बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

फसल की बर्बादी के साथ किसानों को झेलनी पड़ रही मुसीबत

ब्यूरो, अमर उजाला/हमीरपुर Updated Fri, 03 Apr 2015 12:21 AM IST
विज्ञापन
Trouble is facing farmers with crop failure

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
असमय हुई वर्षा से बर्बाद फसलों ने जहां किसानों को  झकझोर कर रख दिया है। वहीं शेष बचीं फसल की कटाई में किसानों के पसीने छूट रहे है।
विज्ञापन


प्रति बीघा गेहूं की कटाई पर एक क्विंटल कटाई देनी पड़ रही है। गांव के किसान रामऔतार, राजाराम, सुरेश का कहना है कि एक तो प्रकृति ने पहले ही उनकी फसलों को बर्बाद कर दिया है। बची खुचीं फसलों को कटाई कराने में मनमानी मजदूरी देनी पड़ रही है।


टीम बनाकर गेहूं की कटाई के काम में लगे मजदूर बाबूलाल का कहना है कि बीते दिनों हुई बारिश व तेज आंधी से फसलें बुरी तरह बर्बाद हो गई है।

फसलों के खेतों में फैल जाने से इन्हें समेटने में खासी दिक्कत हो रही है।  ऐसे में 8 लोगों के बीच एक बीघे की फसल काटने में पूरा दिन लग जाता है।

अब अगर दिन भर में ठीक-ठाक दिहाड़ी न मिले तो क्यों सारा दिन धूप में बैठकर काम करें। पौथिया गांव की संतोष कुमारी ने बताया कि 4 बीघे में धनिया बोई थी। जिसमें सिर्फ 9 किलो ही पैदावार हुई। जिसमें 5 किलो कटाई मजदूरों को दे दी। बची 4 किलो धनिया से जुताई, बुआई व बीज का खर्च तक नहीं निकला है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us