यूपी में ताबड़तोड़ हत्याएं: मंत्री और अफसरों के दावों की खुल रही पोल, हाईवे पर हो रहे दिनदहाड़े कत्ल, सबूत हैं ये तस्वीरें

अमर उजाला ब्यूरो, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर Published by: कपिल kapil Updated Thu, 18 Nov 2021 10:08 PM IST
पश्चिमी यूपी में ताबड़तोड़ हत्याएं।
1 of 7
विज्ञापन
योगी सरकार के मंत्री और पुलिस अधिकारी भले ही सुरक्षा व्यवस्था को लेकर लाख दावे करते हो लेकिन, पश्चिमी यूपी में हुई ताबड़तोड़ हत्याओं ने दावों की पोल खोलकर रख दी है। पश्चिमी यूपी में बदमाश बेखौफ हैं और दिनदहाड़े वारदात को अंजाम दे रहे हैं। जहां मुजफ्फरनगर जिले में बदमाशों ने दो दिनों में दो लोगों की हत्या कर डाली तो वहीं सहारनपुर जनपद में आज यानी गुरुवार सुबह बदमाशों ने दो सगे भाइयों को मौत के घाट उतार दिया। दोनों जिलों में पुलिस तीनों घटनाओं की जांच में जुटी है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही इन तीनों घटनाओं का खुलासा किया जाएगा। 

मर्डर केस - 1
हत्यारों ने दोनों युवकों को रोकने के बाद सीधे की फायरिंग
मुजफ्फरनगर में दिल्ली-देहरादून हाईवे पर बुधवार देर रात हुई पब्लिक शूटआउट की घटना ने हाईवे पर पुलिस गश्त के साथ ही थाना पुलिस की मुस्तैदी पर भी गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं। थाने से सिर्फ सौ मीटर की दूरी पर बाइक सवार दो बदमाश पैदल जा रहे दो युवकों पर फायरिंग कर फरार हो गए और थाना पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। शोर मचाने पर राहगीरों ने पुलिस को घटना की सूचना दी, जिसके बाद थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घायल नरेश व सुदर्शन को जिला अस्पताल भेजा, जहां नरेश को मृत घोषित कर दिया गया।
एसएसपी अभिषेक यादव
2 of 7
एसएसपी अभिषेक यादव ने बताया कि हत्यारे जो भी थे, उनका सीधा मकसद नरेश की हत्या करना था। प्रथम दृष्टया जांच में सामने आया है कि रेस्टोरेंट से पैदल लौट रहे दोनों युवकों से किसी भी तरह की लूटपाट की कोशिश नहीं की गई। उनके मोबाइल और जेब के रुपये जस के तस मिले हैं। घायल सुदर्शन का भी यही कहना है कि बाइक सवार दोनों बदमाशों ने पीछे से आकर उन्हें रोका और उन्हें नीचे गिराकर सीधे फायरिंग कर दी। फायरिंग में नरेश को दो और सुदर्शन को एक गोली पैर में लगी, जिसके बाद हमलावर वहां से फरार हो गए। एसएसपी ने बताया कि मामले में कई बिंदुओं पर जांच की जा रही है। दोनों युवकों के साथ पिछले कुछ समय में किसी से विवाद या रंजिश होने की संभावनाओं को भी तलाशा जा रहा है।
विज्ञापन
विज्ञापन
मुजफ्फरनगर में अर्पित हत्या मामला।
3 of 7
मर्डर केस - 2
हाईवे पर गोली मारकर हत्या
दिल्ली-देहरादून हाईवे, जहां औसतन हर मिनट 21 वाहन निकलते हैं, वहां दिनदहाड़े एक युवक की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई और थाना पुलिस पूरी तरह अनभिज्ञ रही। घटना के करीब एक घंटा बाद पुलिस को किसी राहगीर ने सड़क किनारे शव पड़ा होने की जानकारी दी, जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची।

शहर के मोहल्ला खादरवाला निवासी डॉ. अजय गोयल के इकलौते बेटे अर्पित गोयल की दिल्ली-दून हाईवे पर दिनदहाड़े हुई दुस्साहसिक हत्या ने छपार थाना पुलिस की मुस्तैदी की कलई खोल दी है। छपार थाने से महज डेढ़ किलोमीटर दूर बाइक सवार युवक की दिनदहाड़े चार गोलियां मारकर हत्या कर दी गई और न तो थाना पुलिस को इसकी भनक लगी और न ही डायल-112 मौके पर पहुंची। सनसनीखेज हत्या के करीब एक घंटा बाद शाम 4.30 बजे किसी राहगीर ने सड़क किनारे बाइक व युवक के पड़े होने की सूचना पुलिस को दी, जिसके बाद डायल-112 व थाना पुलिस मौके पर पहुंची। वहां युवक की गोली मारकर हत्या होने की पुष्टि के बावजूद कार्रवाई के बजाये थाना पुलिस इस घटना को करीब एक घंटे तक आला अफसरों और मीडिया सभी से छिपाने का प्रयास करती रही।
मौके पर पहुंची पुलिस।
4 of 7
शाम करीब 5.30 बजे युवक के पास मिले बैग में मिले कागजात के आधार पर शव की शिनाख्त होने के बाद थाना पुलिस हरकत में आई, जिसके बाद अफसरों में हड़कंप मच गया। एसपी सिटी अर्पित विजयवर्गीय ने मोर्चरी और एएसपी कृष्णा विश्नोई ने घटनास्थल पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। थाना पुलिस की लापरवाही से हाईवे पर इतनी बड़ी घटना होने के बाद आला अफसर अब जल्द हत्या का खुलासा करने का दावा कर रहे हैं।

घर का इकलौता बेटा था अर्पित
शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला खादरवाला निवासी डॉ अजय गोयल मोहल्ले में ही क्लीनिक चलाते हैं। उनके परिवार में पत्नी नीरा, बेटी आयुषि और इकलौता बेटा अर्पित गोयल हैं। बड़ी बेटी आयुषि की गत मार्च को ही रुड़की निवासी युवक से शादी हुई है। इकलौता बेटा अर्पित बेहद मिलनसार और हंसमुख स्वभाव का था, जो इंटरमीडिएट करने के बाद नर्सिंग का कोर्स कर रहा था। इसके साथ ही वह करीब दो साल से पार्टटाइम जॉब करते हुए केडबरी इंडिया से जुड़ा हुआ था। युवक की हत्या से मोहल्ला खादरवाला में भी शोक व्याप्त है।
विज्ञापन
विज्ञापन
मौके पर जांच करती टीम।
5 of 7
डबल मर्डर केस - 3
दो सगे भाइयों की हत्या
सहारनपुर जनपद में गंगोह के मोहनपुरा गांव में देवस्थान पर पूजा करने गए दो सगे भाइयों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। दोनों पर धारदार हथियारों से भी हमला किया गया। वारदात से गांव में सनसनी फैल गई। एसएसपी सहित कई अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर जांच की। घटना के खुलासे के लिए फोरेंसिक टीम और डॉग स्कवॉड की मदद की गई। पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की। दोनों भाई ज्योतिषी थे और रोजाना की तरह पूजा करने गए थे।
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00