बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP
विज्ञापन

चम्बा

विज्ञापन
कालाष्टमी प्राचीन कालभैरव मंदिर दिल्ली में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात, अभी बुक करें
Myjyotish

कालाष्टमी प्राचीन कालभैरव मंदिर दिल्ली में पूजा और प्रसाद अर्पण से बनेगी बिगड़ी बात, अभी बुक करें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

महिला की हत्या करने के बाद खुद भी फंदे पर झूला व्यक्ति

चंबा जिले की सराहन पंचायत के सोंट गांव में एक व्यक्ति ने महिला को मौत के घाट उतारने के बाद खुद भी फंदा लगाकर जान दे दी। मृतक महिला चंपा मंडलूई की रहने वाली थी। फंदा लगाकर जान देने वाला राकेश सराहन पंचायत के सोंट गांव का था। प्रथम दृष्टया मामले को प्रेम प्रसंग से जोड़कर देखा जा रहा है। पुलिस ने केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। मृतक महिला और पुरुष दोनों के परिजनों के बयान दर्ज किए गए हैं।

जानकारी के अनुसार महिला अपने मायके में रहती थी। मंगलवार रात को वह उक्त व्यक्ति से मिलने उसके घर गई थी। बुधवार सुबह राकेश की मां ने कमरे का दरवाजा खोला तो देखा कि खून से लथपथ चंपा बिस्तर पर पड़ी थी। उसके पास लोहे की रॉड भी पड़ी थी, जबकि राकेश का शव पंखे से झूल रहा था। मृतक राकेश की मां ने तुरंत इसकी सूचना गांव के लोगों को दी। ग्रामीणों ने प्रधान और पुलिस को सूचित किया।

सूचना मिलते ही एसपी डॉ. मोनिका, एएसपी चंबा रमन शर्मा और एसएचओ शकीनी कपूर मौके पर पहुंचे। पुलिस ने चंबा मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम के बाद दोनों के शव परिजनों को सौंप दिए हैं। लोहे की रॉड को भी कब्जे में ले लिया है। पुलिस ने फंदा लगाकर खुदकुशी करने वाले व्यक्ति के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है। उधर, एएसपी रमन शर्मा ने बताया कि सराहन पंचायत में एक व्यक्ति ने महिला को मारकर खुद भी फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।
... और पढ़ें

वन विभाग की टीम पर हमला कर, बीओ को किया लहूलुहान, करना पड़ा हवाई फायर

जिला चंबा में अवैध कटान और घर में लकड़ी होने की सूचना पर दबिश देने जा रही वन विभाग की टीम पर वनकाटुओं और उनके साथियों ने हमला कर दिया। घटना शुक्रवार शाम की कीड़ी क्षेत्र के साहलुंई गांव की है। हमलावरों ने आसपास की बिजली बंद कर बीओ, दो वनरक्षकों और एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को घेर लिया और अंधेरे का फायदा उठाते हुए डंडों से हमला कर दिया। इसमें वनखंड अधिकारी सुनील कुमार बुरी तरह लहूलुहान हो गए।

जान बचाने के लिए टीम को हवाई फायर करना पड़ा। इसके बाद ग्रामीण मौके से भागे। गंभीर हालत में बीओ को चंबा मेडिकल कॉलेज से पीजीआई रेफर किया गया है। अधिकारी के सिर पर गंभीर चोटें आई हैं। वनरक्षक भुवन पाल व सुरेश कुमार को भी चोट लगी है। इन्हें मेडिकल कॉलेज में उपचार के बाद घर भेज दिया गया। 

पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका ने बताया कि देर शाम सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति को संभाला। वन विभाग की शिकायत पर मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। दूसरे पक्ष ने भी क्रॉस एफआईआर दर्ज करवाई है। वन विभाग के घायल अधिकारी और कर्मचारियों के बयान दर्ज किए गए हैं। पुलिस मामले की निष्पक्ष जांच करने में जुटी है। 

उधर, फॉरेस्ट वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान अब्दुल हमीद ने बताया कि सरकारी कर्मचारियों पर इस तरह से हमला करना अमानवीय है। ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए, जिससे भविष्य में कोई भी इस तरह की घटना को अंजाम न दे सके। इस मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।
... और पढ़ें

वनरक्षक की प्रमोशन के लिए दिया बारहवीं का प्रमाणपत्र निकला फर्जी

वन विभाग में दस प्रतिशत कोटे के तहत चतुर्थ श्रेणी से वनरक्षक बने कर्मचारी का बारहवीं का प्रमाण पत्र जाली निकला है। पुलिस ने वनरक्षक के खिलाफ आईपीसी की धारा 420 के तहत मामला दर्ज किया है। वनरक्षक ने प्रमोशन लेने के लिए बारहवीं के जिस प्रमाणपत्र को विभाग के रिकॉर्ड में जमा करवाया था, उसका ऑनलाइन कोई प्रमाण नहीं मिला है। इससे विभाग को प्रमाण पत्र की सत्यता पर शक हुआ और वनरक्षक के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। 

पुलिस ने प्रमाण पत्र को लेकर जांच शुरू कर दी है। शुरुआती जांच में पाया गया कि बारहवीं का यह प्रमाण पत्र नोएडा में बनाया गया है। जाली प्रमाण पत्र बनाने के तार चंबा में किसी शिक्षण संस्थान के साथ भी जुड़े हो सकते हैं। संदेह जताया जा रहा है कि चंबा के किसी संस्थान ने इसे नोएडा में बनवाया है। फिलहाल, इसको लेकर पुलिस जांच कर रही है। कोरोना के चलते पुलिस जांच को अभी नोएडा नहीं जा सकती है, क्योंकि पहले भी किसी केस के सिलसिले में चंबा से दिल्ली गए चार पुलिस कर्मचारी कोरोना संक्रमित हो गए थे।

स्थिति सामान्य होने पर पुलिस प्रमाण पत्र की जांच को नोएडा में दबिश देगी। जांच के दौरान इस तरह के अन्य जाली प्रमाण पत्र के और मामले सामने आ सकते हैं। उधर, एसएचओ चंबा शकीनी कपूर ने बताया कि वन विभाग ने जाली शैक्षणिक प्रमाण पत्र देकर प्रमोशन लेने की शिकायत करवाई थी। जांच में पाया गया कि शैक्षणिक प्रमाण पत्र नोएडा में बनाया गया है। किस संस्थान ने वन रक्षक को यह शैक्षणिक प्रमाण पत्र दिया। इसको लेकर पूरी जांच पड़ताल की जा रही है।
... और पढ़ें

स्टेट नारकोटिक्स सेल: चंबा में 8 किलो चरस के साथ एक गिरफ्तार

चंबा-तीसा मार्ग पर कोटी वर्षाशालिका के पास एक व्यक्ति को पुलिस टीम ने 8.62 किलो ग्राम चरस के साथ धर दबोचा। स्टेट नारकोटिक्स सेल कांगड़ा की टीम ने रविवार दोपहर यह कार्रवाई की। 

पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान सूरत दास निवासी बंजाल, डाकघर टिकरीगढ़, तहसील चुराह, जिला चंबा के रूप में हुई। बताया जा रहा है कि पुलिस टीम कोटी के पास मौजूद थी। इसी दौरान एक व्यक्ति वर्षाशालिका में बैग लेकर बैठा था।

वह टीम को देखकर घबरा गया। टीम ने शक के आधार पर तलाशी ली तो उसके बैग से चरस बरामद हुई। पुलिस पता लगाने में जुटी है कि आरोपी चरस कहां से लाया और कहां पहुंचाने जा रहा था। 

गौरतलब है कि जिले में चरस तस्करी के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। अब तक काफी मामले चरस तस्करी के सामने आ चुके हैं। एएसपी विनोद कुमार ने बताया कि मामला दर्ज कर पुलिस छानबीन कर रही है। 
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

मानवता शर्मसार: कंपकंपाती ठंड में घर के दरवाजे पर छोड़ गए नवजात को, उपायुक्त ने दिए जांच के आदेश

