बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन

बिजनौर

विज्ञापन
कालाष्टमी प्राचीन कालभैरव मंदिर दिल्ली में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात, अभी बुक करें
Myjyotish

कालाष्टमी प्राचीन कालभैरव मंदिर दिल्ली में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात, अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बिजनौर में दिनदहाड़े बड़ी वारदात: शिक्षिका को उतारा मौत के घाट, सिर के पीछे सटाकर मारी गोली

बिजनौर शहर की साकेत कॉलोनी में जहां एक ओर लोग बाजार व ऑफिस जाने की तैयारी कर रहे थे, वहीं दो बाइक सवार बदमाशों ने एक 32 वर्षीय शिक्षिका की हत्या कर दी। घटना के बाद कॉलोनी में दहशत फैल गई। वहीं जानकारी मिलने पर एसपी डॉ. धर्मवीर सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे।

बताया गया कि शुक्रवार को सुबह करीब दस बजे एक 32 वर्षीय महिला साकेत कॉलोनी से पैदल गुजर रही थी। इस दौरान दो बाइक सवार बदमाशों ने शिक्षिका को गोली मार दी। घायल महिला को अस्पताल ले जाया गया, वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि बदमाशों ने सिर के पीछे सटाकर गोली चलाई थी। घटना से कॉलोनी में दहशत फैल गई है। 

बताया गया कि प्रिया दत्त शर्मा पत्नी कमल शर्मा आरबीडी कॉलेज में शिक्षिका बताई जा रही है। परिजनों का कहना है कि उसका अपने पति से ही विवाद चल रहा था और पहले भी वह हमला करने का प्रयास कर चुका था। परिजनों ने शिक्षिका के पति पर ही हत्या का आरोप लगाया है। वहीं विवाद के चलते शिक्षिका अपने मायके में परिवार के साथ साकेत कॉलोनी रह रही थी।

यह भी पढ़ें: 
पति का मर्डर: करवाचौथ के दिन उजाड़ा अपना घर, कत्ल के जुर्म में पत्नी गई जेल, खौफनाक है पूरी वारदात

इसके बाद एसपी डॉ. धर्मवीर सिंह पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि मृतक महिला की शिनाख्त प्रिया शर्मा पुत्री गणेश निवासी बडावली मुरादाबाद के रूप में हुई। वह बिजनौर की वीआईपी कॉलोनी की रहने वाली हैं। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज, मौके पर पड़े मोबाइल फोन और स्थानीय लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है। एसपी डॉ. धर्मवीर सिंह का कहना है कि टीमें लगाई गई हैं। हत्यारों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: मेरठ : दो लाख रुपये की रिश्वत लेता विद्युत निगम का अधीक्षण अभियंता गिरफ्तार, निलंबित, विभागीय जांच के आदेश
... और पढ़ें

रिश्तों का कत्ल: अपनों के खून से रंग रहे हाथ, फिर हुई खौफनाक वारदात, मां पर लोहे की रॉड से हमला, देखें तस्वीरें

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जनपद में एक युवक ने खौफनाक वारदात को अंजाम दिया है। शराब के लिए रुपये नहीं देने पर युवक ने अपनी मां और बहन पर रॉड से हमला किया। हमले में मां की मौत हो गई, जबकि बहन गंभीर रूप से घायल हो गई है। वहीं पुलिस ने आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया है।

बताया गया कि नजीबाबाद के मोहल्ला जाब्तागंज में एक नशेड़ी युवक शुभम (25 वर्ष) ने इस वारदात को अंजाम दिया है। मृतका सविता मोहल्ला के रामपाल यादव की पत्नी थी। घटना के वक्त वह अपनी बेटी चंचल (22 वर्ष) के साथ सो रही थी। इस दौरान शुभम ने लोहे की रॉड से अपनी मां पर हमला कर दिया। बहन ने मां को बचाने की कोशिश की तो उसे भी पीटकर लहुलूहान कर दिया। परिजनों ने चंचल को अस्पताल में भर्ती कराया और पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी शराब के लिए रुपये मांग रहा था और रुपये नहीं देने पर वारदात की। सीओ गजेंद्र पाल सिंह ने बताया कि परिजनों ने पुलिस को आरोपी शुभम के नशेड़ी प्रवृत्ति का होने की जानकारी दी।
... और पढ़ें

नेशनल खिलाड़ी हत्याकांड: बिजनौर पहुंची एसआईटी की टीम, हत्यारोपी से की पूछताछ, जल्द खुलेगा असली राज

बिजनौर में खो-खो की नेशनल खिलाड़ी हत्याकांड की जांच कर रही एसआईटी की टीम गुरुवार को बिजनौर पहुंची। एसआईटी ने जेल में बंद हत्यारोपी से पूछताछ की। वहीं मृतका के परिवार वालों और सहेलियों से भी पूछताछ की गई। 

स्पेशल जांच टीम में शामिल स्वार रामपुर के सीओ धर्म सिंह ने बिजनौर जेल में बंद हत्यारोपी खादिम से काफी देर तक पूछताछ की। उन्होंने हत्या की वजह से लेकर अन्य तमाम पहलुओं पर सवाल किए। इसके बाद मृतका के परिवार वालों से बातचीत की। सहेलियों से पूछताछ की गई। 

दस सितंबर को रेलवे स्टेशन के यार्ड में खो-खो की नेशनल खिलाड़ी की दिनदहाड़े हत्या कर दी गई थी। दुष्कर्म में विफल रहने पर आरोपी ने खिलाड़ी को मौत के घाट उतार दिया था। पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए हत्यारोपी आदोपुर के रहने वाले शहजाद उर्फ खादिम को जेल भेज दिया था। 

यह भी पढ़ें: 
पति-पत्नी की मौत: घर से एक साथ उठीं अर्थी तो हर किसी की आंखें हुईं नम, बेटे ने एक ही चिता पर दी मुखाग्नि, तस्वीरें

उधर, परिवार वाले इस खुलासे संतुष्ट नहीं थे। परिजन सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे। अब सीएम योगी बिजनौर आए तो उन्होंने जांच का भरोसा दिलाया था। जिसके चलते डीआईजी शलभ माथुर ने 21 सितंबर को ही एसपी ट्रैफिक मुरादाबाद अशोक कुमार के नेतृत्व में पांच सदस्यीय स्पेशल जांच टीम का गठन किया। गुरुवार को एसआईटी हत्यारोपी और अन्य लोगों से पूछताछ कर लौट गई।

यह भी पढ़ें: बड़ी कार्रवाई: कबाड़ी हाजी गल्ला की पांच करोड़ की संपत्ति जब्त, मुनादी के बाद अफसरों ने लगाई मकान-गोदाम पर सील
... और पढ़ें

बिजनौर: साहब! मुंह में कपड़ा ठूंस कर पीटता है पति, विवाहिता ने सुनाई दर्द भरी दास्तां, अफसर हैरान

साहब, मारपीट करने से पहले मेरा पति मुंह में कपड़ा ठूंस देता है, जिससे मारपीट का किसी को पता भी नहीं चल सके। यह व्यथा प्रभारी निरीक्षक को सुनाते हुए विवाहिता ने अपना दर्द बयां किया। पीड़िता ने पति के खिलाफ पुलिस को तहरीर सौंपी है। 

बिजनौर में गुरुवार को शहर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली विवाहिता ने पुलिस को तहरीर सौंपी, जिसमें कहा गया कि दो साल पहले उसकी शादी गांव झलरा निवासी एक युवक से हुई थी। शादी के बाद से ही ससुराल वाले लगातार दहेज की मांग कर रहे हैं। पति ड्रग्स के नशे में आए दिन मारपीट करता है। कई बार मुंह में कपड़ा ठूंस कर उसके साथ मारपीट और कुकर्म किया। 

यह भी पढ़ें: 
भीषण आग से मचा हाहाकार : दुकान के भीतर जलती रहीं तीन जिंदगी, गूंजती रही बेबस परिजनों की चीत्कार

विवाहिता ने बताया कि एक जुलाई को मारपीट करने के बाद मोटरसाइकिल पर बैठाकर उसके गांव के बाहर फेंक आया। अगस्त के महीने में उसके प्रसव का समय नजदीक आया तो पति और अन्य ससुराल वाले घर आए। जिन्होंने गाली-गलौज करते हुए लाठी-डंडों से मारपीट की। पीड़िता ने पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

यह भी पढ़ें: खौफनाक मंजर: भरभराकर गिरा दो मंजिला मकान, इलाके में मची चीख-पुकार, देखिए हादसे की तस्वीरें
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

बड़ी सजा: सामूहिक दुष्कर्म के बाद किशोरी की हत्या करने वाले तीन आरोपियों को आजीवन कारावास

बिजनौर में अपर सत्र न्यायधीश (पोक्सो कोर्ट) कंचन सागर ने एक किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या करने के मामले में तीन आरोपियों को आजीवन कारावास व 50-50 हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई है। तीनों आरोपी आजीवन कारावास के तहत आखिरी सांस तक जेल में ही रहेंगे। वहीं अर्थदंड की राशि में से 50 हजार रुपये मृतका की माता को देने के भी आदेश दिए हैं।

विशेष लोक अभियोजक योगेंद्र सिंह के अनुसार थाना नांगल के एक गांव निवासी व्यक्ति ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि उसकी भतीजी 28 नवंबर 2015 को सुबह करीब दस बजे गन्ना छीलने के लिए घर से अपने पिता के पास गई थी। जब वह खेत पर नहीं पहुंची तो उसके पिता व अन्य परिजनों ने उसकी तलाश की। तलाश करते हुए वे लोग नरपाल के खेत पर करीब साढ़े चार बजे पहुंचे। वहां उन्हें उसकी भतीजी का शव मिला। उसके गले में दुपट्टे से फांसी लगी हुई थी। उसकी क्रूरतापूर्वक हत्या की गई थी। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी में ताबड़तोड़ हत्याएं: मंत्री और अफसरों के दावों की खुल रही पोल, हाईवे पर हो रहे दिनदहाड़े कत्ल, सबूत हैं ये तस्वीरें

वहीं पुलिस विवेचना में यह बात सामने आई कि सामूहिक दुष्कर्म के बाद भेद खुलने के डर से किशोरी की हत्या की गई थी। किशोरी की उम्र करीब साढ़े 15 साल थी। पुलिस ने सामूहिक दुष्कर्म व हत्या का खुलासा करते हुए थाना नांगल के गांव लालपुर मान निवासी सोनू उर्फ मोटा, अमरजीत व सचिन के खिलाफ चार्जशीट न्यायालय में दाखिल की थी।

यह भी पढ़ें: मर्डर की तस्वीरें: सराफ को दिनदहाड़े चाकू से गोदकर मार डाला, सामने आई अनैतिक संबंध की बात, खौफनाक है वारदात

कोर्ट ने इस मामले में तीनों आरोपियों को किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म और उसकी हत्या का दोषी पाया है। अदालत ने उन्हें आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि उनका आजीवन कारावास समस्त जीवन काल के लिए कारावास होगा। 
... और पढ़ें

प्रिया मर्डर केस: आखिर दबोचा गया आरोपी पति, पूछताछ में उगला पत्नी की हत्या का राज

बिजनौर में प्रवक्ता डॉ. प्रिया शर्मा की हत्या में पुलिस ने हत्यारोपी पति को दबोच लिया है। जिससे पूछताछ की जा रही है। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि किसी और से प्रेम होने के शक में पत्नी की हत्या सुपारी देकर करवा दी थी। पुलिस हत्याकांड में अब तक दो शूटरों सहित पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है।

बुधवार को शहर कोतवाली पुलिस ने जजी चौराहे के पास से मृतका प्रिया शर्मा के पति कमल शर्मा को गिरफ्तार कर लिया। कमल शर्मा निवासी मुरादाबाद पर 25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया गया था। हत्याकांड में पुलिस ने 16 नवंबर को विक्रांत पुत्र राजवीर निवासी गांव खलीलपुर अमरु छजलैट, अंकुर उर्फ बिट्टू पुत्र जोगराज निवासी महलकपुर, कपिल उर्फ छोटू पुत्र तेजपाल सिंह महलकपुर मुरादाबाद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। अंकुर और कपिल भी 25-25 हजार रुपये के इनामी थे। 

बताया गया कि दो नवंबर को भी शूटर राजू कश्यप पुत्र चंद्रपाल निवासी खदाना मुरादाबाद को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया था। इस मामले में गोपाल शर्मा, गोलू शूटर, वर्षा सास, ननद डोली की गिरफ्तारी होना बाकी है।

यह भी पढ़ें: 
भीषण आग से मचा हाहाकार : दुकान के भीतर जलती रहीं तीन जिंदगी, गूंजती रही बेबस परिजनों की चीत्कार
... और पढ़ें

कातिल भाई: सच जानकर अफसर भी हैरान, शर्म से झुके परिजनों के सिर, आरोपी ने उगला कत्ल का पूरा राज

मेरठ में रेड कारपेट बैंक्वेट हॉल में दूल्हे की भांजी की हत्या का बुधवार को सनसनीखेज खुलासा हुआ। हत्यारोपी कोई और नहीं बल्कि पिलखुआ निवासी मौसेरा भाई विशाल गुप्ता निकला। युवती के साथ उसी ने दुष्कर्म करने का प्रयास किया था और विरोध करने पर गला घोंटकर हत्या कर दी थी। भावनपुर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर क्राइम सीन भी दोहराया। घटनास्थल पर सिपाही रवि बालियान भी मौजूद था, जिसकी जांच करने का पुलिस दावा कर रही है। 

सोमवार रात बैंक्वेट हॉल में दूल्हे की भांजी की हत्या हो गई थी। परिवार ने सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या होने का आरोप लगाया था। एसएसपी प्रभाकर चौधरी व एसपी देहात केशव कुमार ने पुलिस लाइन में बताया कि विशाल गुप्ता ने शादी समारोह में युवती को कमरे में बुलाकर दुष्कर्म का प्रयास किया था, विरोध करने पर उसकी हत्या कर दी। वारदात के बाद आरोपी मंडप से बाहर आ गया और करीब दो घंटे बाद वापस शादी समारोह में पहुंचा। युवती का पता न लगने पर विशाल और युवती के भाई के बीच कहासुनी भी हुई थी। विशाल ने परिवार के साथ मिलकर युवती को ढूंढने का नाटक भी किया था।
... और पढ़ें

हनीट्रैप: फेसबुक-व्हाट्सएप के जरिये जाल में फंसा रहीं हसीनाएं, वीडियो कॉलिंग कर बनाई जा रहीं अश्लील वीडियो

आरोपी गिरफ्तार।
साइबर अपराध को लेकर लोग सजग होने लगे तो अब हनीट्रैप का ट्रेंड जोर पकड़ रहा है। फेसबुक और व्हाट्सएप के जरिये हसीनाएं शिकार फंसा रही हैं प्रत्यक्ष रूप से भी नजदीकियां बढ़ाकर ब्लैकमेल किया जा रहा है। मधुर बातों में फंसाकर कथित हसीनाएं खूब ठगने का काम कर रही है। जिले में कई मामले ऐसे आ चुके हैं, जिनमें लोग पुलिस से भी शिकायत करने नहीं पहुंचते। ब्लैकमेलिंग के धंधे में जुड़ी युवतियां लोगों को दूसरे तरीके से भी फंसा रही हैं। नजदीकियां बढ़ाकर दोस्ती की जाती है और फिर वीडियो बना ली जाती है। वायरल करने या दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराने की धमकी देकर रुपये ऐंठ लिया जाता है। 

केस नंबर - एक
जिले के एक नामी खिलाड़ी को एक युवती से दोस्ती करना महंगा पड़ा। कुछ दिनों दोस्ती के बाद युवती ने हंगामा खड़ा कर दिया। सूत्रों की मानें तो खिलाड़ी को फजीहत से बचने की एवज में 20 लाख रुपये से ज्यादा देने पड़े थे। उक्त युवती ने रकम लेने के बाद समझौता किया। 

केस नंबर - दो
नूरपुर रोड पर एक रेस्टोरेंट-होटल मालिक की एक युवती ने अपने साथ अश्लील वीडियो बना ली थी। जिसे वायरल करने और मुकदमा दर्ज कराने की धमकी दी गई। बाद में उस व्यक्ति को औने पौने दाम में अपना होटल बेचकर यहां से भागना पड़ा। तब कहीं जाकर उसका पीछा छूटा। 

केस नंबर - तीन
चांदपुर चुंगी के पास भी एक दुकानदार से एक युवती ने नजदीकियां बढ़ाकर वीडियो बना ली थी। बाद में युवती ने दस लाख रुपये उक्त दुकानदार से वसूले थे। उक्त युवती एक गिरोह से जुड़ी हुई थी। जोकि लोगों को लड़कियों के माध्यम से फंसाकर समझौता कराने और रुपये ऐंठने का काम करता है। 

केस नंबर - चार
जिले के एक थाने में तैनात रहे दरोगा को भी आशिक मिजाजी भारी पड़ी थी। हाईवे की एक चौकी पर तैनाती के दौरान एक युवती ने उनसे नजदीकियां बढ़ा ली थीं। बाद में युवती ने मामला खोल दिया। काफी जद्दोजहद के बाद उक्त दरोगा ने बिना किसी को बताए साढ़े तीन लाख रुपये देकर पीछा छूूटाया था। 

यह भी पढ़ें: 
मर्डर की तस्वीरें: सराफ को दिनदहाड़े चाकू से गोदकर मार डाला, सामने आई अनैतिक संबंध की बात, खौफनाक है वारदात
... और पढ़ें

यूपी: फेसबुक पर दोस्ती, फिर युवती को बहला फुसलाकर ले गए युवक, पुलिस ने ढूंढ निकाला और दो आरोपी गिरफ्तार

बिजनौर जनपद के स्योहारा में फेसबुक पर 11वीं की छात्रा से दोस्ती कर दूसरे वर्ग का एक युवक बहला फुसलाकर ले गया। पुलिस ने छात्रा को तलाश कर दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। मामले में हिंदू-संगठनों ने भी थाने पहुंचकर रोष जताया और कड़ी कार्रवाई की मांग की।

शनिवार दोपहर हिंदू जागरण मंच के प्रांतीय महामंत्री जितेंद्र बैस के नेतृत्व में मंच के कार्यकर्ताओं ने किशोरी को तलाश कराने के लिए थानाध्यक्ष से मुलाकात की। बताया कि बुधवार की रात किशोरी अचानक घर से लापता हो गई। आरोप है कि शुक्रवार रात को घर के मोबाइल फोन पर कॉल आई, जिसमें युवती को गांव गैंडाजूड़ निवासी समीर अहमद के पास होना बताया गया। कॉल करने वाले ने पचास हजार रुपये देकर पीर का बाजार से युवती को ले जाने की बात कही। परिजनों ने मामले की जानकारी हिजामं नेता जितेंद्र बैस को दी। जानकारी के बाद पुलिस ने बाजार से किशोरी को बरामद कर आरोपी समीर अहमद और उसके साथी प्रिंस कुमार को गिरफ्तार कर लिया। 

