विज्ञापन
विज्ञापन
आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट
Janam Kundali

आपकी जन्मकुंडली दूर करेगी आपके जीवन का कष्ट

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

महिला निजी सुरक्षा कर्मी को अश्लील वीडियो भेजने पर कर्मचारी की पिटाई

चंबा मेडिकल कॉलेज में तैनात महिला सुरक्षा कर्मी को अश्लील वीडियो भेजने का मामला सामने आया है। मामले को लेकर आउटसोर्स कर्मचारी की अन्य कर्मचारियों ने जमकर पिटाई की। इसके साथ ही माफीनामा लिखवाकर छोड़ा। इसको देखते हुए महिला ने पुलिस में मामले की शिकायत नहीं की है।

जानकारी के अनुसार आउट सोर्स कर्मचारी पिछले काफी समय से महिला सुरक्षा कर्मी को फोन पर तंग कर रहा था। मगर महिला कर्मी ने पहले तो इसे हलके में लिया। मगर आउटसोर्स कर्मचारी बाज नहीं आ रहा था। मंगलवार को आउटसोर्स कर्मचारी सभी हद पार करते हुए महिला सुरक्षा कर्मी के मोबाइल पर अश्लील वीडियो भेजदी।

इसे देखने के बाद महिला दंग रह गई। उसने इसको लेकर सहयोगियों से बात की। इसके बाद निजी सुरक्षा कर्मियों ने मिलकर आउटसोर्स कर्मचारी की धुनाई की। इसके साथ ही मामले की शिकायत आउटसोर्स कंपनी प्रबंधन से भी की। मामले को शांत करने के लिए प्रबंधन ने कर्मी से लिखित रूप में माफीनामा लिया। इसके साथ ही दोबारा इस तरह की हरकत नहीं करने की हिदायत दी।

माफीनामा देने के बाद महिला निजी सुरक्षा कर्मी ने पुलिस में शिकायत नहीं दी। इसकी वजह से आउटसोर्स कर्मचारी के खिलाफ पुलिस में केस दर्ज नहीं हो पाया। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. विनोद शर्मा ने बताया कि उनके ध्यान में यह मामला नहीं है। अगर ऐसा हुआ है तो इसकी पूरी जांच पड़ताल की जाएगी। इसमें जो भी दोषी पाया जाएगा। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

जुआ खेलते पकड़ने पर भाजयुमो नेता ने अन्य के साथ थाना प्रभारी और पुलिस कर्मी पर किया हमला

विकास खंड चंबा की मसरूंड पंचायत में जुआरियों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर भाजयुमो नेता सहित करीब 18 लोगों ने हमला कर दिया। इसमें थाना प्रभारी और दो अन्य पुलिस कर्मचारियों को गंभीर चोटें आई हैं। चोटिल पुलिस कर्मियों को चंबा मेडिकल कॉलेज में उपचार दिया गया। पुलिस ने मौके से करीब 75 हजार रुपये नकद बरामद किए हैं। पुलिस ने मामले दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है।  

पुलिस के मुताबिक घटना रविवार रात करीब साढ़े दस बजे हुई। बताया जा रहा है कि सबसे ज्यादा बरामद राशि भाजयुमो नेता की है। पुलिस ने सूचना के मुताबिक बताई गई जगह पर दबिश दी। जुआ खेलते लोगों को धर दबोचा। कार्रवाई करने के बाद पुलिस टीम वापस जाने लगी तो जुआरियों ने पुलिस की गाड़ी के आगे अपनी गाड़ी खड़ी कर दी और थाना प्रभारी सहित टीम सदस्यों के साथ मारपीट शुरू कर दी।

स्थानीय पंचायत प्रधान ने बीचबचाव किया और थाना प्रभारी को सुरक्षित स्थान तक पहुंचाया। पुलिस टीम से मारपीट करने के आरोपी मौके से फरार हो गए। सोमवार को पुलिस टीम फिर मौके पर पहुंची और लोगों से पूछताछ की। 

जुआरियों के हमले में थाना प्रभारी और दो अन्य पुलिस कर्मियों को चोटें आई हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है। दबिश में पुलिस ने राशि भी बरामद की है। - अजय कपूर, डीएसपी
... और पढ़ें

पहले मंदिर में माथा टेका फिर दानपात्र तोड़ उड़ा ली नकदी

बनीखेत के प्राचीन नाग मंदिर में शनिवार देर रात दानपात्र का ताला तोड़कर नकदी उड़ा ली गई। शातिर ने पहले मंदिर में तीन-चार बार माथा टेका और दानपात्र को घसीटकर बाहर ले आया। इसके बाद ताला तोड़कर फरार हो गया। पूरी घटना मंदिर में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। सीसीटीवी की फुटेज में चोरी करने वाले आरोपी का चेहरा साफ दिखाई दे रहा है।

पुलिस उसे पकड़ने के लिए जुट गई है। जल्द ही आरोपी पुलिस की गिरफ्त में होगा। जानकारी के अनुसार आरोपी ने शनिवार देर रात को मंदिर के अंदर जाकर दानपात्र को घसीटकर मंदिर के प्रांगण पर पहुंचाया। यहां पत्थर से दानपात्र पर लगे ताले को तोड़कर उसके अंदर रखी नकदी को चुराया। पैसे चोरी करने के बाद वह रफ्फूचक्कर हो गया। यह पूरी घटना मंदिर के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

जब रविवार को मंदिर में सुबह के समय पुजारी करतार शर्मा पूजा करने के लिए पहुंचे तो उन्होंने टूटे हुए दानपात्र को देखा। इसकी सूचना उन्होंने तुरंत पुलिस को दी। पुलिस ने मंदिर में जाकर घटना का जायजा लिया। साथ ही सीसीटीवी की फुटेज को खंगाला।

फुटेज में चोरी करने वाले व्यक्ति की पहचान की गई, जिसे पकड़ने के लिए पुलिस पूरी तरह से जुट गई है। एसएचओ आशीष पठानिया ने बताया कि आरोपी की पहचान हो चुकी है। उसके घर पर पुलिस ने दबिश दी। जहां पर पता चला कि वह मानसिक रूप से परेशान है। फिलहाल, पुलिस विभिन्न स्थानों पर आरोपी की तलाश कर रही है।
... और पढ़ें

हत्यारोपी को पकड़ने के लिए पुलिस ने दागी गोली, नहीं कर रहा था आत्मसमर्पण

हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले के सलूणी उपमंडल के कैंथली गांव में बुधवार को जानलेवा हमला कर एक महिला की हत्या और पिता समेत पांच लोगों को घायल करने के आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस को उसके पांव पर गोली चलानी पड़ी। गुरुवार को आत्मसमर्पण न करने पर फरार हत्यारोपी पर पुलिस ने गोली चलाकर घायल करने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को पकड़ने के लिए विभिन्न थानों की पुलिस टीम बनाई और ग्रामीणों ने भी साथ दिया। 
 पुलिस के अनुसार आरोपी ने बुधवार को अपने पिता चतरो पर झगड़े के दौरान कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। लहूलुहान आरोपी को बचाने आई गांव की गीता देवी, रितु, ओमप्रकाश, विपिन, कमला पर आरोपी ने कुल्हाड़ी से हमला कर दिया और मौके से भाग निकला।

गंभीर घायल रितु को टांडा मेडिकल कॉलेज कांगड़ा लाया गया, जहां उसकी मौत हो गई, जबकि एक अन्य महिला गीता देवी को चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया है। पुलिस ने आरोपी पर हत्या के आरोप में धारा 302 के अलावा 307 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने वारदात के लिए इस्तेमाल तेजधार हथियार कुल्हाड़ी भी कब्जे में ले ली है। इससे पहले आरोपी की धरपकड़ के लिए जहां पुलिस टीम पूरी रात जुटी रही, वहीं दूसरी तरफ एसडीएम सलूणी किरण भड़ाना, एसपी चंबा अरूल कुमार, एएसपी रमन शर्मा, डीएसपी शेर सिंह मौके पर मौजूद रहे। डीएसपी सलूणी शेर सिंह ने बताया कि वीरवार को आरोपी के जंगल में होने की खबर मिलते ही पुलिस और ग्रामीण उसे पकड़ने पहुंचे तो आरोपी ने हथियार से उन पर भी वार करना शुरू कर दिया, जिसमें वे बाल-बाल बचे। इसके बाद पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेने के लिए योजना तैयार कर उसके पांव पर गोली दागी, जिससे घायल हुए आरोपी को हिरासत में लिया गया। 
... और पढ़ें
हत्या का आरोपी गिरफ्तार हत्या का आरोपी गिरफ्तार

पिता समेत छह लोगों को बेटे ने कुल्हाड़ी से हमला कर किया लहूलुहान

हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले के सलूणी उपमंडल के कैंथली गांव में एक युवक ने अपने पिता समेत छह लोगों पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। इस सनसनीखेज वारदात में सभी को गंभीर चोटें आई हैं। हालांकि आरोपी वारदात को अंजाम देने के बाद मौके से फरार हो गया है। पुलिस ने इस संबंध में केस दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है जबकि घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। किहार में प्राथमिक उपचार के बाद तीन घायलों को मेडिकल कॉलेज चंबा के लिए रेफर कर दिया गया है।  जानकारी अनुसार ग्राम पंचायत सनूंह के गांव कैंथली निवासी 30 वर्षीय पान चंद पुत्र चतरो ने बुधवार देरशाम करीब साढ़े छह बजे अचानक पिता पर घर में कुल्हाड़ी से हमला कर लहूलुहान कर दिया। बेटे के हमला करने के बाद खुद को बचाने के लिए पिता चतरो राम घर से निकल कर गांव की तरफ भागा।

पीछा करता हुआ व्यक्ति भी मौके पर पहुंच गया। उसने बीच-बचाव करने के लिए आई गीता पत्नी रमेश, रितू पत्नी दुनी चंद, ओम प्रकाश पुत्र धर्म चंद, विपन पुत्र धर्मचंद और कमला पत्नी लोकी नंद को बारी-बारी कुल्हाड़ी के वार से लहुलुहान कर दिया।  चीखने-चिल्लाने की आवाजें सुन गांव के अन्य लोग भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने जैसे-तैसे व्यक्ति से कुल्हाड़ी छिन्नी और पुलिस को सूचित किया। सूचना मिलने के बाद पुलिस टीम को मौके पर आता देख ग्रामीण मौके से फरार हो गया। पुलिस की मदद से ग्रामीणों ने घायलों को किहार अस्पताल पहुंचाया। जहां पर सभी घायलों को प्राथमिक उपचार दिया गया। प्राथमिक उपचार के बाद चतरो, गीता और रितु को मेडिकल कॉलेज चंबा के लिए रेफर कर दिया गया। पुलिस टीम घायलों के बयान दर्ज करने और व्यक्ति की धरपकड़ के लिए जगह-जगह दबिश दे रही है। 

डीएसपी सलूणी शेर सिंह ने कैंथली गांव के एक व्यक्ति ने अपने पिता सहित छह लोगों पर कुल्हाड़ी से हमला कर उन्हें लहुलुहान करने के मामले की पुष्टि की है।  बताया कि पुलिस ने घायलों को किहार अस्पताल पहुंचाया गया। जहां पर घायलों को प्राथमिक उपचार दिया गया तथा तीन घायलों को चंबा रेफर किया गया है। बताया कि पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह दबिश दे रही है। 
... और पढ़ें

महिला की हत्या करने के बाद खुद भी फंदे पर झूला व्यक्ति

चंबा जिले की सराहन पंचायत के सोंट गांव में एक व्यक्ति ने महिला को मौत के घाट उतारने के बाद खुद भी फंदा लगाकर जान दे दी। मृतक महिला चंपा मंडलूई की रहने वाली थी। फंदा लगाकर जान देने वाला राकेश सराहन पंचायत के सोंट गांव का था। प्रथम दृष्टया मामले को प्रेम प्रसंग से जोड़कर देखा जा रहा है। पुलिस ने केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। मृतक महिला और पुरुष दोनों के परिजनों के बयान दर्ज किए गए हैं।

जानकारी के अनुसार महिला अपने मायके में रहती थी। मंगलवार रात को वह उक्त व्यक्ति से मिलने उसके घर गई थी। बुधवार सुबह राकेश की मां ने कमरे का दरवाजा खोला तो देखा कि खून से लथपथ चंपा बिस्तर पर पड़ी थी। उसके पास लोहे की रॉड भी पड़ी थी, जबकि राकेश का शव पंखे से झूल रहा था। मृतक राकेश की मां ने तुरंत इसकी सूचना गांव के लोगों को दी। ग्रामीणों ने प्रधान और पुलिस को सूचित किया।

सूचना मिलते ही एसपी डॉ. मोनिका, एएसपी चंबा रमन शर्मा और एसएचओ शकीनी कपूर मौके पर पहुंचे। पुलिस ने चंबा मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम के बाद दोनों के शव परिजनों को सौंप दिए हैं। लोहे की रॉड को भी कब्जे में ले लिया है। पुलिस ने फंदा लगाकर खुदकुशी करने वाले व्यक्ति के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। उधर, एएसपी रमन शर्मा ने बताया कि सराहन पंचायत में एक व्यक्ति ने महिला को मारकर खुद भी फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।
... और पढ़ें

वन विभाग की टीम पर हमला कर, बीओ को किया लहूलुहान, करना पड़ा हवाई फायर

जिला चंबा में अवैध कटान और घर में लकड़ी होने की सूचना पर दबिश देने जा रही वन विभाग की टीम पर वनकाटुओं और उनके साथियों ने हमला कर दिया। घटना शुक्रवार शाम की कीड़ी क्षेत्र के साहलुंई गांव की है। हमलावरों ने आसपास की बिजली बंद कर बीओ, दो वनरक्षकों और एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को घेर लिया और अंधेरे का फायदा उठाते हुए डंडों से हमला कर दिया। इसमें वनखंड अधिकारी सुनील कुमार बुरी तरह लहूलुहान हो गए।

जान बचाने के लिए टीम को हवाई फायर करना पड़ा। इसके बाद ग्रामीण मौके से भागे। गंभीर हालत में बीओ को चंबा मेडिकल कॉलेज से पीजीआई रेफर किया गया है। अधिकारी के सिर पर गंभीर चोटें आई हैं। वनरक्षक भुवन पाल व सुरेश कुमार को भी चोट लगी है। इन्हें मेडिकल कॉलेज में उपचार के बाद घर भेज दिया गया। 

पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका ने बताया कि देर शाम सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति को संभाला। वन विभाग की शिकायत पर मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। दूसरे पक्ष ने भी क्रॉस एफआईआर दर्ज करवाई है। वन विभाग के घायल अधिकारी और कर्मचारियों के बयान दर्ज किए गए हैं। पुलिस मामले की निष्पक्ष जांच करने में जुटी है। 

उधर, फॉरेस्ट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान अब्दुल हमीद ने बताया कि सरकारी कर्मचारियों पर इस तरह से हमला करना अमानवीय है। ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए, जिससे भविष्य में कोई भी इस तरह की घटना को अंजाम न दे सके। इस मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।
... और पढ़ें

वनरक्षक की प्रमोशन के लिए दिया बारहवीं का प्रमाणपत्र निकला फर्जी

सांकेतिक तस्वीर
वन विभाग में दस प्रतिशत कोटे के तहत चतुर्थ श्रेणी से वनरक्षक बने कर्मचारी का बारहवीं का प्रमाण पत्र जाली निकला है। पुलिस ने वनरक्षक के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के तहत मामला दर्ज किया है। वनरक्षक ने प्रमोशन लेने के लिए बारहवीं के जिस प्रमाणपत्र को विभाग के रिकॉर्ड में जमा करवाया था, उसका ऑनलाइन कोई प्रमाण नहीं मिला है। इससे विभाग को प्रमाण पत्र की सत्यता पर शक हुआ और वनरक्षक के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। 

पुलिस ने प्रमाण पत्र को लेकर जांच शुरू कर दी है। शुरुआती जांच में पाया गया कि बारहवीं का यह प्रमाण पत्र नोएडा में बनाया गया है। जाली प्रमाण पत्र बनाने के तार चंबा में किसी शिक्षण संस्थान के साथ भी जुड़े हो सकते हैं। संदेह जताया जा रहा है कि चंबा के किसी संस्थान ने इसे नोएडा में बनवाया है। फिलहाल, इसको लेकर पुलिस जांच कर रही है। कोरोना के चलते पुलिस जांच को अभी नोएडा नहीं जा सकती है, क्योंकि पहले भी किसी केस के सिलसिले में चंबा से दिल्ली गए चार पुलिस कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो गए थे।

स्थिति सामान्य होने पर पुलिस प्रमाण पत्र की जांच को नोएडा में दबिश देगी। जांच के दौरान इस तरह के अन्य जाली प्रमाण पत्र के और मामले सामने आ सकते हैं। उधर, एसएचओ चंबा शकीनी कपूर ने बताया कि वन विभाग ने जाली शैक्षणिक प्रमाण पत्र देकर प्रमोशन लेने की शिकायत करवाई थी। जांच में पाया गया कि शैक्षणिक प्रमाण पत्र नोएडा में बनाया गया है। किस संस्थान ने वन रक्षक को यह शैक्षणिक प्रमाण पत्र दिया। इसको लेकर पूरी जांच पड़ताल की जा रही है।
... और पढ़ें

चिकन की दुकान में ताश के पत्तों के साथ 1 लाख 62 हजार रुपये पकड़े, मामला दर्ज

रजेरा में पुलिस ने मीट की दुकान में 13 लोगों को जुआ खेलते हुए दबोचा है। पुलिस ने ताश के पत्तों के साथ दांव पर लगाई एक लाख 62 हजार 600 रुपये की रकम भी जब्त कर ली है। सभी लोग जुआ खेलने में इतने मग्न थे कि उन्हें पुलिस के आने का पता ही नहीं चला। जुआ खेल रहे सभी लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार करके बाद में जमानत पर रिहा छोड़ दिया गया। 

जानकारी के अनुसार मंगलवार शाम को चंबा पुलिस दल थाना प्रभारी प्रशांत ठाकुर की अगुवाई में रजेरा की तरफ गश्त पर था। इसी दौरान पुलिस को सूचना मिली कि कुछ लोग मीट की दुकान में जुआ खेल रहे हैं। सूचना मिलते ही पुलिस टीम ने दुकान में धाबा बोल दिया। पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका ने बताया कि रजेरा में 13 लोगों को जुआ खेलते हुए पकड़ा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

पुलिस सिग्नल तोड़ भगा ले गया वाहन, केस दर्ज

लॉकडाउन के दौरान कुछेक मनचले वाहन चालक बिना पास वाहन चलाने से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसे वाहन चालकों पर पुलिस ने नकेल कसना शुरू कर दिया है। शनिवार को पुलिस ने चंबा-तीसा मार्ग पर नाका लगाया था। उसी दौरान अभिषेक सूर्यवंशी निवासी राजपुरा अपनी गाड़ी को लेकर आया। नाके पर खड़ी पुलिस ने उसे जांच के लिए रुकने को कहा। वह पुलिस सिग्नल को तोड़कर आगे निकल गया।

इसके चलते पुलिस ने उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान कर्फ्यू में ढील के दौरान पैदल आवाजाही को लेकर छूट दी गई है। वाहन के लिए पास अनिवार्य है। जो लोग बिना पास सड़कों पर अपने वाहन दौड़ा रहे हैं। उनके खिलाफ पुलिस सख्ती से कार्रवाई की रही है।
... और पढ़ें

घर पर रहने की सलाह दी तो दो लोगों ने पीट दिया प्रधान

पंचायत प्रधान ने व्यक्ति को घर पर रहने की सलाह दी तो व्यक्ति ने प्रधान की पिटाई कर दी। प्रधान के कपड़े फाड़ दिए। पंचायत प्रधान ने चुवाड़ी थाना में दो लोगों के खिलाफ शिकायत करवाई है। गाड़ी लेकर आया व्यक्ति जिसे प्रधान ने घर पर रहने के लिए कहा, वह मौके से फरार हो गया। प्रधान की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ थाना चुवाड़ी में मामला दर्ज कर लिया है।

कामला पंचायत के प्रधान इंद्र सिंह ने पुलिस में दी शिकायत में बताया कि शनिवार को गाड़ी लेकर अज्ञात व्यक्ति उनके क्षेत्र में आया। वह किसी बाहरी व्यक्ति को संगरोध में छोड़ कर आया था। इस पर चालक को घर में ही रहने की सलाह दी गई थी। उन्होंने चालक को घर पर रहने के लिए कहा। इस पर विक्की और कर्म चंद ने प्रधान की पिटाई कर दी। पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका ने बताया कि दो लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है। 

बिना अनुमति उद्योग में पहुंचा वरिष्ठ एचआर, मामला दर्ज
पड़ोसी राज्य हरियाणा से हिमाचल के औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन में बिना अनुमति आने पर पुलिस ने एक उद्योग के वरिष्ठ एचआर के खिलाफ न केवल मामला दर्ज किया है। उसे तुरंत संस्थागत क्वारंटीन केंद्र बरोटीवाला भेज दिया है। पुलिस के अनुसार बद्दी थाना पुलिस के मुख्य आरक्षी रमेश कुमार की अगुवाई वाली टीम को सूचना मिली कि औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन के काठा स्थित एक कंपनी में कृष्ण कुमार नाम व्यक्ति बिना अनुमति के पड़ोसी राज्य हरियाणा के कालका से आया है।

पुलिस टीम ने जांच की तो कंपनी के गेस्ट हाउस में यह शख्य कृष्ण कुमार पुत्र पन्नी लाल निवासी मकान नंबर 1405/3 अप्पर मोहल्ला कालका, जिला पंचकूला हरियाणा यहां ठहरा हुआ था। यह व्यक्ति हरियाणा के कालका से अपने स्कूटर पर मढ़ांवाला तक आया और उसके बाद वहां से पैदल ही कंपनी पहुंच गया। उधर, पुलिस अधीक्षक रोहित मालपानी ने कहा कि तुरंत पुलिस ने उसे क्वारंटीन केंद्र बरोटीवाला भेज दिया और उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। 


उद्योग में सामाजिक दूरी का नियम तोड़कर 500 कामगारों ने किया हंगामा, केस दर्ज
औद्योगिक क्षेत्र बीबीएन के भटौली खुर्द स्थित एक टैक्सटाइल उद्योग में करीब पांच सौ कामगार एकत्र हो गए। सामाजिक दूरी का नियम तोड़ने पर मामला दर्ज कर लिया है। कंपनी प्रबंधन ने यह शिकायत करवाई है। बिना किसी पूर्व सूचना के एक साथ एकत्रित होने और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाने सहित उद्योग की संपत्ति को नुकसान करने पर केस दर्ज हुआ है।

कामगार यहां अपनी मांगों को लेकर एकत्रित हो गए और बिना किसी सूचना के इतनी संख्या में एकत्रित होना और कोविड-19 को लेकर बरती जा रही सावधानियों के आदेशों की अवहेलना करने का कंपनी प्रबंधन की ओर से कामगारों पर आरोप लगाया गया है। कंपनी प्रबंधन ने बरोटीवाला पुलिस थाना में रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

पुलिस में दर्ज रिपोर्ट में साई रोड़ बद्दी भटोली खुर्द स्थित टैक्सटाइल कंपनी के कार्यकारी अध्यक्ष राजीव गुप्ता ने बताया कि उनकी कंपनी में शाम के समय उद्योग के करीब 500 कामगार एकत्रित हो गए और बिना किसी सूचना और दो गज दूरी के पालन की अवहेलना करते हुए यहां हंगामा किया और साथ ही कंपनी की संपत्ति को नुकसान पहुंचाया है। एसपी रोहित मालपानी ने कहा कि पुलिस ने कंपनी प्रबंधन की शिकायत के बाद मामला दर्ज कर लिया गया है। 
... और पढ़ें

कर्फ्यू के दौरान पुलिस से उलझे मां और बेटा, मामला दर्ज

पुलिस को देख बाइक लेकर भाग रहे युवक को जब पूछताछ के लिए पकड़ा गया तो उसकी मां पुलिस से उलझ गई। पुलिस कर्मचारियों ने महिला को समझाने का काफी प्रयास किया, लेकिन महिला पुलिस की बात सुनने को तैयार नहीं हो रही थी। महिला पुलिस चौकी में जाकर भी पुलिस के साथ बहसबाजी करती रही। इसके बाद मां और बेटे के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज कर लिया गया। 

पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका ने बताया कि सुल्तानपुर पुलिस चौकी का दल जब रविवार को कर्फ्यू के दौरान खज्जियार चौक के पास गश्त कर रहा था तो युवक बाइक लेकर आया। पुलिस को देखकर भागने की कोशिश करने लगा। जिसे पुलिस दल ने कुछ ही दूरी पर जाकर दबोच लिया। इसी बीच इसकी मां भी वहां पहुंच गई और पुलिस के काम में बाधा उत्पन की। इस पर पुलिस ने दोनों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

बैंक अफसर बताकर शातिर ने व्यक्ति को लगाया 1 लाख 34 हजार का चूना

बैंक का अधिकारी बताकर शातिर ने व्यक्ति को एक लाख 34 हजार का चूना लगा दिया। शातिर को पुलिस ने झारखंड से गिरफ्तार कर लिया है। तीसा थाना में चैन सिंह शिकायत दर्ज करवाई कि उसे मोबाइल पर फोन आया। इसमें बात करने वाले व्यक्ति ने खुद को बैंक का अधिकारी बताया। साथ ही उसके खाते से संबंधित एटीएम को एक्टीवेट करने के लिए खाते से संबंधित जानकारी और ओटीपी ले लिया।

यह जानकारी साझा करते ही शिकायतकर्ता के बैंक खाते से लगभग 1 लाख 34 हजार रुपये गायब हो गए। इसका पता शिकायतकर्ता को तब चला जब उसे खाते से पैसे निकलने का मेसेज आया। मेसेज आने के बाद उसने पहले बैंक में संपर्क किया। उसके बाद अपने साथ हुई ठगी की शिकायत पुलिस थाना तीसा में दर्ज करवाई। 

इस पुलिस की एक टीम गठित की गई। इसमें मुख्य आरक्षी भजन सिंह , मुख्य आरक्षी उमेश तथा साइबर सैल चंबा से आरक्षी चैन सिंह, आरक्षी नितेंद्र पाल और आरक्षी मनीष कुमार शामिल रहे। पुलिस दल ने शातिर को लोकेशन के आधार पर झारखंड से काबू कर लिया।

उपरोक्त आरोपी को चार दिन के ट्रांजिट रिमांड लाया गया। रविवार को उसे न्यायालय के समक्ष पेश किया गया। पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका ने बताया कि बैंक अधिकारी बनकर ठगी करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X