरी का गर्भपात कराने के ठिकाने के बारे में बताया। रविवार को उपनिरीक्षक चंद्रकांत पाटिल ने महिला आरक्षी संग आरोपी पवन की निशानदेही पर सिविल लाइन पुलिस के सहयोग से कांग्रेस नेत्री सरोज कश्यप धुरिया के घर दबिश दी। पुलिस ने सरोज को दबोच लिया। इसके बाद दोनों का मेडिकल कराने के बाद कोर्ट में पेश कर अपने साथ मुंबई ले गई। नगर कोतवाल ने बताया कि सरोज कश्यप के खिलाफ महाराष्ट्र के पालघर थाने में दुष्कर्म की शिकार किशोरी का गर्भपात कराने का मुकदमा दर्ज है। मुंबई पुलिस उन्हें अपने साथ ले गई। मुख्य चिकित्सा अधिकारी अरविंद श्रीवास्तव ने बताया कि अवैध अस्पतालों को चिह्नित कराया जा रहा है। जल्द ही ऐसे संस्थानों के खिलाफ कार्रवाई होगी। कांग्रेस नेता के खिलाफ पहले ही अवैध अस्पताल चलाने का मुकदमा दर्ज कराया जा चुका है।
 
राजनीति की आड़ में गोरखधंधा
प्रतापगढ़। दुष्कर्म की शिकार किशोरी का गर्भपात करने की आरोपी सरोज कश्यप धुरिया नेता का लबादा ओढ़कर  गर्भपात करने का गोरखधंधा कर रही थी। वह कई सालों से कांग्रेस की राजनीति कर रही हैं। नगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कपिल द्विवेदी ने बताया कि मौजूदा समय में वह कांग्रेस महिला की जिलाध्यक्ष हैं। महिला कांग्रेस के पुनर्गठन पर विचार-विमर्श चल रहा है।

जब महिला आरक्षी बन गई मरीज
महाराष्ट्र के पालघर से आई पुलिस गर्भपात की आरोपी कांग्रेस नेत्री सरोज कश्यप धुरिया को पकडने में जोखिम नहीं उठाना चाहती थी। गुपचुप तरीके से पहले पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची। जहां अधिकारियों से बातचीत के बाद सिविल लाइन पुलिस चौकी से दो आरक्षियों को लेकर मुंबई पुलिस कांग्रेस नेत्री के घर पहुंची। जहां मुंबई पुलिस की महिला आरक्षी ने पहले मरीज बनकर कांग्रेस नेत्री के घर में प्रवेश किया। पुलिसकर्मियों ने महिला आरक्षी के इशारे के बाद प्रवेश किया। कांग्रेस नेत्री के घर के भीतर की वीडियोग्राफी भी की। मकान के भीतर चल रहे प्रसव केंद्र के हर कोने की वीडियो क्लिप तैयार की। इस दौरान आसपास के लोगों का जमघट लगा रहा।

जच्चा-बच्चा की मौत को लेकर भी हुआ था हंगामा
कांग्रेस नेता सरोज कश्यप धुरिया अपने घर पर गर्भवती महिलाओं का प्रसव कराती थी। एक साल पहले उसके मकान पर प्रसव के दौरान जच्चा-बच्चा की मौत हुई थी, जिसे लेकर खूब हंगामा हुआ था। बाद में कोतवाली में पीड़ित परिवार ने तहरीर भी दी थी। दो साल पहले प्रसूता की मौत के बाद भी लोगों ने हंगामा किया था। हालांकि ऊंचे रसूख के चलते जिला प्रशासन कार्रवाई का साहस नहीं कर सका। स्वास्थ्य विभाग भी बिना किसी पंजीकरण के मकान के भीतर गर्भवती महिलाओं का इलाज करने वाले केंद्र पर कार्रवाई करने से कतराता रहा। सियासी गलियारों में ऊंची पकड़ के चलते सरोज पर हाथ डालने से हर कोई कतराता था। यहां तक उसी रोड पर सीएमओ का आवास भी है। स्वास्थ्य विभाग ने नोटिस भी थमाया, मुकदमा भी लिखाया लेकिन बाद में सियासी प्रभाव के चलते आगे की कार्रवाई नहीं हो सकी।

गली-गली में गर्भपात, सीएमओ जानते हुए भी चुप
जिले में गली-गली अवैध अस्पताल संचालित हैं। जहां किशोरी, युवतियों का गर्भपात कराने के साथ ही गर्भवती महिलाओं का प्रसव कराया जाता है। इसके लिए पीड़िता से लंबी रकम वसूली जाती है। यहां तक कि अवैध अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों का नाम भी गलत लिखा जाता है। स्वास्थ्य सबकुछ जानते हुए भी मौन साधे रखता है।
शहर की गलियों व गांव के बाजारों में अवैध अस्पतालों का जाल फैला हुआ। बिना किसी डिग्री और संस्थान के रजिस्ट्रेशन के मरीजों की हर बीमारी का इलाज होता है। दलालों के जाल में फंसकर अवैध अस्पताल पहुंचने वाले मरीजों से अधिक रुपये की वसूली भी होती है। ऐसे संस्थान में किशोरी व युवती का गर्भपात कराने का ठेका लिया जाता है। अवैध अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं का प्रसव भी कराया जाता है। शहर के कटरा रोड करनपुर की रहने वाली कांग्रेस नेत्री सरोज कश्यप धुरिया के पास भी कोई डिग्री नहीं है, मगर उनके यहां प्रसव पीड़िता भर्ती होती हैं और उनका उपचार भी होता है। बताते हैं कि कभी किसी नर्सिंगहोम में दाई का काम करने वाली कांग्रेस नेत्री सरोज कश्यप धुरिया अब खुद को डाक्टर बताती हैं। यह तो मात्र एक उदाहरण भर मात्र है। ऐसे अस्पताल शहर के शिवजीपुरम, विवेकनगर, अचलपुर, जिला व महिला अस्पताल के सामने खुली पालीक्लीनिक से लेकर क्लीनिक तक में गर्भपात व प्रसव का खेल चल रहा है। जिले में अवैध अस्पतालों की जानकारी के ब बावजूद स्वास्थ्य महकमा चुप्पी साधे रहता है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी अरविंद श्रीवास्तव ने बताया कि अवैध अस्पतालों को चिह्नित कराया जा रहा है। जल्द ही ऐसे संस्थानों के खिलाफ कार्रवाई होगी। कांग्रेस नेत्री के खिलाफ पहले अवैध अस्पताल चलाने का मुकदमा दर्ज कराया जा चुका है।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Pratapgarh

जमीन विवाद में दबंगों ने पीटकर छह को किया लहूलुहान

जमीन विवाद में दबंगों ने लाठी-डंडे व कुल्हाड़ी से हमलाकर छह लोगों को लहूलुहान कर दिया। धमकाने पर नाराज हुए ग्रामीणों ने चार हमलावरों को बंधक बना लिया और बाइक तोड़कर क्षतिग्रस्त कर दी।

14 नवंबर 2018

विज्ञापन

Related Videos

VIDEO: ग्रामीणों की शिकायत पर CM योगी ने मंच पर ही लगाई अफसरों को फटकार

लोगों की समस्याएं और सरकार की योजनाओं की जमीनी हकीकत जानने के लिए सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रतापगढ़ पहुंचे। यहां सीएम ने लोगों की शिकायत पर अफसरों को जमकर फटकार लगाई।

24 अप्रैल 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree