विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को
Astrology Services

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रेमी जोड़े को जूतों की माला पहना गांव से निकाला, गुप्तांग में सरिया डालने समेत लगे ये आरोप

करनाल थाना सदर क्षेत्र में एक प्रेमी जोड़े की पिटाई करने के बाद मुंह काला करने और जूतों की माला पहनाकर गांव में घुमाने का मामला प्रकाश में आया है।

22 अगस्त 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

पलवल

गुरूवार, 22 अगस्त 2019

स्कूटी पर लिफ्ट देकर दो बहनों से की ठगी

पलवल। स्कूटी पर लिफ्ट देकर दो महिलाओं से नकदी व जेवरात ठगने का मामला सामने आया है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर अज्ञात युवक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। जांच अधिकारी एएसआई सुरेश के अनुसार बल्लभगढ़ की चावला कॉलोनी निवासी विनोद मित्तल ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि रक्षाबंधन पर उसकी मां सुशीला देवी व मौसी सरला घर आने के लिए होडल से रोडवेज बस में सवार हुईं। बस खराब होने पर चालक ने सभी यात्रियों को आगरा चौक पर उतार दिया। जिसके बाद दोनों बहनें तिपहिया में सवार होकर बस स्टैंड पर पहुंच गई। उसी दौरान सफेद रंग की स्कूटी पर एक युवक आया, जिसने अपना नाम मुकेश बताया। युवक ने कहा कि वह भी बल्लभगढ़ जा रहा है, वह उन्हें छोड़ देगा। उसके झांसे में आकर दोनों बहनें युवक के साथ स्कूटी पर बैठ गईं। थोड़ा आगे जाकर युवक ने स्कूटी को रोक दिया और पीड़ित की मां से कहा कि तीन सवारी चलनी मुश्किल हो रही है। आप यहीं बैठ जाओ, पहले आपकी बहन को छोड़ देता हूं फिर वापस तुम्हें लेने आ जाऊंगा। इस पीड़ित की मां काफी देर तक उसी जगह बैठी रही। ज्यादा समय होने के बाद वह पैदल-पैदल हुडा सेक्टर-दो मोड़ पर पहुंच गई और वहां पर मौजूद एक रेहड़ी वाले युवक के फोन से अपने पुत्र को फोन कर सूचना दी। जब वह मौके पर पहुंचा तो उसकी मां बिल्कुल अकेली बैठी थी और थोड़ी देर बाद मौसी भी वहां आ गई। स्कूटी सवार दोनों बहनों के बैगों को अपने साथ ले गया। शिकायत में कहा गया कि उसकी मां के बैग में सोने की चैन, आठ हजार रुपये व मायके से मिले हुए कपड़े थे और मौसी के बैग में दो हजार रुपये व कपड़े थे। आरोपी युवक ने उसकी मौसी के हाथ से सोने की अंगुठी को उतरवा लिया। ... और पढ़ें

ट्रेन की चपेट में आने से दो की मौत, एक की पहचान नहीं

पलवल। जिले में अलग-अलग स्थानों पर ट्रेन की चपेट में आने से दो व्यक्तियों की मौत हो गई, जिनमें से एक की पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम व पहचान के लिए जिला नागरिक अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया है। जीआरपी चौकी में कार्यरत एएसआई भीम सिंह के अनुसार शनिवार सुबह उन्हें सूचना मिली कि किठवाड़ी रेलवे पुल के नीचे ट्रेन की चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई। पुलिस ने मौके पर पहुंच शव को कब्जे में लिया। मृतक की पहचान राजीव नगर निवासी 35 वर्षीय ताराचंद के रूप में हुई। ताराचंद किठवाड़ी चौक पर किसी काम से जा रहा था, तभी रेलवे लाइन पार करते समय ट्रेन की चपेट में आ गया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया है। वहीं करीब 10 बजे उन्हें सूचना मिली कि गांव असावटा में केजीपी पुल के पास ट्रेन की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। शव की पहचान नहीं हो पाई है। मृतक ने सफेद हरी लाइनदार कमीज व काली पेंट पहनी हुई है तथा उसके हाथ पर एसके गुदा हुआ है। ... और पढ़ें

पलवल में चला स्वच्छता अभियान

पलवल। स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री द्वारा पॉलिथीन पर पूर्णतया रोक लगाने की घोषणा के बाद शनिवार को उपायुक्त यशपाल ने प्रशासनिक अधिकारियों व समाजसेवी संस्थाओं के साथ मिलकर जिले को पॉलिथीन मुक्त बनाने का अभियान चलाया। उन्होंने पलवल के बाजारों, सब्जी मंडी में जाकर दुकानदारों को पॉलिथीन का प्रयोग बंद करने के लिए जागरूक किया। उपायुक्त ने जिले को स्वच्छ व स्वस्थ बनाने के लिए सफाई अभियान तथा पर्यावरण बचाने के लिए पौधरोपण अभियान भी चलाया।
शनिवार सुबह करीब आठ बजे सबसे पहले उपायुक्त ने हूडा सेक्टर दो में पौधरोपण तथा श्रमदान किया। इस अवसर पर जिला पलवल को स्वच्छ एवं सौंदर्य प्रदान करने एवं पर्यावरण को शुद्ध रखने के दृष्टिगत जागरूकता रैली निकाली गई। उपायुक्त ने बताया कि जिले को स्वच्छ बनाने के लिए जगह-जगह जागरूकता रैलियों, विचार विमर्श गोष्ठी, पौधरोपण व स्वच्छता अभियान चलाकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने मंदिर में मौजूद लोगों को जागरूक किया तथा वहां सड़कों पर पड़ी प्लास्टिक व सूखे तथा गीले कूड़े को नगर परिषद के सफाई कर्मचारियों के साथ मिलकर स्वयं उठाया तथा लोगों को भी इसके लिए जागरूक किया। उन्होंने लोगों से घरों से सामान लेने जाते समय थैला लेकर जाने की अपील की।
उपायुक्त द्वारा चलाए गए इस अभियान में प्रशासनिक अधिकारियों, कर्मचारियों, शिक्षकों, विद्यार्थियों, सामाजिक, धार्मिक संस्थाओं, पंचों-सरपंचों, स्काउट्स एंड गाइड्स के बच्चों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया और अपने-अपने वार्डों, गांवों, विद्यालयों, सब्जी मंडी, अनाज मंडी आदि क्षेत्रों में से प्लास्टिक व पॉलिथीन एकत्रित किया। उपायुक्त ने बताया कि आज एकत्रित किए जाने वाले प्लास्टिक को गुरुग्राम की के.के. प्लास्टिक कंपनी को दिया जाएगा। यह कंपनी प्लास्टिक का प्रयोग सड़क आदि अन्य कार्यों में इस्तेमाल में लाएगी।
इस अवसर पर हिंदुस्तान स्काउट्स एंड गाइड्स जिला पलवल के अध्यक्ष डा. कर्नल राजेन्द्र रावत, सचिव रिशाल सिंह, डीओसी वीरेन्द्र सिंह, डा. रूप सिंह, पलवल मार्केट कमेटी के चेयरमैन रणबीर सिंह मनोज तथा मार्केट कमेटी पलवल के सचिव, समाजसेवी नमिता तायल, सीता वर्मा, गुरुग्राम से के.के. प्लास्टिक अध्यक्ष रसूल खान, जयश्री जिन्दल, सुनीता शर्मा, पूनम बंसल, संगीता गर्ग, रेनू छाबड़ा, विनोद जिन्दल, मनोज छाबड़ा, बंशीधर मुखिजा, अर्जुन विरमानी, नम्बरदार, वीरपाल दीक्षित, जिला शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल, जिला रेडक्रास सचिव बिजेन्द्र सौरोत ने पौधारोपण व श्रमदान कर अपना योगदान दिया।
अगर कोई गंदगी फैलाता दिखा तो होगी सख्त कार्रवाई
इसके पश्चात हिंदुस्तान स्काउट्स एवं गाइड्स के तत्वावधान एवं उपायुक्त के नेतृत्व में अनाज मंडी तथा सब्जी मंडी में स्वच्छता अभियान चलाया गया। अभियान के अंतर्गत स्काउट्स एवं गाइड्स ने सफाई उपकरणों से सब्जी मंडी क्षेत्र को साफ किया। उपायुक्त ने भी वहां श्रमदान किया। उपायुक्त ने मार्केट कमेटी सचिव को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि अनाज मंडी व सब्जी मंडी को प्रतिदिन साफ किया जाए और एकत्रित कूड़े को निर्धारित स्थान पर भिजवाएं। मंडी को स्वच्छ रखने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाए। उन्होंने सब्जी मंडी में सब्जी व फल बेचने वालों को अपने आसपास के क्षेत्र को स्वच्छ रखने के बारे में जागरूक किया तथा गीला व सूखा कूड़ा अलग-अलग डस्टबिन में एकत्रित करने के लिए निर्देश दिए। उन्होंने आढ़तियों एवं सब्जी बेचने वालों को निर्देश दिए कि सब्जी मंडी के पथ मार्ग पर सब्जी व फल न रखें, क्योंकि इससे रास्ता अवरोधित होता तथा गंदगी को साफ करने में दिक्कत आती है। अगर कोई आढ़ती अथवा फल विक्रेता इसका उल्लंघन करता पाया गया तो उसपर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसलिए इसका विशेष ध्यान रखा जाए। ... और पढ़ें

दर्जन भर से ज्यादा गांवों में घुसा बाढ़ का पानी

हसनपुर/पलवल। हथिनी कुंड बैराज से लगभग 8.28 क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद जिला पलवल में यमुना से लगते गांवों में बाढ़ का खतरा और अधिक बढ़ गया है। यहां के टप्पा, इंदिरानगर, बिल्लोजपुर, मोबलीपुर, अटवा, गुरवाड़ी, थतरी, प्रहलादपुर, अच्छेजा, बेला, काशीपुर, सुल्तानपुर, मुस्तफाबाद, चंडीगढ़ की ढाणी सहित दर्जन भर से ज्यादा गांवों में पानी घुसने लगा है। अभी तक केवल चंडीगढ़ के गांव ढाणी को खाली कराया गया है। वह भी वहां अधिक पानी घुसने के बाद जिला पुलिस कप्तान नरेंद्र बिजारणिया द्वारा मौके पर जाकर खाली कराया गया। पुलिस कप्तान ने लोगों को समझाकर सुरक्षा को देखते उन्हें गांव खाली करने की अपील की। वहीं उपायुक्त के आदेश पर अच्छेजा में राहत कैंप तो लगा दिया गया लेकिन बुधवार को वहां न तो डॉक्टर थे और न ही खाद्य आपूर्ति विभाग और पशु पालन विभाग से कोई अधिकारी था। इस बात को लेकर ग्रामीणों में खासा रोष था। जिला उपायुक्त ने भी गांवों में जाकर लोगों से बातचीत की तथा हर संभव मदद का आश्वासन दिया।
यमुना में छोड़े गए पानी के कारण बढ़ रहे बाढ़ के खतरे की आशंका को लेकर उन गांवों के लोग बेहद डरे हुए हैं, जिनमें पानी घुसना शुरू हो गया है तथा आगे पानी और बढ़ने की संभावना है। हालांकि अभी तक वे लोग गांवों से बाहर नहीं गए हैं लेकिन उन्हें पानी आने से उनके आशियाने नष्ट होने तथा नुकसान होने का डर सता रहा है। हालांकि प्रशासन उन्हें हथिनी कुंड बैराज से पानी छोड़े जाने के बाद से ही गांवों को खाली करने की सलाह दे रहा है ताकि कोई नुकसान न हो, लेकिन ग्रामीण अभी तक गांवों में डटे हुए हैं। कई गांवों में तो पशुओं के चारे का संकट बनने लगा है, क्योंकि अधिकांश चारा खेतों में पानी घुस आने से खराब हो गया है, लेकिन उसके बाद भी ग्रामीण वहां से नहीं हट रहे हैं।
इंदिरा नगर में रहने वाले ग्रामीण रामजीलाल, नरवीर व सतवीरी का कहना है कि यमुना के जल स्तर से उन्हें कोई दिक्कत नहीं होगी, यदि रास्ता सही हो जाए। रास्ते के खराब रहने के कारण पानी आने पर निकल नहीं पाते हैं। उन्हें नावों का सहारा लेना पड़ रहा है। रास्ता बन जाएगा तो कोई परेशानी नहीं होगी। बताया गया कि यमुना के जल स्तर बढ़ने से बाढ़ आने पर एक हजार, 60 एकड़ जमीन पानी में डूब जाएगी। इन लोगों का कहना है कि सरकार व प्रशासन उनके लिए बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करा दे तो इस तरह की दिक्कत कभी न आएं तथा न उन्हें गांवों को खाली करके जाना पड़ेगा।
उपायुक्त यशपाल ने कहा कि यमुना नदी के जलस्तर पर लगातार निगरानी रखी जा रही है। जिला प्रशासन लोगों की मदद को हर समय तत्पर है। अगर किसी परिस्थिति में ग्रामीणों को मदद पहुंचानी पड़ी तो इसके लिए प्रशासन ने सभी तैयारियां पूर्ण कर रखी हैं। उपायुक्त ने बुधवार को स्वयं नदी के साथ लगते गांवों का निरीक्षण किया तथा ग्रामीणों से बातचीत कर उन्हें आश्वस्त किया कि अभी खतरे जैसी कोई स्थिति नहीं है। उपायुक्त पहले गांव इंदरा नगर पहुंचे तथा गांवों में पानी का स्तर देखा तथा ग्रामीणों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन ने गांव अच्छेजा के राजकीय स्कूल में बाढ़ राहत शिविर बनाया हुआ है, जहां लोगों के लिए ठहरने की व्यवस्था की हुई है। उन्होंने कहा कि गांव के रास्ते पर मिट्टी डालने तथा तटबंद मजबूत करने का कार्य किया जा रहा है। प्रशासन की ओर से उन्हें हरसंभव मदद पहुंचाने की व्यवस्था की हुई है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्वयं भी नदी के जलस्तर को देखते रहे, सचेत रहें। कोई परेशानी आती है तो प्रशासन के अधिकारियों व कर्मचारियों को जानकारी दें ताकि समय पर मदद पहुंचाई जा सके। इसके बाद उपायुक्त गांव गुरवाड़ी में पहुंचे तथा यमुना के जलस्तर को देखा। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि यमुना नदी के पानी में बच्चों, पशुओं को जाने से रोकें। पशुओं को खुला न छोड़े। नदी किनारे के कच्चे मकानों में न रहें तथा न ही सोएं। नदी पार जाने का प्रयास न करें। कोई भी परिस्थिति आने पर प्रशासन के अधिकारियों व कर्मचारियों को सूचना दें।
उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि मेरी फसल, मेरा ब्यौरा योजना के तहत अपनी फसल का पंजीकरण अवश्य करवाएं, ताकि फसल के नुकसान की भरपाई का उन्हें फायदा मिल सके। इस अवसर पर उनके साथ एसडीएम जितेंद्र कुमार, तहसीलदार रोहताश, नायब तहसीलदार प्रेम प्रकाश व सिंचाई विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। ... और पढ़ें
पलवल के गांव टप्पा में घुसा हुआ पानी। पलवल के गांव टप्पा में घुसा हुआ पानी।

लूट की फिराक में खड़े दो बदमाश धरे, हथियार बरामद

पलवल। शहर थाना पुलिस ने लूट की फिराक में खड़े दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों से एक मोटरसाइकिल, तमंचा, पिस्टल तथा 16 कारतूस बरामद किए हैं। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। भवन कुंड चौकी प्रभारी एएसआई संजय कुमार के अनुसार उन्हें सूचना मिली कि गांव आल्हापुर के पास राजमार्ग से एसआरआए सेक्टर-5 को नाले किनारे जाने वाली सड़क पर मोटरसाइकिल सवार दो बदमाश आने-जाने वाले वाहनों को लूटने की फिराक में खड़े हैं। पुलिस ने सूचना मिलते ही टीम गठित कर मौके पर दबिश देकर दोनों को काबू कर लिया। पूछताछ में लक्ष्मण उर्फ लखन निवासी गांव विजयगढ़ थाना होडल के कब्जे से एक लोड तमंचा बरामद हुआ तथा पवन निवासी गांव हथाना जिला मथुरा (यूपी) के कब्जे से एक पिस्टल बरामद हुई जिसकी मैगजीन से चार और जेब से 11 कारतूस बरामद हुए। ... और पढ़ें

ट्रेन की चपेट में आने से दो लोगों की मौत, पहचान नहीं

पलवल। जिले में अलग-अलग स्थानों पर ट्रेन की चपेट आने से एक युवक व अधेड़ की मौत हो गई। शवों की पहचान नहीं हो पाई है। पुलिस ने पहचान व पोस्टमार्टम के लिए जिला नागरिक अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया है। जीआरपी में कार्यरत जांच अधिकारी भीम सिंह के अनुसार बुधवार सुबह करीब साढ़े छह बजे उन्हें सूचना मिली कि अलावलपुर रेलवे पुल से आगे यार्ड के पास ट्रेन की चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव की शिनाख्त कराने का प्रयास किया। पुलिस के मुताबिक, मृतक की उम्र करीब 25 वर्ष है तथा उसने सलेटी रंग की टी शर्ट व कॉफी रंग का लोवर पहना हुआ है। युवक के दाहिने हाथ की कलाई पर फूल गुदा हुआ है। युवक के पास से पहचान संबंधित कुछ नहीं मिला है। इसके अलावा जांच अधिकारी चंद्रपाल के अनुसार मंगलवार शाम को सूचना मिली कि रसूलपुर फाटक के पास ट्रेन की चपेट में आने से एक अधेड़ की मौत हो गई। मृतक ने काले रंग की चादर लपेटी हुई है। देखने में वह साधु की तरह दिखता है तथा उसकी उम्र 65 वर्ष के करीब है। ... और पढ़ें

सौर उर्जा पंप पर मिलेगा 75 प्रतिशत अनुदान

पलवल। ऊर्जा विभाग हरियाणा द्वारा यह निर्णय लिया गया कि है कि जो किसान डीजल पंप से सिंचाई कर रहा है उसे 3 एचपी से 10 एचपी तक के सौर ऊर्जा पंप 75 प्रतिशत अनुदान पर दिए जाएंगे। क्योंकि डीजल पंप से सिंचाई करने पर किसान का काफी खर्चा होता है तथा पर्यावरण भी दूषित होता है। इसके अलावा गोशालाओं, वाटर यूजर एसोसिएशन, सामूहिक सिंचाई सिस्टम को भी 75 प्रतिशत अनुदान पर सौर ऊर्जा पंप दिए जाएंगे। अतिरिक्त उपायुक्त सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि विभाग द्वारा 3 एचपी, 5 एचपी, 7.5 एचपी, 10 एचपी के सौर ऊर्जा पंप 75 प्रतिशत अनुदान पर दिए जाएंगे। जिसके लिए ऑनलाइन फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 31 अगस्त है। ये केवल उन्हीं किसानों को दिए जाएंगे जो किसान सूक्ष्म सिंचाई जैसे टपका सिंचाई अथवा फव्वारा सिंचाई योजना के तहत सिंचाई करते हो और अपने खेत में जमीनी पाइप लाइन दबाकर सिंचाई करते हों। यदि जिले में निर्धारित लक्ष्य से अधिक आवेदन प्राप्त होते हैं तो ड्रॉ के माध्यम से सोलर पंप वितरित किए जाएंगे। जिन किसानों को पहले अनुदान पर सौर ऊर्जा पंप दिए जा चुके हैं वे इस योजना के तहत पात्र नहीं है। ... और पढ़ें

अवैध शराब बेचते दो गिरफ्तार

पलवल। पुलिस ने अलग-अलग स्थानों से एक तमंचा सहित व अवैध शराब बेचते दो लोगों को गिरफ्तार किया है। अपराध जांच शाखा के जांच अधिकारी हवलदार राजेश के अनुसार गश्त के दौरान उन्हें सूचना मिली कि एक युवक अवैध हथियार सहित किठवाड़ी गांव की तरफ से पैदल आ रहा है। सूचना मिलते ही चौक के समीप नाकाबंदी कर युवक को काबू किया गया। तलाशी लेने पर युवक से एक तमंचा बरामद हुआ। पूछताछ में युवक ने अपना नाम गांव किठवाड़ी निवासी धर्मसिंह बताया। वहीं चांदहट थाना में तैनात जांच अधिकारी हवलदार संजय के अनुसार, उन्होंने गांव सिहोल निवासी यशपाल उर्फ यशू को गांव से ही गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 38 बोतल देसी शराब को बरामद किया है। ... और पढ़ें

हथिनी कुंड बैराज से छोड़े गए पानी से जिले में बाढ़ का खतरा और बढ़ा

हसनपुर/पलवल। हथिनी कुंड बैराज से छोड़े गए लगभग 8.28 लाख क्यूसेक पानी के बाद यमुना से लगते गांवों में बाढ़ का खतरा लगातार बढ़ रहा है। कई गांवों में तो पानी घुसने लगा है। बाढ़ के खतरे को देख जिला प्रशासन पूरी तरह से सक्रिय हो गया है तथा जिन गांवों में बाढ़ का खतरा बना हुआ है, उन गांवों के लोगों को गांवों को खाली करने के आदेश जारी कर दिए हैं। प्रशासन द्वारा इसके लिए मुनादी कराई जा रही है तथा अधिकारियों द्वारा मौके पर जाकर संपर्क किया जा रहा है तथा उन्हें गांवों को खाली करने को कहा जा रहा है। जिन गांवों को खाली कराया जा रहा है, उनके लिए प्रशासन द्वारा यमुना से लगते ऊपरी क्षेत्र में बसे गांव अच्छेजा में राहत कैंप लगाया गया है, ताकि ग्रामीणों को उस राहत कैंप में ठहराया जा सके। हसनपुर में मोबलीपुर गांव में राहत कैंप लगाया जा रहा है।
इतना ही नहीं जिला प्रशासन ने बाढ़ के खतरे को देखते हुए सेना से भी संपर्क किया है तथा प्रभावित गांवों में लोगों व पशुओं को पानी से सुरक्षित निकालने के लिए नावों का भी इंतजाम कर दिया है। प्रशासन की तरफ से सात नावों का इंतजाम किया गया है तथा जहां बाढ़ का खतरा बढ़ रहा है, उन गांवों में गोताखोर भी तेनात कर दिए हैं। पुलिस व प्रशासन की टीम के अलावा पशु पालन विभाग, स्वास्थ्य विभाग की टीम भी मौके पर तैनात कर दी गई है। साथ ही खाद्य आपूर्ति विभाग के माध्यम से अच्छेजा गांव में लगाए गए राहत कैंप में खाने व पीने का पूरा इंतजाम करा दिया गया है।
खराब हुई फसल
हथिनी कुंड बैराज से छोड़े गए पानी के बाद पलवल सीमा के अंदर यमुना से लगते जिन गांवों के जंगलों में पानी घुसा है, उससे धान, बाजरा, मक्का आदि की फसल पूरी तरह से डूब गई है। इसके साथ ही पशुओं के लिए चारे का इंतजाम करके रखा गया सारा चारा भी पानी में डूब गया है। मंगलवार को ग्रामीणों ने प्रशासन द्वारा मुहैया कराई गई नावों के माध्यम से पानी को पार कर सुरक्षित स्थान पर रखे चारे को लाकर पशुओं के खाने का इंतजाम किया। वहीं ग्रामीणों ने अपने सामान को बांधना शुरू कर दिया है।
---------
20 साल में पहली बार छोड़ा गया है इतना अधिक पानी
बताया जा रहा है कि 20 साल में पहली बार हथिनी कुंड बैराज से इतना ज्यादा पानी छोड़ा गया है। पिछले वर्ष भी इन दिनों छह लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया था, जबकि इस बार आठ लाख, 28 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा जा चुका है। इससे भले ही जिले में जल स्तर के बढ़ने की संभावना है, लेकिन उससे ज्यादा जिले की करीब 35 किलोमीटर क्षेत्र परिधि जो कि यमुना के साथ-साथ गांव बसे हुए हैं, उनमें बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। यदि इस 35 किलोमीटर की परिधि में पानी भरा तो करीब पांच हजार एकड़ से भी ज्यादा फसल नष्ट हो जाएगी तथा एक दर्जन से भी अधिक गांवों में पानी भर जाएगा। जिससे उनका लाखों रुपये का नुकसान हो जाएगा।
----------
खाने-पीने का पूरा इंतजाम किया गया है
एसडीएम जितेंद्र कुमार ने बताया कि यमुना से लगते उन सभी गांवों को खाली कराने के आदेश दे दिए गए हैं, जिनमें बाढ़ का खतरा बन गया है। उन गांवों के लोगों को बाढ़ से बचाने के लिए गांव अच्छेजा सहित यमुना किनारे बसे उन सभी ऊपरी क्षेत्रों में ठहराया जाएगा, जहां पानी नहीं पहुंच सकता। उनके लिए फिलहाल अच्छेजा में राहत शिविर लगा दिया गया है तथा खाने-पीने का इंतजाम किया गया है। पशुओं के लिए पशु पालन विभाग से चारे का इंतजाम करने के आदेश दिए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम भी दवाइयों के साथ अच्छेजा में पहुंच गई है तथा प्रभावित गांवों के लोगों को हर संभव राहत देने का प्रयास किया जा रहा है। ... और पढ़ें

दो दिवसीय जिला स्तरीय बैडमिंटन प्रतियोगिता शुरू

पलवल। जिला बैडमिंटन एसोसिएशन के तत्वावधान में मंगलवार को संजीव मंगला की स्मृति में सातवीं दो दिवसीय जिला स्तरीय बैडमिंटन प्रतियोगिता का शुभारंभ किया गया। दो दिन तक चलने वाली इस प्रतियोगिता का उद्घाटन जिला पुलिस कप्तान नरेंद्र बिजारनिया ने किया। अध्यक्षता एसोसिएशन की जिलाध्यक्ष अलका गुप्ता ने की। डीएवी स्कूल में शुरू हुई प्रतियोगिता में 100 बच्चे हिस्सा ले रहे हैं।
इस अवसर पर पुलिस कप्तान नरेंद्र बिजारिनया ने कहा कि आज ग्रामीण क्षेत्रों में खेल सुविधाओं की बेहद जरूरत है। ग्रामीण क्षेत्रों में अच्छे खिलाड़ी हैं, जरूरत है केवल उन्हें एक मंच देकर उनकी प्रतिभा को निखारने की। जिला स्तर पर बनी एसोसिएशनों को खेल विभाग व सरकार के समक्ष खिलाड़ियों के लिए बुनियादी सुविधाओं को पूरी कराने के लिए मांग रखनी चाहिए। सरकार इस समय खेलों को पूरा बढ़ावा दे रही हैं। उन्होंने प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों से कहा कि वे खेल को खेल की भावना से खेलें तथा किसी भी तरह के गलत विचार मन में न रखे। खिलाड़ियों को अपने खेल पर ध्यान देना चाहिए। हार-जीत दो ही पहलू हैं। एक खिलाड़ी जितेगा और एक हारेगा। इसलिए अपने खेल पर ध्यान दें तथा अच्छा प्रदर्शन करें। जीतने वाले खिलाड़ी अहम न पाले तथा हारने वाले निराश न हों। प्रतियोगिता शुरू कराने के बाद दो खिलाड़ियों ने प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों को खेल भावना की शपथ दिलवाई।
इस अवसर पर एसोसिएशन के महासचिव यशपाल मंगला, संयुक्त सचिव शुभांकित गुप्ता, नमिता तायल, पूनम बंसल, ओम प्रकाश गुप्ता, मोहन सिंह, स्वतंत्र गोयल, योगा कोच राम लोटन, पूर्व पार्षद अनीता मंगला, लाल सिंह तेवतिया, सुभाष शर्मा, विक्रम सिंह, डा. अमिता गुप्ता सहित काफी लोग मौजूद थे। प्रतियोगिता में मुख्य रेफरी की भूमिका रवि चौहान ने निभाई। ... और पढ़ें

सर्वजातीय सामूहिक विवाह के पंजीकरण शुरू

पलवल। महाराजा अग्रसेन विवाह समिति द्वारा अग्रसेन भवन ओल्ड फरीदाबाद में आयोजित किए जाने वाले सर्वजातीय सामूहिक विवाह के पंजीकरण पलवल में शुरू हो गए हैं। यह जानकारी श्री वैश्य अग्रवाल विवाह समिति पलवल के संयोजक ओमप्रकाश गुप्ता ने दी। उन्होंने बताया कि विवाह योग्य युवक युवतियों के पंजीकरण पलवल में पुराना जी टी रोड स्थित ओम प्लाजा भवन पर किये जा रहे हैं। सभी बिरादरी के युवक एवं युवतियों के लिए पंजीकरण फॉर्म उपलब्ध है। बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ के नारे को सार्थक करते हुए तथा महिला सशक्तीकरण को बढ़ाने हेतु, विवाह योग्य युवतिओं के पंजीकरण बिलकुल मुफ्त किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया पंजीकरण की अंतिम तिथि 14 अक्तूबर निर्धारित की गई है तथा केवल इसी दिन तक ही पंजीकरण किये जा सकेंगे। जितने जोड़े 18-19 अक्तूबर को आयोजित होने वाले इन दो दिनों के सम्मेलन में बन जाएंगे उन सभी जोड़ों की शादियां 15 नवंबर को होने वाले विशाल सर्वजातीय सामूहिक विवाह समारोह में करा दी जाएंगी। ... और पढ़ें

यमुना से सटे गांवों में बाढ़ का खतरा बढ़ा

पलवल। हथिनीकुंड बैराज से 8.14 लाख क्यूसेक पानी यमुना नदी में छोड़े जाने के बाद जिले में यमुना से सटे गांवों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। आशंका जताई जा रही है कि अगले एक-दो दिन में बाढ़ का पानी यमुना से सटे पलवल के निचले हिस्सों में आ जाए। बाढ़ की आशंका देख जिला प्रशासन पूरी तरह से सतर्क हो गया है। उपायुक्त यशपाल ने सोमवार को यमुना नदी में जल स्तर बढ़ने से गांवों में बाढ़ की आशंका को देखते हुए जिला अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने बाढ़ के दृष्टिगत सभी अधिकारियों को जिला मुख्यालय न छोड़ने के आदेश दिए तथा संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने विभाग की जिम्मेदारियों के अनुसार कार्य करना सुनिश्चित करें। उपायुक्त ने कहा कि इस स्थिति पर पूरी तरह से नजर रखी जाए तथा संबंधित गांवों में जाकर लोगों को भी सतर्क किया जाए। बाढ़ के खतरे को देखते हुए उन गांवों के लिए अभी से इंतजाम किए जाएं।
बैठक के बाद एसडीएम पलवल जितेंद्र कुमार ने यमुना नदी के साथ लगते प्रभावित क्षेत्रों गांव गुरवाड़ी, राजपुर खादर, दोस्तपुर, थंथरी, हंसापुर, अतवा, मुस्तफाबाद, काशीपुर, रहीमपुर, सुलतापर, अच्छेजा, इंदिरा नगर, मोहब्लीपुर, माहौली का दौरा किया। वहीं होडल के एसडीएम वत्सल वशिष्ठ ने हसनपुर क्षेत्र के अंतर्गत यमुना के किनारे आने वाले गांवों वली मोहम्मदपुर, मुर्तजाबाद, फास्टो नगर का दौरा कर जायजा लिया। दोनों एसडीएम ने इन गांवों के लोगों से बातचीत की तथा बाढ़ आने की स्थिति में उनसे आगे की स्थिति के बारे में भी जानकारी हासिल की। वहीं उपायुक्त ने जिला सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के माध्यम से प्रभावित क्षेत्रों में मुनयादी करके लोगों को बाढ़ के संबंध में सचेत करना शुरू करा दिया है।
एसडीएम जितेंद्र कुमार ने कहा कि यमुना नदी के लगते क्षेत्रों में संभावित बाढ़ के खतरे से बचाव के लिए प्रशासन द्वारा सभी आवश्यक प्रबंध कर लिए गए हैं। एसडीएम ने पशुपालन एवं डेयरी विभाग के उपनिदेशक द्वारा पशुओं के लिए उचित दवाओं की व्यवस्था करने, उपनिदेशक कृषि विभाग द्वारा पशुओं के लिए चारा आदि की व्यवस्था करवाने के निर्देश दिए। जिला खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी टेंट एवं खान-पान का प्रबंध करेंगे। सिविल सर्जन को प्रभावित क्षेत्र में अस्थाई सहायता कैंप में चिकित्सकों की ड्यूटी लगाना एवं दवाइयों का उचित प्रबंध करने के निर्देश दिए। उन्होंने गांव में फॉगिंग करवाने के निर्देश दिए। सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता को अपने क्षेत्रीय स्टाफ की ड्यूटी लगाने को कहा है। उन्होंने बताया कि यमुना से लगते हुए गांवों में पुलिस गश्त जारी रहेगी और स्थानीय गोताखोरों को आपातकालीन स्थिति हेतु चयनित करने के निर्देश दिए गए हैं। इस अवसर पर होडल के तहसीलदार गुरूदेव सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे। ... और पढ़ें

विद्यालय में किया पौधरोपण

होडल। राष्ट्रीय राजमार्ग के पास गांव करमन में स्थित राजकीय उच्च विद्यालय के प्रांगण में वन महोत्सव और गांव को पॉलिथीन मुक्त करने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विद्यालय प्रांगण में विभिन्न प्रकार के फल व छायादार पौधे लगाए गए और बैनर पोस्टरों के माध्यम से ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए रैली निकाली गई। छात्रों ने रैली के माध्यम से ग्रामीणों को पॉलिथीन से होने वाले नुकसान की जानकारी देकर ग्रामीणों से पॉलिथीन का पूरी तरह से बहिष्कार करने का आह्वान किया। कार्यक्रम में ग्राम सरपंच रामगोपाल ने कहा कि ग्राम पंचायत द्वारा भी शीघ्र ही गांव को पॉलिथीन मुक्त करने के लिए अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान विद्यालय में चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया और ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए रैली निकाली गई। आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता ग्राम सरपंच रामगोपाल ने की तथा संचालन विद्यालय मुख्याध्यापक जगदीश चंद ने किया। नायब तहसीलदार मान सिंह, शाहजहां पटवारी, जगदीश चंद, गौतम, हेमराज, केसरी नंदन, अशोक कुमार, रामकिशन आदि द्वारा मां सरस्वती की तस्वीर के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। ... और पढ़ें

हथीन रजवाहे में मिला 35-40 वर्षीय व्यक्ति का शव

पलवल। गांव रोनिजा के पास बने हथीन रजवाहे में 35-40 वर्षीय व्यक्ति का शव मिलने से गांव में सनसनी फैल गई। सूचना मिलते ही कैंप थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम व शिनाख्त के लिए पलवल के सिविल अस्पताल भिजवाया। जांच अधिकारी एएसआई नरेंदर सिंह ने बताया कि रविवार शाम करीब 4 बजे उन्हें सूचना मिली कि पलवल के गांव रोनिजा के समीप बने हथीन रजवाहे में व्यक्ति का शव पड़ा हुआ है। पुलिस के अनुसार मृतक ने काले रंग का अंडरवियर व सफेद रंग का बनियान पहना हुआ है। अभी उसकी पहचान नहीं हो पाई। पुलिस शव के शिनाख्त के लिए प्रयास कर रही है। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree