बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

रैना पेपर मिल की प्रथम इकाई सील 

Sant Kabir Nagar Updated Tue, 23 May 2017 11:28 PM IST
विज्ञापन
रैना पेपर मिल को सील करने पहुंचे अधिकारी।
रैना पेपर मिल को सील करने पहुंचे अधिकारी। - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
आमी नदी के पानी को प्रदूषित करने के मामले में मंगलवार की शाम को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम ने रैना पेपर मिल की प्रथम इकाई को सील कर दिया। मंगलवार की शाम साढ़े पांच बजे के करीब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड बस्ती कार्यालय के क्षेत्रीय अधिकारी डॉक्टर अरविंद सिंह के नेतृत्व मेें टीम रैना पेपर मिल पर पहुंची। एसडीएम सदर उमेश चंद निगम और तहसीलदार अरविंद सिंह की उपस्थिति में टीम ने अगले आदेश तक रैना पेपर मिल की प्रथम इकाई को सील कर दिया। 
विज्ञापन


डा. सिंह ने बताया कि रैना पेपर मिल से आमी नदी के जल को प्रदूषित होने के शिकायतें लगातार मिल रही थीं। शासन के निर्देश पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम बस्ती के रुधौली चीनी मिल और संतकबीरनगर के रैना पेपर मिल का सर्वे करके पानी का नमूना लिया था। जांच रिपोर्ट में आमी के पानी को प्रदूषित किए जाने की बात सामने आई। शासन के निर्देश के क्रम में ही प्रशासन के सहयोग से रैना पेपर मिल की प्रथम इकाई को मानक के विपरीत होने की वजह से सील कर दिया गया है।


 हालांकि रैना पेपर मिल की द्वितीय इकाई को मानक अनुरूप पाए जाने पर मुक्त रखा गया है। इस कार्रवाई से आमी नदी पूर्ण रूप से प्रदूषण मुक्त होगी। इस दौरान अरुण कुमार श्रीवास्तव वैज्ञानिक, परासर पांडेय प्रयोगशाला सहायक, रैना पेपर मिल के अफसर जी पी पांडेय, डीके शर्मा आदि मौजूद रहे। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us