नया तथ्य आएगा तो फंसेंगे अफसर!

Hathras Updated Sun, 06 May 2012 12:00 PM IST
हाथरस। मेला श्रीदाऊजी महाराज में पूर्व ऊर्जा मंत्री रामवीर उपाध्याय के विधायक निधि के पैसों से 2007 से 2011 के बीच कराए गए काम फिर से जांच के घेरे में हैं। मगर सवाल यह है कि विधायक निधि से जुड़ी जिन शिकायतों की जांच में जिला प्रशासन पूर्व मंत्री को पहले ही क्लीन चिट दे चुका है तो वह उन्हीं शिकायतों की जांच को दुबारा कैसे बदल पाएगा। खुद अफसर भी यही सोचकर परेशान हैं और फिलहाल शासन से जांच के आदेश मिलने का इंतजार कर रहे हैं। गौरतलब है कि विधायक निधि से मेला श्रीदाऊजी महाराज परिसर में हुए कामों के बारे में यही शिकायतें अश्विनी शर्मा से पहले सपा के सादाबाद विधायक देवेंद्र अग्रवाल भी कर चुके हैं। उस समय भी लोकायुक्त ने सीडीओ से जांच रिपोर्ट मांगी थी। सीडीओ ने जांच के बाद जो रिपोर्ट शासन को भेजी थी, उसमें विधायक निधि के कामों को शत-प्रतिशत सही बताया गया था। मगर अब फिर उन्हीं शिकायतों की दुबारा जांच सीडीओ से ही कराने का आदेश देकर लोकायुक्त ने विकास विभाग के अफसरों को मुश्किल में फंसा दिया है। अफसर यही सोचकर परेशान हैं कि जिन शिकायतों पर वह अपनी जांच रिपोर्ट पहले ही भेज चुके हैं, उन शिकायतों की दुबारा जांच से वह क्या हासिल कर पाएंगे। अगर पूर्व मंत्री की विधायक निधि से हुए कामों में कोई गड़बड़ी या नया तथ्य सामने आता है तो उसे अपनी रिपोर्ट में कैसे दिखाएंगे। इससे तो उनकी गर्दन ही फंस जाएगी और शासन को उनके खिलाफ कार्रवाई का मौका मिल जाएगा। लोकायुक्त की सिफारिशों को लेकर विकास भवन में शनिवार को मंथन और सलाह-मशविरे का दौर चलता रहा।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: बच्चों के झगड़े में बड़ों ने यहां निकाली लाठियां

हाथरस में दो पक्षों के बीच जमकर लाठियां चलीं। दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर खूब लाठियां भांजी । जिसके हाथ में जो आया उससे एक दूसरे को खूब पीटा। बच्चों को लेकर ये झगड़ा हुआ।

19 जनवरी 2018