बाइक चोरी के शक पर तीन दिन से हिरासत में है युवक

लखीमपुर खीरी Updated Sun, 05 Apr 2015 07:25 PM IST
ख़बर सुनें
मोहल्ला घोसियाना निवासी एक युवक को कोतवाली पुलिस ने तीन दिनों से हिरासत में ले रखा है, लेकिन अभी तक उसका जुर्म साबित नहीं हो सका है। परिवार वालों ने पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप लगाया और बाइक चोरी की घटना में उसके शामिल होने से इंकार किया है।
बता दें कि शहर में करीब एक सप्ताह पहले बाइक चोरी हुई थी, जिसमें सीसीटीवी की फुटेज के सहारे पुलिस आटो लिफ्टर तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। घोसियाना निवासी ताहिर टैंपो चलाकर जीवन यापन करता है, जिसे शुक्रवार को पुलिस ने महेवागंज क्षेत्र से पकड़ा लिया था। इसके बाद तीन दिन बीत गए, लेकिन पुलिस की पूछताछ पूरी नहीं हो सकी है। इधर, परिवार वालोें को जब इसकी जानकारी हुई, तब से वह कोतवाली के चक्कर लगा रहे हैं। ताहिर की मां जैमुननिशा, बहन पिंकी और भाई मोहम्मद अली सहित तमाम लोग रविवार को कोतवाली पहुंचे, जहां पुलिस ने बाइक चोरी के सिलसिले में पूछताछ करने की बात कही। ताहिर के र्भाई अली ने बताया हैै कि बाइक चोरी की क्लिप में दिखने वाले युवक और उसके भाई में काफी अंतर है, फिर भी पुलिस उसे भूखा-प्यासा रहकर प्रताड़ित कर रही है। एसएसआई एसएन यादव ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज से हुलिया मिलने के कारण ताहिर को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है, जिसे पूछताछ कर छोड़ दिया जाएगा। एसएसआई ने युवक को शुक्रवार से हिरासत में लिए जाने से इंकार किया है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

Spotlight

Most Read

Rajasthan

राजस्थानः फोन पर बात कर रही थी मंगेतर, नागवार लगा और उतार दिया मौत के घाट

राजस्थान के डूगरपुर जिले में एक युवक ने अपने मंगेतर पर किसी अन्य युवक से फोन पर बात करने का आरोप लगाते हुए पीट-पीटकर मार डाला। इस दौरान बीछीवाड़ा पुलिस ने युवक को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। 

20 मई 2018

Related Videos

VIDEO: जब किसानों के लिए मंडी पहुंची गुलाब देवी, दिए ये आदेश

लखीमपुर खीरी के दौरे पर आईं राज्य मंत्री गुलाब देवी ने मंडी समिति और जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। मंडी समिति के निरीक्षण के दौरान उन्हें क्रय केन्द्र पर गेहूं खरीद बंद मिली, किसान भी नजर नहीं आए।

17 मई 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen