30 कोटेदारों के यहां छापा

Sitapur Updated Sun, 11 Nov 2012 12:00 PM IST
सीतापुर। लगातार मिल रहीं अनियमितता की शिकायतों को लेकर क्षेत्रीय खाद्य निरीक्षक की टीमों ने शनिवार को कोटे की तीस दुकानों पर छापेमारी की। छापे में दुकानों में तमाम खामियां मिलीं। कहीं घटतौली मिली तो कहीं तय रेट से अधिक मूल्य पर राशन बेचा जा रहा था। कमियां मिलने पर दो दुकानें निलंबित कर दी गईं, जबकि पांच के अनुबंध पत्र निरस्त कर किए गए। इसके अलावा पांच विक्रेताओं की 25-25 हजार रुपये की जमानत राशि भी जब्त की गई।
क्षेत्रीय खाद्य निरीक्षक सिद्धार्थ शंकर गुप्ता की अगुवाई में खाद्य निरीक्षक की अलग-अलग टीमों ने नगर व ग्रामीण क्षेत्रों में राशन की 30 दुकानों का औचक निरीक्षण किया। इनमें नगर में 20 व ग्रामीण में 10 दुकानें हैं। इस दौरान राशन की दुकानों पर तमाम अनियमितताएं मिलीं। जांच टीम ने रिपोर्ट एसडीएम महमूदाबाद को दी। जांच रिपोर्ट के आधार पर एसडीएम केएन उपाध्याय ने रामपुर मथुरा की ग्राम पंचायत बरियारपुर के उचित दर विक्रेता बाबू राम व नीबा डहरा की विक्रेता चंद्रकली के अनुबंध पत्र निलंबित कर दिये, जबकि महमूदाबाद की ग्राम पंचायत अहिबनपुर के नत्थाराम, कुसंडा की सुमन देवी, हाजीपुर की मालती देवी, रसूलाबाद के शत्रोहन लाल, पहला की ग्राम पंचायत खाफा की विक्रेता मंजू देवी के अनुबंध पत्र भी निरस्त कर दिए। साथ ही उन्होंने खाफा की मंजूदेवी, अहिबनपुर के नत्था राम, रसूलाबाद के शत्रोहन, कुसंडा की सुमन देवी, जमुनादीन की प्रेमावती की 25-25 हजार रुपये की प्रतिभूति राशि जब्त करने की कार्रवाई की है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO : बच्चियों को ट्रेन से फेंकनेवाले दरिंदे पिता ने बताई पूरी वारदात

बीते साल अक्टूबर में चलती ट्रेन से अपनी बच्चियों के फेंकनेवाले हत्यारे पिता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस और मीडिया के सामने इद्दू अंसारी ने बताया कि उसने पूरी वारदात को शराब के नशे में अंजाम दिया।

17 जनवरी 2018