विज्ञापन
विज्ञापन

करोड़ों की धोखाधड़ी में  सराफ का बेटा गिरफ्तार 

अमर उजाला ब्यूरो आगरा Updated Sat, 25 Jun 2016 12:51 AM IST
24 प्रतिशत सालाना ब्याज का लालच देकर फंसाए लोग
24 प्रतिशत सालाना ब्याज का लालच देकर फंसाए लोग - फोटो : demo pic
ख़बर सुनें
शाहगंज के सराफ हरिकिशन ने लोगों को मोटी ब्याज का लालच देकर करोड़ों रुपये हड़प लिए। इसके बाद खुद को दिवालिया घोषित कर दिया। घर और दुकान का सौदा कर दिया। इसकी भनक लगने पर लोगों ने थाना शाहगंज में हंगामा किया। पुलिस ने सराफ और उसके दो बेटों के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस ने सराफ के एक बेटे को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है।
विज्ञापन
आनंदपुरम निवासी हरिकिशन की शाहगंज सराफ बाजार में हरिकिशन ज्वैलर्स के नाम से दुकान है। लोगों ने थाने में तहरीर के मुताबिक, सराफ हरिकिशन, उसके बेटे मुकेश और हरेश लोगों से रकम लेते थे। इसके एवज में हर महीने डेढ़ से दो फीसदी की ब्याज देने की बात कहते थे। इस पर लोगों ने भरोसा करके अपनी जमा पूंजी उनको दे दी। इसकी एक पर्ची भी दी जाती थी। इसी तरह सराफ पिता-पुत्रों ने तकरीबन 150 से 200 लोगों से रकम जमा करा ली।

मारुति एस्टेट निवासी अर्जुन सिंह, उनकी बेटी रेनू और बेटे चंद्रपाल से 70 लाख रुपये, गीता शर्मा से 3.90 लाख और ज्वैलरी, बीधा नगर की सुधा से एक लाख रुपये सहित अन्य लोगों रकम जमा करा चुके हैं। इस तरह लोगों के करोड़ों रुपये उन पर जमा हैं। अर्जुन सिंह की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने गुरुवार को आरोपी मुकेश को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। फरार सराफ और उसके एक बेटे की तलाश की जा रही है। शाहगंज थाना के इंस्पेक्टर ने बताया कि यह 15 से 20 करोड़ की धोखाधड़ी का मामला है। जांच की जा रही है। अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

कोठी खाली कराने आया युवक पकड़ा
पुलिस ने बताया कि सराफ ने अपनी कोठी और दुकान का सौदा कर दिया है। हालांकि परिवार अभी भी कोठी में रह रहा है। गुरुवार को एक युवक कोठी खाली कराने पहुंचा। मगर, वहां पर लोगों की भीड़ लगी हुई थी। सूचना पर पुलिस पहुंच गई। पुलिस उस युवक को पकड़कर थाने ले गई। उससे पूछताछ की जा रही है। 

शैलेंद्र केस से भी नहीं लिया सबक 
एटा जेल में बंद हाईप्रोफाइल जालसाज शैलेंद्र अग्रवाल ने भी इसी तरह मोटी ब्याज का लालच देकर लोगों को जाल में फंसाया था। उसने करोड़ों की ठगी की। उसके खिलाफ 42 केस दर्ज हैं। पुलिसवालों तक को ठगा। इसके बावजूद लोगों ने सबक नहीं लिया। फिर से ब्याज के लालच में फंसने का केस सामने आ गया। 

70 से ज्यादा लोगों ने दी है तहरीर
इंस्पेक्टर ने बताया कि सराफ पिता-पुत्रों के खिलाफ थाने में 70 से ज्यादा लोगों ने तहरीर दी है। इन तहरीर को एक ही मुकदमे में शामिल किया जाएगा। लोगों से रकम की पर्ची और अन्य दस्तावेज भी पुलिस का देने के लिए बोला गया है।

शास्त्रीपुरम में खरीदी थी जमीन
पुलिस को जांच में पता चला है कि सराफ ने शास्त्रीपुरम में जमीन खरीदी थी। इस पर निर्माण कार्य भी शुरू करा दिया, लेकिन घाटा होने के कारण काम रोक दिया गया। इससे सराफ कर्ज मेें डूब गया है।

पहले भी भाग चुका है एक सराफ
शाहगंज के केदारनगर से लोगों के करोड़ों रुपये लेकर एक सर्राफ फरार हो गया था। इस मामले में लोगों ने मुकदमा दर्ज कराया था। बाद में पुलिस ने सराफ को मुंबई से गिरफ्तार किया था।
गहने जमा करके देता था कर्ज
लोगों के गहने जमा करके सराफ उन्हें कर्ज देता था। इसके एवज में उनसे ब्याज वसूलता था। अब यह सभी लोग अपने गहने वापस लेने के लिए भटक रहे हैं।
विज्ञापन

Recommended

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Agra

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का जो फैसला होगा, वो हमें मंजूर: मौलाना हसन मदनी

हसन मदनी ने कहा कि अयोध्या विवाद पर उच्चतम न्यायालय का जो भी फैसला होगा, वो हमें मंजूर होगा।

14 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

आरबीआई की पीएमसी ग्राहकों को और राहत, खाते से रुपये निकालने की सीमा 25 से बढ़ाकर 40 हजार की

त्योहारी सीजन को देखते हुए आरबीआई ने पीएमसी बैंक पर लगी पाबंदियों के बीच ग्राहकों को बड़ी राहत दी है। पीएमसी ग्राहक अब खाते से 25 हजार के बजाय 40 हजार रुपये तक निकाल सकेंगे।

14 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree