शहर से 9 कार बरामद, भाजपा नेता केशव को क्लीनचिट नहीं

अमर उजाला ब्यूूराे Updated Thu, 01 Dec 2016 01:34 AM IST
 9 car recovered from the city, not a clean chit to BJP leader Keshav
शहर से 9 कार बरामद, भाजपा नेता केशव को क्लीनचिट नहीं - फोटो : Amar Ujala
गाजियाबाद और एनसीआर से लग्जरी कारों को चुराकर उनको अलीगढ़ में खपाने का धंधा पिछले करीब दो बरस से चल रहा था। गाजियाबाद पुलिस ने इस धंधे पर चोट मारते हुए पिछले तीन दिन में नौ ऐसी कार शहर से बरामद की हैं, जो इन चोरों के रैकेट से खरीदी गईं। वहीं हिरासत में लिए गए प्रमुख भाजपा नेता व बरौली से विधानसभा चुनाव लड़ चुके केशव बघेल को तीसरे दिन बुधवार देर रात तक क्लीनचिट नहीं मिली थी। उन पर कुछ वाहन खरीदने और इस रैकेट से जुड़े कुछ लोगों को संरक्षण देने का संदेह है। मगर पूछताछ में लगातार बयान बदलने के कारण पुलिस उन्हें क्लीनचिट देने का मन नहीं बना पा रही। हालांकि खुद भाजपा जिलाध्यक्ष व कई भाजपाई गाजियाबाद पुलिस व एसएसपी के संपर्क में हैं। इधर, टीम के सदस्य अभी और वाहन बरामद करने के लिए शहर में डेरा डाले हुए हैं।
शहर के मैकेनिकों के जरिये बिकवाए वाहन
गाजियाबाद एसओजी/क्राइम ब्रांच द्वारा अब तक जुटाए गए तथ्यों पर गौर करें तो पिछले सप्ताह कुछ चोर टीम ने दबोचे। इन चोरों से पूछताछ में खुलासा हुआ कि वह वाहनों को चुराकर उनके फर्जी दस्तावेज बनवाते हैं और उनके इंजन व चैसिस नंबर तक बदल लेते हैं। फिर उन्हें विभिन्न शहरों में मैकेनिकों की मदद से बेचते हैं। अलीगढ़ में उन्होंने एक दर्जन से ज्यादा वाहन बेचने का खुलासा किया। इसी खुलासे में भाजपा नेता केशव बघेल पर दो वाहन बेचने व संरक्षण तक प्राप्त होने का संदेश हुआ। यह बताया गया कि अलीगढ़ में ज्यादातर वाहन तस्वीर महल और सारसौल इलाके के कार मैकेनिकों की मदद से बेचे गए। यह वाहन पिछले करीब दो साल से यहां लोगों के पास हैं।
सफाई नहीं दे पा रहे भाजपा नेता
पुलिस सूत्र बता रहे हैं कि बेशक भाजपा जिलाध्यक्ष से लेकर अन्य कई भाजपाई गाजियाबाद एसएसपी के संपर्क में हैं। मगर अपने खिलाफ बन रहे संदेह को लेकर भाजपा नेता केशव बघेल कोई साक्ष्य नहीं दे पा रहे और उनके बयान भी लगातार बदल रहे हैं। इस वजह से उन्हें क्लीनचिट नहीं मिल पा रही है। सूत्र यहां तक दावा कर रहे हैं कि शहर में जो कारें बिकी हैं, उनमें ज्यादातर का संपर्क इन्हीं के माध्यम से हुआ है। बता दें कि केशव बघेल को सोमवार देर शाम महाजन होटल के बाहर से हिरासत में लिया गया था। बुधवार देर रात तक यह भाजपाइयों द्वारा दावा किया जा रहा था कि देर रात तक उन्हें छोड़ने की उम्मीद है।
नौ कार बरामद, अन्य कोई हिरासत में नहीं
पुलिस सूत्रों की मानें तो शहर के सारसौल, तस्वीर महल, देहली गेट आदि इलाकों से गाजियाबाद पुलिस नौ कार ले गई है। इन्हें खरीदने वालों ने इस बात के साक्ष्य दिए कि उन्होंने कैसे किसके माध्यम से वाहन खरीदे। इसलिए पुलिस उन्हें क्लीनचिट देकर यहीं छोड़ गई, जबकि उनसे कार ले गई। इधर, गाजियाबाद पुलिस की एक टीम बुधवार देर रात तक महानगर में डेरा डाले हुए थी। टीम को अभी कुछ अन्य ऐसे लोगों की तलाश है, जिन्होंने चोरी के यह वाहन खरीदे हैं। 
केशव बघेल को लेकर एसएसपी गाजियाबाद से लगातार वार्ता हो रही है। एसएसपी ने यह कहा है कि पूछताछ के आधार पर उन्हें देर रात तक क्लीनचिट दे दी जाएगी।
-चौ.देवराज सिंह, जिलाध्यक्ष भाजपा

Spotlight

Most Read

Pilibhit

चोरों ने समेटा दो घरों से लाखों का सामान

कोतवाली क्षेत्र के कसगंजा गांव में दी दस्तक

23 फरवरी 2018

Related Videos

अलीगढ़ : यूपी के शिक्षा राज्यमंत्री के इलाके में ‘छापी’ जा रहीं बोर्ड की कॉपियां!

अलीगढ़ के अतरौली से सामूहिक नकल का मामला सामने आया है और खास बात ये कि अलीगढ़ का अतरौली यूपी के शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह का क्षेत्र है। नकल कराते 58 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

23 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen