बिजली के शॉर्टसर्किट से कोल्ड स्टोर में लगी आग, चार मजदूर झुलसे

Rohtak Bureau Updated Wed, 07 Feb 2018 12:35 AM IST
बिजली के शॉर्टसर्किट से कोल्ड स्टोर में लगी आग, चार मजदूर झुलसे
अमर उजाला ब्यूरो
बाबैन।
गांव बीड़ कालवा में सांई कोल्ड स्टोर के निर्माणाधीन चैंबर में रखी थर्मोकोल सीटों में मंगलवार को शॉर्टसर्किट से अचानक आग लगने से चार मजदूर झुलस गए। मजदूरों ने दीवार से छलांग लगाकर अपनी जान बचाई। हादसे में चार मजदूरों के झुलसने के साथ ही चोटें भी आई हैं। सभी को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। थर्मोकोल और कोल्ड स्टोर में आलू रखने के लिए बने लकड़ी के चैंबरों में आग तेजी से भड़की। इस वजह से कोल्ड स्टोर में निर्माणाधीन चैंबर और बिल्डिंग को भी नुकसान पहुंचा है। आग बुझाने के लिए फायर ब्रिगेड के तीन वाहनों को मशक्कत करनी पड़ी। कोल्ड स्टोर में आग लगने की सूचना मिलते ही शाहाबाद के डीएसपी जगदीश राय, लाडवा के थाना प्रभारी सुरेंद्र सिंह, बाबैन थाना के एएसआई विजय कुमार, बाबैन के नायब तहसीलदार साहब सिंह दलबल सहित मौके पर पहुंच गए।
सुबह बीड़ कालवा में र्साइं कोल्ड स्टोर के निर्माणाधीन नए चैंबर में थर्मोकोल सीट लगाई जा रही हैं। इसमें कई मजदूर जुटे थे। चैंबर में रोशनी के लिए बल्ब के लिए लगाए गए बिजली की तारों से निकली चिंगारियां थर्मोकोल की सीट पर गिर गईं। इसकी वजह से थर्मोकोल सीटों में आग लग गई। जब तक मजदूर आग पर काबू पाते लपटें तेजी से भड़क गईं। इसके बाद मजदूर अपनी जान बचाने के भागने लगे। भीषण आग की चपेट में आकर चार मजदूर झुलस गई। मजदूर बचने के लिए कोल्ड स्टोर की दीवार से छलांग लगाने लगे। गनीमत रही कि कोल्ड स्टोर की दीवार के साथ मिट्टी पड़ी होने के कारण मजदूरों को ज्यादा चोटें नहीं आई। घायलों को बाबैन के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
फायर बिग्रेड की बड़ी लापरवाही आई सामने
र्साइं कोल्ड स्टोर में आग लगने की सूचना मिलते ही स्टोर के मालिक रजनीश कमल ने लाडवा फायर बिग्रेड को फोन किया, लेकिन लाडवा फायर बिग्रेड के कर्मचारियों ने यह कह कर पल्ला झाड़ लिया कि यह शाहाबाद का इलाका है, आप शाहाबाद फायर बिग्रेड को फोन करें। रजनीश कमल ने तुरंत शाहाबाद फायर बिग्रेड को फोन किया। वहां से देर में फायर बिग्रेड की गाड़ी घटना स्थल पर पहुंची। जो फायर बिग्रेड की गाड़ी घटनास्थल पर पहुंची, उसमें पानी कम था। गाड़ी में पानी लेने वाला पंप भी खराब निकला। इस वजह से ट्यूबवैल से भी पानी नहीं भरा जा सका। इसके बाद गाड़ी को पानी लेने के लिए दोबारा बाबैन आना पड़ा, तब तक आग ने कोल्ड स्टोर को क्षतिग्रस्त कर दिया था। इसके बाद लाडवा और थानेसर से फायर ब्रिगेड की दो अन्य गाड़ियां मौके पर पहुंची।
डीएसपी ने मजदूरों का हाल जाना
शाहाबाद के डीएसपी जगदीश राय ने बाबैन के निजी अस्पताल में जाकर घटना में घायल हुए मजदूरों का हाल जाना और उन्हें ढांढस बंधाया। उन्होंने मजदूरों को इलाज के लिए हर संभव सहायता देने का भी आश्वासन दिया। चारों घायल मजदूर मध्यप्रदेश के दमोह जिले के रहने वाले हैं।
आग बिजली के शार्ट सर्किट से लगी : एएसआई
कोल्ड स्टोर में मजदूरी का कार्य कर रहे मजदूर देवीदास ने बताया कि कोल्ड स्टोर में आग बिजली के शार्ट सर्किट के कारण लगी है। इसमें किसी का कोई कसूर नहीं है। मजदूरों की दिलेरी के कारण उनकी जान बच गई है। बाबैन थाने के एएसआई विजय कुमार का कहना है कि आग लगने के पूरे मामले की जांच कर ली गई है। मजदूर देवीदास के बयान के अनुसार आग बिजली के शार्ट सर्किट से लगी है। इसमें किसी का कोई कसूर नहीं है।

Spotlight

Most Read

Delhi

सिर्फ चार घंटों के लिए गए थे ससुराल, लौटे तो घर का हाल देख उड़े होश

शाहदरा जिले के आनंद विहार इलाके में रविवार को दिनदहाड़े चोरों ने एक मकान पर धावा बोलकर करीब एक करोड़ के जेवरात और चार लाख रुपये कैश उड़ा लिए। वारदात के समय पीड़ित कारोबारी ससुराल गए हुए थे।

20 फरवरी 2018

Related Videos

और भी उलझा जींद गैंगरेप-मर्डर केस, अब इस एंगल से जांच कर रही है हरियाणा पुलिस

हरियाणा के जींद में हुआ गैंगरेप और मर्डर अब और भी उलझ गया है। दरअसल पुलिस जिस शख्स को केस में आरोपी मान कर जांच कर रही थी, उसकी डेड बॉडी कुरुक्षेत्र में बरामद हुई है। अब पुलिस कई अन्य एंगल से मामले की जांच कर रही है।

18 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen