विज्ञापन
विज्ञापन
आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट
Janam Kundali

आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बसपा नेता हत्याकांड: दबोचे गए आरोपियों ने उगला गहरा राज, सरगना देता था करोड़पति बनने का लालच

बिजनौर जिले में नजीबाबाद के प्रॉपर्टी डीलर व बसपा नेता हाजी अहसान व उनके भांजे शादाब की हत्या में शामिल 25 हजार के इनामी बदमाश, दो प्रॉपर्टी डीलर सहित छह लोगों को पुलिस ने दबोचा है। इनमें से तीन आरोपी रंगदारी मांगते थे। अब तक दस लाख रुपये से ज्यादा की रंगदारी वसूल चुके थे। इन लोगों के मोबाइल फोन से कई बड़े लोगों के नंबर मिले हैं। गैंग का सरगना अपने साथियों को करोड़पति बनने का लालच देता था। 

एसपी संजीव त्यागी ने बताया कि गत 28 मई को प्रॉपर्टी डीलर हाजी अहसान व उनके भांजे शादाब की नजीबाबाद में गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में गांव कनकपुर निवासी शूटर दानिश सहित कई लोगों को पुलिस दबोच चुकी है। दिल्ली पुलिस ने गैंग के सरगना शाहनवाज व शूटर अब्दुल जब्बार को गिरफ्तार किया था। हत्या की साजिश रचने में शामिल नजीबाबाद के गांव उब्बनवाला निवासी शूटर इकरार, नगीना देहात के गांव टांडा माईदास निवासी अफजाल, गांव कनकपुर निवासी दानिश उर्फ सोनू, नजीबाबाद के मोहल्ला पठानपुरा जाफ्तागंज निवासी आसिफ, गांव पाना हीमपुर निवासी असलम व गांव अलावलपुर निवासी इरशाद को दबोचा है। इकरार के पास से एक तमंचा, दो कारतूस व इरशाद के पास से बाइक व उसके पुर्जे बरामद हुए हैं। बाइक को कटवा दिया गया था।

यह भी पढ़ें: 
डबल मर्डर: बसपा नेता हाजी अहसान का था बड़ा कारोबार, बनना चाहते थे विधायक, देखें ये 11 तस्वीरें
... और पढ़ें

पेद्दा ट्रिपल मर्डर केस: 12 आरोपियों को हाईकोर्ट से मिली जमानत, तीन साल से बंद थे जेल में

बिजनौर जनपद में करीब तीन वर्ष पूर्व गांव पेद्दा में हुए ट्रिपल मर्डर के मामले में जेल में बंद 12 आरोपियों को शनिवार को हाईकोर्ट से जमानत मिल गई। यह आरोपी तीन साल से जेल में बंद थे। 

गत 16 सितंबर 2016 को ग्राम पेद्दा में लड़की से छेड़छाड़ पर हुए विवाद में गोली लगने से गांव के ही तीन लोगों की मौत हो गई थी और 12 लोग घायल हो गए थे। इस मामले में 27 लोगों को नामजद किया गया था। बाद में भाजपा नेता ऐश्वर्य चौधरी एडवोकेट एवं अरुण कबाड़ी का भी नाम विवेचना के दौरान शामिल किया गया था। इस मामले में अरुण चौधरी की पहले ही जमानत हो चुकी है और ऐश्वर्य उर्फ मौसम चौधरी को अदालत ने बरी कर दिया है। 

हाईकोर्ट के अधिवक्ता भुवनेश कुमार सिंह ने बताया कि शनिवार को संसार सिंह, सोनी उर्फ राहुल, राजू उर्फ राजीव, नितिन, ओमपाल, अनुज, पंकज, सोमपाल उर्फ रिंकू, राजपाल सिंह, कैलाश, तेजपाल, कोमल सिंह को इस मामले में हाईकोर्ट से जमानत मिली है।

यह भी पढ़ें: 
भाजपा विधायक के पति ने चिकित्सक को पीटा, पेद्दा कांड को लेकर सुर्खियों में रहे थे ऐश्वर्य
... और पढ़ें

मौलाना ने की थी घोषणा, कमलेश का सिर कलम करने वाले को दूंगा 51 लाख

हिंदू महासभा के पूर्व अध्यक्ष कमलेश तिवारी की लखनऊ में हुई हत्या के मामले में बिजनौर जिले के मौलाना अनवारूल हक व मुफ्ती नईम कासमी भी जांच के घेरे में आ सकते हैं। कमलेश के विवादित बयान के बाद इन्होंने उनका सिर कलम करने वाले को इनाम देने की घोषणा की थी।

हिंदू महासभा के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की लखनऊ में हत्या कर दी गई। विवादित बयान को लेकर कमलेश तिवारी चर्चा में रहे हैं। उनकी हत्या के बाद बिजनौर के जामा मस्जिद के तत्कालीन इमाम मौलाना अनवारूल हक व किरतपुर के गांव भनेड़ा के मुफ्ती नईम कासमी जांच के घेरे में आ सकते हैं। अनवारूल हक ने चार दिसंबर 2015 को बिजनौर में एसपी ऑफिस के सामने एक प्रदर्शन के दौरान कमलेश तिवारी का सिर कलम करने वाले को 51 लाख रुपये का इनाम देने का एलान किया था। 

किरतपुर क्षेत्र के गांव भनेड़ा के मुफ्ती नईम कासमी ने भी कमलेश तिवारी का सिर कलम करने वाले को करोड़ों रुपये का इनाम देने की घोषणा की थी। कमलेश तिवारी की हत्या के बाद दोनों मौलानाओं के समर्थकों में खलबली मची है। सिर कलम करने पर इनाम का एलान करते वक्त दोनों मौलानाओं ने कभी नहीं सोचा होगा कि यह एलान किसी दिन उनके लिए आफत बनकर आ जाएगा।
... और पढ़ें

खौफनाक वारदात: बिजनौर में दो लोगों की गोली मारकर हत्या, इलाके में सनसनी, जांच में जुटे पुलिस अफसर

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जनपद में एक सनसनीखेज वारदात हो गई। मंडावर थाना गंगा खादर क्षेत्र के गांव में भूमि संबंधी विवाद की पुरानी रंजिश एवं मुकदमेबाजी को लेकर पांच लोगों ने खेत में रखवाली कर रहे दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी।

मंडावर थाना क्षेत्र के गंगा खादर गांव सुल्तानपुर गैराबाद निवासी अजीज (80 वर्ष) पुत्र लतीफ और शान मोहम्मद (25 वर्ष) पुत्र लतीफ खान निवासी दाबकी खेड़ा उत्तराखंड खादर में अपने खेतों की रखवाली करते थे।

बताया गया कि रविवार रात करीब 10:30 बजे बूटा सिंह पुत्र तरना सिंह, तरना पुत्र कालाराम, प्रकाश पुत्र निहाल सिंह, दिलबाग पुत्र जसवंत सिंह और मंजीत पुत्र कुलवंत निवासी बढ़ीवाला थाना पुरकाजी जिला मुजफ्फरनगर स्थित उनके पास खेतों पर आए। जमीनी विवाद की पुरानी रंजिश एवं मुकदमेबाजी को लेकर अजीज पुत्र लतीफ को गोली मार दी। इसके बाद साक्ष्य मिटाने की वजह से शान मोहम्मद को भी गोली मारकर हत्या कर डाली।

यह भी पढ़ें: 
खौफनाक वारदात: शादी से एक दिन पहले सगी बहन को उतारा मौत के घाट, ये रही बड़ी वजह

उधर, घटना की जानकारी लगने पर पुलिस पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया है। आरोपी अभी फरार है। आरोपियों को पकड़ने के लिए चार टीमें गठित की गई हैं। थाना प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार का कहना है कि जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें
बिजनौर पुलिस बिजनौर पुलिस

बिजनौर: बेखौफ बदमाशों ने दिनदहाड़े दो लोगों को मारी गोली, एक की हालत गंभीर

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जनपद में गुरुवार को दिनदहाड़े एक वारदात हो गई। बेखौफ बदमाशों ने लोगों को गोली मार दी। वारदात के बाद बदमाश फरार हो गए। उधर, घटना की सूचना से पुलिस महकमा में हड़कंप मच गया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

थाना कोतवाली शहर के इंदिरा पार्क इलाके में बाइक सवार अज्ञात बदमाशों ने गुरुवार को दो लोगों की गोली मार दी। घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश फरार हो गए।

यह भी पढ़ें: 
मेरठ में आठ साल के बच्चे का अपहरण, सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई पूरी घटना, आरोपियों की तलाश में दबिश 

बताया गया कि एक की हालत गंभीर है। उसे मेरठ के लिए रेफर किया गया है। उधर, पुलिस ने बदमाशों की तलाश में कई जगह दबिश दी।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

मेरठ में बदल रहा हत्याओं का ट्रेंड, खौफनाक मर्डर के बाद क्रूरता से शव को ठिकाने लगा रहे अपराधीे 

पश्चिमी यूपी की क्राइम सिटी कहे जाने वाले मेरठ में अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा है। चोरी की छुटपुट घटनाओं के अलावा हत्या जैसे क्राइम यहां आम बात हैं। वहीं पिछले कुछ महीनों की बात करें तो एक तरफ अपराध का ग्राफ बढ़ा है, तो दूसरी ओर हत्या जैसे संगीन मामलों में तेजी आई है।

हैरान करने वाली बात यह भी है कि अपराध करने वाले न सिर्फ मर्डर जैसी घिनौनी वारदात को अंजाम दे रहे हैं बल्कि हत्या के बाद शवों को बेहद क्रूर तरीके से ठिकाने लगा रहे हैं। आइए नजर डालते हैं मेरठ के ऐसे ही कुछ हत्या के मामलों पर जिनमें आरोपियों ने हत्या के बाद शवों को छिपाने के लिए क्रूरता की सारी हदें पार कर दीं:-
... और पढ़ें

बिजनौर: नौकरी लगवाने के लालच में छोटे भाई की पत्नी की हत्या , जांच में जुटी पुलिस

bijnor police, up police
उत्तर प्रदेश के बिजनौर जनपद में मंगलवार को एक व्यक्ति ने अपने छोटे भाई की पत्नी की हत्या कर दी। घटना की जानकारी लगने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू की।

मृतक आश्रित कोटे में अपने बेटे की नौकरी लगवाने के लालच में छोटे भाई की पत्नी की हत्या कर दी गई। महिला के सिर पर धारदार हथियार और रॉड से हमला किया गया। महिला की बहन ने आरोपी जेठ सहित चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। 

यह वारदात मंगलवार दोपहर शहर के काजीपाड़ा में हुई। यहां रहने वाली सोमी (30 वर्षीय) का शव घर में कुर्सी पर पड़ा मिला। पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और डॉग स्क्वॉड से भी छानबीन कराई।

यह भी पढ़ें: 
अनामिका शुक्ला से हुई थी ये बड़ी चूक, फिर खुल गया पूरा राज, पढ़िए पूरा अपडेट

सोमी की बहन गीता ने पुलिस को बताया कि सोमी का पति प्रमोद पीसीएफ (यूपी कोऑपरेटिव फेडरेशन) में नौकरी करता था। प्रमोद की हादसे में पांच साल पूर्व मौत हो गई थी। मृतक आश्रित कोटे में पवन अपने बेटे की नौकरी लगवाना चाहता था, जबकि सोमी विरोध करती थी।

गीता ने पवन, उसकी पत्नी गुड्डी, बेटे सुमित और पवन की बेटी के खिलाफ तहरीर दी। सीओ सिटी कुलदीप त्यागी का कहना है कि शव पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है, मामले की जांच की जा रही हैै। 

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

यूपी: युवक ने बड़े भाई को चाकू से गोदकर मार डाला, वारदात के बाद आरोपी फरार

बिजनौर जनपद के कस्बा नगीना में चाकू से गोदकर युवक ने बड़े भाई की हत्या कर दी। वारदात के बाद आरोपी फरार हो गया। हत्या से पूर्व दोनों भाइयों में किसी बात पर विवाद हुआ, लेकिन वजह क्या थी, यह पता नहीं चला। पुलिस जांच कर रही है। 

नगर पालिका नगीना से सेवानिवृत्त कर्मी सिराजुद्दीन का परिवार कस्बा के लुहारी सराय में रहता है। परिवार में उनके दो बेटे अलाउद्दीन (30 वर्षीय) और छोटा बेटा जफर है। अलाउद्दीन मुरादाबाद में किसी हैंडीक्राफ्ट व्यापारी के यहां नौकरी करता है। सोमवार को ही अलाउद्दीन वहां से घर आया था। मंगलवार रात करीब साढ़े आठ बजे अलाउद्दीन और जफर के बीच घर में ही किसी बात पर विवाद हो गया। जफर ने चाकू से बड़े भाई के सीने पर ताबड़तोड़ कई प्रहार कर दिए, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद आरोपी फरार हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भिजवाया। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी: बीएसएफ के जवान की गोली मारकर हत्या, पुलवामा में थे तैनात, जांच में जुटे अफसर

थाना प्रभारी निरीक्षक राजेश तिवारी का कहना है कि हत्या का कारण अभी पता नहीं चल सका है। तहरीर मिलने पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

डबल मर्डर: आखिर क्या है दो सगे भाइयों की हत्या के पीछे की वजह, इन सवालों में उलझी पुलिस

Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X