यह भी पढ़ें: 
मर्डर की तस्वीरें: सराफ को दिनदहाड़े चाकू से गोदकर मार डाला, सामने आई अनैतिक संबंध की बात, खौफनाक है वारदात

युवती ने बताया कि बुधवार की रात में आरोपी उसे आगरा ले गये थे। जहां पहुंचकर मालूम हुआ कि समीर की यहां पहले से ही एक प्रेमिका है। जिसके साथ लव इन रिलेशनशिप में रहता है। युवती ने बताया कि समीर इस बात को लेकर भी नाराज था कि वह घर से खाली हाथ आई। तब उसे गलती का अहसास हुआ और समीर से घर वापस जाने की जिद की। 

यह भी पढ़ें: भयावह हादसे की दर्दनाक तस्वीरें: पलभर में चकनाचूर हुआ दरोगा बनने का सपना, एक झटके में चार की मौत, उजड़ गया परिवार

शुक्रवार की शाम को वे स्योहारा आ गये। जहां समीर अपने मित्र प्रिंस के माध्यम से युवती को वापस करने के बदले रकम वसूल करना चाहता था। पुलिस का कहना है कि युवती को मेडिकल जांच के लिए भेजा रहा है। आरोपी के विरुद्ध कार्यवाही की जा रही है। 
... और पढ़ें

बिजनौर में मुठभेड़: दबोचे गए दो शातिर बदमाश, जीजा-साले ने पूछताछ में उगला बड़ा राज

बिजनौर जनपद के अफजलगढ़ में पुलिस ने गांव रसूलपुर स्थित पथरी नदी के पुल के समीप मुठभेड़ के दौरान दो बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का दावा है कि बदमाश लूट के इरादे से खड़े थे। पुलिस ने बदमाशों के पास से दो तमंचे और एक बाइक बरामद की है। 

पुलिस के मुताबिक सोमवार की रात करीब 10 बजे पुलिस को सूचना मिली कि पथरी नदी के पुल के समीप कुछ बदमाश लूट के इरादे से खड़े हैं। सूचना पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। पुलिस को देखकर बदमाशों ने भागने का प्रयास किया। जब पुलिस ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो उन्होंने पुलिस पर फायर झोंक दिया। पुलिस टीम ने मुठभेड़ के बाद दोनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। 

यह भी पढ़ें: 
वीभत्स हादसा: रिटायर्ड फौजी-पत्नी व बेटे की मौत, हाईवे पर 50 मीटर तक घिसटते गए तीनों लोग, देखिए तस्वीरें

वहीं पूछताछ में उन्होंने अपने नाम छोटे उर्फ फारूख पुत्र यासमीन कुरैशी निवासी रसूलाबाद, स्थायी पता कुरैशियान बड़ी मस्जिद के पास कस्बा फरीदनगर भोजपुर जिला गाजियाबाद और दूसरे ने अपना नाम राजा उर्फ नवाब पुत्र फारूख कलेंदर निवासी रसूलाबाद अफजलगढ़ बताया। पुलिस ने छोटे के पास से 315 बोर का तमंचा व कारतूस और राजा के पास से 212 बोर का तमंचा व कारतूस, अपाचे बाइक बरामद की है। 

यह भी पढ़ें: मर्डर की तस्वीरें: सराफ को दिनदहाड़े चाकू से गोदकर मार डाला, सामने आई अनैतिक संबंध की बात, खौफनाक है वारदात

आरोपियों ने पूछताछ में चार नवंबर को जसपुर ऊधमसिंहनगर की पंजाबी कॉलोनी से एक महिला से सोने की चेन लूटने की बात स्वीकार की है। छोटू पर विजयनगर गाजियाबाद में लूट, हत्या के तीन मुकदमे और मुरादनगर में चोरी का एक मुकदमा दर्ज है। राजा के विरुद्ध अफजलगढ़ व जसपुर में तीन मुकदमे दर्ज हैं। छोटू और राजा आपस में जीजा साले हैं।
... और पढ़ें

नेशनल खिलाड़ी हत्याकांड: मुख्य गवाह का इंतजार करती रही टीम, नहीं दर्ज हुए बयान, खौफनाक थी वारदात

बिजनौर जिले में खो-खो की नेशनल खिलाड़ी हत्याकांड में मुख्य गवाह के बयान होना बाकी रह गया है। जिसके बयान दर्ज करने के लिए शुक्रवार को एसआईटी की टीम इंतजार करती रही। अब तक 60 लोगों से एसआईटी पूछताछ कर चुकी है। 

शुक्रवार को भी स्पेशल जांच टीम में शामिल स्वार रामपुर के सीओ धर्म सिंह बिजनौर में डेरा डाले रहे। लगातार दो दिनों से जांच के सिलसिले में टीम के साथ रुके हुए हैं। जांच टीम में शामिल सीओ धर्म सिंह ने बताया कि केस में मुख्य गवाह के बयान होना बाकी रह गया है। वारदात के वक्त खिलाड़ी फोन पर अपने पड़ोसी से बात कर रही थी। उक्त कॉल की रिकॉर्डिंग से अहम सबूत मिले थे, जिसके बारे में ही मुख्य गवाह के बयान लिए जाने हैं। अब तक 60 लोगों से एसआईटी पूछताछ कर चुकी है। 

यह भी पढ़ें: 
सामने आया बड़ा खेल: अफसरों ने खूब भरी जेब, पोल खुली तो अधिकारियों में मचा हड़कंप, देखिए तस्वीरें

बता दें कि 10 सितंबर को रेलवे स्टेशन के यार्ड में खो-खो की नेशनल खिलाड़ी की दिनदहाड़े हत्या कर दी गई थी। दुष्कर्म में विफल रहने पर आरोपी ने खिलाड़ी को मौत के घाट उतार दिया था। पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए हत्यारोपी आदोपुर के रहने वाले शहजाद उर्फ खादिम को जेल भेज दिया था। उधर, परिवार वाले इस खुलासे से संतुष्ट नहीं थे, सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे। सीएम योगी बिजनौर आए थे तो उन्होंने जांच का भरोसा दिलाया था, जिसके चलते डीआईजी शलभ माथुर ने 21 सितंबर को ही एसपी ट्रैफिक मुरादाबाद अशोक कुमार के नेतृत्व में पांच सदस्यीय स्पेशल जांच टीम का गठन किया था। पुलिस सूत्रों की मानें तो जेल गए आरोपी के खिलाफ एसआईटी को भी मजबूत सबूत मिले हैं।

यह भी पढ़ें: मर्डर की तस्वीरें: सराफ को दिनदहाड़े चाकू से गोदकर मार डाला, सामने आई अनैतिक संबंध की बात, खौफनाक है वारदात

कुछ भी बताने को तैयार नहीं खादिम
सूत्रों की मानें तो पिछले दिनों एसआईटी की टीम ने जेल में जाकर हत्यारोपी खादिम से पूछताछ की थी। उससे नाम पूछा गया तो खामोश रहा। इसके अलावा कई सवाल पूछे गए, जिनका हत्यारोपी ने कोई जवाब नहीं दिया था।
... और पढ़ें

दर्दभरी दास्तां: साजिद से समीर बनकर फंसाया, फिर जम्मू से लेकर फरार, धर्मपरिवर्तन के बाद 14 महीने बंधक बनाया और...

