विज्ञापन

आगरा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

मथुरा: सनसनीखेज हत्याकांड के खुलासे पर हैरान रह गए सभी, नामजद निकले निर्दोष, पड़ोसी का भतीजा निकला आरोपी

सेना में भर्ती के नाम पर ठगी: फर्जी वेबसाइट से दिखाते थे रिजल्ट, दो शातिरों को जेल, सरगना की तलाश

आगरा पुलिस की पकड़ में आए सेना में भर्ती कराने के नाम पर ठगी करने वाले गैंग के सुनील तोमर और अजय कुमार को रविवार को जेल भेज दिया गया। पुलिस की पूछताछ में पता चला कि गैंग का सरगना अलीगढ़ के खैर का होशियार सिंह है। वह अपने एजेंट की मदद से भर्ती स्थल पर अभ्यर्थियों से संपर्क करता है। पांच लाख रुपये में भर्ती कराने का आश्वासन देता है। बाद में अलग-अलग राज्य में भर्ती कराने के नाम पर अभ्यर्थियों को भेजता है। व्हाट्सएप पर एडमिट कार्ड भेज देता है। अभ्यर्थियों से बची रकम लेने के लिए फर्जी वेबसाइट पर रिजल्ट दिखाता है।  

फतेहाबाद निवासी रवेंद्र, रिंकू और छोटेलाल वर्ष 2018 में मथुरा में सेना भर्ती में शामिल हुए थे। रवेंद्र ने पुलिस को बताया कि तब उनकी मुलाकात होशियार सिंह और उसके साथियों से हुई थी। उसने उनका नंबर ले लिया। नवंबर 2019 में कॉल करके भर्ती कराने का आश्वासन दिया। उन्हें कोलकाता ले जाकर परीक्षा दिलाने का दावा किया। 2.40 लाख रुपये ले लिए। उन्हें व्हाट्सएप पर एडमिट कार्ड भेजे थे, जिसमें सेना भर्ती बोर्ड लिखा हुआ था।  

ये भी पढ़ें-
आगरा: सेना में भर्ती कराने के नाम पर 2.40 लाख रुपये की धोखाधड़ी, दो आरोपी गिरफ्तार

कोलकाता से आने के 20 दिन बाद फिर से कॉल किया। इस बार बताया कि रिजल्ट जारी हो गया। उन्होंने ज्वाइन इंडियन आर्मी नाम से बनी वेबसाइट पर रिजल्ट दिखा दिया। इसमें उनके नाम, रोल नंबर और पते का जिक्र था। इसके बाद होशियार सिंह बाकी के 12 लाख मांग रहा था। मगर, शक होने की वजह से रकम नहीं दी। रकम वापस मांगने पर नंबर बंद कर लिया था। बाद में वेबसाइट फर्जी निकली थी।  ... और पढ़ें

मैनपुरी: पांच साल की बालिका से समुदाय विशेष के युवक ने किया दुष्कर्म, मां के साथ मंदिर गई थी मासूम

मैनपुरी के करहल थाना क्षेत्र के अंतर्गत गुरुवार को मां के साथ मंदिर में पूजा करने गई पांच साल की मासूम के साथ युवक ने दुष्कर्म किया। लोगों के आने पर आरोपी बच्ची को लहूलुहान छोड़ वहां से भाग गया। घटना की जानकारी होने के बाद पुलिस हरकत में आ गई। बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया, वहीं दबिश देकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं एक अन्य घटना में चार साल की मासूम से दुष्कर्म की कोशिश की गई है। पुलिस ने इस घटना के आरोपी को पकड़कर न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

करहल थाना क्षेत्र की एक बस्ती निवासी एक महिला गुरुवार की सुबह महाशिवरात्रि पर पूजा करने के लिए मंदिर गई थी। उनके साथ पांच साल की पुत्री भी थी। मां जब मंदिर में चली गई तो बच्ची बाहर खेलने लगी। आरोप है तभी आरोपी इरशाद वहां आया और बच्ची को मंदिर के पीछे ले गया। वहां उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया।

बच्ची की चीख पुकार सुनकर आसपास के लोग एकत्र हुए तो आरोपी बच्ची को लहूलुहान हालत में पड़ा छोड़कर भाग गया। स्थानीय लोगों ने बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया। उधर, सूचना मिलने के बाद प्रभारी निरीक्षक शिवकुमार चौहान पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। दबिश देकर आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया। 
... और पढ़ें

ससुराल में दामाद का खूनी-खेल: सास और ससुर को उतारा मौत के घाट, इस वजह से वारदात को दिया अंजाम

लाल घाट क्षेत्र में दामाद ने अपनी सास और ससुर की गोली मारकर हत्या कर दी। घटना की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई है। बताया जा रहा है कि आरोपी ने पत्नी के ससुराल न आने पर इस वारदात को अंजाम दिया है।

लाल घाट निवासी रमा पुत्री गोपाल की शादी अमित कुमार निवासी आगरा के साथ हुई थी। बताया जाता है कि रमा अपने ससुरालीजनों के उत्पीड़न से तंग आकर 20 दिन पहले अपने मायके आ गई। अमित ने उसे वापस आने के लिए फोन किया, लेकिन रमा ने वापस आने से इनकार कर दिया।

इसके बाद अमित बाइक से अपनी ससुराल पहुंच गया और अपनी सास सुमन को गोली मार दी। जिससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई। जब गोली की आवाज सुनकर ससुर गोपाल वहां आया तो आरोपी ने उन्हें भी गोली मारी।

वह जान बचाने के लिए भागे तो उनका पीछा करके दूसरी गोली मारी। जिससे वह जमीन पर गिर पड़े। इसके बाद दामाद मौके से भाग गया। मामले की सूचना पर पहुंची पुलिस ने ससुर गोपाल को अस्पताल पहुंचाया। चिकित्सकों ने गंभीर हालत देखते हुए उनको अलीगढ़ रेफर कर दिया। जहां उनकी मौत हो गई।
... और पढ़ें
घटनास्थल पर मौजूद पुलिस व स्थानीय लोग घटनास्थल पर मौजूद पुलिस व स्थानीय लोग

चिकित्सक से 73 लाख की साइबर ठगी: आगरा पुलिस को मिली जानकारी, बिहार के 34 खातों में ट्रांसफर कर निकाले रुपये

आगरा में दयालबाग के प्रेम नगर निवासी डॉ. अरुण कुमार गुप्ता के दो खातों से 73 लाख रुपये निकालने के लिए बिहार की बैंकों के 34 खातों का प्रयोग साइबर अपराधियों ने किया। पुलिस को खातों की जानकारी मिल गई है। पुलिस अब खाताधारकों की पूरी डिटेल निकलवा रही है। डिटेल मिलने पर खाताधारकों से पूछताछ की जाएगी। 
खाता बंद होने का मैसेज भेजा
डॉ. अरुण कुमार गुप्ता के मोबाइल पर एक मैसेज भेजा गया था। इसमें खाता बंद होने के बारे में बताया गया था। एक नंबर दिया था। इस पर कॉल करने पर मोबाइल में स्क्रीन शेयरिंग और एक्सेस करने वाला एप डाउनलोड कराने के बाद उनके दो खातों से नेट बैंकिंग के माध्यम से 73 लाख रुपये निकाल लिए गए थे। उन्होंने रेंज साइबर थाना में मुकदमा दर्ज कराया है।
बिहार की अलग-अलग बैंकों की शाखाओं के 34 खातों में रकम भेजी गई
साइबर क्राइम थाना पुलिस के मुताबिक, जिन खातों में रकम ट्रांसफर हुई, उनकी डिटेल निकलवाई है। इसमें पता चला कि बिहार की अलग-अलग बैंकों की शाखाओं के 34 खातों में रकम भेजी गई थी। इसके बाद एटीएम से रकम निकाली गई। पुलिस ने संबंधित बैंकों से खाताधारकों की जानकारी मांगी है, जिससे खाताधारकों से संपर्क किया जा सके। आशंका है कि जिन खातों में रकम गई है, वह फर्जी आईडी पर खुले हों। साइबर अपराधी रकम के लिए खातों को किराये पर भी लेते हैं। ऐसे में खाताधारक फंसता है। खाताधारकों से पूछताछ में पुलिस को साइबर अपराधियों की जानकारी मिल सकती है। उधर, एटीएम में लगे सीसीटीवी के फुटेज भी मांगे गए हैं।
... और पढ़ें

मथुरा में महिला की हत्या: बंद कमरे में चारपाई पर बिजली के तारों से बंधा मिला शव, प्रवाहित हो रहा था करंट

मथुरा के मांट मूला के ईदगाह रोड पर बट वाली बगीची के पास महिला को चारपाई पर इलेक्ट्रिक तारों से बांधकर बेरहमी से हत्या की गई। हत्या से पहले महिला को बिजली का करंट दिया गया। बंद कमरे से दुर्गंध आने पर सोमवार की दोपहर ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची मांट पुलिस ने शव को कब्जे में लिया। पुलिस ने बताया कि शव करीब चार दिन पुराना प्रतीत हो रहा है। हत्या करंट देकर ही गई है। हत्या करके पति फरार हो गया है।
कमरे से आ रही थी गंध
मांट मूला में ईदगाह रोड पर बंद कमरे में से दुर्गंध आ रही थी, तभी मोहल्ले के लोगों ने मांट पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने बंद कमरे का ताला तोड़ा तो चारपाई से बंधा महिला का शव मिला। इलेक्ट्रिक तारों से बंधे शव को पुलिस ने कब्जे में लिया। एसपी देहात श्रीशचंद ने बताया कि मृतका स्मृति (30) पत्नी विपिन उर्फ बाली निवासी राधा निवास वृंदावन एवं हाल निवासी बट वाली बगीची मांट मूला थी। ग्रामीणों ने पुलिस को बताया कि महिला और उसका पति छह माह से इसी कमरे में रह रहे थे और आए दिन मारपीट होती रहती थी। उनके कोई बच्चा नहीं था। पिछले कुछ दिन से पति लापता है। एसपी देहात ने बताया कि प्रथम दृष्टया करंट देकर महिला की हत्या की गई है। शव की पहचान मिटाने के लिए चेहरे को भी बिगाड़ा गया है। शव करीब चार दिन पुराना प्रतीत हो रहा है। पोस्टमार्टम वीडियोग्राफी के मध्य डॉक्टरों के पैनल से कराया जाएगा। पुलिस पति की तलाश कर रही है।
... और पढ़ें

मथुरा: गोली मारकर युवक की हत्या, परिजनों ने शव हाईवे पर रखकर लगाया जाम, हंगामा

मथुरा के टाउनशिप क्षेत्र में शुक्रवार को बाद गांव से 50 मीटर दूर हाईवे पर युवक का खून से लथपथ शव मिलने से सनसनी फैल गई। आक्रोशित परिजनों ने रंजिश में गोली मारकर हत्या का आरोप लगाते हुए शव हाईवे पर रखकर जाम लगा दिया। मथुरा-आगरा हाईवे पर दोनों तरफ वाहनों की लंबी लाइन लग गई। करीब डेढ़ घंटे बाद मौके पर पहुंचे पुलिस अफसरों ने लोगों को समझाकर जाम खुलवाया। पुलिस ने हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

थाना रिफाइनरी के बाद गांव में अशोक कुमार (34) का खून से लथपथ शव शुक्रवार को राधा टाउन और कृष्णा टाउन के मध्य उसके घर से करीब 50 मीटर दूर पड़ा मिला। उसके शरीर पर चाकू और सरियों के प्रहार के निशान बताए जा रहे हैं। बताया गया कि अशोक शाम को अपने खेत पर गया था। तब से नहीं लौटा तो परिजनों के तलाश करने पर उसका शव मिला। 

पुलिस बता रही थी दुर्घटना
परिजनों ने बताया कि उसकी हत्या रंजिश में करने के बाद उसे किसी वाहन से कुचला गया है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस मामले को प्रथम दृष्टया दुर्घटना मान रही है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस की इस कार्रवाई से उसके परिजन संतुष्ट नहीं थे और पोस्टमार्टम से शव ले जाकर उन्होंने हाईवे पर बाद गांव के पास शव रखकर जाम लगा दिया। 
... और पढ़ें

एक लाख में हत्या का सौदा: पति को रास्ते से हटाने के लिए रची खूनी साजिश, ट्रक से कुचलकर मार डाला, तीन गिरफ्तार

गुस्साए लोगों ने हाईवे पर लगाया जाम
एटा के थाना मलावन क्षेत्र में हाईवे स्थित गांव सेंथरी के पास करीब 15 दिन पूर्व जयप्रकाश निवासी पोस्ट ऑफिस वाली गली खंदारी थाना हरीपर्वत आगरा की हत्या ट्रक से कुचलकर की गई थी। हत्या किसी और ने नहीं बल्कि पत्नी ने ही सुपारी देकर कराई थी। पुलिस ने पत्नी सहित तीन को गिरफ्तार कर खुलासा किया है। एसएसपी उदय शंकर सिंह ने बताया कि 17 सितंबर की रात जयप्रकाश की हत्या पत्नी रेनू उर्फ पूजा ने सुपारी देकर कराई थी। इसका खुलासा सर्विलांस की मदद से कर दिया गया है। हत्या में शामिल शैलेंद्र उर्फ शैलेष व विजय सिंह निवासी जिलही थाना बेवर जिला मैनपुरी और पत्नी को गिरफ्तार कर लिया गया है। दो आरोपी नीशू निवासी नगला टाकन थाना बेवर जिला मैनपुरी और मनोज  निवासी अहमदपुर करुआमई थाना बेवर जिला मैनपुरी फरार हैं।
... और पढ़ें

कासगंज: बालिका से छेड़छाड़ को लेकर हुआ विवाद, युवक की गोली मारकर हत्या, एक आरोपी गिरफ्तार

कासगंज में छेड़छाड़ को लेकर हुए विवाद में बुधवार रात को एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस वारदात से इलाके में सनसनी मच गई। पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है, जिससे पूछताछ की जा रही है। रात में पुलिस अधीक्षक रोहन प्रमोद बोत्रे ने मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया।

घटना बड्डू नगर धान मिल रोड इलाके की है। यहां बुधवार रात करीब नौ बजे 42 वर्षीय युवक की हत्या कर दी गई। उसे दो गोलियां लगी हैं। मृतक के परिजनों ने हत्या का आरोप हाशिम पुत्र पप्पू, गुड्डू,नाजिम व पप्पू पुत्रगण सर्फुद्दीन एवं मकदूम निवासी बड्डू नगर नई बस्ती हुल्का मोहल्ला पर लगाया है।

27 सितंबर को हुआ था विवाद
जानकारी के मुताबिक 27 सितंबर को मृतक युवक के परिवार की एक बालिका से आरोपी पक्ष के लोगों ने  छेड़छाड़ कर दी थी, जिससे दोनों पक्षों में विवाद हुआ। लेकिन बाद में समझौता हो गया था। समझौता हो जाने के बाद बुधवार रात को फिर से दोनों विवाद हुआ। आरोपियों ने युवक पर फायरिंग कर दी।
... और पढ़ें

आगरा : दयालबाग में रेस्टोरेंट में तोड़फोड और मारपीट, रंजिश का अंदेशा

दयालबाग स्थित भगत रेस्टोरेंट के मालिक और पड़ोसी परिवार में मंगलवार रात को विवाद के बाद मारपीट हो गई। इस दौरान रेस्टोरेंट में भी तोड़फोड़ की गई। सूचना पर पुलिस पहुंच गई। मारपीट में घायल रेस्टोरेंट मालिक और उनकी पत्नी, जबकि दूसरे गुट के एक व्यक्ति को मेडिकल के लिए भेजा। 

दयालबाग में प्रदीप कुमार भगत का घर के बाहर रेस्टोरेंट है। उनके भाई शिशिर भगत ने बताया कि पहले रेस्टोरेंट घर के पास स्थित रामवीर चौधरी की दुकान में चलता था। दो महीने पहले भाई ने दुकान खाली कर दी। अब घर के बाहर ही भाई रेस्टोरेंट चलाते हैं। इससे पूर्व के दुकान मालिक का परिवार रंजिश मानता है। वह पड़ोस में ही रहते हैं।

रात दस बजे भाई प्रदीप रेस्टोरेंट पर बैठे थे। आरोप है कि तभी रामवीर के भाई धर्मवीर आदि आ गए। उन्होंने गार्ड सुरेश चंद से अभद्रता की। उसके विरोध पर हमला बोल दिया। उनके साथी भी आ गए। उन्होंने तोड़फोड़ कर दी। बचाने आए भाई प्रदीप और उनकी पत्नी दीप्ति को भी पीटा। वो घायल हो गईं। 

वहीं महावीर सिंह किसान नेता है। उनके बेटे सौरभ चौधरी ने बताया कि प्रदीप कुमार भगत ने छह महीने का किराया नहीं दिया है। उन्होंने दुकान भी खाली कर दी। अब उनकी दुकान में एक अन्य रेस्टोरेंट चल रहा है। इससे प्रदीप कुमार रंजिश मान रहे हैं। चाचा धर्मवीर चौधरी टहल रहे थे। तभी प्रदीप कुमार भगत और कर्मचारी आ गए। उन्होंने चाचा से मारपीट कर दी। बचाने पर अन्य लोगों को भी पीटा। 

थाना न्यू आगरा के प्रभारी निरीक्षक भूपेंद्र कुमार बालियान का कहना है कि रेस्टोरेंट मालिक और रामवीर पक्ष ने एक-दूसरे पर मारपीट के आरोप लगाए हैं। तीन घायलों का मेडिकल कराया गया है। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करके विवेचना की जाएगी।
... और पढ़ें

आगरा: बाइक मिस्त्री के खाते में 10 दिन में आठ लाख का लेन-देन, साइबर क्राइम की आशंका

आगरा के बरहन क्षेत्र के गांवखांडा स्थित भारतीय स्टेट बैंक के खाता धारक बाइक मिस्त्री के बचत खाते से 10 दिन में 8,34,625 रुपये का लेन-देन हुआ। उसको भनक तक नहीं लगी। उसके शाखा में पहुंचने पर रुपये निकालने की जानकारी हुई। शाखा प्रबंधक ने खाते से लेन-देन पर रोक लगा दी। आशंका है कि खाते का इस्तेमाल साइबर अपराधियों ने ऑनलाइन अवैध धन जमा करने और निकासी में किया है। बैंक अपने स्तर पर जांच कर रहा है।

शाखा प्रबंधक राजीव वर्मा ने बताया कि गांव गढ़ी रामबख्श, आंवलखेड़ा निवासी कपिल कुमार ने 26 अगस्त को बैंक में 2500 रुपये से खाता खोला था। उसने खाते से कभी 500 रुपये तो कभी 200 रुपये निकाले। 12 सितंबर को उसके खाते में मात्र 180 रुपये बचे थे। 