चंबा जिले में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। रविवार सुबह छह बजे कंपकंपाती ठंड के बीच नए बस स्टैंड के पास एक घर के दरवाजे के बाहर प्लास्टिक टब में किसी ने नवजात बच्ची को रोता-बिलखता छोड़ दिया। बच्ची जब जोर-जोर से रोने लगी तो घर वाले बाहर निकले। इसकी सूचना तुरंत पुलिस और चाइल्ड लाइन को दी। बच्ची को मेडिकल कॉलेज चंबा पहुंचाया गया। यहां चिकित्सकों ने बच्ची की जांच करके उसे अस्पताल में भर्ती कर लिया।

बच्ची स्वस्थ बताई जा रही है। पुलिस टीम नवजात को छोड़ने वालों की तलाश में जुट गई है। अगर बच्ची का जन्म सरकारी या निजी अस्पताल में हुआ है तो उसका वहां पर रिकॉर्ड दर्ज होगा। इसके जरिये पुलिस उसकी मां तक पहुंच सकती है। अगर बच्ची का जन्म घर में हुआ तो उसके बारे में पता लगाने के लिए पुलिस को कसरत करनी पड़ सकती है।

सूचना मिलते ही चाइल्ड लाइन के साथ बाल संरक्षण इकाई और बाल कल्याण समिति के अधिकारी भी अस्पताल पहुंचे। बच्ची को अस्पताल में सुरक्षित पहुंचाने के बाद उन्होंने पुलिस थाना चंबा में इसकी एफआईआर दर्ज करवाई। बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष अंजना कुमारी ने बताया कि बच्ची की सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। बच्ची के बिल्कुल स्वस्थ होने पर उसे शिशु गृह शिमला में भेजने की व्यवस्था की जाएगी।

पुलिस अधीक्षक अरुल कुमार ने बताया कि नवजात को छोड़ने वाले अज्ञात व्यक्ति की तलाश की जा रही है। जल्द ही उसे ढूंढ लिया जाएगा। इसके लिए पुलिस पूरी मुस्तैदी से कार्य कर रही है। 

जिलाधीश डीसी राणा ने बताया कि नवजात को इस तरह मरने के लिए छोड़ना अपराध है। इसकी जांच करने के लिए पुलिस को आदेश दिए हैं। दोषी को पकड़कर उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 
... और पढ़ें

खुद को कुंवारा बताकर कोर्ट में की शादी, पता चलने पर महिला ने पुलिस में दी शिकायत

हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले की एक महिला ने पति पर शारीरिक तौर पर प्रताड़ित करने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। महिला ने पुलिस थाना चंबा में इसकी शिकायत भी दर्ज करवाई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू दी है। जानकारी के अनुसार महिला चंबा जिले के एक गांव की रहने वाली है। महिला ने बयान दिया है कि उसके साथ राजपुरा के एक व्यक्ति ने खुद को कुंवारा बताकर नवंबर 2019 में उसके साथ कोर्ट मैरिज की, जबकि उसकी शादी पहले हो चुकी थी।

उसका एक बच्चा भी है। इस बात का पता उसे शादी के बाद लगा। इसके बाद महिला ने अपने पति को पूछा, लेकिन वह अब उसे शारीरिक तौर पर प्रताड़ित कर रहा है। जान से मारने की धमकी दे रहा है। पुलिस ने महिला की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया है। एसपी अरुल कुमार ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। 
... और पढ़ें

चंबा: डयूटी से घर लौट रहे एसपीओ को दो भाइयों ने डंडे से पीट-पीटकर किया घायल

हिमाचल प्रदेश के चंबा में ड्यूटी से अपने घर लौट रहे एसपीओ (सब डिविजनल पुलिस ऑफिसर) को दो भाइयों ने बीच रास्ते में रोककर उसे डंडे से पीट-पीट कर लहूलुहान कर दिया। खून से लथपथ एसपीओ ने किसी तरह वहां से भाग कर अपनी जान बचाई। परिजन उसे उपचार के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तेलका ले गए। सोमवार को एसपीओ को उपचार के लिए चंबा मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। घायल की पहचान सुखलाल निवासी गांव दीवाला पंचायत भजोत्रा के रूप में हुई है।

सुखलाल ने बताया कि आठ अगस्त रात नौ बजे जब वह सकोटी में ड्यूटी के बाद अपने घर लौट रहा था तो दीवाला गांव के पास यशपाल और प्रीतम ने उसका रास्ता रोक लिया। इससे पहले कि वह स्कूटी से उतरकर उनसे रास्ता रोकने का कारण पूछ पाता, दोनों ने डंडो से उस पर हमला कर दिया। डंडे के हमले से उसे काफी चोटें लगी। खून से लथपथ होने के बाद वह अपनी जान बचाने के लिए घर की तरफ भागा। कुछ दूर तक दोनों भाइयों ने उसका पीछा भी किया लेकिन जब वह घर के भीतर घुसा तो दोनों भाई वहां से लौट गए। 

 सुखलाल की पत्नी बीना देवी ने अपने पति के साथ मारपीट करने वालों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने बीना देवी की शिकायत पर दोनों भाइयों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 341, 504, 506 और 34 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस मारपीट में सुखलाल को सिर, टांगों सहित शरीर के अन्य भागों पर गहरी चोटें आई हैं। डीएसपी शेर सिंह ने बताया कि एसपीओ के साथ दो लोगों ने मारपीट की है। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की गहनता से जांच कर रही है। 
... और पढ़ें

डंडे से पीट-पीट कर पत्नी को मार डाला, आरोपी गिरफ्तार

पीटाई(सांकेतिक)
चंबा जिले में उपमंडल चुराह की हिमगिरी पंचायत में पति ने डंडे से पीट-पीट कर पत्नी को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है। उसे वीरवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। मृतक महिला की पहचान कांछी देवी (42) पत्नी जय सिंह गांव दियोतनगर, तहसील चुराह के रूप में हुई है।

मंगलवार रात को दोनों के बीच किसी बात पर विवाद हुआ था। इस बीच,  पति ने गुस्से में महिला के सिर पर डंडे से वार कर दिए। इससे महिला की मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने पर आस-पड़ोस के लोगों ने बुधवार सुबह पंचायत प्रधान को सूचित किया। 

हिमगिरी पंचायत प्रधान चंपा देवी ने घटना की सूचना पुलिस को दी। पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुंची। पुलिस ने महिला बच्चों से घटना को लेकर पूछताछ की। इसमें महिला और उसके पति के बीच विवाद की बात सामने आई। महिला के पांच बच्चे हैं। 

तीसा थाना प्रभारी सुरेंद्र कुमार स्वयं टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे थे। महिला का शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है। डीएसपी सलूणी शेर सिंह ने बताया कि हिमगिरी पंचायत में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही हत्या में इस्तेमाल डंडे को भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। 
... और पढ़ें

अतिक्रमण को लेकर दो गुटों में मारपीट, परिवार पर हमला करने के मामले में 11 गिरफ्तार, क्रॉस एफआईआर दर्ज

चंबा जिले में चरागाह के रास्ते को लेकर दो गुटों में हुई मारपीट के मामले में पुलिस ने क्रॉस एफआईआर दर्ज की है। पुलिस ने परिवार पर हमला करने के मामले में 11 लोगों को गिरफ्तार किया। जिन्हें बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया। वहीं, ग्रामीणों द्वारा किए गए हमले का वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। मामला उपमंडल चुराह के नकरोड़ का है। बहरहाल, पुलिस मामले की गहनता से तफ्तीश में जुट गई है। 

पीड़ित नकरोड़ निवासी प्रेम सिंह पुत्र राम दयाल ने कहा कि 10 जुलाई की दोपहर 12 बजे उसने पत्नी को बच्चों को खाना बनाने के लिए कहा। इस दौरान गांव का एक व्यक्ति उसके पास पहुंचा और उससे बहसबाजी करने लगा। जिसके बाद उसने उठा कर प्रेम सिंह को नीचे फेंक दिया। इतने में उसकी पत्नी और बच्चे चिल्लाने लगे। जैसे-तैसे कर वह घर पहुंचा पंचायत के लोग, जिनमें मनरेगा की लेबर शामिल थी, निर्माणाधीन मकान में तोड़-फोड़ कर परिवार के साथ मारपीट कर रहे थे।

लोगों के हाथों में डंडे, लोहे की रॉड, पेट्रोल, कुल्हाड़ी थी। उसने लोगों को ऐसा करने से मना किया। जिस पर लोगों ने उस पर हमला कर उन्हें घायल कर दिया। लोगों द्वारा पुलिस बुलाने पर पुलिस उन्हें नकरोड़ ले आई। जहां पर पुलिस में शिकायत दी गई। हमले से घायल हुई उसकी पत्नी को मेडिकल कॉलेज चंबा ले आया। मकान के भीतर से 4.80 लाख की मकान बनने के लिए नगदी, सोने के जेबरात गायब हैं।

उसके दो लैपटॉप, एक डेस्कटॉप, एमसीबी, फ्रीज, राशन डबल बेड इत्यादि सामान को ग्रामीणों ने तोड़ दिया है। पीड़ित ने मामले की निष्पक्ष जांच की मांग उठाई है। वहीं, दूसरी ओर शिकायतकर्ता पीर मोहम्मद ने कहा कि उसका व प्रेम सिंह का चरागाह को लेकर पहले भी झगड़ा हो चुका है। 10 जुलाई को मकान बनाने से चरागाह के लिए रास्ता न बचने की बात कहने पर वह उसके साथ बहस करने लगा। जिसके बाद उनका झगड़ा हुआ।

इस दौरान ग्रामीण वहां पर पहुंच गए। इस दौरान लड़ाई-झगड़ा न करने की बात कहने पर प्रेम सिंह व उसकी पत्नी ने तेजधार हथियार से उस पर हमला कर दिया। हमले से बचाने के लिए उसके बेटे गुलाम रसूल ने हाथ बढ़ाया। जिससे वह घायल हो गया। प्रेम लाल द्वारा दिए गए धक्के से वह बेहोश हो गया। होश आने पर वह निजी क्लीनिक में उपचाराधीन था। पुलिस में शिकायत की गई है। पुलिस अधीक्षक चंबा अरुल कुमार ने कहा कि अतिक्रमण को लेकर दो गुटों में मारपीट हुई है। बहरहाल, दोनों ओर से मारपीट के मामले में क्रॉस एफआईआर हुई है। पुलिस ने 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। जिन्हें जमानत पर रिहा किया गया।
... और पढ़ें

चंबा में गोवंश की हत्या की आशंका, बॉर्डर पर तीन लोग गिरफ्तार

उपमंडल चुराह के तहत ग्राम पंचायत सनवाल में गोवंश की हत्या की आशंका का एक मामला सामने आया है। तनावपूर्ण माहौल की वजह से पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पुलिस ने तीन बैलों व एक गाय सहित तीन लोगों को बॉर्डर पर गिरफ्तार किया है। इनसे मांस भी बरामद हुआ है। पुलिस की ओर से मांस की जांच करवाई जाएगी। इसके सैंपल जांच के लिए शिमला स्थित फोरेंसिक प्रयोगशाला में भेजे जाएंगे। 

आरोपी जम्मू के जिला डोडा के बताए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि इस पूरे मामले में क्षेत्र के दो से तीन लोग भी शामिल हैं। गौरतलब है कि करीब छह साल पहले भी चंबा में गोवंश हत्या का मामला सामने आया था। यह दूसरा मौका है, जब इस तरह की वारदात जिला में सामने आई है। 

एसपी चंबा अरूल कुमार ने बताया कि मांस बरामद हुआ है। इस मामले में जिला डोडा के तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। कहा कि स्थानीय लोगों के भी इस मामले में संलिप्त होने की सूचना है। उन्होंने कहा कि जल्द ही इन स्थानीय लोगों को भी हिरासत में लिया जाएगा। कहा कि पुलिस टीम मौके पर सूचना के बाद भेजी गई है। पुलिस थाना तीसा में मुकद्दमा भी दर्ज कर लिया गया है।
... और पढ़ें

चंबा में पकड़ी पक्षियों की छह कलगियां, चार गिरफ्तार

सरकार की ओर से प्रतिबंध के बावजूद पहाड़ी टोपियों पर कलगी लगाने के लिए प्रदेश में पक्षियों के शिकार का सिलसिला जारी है। खासकर मोर और राज्य पक्षी रहा मोनाल शिकारियों के निशाने पर हैं। ताजा मामला चंबा का है। यहां चंबा-पठानकोट मार्ग पर लाहडू़ बैरियर पर पुलिस ने एक कार में वन्य पक्षियों की छह कलगियां बरामद की हैं। इस मामले में एक महिला समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। चारों के खिलाफ वन्य प्राणी सुरक्षा अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है। 

ये कलगियां देखने में मोर और मोनाल की तरह हैं। वन मंडलाधिकारी डलहौजी कमल भारती ने बताया कि कलगियों को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। डीएसपी डलहौजी विशाल वर्मा ने बताया कि लाहड़ू बैरियर पर नाका लगाया हुआ था। जब ये चारों कार लेकर लाहडू़ पहुंचे तो इन्हें चेकिंग के लिए रोका गया। पुलिस को देख चारों के चेहरों पर डर छा गया। इससे पुलिस टीम को शक हुआ और कार की तलाशी ली।

तलाशी के दौरान वन्य पक्षियों की छह कलगियां बरामद की गईं। आरोपियों की पहचान अनिल कुमार निवासी सलूणी, हंसराज निवासी सलूणी, हंसराज निवासी किहार के रूप में हुई है। महिला कुल्लू के मलाणा की रहने वाली है। पुलिस ने उसकी पहचान को सार्वजनिक नहीं किया है। 
... और पढ़ें

चरस तस्करी पर 11 साल की कैद, 1.10 लाख का जुर्माना

चरस तस्करी का आरोप साबित होने पर अदालत ने दो लोगों को 11 साल की कैद और एक लाख दस हजार रुपये के जुर्माने की सजा सुनाई है। विशेष न्यायाधीश चंबा राजेश तोमर की अदालत ने यह फैसला सुनाया। जुर्माना अदा न करने की सूरत में दोषी राम सिंह निवासी गांव मडाली डाकघर, तहसील नकोदर, जालंधर और संजू छैंका राम गांव सिमणी, तहसील सलूणी को एक साल का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। मामले की पैरवी जिला उप न्यायवादी राजिंद्र कुमार ने की। 

मामला 21 नवंबर 2017 का है। पुलिस टीम ने वाहनों की जांच के लिए  चंबा-पठानकोट हाईवे पर तुन्नूहट्टी बैरियर के समीप नाका लगाया था। इसी दौरान एचआरटीसी की बस को तलाशी के लिए रोका गया। पुलिस टीम 25 नंबर सीट पर पहुंची तो यात्री घबरा गया। उसके पास एक सफेद रंग का बैग था। पुलिस ने उक्त बैग की तलाशी ली।

इस दौरान बैग से चरस की खेप पाई गई। जो 3.180 ग्राम बरामद हुई।  पुलिस ने मुकद्दमा दर्ज किया। पुलिस ने जांच शुरू की। जांच के दौरान सामने आया कि दूसरे आरोपी संजू ने राम सिंह के साथ मिलकर चरस तस्करी करने का प्रयास किया। इस मामले में 26 गवाहों के बयान दर्ज किए गए। बुधवार को इस मामले को लेकर अदालत ने अपना फैसला सुनाया।
... और पढ़ें

चंबा से शिमला जा रही निजी बस में यात्री से चार किलो चरस बरामद

चंबा से शिमला जा रही निजी बस में पुलिस ने यात्री को चार किलो 12 ग्राम चरस के साथ गिरफ्तार किया है। उदयपुर के पास नाके पर खड़ी पुलिस टीम ने आरोपी को चरस के साथ पकड़ा। विशेष अन्वेषण इकाई की टीम ने सोमवार को उदयपुर के पास नाका लगाया था। चंबा से शिमला जा रही निजी बस को तलाशी के लिए रोका गया।

पुलिस टीम ने जब तलाशी शुरू की तो एक यात्री वहां से भागने का प्रयास करने लगा। शक के आधार पर पुलिस ने उसे दबोचा और उसके सामान की तलाशी ली। तलाशी करने पर उसके बैग में चार किलो 12 ग्राम चरस बरामद हुई। पुलिस ने चरस को जब्त कर लिया। घटना की सूचना मिलते ही सुल्तानपुर पुलिस चौकी टीम भी मौके पर पहुंच गई। इसके अलावा पुलिस अधीक्षक अरुल कुमार भी मौके पर पहुंचे। पुलिस आरोपी को मंगलवार कोर्ट में पेश करेगी।
... और पढ़ें
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00