बिजनौर जिले के एक युवक साजिद ने समीर नाम रखकर जम्मू के जिला रियासी की एक युवती से दोस्ती की और उसे बहला फुसलाकर ले आया। 14 महीने तक उसे अलग-अलग जगह पर बंधक बनाकर रखा और उसका धर्म परिवर्तन कराकर रीना से मुस्कान नाम रख दिया। हिंदू संगठनों से जुड़े कार्यकर्ता पुलिस को लेकर गांव शहबाजपुर में पहुंचे और युवती को बरामद कराया। युवती बीमार है और एक दिन पहले ही उसने एक बच्चे को जन्म दिया है। उसकी हालत काफी खराब है। फिलहाल उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 
   
सोमवार को हिन्दू संगठनों ने पुलिस की मदद से बिजनौर जनपद के थाना कोतवाली क्षेत्र के गांव शहबाजपुर से जम्मू जिला रियासी और तहसील माहौर के गांव परापर निवासी युवती रीना को बरामद किया है। साजिद वहां पर आठ साल से बाइक मैकेनिक का काम करता था और लोगों को उसने अपना नाम समीर बता रखा था। दो साल पहले उसने उसी गांव की रीना को दोस्ती के जाल में फंसा लिया और दो सितंबर 2020 को उसे बहला-फुसलाकर ले आया। युवती के साथ कोर्ट मैरिज की और नाम बदलकर रीना से मुस्कान रख दिया। पिछले साल लड़की के पिता जम्मू कश्मीर पुलिस के साथ लड़की की तलाश में कई दिन तक डेरा डाले रहे थे। स्थानीय पुलिस के साथ लड़की को काफी तलाश किया था। लेकिन पुलिस को कोई सफलता नहीं मिली थी। 

बार-बार बदलता रहा जगह
जम्मू से लाने के बाद साजिद उसे लेकर अपने गांव नहीं गया और अलग-अलग जगहों पर किराए का मकान लेकर वहां रखता रहा। परिवर्तित नाम मुस्कान की अगर आस पड़ोस में पहचान हो जाती थी तो तभी आरोपी कमरा और जगह बदल लेता था। मुस्कान के पास जाते वक्त कभी फोन लेकर नहीं गया। पीड़िता अपने घर वालों से बात करने की जिद करती थी। उसे कभी भी फोन करने का मौका नहीं दिया। एक बार पड़ोसी का फोन लेकर बात करने की कोशिश की थी तो उसने तभी कमरा बदल लिया था। इसी तरह से लगातार नजरबंद किए रहा।

यह भी पढ़ें:
यूपी: कैराना में गरजे सीएम योगी, बोले- किसी अपराधी ने दुस्साहस किया तो दूसरे लोक भेज देंगे
... और पढ़ें

आखिर खुला बड़ा राज: टीचर की हत्या के पीछे पति का हाथ, पत्नी-जीजा के मर्डर के लिए दी थी 5.50 लाख की सुपारी

बिजनौर शहर में 29 अक्तूबर को हुई डिग्री कॉलेज की प्रवक्ता की हत्या का सच सामने आ गया है। मुठभेड़ में दबोचे में गए बदमाश ने बताया कि पति कमल शर्मा ने ही 5.50 लाख रुपये की सुपारी देकर प्रिया शर्मा की हत्या कराई है। वहीं एक और बड़ा खुलासा हुआ है। आरोपी ने बताया कि उन्हें प्रिया के जीजा को मारने की भी सुपारी दी गई थी।

मुठभेड़ में एक बदमाश गिरफ्तार
आरबीडी कॉलेज की प्रवक्ता डॉक्टर प्रिया शर्मा की हत्या में शामिल शूटर को पुलिस ने मंगलवार को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की गोली लगने से शूटर घायल हो गया है और उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं एक सिपाही भी गोली लगने से घायल हुआ है। मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार शूटर का साथी फरार हो गया, जिसकी तलाश में कांबिंग की जा रही है। प्रवक्ता के पति ने साढ़े पांच लाख रुपये की सुपारी देकर उनकी हत्या कराई थी। 
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00