ये भी पढ़ें: 
बस में बेटी से दुष्कर्म मां से छेड़छाड़ प्रकरण: हर पहलू पर बारीक जांच, आगरा में होगा किशोरी के कपड़ों का फोरेंसिक टेस्ट

13 सितंबर को यूपीआई के माध्यम से उसके खाते में सबसे पहले 20 हजार रुपये जमा हुए। यह कुछ देर बाद ही एटीएम कार्ड से निकाल लिए गए। बाद में 19 हजार और जमा हो गए। बाद में कभी दस हजार तो कभी 15 हजार रुपये खाते में आए और निकाल लिए गए। 22 सितंबर तक खाते से 30 बार में 8,34,625 रुपये का लेनदेन किया गया।  
... और पढ़ें

आगरा में 20 लाख की डकैती: गेट कूदकर घर में घुसे बदमाश, चिकित्सक दंपती को बंधक बनाकर की वारदात

आगरा के आवास विकास कालोनी सेक्टर दो में शनिवार की रात रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर जसवंत राय के बदमाशों ने डाका डाला। घर पर डॉ. जयवंत राय उनकी पत्नी डॉ. सुनीता सागर और अनुज वधू सीमा सागर मौजूद थे। बदमाशों ने आते ही तमंचे की बट से प्रहार करके डॉक्टर राय को जख्मी कर दिया। 

बदमाशों ने डॉक्ट रऔर अनुज वधू को हाथ-पैर और मुंह टेप से चिपकाकर एक कमरे में बंद कर दिया। पत्नी को साथ लेकर घर खंगाला। आठ लाख रुपये नकद और करीब 12 लाख रुपये के जेवरात लूटकर ले गए। बदमाशों की तलाश में नाकाबंदी कराई गई। पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी है। 

घटना रात करीब साढ़े आठ बजे की है। डॉ. जसवंत राय का शहीद नगर में डॉक्टर राय के नाम से अल्ट्रासाउंड सेंटर है। उन्होंने पुलिस को बताया कि वह डाइनिंग टेबल पर खाना खा रहे थे। पत्नी सुनीता सागर और छोटे भाई की पत्नी सीमा सागर घर पर मौजूद थे। सीमा सागर नगर निगम फिरोजाबाद में कर अधीक्षक हैं। 
... और पढ़ें

मैनपुरी: फर्जी शस्त्र लाइसेंस बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, पुलिस ने तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार

मैनपुरी में पुलिस ने फर्जी शस्त्र लाइसेंस बनाने वाले गिरोह के तीन शातिरों को गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से चार फर्जी लाइसेंस भी बरामद हुए हैं। गिरोह के तीन अन्य सदस्यों की तलाश में पुलिस जुट गई है। रविवार को सीओ सिटी ने प्रेसवार्ता कर इस कार्रवाई के संबंध में जानकारी दी। 

रविवार को इंस्पेक्टर कोतवाली भानु प्रताप को मुखबिर ने सूचना दी कि बेवर का रहने वाला एक व्यक्ति जो फर्जी शस्त्र लाइसेंस बनाता है। वह क्षेत्र में गया है। इस सूचना पर इंस्पेक्टर ने एसआई अमित सिंह ने एक टीम को गिरफ्तारी के लिए लगा दिया। कुछ देर बाद गोला बाजार तिराहा के पास से पुलिस ने उमेश चंद्र निवासी मनकापुर बेवर को गिरफ्तार कर लिया।

सीओ सिटी अभय नारायण राय ने बताया कि पकड़े गए उमेश के कब्जे से चार शस्त्र लाइसेंस बरामद हुए। जब इसकी असलहा बाबू से जांच कराई गई तो यह फर्जी पाए गए। कार्यालय में उक्त लाइसेंस किसी और के नाम से पंजीकृत थे। सख्ती से पूछताछ करने पर उमेश ने बताया कि वह अपने साथियों के साथ मिलकर फर्जी लाइसेंस बनाता है। 
... और पढ़ें
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00